‘हाट सीट’ का नाम ‘गरम पिछवाड़ा’ हुआ!

आज तक न्यूज चैनल से खबर आ रही है कि होली की पूर्व संध्या पर दारू पीकर आजतक आफिस में पहुंचने पर प्रभु चावला बुरी तरह फंस गए. ब्रेथ एनालाइजर यंत्र लेकर टहल रहे नकवी जी के आदमियों ने प्रभु चावला को घेर लिया और उनके मुंह में शराब सूंघक यंत्र जबरन घुसेड़कर कई पैग दारू की खोज कर डाली. सूत्रों के मुताबिक मदिरा प्रभु चावला के शरीर के ज्यादातर हिस्सों में असर दिखा चुकी थी. शरीर के रोएं-रोएं, कोने-कोने तक में इसका फैलाव हो चुका था. प्रभु के शरीर में मदिरा की पर्याप्त मात्रा की जानकारी मिलते ही नकवी जी ने एक लिखित रिपोर्ट अरुण पुरी के पास भेज दी.  रिपोर्ट की एक प्रति भड़ास4मीडिया के पास है. इसमें कहा गया है कि इंडिया टुडे मैग्जीन में कम, आजतक में ज्यादा रुचि लेने से प्रभु चावला जैसे वरिष्ठ पत्रकार मतिभ्रम के शिकार हुए लगते हैं. इस मतिभ्रम को दूर करने के लिए ही वे पर्याप्त मदिरा सेवन करने लगे हैं.

रिपोर्ट में यह भी सिफारिश की गई है कि अगर सीधीबात जैसे कार्यक्रम जिसमें राखी सावंत सरीखी बालाओं से प्रभु चावला लगातार उटपटांग बातचीत करते रहते हैं, को बंद कर दिया जाए तो संभव है कि प्रभु जैसे बेशकीमती व बुजुर्ग पत्रकार का सुंदरियों को लेकर नारद-सरीखा मतिभ्रम समाप्त हो जाए और वे फिर से मिशनरी पत्रकारिता में जुट जाएं. सूत्रों के मुताबिक नकवी जी ने इस सिफारिश के जरिए एक तीर से दो निशाना किया है. वे चाहते हैं कि प्रभु चावला का दामन दागदार बनाकर व व्यक्तित्व में कालिख जैसा तगड़ा मोनो रंग डालकर खुद की नौकरी को कई और साल तक पक्की कर ली जाए, लगे हाथ प्रभु चावला को निपटाकर इंडिया टुडे की संपादकी के विकल्प को भी डेवलप किया जाए. आज तक के एक ट्रेनी टाइप अविश्वसनीय भड़ासी सूत्र का कहना है कि नकवी जी के मोटे-मोटे आदमी शराब सूंघक यंत्र लेकर जिस तरह से गिरा-पटक कर चावला जी की जांच कर गए, उससे दुबले-पतले शराबियों-भंगेड़ियों-गजेड़ियों में दहशत है. हालांकि गजेड़ी व भंगेड़ी इस यंत्र के जरिए नहीं पकड़े जा सकते लेकिन वे पटक कर जांच किए जाने की प्रक्रिया से परेशान हैं क्योंकि वैसे ही उनकी हड्डियां दिल्ली में रहते-रहते घिस गई हैं और अगर किसी ने झटके में पटक दिया तो पसली या कूल्हे की एकाध हड्डी के टें बोल देने की पूरी आशंका है.

अभी-अभी पता चला है कि नकवी जी की रिपोर्ट पर अरुण पुरी ने प्रभु चावला के सीधी बात कार्यक्रम को बंद करने का आदेश जारी कर दिया है. साथ ही प्रभु चावला तक संदेश भिजवा दिया है कि वे उल्टे हाथ को निकल लें. सूत्र कहते हैं कि इस पूरे घटनाक्रम से आहत प्रभु चावला कूदकर एयरपोर्ट पहुंचे और छलांग लगाकर एक अंतरराष्ट्रीय जहाज में विराज गए. यह जहाज मुंबई होते हुए चेचेन्या जाएगा. बताया जा रहा है कि चेचेन्या में एक तेल कारखाना लगा रहे हैं मुकेश अंबानी. वहीं पर अनिल अंबानी भी बार गर्ल्स को लेकर पहुंचे हुए हैं भाई से होली खेलने और डांस पार्टी कराने के लिए. प्रभु की कोशिश है कि अनिल से मुलाकात कर अब न्यूज चैनल व अखबार आदि तुरंत खोलने पर राजी कर ही लिया जाए और लगे हाथ अप्वाइंटमेंट लेटर भी ले लिया जाए. सूत्र कहते हैं कि टेंशन के मारे प्रभु चावला ने जहाज के टायलेट में सिगरेट सुलगा लिया पर वायु बालाओं के धुआं शोधक यंत्र ने रंगे हाथ उन्हें पकड़ लिया. उन्होंने वहां तेज-तेज बोलते हुए सीधीबात वाले कार्यक्रम की एक्टिंग कर खुद की पहचान करा दी जिससे उन्हें छोड़ दिया गया.

इस पूरे घटनाक्रम पर वरिष्ठ पत्रकार आलोक तोमर कहते हैं कि वे तो उसी दिन से अपने हाथ में अंडा लिए हुए हैं जिस दिन से अंकुर चावला के यहां सीबीआई के पहुंचने की खबर मिली है. आलोक कहते हैं कि हालांकि पुत्र के मामले से पिता को नहीं जोड़ा जाना चाहिए लेकिन मैं पूरी तरह क्षत्रिय आदमी हूं और मेरा मन अगर दिन को रात कहने को करता है और रात को दिन तो आप मेरा क्या उखाड़ लेंगे. अतः मैं अंकुर चावला मामले में प्रभु चावला पर अंडा फोड़ने के लिए आजतक का कई राउंड चक्कर लगा चुका हूं लेकि बुड्ढा सीधीबात करता ही नहीं. मुझे देखते ही उल्टे हाथ हो लेता है.

होली के अवसर पर भड़ास4मीडिया के मुस्टंडे मीडिया इंडस्ट्री के सभी छोटे-बड़े सरगनाओं-ट्रेनियों को शुभकामनाएं देते हैं, उनसे गले मिलते हैं और देह के प्रत्येक हिस्से में रंग पोतते हैं. अगर कोई बुरा मान रहा है तो मुस्टंडों से अनुरोध है कि उन्हें पटक कर एक राउंड और रंग रगड़ें ताकि वे विरोध दर्शाने लायक ही न रह जाएं. फिर भी अगर टें टें करते हैं तो सड़क से किसी सीवर का ढक्कन हटाकर उन्हें उसमें डाल दें और दस मिनट तक ”…ये खुला आसमान … लो आ गए कहां….” गाना गवाने-तैराने के बाद निकालकर सकुशल घर पहुंचा दें.  b  u  r  a  n  a  m  a  n  o  h  o  l  i  h  a  i


भड़ास4मीडिया टीम भी होली खेलने को निकल रही है, सो बाकी खबरें हम विस्तार से नहीं बता पाएंगे, जो प्रमुख खबरें हैं सिर्फ उन्हीं को संक्षेप में यहां दे रहे हैं. ये खबरें पढ़िए होली तक, हम लोग फिर मिलेंगे रंग पोतने के बाद…

-स्टार न्यूज में एक आंतरिक मेल जारी कर शाजी से कहा गया है कि वे अपनी कुर्सी दीपक चौरसिया के लिए खाली कर दें और खुद दीपक की तरह रिपोर्टिंग का दायित्व निभाने में जुट जाएं. सूत्रों के अनुसार शाजी दिल्ली के कई मंत्रालयों का नक्शा लेकर रिपोर्टिंग का ट्रायल कर रहे हैं.

-प्रकाश झा ने सहाराश्री सुब्रत राय सहारा पर एक ऐतिहासिक फिल्म बनाने का ऐलान किया. खबर है कि सहाराश्री की भूमिका निभाने के लिए किशोर मालवीय का चयन किया गया है.

-सहारा के अंदर से आ रही खबर के मुताबिक सहारा मीडिया के देश भर के रिपोर्टरों ने अपने-अपने जिलों-नगरों में संजीव श्रीवास्तव और उपेंद्र राय का सम्मान कराने का फैसला किया है. सहारा के काम-धाम-दाम-नाम योगियों ने ऐसा फैसला सहारा मीडिया ज्वाइन करते ही संजीव-उपेंद्र के सम्मान प्रेम को देखकर लिया है.

-इंडिया टीवी से आ रही जानकारी के मुताबिक रजत शर्मा ने जनता के नाम एक संबोधन में चैनल पर दिखाए गए सांप भूत प्रलय आदि के लिए माफी मांगी है और आगे से सिर्फ न्यूज पर टिके रहने का वादा किया है. साथ ही चैनल हेड पद पर आलोक तोमर को नियुक्त किया है और विनोद कापड़ी को आलोक तोमर को रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है.

-‘हमार टीवी’ से आ रही खबर के मुताबिक चैनल में विवाद को देखते हुए इसके मालिक ठाकुर मतंग सिंह ने ज्योतिषी की सलाह पर चैनल का नाम बदलकर ‘तोहार टीवी’ कर दिया है. खबर है कि महुआ के मालिक पीके तिवारी भी नाम बदलने पर विचार कर रहे हैं. वे चैनल का नाम ‘महुआ’ की जगह ‘नींबू’ कर सकते हैं. हालांकि कुछ लोगों का यह भी कहना है कि उनके उम्र को देखते हुए ‘पपीता’ नाम रखना ज्यादा ठीक होगा.

-मशहूर टीवी पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी ने होली के दिन अपने ब्लाग में एक बड़ा ही रोचक आलेख लिखा है. इस आलेख में उन्होंने  अपनी तीन कमियों का उल्लेख किया है. उनका कहना है कि वे खुद से बड़ा पत्रकार किसी को नहीं मानते, यह उनकी एक कमी है और ऐसा इगो बहुत ज्यादा होने के कारण है. दूसरा- वे लिखते-बोलते हुए हमेशा और कई-कई बार ‘…सवाल यह है कि…’ लाइन का इस्तेमाल करते हैं. इस कारण उन्हें लगता है कि उनके पाठक-दर्शक खुद सवालिया निशान बन गए होंगे. तीसरा- दिल में बार-बार इच्छा होती है कि टीवी संपादकों का एक ओरीजनल दंगल कराना चाहिए और उनका दावा है कि वे सभी को पटक कर चित कर देंगे.

-खबर है कि रवीश कुमार ने एनडीटीवी की नौकरी से आजिज आकर गांव लौटने का फैसला कर लिया है. ऐसा फैसला रवीश ने दिल्ली में दिल न लगने के कारण किया है. उन्होंने चैनल के मालिक प्रणव राय को लिखे एक भाव पूर्ण पत्र में अब तक के प्यार, प्रमोशन व पैसे के लिए आभार जताया है पर साथ ही यह भी कहा है कि उन्हें नहीं लगता कि उन जैसा देसज आदमी शहर में फिट रह सकता है सो उन्होंने अपने गांव-जवार जाने व वहीं से होरहा फूंककर लाइव (अगर चैनल ने जरूरत महसूस किया तब) करने का फैसला किया है.

-आईबीएन7 से कुछ संशोधनों-बदलावों की खबर है. टैगलाइन ‘खबर हर कीमत पर’ को अब ज्यादा स्पष्ट करते हुए कर दिया गया है- ‘किसी भी दाम में खबर’. सूचना के मुताबिक इस बदलाव के बाद आईबीएन7 के बाहर लंबी लाइन लग गई है और लोग औने-पौने दामों में खबरों के प्रसारण की रसीदें कटवा रहे हैं. इस बीच, राजदीप ने एक निजी मेल आशुतोष को भेजकर उनसे ‘हाट सीट’ कार्यक्रम का नाम बदलकर हिंदी में रखने को कहा है. सूत्रों के मुताबिक आशुतोष व उनकी टीम ‘हाट सीट’ को हिंदी में ‘गरम पिछवाड़ा’ नाम से प्रसारित करने पर विचार कर रही है. आईबीएन7 के कई चिल्लाने वाले हिंदी एंकरों को ‘गरम पिछवाड़ा’ शब्द के जोर-जोर से उच्चारण के लिए लगा दिया गया है.

