A+ A A-

रामगढ़ के नए आलोक प्रियदर्शी ने भदानीपुर ओपी क्षेत्र स्थित अमझरिया में रेलवे कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान एसपी के आने की सूचना पर विभिन्न अखबारों के पत्रकार भी मौके पर पहुंचे। पत्रकारों ने जैसे ही कैमरे निकाल कर फोटो लेना शुरू किया, एसपी की नजर पड़ गई। इसके बाद एसपी ने डांटते हुए सभी को बुलाया और फोटो तुरंत डिलीट करने को कहा। इस पर पत्रकारों ने अपना परिचय दिया, लेकिन एसपी ने एक न सुनी और कहा कि अब हवा का रुख बदल गया है। एसपी ने डांटते हुए कहा कि बिना इजाजत से फोटो क्यों ली?

इसके बाद एसपी ने कहा कि मीडिया के लिए पुलिस अहमियत रखती है लेकिन पुलिस के लिए मीडिया कोई अहमियत नहीं रखती। इसके बाद उन्होंने वहां मौजूद सभी पत्रकारों को मौके पर से जबरदस्ती भगा दिया। इससे पहले पतरातू थाने के निरीक्षण के दौरान एसपी से मिलने गए पत्रकारों के नेम स्लिप भिजवाई थी जिसे हाथ में लेकर देखते ही एसपी ने खुद फाड़कर फेंक दिए। उन्होंने किसी से मुलाकात नहीं की। नए एसपी के इस आपत्तिजनक बर्ताव से स्थानीय पत्रकारों में काफी रोष है।

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found