Categories: सुख-दुख

खबर छपने से नाराज डीएम प्रियंका निरंजन ने पत्रकार संजय श्रीवास्तव और उनके परिजनों पर गैंगस्टर लगा दिया!

Share

विषय : सच्ची खबर छापने से नाराज़ होकर उरई के DM द्वारा वरिष्ठ पत्रकार संजय श्रीवास्तव एवं उनके परिवार का किए जा रहे उत्पीड़न के संबंध में।

श्रीमान जी,

मैं 35 वर्ष से अधिक से बड़े समाचार पत्रों का जनपद में ब्यूरो चीफ रहा हूं तथा वर्तमान में यंग भारत नमक अपने रजिस्टर्ड पोर्टल के प्रधान संपादक के रूप में कार्यरत हूं। मेरे द्वारा सच्ची और निष्पक्ष खबरों के प्रकाशन के क्रम में पिछले सप्ताह “कैसे आया प्रशासन बैकफुट पर” नामक शीर्षक से एक समाचार यंग भारत पर प्रसारित किया गया था।

इसे DM प्रियंका निरंजन ने अपनी तौहीन माना और तानाशाही रवैया अपनाते हुए दिनांक १ दिसंबर को हमारे पैतृक निवास २०, कृष्णा नगर उरई में बिना किसी वारंट अथवा न्यायिक आदेश के लगभग २ दर्जन बत्तमीज पुलिस कर्मी कोतवाल उरई, नागेंद्र कुमार पाठक के नेतृत्व में भेज दिया। ये लोग हमारे निवास के अंदर जबरन घुस आए तथा उन्होंने बत्तमीजी पूर्ण ढंग से खूब धमकाया। महिलाओं से बत्तमीज़ी करी। सरकारी छोटी बंदूक अड़ाकर परिजनों को धमकी दी कि प्रशासन से टकराने की अगर हिम्मत करी तो परिणाम गंभीर होंगे और सबको उठाकर गैंगस्टर एक्ट के तहत जेल भेज देंगे।

लेकिन तब तक पड़ोसी आ गए और पुलिस आलमारी में रखे ६०० रुपए १००-१०० के ६ नोट एवं एक सोने का टूटा हुआ बाला उठाकर भाग गए।

श्रीमान दिनांक २ दिसंबर को पुलिस ने अपने कहे अनुसार मेरे (संजय श्रीवास्तव) और मेरे दोनों भाइयों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही लागू कर दी जो पत्रकार और पत्रकार परिवार तथा शरीफ समाज का बेहद उत्पीड़न है।

श्रीमान जी पुलिस और DM प्रियंका निरंजन मेरे परिजनों के विरुद्ध भविष्य में उत्पीड़नात्मक कार्यवाही करने पर आमादा हैं।

कृपया अपने स्तर से मेरे एवं मेरे परिजनों के उत्पीड़न को रूकवाने की कृपा करें तथा पुलिस द्वारा किए गए अपराधिक कृत्य एवं DM द्वारा गलत नीयत से किए गए आदेश की उच्च स्तरीय जांच करवाकर दोषियों पर कठोर कार्यवाही करने की कृपा करें। मैं आपका आभारी रहूंगा।

आवेदक
संजय श्रीवास्तव
वशिष्ठ पत्रकार
प्रधान संपादक, यंग भारत न्यूज पोर्टल
२०, कृष्णा नगर, उरई
+91-9415055318

View Comments

  • न्यूज़ पोर्टल पर प्रशासन से आर पार करने के लिए पत्रकारिता को मज़बूत करिए !
    सभी पत्रकार साथी तुरंत ही अपने लक्ष्य को योजना अनुरूप पूरा करें !

Latest 100 भड़ास