14 जनवरी को लखनऊ से लांच होगा कैनविज टाइम्‍स

लखनऊ से साप्‍ता‍हिक के रूप में प्रकाशित हो रहा कैनविज टाइम्‍स नए साल पर लोगों के पास दैनिक के रूप में भी पहुंच जाएगा. दैनिक अखबार की लांचिंग मक्रर संक्रांति के दिन चौदह जनवरी को तय की गई है. अखबार की लांचिंग वरिष्‍ठ पत्रकार प्रभात रंजन दीन के नेतृत्‍व में होगी, जो इस अखबार समूह के प्रधान संपादक हैं. बताया जा रहा है कि अखबार के लिए पत्रकारों की पूरी टीम तैयार कर ली गई है.

ईटीवी उर्दू पर ”इलेक्‍शन न्‍यूज लाइन” तय करते दिखेंगे संतोष भारतीय

देश के जाने-माने वरिष्‍ठ पत्रकार और 'चौथी दुनिया' हिंदी-उर्दू साप्ताहिक अखबारों के प्रधान संपादक संतोष भारतीय एक बार फिर टीवी पर नए अवतार में आने वाले हैं. देश की राजनीतिक रग पर जबर्दस्‍त पकड़ रखने वाले संतोष भारतीय इस बार ईटीवी उर्दू पर लेकर आ रहे हैं 'इलेक्‍शन न्‍यूज लाइन', इसके जरिए वे पांच राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनावों में नेताओं की हालत और जनता के मन की थाह लेंगे. 

नक्षत्र से जुड़े पंकज प्रसून

रांची से खुलने वाले नये चैनल नक्षत्र न्यूज से सीनियर लोगों के जुड़ने का सिलसिला जारी है। देश लाइव रांची को अलविदा कह पंकज प्रसून ने नक्षत्र ज्वाइन किया है। वे यहां सीनियर प्रोड्यूसर और एंकर होंगे। पंकज प्रसून देश लाइव में जुड़ने से पहले मुंबई से चलने वाले बॉलीवुड चैलन ज़ूम में असिस्टेंट प्रोड्यूसर …

मीडिया में सबकुछ अच्‍छा होने में वक्‍त लगेगा : एनके सिंह

: मीडिया के चौथा स्‍तम्‍भ होने के वहम में खुद को रखते हैं पत्रकार – उर्मिलेश : वर्धा : महात्मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय, वर्धा में सामाजिक विज्ञान अधिवेशन के चौथे दिन संचार एवं मीडिया अध्ययन केंद्र की ओर से राष्‍ट्रीय परिसंवाद का आयोजन किया गया। परिसंवाद के विषय ‘मीडिया राजसत्ता और उत्तरदायित्व’ विषय पर बोलने के लिए देश के प्रमुख मीडिया हस्तियों को आमंत्रित किया गया, जिसकी अध्यक्षता प्रेस परिषद के सदस्य शीतला सिंह ने की।

भाजपा-कांग्रेस के पास खोने को कुछ नहीं, घाटे में रहेगी बसपा

प्रदेश में आखिरी चुनाव 2009 में पार्लियामेंट के लिए हुआ। कांग्रेस बिजनौर, मेरठ, बुलन्दशहर व सहारनपुर में चौथे स्थान पर रही। गाजियाबाद में यह राजनाथ सिंह से सीधे मुकाबले में दूसरे नम्बर पर रही। यहाँ राजनाथ सिंह को हराने के लिए सपा ने कांग्रेस को समर्थन कर दिया था। लोक सभा चुनावों में भी सोनिया गाँधी व राहुल गाँधी स्टार प्रचारकों में थे, परन्तु कोई प्रभाव मतदाता पर नहीं छोड़ पाये। मुस्लिम मतदाताओं की धारणा है कि भाजपा को तीसरे नम्बर पर स्थापित करने का कार्य सपा ने ही किया हैं।

दीपराज राणा को दिया जाएगा ‘कैलाश गौतम गौरव सम्मान’

: ठिठोली-2012 इस बार 17 मार्च को, जुटेंगे नामचीन कवि : इलाहाबाद। आसरा फाउंडेशन द्वारा आयोजित होने वार्षिक आयोजन ठिठोली-2012 कार्यक्रम की रूपेरखा तय कर ली गई है। जनकवि कैलाश गौतम की याद में प्रत्येक वर्ष होली के अवसर पर होने वाले ठिठोली का आयोजन इस बार 17 मार्च को प्रीतमनगर में किया जाएगा। आयोजन में ‘कैलाश गौतम गौरव सम्मान-2012’ इस बार शहर से निकलकर मुंबई की क्षितिज पर पूरे बालीवुड में इलाहाबाद का नाम रौशन करने वाले कलाकार दीपराज राणा को दिया जाएगा। इसका निर्णय प्रीतम नगर स्थित आर पी मेमोरियल स्कूल में शनिवार को हुई बैठक में लिया जाएगा।

गालिब का व्यक्तित्व ‘भारत रत्न’ से बड़ा : यश मालवीय

: ग़ालिब को भारत रत्न दिए जाने के विषय पर बैठक : इलाहाबाद। साहित्यिक पत्रिका ‘गुफ्तगू’ के तत्वावधान में हरवारा, धूमनगंज में बैठक आयोजित की गई, जिसमें मशहूर शायर मिर्ज़ा गालिब को ‘भारत रत्न’ पुरस्कार दिए जाने की मांग पर चर्चा की गई। एहराम इस्लाम ने कहा कि पूरी दुनिया मिर्जा गालिब की शायरी की कायल है, उर्दू अदब के नाक हैं गालिब, इसलिए यदि उनको भारत रत्न एवार्ड दिया जाता है तो यह हम सभी के लिए हर्ष का विषय होगा। उन्होंने यह भी जोड़ा कि मुझे लगता है कि यदि भारत सरकार ऐसा निर्णय लेती है तो इसका कोई विरोध भी नहीं करेगा।

यूपी का घमासान : राहुल के कांधे पर कांग्रेस, माया की राह में अपने कांटे

बाइस सालों से यूपी की सत्ता से बाहर कांग्रेस को फिर से सत्ता में लाने के लिये कांग्रेस के युवराज उत्तर प्रदेश की खाक छानने में लगे है। कांग्रेस ने मिशन यूपी को कामयाब बनाने के लिये चुनाव से ठीक पहले मुसलमानों को अरक्षण का दांव खेला है, वहीं पिछडे़ मतदाताओं को भी पार्टी में जोड़ने के लिये भारी संख्या में टिकट बांटे हैं। जबकि सपा के युवराज पर अपनी प्रतिष्ठा बचाने का दबाव है। सपा को अपने कुछ नेताओं की कमी इस चुनाव में जरूर खल रही है। भाजपा ने अपने पुराने चेहरों पर ही दांव लगया है। मायावती सोशल इंजीनियरिग के भरोसे फिर से सरकार बनाना चाहती हैं, बसपा की चुनावी डगर में अपने ही पार्टी के नेता ही रोड़ा बनने लगे हैं।

चित्रा मुद्गल को रूस का अंतरराष्ट्रीय पूश्किन सम्मान

मास्को। मानवीय सरोकारों की पैरोकार हिन्दी की जानी-मानी लेखिका चित्रा मुदगल को रूस का अंतरराष्ट्रीय पूश्किन सम्मान-2009 दिए जाने की घोषणा की गई है।  रूस के 'भारत मित्र समाज' की ओर से प्रतिवर्ष हिन्दी के एक प्रसिद्ध लेखक-कवि को मास्को में हिन्दी-साहित्य का यह महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय सम्मान दिया जाता है। इस क्रम में समकालीन भारतीय लेखकों  में अपना विशिष्ट स्थान रखने वाली और कथा-लेखन के प्रति विशेष रूप से समर्पित चित्रा मुदगल को जल्द ही यह सम्मान मास्को में आयोजित होने वाले गरिमापूर्ण कार्यक्रम में दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पहली बार यह सम्मान किसी महिला लेखिका को मिला है।

कुशीनगर में अपने ही सहयोगी को पीटा जागरणकर्मियों ने

: प्रबंधन के पूछे जाने पर सभी ने मारपीट की घटना से किया इनकार : कुशीनगर से खबर है कि शैलेंद्र मणि के जागरण छोड़ने के बाद जिलों में जारी तनाव के बीच संपादकीय कर्मचारियों ने अपने ही एक सर्कुलेशन कर्मी को पीट दिया. जैसा कि बताया जा चुका है कि कुशीनगर का पूरा स्‍टाफ जनसंदेश टाइम्‍स में जाने को तैयार बैठा है. इस सूचना के बाद से ही प्रबंधन सतर्क है. मैनेमेंट ने अफवाह और सत्‍य दोनों के बीच अंतर करने के लिए सर्कुलेशन के अपने एक खास व्‍यक्ति विनीत गुप्‍ता को कार्यालय में जासूसी करने का काम सौंप दिया था.

बिहार-झारखंड में पांव पसारेगा नक्षत्र न्‍यूज, नए साल पर होगी लांचिंग

उड़ीसा से चलने वाला उड़िया न्यूज चैनल नक्षत्र न्यूज अब हिंदी भाषी राज्यों में अपने पांव फैलाने की तैयारी में लगा है। एन.के.मीडिया ने अपने इस महात्वाकांक्षी प्रोजेक्ट के लिये दीपक अम्बष्‍ट और रजत गुप्ता जैसे पुराने धुरंधरों को अपनी टीम के साथ जोड़ा है। नक्षत्र हिंदी केबल के साथ-साथ तमाम डीटीएच प्लेटफार्म पर भी देखा जा सकेगा। एचडी टेक्नोलॉजी और डीटीएच के साथ यह झारखंड से चलने वाला अकेला न्यूज चैलन होगा। अपने पहले फेज में नक्षत्र हिंदी बिहार, झारखंड और उड़ीसा में जनवरी के आखिरी हफ्ते से दिखना शुरू हो जायेगा, फिर इसके बाद हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश में इसके विस्तार की योजना है।

शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने दैनिक जागरण से इस्‍तीफा दिया

दैनिक जागरण, गोरखपुर से खबर है कि शैलेंद्र मणि त्रिपाठी ने अखबार को अलविदा कह दिया है. 25 सालों से लगातार जागरण को अपनी सेवाएं दे रहे शैलेंद्रमणि ने भरे मन से जागरण को अलविदा कहा. शैलेंद्र मणि पिछले चौदह सालों से गोरखपुर में जागरण का नेतृत्‍व कर रहे थे. सन 97 में यूनिट हेड प्रकाशक, मुद्रक एवं संपादकीय प्रभारी बनने के बाद उन्‍होंने अखबार को उंचाइयों पर पहुंचाया था. खबर है कि शैलेंद्र मणि के इस्‍तीफे के बाद जागरण में हड़कम्‍प मचा हुआ है. 

”भूमाफिया पत्रकार स्वतंत्र मिश्रा के खिलाफ गैंगेस्टर के तहत कार्यवाही के संबंध में”

सेवा में, माननीया मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश शासन, लखनऊ। विषय- भूमाफिया पत्रकार स्वतंत्र मिश्रा के खिलाफ गैंगेस्टर के तहत कार्यवाही के सम्बन्ध में। महोदय, निवेदन है कि नरेन्द्रनगर कोआपरेटिव हाउसिंग सोसाईटी लि0, लखनऊ को एल0डी0ए0 द्वारा 51 भूखण्ड कपूरथला स्थित सेक्टर-एफ अलीगंज में आवंटित एवं निबंधित है। एक पूर्व सचिव कुँवर सिंह द्वारा वर्ष 2002 में उक्त भूखण्डों में से बी-1/8, बी-1/9, बी-1/10 (सभी 3803 वर्गफीट) रजिस्ट्रयां कर दी गयी थीं। इनके विरूद्ध मध्यस्थ न्यायालय द्वारा दिये गये निर्णय वर्ष 2004 पर पीड़ित पक्षों द्वारा उक्त समिति के विरूद्ध अपीलें दायर की गयी जो आज भी उ0प्र0 सहकारी ट्रिब्यूनल में विचाराधीन है।

प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट सूरतसिंह शेखावत का निधन

झुंझुनूं। कार्टूनिस्ट सूरत सिंह शेखावत का 87 साल की उम्र में गुरुवार रात करीब 9 बजे हृदय गति रुकने से राजस्थान के झुंझुंनू जिले के झेरली गांव में निधन हो गया। उनका दाह संस्कार शुक्रवार को उनके पैतृक गांव झेरली में ही किया गया। उनके दाह संस्कार में विधायक सुन्दरलाल सहित सहित सभी पार्टियों के कई प्रमुख राजनीतिज्ञों और उनके चाहने वाले क्षेत्र के हजारों लोगों ने शामिल होकर उन्हें अन्तिम विदाई दी।

बनारस में हिंदुस्‍तान की कमर तोड़ने की तैयारी में जनसंदेश टाइम्‍स, कई के जुड़ने की खबर

जनसंदेश टाइम्‍स, बनारस हिंदुस्‍तान की कमर तोड़ने की तैयारी कर रहा है. जिस तरह से गोरखपुर में दैनिक जागरण के हालात हैं ठीक वैसा ही हालात बनारस में हिंदुस्‍तान का हो गया है. खबर है कि हिंदुस्‍तान से एक दर्जन से ज्‍यादा लोग जनसंदेश ज्‍वाइन करने वाले हैं. सूत्रों का कहना है कि इन लोगों का चयन हो गया है बस ज्‍वाइनिंग लेटर मिलना बाकी है. इन खबरों के बाद से हिंदुस्‍तान प्रबंधन के होश उड़े हुए हैं.

साल जाते-जाते यशवंत पर दो और लोग लगा गए आरोप

यशवंत न हुए गांव के भौजाई हो गए. जो आए, आंख मारे, छेड़े, और आगे बढ़ ले. पर ठीक भी है. दूसरे बेइमान छेड़े जाने के लिए मिलते कहां हैं. और हम हैं कि छेड़वा छेड़वा के मुग्ध हुए जा रहे हैं. पर इस प्रक्रिया ने सचमुच मुझे अंदर से बदल दिया है. खुद के खिलाफ छापने का तर्क जबसे ढूंढा है तबसे तगड़े से तगड़ा अपने खिलाफ पत्र छाप दे रहा हूं. और इस प्रक्रिया ने मेरे अंदर भयंकर बदलाव ला दिया है. सच में, मान अपमान से परे होने लगा हूं. बहुत हरामी आदमी भी मान-अपमान से परे हो जाता है और संत किस्म का आदमी भी मान-अपमान से उपर उठ जाता है.

कांग्रेस के हसीन सपने

जब संसद में अल्पसंख्यकों को आरक्षण देने का बिल पेश हो रहा था, तो दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के चुनाव प्रबंधक अपनी जीत की रणनीति बनाने में जुटे थे। अल्पसंख्यकों को आरक्षण देकर कांग्रेस कितने वोट ‘उगाह’ पाएगी, अभी कहना मुश्किल है, लेकिन कांग्रेस के ‘चुनाव प्रबंधकों’ का दावा है कि कांग्रेस यूपी में सरकार बनाने जा रही है, जबकि राजनीतिक विश्लेषक इसे ‘मुंगेरीलाल के हसीन सपने’ जैसा करार देते हैं।

लोकपाल मुद्दे पर मीडिया की मंथरा टाइप चुगलखोरी वाली पत्रकारिता

लोकपाल लटक गया. काँग्रेस भाजपा को दोष दे रही है, भाजपा सरकार को कोस रही है, ममता भी नाराज़ हैं, लालू के लोग बिल फाड़ रहे हैं तो मुलायम के लोग हल्ला कर रहे हैं कि लोकपाल कमज़ोर है. कोई अन्ना को असफल बता कर खुश है तो कोई संसद को सर्वोपरि साबित करने में व्यस्त है, नेता बयानबाज़ी में मस्त हैं और जनता भ्रष्टाचार और कालाबाज़ारी से त्रस्त है. पता नही इस आठ नौ माह की मशक्कत में किसको क्या मिला मगर लोकपाल के लिये की गई मेहनत, जन आंदोलन और संसद में अचानक हुये गर्भपात का घिनौना सच सबने देखा.

सौ से ज्यादा विधायक और दर्जनभर से ज्यादा सांसद नक्सलियों के मददगार!

नक्सल प्रभावित इलाकों के अधिकतर विधायक और सांसद इस बात से हैरान-परेशान हैं कि उन्हें केंद्र के ‘इंटीग्रेटेड एक्शन प्लान’ से दूर रखा जा रहा है। उनका तर्क है कि विधायक और सांसद स्थानीय स्तर की सभी समस्याओं को जानते हैं, लोगों को पहचानते हैं और सबसे बड़ी बात कि स्थानीय भूगोल की अच्छी समझ भी रखते हैं, उन्हीं लोगों के बीच से चुनकर भी आते हैं। तब क्या कारण है कि केंद्र की विकास योजनाओं में उन्हें पूछा तक नहीं जा रहा?

गिरफ्तार हुआ पत्रकार पर पिस्‍तौल तानने वाला डाक्‍टर

: कोर्ट ने 14 दिन के न्‍यायिक हिरासत में भेजा : अंबाला : दैनिक भास्‍कर के पत्रकार सनमीत सिंह से मारपीट करने तथा उस पर पिस्तौल तानने के आरोपी डाक्टर अरुण दलाल को पुलिस ने आखिरकार घटना की पांचवीं रात गिरफ्तार किया। पुलिस ने उसे ड्यूटी मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया। कोर्ट ने आरोपी डाक्टर को 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में भेज दिया, जबकि उसकी जमानत याचिका पर सुनवाई शनिवार को निर्धारित की है।

दैनिक जागरण, गोरखपुर : ‘अरबी बसंत’ की आस अधूरी

: कानाफूसी : संपादकीय विभाग के कर्मियों से हो रही है खूब बदतमीजी : घुटन में जी रहे जागरण के स्थापना काल से जुड़े पत्रकार : सूचनाएं मिलने के बाद भी चुप है कंपनी का शीर्ष प्रबंधन : अरब देशों के क्रूर तानाशाहों की करतूतें जब जब हद से गुजरने लगी तब लोगों ने मौत को हथेली पर लेकर जनविद्रोह किया। नतीजा हुआ कि तीन अरब देशों में तानाशाहों को अपने तख्त-ओ-ताज छोड़ना पड़ा। यह सब इसीलिए हुआ कि वहां के लोगों ने निर्भीक होकर क्रूर तानाशाहों से लड़ने की हिम्मत जुटाई। अरब के लोगों की इस सफलता को ‘अरबी बसंत’ का नाम दिया गया।

मेरे खिलाफ वही लाबी है जो स्वतंत्र मिश्र के खिलाफ लगी रही : पंकज दीक्षित

: भड़ास4मीडिया ने मेरे इस्तीफे की गलत खबर प्रकाशित की है : प्रिय यशवंत जी, मैं ये बिलकुल नहीं कहूँगा कि आपने मेरे कार्यमुक्त होने की खबर क्यूँ लगायी, क्यूंकि खबर लगाना किसी भी पत्रकार और संपादक का अधिकार का होता है। एक बात और मेरे सहारा से कार्यमुक्त होने या नहीं होने की खबर से भी मुझ पर कुछ ख़ास फर्क नहीं पड़ता, क्यूंकि मेरी पहचान अपने इलाके में एक सनकी एवं कठोरतम पत्रकार पंकज दीक्षित से है, न कि किसी बैनर से। फिर भी आपके भड़ास के शुरुआती दिनों से जुड़ा होने के कारण अधिकार पूर्वक कहने का हक रखता हूँ, इसलिए कमेन्ट न लिख आपको मेल कर रहा हूँ।

गाजियाबाद में पेड न्‍यूज हो तो राम बहादुर राय से शिकायत करें

विधानसभा चुनाव के दौरान चुनाव आयोग की नजर प्रत्याशियों की प्रत्येक गतिविधि पर रहेगी। यदि किसी प्रत्याशी के खिलाफ आचार संहिता का उल्लंघन करने की शिकायत मिली तो आयोग का उड़न दस्ता तुरंत छापा मारेगा और कार्रवाई करेगा। इस बार प्रत्याशियों को नामांकन से पूर्व बैंक में खाता भी खोलना होगा और चुनाव में उसी से धन निकालकर खर्च करना होगा। पेड न्‍यूज पर भी प्रशासन की नजर रहेगी। इसमें दो अधिकारियों समेत दो पत्रकारों को भी रखा गया है।

सपा ने कहा मीडिया भी आए लोकपाल के दायरे में

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि मीडिया को भी लोकपाल के दायरे में आना चाहिए। उन्होंने राज्यसभा में बहस के दौरान सभी सांसदों से कहा कि इस विषय में लाए उनके संशोधन का समर्थन करें। भ्रष्टाचार का मामला कोर्ट में चलने के दौरान होने वाला मीडिया ट्रायल गलत है और इस पर अंकुश तभी लग सकता है, जब मीडिया को लोकपाल के दायरे में लाया जाए।

सहारा प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों से मांगा जमीन-जायदाद का ब्‍योरा

: भू-माफिया टाइप पत्रकारों में हड़कंप : सहारा मीडिया से खबर है कि प्रबंधन ने अपने कर्मचारियों से जमीन-जायदाद का ब्‍योरा मांगा है. इसको लेकर सहारा मीडिया में दो तरह की चर्चाएं हो रही हैं. बताया जा रहा है कि प्रबंधन ने इसलिए जमीन का ब्‍योरा मांगा है ताकि पता किया जा सके कि सहारा मीडिया की आड़ में खेल करके तो नहीं जमीन-जायदाद बनाया जा रहा है या बनाया गया है. दूसरी तरफ ऐसी भी खबरें हैं कि सहारा प्रबंधन अपने पत्रकारों की जमीन ही हड़पने की फिराक में है. हालांकि इस खबर में उतना दम नहीं दिख रहा जितनी पहली खबर में है.

दुष्‍यंत कुमार लोकतंत्र के बड़े एवं उम्‍मीदों के कवि थे

: पुण्‍यतिथि पर याद किए गए दुष्‍यंत कुमार : उदयपुर। दुष्यंत कुमार लोकतंत्र के बड़े एवं उम्मीदों के कवि थे। लोकतंत्र में उम्मीद एवं ना उम्मीद दोनों भाव होते हैं पर दुष्यंत कुमार नाउम्मीदी के बीच उम्मीद के कवि-शायर थे। दुष्यंत की शायरी बर्फानी झील में रोशनी और उष्मा देने वाली रही है। ये विचार प्रो. नंद चतुर्वेदी ने कवि-शायर दुष्यंत कुमार की पुण्यतिथि पर आयोजित स्मरणांजलि कार्यक्रम में व्यक्त किए। कार्यक्रम का आयोजन प्रसंग संस्थान एवं वर्धमान महावीर कोटा खुला विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में किया गया।

कांपैक्‍ट, बरेली से इस्‍तीफा देने वाले अविनाश, आशीष, अशोक एवं निधि जागरण से जुड़े

: अभय प्रभात खबर पहुंचे : खबर है कि अमर उजाला के शिशु अखबार कांपैक्ट से न्यूज एडिटर आलोक समेत इस्‍तीफा देने वाले पांच पत्रकारों में से चार ने अपनी नई पारी शुरू कर दी है. आलोक ने अभी कहीं ज्‍वाइन नहीं किया है. अन्‍य चारों ने बरेली में ही जागरण ग्रुप के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. अविनाश चौबे, आशीष सक्‍सेना और अशोक आर्या ने दैनिक जागरण ज्‍वाइन किया है, जबकि निधि गुप्‍ता को आई नेक्‍स्‍ट में काम मिला है. सभी सब एडिटर बनाया गया है.

हिंदीभाषी समाचार पत्रों ने सबको पीछे छोड़ा

नई दिल्ली। देश का प्रिंट मीडिया उद्योग लगातार विकास के पथ पर अग्रसर है और पिछले वित्त वर्ष की तुलना में चालू वित्त वर्ष में इसमें 6.25 प्रतिशत की बढ़ोतरी इस बात का पुख्ता सबूत है। देश में प्रेस की स्थिति के संबंध में जारी 55वीं वार्षिक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि प्रिंट मीडिया दिनोंदिन तरक्की कर रहा है। रिपोर्ट के अनुसार समाचारपत्रों के प्रकाशन के मामले में हिन्दी सभी भाषाओं पर भारी है।

पत्रकार दीनबंधु, विशाल एवं मृगांक सम्‍मानित किए गए

पटना। आज के युवा दूसरे के बनाए रास्ते पर नहीं चलना चाहते। वह घिसे-पिटे लीक से हटकर कुछ नया करना चाहते हैं। एक ऐसे ही युवा है दीनबंधु सिंह, जो पेशे से पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता हैं। आज जब हमारा युवा वर्ग लैपटॉप और मोबाइल के पीछे भाग रहा है, तब वह गांवों में पुस्तकालय खोलकर ज्ञान का अलख जगा रहे हैं। देश-दुनिया की घटनाओं से महरूम रहने वाले गांव के लोगों को इससे रूबरू करा रहे हैं।

बीबीसी के विवादित एंकर ने उड़ाया भारत का मजाक

लंदन : ब्रिटेन में हड़ताल करने वाले सरकारी कर्मचारियों को उनके परिजन के सामने खड़ा करके गोली मारने जैसी अजीबो-गरीब टिप्‍पणी करने वाले बीबीसी के प्रस्तोता जेरमी क्लार्कसन इस बार भारतीय संस्कृति का मजाक उड़ाकर नस्लीय भेदभाव के आरोपों से घिर गए हैं। डेली मेल में प्रकाशित खबर के मुताबिक क्लार्कसन ने बीबीसी पर क्रिसमस के मौके पर प्रसारित विशेष कार्यक्रम टॉप गियर में भारतीय रेल, शौचालयों, कपड़ों, भोजन और इतिहास का मजाक उड़ाया था।

माया ने चार और मंत्रियों को बाहर निकाला, टिकट भी काटे

लखनऊ: यूपी की मुख्यमंत्री मायावती ने एक बार फिर अपने चार और मंत्रियों के हटा दिया है. शुक्रवार को वन मंत्री फतेह बहादुर सिंह (पनियारा महाराजगंज), प्राविधिक शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सदल प्रसाद (बांसगांव-गोरखपुर), अल्पसंख्यक कल्याण एवं हज राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनीस अहमद खां उर्फ फूल बाबू (बीसलपुर-पीलीभीत) तथा मुस्लिम वक्फ राज्य मंत्री शहजिल इस्लाम अंसारी (भोजीपुरा-बरेली) को बर्खास्त करते हुए चारों की आगामी विधान सभा चुनाव के लिए पार्टी उम्मीदवारी समाप्त कर दी है.

आशीष त्रिपाठी एवं भाटिया को मिला एचटी एक्‍सीलेंसी अवार्ड

हिंदुस्‍तान प्रेस, मुरादाबाद में सिटी चीफ आशीष त्रिपाठी और सीनियर रिपोर्टर भाटिया जी को एचटी एक्‍सीलेंसी अवार्ड मिला है. यह आवार्ड इन लोगों के बेहतरीन कार्य को देखते हुए दिया गया है. अवार्ड के साथ सर्टिफिकेट तथा 15 हजार रुपये भी प्रदान किए गए. अवार्ड मिलने पर तमाम लोगों ने इन दोनों को बधाई दी …

यूपी के मंत्री ददन मिश्र ने ‘नैतिकता’ के चलते इस्‍तीफा दिया

लखनऊ। यूपी में चल रहे मंत्री बर्खास्‍त करों मौसम में आयुर्वेद चिकित्सा राज्य मंत्री ददन मिश्र ने 'नैतिकता' के आधार पर मायावती मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है। साढ़े चार से ज्‍यादा समय तक नैतिकता को खूंटी पर टांगने वाले मिश्र ने कहा कि पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगने के बाद मैंने नैतिकता के आधार पर मुख्यमंत्री मायावती को मंत्री पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया है, लेकिन पार्टी के लिए पूरी निष्ठा से काम करता रहूंगा।

पाकिस्‍तानी पत्रकार को सेना ने दी धमकी

दिल्ली। लोकतंत्र में सेना की भूमिका का लगातार विरोध करने वाले वरिष्ठ पाकिस्तानी पत्रकार नजम सेठी ने अपने टीवी टॉक शो में खुलासा किया है कि उन्हें लगातार धमकी मिल रही है। उनका इशारा सेना की ओर था। नजम सेठी मानते हैं कि पाकिस्तानी जनता को झूठी जानकारी दी जाती है। पाकिस्तान 71 की जंग में बुरी तरह हारा था। 1965 और कारिगल की जंग में भी उसकी हार हुई थी। इसकी सारी जिम्मेदारी सेना की है। जबकि पाकिस्तान के लोगों को बरगलाया जाता है कि 65 की जंग में पाकिस्तान जीता था।

आखिरी दांव की ओर मुलायम के कदम

दांव तो सिर्फ दांव ही होता है जिसका इस्तेमाल हर मौके पर किया जा सकता है, लेकिन राजनीति में चलता है सबसे अधिक आखिरी दांव। जिसे हर नेता अपने आप को सत्तासीन होने की गरज से बार-बार ऐसे ही दांव चलने का सिगूफा छोड़ता है, जिसमें कुछ कामयाब होते हैं, कुछ नाकामयाबी का दंश झेल करके आगे-पीछे होते रहते हैं। साल 2012 के उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव की तिथि का ऐलान कर दिया गया है।

आरटीआई एक्टिविस्ट के मर्डर के लिए पुलिस कप्तान भी कम दोषी नहीं

बेखौफ अपराधियों ने 8 दिसंबर को लखीसराय जिले के बभनगांवा गांव में आरटीआई कार्यकर्ता रामविलास सिंह की गोली मारकर हत्या कर दिया था। मृतक श्री सिंह सूचना के अधिकार को लेकर जिले के आला अधिकारियों से लेकर दंबग जन प्रतिनिधियों के आंखों की किरकिरी बन गये थे। हत्या को एक महीना पूरा होने को है, फिर भी नामजद अभियुक्तों में से सिर्फ एक की गिरफ्तारी कर पुलिस अपना दामन बचाने में लगी रही।

जीएनएस गुजरात डॉट कॉम वेबसाइट लांच, कई वरिष्‍ठ पत्रकार जुड़े

गुजरात से खबर है कि वहां के कई सीनियर पत्रकारों ने एक साथ मिलकर जीएनएसगुजरात डॉट कॉम (www.gnsgujarat.com) नाम की एक वेबसाइट लांच की है. इस वेबसाइट के जरिए टीम की योजना पाठकों तक रीयल टाइम न्‍यूज, ब्रेकिंग न्‍यूज एवं दुनिया भर की खबरें पहुंचाने की है. इसका कार्यालय अहमदाबाद में खोला गया है.

सुनील कौशिक एवं चंद्रभूषण अमर भारती से जुड़े, महेंद्र का तबादला

खबर है कि सुनील कौशिक को दैनिक अमर भारती के आगरा संस्करण का समाचार संपादक और चंद्रभूषण दीक्षित को कार्यालय का प्रभारी नियुक्त किया गया है। इसके अलावा अमर भारती के आगरा संस्करण से कुछ और लोगों के जुड़ने की भी खबर है। कौशिक इससे पहले डीएलए फिरोजाबाद और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में चौथी दुनिया में बतौर प्रबंध संपादक के रूप अपनी सेवाएं दे चुके हैं। जबकि चंद्रभूषण दीक्षित चैनल वन में असाइन्मेंट डेस्क पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं। बाद में उन्होंने दैनिक अमर भारती के राष्ट्रीय संस्करण, दिल्ली कार्यालय में प्रभारी पद पर कार्य किया। इसके बाद उन्हें अमर भारती के आगरा संस्करण का कार्यालय प्रभारी नियुक्त किया गया।

पंकज सहारा समय से कार्यमुक्‍त, दीप्ति की नई पारी

सहारा समय, फर्रुखाबाद से खबर है कि संवाददाता पंकज दीक्षित को प्रबंधन ने न्‍यूज भेजने और कवरेज करने से मना कर दिया है. प्रबंधन ने कुछ समय पहले ही जिला संवाददाता अजय अवस्‍थी के स्‍थान पर पंकज को नियुक्‍त किया था. पंकज पर कुछ आरोप लगे थे, जिसकी जांच के बाद उन्‍हें खबर भेजने से मना कर दिया गया है. खबर है कि उनके सहारा समय की आईडी भी वापस ले ली गई है. पंकज दीक्षित ने भड़ास4मीडिया से बातचीत में ऐसी किसी बात से इनकार किया है.

पत्रकारिता के क्षेत्र में योगदान के लिए सन्‍मार्ग के संपादक हरिराम पांडेय सम्‍मानित

कोलकाता : उत्तर चौबीस परगना के खड़दह स्थित रवीन्द्र भवन में टीटागढ़ डॉ. भीमराव अम्बेडकर शिक्षा निकेतन की ओर से विगत वर्ष की तरह इस वर्ष भी सांस्कृतिक कार्यक्रम व सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर राज्य के वित्त मंत्री अमित मित्रा ने सन्मार्ग के सम्पादक हरिराम पांडेय को भीमराव अंबेकर आउटस्टैंडिग जर्नलिस्ट ऑफ दि इयर 2011 अवार्ड से सम्मानित किया।

क्या ‘गीता’ वाकई अतिवादी विचारों का ग्रंथ है?

गीता में है क्या? क्या इसमें असहिष्णुता की हिमायत की गयी है? क्या इसमें धार्मिक भेदभाव की गुंजाइश है? गीता को अपने-अपने ढंग से समझने की तमाम लोगों ने कोशिश की है। किसी ने इसे ज्ञान का ग्रंथ कहा तो किसी ने जीवन में स्वतंत्रता के मूल्यों के लिए संघर्ष का? मैंने भी इसे समझने की कोशिश की, अभी भी कर रहा हूं। कहते हैं यह कृष्ण के उपदेश हैं पर कृष्ण के पास उस समय इतने लंबे उपदेश का वक्त कहाँ था, जब दोनों पक्षों की सेनाएं आमने-सामने खड़ी थीं और अर्जुन विषादग्रस्तता और हताशा में डूब रहा था।

इंटरनेट की दुनिया में हिंदी वालों के लिए कुछ उपयोगी लिंक

मेल के जरिए कई लोग इंटरनेट की दुनिया में हिंदी के इस्तेमाल को लेकर कई तरह के सवाल रोजाना पूछते रहते हैं. कोई पूछता है कि चाणक्या फांट को यूनीकोड मंगल में कैसे कनवर्ट करें. कोई पूछता है कि हिंदी में कैसे टाइप किया जा सकता है. कोई कहता है कि वह अपने लैपटाप पर फोनेटिक या रेमिंगटन टाइपिंग का टूल किस तरह इंस्टाल कर सकता है. दर्जनों सवाल होते हैं. इनके जवाब नेट पर उपलब्ध है. लेकिन हम लोग खोजना नहीं चाहते. इसी को ध्यान में रखकर इंटरनेट की दुनिया में हिंदी से संबंधित ढेर सारे उपयोगी लिंक यहां भड़ास4मीडिया पर दिए जा रहे हैं. अगर यह पहल आपको अच्छा लगे या आपके मन में कोई अन्य सवाल हो तो उसे नीचे कमेंट बाक्स के जरिए हम तक पहुंचा सकते हैं. -यशवंत, एडिटर, भड़ास4मीडिया

शाहजहांपुर में खुसरो मेल के संवाददाता की गोली मारकर हत्‍या

उत्तर प्रदेश में सरकार अपराध रोकने में नाकाम साबित हो रही है। आम जनता तो परेशान है ही, लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को भी अपराधी बख्श नहीं रहे हैं। पुलिस पत्रकारों पर हो रहे लगातार हमलों को गंभीरता से नहीं ले रही है। इसी का परिणाम है कि यूपी में एक और पत्रकार को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है।

बंद हो सकता है लखनऊ में लोकमत, चेयरमैन बकाया हड़पने के मूड में

कहते हैं कि पूत के पांव पालने में ही नजर आ जाते हैं। ठीक उसी तरह से लखनऊ में लोकमत का भी हाल हुआ है। लखनऊ में संस्करण शुरु करते हुए अपने पहले सम्बोधन में ही लोकमत के चेयरमैन हर्षवर्धन सिंह ने कहा था कि लोकमत में कभी अश्लील विज्ञापन नहीं छापे जाएंगे और समाचार हमेशा स्तरीय होंगे। साथ में उन्होंने यह भी कहा था कि हमे नहीं पता कि हमारा यह समाचार पत्र कितने दिनों चलेगा, हो सकता है कि यह साल भर भी न चले और हो सकता है कि चलता ही रहे।

सहाराकर्मियों की बढ़ती तनख्वाह पर ग्रहण

: कानाफूसी : सहाराकर्मियों का सेलरी इनक्रीमेंट फिर रोक दिया गया है… कई अखबारों में सेलरी बढ़ाने का विज्ञापन देने वाले सहारा ग्रुप में सेलरी इनक्रीमेंट पर फिर ग्रहण लग गया है… इस बार मैनेजमेंट का अलग ही बहाना है… मैनेजमेंट की तरफ से तर्क दिया जा रहा है कि वेतन वृद्धि की प्रक्रिया पैराबैंकिंग के स्टाफ के लिए शुरू की गई थी… लेकिन पैराबैंकिंग डिवीज़न ने अब तक वेतनवृद्धि का चार्ट प्रबंधन को नहीं दिया है और ऐसे में अगर सहारा मीडिया में सेलरी बढ़ा दी जाएगी तो पैराबैंकिंग स्टाफ नाराज़ हो जाएगा… इसलिए सबका वेतन एक महीने बाद एक साथ बढ़ाया जाएगा.

मायावती को जनता से डर लगता है : राहुल गांधी

: भाजपा राम के नाम की दलाली करती है  : शाहजहांपुर : कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा राम नाम की दलाली कर सत्ता में पहुंची थी, जो पार्टी भगवान के नाम को भुनाने में भी नही चूकी वह आम जनता का क्या ध्यान रखेगी, जबकि पिछले बाइस सालों में गैर कांग्रेसी सरकारों के मुखिया माया और मुलायम ने उत्तर प्रदेश में विकास की ओर ध्यान न देकर अपने विकास पर ज्यादा ध्यान दिया। राहुल ने कहा कि बसपा की मुख्यमंत्री मायावती को डर लगता है। एक बार वह उनके दिल्ली के निवास पर गये थे, जहां उनके मकान की दीवारें 40 फीट ऊंची है, जो खुद डरती है वह आप की सुरक्षा क्या करेंगी।

निखिल मौर्य टीवी से जुड़े, मिथिलेश कार्यमुक्‍त

: प्रकाश की नई पारी : इंडिया न्‍यूज बिहार के पॉलिटिकल एडिटर के रूप में कार्यरत निखिल आनंद के बारे में सूचना है कि वे मौर्य टीवी से जुड़ गए हैं. उन्‍हें ब्‍यूरो चीफ बनाया गया है. निखिल पिछले तेरह सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं. इसके पहले वे ईटीवी, सहारा समय और जी न्‍यूज जैसे संस्‍थानों को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

नक्सलियों से हिसाब मांग रहे हैं ये नौनिहाल

भारत के भविष्य कुछ स्कूली बच्चों ने पिछले दिनों छत्तीसगढ़ प्रदेश के सुदूर कांकेर जिले में नक्सलियों के खिलाफ एक रैली निकाली. अद्भुत था वो दृश्य जब छोटे-छोटे बच्चे चिल्ला-चिल्ला कर नक्सलियों से अपने स्कूल के भवन को बमों से उड़ा देने का हिसाब मांग रहे थे. जिले के अंतागढ़ नामक कस्बे में एकत्रित स्कूली छात्र-छात्राओं का यह समूह कुछ दिन पूर्व वहां के ग्राम ‘बोंदानार’ में नक्सलियों द्वारा नव निर्माणाधीन हायर सेकेंडरी स्कूल भवन में बम विस्फोट कर उड़ा देने के विरोध में नारेबाजी कर रहे थे. वे शिक्षा के क्षेत्र में बाधक बन रहे नक्सलियों के खिलाफ बैनर, पोस्टर लेकर दो टुक यह कह रहे थे कि नक्सलियों द्वारा आये दिन स्कूली भवनों का तोड़-फोड निंदनीय है, गलत है.

बहुत बड़े चिरकुट हैं जागरण वाले, पढ़िए खबर और शेम शेम कहिए

भाई साहब, कितने बड़े चिरकुट हैं दैनिक जागरण वाले. खबरों का रोजगार करते-करते अब इंसानियत की भी बनियागिरी करने लग गए हैं. पैसे के लिए कुछ भी करने को तैयार तथा अपने पत्रकारों का शोषण करने वाले इस संस्‍थान में प्रबंधकों की संवेदनाएं मर चुकी हैं. तभी तो दैनिक जागरण के बिलासपुर आफिस में बतौर चपरासी काम करने वाले गोपाल मोहन की 24 दिसम्‍बर को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो जाती है, लेकिन अगले दिन जो खबर अखबार में छपती हैं उसमें उन्‍हें मात्र नगर का निवासी बताया जाता है.

दूज का चांद से चौदहवीं का चांद बन गया हिंदी विवि : नामवर सिंह

: हिंदी विवि के 14वें स्‍थापना दिवस पर हुए विविध कार्यक्रम : वर्धा : महात्‍मा गांधी अंतरराष्‍ट्रीय हिंदी विवि के चौदहवें स्‍थापना दिवस के अवसर पर विवि परिसर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान प्रख्‍यात आलोचक व विवि के कुलाधिपति प्रो. नामवर सिंह ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में विश्‍वविद्यालय के तेजी से हुए विकास को देखकर मेरी छाती दुगुनी हो गई है। इस विकास का श्रेय जाता है कुलपति विभूति नारायण राय को। दूज के चांद को उन्‍होंने चौदहवीं का चांद बना दिया है। अपने कार्यकाल में इसे वे पूर्णिमा का चांद बनायेंगे, ऐसी आशा है। इनका कार्यकाल बढ़ेगा तो विश्‍वविद्यालय की प्रगति शिखर पर पहुंच जाएगी।

आसिफ इकबाल यूपी न्‍यूज से जुड़े, संजीव का तबादला

महुआ न्‍यूज से इस्‍तीफा देने वाले आसिफ इकबाल ने अपनी नई पारी शुरू कर दी है. अ‍ासिफ ने शीघ्र लांच होने जा रहे यूपी न्‍यूज में पॉलिटिकल हेड एवं दिल्‍ली ब्यूरोचीफ के रूप में ज्‍वाइन किया है. आसिफ दिल्‍ली के साथ पूरी यूपी पर नजर रखेंगे. उल्‍लेखनीय है कि एक दिन पहले ही आसिफ ने प्रबंधन से विवाद के बाद महुआ से इस्‍तीफा दे दिया था. वे यहां पर पॉलिटिकल रिपोर्टर थे.

