Categories: टीवी

अंबानी का चैनल तो खुलकर हिंदू-मुस्लिम करने लगा!

Share

Sheetal P Singh-

यह चुनाव आयोग के अवलोकन के लिए है.

देश की सरकार द्वारा समर्थित देश के सबसे बड़े औद्योगिक घराने यानि मुकेश अंबानी के टीवी चैनल की यह ध्रुवीकरण हेतु प्रस्तुति कैसे होने दी जा सकती है?

ऐसे चैनलों की मानीटरिंग के बिना डिजिटल इरा के चुनाव का क्या मतलब है?

Latest 100 भड़ास