भड़ास संपादक पर एफआईआर के ख़िलाफ़ उठने लगी आवाज़ें

सुजीत सिंह प्रिंस-

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम के संपादक के ख़िलाफ़ शाहजहाँपुर में दुर्भावनावश लिखे गए मुक़द्दमे को लेकर आवाज़ उठने लगी है।

लखनऊ से प्रकाशित सांध्य दैनिक 4पीएम ने विस्तार से खबर का प्रकाशन किया है।


वरिष्ठ खोजी पत्रकार दीपक शर्मा और आईएएस रहे चर्चित शख़्सियत सूर्य प्रताप सिंह ने इस मुद्दे पर ट्विटर पर लिख कर हस्तक्षेप किया है।


इस प्रकरण पर अंतरराष्ट्रीय पत्रकार संगठन सीपीजे ने पत्रकारों पर से आपराधिक मुक़दमा तुरंत हटाने की माँग की है।

ALERT “While criminal defamation codes should never be used against journalists, it is especially galling to see such laws wielded by fellow members of the press,” said Steven Butler, CPJ’s Asia program coordinator in Washington, D.C. “Uttar Pradesh authorities should drop their investigations into journalists Nidhi Suresh, Manoj Shukla, and Yashwant Singh, and India should reform its defamation statutes so that disputes are handled by civil and not criminal law.”

https://cpj.org/2021/07/uttar-pradesh-police-open-criminal-investigations-into-3-indian-journalists/


इस प्रकरण को लेकर साधना प्लस न्यूज़ चैनल ने भड़ास एडिटर से बातचीत कर खबर का प्रसारण किया।

देखें video


भड़ास एडिटर के साथ साथ न्यूज़ लॉंड्री डॉट कॉम की रिपोर्टर निधि सुरेश को भी मुक़द्दमे में आरोपी बनाया गया है। न्यूज़ लॉंड्री के एडिटर ने ट्वीट कर कहा है कि उनका संस्थान पूरी तरह से अपने रिपोर्टर के साथ खड़ा है।

देखें ट्वीट-

मूल खबर ये है-

भड़ास पर भी योगी राज में दर्ज हो गया मुकदमा!

भड़ास की खबरें व्हाट्सअप पर पाएं, क्लिक करें-

https://chat.whatsapp.com/Bo65FK29FH48mCiiVHbYWi

Comments on “भड़ास संपादक पर एफआईआर के ख़िलाफ़ उठने लगी आवाज़ें

  • रिज़वान मुस्तफ़ा -तहलका टुडे says:

    हम तो सहाफत से मुहब्बत के लिए जीते हैं
    क़त्ल हम हक़ की हिमायत के लिए होते हैं
    हमको मरने से डराते हैं ज़माने वाले
    हम तो पैदा ही शहादत के लिए होते हैं।

    Reply
  • Jharkhand Working Journalists Union says:

    झारखण्ड श्रमजीवी पत्रकार यूनियन भड़ास और संपादक यशवंत सिंह पर एफआईआर की निंदा करती है .

    Reply

Leave a Reply to Jharkhand Working Journalists Union Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *