उपेंद्र राय और नीरा राडिया के बीच बातचीत का टेप

Upendra Raiपांच मिनट 12 सेकेंड के इस आडियो टेप में नीरा राडिया और सहारा मीडिया के न्यूज डायरेक्टर उपेंद्र राय के बीच बातचीत है. इस टेप में ज्यादातर वक्त उपेंद्र राय बोलते हैं. शुरुआती अभिवादन कुछ इस तरह होता है. उपेंद्र का फोन राडिया के पास जाता है.

राडिया फोन पिक करती. फिर बोलती है- हॉय उपेंदर.

उधर से उपेंद्र राय बोलते हैं- हॉय मैम, कैसी हैं आप.

राडिया- बस ठीक हूं.

इसके बाद बातचीत शुरू होती है. उपेंद्र राडिया को जानकारी देते हैं कि वो 5 जून तक दिल्ली शिफ्ट हो गए हैं और जिस मोबाइल से उन्होंने काल किया है, वो दिल्ली का है  और ये नंबर आपके पास (राडिया के पास) होगा ही. राडिया हां हां कहती है. साथ में पूछती है कि शिफ्टिंग कैसी रही. उपेंद्र राय बताते हैं कि धीरे-धीरे सब चीजें स्ट्रीमलाइन हो रही है. यह भी बताते हैं कि बीच में 11 सितंबर को लंदन गया था, वहां अपना वो काम थोड़ा बहुत करके लौटा हूं जो काफी दिनों से पेंडिंग चल रहा था. यह भी सूचना देते हैं कि उन लोगों ने एक डाक्यूमेंट्री फिल्म बनाई थी राहुल गांधी पर उसे दिखाई है और यह फिल्म बहुत अच्छी बनी थी. साथ ही यह भी कहते हैं कि वो सीडी मैं आपको दूंगा. फिर कहते हैं कि वे एयर इंडिया पर एक स्टोरी करना चाहते हैं कि आज ये दशा दिशा कैसे हुई कि इसके पास आज सेलरी देने के लिए पैसे नहीं हैं.

उपेंद्र राय सूचना देते हैं कि वे इस स्टोरी पर उनसे तो बात करेंगे ही, सुनील भाई साहब से. इतना सुनते ही राडिया अचानक पूछती है, किनसे, सुनील अरोड़ा से ना. उपेंद्र राय कहते हैं हां. फिर अपनी बात जारी रखते हुए  उपेंद्र राय अनुरोध करते हैं नीरा राडिया से कि अगर उनकी टीम में किसी ने इस बारे में रिसर्च किया हो तो वो रिसर्च वर्क उन्हें दे दें ताकि स्टोरी कर सकें. नीरा राडिया ने प्रफुल्ल पटेल के कार्यकाल को खराब बताते हुए पूरे पांच साल की पतन की हिस्ट्री को देने का वादा किया. नीरा से उपेंद्र राय पूछते हैं कि क्या वे कल शहर में हैं. नीरा राडिया जवाब देती हैं कि वे कल मुंबई रहेंगी. पूरी बातचीत को इस आडियो प्लेयर पर क्लिक करके सुन सकते हैं.

***

Comments on “उपेंद्र राय और नीरा राडिया के बीच बातचीत का टेप

  • बिल्‍लू says:

    यशवंत जी, पत्रकारिता जगत के घोटोले बाहर लाने के लिए साधुवाद। पूरी पत्रकारिता जगत की कमान अब आपके हाथ है। घोटालेबाजों को बाहर लाइए ताकि जनता और पत्रकार बिरादरी असलियत जान सके। पत्रकार बाते बड़ी बड़ी करते हैं हम चौथा खंभा है, ये खंभा नहीं भ्रष्‍टाचार का अडडा है।

    Reply
  • YASHWANTJI ES TAPE SE YE TO PROVED NAHI HOTA KI UPENDRA JI ES PURE KHEL ME SHAAMIL HAI….EK JOURNALIST…..EDITORS KO KAI LOGO SE BAAT KARNI PADTI HAI ESKAA MATLAB YE TO NAHI KI VO 2-G SPECTRUM ME RADIA KE LIYE MEDIA KAA USTAMAAL KARNAA CHAHATE HONGE .RAHI BAAT VEER SANGHVI….PRABHU CHAWLA….AUR BARKHA DUTTA KI TO UNKE TAPE SE YE SIDHA PATRATIT HOTAA HAI KI UNKE PERSONAL INTEREST KE LIYE YAA COMPANY KE HEETH ME YE LOBBYING KAR RAHE….TAPE KE CONTENT KO THIK SE SUNO.

    Reply
  • anurag.patrakar unnao says:

    upendra rai ko badnaam karne ki kosise baar baar ki za rahi hai aur kush nahi .upendra ji aapki badate kadam se sab patrakaro ki hawa tight hai na bhai..

