A+ A A-

पटना : समस्तीपुर के विभूतिपुर प्रखंड के पत्रकार की अपराधियों ने मंगलवार की शाम गोली मार कर हत्या कर दी। पत्रकार ब्रजकिशोर ब्रजेश (38) दैनिक भास्कर अखबार से जुड़े थे। वे सलखनी निवासी दशरथ महतो के छोटे पुत्र थे। अपराधियों ने ब्रजकिशोर को छह गोलियां मारी हैं। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस के अनुसार ब्रजकिशोर को अत्याधुनिक हथियार से गोली मारी गई। ब्रजेश ईंट भट्ठा चिमनी भी चलाते थे। घटनास्थल पर पहुंच कर पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस ने गोलियों के कई खोखे भी बरामद किए हैं। पुलिस इसमें जमीन विवाद सहित कई पहलू से पड़ताल कर रही है।

चिमनी के मुंशी ने इसकी सूचना परिवार के लोगों को दी। उसके बाद आनन-फानन में लोगों ने जख्मी ब्रजेश को पीएचसी विभूतिपुर लाया। जहां चिकित्सकों ने देखने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया गया है कि गोली कनपट्टी, सीना, पेट आदि कई स्थानों पर लगी है। करीब आधा दर्जन गोली लगने की बात बतायी जा रही है। जानकारी के अनुसार, चार अपराधी चिमनी के सामने वाली सड़क पर बोलेरो खड़ी कर चिमनी में घुस गए और स्वचालित हथियार से दनादन फायरिंग करने लगे। इसके बाद वे फरार हो गए।

ब्रजेश तीन भाई हैं। कहा जा रहा है कि इनके बीच संपत्ति को लेकर विवाद भी चल रहा था। ब्रजेश का शव विभूतिपुर पीएचसी में रखा गया है। एसपी नवल किशोर सिंह ने बताया कि आपसी विवाद में घटना हुई है। पुलिस हर पहलु पर गहनता से छानबीन कर रही है। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए टीम बना दी गई है। जल्द सभी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे। बताया जा रहा है कि चिमनी के विवाद में यह हत्या हुई है। मृतक पत्रकार के भाई श्याम किशोर कमल माकपा जिला कमेटी के सदस्य हैं। हत्या के कारणों का अभी पता नहीं चला है। हालांकि, घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए माकपा राज्य परिषद सदस्य अजय कुमार ने कहा कि हत्या चिमनी विवाद के कारण हुई हो सकती है। तीन वर्षों से बंद चिमनी को बुधवार से खोला जाना था।

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found