A+ A A-

वाराणसी। राजा टोडरमल के वंशज और पत्रकारिता के युग पुरुष सन्मार्ग अखबार के संपादक अनंदबहादुर सिंह का इलाज के दौरान शनिवार को तड़के 4 बजे निधन हो गया। उनके निधन से पत्रकारिता क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। श्री सिंह की 87 वर्ष कीअवस्था थी। उनके निधन की जानकारी जैसे ही समाज के बुद्धिजीवी, पत्रकारों और उनके शुभचिंतकों को लगा जो जैसे था उनके भदैनी स्थित आवास की ओर दौड़ पड़ा। श्री सिंह का जन्म 29 अगस्त 1930 (लोलार्कछठ) के दिन हुआ था। वह शुरु से धार्मिक प्रवृत्ति और काशी के गंगो-जमुनी यकजहती के संवाहक थे। उनका श्री संकटमोचन मंदिर के महंत परिवार से ताल्लुकात होने की वजह से उनकी रूचि गोस्वामी तुलसीदास जी में रही। वह रामचरित मानस में जबरदस्त पकड़ रखते थे। इतना ही नही वह काशी के इतिहास के बारे में भी अच्छी जानकारी रखते थे।

श्री सिंह ने अपने पत्रकारिता क्षेत्र में कैरियर वाराणसी के लोकप्रिय सांध्यकालीन अखबार सन्मार्ग से सन् 1952 में जुड़कर की। शुरूआती दौर में संपादक स्व. पं. गंगाशंकर मिश्र के साथ काम शुरु किया और उनसे संपादन के गुर भी सीखे। श्री सिंह धीरे-धीरे अखबार के संपादक नियुक्त हुए तो सन्मार्ग को काफी ऊंचाई तक ले गए। श्री सिंह के पास 65 वर्ष के पत्रकारिता का अनुभव था। सरल स्वभाव के धनी श्री सिंह पत्रकारिता की नर्सरी थे जिसके छत्रछाया में कई दिग्गज पत्रकारों ने कलम चलाना सीखा। अवस्था हो जाने की वजह से उन्हें पांच दिन पूर्व सर सुंदरलाल अस्पताल में यूरिन इंफेक्शन के कारण भर्ती कराया गया था, जहा उनका शनिवार तड़के निधन हो गया। श्री सिंह अपने पीछे भरापूरा परिवार छोड़ गए है। श्री सिंह का एक लड़का विजयबहादुर सिंह और दो लड़की सविता राय और सरिता शर्मा है। श्री सिंह का अंतिम संस्कार हरिश्चन्द्र घाट पर किया गया। उन्हें मुखाग्नि बेटे विजयबहादुर ने दी।

स्वतंत्रता संग्राम में गए थे जेल

परिवारीजनों की माने तो आनंदबहादुर सिंह स्वतंत्रता संग्राम के वक्त जेल भी भेजे गए थे लेकिन बाद में वह छुटे और अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ आंदोलनों में हिस्सा लिया। हालाँकि जेल जाने का कोई प्रमाण मौजूद नही है। जब देश में सन् जून 1975 में आपातकाल लगा उस वक़्त भी अनंदबहादुर सिंह ने कलम को अपना हथियार बनाया था। श्री सिंह को श्रद्धांजलि देने वालों में संकटमोचन मंदिर के महंत प्रो. विश्वम्भरनाथ मिश्र, ख्यात न्यूरोलॉजिस्ट प्रो. विजयनाथ मिश्र, धर्मेंद्र सिंह, संपूर्णानंद तिवारी, एसपी सिटी, भदैनी टाइम्स के संपादक अवनिन्द्र कुमार सिंह, काशी पत्रकार संघ के पदाधिकारी सुभाष सिंह, अत्रि भरद्वाज, विकास पाठक, विनय मौर्या, अभय शंकर तिवारी,  सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Tagged under death,

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found