-सफेदी के कारण बुजुर्ग दिखने वाले सतीश के सिंह को प्रबंधन ने होली बाद से दाढ़ी-बाल काला कर या विविध रंगों में रंगकर आफिस पहुंचने के आदेश दिए.

-फेसबुक में दिल रम जाने के कारण प्रबंधन ने अजीत अंजुम को बीएजी फिल्म्स के वेब पोर्टलों का इंचार्ज बना दिया है. सूत्र कहते हैं कि ऐसा कदम अजीत अंजुम व सुप्रिय प्रसाद के बीच कई छिपे विवादों के कारण उठाया गया है.

-एक बड़े घटनाक्रम के मुताबिक भड़ास4मीडिया ने एक्सचेंज4मीडिया का अधिग्रहण करते हुए इस पोर्टल का नाम बदलकर एक्सचेंजभड़ास4मीडिया कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक अनुराग बत्रा ने अपने पापों का प्रायश्चित और मीडिया कंपनियों का पीआर कर कमाई गई राशि का खुलासा करने का ऐलान कर दिया है. साथ ही उन्होंने यशवंत सिंह को अपना गुरु मानते हुए उन्हीं के पदचिन्हों पर चलने का ऐलान कर दिया है. संभव है अगले कुछ दिनों में मीडिया के कई दबे-छुपे राज एक्सचेंजभड़ास4मीडिया पर पढ़ने को मिल जाएं.

-भड़ास4मीडिया के सीईओ और एडिटर यशवंत सिंह फिल्मफेयर एवार्ड से मुंबई से लौटते वक्त जहाज में एक एयरहोस्टेस से छेड़खानी करते हुए फंस गए. उन्हें फिलहाल दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के पुलिस थाने में बिठा लिया गया है. एयर होस्टेस ने जो तहरीर दी है उसके मुताबिक यह दढ़ियल आदमी जहाज से उतरते वक्त थैंक्यू कहे जाने पर जवाब में गाल पर ही किस कर बैठा. उसने एक स्त्री देह को छुवा है जो छेड़छाड़ जैसा गंभीर अपराध है. उधर, यशवंत सिंह ने थाने में बैठ कर रोते हुए बताया कि वे पूरी तरह बेकसूर हैं. उन्हें साजिशन फंसाया गया है. यशवंत के मुताबिक फिल्मफेयर एवार्ड में कई लोग एक दूसरे को किस कर रहे थे तो जहाज से उतरते वक्त वही दृश्य याद आ गया और मुस्कराकर थैंक्यू कर रही एयरहोस्टेस को किस कर बैठा.

-राहुल देव ने होली के बाद अपनी बेशकीमती दाढ़ी को नीलाम करने का ऐलान किया है. वे इस नीलामी से हुई आय के जरिए ‘पत्रकारिता में नैतिकता’ विषय पर शोध व परिचर्चा कराएंगे. राहुल देव के इस फैसले पर आलोक तोमर ने हर्ष व्यक्त किया है. हालांकि आलोक तोमर ने यह भी कहा कि उन्हें इस फैसले के बारे में आधिकारिक जानकारी नहीं है लेकिन अगर राहुल जी ने यह कदम उठाया तो जरूर किसी अच्छे उद्देश्य के लिए उठाया होगा.

-गीताश्री ने एक और पुरस्कार का जुगाड़ कर लिया है. यह पुरस्कार उन्हें आदिवासी इलाकों में सांपों के रखरखाव पर शोध के लिए दिया गया है. हालांकि गीताश्री के समर्थक मायूस हैं क्योंकि पहले भी कई पुरस्कारों व फेलोशिपों के लिए वे पार्टी देने का वादा कर चुकी हैं पर वादे पर कभी अमल नहीं किया इसलिए उनके चाहने वाले उन्हें बधाई देने से कतरा रहे हैं.