प्रत्‍याशी के साथ घूम रहे पांच असलहाधारी पकड़े गए

गोरखपुर : बांसगांव विधान सभा सीट से राष्ट्रीय महान गणतंत्र पार्टी की उम्मीदवार घोषित की गई जिला पंचायत सदस्य और गगहा थाना क्षेत्र के पूरे गांव निवासी बीना देवी के साथ गुरुवार को घूम रहे असलहाधारियों को पुलिस ने कैंट क्षेत्र में शास्त्री चौराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया। इस संबंध में किसी ने जिलाधिकारी संजय कुमार को सूचना दी थी। बाद में जिलाधिकारी के निर्देश पर असलहाधारी पकड़े गए।

गोरखपुर में प्रशासन ने कहा – पेड न्‍यूज से दूर रहे मीडिया

गोरखपुर : जिला प्रशासन ने विधान सभा चुनाव में मीडिया से सहयोग की अपेक्षा की है। खासतौर से पेड न्यूज को लेकर वार्ता की गई। गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार ने पेड न्यूज को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्देशों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पेड न्यूज पर नजर रखने के लिए तीन सदस्यीय समिति होगी, जो चुनाव से संबंधित सभी खबरों पर नजर रखेगी।

फरजंद अहमद ने कहा – ‘स्‍वैच्छिक खुलासे’ पर जोर दे पंचायती राज विभाग

: आरटीआई के एक मामले की सुनवाई के दौरान कही ये बात : बिहार राज्‍य के सूचना आयुक्‍त फरजंद अहमद ने खगडि़या जिले में पंचायती राज से संबंधित एक आरटीटाई के मामले में राज्‍य के मुख्‍य सचिव एवं पंचायती राज विभाग के प्रमुख सचिव को कहा कि वे पंचायती राज विभाग में स्‍वैच्छिक खुलासे के लिए सिटस्‍ट पर दबाव डालें और सबसे बेहतर तो यही रास्‍ता है कि विभाग अपने वेबसाइट को रेगुलर अपडेट करे, सूचनाएं चाहने वालों ज्‍यादातर को बिना दिक्‍कत के सूचनाएं मिल सकेंगी, इससे विभाग में पारदर्शिता भी आएगी.

पत्रकार ने भाजपा नेता पर लगाया धमकी देने का आरोप

उत्‍तराखंड के उधमसिंह नगर के नानकमता थाना क्षेत्र में रहने वाले पत्रकार गौरव वर्मा ने पुलिस को शिकायती पत्र देकर आरोप लगाया है कि एक भाजपा नेता उनको जान से मारने की धमकी दे रहा है. नानाकता थानाध्‍यक्ष को दिए गए पत्र में गौरव ने लिखा है कि भाजपा युवा मोर्चा का मण्‍डल अध्‍यक्ष भवानी जोशी उनके साथ अकेले में गाली ग्‍लौज करते हैं तथा जान से मारने की धमकी भी दी है.

नए साल पर आएगा दुनिया का पहला 3डी चैनल

पेइचिंग : ग्लोबल टेक्नोलॉजी को अपनाते हुए चीन जल्द ही देश का पहला 3डी टीवी चैनल शुरू करने वाला है। अखबार चाइना डेली के मुताबिक, पहले 3डी टीवी चैनल का ट्रायल पहली जनवरी से शुरू होगा। फरवरी में स्प्रिंग फेस्टिवल के दौरान इसे आधिकारिक तौर पर शुरू किया जाएगा। इस पर दर्शकों को 3डी प्रोग्राम देखने की सुविधा मिलेगी।

”लोकतांत्रिक राजनीति टीवी धारावाहिक नहीं”

आमतौर पर मीडिया जिन्हें चढ़ाता है, उन्हें गिरा भी देता है। सीएनएन आईबीएन के इंडियन ऑफ द ईयर अवार्ड के दौरान अन्ना हजारे ने बड़े भोलेपन से स्वीकारा कि उन्हें महाराष्ट्र के क्षेत्रीय नेता से राष्ट्रीय आइकॉन बनाने के लिए मीडिया जिम्मेदार था। ‘यदि आपके कैमरे हर जगह मेरा पीछा नहीं करते तो भला मुझे कौन जानता?’ यह इस समाजसेवी का ईमानदार वक्तव्य था।

रिपोर्टर पर पिस्‍तौल तानने वाले डाक्‍टर की गिरफ्तारी नहीं, पत्रकार नाराज

: प्रशासन कर रहा आरोपी को बचाने का प्रयास : अंबाला : अंबाला में एक राष्ट्रीय अखबार के पत्रकार पर चार दिन पहले सिविल अस्पताल के डॉक्टर अरुण दलाल द्वारा रिवॉल्वर ताने जाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में पुलिस और प्रशासन डाक्‍टर को बचाने में पूरी तरह लगे हुए हैं। आरोपी डाक्‍टर दलाल को अब तक गिरफ्तार न किए जाने को लेकर पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठने लगे हैं। पुलिस की ढुलमुल कार्रवाई के खिलाफ गुरुवार को पत्रकारों के प्रतिनिधिमंडल ने पुलिस आयुक्त अनंत कुमार ढुल्ल से मुलाकात की।

लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार कुमार सौवीर को ब्रेन स्ट्रोक

: मदद की जरूरत : लखनऊ से सूचना है कि कई चैनलों और अखबारों में वरिष्ठ पदों पर काम कर चुके और अपने बेबाक लेखन,  स्पष्टवादिता व साहस के लिए चर्चित वरिष्ठ पत्रकार कुमार सौवीर की तबीयत काफी बिगड़ गई है. उन्हें ब्रेन स्ट्रोक होने की सूचना मिली है. पता चला है कि हाई ब्लडप्रेशर की वजह से उनके दिमाग में ब्लड क्लाटिंग हो गई. इस वजह से उन्हें तत्काल एक निजी नर्सिंग होम के आईसीयू में एडमिट कराना पड़ा. लखनऊ के पत्रकार और शुभचिंतक कुमार सौवीर के बेहतर उपचार के लिए पूरी मदद कर रहे हैं.

बाबूलाल कुशवाहा और अनंत मिश्र अंटू सीबीआई पूछताछ में पसीना क्यों फेंक रहे?

: रामचंद्र प्रधान की पत्नी अनिता प्रधान से भी हुई पूछताछ : लखनऊ। दो सीएमओ के मर्डर, जेल में डिप्टी सीएमओ की हत्या व एनआरएचएम के हजारों करोड़ के घपले में सीबीआई ने बुधवार को बसपा सरकार के पूर्व मंत्री अनंत मिश्र उर्फ अंटू से पूछताछ की। एक दिन पहले सीबीआई ने बाबूसिंह कुशवाहा से पूछताछ की थी। कुशवाहा ने अंटू के बारे में भी एजेंसी को खासी जानकारी दी थी। यही जानकारी अंटू के खिलाफ हथियार बनी। पूछताछ के दौरान जब भी उन्होंने गोलमोल जवाब दिए सीबीआई अफसरों ने उन्हें टोक दिया। उनसे गुरुवार को भी पूछताछ की जाएगी।

गोरखपुर में जनसंदेश टाइम्‍स की तैयारी : जागरण पर पड़ सकती है भारी

दैनिक जागरण, गोरखपुर में हलचल मची हुई है. शैलेंद्र मणि त्रिपाठी के तेवर से जागरण प्रबंधन सकते में है. जागरण प्रबंधन अपने दो दिग्‍गजों को जिस सोच के लिए एक जगह किया था, उसका असर तो दिखने लगा है, पर इससे जागरण गोरखपुर के भी लहूलुहान होने की स्थिति बनती दिख रही है. कहा जा रहा है कि शैलेंद्र मणि जागरण को बहुत तेज झटका देने की रणनीति पर काम कर रहे हैं. कयास लगाया जा रहा है कि गोरखपुर से जुड़े जिलों में तो उन्‍होंने जागरण को पटखनी देने की पूरी तैयारी कर ली है.

‘प्लेयर्स’ का प्रमोशन : दैनिक जागरण के नोएडा आफिस जाएंगे अभिषेक बच्चन

अभिषेक बच्चन अपनी नई फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में इधर-उधर टहल रहे हैं. पता चला है कि कल वे दैनिक जागरण के नोएडा आफिस में पहुंचने वाले हैं. हालीवुड की एक फिल्म के आफिसियल रीमेक के रूप में बनी ''प्लेयर्स'' के प्रमोशन के सिलसिले में अभिषेक दैनिक जागरण के नोएडा आफिस आकर क्या करेंगे, …

भिखारी की गोद में किसका बच्‍चा है?

ब्लैक एंड ह्वाइट के जमाने में एक फिल्म आई थी बूट पालिस। इस फिल्म में सौतेली मां की क्रूर निर्दयता की कहानी दिल को झकझोरती है। कैसे मासूम बच्चे न चाहते हुए भी भीख मांगने के लिए मजबूर हैं। हालांकि वे इस पेशे को छोड़ना चाहते हैं, लेकिन उन्हें कहीं से इसके लिए प्रोत्साहन नहीं है। तब समाज में ऐसे लोग थे जो ऐसे नौनिहालों को गले लगाकर अपनी संतान की तरह परवरिश करते थे। लिहाजा, फिल्म का अंत सुखांत होता है। जमाना बदला। स्लमडॉग मिलेनियर फिल्म आई। नौनिहालों का शोषण धंधे में बदल गया, मगर ऐसे बच्चों को गले लगा कर बचाने वाले नहीं बचे।

अरुण पुरी की बेटी का मोटापा भी बन गया ‘किताब’

मोटापा से छुटकारा पाना क्या इतनी बड़ी उपलब्धि है कि इस अनुभव पर कोई किताब ही लिख दी जाए। हो आपको है ये अटपटा लग रहा हो, लेकिन इंडिया टुडे ग्रुप के संस्थापक अरुण पुरी की बड़ी बेटी कल्‍ली पुरी ने कुछ ऐसा ही किया है। 38 साल की कल्‍ली, जो इंडिया टुडे के डिजिटल विंग की मुख्य परिचालन अधिकारी के रूप में काम संभाल रही हैं, ने अपना वजन 103 किलो से घटाकर 59 किलो कर लिया है। छरहरी दिख रही कल्‍ली ने अपने मोटापे और इससे छुटकारे पर 'कन्फेशन ऑफ ए सीरियल डाइटर' नाम की किताब लिख डाली है। इस किताब के कुछ अंश इंडिया टुडे ने भी प्रकाशित किए।

अंबानी ब्रदर्स में भरत मिलाप से हरामखोर संपादकों को क्यों हुई परेशानी

अंबानी भाई गले क्या मिले, रिलायंस के शेयर भले बढ़े, कई मीडिया घरानों के शेयर डाउन हो गए लगते हैं. इन मीडिया घरानों के हरामखोर संपादकों के चेहरे पर चिंता की लकीरें खिंच गई हैं. वजह? अरे भाई, अभी तक दोनों अंबानी भाई अलग-अलग कंपनियों के मालिक हैं तो विज्ञापन भी दो अलग अलग ग्रुपों की ओर से मिलते हैं. खुदा के वास्ते अगर दोनों फिर से एक हो जाएंगे तो विज्ञापन इनका कामन हो जाएगा और एक ही रिलीज होगा. इस तरह मीडिया हाउसों की कमाई घट जाएगी.

अंग्रेजी न्यूज चैनलों के पत्रकारों-संपादकों में सुपरहिट हैं अरनब गोस्वामी!

ये देखिए विज्ञापन. अरनब गोस्वामी सब पर भारी दिख रहे हैं. टाइम्स नाऊ के एडिटर इन चीफ के न्यूज आवर को देखने के लिए अंग्रेजी दर्शक बाकी न्यूज चैनलों से मुंह मोड़ लेते होंगे, तभी तो अरनब का ग्राफ इतना उंचा है.

अर्जुन शर्मा पंजाब केसरी एवं हरेंद्र श्रीटाइम्‍स से जुड़े

जालंधर से खबर है कि वरिष्‍ठ पत्रकार अर्जुन शर्मा अब पंजाब केसरी से जुड़ गए हैं. अर्जुन को पंजाब केसरी के वेब डिविजन का ब्‍यूरोचीफ बनाया गया है. अर्जुन इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. उल्‍लेखनीय है कि पंजाब केसरी इस समय पांच वेबसाइट और दो वेब न्‍यूज चैनल संचालित कर रहा है तथा इस प्रोजेक्‍ट को पंजाब केसरी के संयुक्‍त संपादक अविनाश चोपड़ा के पुत्र अभिजय चोपड़ा संभाल रहे हैं.

चर्चा है कि… चेतन गुरुंग अमर उजाला, देहरादून से निकाले जाएंगे

अमर उजाला, देहरादून में वरिष्ठ पद पर कार्यरत पत्रकार चेतन गुरुंग के बारे में चर्चा है कि उन्हें अमर उजाला से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है. सूत्रों के मुताबिक चेतन गुरुंग के खिलाफ भ्रष्टाचार की कुछ शिकायतों की जांच की जा रही है. प्रबंधन उनका या तो तबादला कर सकता है या फिर इस्तीफा ले सकता है. फिलहाल चेतन गुरुंग अमर उजाला, देहरादून में बने हुए हैं.

दैनिक भास्कर, छत्तीसगढ़ के स्टेट हेड राजीव सिंह के पिता का निधन

कानपुर निवासी वरिष्ठ पत्रकार राजीव सिंह के पिता के निधन की सूचना है. राजीव इन दिनों दैनिक भास्कर के छत्तीसगढ़ राज्य के हेड हैं. पिता पीडी सिंह की उम्र करीब 82 वर्ष के आसपास थी. उनकी तबीयत काफी समय से खराब चल रही थी. कई महीने से उनका कैंसर का इलाज चल रहा था. पिता के खराब स्वास्थ्य के कारण राजीव सिंह पहले से ही कानपुर में थे. पिता पीडी सिंह अपने पीछे तीन पुत्र और कई पोते-पोतियां छोड़ गए हैं.

खूनी अस्‍पताल को देश के बेहतरीन अस्‍पतालों में बताया था इंडिया टुडे और द वीक ने

आज के परम बाजारू दौर में चीजें कैसे बेची जाती हैं, कैसे बिकती हैं, कलम कैसे बंधक रखवाया जा सकता हैं, कैसे खतरनाक चीजों का महिमामंडन किया जाता है, इन सारे सवालों का जवाब कोलकाता के खूनी अस्‍पताल में छुपा हुआ है. 93 बीमार, मासूम लोगों की जिंदगी और उनके परिवार के लोगों की उम्‍मीदों को जला कर मार डालने वाला एएमआरआई अस्‍पताल देश के कुछ चुनिंदा और बेहतरीन अस्‍पतालों में था. 

सहारा मीडियाकर्मियों से उनके बॉस ने ही कर डाला डबल धोखा

: साठ फीसदी इनक्रीमेंट की बात झूठी निकली : दो-दो बार अप्रेजल फार्म भरवाया गया, लेकिन सहारा मीडियाकर्मियों की सेलरी नहीं बढ़ी : सहारा के दूसरे विभागों के चपरासी सहारा मीडिया के सीनियर लोगों से ज्यादा पा रहे सेलरी : सहारा मीडिया के एक कर्मी ने भड़ास4मीडिया तक पहुंचाई सहारा मीडिया के परतंत्र बॉस के छल-कपट की कहानी :

चर्चा है कि… विकास मिश्र महुआ छोड़कर जाएंगे आजतक!

