महुआ के मुंबई ऑफिस में ताला लटका, कर्मचारियों की दीवाली हुई काली

: नोएडा से भी आधा दर्जन लोग कार्यमुक्‍त किए गए : महुआ न्‍यूज में जैसे बदहवासी छाई हुई है. पहली खबर मुंबई से है. महुआ न्‍यूज के ऑफिस पर ताला लगा दिया गया है. यहां काम करने वाले सात लोगों के लिए फरमान जारी कर दिया गया है. नोएडा में भी छह लोगों से जबरदस्‍ती इस्‍तीफा ले लिया गया है.

महुआ के मुंबई आफ‍िस में काम वाले स्‍टाफ को स्‍पष्‍ट कह दिया गया है कि जो दिल्‍ली, लखनऊ जाना हो वो साथ आएं, जिन्‍हें इन जगहों पर नहीं जाना है वो अपने लिए नया ठिकाना ढूंढ लें. सूचना है कि महुआ खोबोर के लिए काम करने वालों को भी नमस्‍ते कर दिया गया है. ब्‍यूरोचीफ अविनाश को लखनऊ रिपोर्ट करने को कह दिया गया है. चार दिन पहले पहुंचे भूपेंद्र नारायण सिंह भूप्‍पी ने तालाबंदी की सूचना अपने सह‍कर्मियों को सुनाई. सभी को सीधा फरमान सुना दिया गया, जिन्‍होंने अपनी परेशानी बताई उन्‍हें नया ठौर तलाश लेने को कहा गया.

महुआ चैनल की शुरुआत से ही महुआ ने यहां अपना कर्मचारी नियुक्‍त कर रखा था. तब के दौर में संजय सिंह स्ट्रिंगर हुआ करते थे. बाद में महुआ ने मुंबई में अपने को विस्‍तार देते हुए लोवर परेल में स्थित सहयोगी कंपनी पिक्सियान के बिल्डिंग में कार्यालय खोला. संजय सिंह को ब्‍यूरोचीफ बना दिया गया तथा लगभग डेढ़ दर्जनों लोगों को नियुक्‍त किया गया. सब ठीक ठाक चल रहा था, परन्‍तु अपनी आदत के मुताबिक पीके तिवारी पत्‍तों को फेंटना शुरू कर दिया. संजय को मोहरा बनाकर पुराने कर्मचारियों को निकलवाया गया. इसके बाद संजय सिंह को भी प्रबंधन ने परेशान करना शुरू किया तो उन्‍होंने इस्‍तीफा दे दिया.

इसके बाद दिल्‍ली से कुछ समय पहले ही वहां भेजे गए अविनाश सिंह को ब्‍यूरोचीफ बना दिया गया. इसके बाद महुआ का काम चल रहा था कि अचानक तालाबंदी से सभी की दीवाली काली हो गई है. छंटनी और खर्चा कम करने के नाम पर वरिष्‍ठ लोग बिल्‍कुल ही संवेदनहीन हो चुके हैं. पीके तिवारी तो लग रहा है कि अपने नाम अनुरूप काम कर रहे हैं. मुंबई महुआ में अनिनाश सिंह के अलावा संदीप आर्य सिंह, अभिषेक हलदार, गुलाब यादव, राजनारायण सिंह, दीपक सिंह तथा विकास सिंह कार्यरत थे. भू‍प्‍पी ने साफ कहा कि अब इस ऑफिस की जरूरत नहीं है, हम खबरें एएनआई से कम कीमत में खरीद लेंगे.

इधर, महुआ हेड ऑफिस नोएडा में भी परफारमेंस को आधार बनाकर आधा दर्जन पुराने लोगों से जबरदस्‍ती रिजाइन ले लिया गया. ये सभी लोग महुआ की लांचिंग या शुरुआती दौर से ही चैनल से जुड़े हुए थे. एंकर प्रियंका त्रिपाठी, अमृता चौरसिया क‍ा तो इस्‍तीफा ले लिया गया है, परन्‍तु खबर है कि एडिटोरियल से विनोद पांडेय, अवधेश मिश्रा तथा दो अन्‍य को भी इस लिस्‍ट में शामिल कर लिया गया है. हालांकि इन लोगों को अभी इस्‍तीफा देने को कहा नहीं गया है, परन्‍तु माना जा रहा है कि सोमवार को इन लोगों को भी बाय कर दिया जाएगा. प्रबंधन इतना बदहवास हो चुका है कि इसने अपने कर्मचारियों के साथ थोड़ी भी संवेदना बरतने की जरूरत नहीं समझी. बस भेड़-बकरियों की तरह चैनल से बाहर हांक दिया.

Comments on “महुआ के मुंबई ऑफिस में ताला लटका, कर्मचारियों की दीवाली हुई काली

  • Mayank Tiwari says:

    ITNE LOGO KI AAH LEKER P.K.TIWARI AUR UNKE CHAMPU BHUPI-RANA KAHA JAYEGE? IN NAMURADO KE SHARIR MAIN KIRE PARENGE, BURAPA JAIL MAIN BITEGA. SAMAY SAB DIN EK JAISA NAHI RAHTA, YE AADMI KE VESH MAIN NAR PISACH HAI JO GARIB KARMCHARIO KA KHOON PI RAHE HAI.BHAGWAN INSAF KAREGA.

    Reply
  • saahab abhi to stringaro ka mahuaa ko laat marne ki baari abhi baanki hai
    kyuki mujhe jankari hai ki mahuaa ke 13 stringhar mahuaa ko december me albida kahenge
    ]

    Reply
  • Rajanish Raj says:

    इंसान टूट जाता है
    एक नौकरी ढूंढने में
    वो हैं कि सैकड़ों की नौकरियां लेकर
    भी आह तक नहीं करते

    Reply
  • yahan par sirf dokha hi bacha hai rana or kampani, ke karan yah sab ho raha hai inka bhi hisab chitrgupat ke paas ho raha hai.jald hi inka bhi ghada phutnewala hai.

    Reply
  • iss chanel ko a band karne se koi nahi rok sakta bhai. mahuaa ke logo ko abhi se boria bistar bandh lene chahey. nahi to kisi festival ke mouke par hi pt tewari bali le lega. jaisa i bombay office me hua.kasai ke roop me noida office me kai bebkuf baitha hai. jo pt tewari ko ullu banakar hanel ko chourahe par khada kar deya hai. sa dub jayega tab aa twari ko hosh ayega
    jara patna ka hal jan lo bhai
    ek mahina ke andar accountant ki noukr le leya
    lage hath doo din pahle bechare markting heead nkd verma ki noukari le leya.
    ek reporter ko to phone par jan ki ayari ka sanket de deya gaya hai
    8 mahina se stringer ko sallary nahi meela hai.
    office me chai tak band kar dya gaya hai
    guest ke leye sadak par se chai lana par raha hai.
    reeporer ko vigyapan lane ka nirdesh d deya gaya hai.
    kaha gaya hai ki vgyapan nahi laya to ane ale deno me sallary nahi milega
    ab to bhai yaha se bhagne me bhalai hai, nahi to bude phasoge

    Reply

Leave a Reply to vikash Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *