A+ A A-

कई फोन टेप सुनाकर नसीमुद्दीन ने मायावती को सिर्फ पैसे के लिए काम करने वाली नेता बताया... यूपी की राजनीति में भूचाल आ चुका है... मायावती के राजनीतिक करियर और जीवन पर सबसे बड़ा काला धब्बा लग चुका है... बसपा सुप्रीम के खासमखास रहे नसीमुददीन सिद्दीक़ी ने खुद को पार्टी से बाहर निकाले जाने के बाद मायावती पर मय सुबूत हमला बोला है. नसीमुद्दीन ने माया मैम पर लगाये गंभीर आरोप.. साथ ही उन्होंने कई आडियो टेप सुनाए जिसमें मायावती हिसाब किताब की बात कर रही हैं.

नसीमुद्दीन ने आरोप लगाया कि माया मैम के पास कई गिरोह हैं जो ख़बर लिखने वालों या चैनल पर ख़बर दिखाने वालों पर हमले करने की योजना बनाते थे... नसीमुद्दीन ने बताया कि उनके पास यह भी प्रमाण है कि मायावती ने कब-कब किसकी हत्या की साज़िश रची...

नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि मायावती ने उनसे भी पचास करोड़ रुपये मांगे.. उन्होंने मायावती की काल रिकार्डिग वाले टेप भी मीडिया को सुनाये... इस रिकार्डिग मे नसीमुददीन खुद ही माया मैम से कह रहे हैं कि सारी प्रॉपर्टी बेच कर आपको दे दूँगा.. मायावती कह रही हैं कि काम कर दो तो आगे बढ़ जाओगे... रिकार्डिंग में मायावती कई विधानसभा सीटों पर हिसाब किताब की बात कर रही हैं... साथ ही कह रही हैं कि इन सीटों पर आपने टिकट दिलवाये तो आप ही हिसाब करो... माया ने यह भी बोला है कि पूंजी बहुत बड़ी चीज़ होती है...

नसीमुद्दीन ने आगे और भी खुलासे करने को कहा है. साथ ही धमकी दी कि यदि उन्होंने पूरा मुँह खोल दिया तो पूरे देश मे भूचाल आ जायेगा... नसीमुद्दीन ने आशंका जताई कि उनके इस खुलासे के बाद मायावती उन पर हमला करवा सकतीं हैं। उन्होंने कहा- ''मैं डरता नहीं हूँ, मर जाऊंगा, लेकिन झुकूंगा नहीं''। नसीमुद्दीन ने दलित समाज से अपील की कि वे आगे आएं और खुद को मायावती और सतीश मिश्रा एंड कंपनी से बचायें। उन्होंने कहा कि सर्वसमाज और दलित समाज से अपील है कि मिशन वाली इस पार्टी को बचाएं.  नसीमुद्दीन ने साफ तौर पर आरोप लगाया कि उनसे कई बार पैसा माँगा गया. इस बाबत उन्होंने मायावती और खुद के बीच बातचीत की कई आडियो क्लिप भी सुनाई.

नसीमुद्दीन ने मायावती से बातचीत के कई आडियो टेप जारी किए. सभी टेपों को एक बार में ही सुनने के लिए नीचे की तस्वीर पर क्लिक करें :

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found