Categories: आयोजन

आसनसोल में पत्रकारों ने फर्जी प्रेस लिखे वाहनों की पुलिसिया जांच के लिए निकाला प्रतिवाद जुलूस

Share

दर्जनभर खबरनवीसों ने निकाला प्रतिवाद जुलूस, पुलिस आयुक्त के नाम का फांड़ी प्रभारी को सौंपा ज्ञापन

आसनसोल। पश्चिम बंगाल राज्य के आसनसोल के कुल्टी-बराकर इलाके के पत्रकारों के एक समूह ने रविवार को बराकर रेलवे स्टेशन से लेकर बराकर पुलिस पोस्ट तक एक प्रतिवाद जुलूस निकाला। जुलूस का मकसद फर्जी प्रेस लिखे वाहनों की पुलिसिया जांच की मांग उठाना था। स्टेशन परिसर से शुरू हुए जुलूस में दर्जनभर खबरनवीसों ने विभिन्न संदेश लिखी तख्तियां लेकर नारेबाजी की और पुलिस से फर्जी प्रेस वाहनों की धर पकड़ हेतु विशेष नाका जांच अभियान की मांग की।

साथ ही बराकर फांड़ी पहुंचकर एक प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस आयुक्त के नाम का पत्र प्रभारी राजशेखर मुखर्जी को सौंपकर आगामी दिनों में इस दिशा में काम करने की अपील की। पत्रकारों का नेतृत्व कर रहे सज्जन पारीक एवं मनोज नियोगी ने बताया कि फांडी प्रभारी को कतिपय संदिग्ध वाहनों के बारे में अवगत करवाया गया और श्री मुखर्जी ने अपने स्तर से कार्रवाई करने का आश्वासन भी दिया।

आईसीएफजे यूएसए के पूर्व फेलो एवं युवा पत्रकार बिकास कुमार शर्मा ने बताया कि पिछले चार से पांच वर्षों में इलाके के गल्ला व्यापारी, कपड़ा, बालू, कोयला विक्रेता अपने वाहनों में प्रेस लिखकर इसलिए घूमते हैं कि रास्ते में पुलिस चेकिंग से बचा जा सके।

श्री शर्मा ने कहा कि अपने गड़बड़झाले को साधने के उद्देश्य से प्रेस का गलत इस्तेमाल करने वालों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई नहीं करती तो सड़क का आंदोलन संसद भवन तक ले जाया जाएगा। इसको लेकर देश के कई प्रेस क्लबों से भी उनकी बातचीत चल रही है। इसके साथ ही डीसी ट्रैफिक के नाम का ज्ञापन ओसी ट्रैफिक कुल्टी सीएस गुहाराय को सौंपा गया। दिनेश पांडे, रामबाबू साव, लाली गुप्ता, बंटी खान, जितेंद्र मिश्रा, सब्बीर अली, राजेश नागवंशी, आकाश सिंह विक्की और प्रकाश दास उपस्थित थे।

Latest 100 भड़ास