A+ A A-

सहारनपुर प्रभारी संजीव जैन का खनन माफिया की खुली पैरोकारी के कारण रायपुर तबादले के बाद सहारनपुर में नया ब्यूरो चीफ नीरज गुप्ता को बनाया गया है. कई जिलों में विवादित रहे नीरज गुप्ता को कमान सौंपने के लिए कई वरिष्ठ लोग लाबिंग कर रहे थे और उन्हें इसमें सफलता मिली. वहीं जागरण प्रबंधन की भी मजबूरी ये है कि उसे अपना टर्नओवर बढ़ाने के लिए इस कमाऊ जिले में ऐसा आदमी चाहिए था जो उसके हर आदेश और टारगेट को माने.

सहारनपुर में अवनींद्र कमल भी ब्यूरो चीफ रह चुके हैं लेकिन संजीव जैन के स्टिंग आपरेशन में उनकी कथित भूमिका को लेकर प्रबंधन ने उन्हें भी प्रदेश बदर कर दिया है. फिलहाल सेकेंड इंचार्ज बृजमोहन मोगा ही सहारनपुर आफिस की कमान संभाल रहे थे. क्राइम रिपोर्टर मनोज मिश्रा और रिपोर्टर अजय सक्सेना सहारनपुर में सक्रिय हैं और इन दोनों को लेकर तरह-तरह की सूचनाएं तैर रही हैं.

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 100 > Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - दिनेश कुमार

    चोर के बदले डकैत
    यह जागरण जैसे देश के सबसे बड़े अखबार का सौभाग्य है कि उसके पास एक से बड़ा एक महाभ्रष्ट है। संजीव जैन जैसे चोर को नीरज गुप्ता जैसे डकैत रिप्लेस कर रहे हैं। नीरज को प्रबंधन द्वारा हर जिले से भ्रष्टाचार की शिकायतों के बाद हटाया जाता रहा। लेकिन सौभाग्य देखिए कि सहारनपुर में संजीव जैन का हगा हुआ चाटने को फिर मिल गया। वाह रे जागरण वालों, तुम्हारे पास साफ सुथरी छवि का कोई एक अदद पत्रकार भी नहीं।

Latest Bhadas