वर्दी के नशे पर भारी शराब का नशा

यूपी में इस समय पुलिस की वर्दी का नशा तो हर तरफ देखने को मिल रहा है पर मुगलसराय में नशे में वर्दीधारी देखने को मिल गया. वो भी सरेआम, खुलेआम. शराब के नशे में बेसुध वर्दीधारी को देखकर लोग मजा भी लिए. दरअसल उत्‍तर प्रदेश पुलिस का यह जवान ड्यूटी के दौरान कैदियों को ले जाने आया था. मगर मौका मिलते ही इसने जमकर शराब से अपने गले को तर किया. जब वर्दी के नशे पर शराब का नशा भारी पड़ने लगा तो यह लड़खड़ाते कदमों से मुगलसराय रेलवे सर्कुलेटिंग एरिया में स्थित हनुमान मंदिर के चतूबरे पर गिर पड़ा.

कानून व्‍यवस्‍था के इस गिरे हुए पहरेदार को देखकर वहां लोगों की भीड़ जुटने लगी. कुछ लोग मजा लेने के लिए तो कुछ इस सिपाही का हालचाल लेने के लिए उसे जगाने लगे. मुश्किल से उठकर बैठे सिपाही की नजर जब कैमरे पर पड़ी तो वर्दी और शराब दोनों का नशा कम हो गया. वह मीडिया का कैमरा देख वहां से भागने लगा.

वर्दी

वर्दी

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “वर्दी के नशे पर भारी शराब का नशा

  • Bulla Bharti says:

    He might be drunken in alcohal but their are some police officers in U.P especially in sonbhadra dist. who drunk only money whether it is dead body of a workmen or any dispute of workmen and contractor,they interfare with a view to make money from the company as well as from the unions. They creates union leaders to pressurize management to fulfil their demands. union leaders so called, are created by them are the means and ways of making money. This station officer is behind money and for money he can go to any extent, they may creates leaders like giri and kamlesh and bargain with big companies.they do not know labour laws but like irrisponsible union leaders,they preach labours with “Bharkau Baiyan ” and create a situation where management seems to be blackmailed.

    SP Sonbhadra should take care of such kind of Station Officers.

    Reply

Leave a Reply to Bulla Bharti Cancel reply

Your email address will not be published.