-एक आखिरी खबर नई दुनिया से. आलोक मेहता आज अपने पूरे गैंग के साथ नई दुनिया आफिस में गुझिया खा रहे हैं. साथ ही कई ब्लाग वालों को गरिया रहे हैं. वहां मौजूद एक खबरीलाल ने भड़ास4मीडिया को बताया कि गुझिया महोत्सव में आलोक मेहता ने कई नामी-गिरामी नेताओं को अपनी ताकत व हनक दिखाने के लिए बुलाया है. बताया जा रहा है कि नई दुनिया आफिस के बाथरूम व टायलेट को दारू की बातलों से भर दिया गया है. लोग गुझिया खाकर बाथरूम जाते हैं और एक पैग मारकर लौटने के बाद आलोक मेहता के पैर छू ले रहे हैं. b  u  r  a  n  a  m  a  n  o  h  o  l  i  h  a  i

अपने मोबाइल पर भड़ास की खबरें पाएं. इसके लिए Telegram एप्प इंस्टाल कर यहां क्लिक करें : https://t.me/BhadasMedia

Comments on “‘हाट सीट’ का नाम ‘गरम पिछवाड़ा’ हुआ!

  • Sapan Yagyawalkya says:

    Holi ke pavan prasang par un sabhi ko subhkamnayen ,jo surapan kar chuke hain,ya karne ja rahe hain.suron aur asuron ke beech sanatan yuddh mein vijayee sadaiv surapan karne wale sur hi hote hain. ‘sakal padarath hain jag maahin/karmhin nar pavat naahin’ *SapanYagyawalkya* Bareli (MP)

    Reply
  • ravindra bharti says:

    काश कुछ तस्वीरें होती तो होली का असली मजा आ जाता

    Reply
  • अब असली ख़बर सुनिए.
    एक बार फिर से आलोक मेहता की G……काटने की तैयारी चल रही है.
    पटना NBT मे जब वे स्थानीय संपादक थे, तब उनके बबासीर का आपरेशन हुआ था.
    नई दुनिया के health editor हाँडी प्रसाद के हवाले से पता चला कि
    अब फिर से प्रधान संपादक जी को बबासीर उपट रहा है. सत्ता के गलियारों मे G.. दिखाने का कोई फायदा नही हुआ.
    पदमश्री को G….कटवांनी ही पड़ेगी.
    शायद भोपाल मे काटी जाए.
    -अनिल पांडे

    Reply
  • SUNIL SINGH CHHATTISGARH says:

    Yashwant Bhai, Bahut khub…. Deshi tadka ke sath aapne HOLI special jo nikala hai uske liye dhanyavad… ye deshi tharra style bahuto ko pasand aai hogi. Jahan tak bat Ravish ji ki hai, to O agar gaon me jakar HORHA lagakar use LIVE karane chahte hai to plz ham logo ko bhi bula lenge… kyoki HORHA lagane ka hamara purana anubhav hai… Horha ko jalne nahi denge. Sath hi mashaladar nun (nimak) bhi ghar se banwa lunga. Maja aa jayega…

    Reply
  • Sadashiv Tripathi says:

    Very Very Well Done. Lagal Raha, Jamal Raha Yashwant Babua. Holi Ki kotishah Shubhkamnao Samet, Kalyanmastoo……
    Sadashiv Tripathi

    Reply
  • Chandan ( Journalist,Patna) says:

    Holi Mubarak un savi dosto ko jo in Bhardas4medai se barabar jure rahte hai….

    or Khas kar Yaswant J ko V

    Happy holy

    Reply
  • Puneet Nigam says:

    सभी भडासी भाइयों और महाभडासी यशवंत भाई को होली की हार्दिक शुभकामनायें । ईश्‍वर आप सभी के जीवन को रंगीन करे।

    Reply

Leave a Reply to SUNIL SINGH CHHATTISGARH Cancel reply

Your email address will not be published.