Categories: आयोजन

पत्रकार अविनाश की हत्या के विरोध में पत्रकारों ने निकाला कैंडल मार्च

Share

छपरा। नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट सारण इकाई के द्वारा छपरा में कैंडल मार्च निकाला गया। पत्रकारों के साथ साथ शहर के आम आवाम भी इस कैंडल मार्च में शामिल हुए। कैंडल मार्च शहर के नगरपालिका चौक से शुरू होकर थाना चौक होते हुए पुनः नगरपालिका चौक पहुंची। जहां पर पत्रकारों ने पत्रकार अविनाश को श्रद्धांजलि दी।

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट के महासचिव राकेश कुमार सिंह ने कहा कि लगातार पत्रकारों की हो रही हत्या देश के लिए चिंता का विषय है। जो पत्रकार अपनी आवाज को बुलंद तरीके से उठा रहा है या फिर किसी चीज का खुलासा कर रहा है, तो उसकी हत्या कर दी जा रही है। सरकार को पत्रकार को सुरक्षा देनी चाहिए साथ ही साथ अविनाश के हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा दे इसकी मांग सभी पत्रकार करते हैं। परिवार को मुआवजा भी दिया जाये।

इस मौके पर पंकज कुमार, मनोज कुमार सिंह, शकील हैदर, विनीत कुमार, मनोरंजन पाठक, रंजीत भोजपुरिया, धनंजय सिंह तोमर, अमन कुमार सिंह, नदीम अहमद, विकास कुमार, किशोर कुमार, कबीर, विक्की आनंद सहित कई युवा शामिल हुए।

View Comments

  • कहां के पत्रकार थे, क्यों हत्या हुई, ये लिखा ही नहीं है खबर में? भड़ास लोकल पोर्टल है थोड़े है कि सब कोई पत्रकार का नाम जानते होंगे?

    पत्रकार का पूरा नाम बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा था. वे मधुबनी जिले के बेनीपट्टी के रहनेवाले थे. एक न्यूज पोर्टल के लिए काम करते थे. पत्रकार के साथ-साथ आरटीआई एक्टिविस्ट भी थे. फ़र्ज़ी अस्पताल और जांच घर संचालकों के खिलाफ न सिर्फ खबर लिखते थे बल्कि शिकायत भी दर्ज कराते थे. उनकी शिकायत पर कई अस्पतालों और जांच घरों पर कार्रवाई भी हुई थी.

Latest 100 भड़ास