A+ A A-

  • Published in टीवी

सुभाष चंद्रा जी ग्रुप के मालिक हैं. भाजपा कोटे से सांसद हैं. मोदी जी के भक्त हैं. कोल गेट से संबंधित खबरें दबाने के लिए कांग्रेसी नेता नवीन जिंदल से रिश्वत मांगने के आरोपी हैं. उनके जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी भी इसी मामले में आरोपी हैं और जेल जा चुके हैं. जी न्यूज मोदी सरकार के प्रबल समर्थक चैनल की तरह काम करता है. ऐसे में मोदी सरकार को लेकर आलोचनात्मक रुख रखने वाले एनडीटीवी के मालिकों के यहां पड़े छापे के बाद इससे संबंधित खबरें जी न्यूज पर जोरशोर से प्रसारित की जा रही हैं.

एक समय था जब जी न्यूज के मालिकान और संपादक रिश्वतखोरी में फंसे थे तो इससे संबंधित खबरें एनडीटीवी पर खूब चलती थीं. मीडिया में राजनीतिक पार्टियों के आधार पर हुए ध्रुवीकरण के चलते चैनल अब एक दूसरे पर अपनी सुविधा और फायदे के हिसाब से निशाना तानते हैं. लेकिन इस सबसे भला जनता का हो रहा है जिसे सबक कुकर्म जानने देखने पढ़ने को मिल रहे हैं. मीडिया में अब आपस में मिलकर एक दूसरे की बुराई से संबंधित खबरें दबा लेने का चलन खत्म होने लगा है. यह शुभ है. फिलहाल कुछ स्क्रीनशाट देखिए जो जी न्यूज से लिया गया है...

इसे भी पढ़ें...

xxx

xxx

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found