A+ A A-

सेवा में,

श्रीमान सुब्रत राय सहारा जी

अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कार्यकर्ता

सहारा इण्डिया परिवार

सहारा शहर, गोमती नगर

लखनऊ

विषय :- पच्चीस वर्ष में भी राष्ट्रीय सहारा में तबादला नीति नहीं बन सकी

महोदय,

संज्ञान में लें कि राष्ट्रीय सहारा हिन्दी दैनिक समाचार पत्र सहारा इण्डिया परिवार का एक मीडिया उपक्रम है। संभवत: संचालन ढ़ाई दशक से भी अधिक अवधि से है। इन पच्चीस वर्ष में भी प्रबंधन मीडिया कर्मियों की तबादला नीति नहीं बना सका।

कतिपय मीडिया कर्मियों को एक यूनिट से हिलाया तक नहीं गया। कुछ लगातार तबादला का शिकार होते रहे। कई यूनिट्स में मीडिया कर्मियों का जबर्दस्त असंतुलन। राष्ट्रीय सहारा की लखनऊ सहित कई यूनिट्स में मीडिया कर्मियों का भारी जमाव यानी ओवर स्टाफ है। कई यूनिट्स में काम चलाने का भी संकट। स्टाफ संतुलन के लिए पच्चीस वर्ष में दर्जनों कमेटियां बनीं। अभी तक परिणाम शून्य रहा।

आशुतोष शुक्ला

10.06.2017

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas