एचटी की फोटो जर्नलिस्ट अनुश्री के साथ दिल्ली पुलिस ने कैसा किया सुलूक, देखें वीडियो

Shweta R Rashmi :  दिल्ली पुलिस या गुंडागर्दी… ये वीडियो देखिए… कैसे पुलिस मीडिया के साथ वर्ताव कर रही है… आखिर इतनी बेशर्मी कहां से लाते हैं… अनुश्री फोटो जर्नलिस्ट हैं HT में…  किस तरह पुलिस की वर्दी में तैनात ये महिलाएं अनुश्री को पीट रही हैं… देखिए जरा…

सरकारी विज्ञापन वितरण प्रणाली पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने जताई नाराजी, 17 विभागों को नोटिस जारी

उन्मेष गुजराथी, दबंग दुनिया

मुंबई: अभिव्यक्ति के साधनों में से एक विज्ञापन को आधार बनाकर विभिन्न संस्थाएं, व्यक्ति अपने कार्यो को जनता तक पहुंचाने का काम करते हैं। समाचार पत्रों, चैनलों, सोशल मिडिया, रेडियो, मोबाइल के संदेशों के माध्यम से अपनी अभिव्यक्ति दी जा सकती है। विज्ञापन देने वाली कंपनियां किसे विज्ञापन दें, यह तो विज्ञापन देने वाली कंपनी के अधिकार क्षेत्र में रहता है, लेकिन कई बार यह देखने को मिलना है कि अच्छा सर्कुलेशन होने के बवाजूद विज्ञापन देने में दोहरी नीति अपनायी जाती है, जो लोग ऊंची पहुंच वाले हैं, वे अपना स्वार्थ सिद्ध करने में कोई गुरेज नहीं करते।

एबीपी न्यूज का महापतन, इंडिया टीवी ने स्थिति सुधारी

एबीपी न्यूज के इतने बुरे दिन आएंगे, किसी ने सोचा न था. यह चैनल कभी नंबर दो पर हुआ करता था. आजकल यह छठें स्थान पर गिरा पड़ा है. इंडिया टीवी की टीआरपी लगातार बढ़ रही है. यह चैनल नंबर दो पर होने के बावजूद टीआरपी में सुधार करने में सफल हो रहा है. अंबानी का चैनल न्यूज एट्टीन इंडिया नंबर तीन पर कामय है.

मृणाल पांडे नेशनल हेराल्ड और पुण्य प्रसून एबीपी न्यूज से जुड़े, ज़फ़र आगा को प्रमोशन

पत्रकार मृणाल पांडे को नेशनल हेराल्ड का वरिष्ठ संपादकीय सलाहकार बनाया गया है. मृणाल पांडे इससे पहले हिन्दुस्तान अखबार की समूह संपादक रही हैं. मृणाल प्रसार भारती की चेयरपर्सन भी रह चुकी हैं. 

उत्तराखंड की भाजपा सरकार पत्रकारों की मान-मर्यादा से खुलेआम खेलने लगी, देखें तस्वीरें

उत्तराखंड की डबल इंजन वाली भाजपा सरकार सत्ता के घमंड में लगातार पत्रकारों की तौहीन करने पर तुली हुई है। उत्तराखंड सचिवालय में पत्रकारों के प्रवेश पर रोक लगाने के बाद राज्य में पत्रकारों की मान मर्यादा के साथ भाजपा सरकार व उनके कार्यकर्ता खेलने पर तुले हुए हैं। उत्तराखंड के श्रीनगर गढ़वाल में एक कार्यक्रम के दौरान पत्रकारों को बैठने तक के लिए जगह नहीं मिली। कार्यक्रम के कवरेज के दौरान जब पत्रकार तेज घूप में थक गये तो वे वहीं जमीन पर बैठ गये।

सुप्रीम कोर्ट ने ‘हिंदुस्तान’ की मालिकन शोभना भरतिया पर सवा लाख रुपये का हर्जाना ठोका

शोभना भरतिया

दैनिक हिन्दुस्तान फर्जी संस्करण और 200 करोड़ का सरकारी विज्ञापन घोटाला प्रकरण, सुनवाई की अगली तारीख 16 अप्रैल 2018 तय…. सुप्रीम कोर्ट ने 16 मार्च 2018 को एक ऐतिहासिक आदेश में मेसर्स हिन्दुस्तान मीडिया वेन्चर्ज लिमिटे, नई दिल्ली की चेयरपर्सन व पूर्व कांग्रेस सांसद शोभना भरतिया को सवा लाख रूपए की हर्जाना राशि के भुगतान का आदेश दिया। मेसर्स हिन्दुस्तान मीडिया वेन्चर्ज लिमिटेड नामक कंपनी देश में दैनिक हिन्दुस्तान नाम के हिन्दी दैनिक का प्रकाशन करती है।

केंद्रीय सूचना आयोग ने आईपीएस अफसरों पर मुकदमे सार्वजनिक करने का आदेश दिया

केंद्रीय सूचना आयोग ने गृह मंत्रालय को आईपीएस अफसरों के खिलाफ आपराधिक मुकदमों को तत्कल सार्वजनिक करने के आदेश दिए हैं.  यह निर्देश सूचना आयुक्त यशोवर्धन आजाद ने लखनऊ स्थित एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर द्वारा दायर आरटीआई अपील में दिए. जहाँ गृह मंत्रालय ने सूचना देने से मना कर दिया था, आयोग ने कहा कि कैडर नियंत्रण प्राधिकारी के रूप में गृह मंत्रालय की आईपीएस अफसरों के सेवा संबंधी मामलों को देखने की जिम्मेदारी है, जिसमे विभागीय जाँच तथा आपराधिक मामले शामिल हैं. अतः आयोग ने मंत्रालय को इसकी सूची बनाकर नूतन को प्रदान करने के आदेश दिए हैं.

इस मीडिया समूह ने अपने कर्मचारियों का स्‍वास्‍थ्‍य बीमा तक नहीं करवाया है…

पत्रकार की मौत : क्‍या संस्‍थान की कवरेज से भर जाएगा परिवार का पेट! शिमला के एक वरिष्‍ठ पत्रकार की मौत पर उसके मीडिया संस्‍थान ने खबरें और संपादकीय लिख कर श्रद्धांजलि दी। पूरा प्रदेश गमगीन हुआ। लेकिन क्‍या इससे उसके परिवार का भविष्‍य संवर जाएगा। ऐसे वक्‍त में एक कर्मचारी को संस्‍थान से आर्थिक मदद के तौर पर जो मिलना चाहिए क्‍या वह मिलेगा।

एचटी मीडिया ने मजीठिया वेज बोर्ड के आदेश को लागू नहीं किया : श्रम विभाग

मोहाली से खबर है कि श्रम विभाग ने एक पत्र जारी कर सूचित किया है कि एचटी मीडिया ने मीडियाकर्मियों की तनख्वाह रिवाइज करने के सरकार और कोर्ट के आदेश को लागू नहीं किया है.

शिमला के पत्रकार सुनील शर्मा और जयपुर के मीडियाकर्मी वीरेंद्रपाल का निधन

दिव्य हिमाचल के ब्यूरो चीफ सुनील शर्मा का अचानक यूँ चले जाना हृदय विदारक है। अच्छे लोग कभी नहीं मरते। वो अपनी माद्दी जिस्मानी सूरत से तो आज़ाद हो जाते हैं लेकिन उनकी यादें दिलों में हमेशा घर किए रहती हैं और हम वक्त-बेवक्त उन्हें याद करते रहते हैं। निश्चय ही यह एक बहुत दुखद सूचना है ! कम उम्र में अनुज समान एक जुझारू, कर्मठ पत्रकार सुनील शर्मा का यूं जाना पीड़ित करता है ! हमें उनकी कमी हमेशा सालती रहेगी ! इस नौजवान संजीदा पत्रकार को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि!

-शिमला के वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण भानु की एफबी वॉल से.

केजरीवाल ने माफी मांगने का जो रास्ता ढूंढा है, मेरी राय में वह सर्वश्रेष्ठ है : डॉ. वेदप्रताप वैदिक

डॉ. वेदप्रताप वैदिक

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पहले विक्रमसिंह मजीठिया और अब नितिन गडकरी से माफी मांगकर भारत की राजनीति में एक नई धारा प्रवाहित की है। यह असंभव नहीं कि वे केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली और अन्य लोगों से भी माफी मांग लें। अरविंद पर मानहानि के लगभग 20 मुकदमे चल रहे हैं। अरविंद ने मजीठिया पर आरोप लगाया था कि वे पंजाब की पिछली सरकार में मंत्री रहते हुए भी ड्रग माफिया के सरगना हैं।

‘न्यूज तक’ नाम से यूट्यूब पर आया इंडिया टुडे ग्रुप, अंजना ओम कश्यप हैं कैप्टन

‘न्यूज तक’। जी हां, ये हमारे इंडिया टु़डे ग्रुप का यू ट्यूब चैनल है। बहुत ही कम वक्त में इसके सब्सक्राइबर्स की तादाद पांच लाख से ज्यादा हो गई है, जबकि इसके व्यूज की संख्या साढ़े 9 करोड़ से भी पार कर गई है। यही नहीं, ‘न्यूज तक’ के फेसबुक पेज के फॉलोअर्स की तादाद 10 लाख से भी ज्यादा हो गई। नौजवानों में ‘न्यूज तक’ जबरदस्त तरीके से लोकप्रिय हो रहा है।

अंजना ओम कश्यप

वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम के पिता रामसागर सिंह का बेगुसराय में निधन

मां-पिता के साथ अजीत अंजुम, बीच में. ये तस्वीर कुछ रोज पहले की है जब अजीत अंजुम बेगुसराय गए हुए थे.

वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम के पिता रामसागर सिंह का आज सुबह बिहार के बेगुसराय जिले के पिंक सिटी स्थित आवास पर देहांत हो गया.. उनकी उम्र करीब सत्तर साल की थी. वो जिला जज के पद से रिटायर थे. वे अपने पीछे भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं.

वेस्ट यूपी के प्रतिष्ठित और जुझारू पत्रकार जितेंद्र दीक्षित जी को विकास मिश्र ने यूं दी श्रद्धांजलि

अमर उजाला की मैं तारीफ करूंगा, दीक्षित जी की नौकरी पर कभी आंच नहीं आई… दीक्षित जी चले गए। उनके साथ हम लोगों का एक अभिभावक चला गया। जरूरी नहीं कि जितेंद्र दीक्षित को आप जानते हों। जितेंद्र दीक्षित पश्चिमी उत्तर प्रदेश के प्रतिष्ठित पत्रकार थे, जुझारू शख्सियत थे, अमर उजाला, मेरठ से रिटायर होकर फिलहाल मुजफ्फरनगर में रह रहे थे। दीक्षित जी से मेरा परिचय जनवरी 2000 में हुआ था, जब मैंने अमर उजाला में काम करना शुरू किया था।

स्व. जितेंद्र दीक्षित

मुसलमानों के मामले में मीडिया ने अपने सिद्धांत और अक्ल, दोनों बेच खाए हैं!

उत्तर प्रदेश और बिहार के उपचुनाव नतीजों के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। दस्तूर के मुताबिक सोशल मीडिया से यह वीडियो मेन-स्ट्रीम मीडिया के पास पहुंचा और पिछले कुछ वक्त से जो  हमेशा होता चला आ रहा है, वही हुआ। एक फर्जी वीडियो के सहारे एक विशेष तबके को देश विरोधी बताने की कोशिश हुई। हां, मैं वीडियो को फर्जी कह रहा हूं क्योंकि वह फर्जी ही है। वीडियो के ऑडियो और विजुअल लेवल में जो फर्क है उसे देख कोई बच्चा भी बता देगा कि वीडियो असली नहीं हो सकता। न्यूज पोर्टल Alt News ने तो इसकी पड़ताल भी की और वीडियो के फर्जी होने की तरफ इशारा भी किया। बाकी, फॉरेंसिक जांच में तो सच सामने आ ही जाएगा।

‘अच्छे दिनों’ में जीने वाले युवाओं के दुख-दर्द को सामने ले आए पत्रकारिता के ये दो छात्र, देखें वीडियो

न्यूज 24 चैनल के मीडिया इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाले दो छात्रों ने बेरोजगार युवाओं के दर्द को बयान किया है. अमोला ने एंकरिंग संभाली और मयंक ने फील्ड में जाकर बेरोजगार युवाओं के दर्द को रिकार्ड किया. भड़ास इन छात्रों की कोशिश को मंच प्रदान कर रहा है ताकि इनके इस सरोकारी रिपोर्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सके. मोदी सरकार ने हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कही थी लेकिन हो रहा है उल्टा.

जवाब देने में देश के सबसे बड़े चोर बिल्डर अनिल शर्मा की जुबान लड़खड़ाई, देखें वीडियो

वर्षों से अपने बिल में छुपे रहे चोर बिल्डर अनिल शर्मा जब एक रोज जनता के सामने आया तो लुटे निवेशकों में से एक ने उसके मुंह पर पैसे लेने के बावजूद काम बंद करने का आरोप लगा दिया. इस महिला के आरोप सुनने के बाद जब अनिल शर्मा जवाब देने को तत्पर हुआ तो उसकी जुबान लड़खड़ाने लगी.

कार्पोरेट-परस्त आर्थिक नीतियों पर चुप्पी साधकर फासीवाद से नहीं लड़ा जा सकता

वाराणसीः ‘फासीवादी उभार और हमारे कार्यभार’ नामक विषय पर रविवार को भाकपा-माले की तरफ से वरुणा पुल, नेपाली कोठी स्थित प्रेरणा कला मंच में संगोष्ठी का आयोजन किया गया है।  अखिल भारतीय किसान सभा के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष जय प्रकाश नारायण ने विषय प्रवर्तन करते हुए कहा कि उदार आर्थिक नीतियों पर सत्तापक्ष और सत्ताधारी विपक्ष के बीच सर्वानुमति के चलते ही आरएसएस जैसे फासीवादी संगठन को उर्वर जमीन मिल रही है। इसके चलते वे भारत को खुलेआम हिंदू राष्ट्र बनाने का ऐलान करने लगे हैं।

एमपी में तीन सौ करोड़ का विज्ञापन घोटाला, सीएम के सचिव समेत कइयों के खिलाफ मुकदमा लिखने के आदेश

भोपाल से विनोद मिश्रा की रिपोर्ट

भोपाल : न्यायाधीश सतीश चंद्र मालवीय मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी भोपाल ने थाना प्रभारी आर्थिक अपराध भोपाल को 05 मार्च 2018 को विनय डेविड के द्वारा प्रस्तुत परिवाद में वर्णित तथ्यों की सम्यक रूप से अनुसंधान करके पूर्ण जाँच को 23 मार्च 2018 को न्यायालय में पेश करने के आदेश दिये। जनसम्पर्क विभाग में 300 करोड़ रुपयों का खुलेआम विज्ञापन घोटाला किया गया है।

राकेश मालवीय को एक्‍सीलेंस रिपोर्टिंग मीडि‍या अवार्ड

भोपाल। मध्यप्रदेश के पत्रकार और ब्लॉगर राकेश मालवीय की रिपोर्ट को वर्ष 2017 के लिए रीच मीडि‍या अवार्ड फॉर एक्सीलेंस इन रिपोर्टिंग ऑन टीबी  दिया गया है। नई दिल्ली के होटल ताज में रीच लिली मीडिया आर्गनाइजेशन की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में यह अवार्ड  दि‍या गया है।  टीबी के मुद्दे पर एनडीटीवी पर प्रकाशित ग्राउंड रिपोर्ट को देश भर से आई चालीस एंटीज में से चुना गया।

इंडिया न्यूज वाले प्रकाश तिवारी ने थामा सूर्या समाचार का दामन

रायपुर से खबर आ रही है कि इंडिया न्यूज के सीनियर correspondent प्रकाश तिवारी ने सूर्या समाचार का दामन थाम लिया है। काफी समय से इस बात की अटकलें तेज़ थी कि जल्द ही वह किसी राष्ट्रीय चैनल के state ब्यूरो बनेंगे। कयासों पर मुहर लग गई है।

इस बार अजय जोशी, संदीप गुसाईं, योगेश भट्ट को मिलेगा उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार

पौड़ी (उत्तराखंड)। जुझारू पत्रकार, कवि और सामाजिक कार्यकर्ता उमेश डोभाल की स्मृति में दिए जाने वाले युवा पत्रकारिता पुरस्कार इस बार अजय जोशी, संदीप गुसाईं, योगेश भट्ट को दिए जाएंगे। उमेश डोभाल स्मृति ट्रस्ट की पौड़ी में आयोजित प्रेस वार्ता में इसकी जानकारी दी गयी।

लाल सलाम के नारों के बीच मास्टर प्रताप सिंह को दी गई अंतिम विदाई

दिनेशपुर (ऊधमसिंह नगर, उत्तराखंड)। फैज अहमद फैज, गिरीश तिवारी गिर्दा इत्यादि के गीत गाते हुए लाल सलाम के नारों के साथ प्रताप सिंह को अंतिम विदाई दी गयी। जुझारू आंदोलनकारी, सामाजिक कार्यकर्ता और शिक्षक और पत्रकार प्रताप सिंह (जिन्हें कोई दो दशक से मास्टर प्रताप सिंह के नाम से भी जाना जाता है।) का कैंसर की बीमारी के चलते 18 मार्च की सुबह निधन हो गया।

