A+ A A-

  • Published in विविध

Kanwal Bharti : अमेरिका में कारपोरेट और उनके सीईओस के साथ मोदी की मुलाकातों की तस्वीरों में मैं भारत के एक खौफनाक भविष्य की तस्वीरें देख रहा हूँ. उनमें मजदूरों के शोषण और उत्पीड़न के खतरनाक दृश्य देख रहा हूँ. गरीबी और भुखमरी से ग्रस्त लोगों के फांसी पर झूलते शरीर और उनके कंकाल देख रहा हूँ.

बेरोजगारी के अजगर के जबड़े में फंसे भविष्य के डाक्टरों और इंजीनियरों को देख रहा हूँ. लाखों रूपये देकर एमबीए डिग्री धारकों को कारपोरेट में सब्जियां बेचते देख रहा हूँ. देख रहा हूँ शिक्षित युवा वर्ग को असामाजिक भूमिका में. और यह सब इसलिए देख रहा हूँ, क्योंकि मोदी ने कारपोरेट को वचन दिया है कि वे उनके धन की सुरक्षा करेंगे. क्या यह सुरक्षा गरीबों-मजदूरों की सामाजिक सुरक्षा को ख़त्म किये बिना हो सकती है?

दलित चिंतक कंवल भारती के फेसबुक वॉल से साभार.

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - ss

    Kanwal ji, aap lagta hai Congress, AAP aur Mayavati ji se poori tarah Prabhavit hain... Arey bhaiyye, Modi agar desh me khushhali lana chahte hain, to aapko ussey gurej kya hai....? Aap ye sab likh kar kya kahna chahte hain hum pathkon se...? Zara details me jayen aur batayen...
    thanks

Latest Bhadas