न्यूज1इंडिया से हटाए जाने के बाद जिला रिपोर्टर ने लिखा संपादक को पत्र, लगाए गंभीर आरोप

न्यूज़1इंडिया चैनल के जालौन के रिपोर्टर अंजनी शर्मा ने खुद को चैनल से हटाए जाने के खिलाफ एक लंबा चौड़ा पत्र चैनल के संपादक अनुराग चड्ढा को लिखा है. इस पत्र में उन्होंने चैनल में तैनात बृजेश श्रीवास्तव पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए न्याय न मिलने पर आत्महत्या करने की धमकी दी है.

अंजनी शर्मा ने पत्र में आरोप लगाया है कि बृजेश श्रीवास्तव उन्हें शुरू से ही नापसंद करते थे. बृजेश बुंदेलखंड से ताल्लुख रखते हैं और ये उनको ही रिपोर्टर रखना पसंद करते है जो इन्हे मंथली सिस्टम दे. साथ ही जो पत्रकार न होकर इनका गुलाम हो. अंजनी का आरोप है कि बृजेश श्रीवास्तव द्वारा उनसे भी पैसे की डिमांड की गयी. पर उन्होंने किसी को निजी तौर पर पैसा देने से इनकार कर दिया और कहा कि वे संस्थान को विज्ञापन दिलाने के लिए तैयार हैं. अंजनी का आरोप है कि बृजेश ने जालौन में एक मुस्लिम युवक को रिपोर्टर बना दिया है जिसका बैकग्राउंड दागदार है. संपादक अनुराग चड्ढा से अंजनी ने अनुरोध किया है कि उनकी न्यूज़1 इंडिया परिवार में वापसी कराई जाए क्योंकि उनके 3 छोटे बच्चे है और वे घर के अकेले कमाने वाले सदस्य हैं. अंजनी का कहना है कि अगर उन्हें हटाना ही था तो कारण बताकर हटाते. अंजनी का आरोप है कि बृजेश श्रीवास्तव जैसे लोग खनन वाले इलाको में अपने लोगों को रखवाकर पूरा वसूली का सिंडिकेट चलाते हैं. बृजेश जैसे लोग चैनल का नाम खराब कर रहे हैं.

पत्र में अंजनी लिखते हैं- ”संस्थान के उच्च अधिकारियों से शिकायत के बाद से वसूली गैंग के लोग और उनका सरगना बृजेश श्रीवास्तव बौखलाया हुआ है. वो भविष्य में उत्तर प्रदेश में किसी भी चैनल में न रहने की धमकी दे रहे हैं”


इस प्रकरण पर ब्रजेश श्रीवास्तव का क्या कहना है, पढ़ें-

अपने रिपोर्टर द्वारा लगाए गए आरोपों के प्रकाशन के बाद ब्रजेश श्रीवास्तव ने भड़ास को भेजा पत्र, पढ़ें

‘भड़ास ग्रुप’ से जुड़ें, मोबाइल फोन में Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “न्यूज1इंडिया से हटाए जाने के बाद जिला रिपोर्टर ने लिखा संपादक को पत्र, लगाए गंभीर आरोप

  • मनीष दुबे says:

    बड़ी मेहनत की थी अगले ने घाटमपुर से जालौन जाने में. कहता था घाटमपुर में मजा नही आता जालौन में दाल बढ़िया पक जाती है. न्यूज़1इंडिया से पहले अंजनी समाचार प्लस जालौन के पट्टों में ही रम चुका था कैसे कहीं और मौज ले पाता. पर बृजेश ने वो सुख छीन लिया, ये क्या किया तुमने बृजेश जो अंजनी की हाय ले ली.

    Reply
  • Anuj sharma says:

    ब्रजेश जी ने सही किया पत्रकारिता एक समाजसेवा है और लोग बिजनिस बनाये हैं आरोप लगाना सबसे आसान काम ।

    Reply
  • Yogendra pratap Singh says:

    इस अंजनी शर्मा को इंसान पहचानने की समझ नही है वर्ना कभी इस तरह के ब्यक्ति पर इस तरह का तंज नही कसता । 18 वर्षो के पत्रकारिता करियर में तमाम उतार चढ़ाव औऱ पत्रकारिता की सोच और पत्रकारों की असल औकात को इन 18 वर्षों में अच्छे से परखने की कला हमने सीख ली है 18 वर्षो का समय कम नही होता और जिस ब्रजेश श्रीवास्तव की बात ये महोदय कर रहे है उस व्यक्ति से मैं बिल्कुल अनजान था बुंदेलखंड से कानपुर जी न्यूज ट्रांसफर पर आने के बाद इस व्यक्ति ने खुद मुझे जी न्यूज कानपुर देहात में एप्वाइंटमेंट कराया बिना एक चवन्नी लिए यह बात वर्ष 2013 की है कुछ लोग भले ही कानो से सुनकर उसे बुरा भला कह सकते है लेकिन जालौन से जिसे भी हटाया गया उससे मेरा कोई सरोकार नही लेकिन जिस व्यक्ति पर उसने आरोप लगाया है अगर आरोप तथ्य परक न हो तो हे भगवान उसे दुनिया से उठा ले । क्योकि उसने जो अपराध किया है वो अक्षम्य है । ब्रजेश श्रीवास्तव वो सख्स है जिसने कइयों को नौकरी दी है और अगर उसने नौकरी आपके कहे के मुताबिक छीनी है तो आपकी अपनी कमी रही होगी वरना न्यूज़1इंडिया कुछ नही है ज़ी न्यूज़ में इस व्यक्ति 18 से अधिक लोगो को एप्वाइन्ट कराया है चाहता तो 50 हजार प्रति व्यक्ति ले लेता ।

    इस चूतिये को क्या कहूं लांछन ऐसी जगह लगाया जहां अंधा भी कहेगा भैया एक नेक इंसान है । अब गधे तेरा इतिहास और वर्तमान अगर खुला तो खनन के खेल में जो तेरे ठेकेदार है वो तक बेनकाब होंगे । लेकिन जब कोयले की कोठरी में रहना है तो तू शांति से रह है और एक नेक , ईमानदार और कर्तब्य निष्ठ व्यक्ति के बारे में यह न लिख बेटा उम्र में तुझसे बड़ा हु और अनुभव भी 1999 से है तो कुछ तो देखा होगा फर्क की पत्रकारिता में dalle ओर ईमानदार के बीच का फर्क क्या होगा ।

    योगेन्द्र प्रताप सिंह
    संवाददाता न्यूज़ 24

    Reply
  • अभिषेक कुमार says:

    अंजनी शर्मा बृजेश सर बेबुनियादी इल्जाम मत लगये अगर अंजनी आप इतने साफ सुथरे है तो आप अपने घाटमपुर से ही पत्रकारिता क्यों नही करते खनन के सिस्टम को लेकर जालौन में पत्रकारों के साथ साथ पत्रकारों के भी दलाल है अंजनी पहले अपनी कॉलर साफ करो,बाद में किसी और को देखना। दुबारा कभी भी न्यूज़1इंडिया परिवार के साथ जुड़ने को सूचना भी मत।।

    Reply
  • ये रिपोर्टर महाशय हमेशा वसूली की सुर्खियों में रहते हैं जालोंन के कई खनन माफियाओं के चरण वन्दन करके वसूली की रिकॉर्डिंग वायरल भी हुई है पत्रकारिता पर बड़ा धब्बा लगाने का यही कार्य कर रहे हैं चैनल ने इनकी दलाली को रोक दिया तो मिर्ची तो लगेगी ही ।

    Reply

Leave a Reply to Yogendra pratap Singh Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *