A+ A A-

हिंदुस्तान से इस्तीफा देने वाले राजेश उपाध्याय ने नई पारी की शुरुआत दैनिक जागरण के साथ की है. उन्हें दैनिक जागरण के डिजिटल वेंचर जागरण डाट काम का एडिटर इन चीफ बनाया गया है. राजेश उपाध्याय दैनिक भास्कर दिल्ली-एनसीआर के रेजिडेंट एडिटर रह चुके हैं. बाद में उनका तबादला भास्कर प्रबंधन ने भोपाल कर दिया था. उसके बाद उन्हें दैनिक भास्कर, छत्तीसगढ़ का स्टेट एडिटर बनाया गया. वहां से उन्होंने इस्तीफा देकर हिंदुस्तान नोएडा में डिजिटल हेड के रूप में ज्वाइन किया था. अब वे जागरण समूह के हिस्से हो चुके हैं.

एक अन्य सूचना गोरखपुर से आ रही है. अमर उजाला प्रबंधन ने शरद मौर्य को गोरखपुर एडिशन का संपादक नियुक्त किया है. शरद अभी तक अमर उजाला के नोएडा आफिस में बैठते थे और ग्रुप के सेकेंड ब्रांड कांपैक्ट के नेशनल हेड हुआ करते थे. अमर उजाला गोरखपुर के नए संपादक के रूप में मई के पहले सप्ताह में राजेश श्रीनेत को हटाकर कुमार भावेश को भेजा गया था. पांच महीने बाद ही गोरखपुर का संपादक बदले जाने को लेकर तरह तरह की चर्चाएं हैं. सीएम योगी का गृह जिला होने के कारण गोरखपुर इन दिनों काफी महत्वपूर्ण यूनिट है और अमर उजाला गोरखपुर में हो रहे लगातार बदलाव को इसी नजरिए से देखा जा रहा है. 

भड़ास4मीडिया डॉट कॉम को छोटी-सी सहयोग राशि देकर इसके संचालन में मदद करें: Rs 100 > Rs 200 > Rs 500 > Rs 1000 > Rs 2000 > Rs 5000

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.

People in this conversation

  • Guest - Devendra Surjan , Jabalpur

    राजेश की हर नियुक्ति मुझे अतीव सुख देती है क्योंकि उसमें उनकी तरक्की निहित होती है . राजेश उपाध्याय ने केरियर की शुरुआत बन्द हो गए नवीन दुनिया से की थी लेकिन उन्हें काम करने का सही मौका देशबन्धु जबलपुर में आने पर ही मिला . यहां उन्होंने खुल कर पत्रकारिता की और यही से उनके वैवाहिक जीवन की शुरुआत हुई . राजेश पत्रकारिता में अब जहां ऊंचाइयां छू रहे हैं वहीं उनकी पत्नी आशा पत्रकारिता और इतर विषयों पर पुस्तकें लिख कर नाम कमा रही है . आशा ने भी अपने पत्रकारीय केरियर की शुरुआत देशबन्धु जबलपुर से ही की थी . ये दोनों निरन्तर आगे बढ़ते रहें , यही कामना है .

    from Jabalpur, Madhya Pradesh, India

Latest Bhadas