अभी हाल में ही महुआ न्यूज के यूपी चैनल के हेड बनाए गए विकास मिश्र के बारे में चर्चा है कि वे महुआ ग्रुप से जल्द विदा लेने वाले हैं. कयास है कि वे अपने पुराने संस्थान आजतक वापस लौट रहे हैं. विकास मिश्र आईआईएमसी के उसी बैच के छात्र रहे हैं जिस बैच के सुप्रिय प्रसाद हैं. सुप्रिय ने न्यूज24 से रिजाइन करने के कई महीनों बाद आजतक न्यूज चैनल ज्वाइन कर लिया. अब विकास के बारे में बड़ी तेज चर्चा है कि वे भी वापस आजतक जाने वाले हैं. विकास कई अखबारों और चैनलों में काम कर चुके हैं.

चर्चा है कि… राजेश जेटली अमर उजाला छोड़कर हिंदुस्तान जाएंगे!

अमर उजाला से एक बड़ी कानाफूसी बाहर आई है. कुछ लोगों का कहना है कि एक्जीक्यूटिव एडिटर के पद पर कार्यरत राजेश जेटली, जो पूरे ग्रुप के अखबारों-मैग्जीनों की डिजायनिंग, लेआउट आदि के हेड हैं, जल्द इस्तीफा देने वाले हैं. चर्चा है कि वे हिंदुस्तान अखबार का दामन थामेंगे. सूत्रों के मुताबिक यशवंत व्यास के भीमकाय इगो के कारण अमर उजाला में इन दिनों कई वरिष्ठ लोग परेशान हैं. उन्हीं में से एक राजेश जेटली भी हैं. स्वर्गीय अतुल माहेश्वरी के बेहद प्रिय रहे राजेश जेटली के सामने कई बार दूसरे ग्रुपों से आफर आए लेकिन उन्होंने अतुल जी और अमर उजाला के प्रति अपनी निष्ठा के कारण कहीं और जाने से मना कर दिया. वे करीब दस वर्षों से अमर उजाला के साथ हैं.

ताकि समय ठीक रहे… कांग्रेसी शिल्‍पी की ओर से पत्रकारों को घड़ी भेंट

: प्रेस कांफ्रेंस में बांटा उपहार : बाजपुर में कांग्रेस प्रचार समिति की सह-संयोजिका गदरपुर निवासी एवं गदरपुर विधानसभा के टिकट की दावेदार सुश्री शिल्पी अरोड़ा ने बाजपुर में आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों को मात्र एक हाथ घड़ी, सोनाटा कम्पनी की जिसकी कीमत रु 700 है, का उपहार देकर कृताज्ञ किया। गदरपुर में तो पत्रकार केवल कप सेट में ही बिक गये। इन पत्रकारों ने मानको को इतना गिरा दिया है कि नेता या प्रत्याशी पत्रकारों की औकात कप सेट तक ही आकलन कर रहे हैं।

आईआईएमसी प्रशासन को झुकाइए, पी. साईंनाथ की किताब गिफ्ट पाइए!

योगेश कुमार शीतल युवा, क्रांतिकारी और तेजतर्रार पत्रकार हैं. देश के सबसे प्रतिष्ठित माने जाने वाले पत्रकारिता शिक्षण संस्थान इंडियन इंस्टीट्यूट आफ मास कम्युनिकेशन से हाल-फिलहाल कोर्स कंप्लीट करके इन्होंने मीडिया की असल दुनिया में कदम रखा है. पिछले दिनों शीतल उस समय चर्चा में आए थे जब इंडिया गेट पर एनडीटीवी वाली और राडिया टेपकांड की खलनायिका बरखा दत्त करप्शन के मुद्दे पर कोई लाइव पब्लिक शो कर रहीं थीं. तब शीतल ने सरेआम यह सवाल बरखा के सामने उठाया था कि जब आप खुद करप्शन के मामले में फंसी हैं तो कैसे करप्शन के मुद्दे पर प्रवचन दे सकती हैं. इसको लेकर बड़ा बवाल हुआ था.

आरक्षण दिला पाएगा कांग्रेस को मुस्लिम वोट?

इसे इत्तेफाक कहा जाए या सोची-समझी रणनीति कि लोकपाल का मुद्दा भी कांग्रेस की मुस्लिम-नवाज रणनीति के दायरे में आ गया। इस मुद्दे पर भी कांग्रेस ने यह संदेश देने का प्रयास किया है कि वह रोजगार और शिक्षा के क्षेत्र में ही मुसलमानों को आरक्षण नहीं दे रही है, बल्कि लोकपाल जैसी महत्वपूर्ण संस्था में भी उन्हें आरक्षण देने का प्रयास कर रही है। संसद में लोकपाल पर होने वाली बहस में मूल मुद्दा तो पीछे चला गया, पूरी चर्चा अल्पसंख्यक सियासत पर सिमट कर रह गई।

तो ये है पेड न्यूज करने वाले छोटे न्यूज चैनलों का फंडा

: हम अपने खर्चे देखें या पत्रकारिता के मानदंडों की चिंता करें? : 2012 में खबरिया चैनलों के लिए बुरी खबर : नोट के मामले में न्यूज चैनलों के लिए बीत रहा साल बुरा, आने वाला भी बुरा : चैनलों में  विज्ञापनों (मार्केटिंग) के लिए अक्सर बहुत मारा-मारी मची रहती है। शीर्ष रेटिंग पर चल रहे मनोरंजन और खबरिया चैनलों पर राजस्व ठीक-ठाक जुटता रहता है लेकिन छोटे और क्षेत्रीय भाषा के चैनलों के सामने राजस्व जुटाने के लिए बहुत बड़ी मुश्किल खड़ी रहती है। बाजार के कई ब़डे जानकारों का कहना है कि राजस्व की दृष्टि से साल 2010-11 कोई खास नहीं रहा लेकिन आशंका जताई जा रही है कि साल 2012 भी राजस्व के दृष्टिकोण से अच्छा साबित नहीं होगा।

अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का हथियार है फेसबुक!

: सोशल नेटवर्किंग से दुश्मनों का फायदा है : विकीलीक्स के चर्चित संस्थापक जुलियन असांजे ने कुछ महीने पहले एक रूसी अखबार को दिए इंटरव्यू में यह ‘सनसनीखेज रहस्योद्घाटन‘ किया था कि फेसबुक और कुछ नहीं बल्कि अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का हथियार है। उन्होंने कहा, अपने फेसबुक अकाउंट में किसी नए दोस्त या रिश्तेदार का नाम जोड़ते वक्त यह मत भूल जाइए कि आप अमेरिकी खुफिया एजेंसियों का काम आसान कर रहे हैं। आप असल में उनका डेटाबेस तैयार करने में हाथ बंटा रहे हैं।

यूपी में भ्रष्टाचार : बसपा प्रत्याशी के गोदाम से हजारों बोरे अनाज मिले

: नई दिल्ली : बसपा के खिलाफ दिनोंदिन बनता जा रहा है माहौल : यूपी में बहुजन समाज पार्टी के शासनकाल में भ्रष्टाचार का क्या आलम है, इसके बारे में आप समय समय पर सुनते जानते आए हैं. खुद मायावती दर्जनों लोगों को करप्शन में पाकर हटा, भगा, निकाल चुकी हैं, लेकिन यह सब वह तब कर रही हैं जब चुनाव सिर पर आ गया. एनएचआरएम घोटाले में सीबीआई जांच चल रही है और जल्द ही इसमें कुछ बड़े अफसर व नेता गिरफ्तार होने वाले हैं. ताजी सूचना बसपा के एक प्रत्याशी को लेकर है. यूपी के कुशीनगर जिले के फाजिलनगर विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशी कलामुद्दीन के गोदाम से लाखों बोरे अनाज मिले हैं. इन अनाज का कोई रिकार्ड नहीं है.

आसिफ का महुआ से इस्‍तीफा, अमित हिंदुस्‍तान से कार्यमुक्‍त

महुआ न्‍यूज से खबर है कि आसिफ इकबाल ने इस्‍तीफा दे दिया है. आफिस यहां पर पॉलिटिकल रिपोर्टर थे. आसिफ अपनी नई पारी कहां से शुरू करने जा रहे हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. आसिफ का जाना महुआ के लिए झटका माना जा रहा है. आसिफ महुआ की लांचिंग के समय से जुड़े हुए थे.

ईटी हिंदी की बंदी : हिंदीवालों को दोयम समझनेवाले खुद निपटे

इकनॉनिक टाइम्स एकमात्र दिल्ली से छपनेवाला अपना हिंदी संस्करण बंद करने जा रहा है। आज, गुरुवार को उसकी टीम आखिरी बार अखबार का काम करेगी और कल शुक्रवार को उसका आखिरी अंक आएगा। फिर पटाक्षेप। तीन साल दस महीने दस दिन पहले 19 फरवरी 2008 को जब यह अखबार शुरू हुआ था तो प्रबंधन की तरफ से बड़े-बड़े वादे किए गए थे। हिंदी समाज को भी इससे बड़ी अपेक्षाएं थीं। लेकिन कम से कम लागत में ज्यादा से ज्यादा धंधा बटोरने के मकसद से शुरू हुआ यह ‘उद्यम’ बंद ही होना था।

अमर उजाला के इस कस्बाई पत्रकार की विपदा को कौन सुनेगा?

उत्तर प्रदेश के बहराइच जनपद के मिहींपुरवा कस्बे के अमर उजाला के पत्रकार सुधीर मदेशिया के ऊपर पुलिस प्रशासन ने आगज़नी और लूट-पाट सम्बन्धी तमाम मामलों में जनपद के मोतीपुर थाने में एफ.आई.आर. दर्ज कर रखी है. जबकि इस पत्रकार का कुसूर सिर्फ इतना ही था कि वह पत्रकार होने के नाते कस्बे में दुर्गा पूजा के दौरान हुई आगज़नी और साम्प्रदायिक तनाव की घटना को कवर करने के लिए घटनास्थल पर गया था.

लखनऊ के प्रदर्शनकारी पत्रकारों की मांग- मीडिया संस्‍थानों पर दबाव बनाएं सियासी पार्टियां

मजीठिया वेज बोर्ड की सिफारिशों को लागू कराने के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मीडिया कर्मियों ने जोरदार प्रदर्शन कर सरकार से इस मामले में मीडिया संस्थानों पर दबाव बनाने की मांग की। कन्फेडरेशन ऑफ न्यूज पेपर इम्पलाइज के बैनर तले हुए इस प्रर्दशन में 100 से ज्यादा पत्रकार व गैर पत्रकार मीडिया कर्मचारी शामिल थे। प्रेस क्लब के गेट पर हुए इस प्रर्दशन में मीडिया कर्मियों ने राजनैतिक दलों से भी मांग की कि वो अपने स्तर से हस्तक्षेप करें और मालिकों पर वेज बोर्ड की सिफारिशों को लागू करने का दबाव बनाएं।

झारखंड में आर्यन टीवी की हालत खराब, आईआरपीडी ने भेजा विज्ञापन बंद करने का नोटिस

आर्यन टीवी, रांची से खबर है कि भुजंग भूषण के इस्‍तीफा देने के बाद से चैनल की स्थिति पूरे झारखंड में बदतर हो गई है. आफिस में अराजकता जैसी स्थिति है. तो आईआरपीडी ने भी विज्ञापन बंद करने का नोटिस चैनल को दे दिया है. स्ट्रिंगरों का भुगतान नहीं हुआ है, जिससे वे फीड नहीं भेज रहे हैं. खबरें नहीं चल रही हैं. चैनल के भविष्‍य को लेकर ही उहापोह की स्थिति बन गई है. पटना से रांची भेजे गए संजय सिंह भी स्थिति संभाल नहीं पा रहे हैं.

जनसंदेश टाइम्‍स, वाराणसी के जीएम सीपी राय को पितृशोक

जनसंदेश टाइम्‍स, वाराणसी के जीएम सीपी राय के पिता वशिष्‍ठ नारायण राय का मंगलवार की रात निधन हो गया. वे अस्‍सी वर्ष के थे तथा बीमार चल रहे थे. उनका इलाज बनारस के लक्ष्‍मी मेडिकल सेंटर पर चल रहा था. वहीं पर उन्‍होंने आखिरी सांस ली. वे अपने पीछे तीन पुत्र एवं एक पुत्री का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं. उनका अंतिम संस्‍कार हरिश्‍चंद्र घाट पर किया गया.

जयपुर में भी पत्रकार एवं गैर पत्रकार संगठनों ने किया आंदोलन

जयपुर। कन्फेडरेशन ऑफ न्यूज पेपर्स एण्ड न्यूज एजेंसी एम्पलाइज ऑर्गनाइजेशन के आह्वान पर बुधवार को समाचार पत्र और संवाद समितियों के पत्रकारों और गैर पत्रकारों ने जस्टिस मजीठिया वेतन बोर्ड की सिफारिशों को तुरंत लागू करने की मांग को लेकर जयपुर में प्रदर्शन कर धरना दिया।

पंजाब केसरी को आगरा से छपवाने की रणनीति फेल!

: कानाफूसी : आगरा से खबर है कि पंजाब केसरी, दिल्‍ली अब ताजनगरी से प्रकाशित होने के लिए बेताब है. पर उसे कोई ढंग का आसामी नहीं मिल रहा है, जो अखबार को आगरा से छपवा सके. सूत्रों का कहना है कि पंजाब केसरी प्रबंधन की आगरा से प्रकाशित होने वाले एक मिड डे अखबार प्रबंधन से अखबार छापने को लेकर बातचीत हुई, लेकिन दोपहर में प्रकाशित होने वाले अखबार के प्रबंधन ने साफ मना कर दिया.

गलत खबर छापने पर ‘भास्कर’ को नोटिस!

इंदौर। ‘दबंग दुनिया’ के मालिक किशोर वाधवानी की 26 दिसंबर को स्पेशल मजिस्ट्रेट डा. शुभ्रा सिंह की अदालत में पेशी थी, कारण कि वे एक गुटखा फैक्ट्री पर छापे की कार्रवाई को लेकर बयान के लिए बार-बार समन जारी होने पर भी हाजिर नहीं हो रहे थे। किंतु दैनिक भास्कर ने 27 दिसंबर के अंक में पेज 3 पर जो खबर छापी वो ही गलत थी। खबर में बताया गया था कि वाधवानी का गिरफ्तारी वारंट जारी हो गया है और उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश सेंट्रल एक्साईज को दिया गया है।

टीवी100 से फिर फुर्र हुए राजीव पंछी

टीवी100 से खबर है कि वरिष्‍ठ पत्रकार एवं चैनल हेड राजीव पंछी ने इस जिम्‍मेदारी से खुद को हटा लिया हैं. माना जा रहा है कि काम की अधिकता के चलते उन्‍होंने यह निर्णय लिया है.  पंछी अब इस ग्रुप के दूसरे बड़े प्रोजेक्‍ट की जिम्‍मेदी संभालेंगे. राजीव पंछी ने अपने कैरियर की शुरुआत प्रिन्ट मीडिया के साथ की. नवभारत टाइम्स से जुड़कर उन्‍होंने डेस्क और रिपोर्टिंग का लंबा अनुभव हासिल किया. राजीव ने अपने कैरियर में कई आयामों पर काम किया. उन्होंने रेडियो में समाचार लेखन और न्यूज रीडर के रूप में भी काम किया.

तबादले से नाराज शैलेंद्र मणि के जनसंदेश टाइम्‍स लांच कराने की चर्चा

: गोरखपुर में दैनिक जागरण को तबाह करने में जुटे : गोरखपुर से एक बड़ी खबर है. दैनिक जागरण प्रबंधन ने शैलेंद्र मणि का तबादला कानपुर के लिए कर दिया है. शैलेंद्र को फरमान सुना दिया गया है कि आप एक जनवरी से कानपुर में जाकर बैठें. पर शैलेंद्र ने कानपुर जाने से साफ इनकार कर दिया है. वे अब गोरखपुर में ही दैनिक जागरण की क्रब खोदने की तैयारी कर रहे हैं. खबर है कि शैलेंद्र दैनिक जागरण को बाय करके जनसंदेश टाइम्‍स को गोरखपुर में लाने में जुट गए हैं. चर्चा है उन्‍हें अखबार का संपादकीय प्रभारी बनाया जा रहा है. हालांकि अभी उन्‍होंने जागरण से इस्‍तीफा नहीं दिया है.

राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार धीरेंद्र सिंह को पितृशोक

अलीगढ़। राष्ट्रीय सहारा हिंदी दैनिक के प्रतिनिधि धीरेंद्र सिंह के पिता श्री विजयपाल सिंह निवासी पाली रजापुर का 87 वर्ष की उम्र में महावीर धाम स्थित आवास पर मंगलवार 27 दिसम्बर की दोपहर को निधन हो गया। वह काफी समय से बीमार चल रहे थे। उनका अंतिम संस्कार सराय हरनारायन स्थित श्मशान घाट पर किया तथा मुखाग्नि उनके छोटे पुत्र धीरेन्द्र सिंह ने दी।

दिलीप मंडल एवं कुमुद शर्मा को भारतेन्‍दु हरिश्‍चंद्र पुरस्‍कार

नई दिल्ली। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने वर्ष २००९-१० के भारतेन्दु हरिश्चंद्र पुरस्कार वितरित किए। शास्त्री भवन में आयोजित समारोह में हिंदी में मौलिक लेखन को बढ़ावा देने के लिए ये पुरस्कार पत्रकारिता एवं जनसंचार विषयों के अलावा महिला विमर्श, बाल साहित्य और राष्ट्रीय एकता से जुड़े विषयों पर लिखी पुस्तकों और पांडुलिपियों को हर वर्ष दिया जाता है।

न्‍यूज चैनल के पत्रकार पर लगा ब्‍लैकमेलिंग का आरोप

कोडरमा। झारखंड में पत्रकारिता एक बार फिर दागदार हुई है। यहां कोडरमा में एक न्‍यूज चैनल के संवाददाता मनोज कुमार सिंह पर ब्लैकमेलिंग का आरोप लगा है। कोडरमा के एक उद्योगपति उमेशचंद्र अग्रवाल ने मनोज सिंह पर 50 हजार रुपये बतौर नजराना मांगने का आरोप लगाते हुए कोडरमा उपायुक्त शिवशंकर तिवारी से लिखित शिकायत की है। बताया गया कि मनोज ने उक्त उद्योगपति के एक बागीचे में कुछ पेड़ों के काटे जाने का विजुअल अपने कैमरे में कैद किया था।

हिंदुस्‍तान को जरूरत है कॉपी एडिटर, रिपोर्टर एवं सीनियर रिपोर्टरों की

पत्रकारों के लिए अच्‍छी खबर है. हिंदुस्‍तान मीडिया वेंचर्स लिमिटेड को मध्‍य एवं पूर्वी उत्‍तर प्रदेश कॉपी एडिटर, रिपोर्टर एवं सीनियर रिपोर्टरों की आवश्‍यकता है. अखबार ने इन पदों के लिए योग्‍य उम्‍मीदवारों से आवेदन मांगा है. विज्ञापन में लिखा गया है कि जिनको भी इस फील्‍ड में दो से चार वर्ष का अनुभव हो वो उक्‍त पदों के लिए आवेदन कर सकता है. आवेदन आज से तीन दिन के अंदर भेजने को कहा गया है.

मजीठिया वेज बोर्ड को लेकर पटना में मीडियाकर्मियों का प्रदर्शन

पटना : मजीठिया वेज बोर्ड की अनुशंषाओं को लागू करने के लिए देशव्यापी आंदोलन अभियान के तहत बिहार की राजधानी पटना में दी टाइम्स ऑफ़ इंडिया न्‍यूज पेपर एम्प्लाइज  यूनियन और पी.टी.आई. कर्मचारी यूनियन के संयुक्त अभियान में राजधानी के मशहूर डाक बंगला चौक पर जोशो-खरोश के साथ नारेबाजी के साथ एक घंटे तक प्रदर्शन किया गया. कार्यक्रम चलाने के बाद प्रदर्शनकारी पत्रकार और गैर पत्रकार कर्मियों ने एक जुलूस निकाला, जो शहर के मुख्य मार्ग फ्रेजर रोड से होते हुए टाइम्स ऑफ़ इंडिया पटना के दफ्तर के सामने पहुंचा.

नए साल में अलग रूप में दिखेगी जागरण की वेबसाइट

: कानाफूसी : जागरण ग्रुप अब अपने अखबार की वेबसाइट को नया रंग रूप देने की तैयारी में है. खबर है कि नए साल पर जागरण अपने ऑनलाइन पाठकों को यह तोहफा दे सकता है. रंग रूप में बदलाव के साथ इसका कलर भी पुरानी साइट से अलग होगा. अब तक जागरण के साइट पर कुछ बड़े एवं चुनिंदा शहरों के ई-पेपर ही उपलब्‍ध होते थे, पर बताया जा रहा है कि नए साइट को इस तरह तैयार किया गया है कि इसमें जागरण के छोटे-बड़े सभी शहरों के एडिशन ई-पेपर के रूप में ऑनलाइन पाठकों के लिए उपलब्‍ध होंगे.

भ्रष्‍टाचार का फल : मायावती ने दो और मंत्रियों को निपटाया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में चुनाव की तारीखों का ऐलान हो चुका है, दूसरी ओर मुख्यमंत्री मायावती लगातार अपनी सरकार की गंदगी साफ करने में लगी हुई हैं. मायावती ने बुधवार को दो और मंत्रियों को बर्खास्त कर दिया है. भ्रष्टाचार के आरोप में घिरे अतिरिक्त उर्जा मंत्री अकबर हुसैन और विज्ञान और प्राद्योगिकी मंत्री यशपाल सिंह की छुट्टी की गई है. इससे पहले मायावती नौ मंत्रियों की छुट्टी कर चुकी हैं. इसमें चार मंत्रियों की छुट्टी उन्‍होंने तीन दिन पहले ही की है.

चैनल वन प्रबंधन पर एक लाख साठ हजार हड़पने का आरोप लगाया रिपोर्टर ने

: डीजीपी समेत कई लोगों को भेजा शिकायती पत्र : चैनल वन के रिपोर्टर तथा साहिबाबाद (गाजियाबाद) निवासी चंदन राय ने यूपी के डीजीपी को पत्र भेजकर आरोप लगाया है कि चैनल के डाइरेक्‍टर जहीर अहमद ने उनके एक लाख साठ हजार रुपये हड़प लिए हैं. कृपया इन पैसों को उन्‍हें वापस दिलाया जाए. डीजीपी, आईजी, एसएसपी समेत कई लोगों को भेजे गए अपने पत्र में चंदन ने बताया है कि वो 2009 से इस चैनल से रिपोर्टर के रूप में जुड़े हुए हैं.

रोड रेज में अखबार के फोटोग्राफर की पिटाई

रायबरेली में स्‍वतंत्र चेतना अखबार के फोटोग्राफर को दबंगई भारी पड़ गई. फोटोग्राफर के व्‍यवहार से नाराज एक व्‍यक्ति ने उसकी पिटाई कर दी. हालांकि इस संदर्भ में पुलिस में कोई मामला दर्ज नहीं कराया गया है. जानकारी के अनुसार स्‍वतंत्र चेतना अखबार के फोटोग्राफर अनुज मौर्य अपनी बाइक से कहीं जा रहे थे. उनके बाइके के आगे सोनू गांधी नामक व्‍यक्ति की कार थी. अनुज ने आगे निकलने के लिए हार्न बजाया परन्‍तु जगह नहीं होने के कारण सोनू ने पास नहीं दिया.

प्रस्‍तावक के अपहरण के आरोप भी लग चुके हैं बर्खास्‍त मंत्री अवधेश वर्मा पर

: राजनीतिक नाटक कर रही हैं मायावती : उत्तर प्रदेश की बसपा सरकार अपने ही मंत्रियों की कारगुजारियों से उबर नहीं पा रही है। अभी तक पांच मंत्री लोकायुक्त की जांच में दोषी पाये जाने पर अपनी कुर्सी गंवा चुके हैं। मायावती के करीबी और बसपा सरकार में मुस्लिम चेहरा कहे जाने वाले नसीमुद्दीन सिद्दीकी भी लोकायुक्त की जांच में फसते नजर आ रहे हैं। उन पर भ्रष्ट्राचार, अवैधरूप से भूमि पर कब्जा करने के आरोप हैं, वहीं अपने परिवार और रिश्‍तेदारों को अपने पद का दुरुपयोग करते हुये लाभ पहुंचाने के गंभीर आरोप भी लगे है। इन सभी विवादों से बसपा उबर भी नहीं पाई थी कि मयावती के मंत्रिमंडल के चार और मंत्रियों के विकेट गिर गये।

समाजवादी पार्टी में दिख रहा है बसपा का विकल्‍प बनने का दम

: कांग्रेस से अब भी दूर हैं यूपी के मतदाता : चुनाव आयोग द्वारा विधान सभा चुनाव की तिथि घोषित करने के कारण नेताओं की धडक़नें बढ़ी नजर आ रही हैं। शीत ऋतु में भी प्रत्याशियों के माथे पर पसीने की बूंदे छलकती दिख रही हैं, क्योंकि जीत का जादुई आंकड़ा छूने में एक बार सफलता मिल गयी तो वह ग्रीष्म ऋतु की भयानक दोपहरी में भी हर सुख भोग लेंगे, इसीलिए प्रत्याशी रात और दिन का अंतर भूल कर पूरी शक्ति के साथ चुनाव मैदान में डटे नजर आ रहे हैं।

जीएनएन न्‍यूज कर्मियों के पैसे से बनवाएगा फर्नीचर, तीन सौ रुपये काटे

: कानाफूसी : प्रबंधन के रवैये ज्‍यादातर कर्मचारी नाराज : जीएनएन न्‍यूज में काम करने वाले प्रबंधन के रवैये से परेशान हैं. चैनल में काम करने का माहौल तो खराब है ही इस बार आई सेलरी को देखकर जीएनएन के कर्मचारी और नाराज हो गए हैं. खबर है कि प्रबंधन ने सभी कर्मचारियों के सेलरी में से इस बार तीन सौ रुपये काट लिए हैं. पैसा आफिस के फर्नीचर के मेंटेनेंस के नाम पर काटा गया है.

भास्‍कर के कार्टूनिस्‍ट हरिओम अब छोटे पर्दे पर

भास्कर के कार्टूनिस्ट हरिओम तिवारी अपने बचपन के शौक को पूरा करने के लिए नाटकों के संसार में कूद पड़े हैं। लाइफ ओके (स्टार वन का नया नाम) पर शुरु हुए धारावाहिक तुम देना साथ मेरा में वे त्रिपाठी जी के रोल में नजर आ रहे हैं। इसके अलावा हाल ही में भोपाल के रविंद्र भवन में आयोजित आदि विद्रोही समारोह में सिपाही बहादुर नाटक में एक महत्वपूर्ण रोल में नजर आए। जल्द ही उनके अभिनय के रंग थियेटर और छोटे पर्दे पर नजर आएंगे।

फेसबुक ने बदला अपना लुक

लोकप्रिय सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक अपनी पहचान बनाने के लिए रोज नए-नए प्रयोग कर रहा है, जिससे उसके यूजर को आसानी हो तथा उनकी एकाउंट की सुरक्षा मजबूत हो. इसी क्रम में फेस बुक ने अपने लुक में बदलाव किया है. यूजर अब फेसबुक को नए लुक में देखेंगे. इस नए लुक के प्रोफाइल पर क्लीक करते ही यूजर से जुडी सभी जानकारियां एक ही पेज पर मिल जायेंगी.

पवन बंसल जागरण साल्‍यूशन के सीओओ बने

जागरण समूह ने पवन बंसल के कद को बढ़ाते हुए उन्‍हें जागरण सॉल्‍यूशन का सीओओ नियुक्‍त किया है. बसंल अब तक जागरण का ओओएच डिविजन को हेड कर रहे थे. जागरण प्रबंधन ने उनकी क्षमता को देखते हुए जागरण साल्‍यूशन के सीओओ की अतिरिक्‍त जिम्‍मेदारी उन्‍हें सौंपी है. बंसल नई जिम्‍मेदारी के साथ अपनी पुरानी …

अरविंद का खबर भारती से इस्‍तीफा, अजय जनवाणी से कार्यमुक्‍त

खबर भारती न्‍यूज चैनल से अरविंद पांडेय ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर असिस्‍टेंट प्रोड्यूसर थे. अरिवंद ने अपनी नई पारी इंडिया न्‍यूज यूपी-उत्‍तराखंड के साथ शुरू करने जा रहे हैं.  वे इसके पहले भी कुछ संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

थानेश्‍वर जनता टीवी एवं गायत्री परख इंडिया से जुड़ी

जनता टीवी से खबर है कि थानेश्‍वर शर्मा ने यहां से अपनी नई पारी शुरू की है. थानेश्‍वर को इनपुट हेड बनाया गया है. थानेश्‍वर इसके पहले सीएनईबी में कार्यरत थे. वहां भी वे इनपुट से जुड़े हुए थे. थानेश्‍वर इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. इस संदर्भ में जानकारी के लिए चैनल के मा‍लिक गुरबिन्‍दर सिंह बात करने की कोशिश की गई परन्‍तु उनसे बात नहीं हो सकी, हालांकि आफिस से यह कन्‍फर्म किया गया कि थानेश्‍वर अब उनकी टीम के हिस्‍सा बन गए हैं.

बेइमानों को नहीं चाहिए प्रभावी लोकपाल, पर जनता लाल करेगी गाल

मध्य प्रदेश में आरटीओ ऑफिस में तैनात एक चपरासी के घर से चालीस करोड़ से अधिक रुपये की सम्पत्ति बरामद हुई। एक आईएएस दम्पत्ति के पास से कई अरब रुपये की जमीन-जायदाद बरामद हुई। हमारे राजनेताओं की बेशुमार दौलत से जुड़े कई मामलों की जांच सीबीआई कर रही है।

संप्रेषण शोध पत्रिका का दूसरा अंक आरटीआई पर केंद्रित

महामना मदन मोहन मालवीय हिंदी पत्रकारिता संस्थान महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी द्वारा मदन मोहन मालवीय जी की १५०वीं जयंती के स्मृति अंक के रूप में संप्रेषण शोध पत्रिका (ibsn 0976-4410) का प्रकाशन किया गया हैं. इस पत्रिका का यह दूसरा अंक हैं. इस बार का अंक सूचना के अधिकार पर केन्द्रित हैं.

हिंदी विश्‍वविद्यालय के दर्पण में विभूति और बौनी साजिशें

वर्धा स्थित महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीयहिंदी विश्वविद्यालय में सोशल साइंस कांग्रेस का भव्य आयोजन हो रहा है। देशभर के विशेषज्ञ जुट रहे हैं। इस खबर से इस विश्वविद्यालय पर कुछ लिखने की इच्छा हुई। पत्रकारिता की दिनचर्या में डेढ़-दो वर्ष पहले वर्धा स्थित महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय की नकारात्मक खबरों से मन में यह जानने की उत्सुकता हुई कि क्या सच में महात्मा गांधी की कर्मभूमि पर स्थित यह विश्वविद्यालय इतना बदनाम है। इस संबंध में एक पत्रकार के रूप में कई मामलों की पड़ताल की। कई आश्चर्यजनक पहलू सामने आएं, जो विश्वविद्यालय धीरे-धीरे तरक्की की राह पर रफ्तार पकड़ रहा था, उसे सुनियोजित तरीके से कलंकित करने का प्रयास चल रहा था।

पत्रकारों पर हमले से जस्टिस काटजू नाराज, महाराष्‍ट्र के सीएम को लिखा पत्र

प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्‍यक्ष जस्टिस मार्कंडेय काटजू मीडिया के कामों को लेकर भले ही निशाना साधते हों पर पत्रकारों पर हमले को लेकर वे काफी गंभीर हैं. जस्टिस काटजू ने 26 दिसम्‍बर को महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री पृथ्‍वीराज चव्हाण को पत्र लिखकर पत्रकारों की सुरक्षा को गंभीरता से लेने की बात कही है. जस्टिस काटजू ने अपने पत्र में लिखा है कि पिछले दिनों महाराष्‍ट्र में कुछ मामलों को सबके सामने लाने के चलते योगेश कुटे और गणेश सोलंकी नाम के पत्रकारों के ऊपर हमला किया गया.

झुंझुनू में पीआरओ के खिलाफ निंदा प्रस्‍ताव पारित

: आइसना का शपथ ग्रहण समारोह आयोजित : झुंझुनूं। ऑल इंडिया स्माल न्यूज पेपर एशोसियेशन की झुंझुंनू जिला ईकाई का शपथ ग्रहण समारोह सोमवार को झुंझुंनू के सूचना केन्द्र में आयोजित किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि झुंझुंनू केन्द्रीय सहकारी भूमि विकास बैंक के अध्यक्ष शुभकरण चौधरी थे व अध्यक्षता झुंझुंनू बार एशोसियेशन के अध्यक्ष बिरजू सिंह ने की। जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गयारसीलाल शर्मा, कांग्रेसी नेता विनोद पूनियां मौजूद थे।

जार के उदयपुर जिलाध्‍यक्ष को तुक्तक भानावत को हटाया गया

जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान (जार) के उदयपुर जिला अध्यक्ष तुक्तक भानावत को स्थानीय इकाई के सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव पारित करके पद से हटा दिया। भानावत पिछले दो साल से अध्यक्ष बने हुए थे। भानावत पर साथी सदस्‍यों ने तानाशही के आरोप लगाए थे।

आलमी सहारा का पहला सालगिरह मनाया गया

नई दिल्ली। आलमी सहारा उर्दू न्यूज चैनल ने मंगलवार को अपना एक वर्ष पूरा कर लिया। इस मौके पर नोएडा स्थित सहारा इंडिया काम्प्लेक्स में चैनल की सालगिरह मनाई गई। पिछले साल 27 दिसम्बर को ही सहारा इंडिया के टीवी चैनलों के गुलदस्ते में उर्दू न्यूज चैनल आलमी सहारा का इजाफा हुआ था। इस चैनल की लांचिंग तत्‍कालीन न्‍यूज डाइरेक्‍टर उपेंद्र राय के निर्देशन में हुई थी। आलमी सहारा के पहले सालगिरह पर केक काटकर खुशियां मनाई गई।

आईबीएन7 के पत्रकारों ने उपलब्‍ध कराई स्टिंग की रिकार्डिंग, विधायकों से होगी पूछताछ

: राज्‍य सभा चुनाव में वोट के लिए नोट मांगने का मामला : रांची : झारखंड निगरानी ब्यूरो ने बताया कि 2010 में राज्य सभा के लिए हुए चुनावों में वोट के बदले नोट मांगने वाले पांच विधायकों से ब्यूरो शीघ्र पूछताछ करेगा। निगरानी ब्यूरो के महानिरीक्षक एम.वी. राय ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। राय ने बताया कि इस मामले में स्टिंग आपरेशन करने वाले संबद्ध टीवी चैनल आइबीएन7 के पत्रकारों ने स्टिंग आपरेशन की रिकार्डिंग की प्रति और अपने बयान ब्यूरो को दिए।

पत्रकार पर पिस्‍तौल तानने वाले डाक्‍टर के खिलाफ मामला दर्ज, गिरफ्तारी नहीं

: नाराज पत्रकारों ने दिया उपायुक्‍त कार्यालय पर धरना : अंबाला में दैनिक भास्‍कर के पत्रकार पर पिस्तौल तानने व जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी सरकारी डाक्टर के खिलाफ क़ानूनी धारा ३२३ व ५०६ के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है, लेकिन अब तक अंबाला पुलिस ने आरोपी डाक्टर की गिरफ्तारी नहीं की है, जिससे अंबाला जिला के सभी पत्रकारों में रोष है। इसी रोष स्वरूप मंगलवार को उपायुक्त कार्यालय पर अंबाला के सभी पत्रकारों ने धरना दिया व आरोपी डाक्टर और लापरवाही बरतने वाले थाना प्रभारी के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की, पत्रकारों के इस धरने में कई वर्कर्स यूनियनों व सामाजिक संगठनों ने भी सहयोग दिया व जल्द कार्रवाई की मांग की।

गोरखपुर में राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार पर हमला

गोरखपुर के पीपगंज थाना क्षेत्र के बनकटवां गांव निवासी राष्ट्रीय सहारा के पत्रकार व हियुवा नेता अमित सिंह उर्फ मोनू पर खाद माफ़िया के एक गोल ने जानलेवा हमला कर दिया। पत्रकार की नेतागिरी ही उस पर भारी पड़ गयी। अमित सिंह अखबार के बैनर के सहारे नेतागिरी करता है। वह गोरखपुर के सांसद व गोरखधाम मन्दिर के उतराधिकरी योगी आदित्य नाथ के हियुवा टीम का सक्रिय कार्यकर्ता है। पत्रकारिता के सहारे वह अपने इलाके में दबंगई भी दिखाता है। वह ठेकेदारी का भी काम करता है।

इकानामिक टाइम्स हिंदी का पहली जनवरी से शटर डाउन

नए साल में प्रवेश करते करते एक बड़ी लेकिन बुरी खबर आ गई है. बेनेट कोलमैन (बीसीसीएल) उर्फ टाइम्स आफ इंडिया ग्रुप वालों ने अपने हिंदी बिजनेस दैनिक इकानामिक टाइम्स हिंदी का प्रकाशन बंद करने का फैसला ले लिया है. बताया जा रहा है कि पहली जनवरी से यह अखबार मार्केट में नहीं आएगा. इस अखबार के बंद किए जाने से इसमें कार्यरत दर्जनों मीडियाकर्मियों के सड़क पर आ जाने की आशंका है. हालांकि बताया यह भी जा रहा है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को बीसीसीएल के अखबार नवभारत टाइम्स में एडजस्ट करने की कोशिश की जा रही है.

दो स्‍वीडिश पत्रकारों को ग्‍यारह साल की कैद

अफ्रीकी देश इथियोपिया में यूरोपीय देश स्वीडन के दो पत्रकारों को 11-11 साल की सजा मिली है. उन पर गलत तरीके से देश में घुसने और प्रतिबंधित संगठन की मदद और समर्थन करने का आरोप साबित हुआ है. पिछले हफ्ते ही इन पत्रकारों को दोषी ठहराया जा चुका है, जिसकी सजा मंगलवार को सुनाई गई. इस मामले ने स्वीडन के पत्रकारों में गुस्सा भर दिया है और मामला राजनीतिक मोड़ लेता दिख रहा है.

घाटे में चल रहे रीजनल न्यूज चैनलों को बचाने का जगदीश चंद्र का तीन सूत्री फार्मूला

: ह्विस्पर्स इन द कारीडोर डॉट कॉम नामक वेबसाइट, जो कि प्रशासनिक अफसरों पर केंद्रित है, में प्रशासनिक अफसर से मीडिया एंटरप्रिन्योर बने जगदीश चंद्रा के बारे में एक समाचार छपा है. जगदीश इटीवी के हिंदी न्यूज चैनलों और उर्द चैनल के हेड हैं. जगदीश ने जब इन चैनलों की कमान संभाली थी तो ये भयंकर घाटे में चल रहे थे. पर इनकी पहल से अब ये सारे चैनल फायदे में हैं. अपने के साथ साथ दूसरे रीजनल न्यूज चैनलों के लिए भी जगदीश चंद्र अब लड़ाई लड़ रहे हैं. घाटे में चल रहे रीजनल न्यूज चैनलों के लिए जगदीश चंद्र के पास तीन सूत्री फार्मूला है. क्या है, उसे आप इस खबर के जरिए जान सकते हैं :

कांग्रेस प्रत्याशी सहित दर्जनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

: मामला आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने का : जौनपुर । सदर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में मंगलवार को कम्बल वितरण के लिये लगा स्टाल उस समय फीका पड़ गया जब शहर कोतवाल ने पहुंचकर आदर्श आचार संहिता की बात कहते हुये इसे गलत बताया जिस पर कांग्रेस प्रत्याशी और कोतवाल में हल्की नोक-झोंक हुई। इसी बीच कांग्रेस प्रत्याशी तो रफूचक्कर हो गये लेकिन उड़न दस्ते ने पहुंचकर जहां कुछ कम्बलों को अपने कब्जे में ले लिया, वहीं कांग्रेस प्रत्याशी, एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता सहित दो दर्जन के खिलाफ कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज हो गयी।

इस साल की होली आने वाली हर होली के ढेर सारे रंग छीन ले गई

इस साल होली आने वाली हर होली के ढेर सारे रंग छीन ले गई और अब यह 27 दिसम्बर- आलोक के नहीं होने के बाद का पहला 27 दिसम्बर! कड़ाके की ठण्ड में ठिठुरन से ज्यादा सिहरन-सी महसूस हो रही है. ज्ञानी तो समझा गए कि यह दुनिया ही आनी-जानी है. पर समझ स्वीकार करना तो सिखा सकती है, दर्द कहाँ कम करती है!

उदयपुर जार अध्‍यक्ष डा. तुक्तक भानावत के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव

राजस्थान पत्रकार संघ (जार) के अध्यक्ष को लेकर कार्यकारिणी सदस्यों में असंतोष गहराया गया है। इन सदस्यों ने बैठक कर अध्यक्ष तुक्तक भानावत के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित कर हटाने की घोषणा कर दी है। जार के पदाधिकारियों व कार्यकारिणी सदस्यों ने गुलाब बाग में यह बैठक की। इसमें अध्यक्ष तुक्तक भाणावत की कार्यप्रणाली पर असंतोष जाहिर कर पद से हटाने का निर्णय लिया गया।

लोकपाल और अन्‍ना की बहस में नानाजी देशमुख जैसे फकीरों का असली चेहरा भी देखें

नई दुनिया ने अभी जो अन्ना हजारे और नाना जी देशमुख की एक साथ फ़ोटो छाप कर जो पत्रकारीय कमाल किया है और उस पर चैनलों में जो बहस चली है उस पर माथा पीट लेने को मन करता है। और यहीं काटजू की याद भी आ गई है। काटजू ने अभी हाल ही कहा था कि आज के पत्रकारों को इतिहास या अर्थशास्त्र भी नहीं आता। हालां कि हज़ार दो हज़ार रुपए पर काम करने वाले पत्रकारों से अर्थशास्त्र या इतिहास की जानकारी की उम्मीद करना गंजों के शहर में कंघी बेचना है।

कवि राजकिशोर राजन को मिला रामदेव भावुक सम्‍मान

प्रगतिशील लेखक संघ तथा मुंगेर की साहित्यिक संस्था ‘रचना’ के संयुक्त तत्वाधान में जनकवि रामदेव भावुक स्मृति-सम्मान सह कवि-सम्मेलन का आयोजन पटना के बिहार माध्यमिक शिक्षक संध भवन, जमाल रोड के सभागार में पूरी भव्यता के साथ संपन्न हुआ। समारोह के मुख्य अतिथि वरिष्ठ आलोचक डा. खगेन्द्र ठाकुर एवं बहुचर्चित कवि आलोक धन्वा थे तथा अध्यक्ष पद्मश्री रवीन्द्र राजहंस थे तथा संचालक युवा कवि शहंशाह आलम।

‘भड़ास इलेक्शन सेक्शन’ का शिवपाल ने किया उदघाटन, सपा राज में पत्रकार उत्पीड़न न होने की दी गारंटी

: हिंदी दैनिक डीएनए के चेयरमैन प्रो. निशीथ राय ने नई पहल के लिए भड़ास टीम को दी बधाई : ''उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी. हर तरफ से यह ट्रेंड दिखने लगा है. हम आश्वस्त करना चाहते हैं सभी मीडियाकर्मी साथियों को कि सपा की सरकार बनते ही लखनऊ से लेकर गाजीपुर तक के मीडियाकर्मियों व उनके परिजनों के उत्पीड़न-अपमान का सिलसिला बंद करा दिया जाएगा. सपा के शासनकाल में चौथे खंभे से जुड़े हर सदस्य के मान-सम्मान की रक्षा की जाएगी.'' ये बातें उत्तर प्रदेश विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष और समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेताओं में से एक शिवपाल यादव ने कहीं. मौका था मीडिया से जुड़ी सूचनाओं के नंबर वन न्यूज पोर्टल भड़ास4मीडिया डॉट कॉम पर इलेक्शन सेक्शन के उदघाटन का. एक क्लिक के जरिए इस वेबसाइट की चुनाव कैटगरी का उदघाटन करने के बाद शिवपाल ने इस मौके पर मौजूद संवाददाताओं से बातचीत की.

