उत्तर प्रदेश में सूचना विभाग के स्वीपर तक पत्रकारों की सेवा में लगे

ऐसा लगता है कि उत्तर प्रदेश में सूचना विभाग के पास कर्मचारियों की कमी है। यह कमी उस वक्त और महसूस की गयी जब रविवार को फतेहपुर रेप काण्ड में पुलिस की ओर से सफाई देने के लिए आनन फानन में स्पेशल डीजी कानून व्यवस्था बृजलाल की प्रेसवार्ता आयोजित की गयी। लालबहादुर शास्त्री भवन एनेक्सी में आयोजित इस प्रेस वार्ता में सूचना विभाग के कर्मचारी और अधिकारी संडे का दिन होने की वजह से नदारद थे।

मगर प्रेस नोट बांटने के लिए आखिरकार एक स्वीपर मिल ही गया। गोपाल नाम के इस स्वीपर की डयूटी प्रेस रूम और सूचना विभाग के अधिकारियों के कमरों में झाडू और पोछा लगाने की है। कल सूचना विभाग के इस स्वीपर की डयूटी प्रेस नोट बांटने में लगायी गयी थी क्यों कि प्रेस कांफ्रेंस महत्वपूर्ण मामले पर आयोजित थी इसलिए प्रेस नोट महत्वपूर्ण था, भले ही वह स्वीपर के ही हाथ से क्यों न पत्रकारों को मिले। प्रेस कांफ्रेंस खत्म होते ही पत्रकारों में इस बात की चर्चा थी कि सूचना विभाग में कर्मचारियों की कमी है इसलिए स्वीपर तक मीडिया की सेवा में लगा दिये गये हैं।

एक पत्रकार द्वारा भेजे गए पत्र पर आधारित. पत्रकार ने अपना नाम गुप्त रखने का अनुरोध किया है.

Comments on “उत्तर प्रदेश में सूचना विभाग के स्वीपर तक पत्रकारों की सेवा में लगे

  • Abhinav Saxena says:

    jab etni fatt rahi hai ki naam gupt rakhne ka anurodh kiya gaya hai lekhak dwara toh ye koi patrakar toh nahi hoga..koi bhadwa type ka dalla hoga jo patrakar ka chola pahan kar media center aaya raha hoga.

    Reply

Leave a Reply to Abhinav Saxena Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *