बाराबंकी के पत्रकार रेहान के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी

बाराबंकी के पत्रकार रेहान के खिलाफ सुल्तानपुर की कोर्ट ने गैर जमानती वारंट (NBW) जारी कर दिया है. कोर्ट के आदेश के बाद बाराबंकी के एसपी ने भी रेहान और उसके भाई की गिरफ्तारी के लिए थानेदार को लिखित निर्देश दिए हैं.

बताया जाता है कि बाराबंकी में पत्रकार रेहान आजतक चैनल के लिए काम करता है. रेहान और इसके भाई को सल्तानपुर के एक उपभोक्ता फोरम में आरोपी बनाया हुआ है.

इसी मामले में उपभोक्ता फोरम ने रेहान के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया है. इसको लेकर एसपी बाराबंकी ने नगर कोतवाली पुलिस को रेहान को 16 अप्रैल 2022 तक गिरफ्तार करके कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया है. एसपी ने चेतावनी भी दी है कि ऐसा न होने पर संबंधित पुलिस अधिकारी जिम्मेदार होंगे.

देखें कोर्ट द्वारा जारी एनबीडब्ल्यू और एसपी के आदेश की कॉपी-

उपरोक्त प्रकरण पर पत्रकार रेहान का कहना है कि सारे आरोप झूठे हैं. न तो कोई एनबीडब्ल्यू जारी हुआ है और न ही पुलिस अधीक्षक ने गिरफ्तारी का आदेश दिया है. रेहान का कहना है कि सारा कुछ साजिश है और उनकी सरेआम इज्जत उतारी जा रही है. पूरा पक्ष पढ़ने के लिए क्लिक करें-

https://www.bhadas4media.com/ham-logon-ke-khilaf-sajish-huyi-hai/



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Comments on “बाराबंकी के पत्रकार रेहान के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी

  • Rizwan mustafa says:

    सेवा में,
    मोहतरम यशवंत भाई साहब

    आपके भड़ास 4 मीडिया में लगी मेरे खिलाफ खबर से मुझे बेहद ठेस पहुची है।

    जो गलत और बेबुनियाद है,ये मुकदमा सिविल से संबंधित है । उपभोक्ता फोरम सुल्तानपुर में लंबित है।
    बड़े मजे की बात है कि मैं इस मूकदमे में मैं पक्षकर भी नही हूँ,

    इसमे किसी तरह की धोखाधड़ी नही की गई बल्कि मुझे फसाने का षड्यंत्र रचा गया है,

    मामला 20 वर्ष पुराना कोई दिखाया जा रहा है,जिससे मेरा कोई सरोकार नही है,

    ये मुकदमा 18 दिसंबर 2021 में उपभोक्ता फोरम सुल्तानपुर में सुनवाई हेतु नियत था,काज़ लिस्ट में नाम भी नही था, जब 11 बजे लखनऊ से सुल्तानपुर पहुचे वकील साहब उस समय काज़ लिस्ट का 5 नंबर चल रहा था,लिस्ट में नाम ना होने पर पेशकार से पूछने पर बताया गया कि इस मुकदमे की सुनवाई सुबह हो चुकी है ।

    जजमेंट रिज़र्व कर लिया गया,जब इस पर जज साहब को अवगत कराया गया तब वो नाराज़ हुए बोले ये भुगतेंगे,आप शिकायत करें,

    बाद में ऑन लाइन काज़ लिस्ट अप लोड कर दी गई उसमें 10 नंबर पर केस लगा होना दिखा दिया गया।

    आपके ये भी बता दे बाराबंकी के कुछ माफिया टाइप लोग जिसमे बाराबंकी के कुछ शातिर पत्रकार भी शामिल है और वो मुस्तकिल हम लोगो के और साफ सुथरी छवि के पत्रकारों के खिलाफ षड्यंत्र करते रहते है,

    ये भी NBW आपके यहाँ साज़िशन प्रकाशित करवाया गया है।

    इससे पूर्व में भी मेरे कॅरोना काल से पूर्व मेरे नगर पालिका से आवंटित बाराबंकी कार्यालय को लूट लिया गया लाखो का सामान कंप्यूटर आज तक नही मिला,कई बार जान से मारने की धमकी दी जा चुकी है,इसी सदमे में मेरी माता श्री का भी निधन भी हो गया,
    इस पर कोई भी नही FIR लाज हुई।
    फरयाद करता रहा लेकिन कोई सुनने वाला इस गैंग के डर से नही था,

    हम लोग पत्रकारों के वसूली गैंग से दूर रहते है। साफ सुथरी पत्रकारिता करते है,बस गलती ये है ज़ालिम से नही डरते मज़लूम का साथ देते है।

    आज आपकी खबर से मालूम हुआ है,

    मेरे विरुद्ध प्रचलित इस अवैधिनिक कार्यवाही से संज्ञान लेकर विधि में उपलब्ध उपायों की अंतर्गत कार्यवाही करूंगा।

    अग्रेतर कार्यवाही से आपको अवगत करवाउंगा

    आप से भी और सभी लोगो से गुज़ारिश करते है और दुआ चाहते है कि इस मुसीबत और खुराफ़ात करने वाले शैतानी साये और माफियाओ के षड़यंत्र से ईश्वर आज़ाद करे।
    और मदद करे,

    आपका

    रिज़वान मुस्तफ़ा

    Reply
  • मनोज शुक्ला says:

    रेहान मुस्तफ़ा और रिज़वान मुस्तफ़ा एक नेक और अच्छे साफ़ सुथरी छवि के पत्रकार है,इनके साथ साज़िश की जा रही है,जो गलत है,

    इसकी हम निंदा करते है,

    Reply

Leave a Reply to Nadeem khan Cancel reply

Your email address will not be published.

*

code