    Reply
  • कमल शर्मा says:

    हर पत्रकार किसी न किसी स्‍टोरी के लिए क्‍लू या पूरी रिपोर्ट अथवा संदर्भ के लिए किसी न किसी व्‍यक्ति को फोन करता ही है। फोन करते समय यह तो पता नहीं होता कि जिससे बात की जा रही है वह आगे चलकर क्‍या निकलेगा। एक स्‍टोरी के लिए उपेन्‍द्र राय ने राडिया से बात की और सारी बातें बेहद सामान्‍य है जो दो जानकार आपस में करते हैं। इस टेप में यह बिल्‍कुल नहीं है कि उपेन्‍द्र राय ने स्‍टोरी करते समय राडिया से जो बात की वह किसी घोटाले की बू देती है। वे राडिया से रिसर्च मांग रहे हैं जो बेहद सामान्‍य है। हर पत्रकार चाहता है कि उसकी स्‍टोरी बेहतर से बेहतर बनें जिसके लिए जिन लोगों के पास उस अमुक स्‍टोरी से जुड़ी जानकारी या रिसर्च होता है वह सामान्‍य तौर पर मांग लिया जाता है। उपेन्‍द्र राय का लंदन जाना कदापी राडिया के संबंध में नहीं है। वहां उनकी यात्रा अलग मामले हैं जिसका उन्‍होंने जिक्र किया है लेकिन लंदन यात्रा से राडिया का कोई लेना देना नहीं लगता। तलवार चलाइए लेकिन निर्दोषों पर नहीं। यशवंत जी आपने जो कार्य किया है और कर रहे हैं पत्रकारिता जगत उसे हमेशा याद रखेगा। आपकी हिम्‍मत के लिए आपकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है।

    Reply
  • sharad misraa says:

    Es tape se kuch saabit nahin ho raha hai, lagta hai upendra se koi jealous hai, saamaanya pariwar ke logon ko aage aane deejiye, aam aadmi es se haar maan jaayega, india aur bharat ki ladai me bharat ko jitaiye…..thnx

    Reply
  • नीरा राडिया और उप्रेंद्र राय के बीच जो बातचीत हुई वह बहुत ही सामान्य है। और मीडिया की दुनियां में जब पत्रकार काम करता है तो बहुत सारे लोगों से मुलाकात होती है। कोई भी किसी सामने वाले के बारे में अंदर की बात नहीं जानता है। पत्रकार का काम होता है किसी भी तरह अपने समाचार के लिये सामने वाले को विश्वास में लेना। चाहे वो देश के उच्च पद पर स्थापित व्यक्ति हो या सबसे छोटे स्तर पर। यदि उपेंद्र राय की बातचीत नीरा से हुई और उपेंद्र ने नीरा से सम्मानजनक तरिके से बातचीत की तो इसमें क्या गुनाह हो गया। यदि उपेंद्र बतौर पत्रकार किसी विषय पर काम कर रहे हैं, तो स्वाभाविक है कि उससे जुड़े विषय पर सामग्री इकठ्ठा करने के लिये सबसे पहले बातचीत उन्हीं से करेंगे जो इस बारे में कुछ बता सके। और जहां तक आरोप लगाने की बात है तो किसी पर भी आरोप लगा दीजिये। आप कोई भी समाचार देखिये वह कितना भी सही हो लेकिन चाहे तो उसका गलत अर्थ देकर भी सामने लाया जा सकता है वह ऐसा लगेगा कि गलत ही सही है। और सही गलत है। मुझे लगता है कि नीरा से उपेंद्र की बातचीत का कोई खास मतलब नहीं है।

    Reply
  • नीरा राडिया और उपेंद्र राय के बीच जो बातचीत हुई उससे ऐसा कही नहीं लगता है कि उपेंद्र राय किसी मामले में शामिल हैं। इससे यही लगता है कि एक पत्रकार अपनी स्टोरी के लिये सामग्री जुटाने की कोशिश कर रहा है। कोई भी सीधे किसी से भी सामग्री के लिये बातचीत कैसे कर सकता है थोड़ी बहुत और भी बातचीत करनी होती है। जब कोई पत्रकार स्टोरी करता है तो पहले वह यह पता लगता है कि इस विषय की अधिक से अधिक जानकारी कहां से मिल सकती है। इसलिये उनसे संपंर्क की कोशिश की जाती है। इसके लिये सामने वाले को विश्वास में लेना होता है। चाहे वह कोई भी हो। यदि आप ऐसा नहीं कर सकते हैं तो समाचार की दुनियां में खबरों की अकाल हो जायेगी। दोनो की बातचीत से ऐसा ही लगता है कि एक पत्रकार अपनी स्टोरी पर काम कर रहा है। किसी से सम्मान से बातचीत करना कोई गुनाह नहीं है।

    Reply
  • altaf siddiqi says:

    उपेन्द्र जी के बारे में जानने वाले शायद यह तथ्य भी भली तरह से जानते है कि वे देश के सबसे कम उम्र के युवाओं मे से एक है जिन्होने कड़ी मेहनत और मजबूत इरादों से यह मुकाम हासिल किया है।इस सारे टेप से ये कहां साबित होता है कि उपेन्द्र जी किसी भी तरह से टूजी स्पेक्ट्रम घोटाले में शामिल है।खबर के लिये की गयी साधारण बातचीत को सनसनीखेज तरीके से पेश करने की नाकाम कोशिश है ये।जैन मुनि तरुण सागर ने कहा है-जो जिंदा है,उसी की निंदा है..सो उपेन्द्र जी की तरक्की से जलने वालों ,खुद मेहनत करके उन जैसा बन के दिखाओं…..

    Reply
  • Sujit Thamke says:

    YASHWANTJI MAINE BHI 12th CLASS SE KALAM CHALAI HAI.LAGBHAG 10 YEARS SE KALAM CHALAA RAHA HU.KAI CHANNELS ME KAAM KIYA HAI LEKIN UPENDRA ROY KE PHONO CONVERSATION SE KAHI PE BHI LAGTAA NAHI KI VO 2-G SPECTRUM KE LIYE SUPER DALAL RADIA SE BAAT KAR RAHE….MAI KOI UPENDRA ROY KAA CHAMCHA NAHI NAA HI MAI UNSE PERSONALLY KABHI MILAA HU.LEKIN AUDIO TAPE KE CONVERSATIONS SE LAGTAA NAHI KI UPENDRA JI KAA KOI LINK HAI

    Reply
  • adarniya Upendra rai ji par ki ja rahi tipaddiyan sudra mansikta ki duyotak hai tipadiyan karne wale irshalu aur kunthit mansikta ke dhani logo ko ek muft mein salah dena chata hu ki yah ghatiyayi ka karekkram bandh kar apne gireban main jhake upendra rai ji ka tum log kuch bhi nahi bigad paoge
    Upendra ji ko dher sarri badhaiyan iss baat ke liye ki wah hathi ki bhatien chale jarahe hai aur tum log kutto ki bhati bhuk rahe ho
    ant mein manniya sahara shree ji jaise parkhi ko kotishah dhanyawad aur salutee iss baat ke liye ki upendra ji jaise hire ko unki atiyendari ne koyle ki kahdan se talshh kar sanstha hit maein kahda kar diya jiski chamak se sabhi gadhe type ke aukarmadhiya sajjan halkan aur preshan hai
    jara idher bhi dhyan de upendra rai kumhad batiya nahi
    upanyas samrahat munssi premchadra ne likha hai ki adhikar aur badnami ka choli daman ka sath hai issliye upendra rai ke upper ki jarahi tipadiyan savabhavik lagti hai vaise upendra rai ji ek sache insan aur patrakar hai.[b][/b][i][/i]

    Reply
  • लगता है कि सारे कमेंट उपेन्द्र राय के लोगों से जानबूझ कर लिखवाये गए हैं , कहीं उनकी और प्रदीप राय की टीम तो नहीं सफाई लिख कर पोस्ट कर रही है …वैसे ये लोग पाक -साफ तो हैं नहीं…लेकिन कौन कौन कहां कहां झांके ….

    Reply
  • Saale sab chor hain. Sahara to wainse bhi chor com. hai. Jiska naam kahin bhi aa jata hai, oh kahin na kahin involve hota hai.

    Reply
  • jo field me kaam karne waale patrkaar hain jo jaante hain ki is tape aisa kucch nahi jis pe ucchla jaaye… kawwa kaan legaya ki tarah shor machaane waalo ki kami nahi is desh me. apni story ke liye kisi se baat krna, rapport banaana zaroori hota hai.. Upendar Rai ne kuch galat nahi kia.. patrkaar bandhu jaante hain ki kisi story ke liye field me kya kya papad belne belne padte hain..

    Reply
  • Sriniwas Pant says:

    Neera Radia aur Upendra Rai k beech hui baat chit se ek baat so saaf ho jati hai ki itni kam umra me itne bade mukam par pahuch kar bhi Upendraji ne apni jameen nahi chodi aur bada khush kishmat hoga waha ka staff jinko aisa boss mila jo swayam story k liye samagri juta raha hai. Jahir hai wo khabar hit hogi hi hogi jiska accha home work kiya gaya hoga. Kaasssssss!!!!! mai bhi Rai sahab ki team ka hissa hota to bahut kuch seekhta………
    Sriniwas Pant
    Dehradun

    Reply

Leave a Reply to patrakar Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *