Categories: टीवी

‘आर्या’ वाला दुर्गेश आर सिंह राजपूत अपने इंप्लाई पर गुझिया चोरी तक का इल्जाम लगा देता है, सुनें ये आडियो

Share

मुंबई में कइयों से ठगी करने के आरोपी और जेल जा चुका दुर्गेश आर सिंह नामक शख्स इन दिनों नोएडा के सेक्टर 63 को अपना ठिकाना बनाए हुए है. ये आदमी अपने मीडियाकर्मियों की सेलरी हड़पने के लिए घटिया, घिनौने और ओछे आरोप लगाता है.

Durgesh Singh rajpoot

आप शायद यकीन न कर सकें लेकिन इसने अपने एक मीडियाकर्मी पर एक गुझिया चोरी करने का आरोप लगा कर जलील किया. इस वजह से वह युवा मीडियाकर्मी न सिर्फ नौकरी छोड़ने पर मजबूर हुआ बल्कि मीडिया लाइन को ही अलविदा कह दिया.

इस पीड़ित मीडियाकर्मी ने भड़ास4मीडिया से बताया कि उसे नार्मल होने में कई महीने लगे. वह कल्पना तक नहीं कर सकता था कि किसी चैनल का मालिक अपने इंप्लाई पर इस किस्म का आरोप लगाकर उसकी सेलरी हड़पते हैं.

मुंहनोचवा प्रजाति का आदमी दुर्गेश आर सिंह अपने इंप्लाइज को लीगल, कोर्ट, थाना, पुलिस की इस कदर धमकी देता है कि कोई भी अपनी बकाया सेलरी मांगने की हिम्मत नहीं कर पाता. जो हिम्मत कर भी लेता है उस पर झूठे आरोप लगा दिए जाते हैं जिसके बाद ‘जान बची तो लाखों पाए’ के अंदाज में वह मीडियाकर्मी सेलरी छोड़छाड़ कर अपने घर लौट जाता है.

भड़ास पर इस मुंहनोचवा दुर्गेश आर सिंह और इसके छुटभैया चैनल आर्या को लेकर कई खबरें लगातार छप रही हैं. ये कोई एक शख्स या एक चैनल नहीं है. ऐसे चैनलों और ऐसे घटिया मानसिकता वाले आदमियों की मीडिया इंडस्ट्री में भरमार है जो युवा लड़के लड़कियों का शोषण करते हैं और इतना प्रताड़ित करते हैं कि कई तो मीडिया फील्ड को ही छोड़ देते हैं.

ज्ञात हो कि इसी छुटभैया चैनल आर्या में कार्यरत रही एक महिला पत्रकार पर भी घटिया आरोप लगाकर उसकी तनख्वाह हड़प ली गई थी. उस महिला पत्रकार का इंटरव्यू भड़ास पर प्रकाशित किया जा चुका है जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है. फिलहाल तो ताजातरीन प्रकरण ‘गुझिया चोरी कांड’ के पीड़ित मीडियाकर्मी से बातचीत को सुनिए और सोचिए कि मीडिया के नाम पर कैसे कैसे शातिर लोग दुकान चला रहे हैं व पुलिस प्रशासन सिस्टम सब मौन है.

गुझिया चोरी प्रकरण के पीड़ित पत्रकार से बातचीत सुनने के लिए क्लिक करें- gujhiya chori kand audio

इसे भी पढ़ें-सुनें :

‘आर्या’ वाला दुर्गेश अपने गैंग के साथ मिलकर मीडियाकर्मियों का किस कदर उत्पीड़न करता-कराता है, सुनें ये टेप

Latest 100 भड़ास