A+ A A-

छोटी-छोटी बात में रिपोर्ट लिखाने की धमकी देने वाले और जेल भिजवाने के लिए तत्पर हो जाने वाले फ्लॉप पत्रकार व फ्लॉप फिल्म निर्देशक विनोद कापड़ी को ही नहीं बल्कि उनसे आधी उम्र की उनकी दूसरी पत्नी साक्षी जोशी को भी अपनी औकात अच्छी तरह से समझ में आ गई है. ये बेचारे कुछ नहीं कर पा रहे हैं. विनोद कापड़ी प्रधानमंत्री से गुहार लगा रहा है, ''हे पीएम जी देख लो, तुम्हारे आदमी हमको कितना गंदा-गंदा लिख के सबके सामने गरिया रहे हैं.''

अपने पति को खुलेआम दी जा रही गालियों पर न्यूज24 की एंकर साक्षी जोशी भी कुछ नहीं कर पा रही है. याद होगा कि इसी साक्षी जोशी ने एक गुजराती युवक को एक सामान्य-सी गाली पर एफआईआर कराने के बाद उठवा कर जेल भिजवा दिया. याद होगा कि यही साक्षी जोशी और इसी विनोद कापड़ी ने बिना वजह भड़ास के संस्थापक यशवंत सिंह और तत्कालीन संपादक अनिल सिंह को फर्जी मामलों में फंसाकर, फिर पुलिस से उठवाकर महीनों के लिए जेल भिजवा दिया था. जेल से रिहा होने के बाद यशवंत ने विनोद कापड़ी और साक्षी जोशी को समर्पित करते हुए एक बेस्टसेलर किताब लिखी- 'जानेमन जेल'. इस किताब को यशवंत ने देश भर में ख्याति दिलाने वाले कुख्यात दंपति विनोद कापड़ी और साक्षी जोशी को समर्पित किया और ऐलान किया कि वे खुद इन दोनों को माफ कर चुके हैं लेकिन प्रकृति इन दोनों का समय-समय पर हिसाब-इलाज करेगी.

पिछले कुछ दिनों से ट्विटर पर गायक अभिजीत से लेकर कई परम मोदी भक्तों की भांति भांति गालियां विनोद कापड़ी खा रही है. इस गाली उत्सव को चुपचाप साक्षी जोशी निहार रही है. दोनों कुछ नहीं कर पा रहे हैं. विनोद कापड़ी उसी पीएम से न्याय के लिए अनुरोध कर रहा है, गालीबाजों की शिकायत कर रहा है, जिसके संरक्षण में पल पढ़ कर गालीबाजों ने ट्विटर पर गाली उत्सव रचा हुआ है. विनोद कापड़ी को अब एफआईआर कराने और जेल भिजवाने का खयाल आ रहा है या नहीं, ये तो नहीं पता लेकिन इनकी अपने से गरीबों-कमजोरों को धमकाने-सताने वाली घटिया मानसिकता का उचित जवाब इन्हें मिल गया है.

आप लोग भी नीचे दिए गए ट्विट्स पढ़िए, जिसे खुद कापड़ी जी ने अपने को नंगा करने के लिए अपने हाथों ट्विटर पर अपलोड किया है. प्रभु रे, कैसी-कैसी गालियां कापड़ी को पड़ रही है और ये बेचारा केवल गुहार मनुहार के लिए इधर उधर से पीएम को टैग कर पा रहा है. इसे अब कानून जेल पुलिस की याद नहीं आ रही क्योंकि सामने तो मोदी संरक्षित प्रचंड वाले भक्त हैं, इनसे पंगा लेगा तो ये सब मिलकर डंडा कर देगा... देखिए तो सही, डंडा तो सहिए में सब कर ही दिए हैं साहब.... कौन कहता है कि इस जन्म में किए पापों का दंड इसी जन्म में नहीं मिलता... प्रकृति ने न्याय करना जारी रखा हुआ है... जब तक ये कापड़ी भड़ास वालों पर से झूठे मुकदमे नहीं उठाएगा और भड़ास वालों के सामने सपत्नीक गिड़गिड़ा कर नाक रगड़ कर माफी नहीं मांगेगा, प्रकृति इसे  अपने अंदाज में सबक सिखाती रहेगी... जैजै

भड़ास के एडिटर यशवंत सिंह की एफबी वॉल से.

इसे भी पढ़ें...

xxx

xxx

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - Kamta Prasad

    जब तक ये कापड़ी भड़ास वालों पर से झूठे मुकदमे नहीं उठाएगा और भड़ास वालों के सामने सपत्नीक गिड़गिड़ा कर नाक रगड़ कर माफी नहीं मांगेगा, प्रकृति इसे अपने अंदाज में सबक सिखाती रहेगी... जैजै

Latest Bhadas