A+ A A-

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को जब पुलिस हिरासत में कोर्ट ले जाया गया तो एक जगह उन्होंने मीडिया से बातचीत की कोशिश में कुछ कहने लगे तो एक पुलिस वाले ने फौरन पीछे से उनके मुंह पर अपना हाथ लगा दिया और कसकर मुंह दबा दिया ताकि उनकी आवाज बाहर तक न जा सके. इस मौके की तस्वीर कुछ मीडियाकर्मियों ने उतार ली. फर्जी आरोपों में आनन-फानन वरिष्ठ पत्रकार की रात में गिरफ्तारी और फिर उनको बोलने से रोकने के लिए मुंह को हाथ से दबाकर बंद कर देना... ये सारा घटनाक्रम मीडियाकर्मियों के लिए स्तब्धकारी है. देखें तस्वीर :

ये कुछ तस्वीरें उस वक्त की हैं जब विनोद वर्मा को गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाने के हवालात में रखा गया था... तब बाहर ढेर सारे मीडियाकर्मी उनके समर्थन में खड़े थे...

Tagged under vinod verma,

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas