A+ A A-

इस आईडी कार्ड को देखिए. साहब कितने बड़े पत्रकार हैं. कई चैनलों के लोगो लगे हुए हैं इनके कार्ड पर. लेकिन ब्यूरो की स्पेलिंग सही नहीं लिखवा पाए. सोचिए, जिसे ब्यूरो की स्पेलिंग सही नहीं लिखनी आती, वे पत्रकार बने बैठे हैं. ब्यूरो की स्पेलिंग एक जगह नहीं बल्कि तीन बार गलत दर्ज है जितने चैनल और संगठन, उतने ही ब्यूरो. एक पत्रकार के कंधे पर न जाने कितने ब्यूरो का बोझ है, सो गलती लाजमी है. :)

 

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित.

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 100 > Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - अक्षत

    जिस भाई साहब ने ये भेजा हैं उन्हें ख़ुद नहीं पता ये आई डी कार्ड नहीं विज़िटिंग कार्ड हैं।

  • Guest - Sanjaya Kumar Singh

    अपने ही नाम के आगे मिस्टर भी लिखते हैं। ये तो बड़े वाले हैं।

  • Guest - Shashi singh

    Dear,
    U know Indian feel English is a funny.
    Don't feel.
    Intelligence is different & education is different..
    All educated is not intelligent.
    Like Our PM & CM because deal to all IAS..
    Don't mind.
    I m straight forward.because keep respect Nation.
    Regards
    Shashi singh.

  • Guest - Sajid Saifi

    आप भी तो विजिटिंग कार्ड को आईडी कार्ड लिख रहे हैं?
    ;);););););)

  • Guest - jharkhand observer

    :o

  • Guest - मोहन

    इनकी गलती को हम ठीक कर देते है. Bureau Chief अब ठीक है न पत्रकार है अधिक लिखना पड़ता है बेचारे से गलती हो गई होगी..

    from Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

Latest Bhadas