Categories: सुख-दुख

ओला के इलेक्ट्रिक स्कूटर की पोल खुलनी शुरू!

Share

गिरीश मालवीय-

ओला के इलेक्ट्रिक स्कूटर की जबरदस्त मार्केटिंग की पोल खुलनी शुरू हो गयी है। मार्केट में हाइप बनाकर लगभग 90 हजार लोगों से उसने सितंबर के मध्य में 20-20 हजार रुपये जमा करा लिए और जब डिलीवरी का टाइम आया तो वह हीले हवाले कर रहा है।

ओला का न किसी शहर में कोई आउटलेट है न ही कोई ऑफिस! मतलब कुछ भी हो जाए आपको कस्टमर केयर सर्विस वालो से ही सर फोड़ना है।

कल खबर आई है कि ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर की डिलीवरी पा चुके कस्टमर्स ने पब्लिक फोरम पर कम्प्लेंट्स दर्ज कराई हैं। कुछ कस्मटर्स के मुताबिक उन्हें मिले स्कूटर यूनिट के कुछ हिस्सों पर डेंट मिले हैं और कुछ का यहां तक कहना है कि उनके स्कूटर में कई जगह पर क्रैक्स भी मिले हैं। इतना ही नहीं यूजर्स ने ये भी कहा है कि उन्हें इंश्योरेंस पॉलिसी में भी गड़बड़ी देखने को मिली है।

ओला कह रही है कि हम उन स्कूटर को रिपेयर करा देते हैं लेकिन कस्टमर्स का कहना है कि उन्होंने नए प्रॉडक्ट के लिए पैसे दिए हैं रिफर्बिश्ड प्रॉडक्ट के लिए नहीं।

कस्टमर बिल्कुल ठीक कह रहा है लेकिन उसके पास ऑप्शन क्या है ? उसने यह प्रोडक्ट किसी शोरूम से खरीदा होता तो वह उनके मुँह पर मारकर आ जाता, लेकिन अब वह सिर्फ पब्लिक फोरम पर गाल बजाने के अलावा कर क्या सकता है !

सबसे बड़ी बात तो यह है ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर्स की डिलवरी ही नही कर पाई है, यह ग्राहकों के साथ एक तरह की धोखाधड़ी है। फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष विंकेश गुलाटी ने डेटा साझा किया है जिसमें ओला ने 31 दिसंबर तक केवल 4 राज्यों में 111 स्कूटरों की बिक्री की है। डिलीवर किए गए 111 इलेक्ट्रिक स्कूटरों में से 60 कर्नाटक और 25 तमिलनाडु में डिलीवर किये गए हैं। महाराष्ट्र और राजस्थान में क्रमशः 15 और 11 यूनिट स्कूटरों को पंजीकृत किया गया है।

ओला कंपनी का कहना है कि उसने अपने S1 और S1 pro इलेक्ट्रिक स्कूटर्स की डिलीवरी 15 दिसंबर से शुरू कर दी थी और दिसंबर में डिलीवर होने वाले सभी 4 हजार स्कूटर भेज दिए गए है। लेकिन यदि स्कूटर आपने भेजे हैं तो उनका रजिस्ट्रेशन तो सड़क परिवहन मंत्रालय की वेबसाइट पर दिखना चाहिए न?

इसके अलावा ओला ने जिन फीचर्स के दावे किए थे वह डिलीवर किये जा चुके स्कूटर्स में नदारद है। ओला की वेबसाइट के मुताबिक इन स्कूटर्स में 27 सॉफ्टवेयर की सुविधा है। लेकिन जिन कस्टमर को स्कूटर्स मिले हैं उनके अनुसार S1 और S1 Pro में ब्लू टूथ कनेक्टिविटी, क्रूज कंट्रोल, प्रॉक्सिमिटी लॉक, वॉयस कंट्रोल, हिल होल्ड, मूड विजेट्स सहित कई फीचर्स नहीं हैं। कंपनी की ओर से अभी तक कस्टमर को नहीं बताया गया है कि, ये फीचर्स कब मिलेंगे।

तो यह है हालत इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के लॉन्च होने के छह महीने बाद ओला की।

Latest 100 भड़ास