A+ A A-

ये तेरा सगा वाला ये मेरा सगा वाला के फेर में रायपुर भास्कर डॉट कॉम का भट्ठा बैठ गया है। मिली जानकारी के मुताबिक मनमुटाव, अव्यवस्था और कम इन्क्रीमेंट के चलते डॉट कॉम देखने वाले सारे पत्रकार एक-एक कर संस्था को टाटा बॉय-बॉय कर गये हैं। अभी हालात ऐसे बने हुये हैं कि भोपाल से खबरें लगाई जा रही हैं।

दरअसल यह हालात एक दिन में नहीं बने हैं। 3 कर्मियों के सेटअप में नये पत्रकारों की भर्ती लम्बे समय से नहीं की गई। इसके चलते शेष कर्मियों पर वर्कलोड बढ़ता गया और अंततः एक मात्र बचे कर्मी ने भी अलविदा कह दिया। ऐसा नहीं कि पत्रकारों ने जॉब के लिए एप्लाई नहीं किया बल्कि संस्था को ऐसे रिज्यूम भी मिले हैं जिन्होंने भास्कर डॉट कॉम के इतिहास में अहम भूमिका भी निभाई है।

पहली बार NIT जैसे संस्थान के इवेंट्स को फोटोज और वीडियोज के जरिये लाईव अपडेट करवाने वाले पत्रकार भी संस्था से जुड़ना चाहते हैं क्योंकि ऐसे ही कवरेज की वजह से रायपुर भास्कर डॉट कॉम की 12 करोड़ की बोली लगी थी। लेकिन जिनको काबिल पत्रकार चुनकर उनके रिज्यूम भोपाल भेजने हैं वो काबिलियत नहीं बल्कि कुछ और ही देख रहे हैं।

आशीष चौकसे

पत्रकार, राजनीतिक विश्लेषक और ब्लॉगर

8120100064

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas