इंडिया न्यूज पहुंचीं अंजलि, नरेश नोएडा आफिस से अटैच, ओमप्रकाश अश्क फिर जुड़े खबर मंत्र से

अंजलि उपाध्याय ने इंडिया न्यूज चैनल ज्वाइन किया है. उन्होंने सेल्स में मेरठ क्षेत्र का जिम्मा दिया गया है. अंजलि जी न्यूज समेत कई चैनलों में काम कर चुकी हैं और प्रतिभावान मीडियाकर्मी हैं. अंजलि ने जानकारी दी कि उन्होंने अपने जी न्यूज के कार्यकाल के दौरान कुछ लोगों की हरकतों की लिखित शिकायत उच्चाधिकारियों से की थी, जिसके कारण वो लोग उनको लेकर अनर्गल चीजें मीडिया में फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. अंजलि ने बताया कि भड़ास पर भी कुछ लाइनें उनको लेकर प्रकाशित हुई है (जिसे अब हटा दिया गया है), जिससे वो आहत हुई हैं. ऐसे अनर्गल और निराधार आरोपों को आधार बनाकर प्रबंधन को मेरे खिलाफ भड़काया जा रहा है जिससे वह मानसिक रूप से परेशान हैं. 

गाजियाबाद से खबर है कि राष्ट्रीय सहारा के गाजियाबाद कार्यालय में तैनात प्रशिक्षु रिपोर्टर नरेश सिंह को नोएडा कार्यालय से अटैच कर दिया गया है. नरेश पर यह कार्रवाई कुछ आरोपों के कारण की गई है. आरोपों की जांच होने तक नरेश को एचआर से अटैच कर दिया गया है. नरेश काफी समय से सहारा से जुडे हैं.

उधर, रांची से सूचना है कि खबर मन्त्र के संपादकीय विभाग का कमान इनदिनों ओमप्रकाश अश्क संभाल रहे हैं.  अश्क प्रभात खबर और हिन्दुस्तान में काम कर चुके हैं. खबर मन्त्र ज्वाइन करने के बाद अश्क ने अपना पुराना रंग दिखाना शुरू कर दिया है.

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “इंडिया न्यूज पहुंचीं अंजलि, नरेश नोएडा आफिस से अटैच, ओमप्रकाश अश्क फिर जुड़े खबर मंत्र से

  • Anjali Upadhyay says:

    Mr.sauveer ,Kya aap ye batane ki koshish KarenHarsha ki Maine kitne channels main abhi tak kaam kiya hai Aur kis channel ne mere par aarop lagaya hai.mere paas no dues certificate hai Rbnl ka Aur Maine zee media main bhi Bata diya hai , jis Taran ha aarop aapne mere par lagaya hai.aapke ta rah ke logon ne media ko Ganda Kar diya hai Aur yahi Karan hai logon ka bharosha achchai par se uth gaya hai.yadi aap main thodi see insaaniyat bachi hai to cheezo ko Bina samjhe mat likha Karen.

    Reply

Leave a Reply to Anjali Upadhyay Cancel reply

Your email address will not be published.

*

code