A+ A A-

यूपी के महोबा से खबर है कि कई पत्रकारों के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 354 के तहत मुकदमा लिख दिया गया है. आरोप है कि आरोपी पत्रकार एक महिला पत्रकार के साथ अभद्रता करते थे और इसके घर तक पीछा कर गाली गलौच आदि करते थे. उल्टी सीधी हरकतें करना इन पत्रकारों पर भारी पड़ गया है और पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है.

आरोप है कि महिला पत्रकार ने अपने साथ दुर्व्यवहार का विरोध किया तो आरोपी पत्रकारों ने महिला पत्रकार को बदनाम करने के लिए एक फर्जी लड़की का बयान जबरदस्ती लेकर उसे सोशल मीडिया में चलवाया. पर महिला पत्रकार ने हिम्मत नहीं हारी. आज पुलिस ने महिला पत्रकार की शिकायत पर अनुज शर्मा लाइव टुडे, दीपक बाजपेयी नगर छाया, अरसद बाबा समाचार टुडे के खिलाफ धारा 354 का मुकदमा दर्ज कर लिया है.

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - कामर्बेग

    महोबा

    महोबा में कुछ कथित फर्जी पत्रकार जो पेशेवर चोर है कोई वाहन चोर है तो कोई रेलवे चोर है । इन पर महोबा बाँदा में मुक़दमे दर्ज है । इन लोंगो ने पत्रकारिता का चोला ओढ़ रखा है । और बड़े चैनलों जैसे आज तक, नेशनल वाइस और प्रिंट में पत्रिका और भास्कर जैसे बड़े समाचार पत्रों का सहारा ले रखा है ।अब तो इन्होंने जिस्म परोस कर अधिकारियों को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया है । इसमें नेशनल वाइस का चोला ओढ़े इरफ़ान पठान उर्फ़ इरफ़ान खान और रुस्तम खान और इनके साथ पूरी टीम है । अगर इनका पुलिस रिकार्ड निकलवाया जाए तो उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में कई संगीन धाराओं में मुक़दमे दर्ज हैं । ऐसे लोग पत्रिकारिता की छवि को धूमिल कर रहे है ।

  • Guest - कमर बेग

    महोबा, उत्तर प्रदेश


    मीडिया को देश का चौथा स्तंभ कहा जाता है,कई मामलो में मीडिया बहुत निर्णायक साबित होती है । लेकिन कुछ अपराधी किस्म के पत्रकार पत्रिकारिता की छवि धूमिल करने में लगे हुए है । वाकया महोबा का है कुछ अपराधियो ने पत्रकारिता का चोला ओढ़ लिया है । और ये पत्रकारिता की छवि धूमिल करने में लगे हुए हैं ।
    कथित पत्रकार रेलवे चोर और वाहन चोर हैं । जो बाँदा रेलवे मालगोदाम से सामान चुराया करते थे और गाड़ियों की चोरी करते थे । इन पर उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में कई मुकदमे दर्ज है । बाँदा से भागकर आये इस शातिर ने महोबा आकर पत्रिकारिता का दामन थाम लिया है । इतना ही नहीं ये चोर देश के प्रमुख समाचार पत्रों भास्कर न्यूज़ ,पत्रिका और टीवी चैनल आजतक, नेशनल वॉइस के रिपोर्टर हैं । इसमें एक पत्रकार इरफ़ान पठान उर्फ़ इरफ़ान खान हैं ,और खास बात यह है कि इरफ़ान खान आज तक और नेशनल वॉइस के रिपोर्टर है वही इरफ़ान पठान भास्कर न्यूज़ और पत्रिका के रिपोर्टर है । और दोनों एक ही व्यक्ति है । इनके गैंग के साथी रुस्तम खान जिन पर गाड़ियों के चोरी के कई मुकदमे दर्ज हैं । ये भी जेके न्यूज़ और न्यूज़ वन इंडिया का दामन थामें है । जो अपराधी थे आज वो पत्रकारिता का दामन थामकर पुलिस और प्रसाशन के सामने सीना तानकर बैठते है । जो हमारे पत्रकार समाज के लिए बड़े दुःख की बात है । अधिकारी दबी जुबान में कह रहे हैं ।अब तो इन्होंने अधिकारियो को भी जिस्म परोसकर ब्लेक मेल करना शुरू कर दिया है ।

    कमर बेग
    बाँदा,

Latest Bhadas