लौंडियाबाजी के चक्कर में दर्जनों बड़े-बड़े नेताओं-अफसरों-धनपशुओं की बन गई सीडी, हड़कंप!

मध्यप्रदेश में हनीट्रैप का मायाजाल… नेता से नौकरशाह तक हाई प्रोफाइल लोगों को किया जा रहा था ब्लैकमेल…

मध्यप्रदेश देश का भौगोलिक रूप से बड़ा प्रदेश माना जाता है। अपने कद के अनुरूप मध्यप्रदेश में जो भी होता है बहुत बड़ा होता हैं। व्यापम घोटाले की गूंज अभी तक मध्यप्रदेश में सुनाई पड़ती रहती है। मध्यप्रदेश में अब हनीट्रैप का बहुत बड़ा मामला सामने आया है। इसमें नेता अधिकारी, नौकरशाह और बड़े बड़े लोगों पर आंच आती दिख रही है। चर्चा है कि कुछ पत्रकार भी हनी ट्रैप के शिकार हुए हैं। इस मामले में अभी तक 5 लड़कियों और एक लड़के को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनने कई हाई प्रोफाइल लोगों को ब्लैकमेल कर करोड़ों उगाहे। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार, गिरफ्तार लड़कियों ने दो पूर्व मंत्री और एक वर्तमान मंत्री को भी ब्लैकमेल किया। जिंदा गोश्त के शौक़ीन अक्सर या तो सेक्स स्कैंडल में फंसते नज़र आते है या फिर ब्लैकमेल के शिकार होते हैं। कौन कौन कितने पैसे देकर हनीट्रैप से छूटा, सत्ता के गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है।

इन लड़कियों ने एक मंत्री के ओएसडी को निशाने पर लेते हुए उससे 2 करोड़ रुपए की मांग की थी। इस मामले में कई अफसर घेरे में हैं। बताया जा रहा है कि 4 महीने पहले एक अफसर से वसूली के बाद एक लड़की के मंत्रालय में प्रवेश पर रोक लगा दी गई थी। इस मामले की जांच इंदौर में एक राजनीतिक मीटिंग के बाद शुरू हुई थी। एटीएस की पूछताछ में कांग्रेस आईटी सेल के एक नेता को भी बुलाया गया।

इंदौर के पलासिया थाने में निगम के सिटी इंजीनियर हरभजन सिंह ने तीन महिलाओं के नाम से मामला दर्ज कराया है। बुधवार को इंदौर एटीएस और मध्यप्रदेश पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 3 लड़कियों को भोपाल से गिरफ्तार किया। गुरुवार सुबह दो लड़कियों को इंदौर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस और खुफिया विभाग हिरासत में लेकर इनसे पूछताछ कर रही है। आरोप है कि ये अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहीं थीं।

इंदौर नगर निगम के उप इंजीनियर हरभजन सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि भोपाल में रहने वाली दो लड़कियां उसे ब्लैकमेल कर रही थीं और उससे 3 करोड़ की मांग कर रही थीं। दो लोग बुधवार को इंदौर आए और क्रेटा कार से 50 लाख की पहली किस्त ली। बाद में वे पकड़े गए। क्रेटा कार से 14.17 लाख रुपये बरामद किए गए हैं। उनका साथी भी पकड़ा गया। तीनों आरोपियों से पूछताछ के आधार पर भोपाल की मिनल रेजिडेंसी से एक लड़की, भोपाल की ही रिवेरा टाउनशिप से दूसरी लड़की को गिरफ्तार किया गया। भोपाल के कोटरा सुल्तानाबाद से तीसरी लड़की को गिरफ्तार किया गया। ब्लैकमेल करने के मामले में अब तक 6 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

हनी ट्रैप मामले में सत्तारुढ़ कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के नेता शामिल बताए जा रहे हैं। आरोप है कि मुख्य आरोपी महिला के बीजेपी के एक प्रदेश अध्यक्ष के कार्यकाल में पार्टी में खूब आना-जाना था और वह उनकी करीबी सहयोगी थी।बीजेपी एक समय आरोपी महिला को सागर मेयर पद के लिए टिकट देने पर विचार कर रही थी, लेकिन चुनाव से पहले उसका एमएमएस लीक हो जाने के कारण अंतिम समय में टिकट काट दिया गया। जबकि दूसरी आरोपी का कांग्रेस आईटी सेल से नाता रहा है।

मुख्य आरोपी जुलाई में मध्य प्रदेश सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव के हाल में आए सेक्स सीडी कांड में शामिल थी। कांड के सामने आने और उसके वायरल होने के बाद अतिरिक्त सचिव को अवकाश पर जाने को मजबूर किया गया था। एक आरोपी महिला पन्ना के भाजपा विधायक के भोपाल स्थित बंगले में किराए पर रहती थी। इस महिला के खिलाफ कुछ दिन पहले इंदौर में ब्लैकमेल करने की एफआईआर दर्ज की गई थी। महिला की गतिविधियों पर इंटेलीजेंस भी नजर रखे हुई थी। एटीएस भी अपने स्तर पर साक्ष्य इकट्ठा कर रही थी। यह बात भी सामने आई है कि हाईप्रोफाइल रैकेट की मुखिया के पास कई राजनेताओं और अफसरों की सीडी है। दर्जनों नेताओं अफसरों को ब्लैकमेल कर करोड़ों उगाहे जाने की चर्चा है।



भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप ज्वाइन करें-  https://chat.whatsapp.com/JYYJjZdtLQbDSzhajsOCsG

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849



One comment on “लौंडियाबाजी के चक्कर में दर्जनों बड़े-बड़े नेताओं-अफसरों-धनपशुओं की बन गई सीडी, हड़कंप!”

  • यशवंत जी
    खबर अच्छी है, लेकिन निहायत सड़क छाप शीर्षक के चलते मैं चाह कर भी खबर को अपने पेज पर शेयर नहीं कर पा रहा हूं।
    सादर।

    Reply

Leave a Reply to Tafhim khan Cancel reply

Your email address will not be published.

*

code