चिटफंड घोटाला : ‘मैत्रेय’ कंपनी बनाकर वर्षा सत्पालकर ने अवैध रूप से करोड़ों रुपए जमा किया

निवेशकों को पैसे का इंतजार,  सरकार बनी तमाशबीन

दबंग दुनिया : उन्मेष गुजराथी

मुंबई : हजारों निवेशकों को सस्ते दर पर भूखंड देने के नाम पर ‘मैत्रेय’ के सर्वेसर्वा वर्षा मधुसुधन सत्पालकर ने अवैध रूप से करोड़ों रुपए की माया जमा किया। उसके खिलाफ ठाणे पुलिस ने लुक आउट नोटिस भी जारी किया, लेकिन वह आज भी फरार है। आरोप है कि सरकार, पुलिस और आरोपी के बीच सांठगांठ होने से उसको पकड़ना नामुमकिन हो रहा है।

औरेया के पत्रकारों ने कायम की मिसाल, स्वर्गीय विनोद मिश्रा की पत्नी को 68 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी

औरैया : जिला प्रेस क्लब औरैया ने दैनिक हिंदुस्तान गाजीपुर के दिवंगत ब्यूरो चीफ विनोद मिश्रा जी की पत्नी और बच्चों की आर्थिक मदद कर मानवता के धर्म का निर्वहन किया। भड़ास 4 मीडिया द्वारा स्वर्गीय विनोद जी के परिजनों की आर्थिक तंगी की खबर पाते ही जिला प्रेस क्लब ने उनकी मदद की पहल शुरू की।

ऐसे संपादकों से भगवान बचायें जो करवा रहे हैं ‘लाश की हत्या’

देश में क्राइम रिपोर्टिंग में 27 साल से जमे वरिष्ठ पत्रकार संजीव चौहान की खोजी पत्रकारिता की एक और बानगी पेश करती हुई एक स्टोरी ‘पड़ताल’ कॉलम के तहत हिंदी बेवसाइट ‘First Post’ में प्रमुखता से प्रकाशित की गयी है. वेबसाइट के संपादक/उप-संपादक जी, जिन्होंने ‘पड़ताल’ के संपादन के लिए कलम उठाई, जाने-अनजाने ही हेडिंग बदलकर ‘पड़ताल’ की ऐसी-तैसी कर दी है.

टोटल टीवी से एंकर हेड गीता शर्मा ने दिया इस्तीफा, अब यहां बनीं सीएओ

दिल्ली-एनसीआर और हरियाणा केंद्रित न्यूज़ चैनल ‘टोटल टीवी’ से खबर है कि एंकर हेड गीता शर्मा ने इस्तीफा दे दिया है। गीता शर्मा एंकर हेड के साथ ही आउटपुट की अहम स्तंभ थीं। उनकी निगरानी में ही तमाम स्पेशल प्रोग्राम शेड्यूल किये जाते थे।

संजीव शर्मा ‘हिमाचल अभी अभी’ परिवार से जुडे

हिमाचल की पहली मल्टी मीडिया कंपनी ‘हिमाचल अभी अभी’ से बडी खबर आ रही है. वरिष्ठ पत्रकार संजीव शर्मा ने बतौर पालिटिकल एडीटर ज्वाइन किया है। संजीव शर्मा ‘हिमाचल अभी अभी’ के लिए शिमला में कार्यरत होंगे।

‘गांव कनेक्शन’ अखबार की दुकान बंद, बड़े पैमाने पर छंटनी

लखनऊ से प्रकाशित होने वाले गांव कनेक्शन अखबार से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है. इस अखबार ने अपना कामकाज समेटते हुए अपने यहां से बड़े पैमाने पर लोगों को निकाला है. पत्रकार, गीतकार और रेडियो पर कहानी सुनाकर लोकप्रिय हुए नीलेश मिश्रा ने छह साल पहले धूम-धड़ाके के साथ इस अखबार को शुरू किया था. तब यूपी में अखिलेश यादव की सरकार थी. सपा सरकार के सहयोग से यह अखबार खूब फूला-फला.