नितिन का बीबीसी से इस्तीफा, माइक्रोसॉफ्ट से जुड़े

बीबीसी के भारत संवाददाता नितिन श्रीवास्तव ने बीबीसी से इस्तीफा दे दिया है। अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में वे बीबीसी से कार्यमुक्त हो जाएंगे। नितिन पिछले आठ वर्षों से बीबीसी से जुड़े हुए थे।

नितिन को माइक्रोसॉफ्ट कंटेंट न्यूज़ डिविज़न से न्यूज़ एडिदर के पद का ऑफर मिला था जिसे उन्होने स्वीकार कर लिया है। माइक्रोसॉफ्ट में नितिन एमएसएन वेबसाइट और अन्य न्यूज़ एप्पस् देखेंगे।

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

Comments on “नितिन का बीबीसी से इस्तीफा, माइक्रोसॉफ्ट से जुड़े

  • Himanshu Anand says:

    अफ़सोस है कि नितिन श्रीवास्तव, बीबीसी दिल्ली या बीबीसी नैरोबी या बीबीसी कोलम्बो अब हमारे कानों में सुनाई नहीं देगा. उनकी ऑनलाइन रिपोर्टिंग से हमारे जैसे भावी पत्रकारों ने बहुत सीखा है. बहुत धन्यवाद नितिन जी. अपेक्षा है आगे भी आप तरक्की करते जाए.

    Reply
  • बीबीसी से माइक्रोसॉफ्ट? कमाल है भई. इसका मतलब ये हुआ कि नितिन श्रीवास्तव महोदय ब्रिटिश सरकार को त्याग कर एक अमेरिकी कम्पनी में चले गए. वैसे भी ब्रिटेन के दिन कौन से अच्छे चल रहे हैं. बधाई हो जनाब. विश्व कप और उत्तराखंड त्रासदी के समय आपके काम को बहुत सराहा गया था.

    Reply
  • Mithilesh Singh says:

    will miss you Nitinji he inspiriation for many patrakars of india . his tv reparting far global india the most best i seen. one complain nitinji u have nat accept my facebook frend requast. please accept sir.

    Reply
  • ramesh chandra varma says:

    महज़ इत्तेफ़ाक़ कहूँ या होनी
    जब भी उम्मीद जागती है
    सुनाई पड़ती है अनहोनी
    जाने वाले तो चले जाते हैं
    लेकिन रह जाती हैं खामोशी।

    बीबीसी से पहले शिवकांत गए फिर संजीव
    अचला चली ही गईं थीं साथ ले गईं सलमा को भी
    मणिकांत, रामदत्त को भेजा गया अज्ञातवास में
    नारायण की भी किसी ने न सुनी.

    क्या ये दुख कम थे
    जो नितिन ने भी दिया धोखा
    अब चलें हैं ऐसी राह पर
    कि कर गए हमें अपनी पत्रकारिता से जुदा।

    Reply
  • rachna agarwal says:

    why people so emotional when some leaves bbc. i know bbc a great news channel and have seen nitin srivastava from kedarnath and patna. but indian media mein to log aate-jate rahte hain. rajdeep, ashutosh, richa sabhi to gain hain kahin na kahin. phir itna dukh kyon. sabki apni life hai saba apna paise kamane ka sapna hai. celebrate good work mithilesh ji aur dukh jatana band kijiye

    Reply
  • parag saxena says:

    Congratulations nitin sir. you and journalism made me do IGNOU cource in mass media and now working at hindi dainik in patna. have been great fan of nitin sir and his english an hindi both inspiration for thousand students like me. we want see you in bbc again sir. your reporting from saharsa and kedarnath helicopter super like. you also reporting from world cup final India win and making us proud.

    Reply
  • bahut badhai nitin bhai aapke talaffuz aur aapki patrakaarita ne bahut kuch sikhaya ham Aligarh muslim universty walon ko. hamare habib hall mein ham logon ne poore 10 din aapko uttarakhand se suna tha aur padha tha. phir hamne aapko modi ke pradhanmnatri pad umeedvaar banne par bbc english tv par bhi dekha to fakr se sar uncha ho gaya. lekin bbc se jaa kyon rahe hain bhaijan? aapko abhi ek lambi paari khelni thi

    Reply

Leave a Reply to ramesh chandra varma Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *