मीडिया को देखते ही अमिताभ ठाकुर के घर से दुम दबाकर भाग निकले विजिलेंस वाले!

Kumar Sauvir : 4 घंटों तक आईजी अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी नूतन ठाकुर को पुलिस की एक बड़ी टीम ने दबोचे रखा। कपड़ों की आलमारी और फाइलों का एक-एक पुर्ज़ा खंगाला। किचन में बर्तनों को खड़खड़ाया और डॉर्मेट तक झाड़ लिया। बाथरूम की टोंटियां चेक की। छत की बरसाती का कबाड़ तक हिलाया-सूँघा। इसी बीच मीडिया की भीड़ अमिताभ-नूतन के घर इकट्ठा हुई तो वो विजिलेंस के पुलिस की टोली भाग निकली। नज़ारा तो तब दिलचस्प बना जब अमिताभ-नूतन ने पुलिसवालों को दबोचने की कोशिश की, लेकिन हड़बड़ाए पुलिस वाले मीडियावालों से दामन बचा कर भाग गए। उधर अमिताभ ने इस कार्रवाई का विरोध करते हुए हाईकोर्ट को ईमेल करके सूचित कर दिया।

आपको बता दें की आज ही अमिताभ के एक मुक़दमे की सुनवाई कोर्ट में होनी थी। खुद पर हो रहे उत्पीड़न के खिलाफ अमिताभ ने यह मुकदमा दायर किया था। इसमें सतर्कता अधिष्ठान के प्रमुख एडीजी पुलिस भानु प्रताप की शिकायत है। आज सुबह कई कारों पर करीब 40 पुलिसवाले ठाकुर दम्पत्ति के घर तब धड़धड़ाते हुए घुस गए जब कैट, हाईकोर्ट और सीजेएम कोर्ट में अपने मामले को लेकर यह लोग घर से निकल रहे थे।

पुलिसवालों ने ठाकुर दम्पत्ति को घेर लिया और दरवाजे बंद कर दिए। पुलिस टोली में आधा दर्जन महिला पुलिस भी मौजूद थी। पुलिस को ठाकुर दम्पत्ति ने बताया कि वे कोर्ट जा रहे हैं और अगर वे तलाशी लेना चाहे तो घर को सील कर लें। यह भी कहा कि अदालत से लौट कर वे तलाशी करवा लेंगे। लेकिन पुलिसवालों ने उन्हें घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं दी। नूतन ठाकुर ने बताया कि यह टोली उनसे सादे कागजों पर दस्तखत कराना चाहती थी। लेकिन नूतन ने ऐसा करने से इनकार दिया। आजिज आकर इन लोगों ने खुद ही घर की साड़ी चाभियां सर्च टोली को थमा दीं। नूतन ने तो यहाँ तक कह दिया कि चलो मैं आपको अपना बैंक लॉकर भी दिखवा देती हूँ। लेकिन हैरत की बात रही कि पुलिसवाले इस बारे में तनिक भी इच्छुक नहीं थे।

यह ड्रामा करीब 4 घंटे चला। जब बाहर मीडिया को पता चला तो विजिलेंस पुलिस टीम में भगदड़ मच गई। आनन-फानन में वे बाहर निकले और कारों में बैठ कर भागने लगे। दिलचस्प नज़ारा तो तब रहा जब भागते पुलिसवालों को रोकने में अमिताभ ने उनके हाथ पकड़ने की कोशिश की। लेकिन दामन झटक कर पुलिसवाले भाग खड़े हुए। बाहर अमिताभ चिल्लाते रह गए कि सतर्कता अधिष्ठान का अपर महानिदेशक भानु प्रताप चोर है और किसी चोर-गुर्गे की तरह दबिश डलवा रहा है। नूतन और अमिताभ का कहना है कि यह कवायद उन्हें गिरफ्तार करने के लिए की जा रही है।

लखनऊ के वरिष्ठ और बेबाक पत्रकार कुमार सौवीर के फेसबुक वॉल से.


पढ़िए अमिताभ ठाकुर का बयान: वे लोग बिना सर्च और सीज़र लिस्ट हमें दिए ही हमारे घर से भागने लगे


मूल खबर… मुलायम की धमकी के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाले आईपीएस के घर विजिलेंस रेड


उपरोक्त स्टेटस पर आए कुछ प्रमुख कमेंट्स इस प्रकार हैं…

Sanjaya Kumar Singh :  सचमुच उल्टा प्रदेश ही है हमारा उत्तर प्रदेश। छापा मारने वाले ही भाग लिए और जिसके घर छापा मारने आए थे वो उसे ‘चोर’ कह रहा था। अपराध यहां कम है।

Prathvi Pal Singh गुरुवर! सादर साष्टांग दंडवत प्रणाम्! पत्रकार जोगेन्दर मर्डर केस के सबूत नष्ट करने के जुगाड़ मे है सपा सरकार. ठाकुर दँपत्ति पहले पहुँचने वाले शख्स थे जोगेन्दर के केस में .

Sudhanshu Prakash Mishra : मेरे जिले मे एक शिक्षा अधिकारी की भावज चुनाव लड़ रही है। १८ करोड़ का बजट है उनका जिला पंचायत अध्यक्ष बनाने के लिए। बनारस, लखनऊ, कलकत्ता, दिल्ली मे बंगले है। शिक्षा विभाग का चपरासी ४ गाडियों का मालिक है।

Surendra Pratap Singh : Nangi ho gayi hai UP Sarkar aur usake Numainde age dekhiye inake patan ki dastan likhi ja rahi hai .

Surendra Tripathi : विनाश काले विपरीत बुद्धी ए सभी रावण और कंसासुर सभा के सभी दरबारी मरने वाले है बनारस में साधु सन्त सुर बटुको की पिटाई करवाँ कर अपने सर्वनाश करने का प्रबंध कर चुके है अहंकारी रावण और कंस पूरे ख़ानदान सहित बँधे गये थे माँ दुर्गा का आगमन हो चुका है पहले दिन अत्याचार …….? वध सुनिश्चित है।

Pawan Tulshyan धन्यवाद सौवीर भाई त्वरित न्यूज के लिये… अदृश्य तानाशाही है यह

Sanjeev Pathak ये भस्मासुर के नृत्य मुद्रा में आने संकेत हैं।

Shashi Kant Singh : यूपी का ये यादव परिवार श्रीकृष्‍ण का वंशज है या कंस का? इनके कारनामों में तो कहीं भी श्रीकृष्‍ण के दर्शन नहीं होते। हां याद आया, श्रीकृष्‍ण ने पूतना को भी मां कहा था; ये पूतना की ही औलाद होंगे।

Sanjiv Jha : इतनी कवायद अगर क्राइम कण्ट्रोल में करते दो लोग मोदी की जगह नेताजी का नाम लेते……उधर बिहार में बोल के आये है अपने भासण में की यू पी जैसा विकास करेगे अगर सरकार उनकी बनी तो …….लोग विकाश का इन्तजार कर रहे है ….यहाँ तो पिंकी हो रही है जनाब…..

Suman Singh : एक अघोषित तानाशाही है यह सब..



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



Comments on “मीडिया को देखते ही अमिताभ ठाकुर के घर से दुम दबाकर भाग निकले विजिलेंस वाले!

  • लूण करण छाजेड़ says:

    विनाश काल विपरीत बुद्धि। ठाकुर जी राजनीती में आएगा।
    जैन लूण करण छाजेड़

    Reply
  • purushottam asnora says:

    उ प्र सकार की शह पर भ्रष्ट अधिकारी अमिताभ व नूतन सरीखे लोगों को परेशान करेंगे ही। भनु प्रताप का प्रताप सपा सरकार की चमचागिरी से ही फैल सकता है इसलिए आका को खुश करने के लिए कानून भी तोडना पडे तो क्या परवाह? वाह री सरकार, वाह री विजिलेंस? तुम्हारे कर्म तुम्हें खड्ड में डालेंगे जरुर। हां अमिताभ ठाकुर व नूतन ठाकुर आप संघर्ष की मिसाल बन चुके होंसला रखिए देश आपके साथ है।

    Reply
  • purushottam asnora says:

    उ प्र सकार की शह पर भ्रष्ट अधिकारी अमिताभ व नूतन सरीखे लोगों को परेशान करेंगे ही। भनु प्रताप का प्रताप सपा सरकार की चमचागिरी से ही फैल सकता है इसलिए आका को खुश करने के लिए कानून भी तोडना पडे तो क्या परवाह? वाह री सरकार, वाह री विजिलेंस? तुम्हारे कर्म तुम्हें खड्ड में डालेंगे जरुर। हां अमिताभ ठाकुर व नूतन ठाकुर आप संघर्ष की मिसाल बन चुके हैंण् होंसला रखिए देश आपके साथ है।

    Reply

Leave a Reply to लूण करण छाजेड़ Cancel reply

Your email address will not be published.

*

code