A+ A A-

झारखंड के भाजपाई सीएम के दामन पर दाग दिखाया जाने लगा है. प्रभातम नामक कंपनी की जगह इंडिया रिपोर्ट कार्ड मीडिया प्राइवेट लिमिटेड को काम दिए जाने पर सवाल उठाया जा रहा है. इस बाबत कोर्ट में याचिका भी दायर की गई है. इसका खुलासा एक अखबार ने किया है. पूरे मामले को जानने के लिए अखबार में छपी खबर को पढ़ें.. कटिंग नीचे दी जा रही है... वैसे पहली नजर में ये खबर प्रभातम को ठेका न मिलने पर लाबिंग के तहत छपवाई गई खबर लग रही है क्योंकि खबर में कंटेंट के नाम पर कुछ खास नहीं है...

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - pra

    प्रभातम ने सरकार को 10 करोड़ से ज्यादा का चुना लगाया जिससे उसे पर्यटन विभाग से भी बाहर का रास्ता दिखाया गया . प्रभातम से सीईओ राकेश शर्मा के ख़राब रवैये ने भी कंपनी को ब्लैक लिस्ट करने का काम किया . वैसे जिस कंपनी को सीएम रघुबर दास की ब्रांडिंग करने का नया ठेका दिया गया है उसमे आईबीएन चैनल से निकाले गए आलोक वर्मा और समीर चटर्जी के साथ साथ ब्रिज मोहन दुग्गल संभाल रहे है, इस कंपनी में राज्य के मुखिया का बेटा भी डायरेक्टर है