Categories: टीवी

डॉ प्रनॉय और राधिका रॉय ने एनडीटीवी से इस्तीफ़ा नहीं दिया है भाई!

Share

मुकेश असीम-

वैसे प्रनब-राधिका रॉय ने RRPR नामक उस कंपनी से ही इस्तीफा दिया है जो कंपनी उन्होंने अडानी को बेची है (पैसा लिया है तो वह बेचना ही है)। एनडीटीवी में एक तिहाई मालिकाना अभी भी उनका है और एनडीटीवी के बोर्ड में दोनों बाकायदा मौजूद हैं।
टेलीग्राफ/स्क्रॉल की रिपोर्ट यही है। सिर्फ तथ्य के लिए कह रहा हूं क्योंकि इस मामले पर मेरा विचार आम प्रचलित राय से भिन्न है। पर अभी वह नहीं।


अमिताभ श्रीवास्तव-

एनडीटीवी की कहानी के बारे में यह समझना जरूरी है कि प्रनॉय रॉय और राधिका रॉय ने केवल आरआरपीआरएच के बोर्ड से इस्तीफा दिया है। इस कंपनी में अंबानी के जो शेयर थे, उन्हें अडानी ने खरीद लिया है। भविष्य में संभवतः वही हो जिसको लेकर सोशल मीडिया पर शोक और दुख भरी प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। लेकिन फिलहाल नहीं।


Dr.Roy hasn’t resign from NDTV…

Mrs. and Dr. Roy has resigned from RRPR the holding company of NDTV. This company owed 403 cr approx to VCPL.

Since VCPL (almost 100%) has been acquired by Mr. Adani, Roys don’t have stake in RRPR, anymore. The news about resignation is related to RRPR and not NDTV.

He continues to have 32% stake in NDTV, hence they are still on the board of NDTV.

-As shared by Senior NDTV employe

Latest 100 भड़ास