भड़ास के एक पाठक का नई दुनिया के संपादक आलोक मेहता से कुछ सवाल

मैं बड़े अदब के साथ नई दुनिया के संपादक आलोक मेहता जी से एक सवाल पूछ रहा हूं कि क्या नई दुनिया में निष्पक्ष पत्रकारिता हो रही है? माफ कीजिएगा छोटी मुंह बड़ी बात, पर मैं यह बात इसलिए आपसे कहना चाहता हूं कि आप भ्रष्टाचार के खिलाफ शुरू हुए जन आन्दोलन को काँग्रेस के सुर में सुर मिलाकर इसे आरएसएस का रंग देने की कोशिश करते रहे हैं, आपको यह जन आंदोलन कभी दिखा ही नहीं. हमेशा आपने इसे एक राजनीतीक आंदोलन साबित करने की कोशिश की है.

राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार छाप रहे पेड न्‍यूज, पैसा डाल रहे अपनी जेब में

गोरखपुर से प्रकाशित होने वाले राष्‍ट्रीय सहारा के जिला और तहसील के ब्‍यूरो प्रभारियों ने चुनाव आयोग और अपनी कंपनी को चूना लगाने का हथकंडा अपना लिया है. वे नेताओं से नकदी लेकर वार्ता, जनसंपर्क, विशेष बातचीत के माध्‍यम से चुनावी वैतरणी में खूब गोता लगा रहे हैं. राष्‍ट्रीय सहारा के पत्रकार नेताओं से पैसा लेकर पेड न्‍यूज छाप रहे हैं. नेताओं से मिले पैसे कंपनी को भी नहीं दे रहे हैं.

श्रेय बने इंडिया न्‍यूज के यूपी ब्‍यूरोचीफ, जितेंद्र एवं अभिनव नए ठिकानों पर पहुंचे

लाइव इंडिया से खबर है कि यूपी के ब्‍यूरोचीफ श्रेय शुक्‍ल ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे काफी समय से लाइव इंडिया से जुड़े हुए थे. श्रेय ने अपनी नई पारी जल्‍द लांच होने जा रहे इंडिया न्‍यूज यूपी-उत्‍तराखंड से शुरू की है. उन्‍हें यूपी का ब्‍यूरोचीफ बनाया गया है. दूसरी तरफ खबर है कि लाइव इंडिया के स्ट्रिंगर मार्च महीने से ही पैसा न मिलने से परेशान हैं. श्रेय के जाने के बाद उनकी परेशानी और बढ़ गई है. श्रेय इसके पहले भी कई चैनलों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. श्रेय ने इंडिया न्‍यूज से जुड़ने की पुष्टि की.

जिलाधिकारी ने पत्रकारों को पढ़ाया पेड न्‍यूज का पहाड़ा

इटावा के जिलाधिकारी पी. गुरुप्रसाद ने आज जनपद के समस्त मीडिया कर्मियों को आमंत्रित कर भारत निर्वाचन आयोग के महत्वपूर्ण निर्देशों को सभी के सामने रखते हुए कहा कि मीडिया को भी पेड न्यूज़ से परहेज करना पड़ेगा नहीं तो 171 एच आईपीसी के तहत कार्रवाई की जाएगी। कई मीडिया कर्मियों में पेड न्यूज़ की गाइड लाइन जानने की बहुत उत्सुकता रही। जिलाधिकारी ने जनहित में यह भी बताया कि आचार संहिता के दौरान आम जनता का कोई भी व्यक्ति एक लाख रुपए से ज्यादा की रकम साथ लेकर चलता पाया जायेगा तो उसको रुपए  की आय का स्रोत भी बताना होगा नहीं तो समस्त रकम जब्त कर ली जाएगी।

दैनिक जागरण के पत्रकार को पितृशोक

लुधियाना : दैनिक जागरण के लुधियाना कार्यालय में कार्यरत वरिष्ठ मुख्य संवाददाता एम श्रीधर राव राजू के पिता श्री एम लक्ष्मण राव निवासी विजया गार्डन, बारीडीह, जमशेदपुर (झारखंड) का सोमवार शाम को निधन हो गया। वे पांच महीने से बीमार चल रहे थे। जमशेदपुर में ही उनका इलाज चल रहा था। उनका अंतिम संस्कार बुधवार …

भाजपा विधायक ने चुराई पंडित की दक्षिणा, कैमरे में हुईं कैद!

सिवनी (वेद बघेल)। मध्य प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष और सिवनी की विधायक श्रीमती नीता पटेरिया हैं किन्तु उनकी मेजबानी में आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में उन्होंने जो हरकत की है, वह भाजपा के लिए शर्मसार करने को पर्याप्त मानी जा सकती है। प्रभारी मंत्री द्वारा पूजन अर्चन के उपरांत पूजा की थाली में पंडित जी की दक्षिण के रखे गए पैसे विधायक श्रीमति नीता पटैरिया द्वारा उठा लिए गए। वहां उपस्थित पंडित क्षेत्रीय विधायक के उक्त कृत्य को देखकर अचरज में पड़ गया। मीडिया कर्मियों ने इस दृश्य को अपने कैमरे में कैद भी कर लिया।

प्रेरणा पुरुष हैं मदन मोहन मालवीय एवं राम बहादुर राय!

मजीठिया वेज बोर्ड का साइन करने के बाद लग रहा है दैनिक जागरण के पत्रकार बदहवास हो गए हैं. आंय-बांय-सांय कुछ भी छाप दे रहे हैं. काशी हिंदू विश्‍वविद्यालय के संस्‍थापक महामना मदन मोहन मालवीय की एक सौ पचासवीं जयंती पर राष्‍ट्रीय स्‍वयं सेवक संघ ने मेरठ में एक कार्यक्रम आयोजित की थी. इस कार्यक्रम में वरिष्‍ठ पत्रकार राम बहादुर राय को भी बुलाया गया था.

कुमार प्रशांत एवं धर्मेंद्र कृष्‍ण ने शुरू की नई पारी

हमार टीवी से कुमार प्रशांत सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां प्रोग्रामिंग डेस्‍क पर कार्यरत थे. प्रशांत ने अपनी नई पारी हरियाणा न्‍यूज के साथ शुरू की है. प्रशांत को यहां पर असिस्‍टेंट प्रोड्यूसर बनाया गया है. वे इसके पहले भी कुछ संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. बताया जा रहा है कि हमार टीवी की आंतरिक दिक्‍कतों के चलते प्रशांत परेशान थे तथा मौका मिलते ही संस्‍थान को बाय कर दिया.

सहारा समय के रिपोर्टर नवीन लाल सम्‍मानित

 : एनएआई एचीवमेंट अवार्ड समारोह आयोजित : न्यूजपेपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के तत्वावधान में आज नई दिल्ली के कांस्टिट्यूशन क्लब में एनएआई एचीवमेंट अवार्ड समारोह हुआ। इस समारोह में केंद्रीय मंत्री हरीश रावत मुख्य अतिथि थे, जबकि दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष डा. योगानंद शास्त्री ने अध्यक्षता की। हरियाणा यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के प्रदेशाध्यक्ष एवं नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स के राष्ट्रीय सचिव संजय राठी समारोह में विशिष्ठ अतिथि के रूप में शामिल हुए।

संतुलन साधने में दम तोड़ देता है सच : अरूण शौरी

: जनाकांक्षाओं से जुड़े मीडिया – राज्यपाल : भोपाल। मध्यप्रदेश के राज्यपाल रामनरेश यादव कहना है कि मीडिया की तरफ लोग बड़ी आशा भरी निगाहों से देखते हैं इसलिए जनांकांक्षाओं के साथ जुड़ना पत्रकारों की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। वे यहां माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय, भोपाल द्वारा प्रशासन अकादमी में आयोजित दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी के उदघाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

राष्‍ट्रीय सहारा के रिपोर्टर ने की शिकायत, ब्‍यूरोचीफ ने निकाला

समाचार पत्र में पत्रकारों को बंधुआ मजदूर की तरह काम करना पड़ता है। संपादक और ब्यूरो चीफ जब चाहते हैं अपने संवाददाता को बाहर का रास्ता दिखा देते हैं। शाहजहांपुर के सहारा समय के कार्यालय में भी कुछ ऐसा ही हुआ। सहारा न्‍यूज ब्यूरो इंचार्ज ने अपने कार्यालय में काम करने वाले अमर दीप रस्तोगी को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। बताया जा रहा है कि राष्ट्रीय सहारा के क्राइम रिपोर्टर अमरदीप रस्तोगी को सच बोलना महंगा पड़ गया।

ट्रेन हादसे में एनआईपी के पत्रकार विवेक मिश्रा का पैर कटा

नार्दन इंडिया पत्रिका, इलाहाबाद में कार्यरत विवेक मिश्रा रविवार को हुए एक हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए. इस हादसे में उनका एक पैर कट गया. विवेक का इलाज लखनऊ के किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज में चल रहा है. मूल रूप से लखनऊ के रहने वाले विवेक छुट्टी लेकर लखनऊ आ रहे थे. ट्रेन पर चढ़ने के दौरान उनका पैर फिसल गया और वो नीचे गिर गए. ट्रेन की चपेट में आने से उनका एक पैर कट गया.

आलोक घटनाओं तक पहुंचकर उसकी धड़कन सुनने का जहमत उठाते थे

: आलोक तोमर के जन्‍मदिन पर विशेष : आलोक तोमर तेजस्वी और तपस्वी पत्रकार थे। कुछ वर्षों में वे अनचाही आपदा से घिर जाने के कारण क्लांत अवश्य थे परंतु नैराश्य तथा अवसाद को उन्होंने खुद पर हावी नहीं होने दिया था। अपनी साफगोई उन्होंने बचा कर रखी थी। अपने लेखन में अक्षर-अक्षर रचा कर रखी थी।

आज की पत्रकारिता को आलोक तोमर की जरूरत थी

: आलोक तोमर के जन्‍म दिन पर विशेष : आलोक तोमर की जब पत्रकारिता को ज्‍यादा जरूरत थी तब वे हमारे बीच से चले गए. पत्रकारिता को आलोक तोमर की जरूरत आज इसलिए ज्‍यादा है क्‍योंकि आज पत्रकारिता में पत्रकारीय तेवर रखने वाले बहुत कम हैं. पत्रकारिता में पब्लिक रिलेशन करने वाले, पत्रकारिता में चारणगान करने वाले, पत्रकारिता में पॉलिटिकल पार्टी का एजेंडा लागू करने वाले लोग तो बहुत ज्‍यादा हैं लेकिन पत्रकारिता में पत्रकारिता का मान रखने वाले बहुत कम लोग हैं. आलोक तोमर ने पत्रकारिता में हमेशा जीवंतता को बनाए रखा.

आलोक ने हमेशा सच बोलने के खतरे उठाए

आज उनके जन्म दिन पर उनको याद करते हुए 25 साल पुरानी स्मृतियों के चितवन से यादों के पुष्प सुवासित होने लगते हैं। 1986 में जनसत्ता दिल्ली के दफ्तर में अपने शहर के एक वरिष्ठ के मार्फत जिस अनोखे शख्स से मिलने का मौक़ा मिला उनके सहज बर्ताव और बिंदास लेखनी ने प्रभावित किया। फिर तो ऐसा हुआ कि रोज शाम को जनसत्ता में अपन घूमते पाए जाते। चंद दिनों की मुलाक़ात में ही आलोकजी का स्नेह छोटे भाई पर बड़े भाई की तरह बरसता। वे मुझ जैसे कई स्ट्रगलरों के बड़े भाई थे।

आलोक तोमर की असलियत पता है?

अब आलोक तोमर को मुझसे ज्यादा कोई नहीं जानता। मेरी अपनी विनम्र राय में आलोक तोमर एक फर्जी आदमी है। साहित्यकार और उसमें भी कवि बनने निकले थे। बाकायदा इलाहबाद जा कर महादेवी वर्मा, इलाचंद्र जोशी, नरेश मेहता और उपेंद्र नाथ अश्क आदि से मिल आए थे। लेकिन फिर कविता पीछे रह गई और चूंकि पत्रकारिता में नाम और दाम दोनों थे इसलिए साहित्य के चोर दरवाजे से पत्रकारिता में घुस गए।

वरिष्‍ठ पत्रकार एनएन जगन्‍नाथन एवं आरएन झा का निधन

द इंडियन एक्‍सप्रेस एवं फाइनेंसियल एक्‍सप्रेस के एडिटर इन चीफ रहे वरिष्‍ठ पत्रकार एनएस जगन्‍नाथन का बंगलुरू में 24 दिसम्‍बर को निधन हो गया. वे 89 साल के थे तथा पिछले कुछ समय से अस्‍वस्‍थ चल रहे थे. वे लगभग चार दशक तक मुख्‍य धारा की पत्रकारिता में सक्रिय रहे. वे अरुण शौरी के रिटायरमेंट के बाद इंडियन एक्‍सप्रेस के ग्रुप एडिटर बने. जगन्‍नाथन ने प्रो. पीएस सुंदरम द्वारा लिखित काम्‍बा रामायनम के अंग्रेजी वर्जन को संपादित भी किया था.

अब तो बस आलोक की यादें ही शेष हैं

हमारे बीच से अचानक चले जाने वाले तेज तर्रार और जुझारू पत्रकार आलोक तोमर का आज जन्‍म दिन है. भूलोक से विदा लेने के बाद पहला जन्‍म दिन. उनसे जुड़ा हर कोई उन्‍हें याद कर रहा है. अगर यह कहा जाए कि भूला ही नहीं है तो बिल्‍कुल गलत नहीं होगा. इन लोगों को लगता है कि आलोक कहीं आसपास ही है, और कभी भी आ सकता है. भिंड का यह शेर नाम का ही आलोक नहीं था, बल्कि पत्रकारिता को भी उसने नाम के अनुरूप ही अलौकिक किया.

उपराष्‍ट्रपति करेंगे उर्दू संपादकों के सम्‍मेलन का उद्घाटन

हैदराबाद। उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी 30 दिसंबर से यहां विश्व उर्दू संपादक सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। सम्मेलन के आयोजक जाहिद अली खान ने संवाददाताओं से कहा कि दुनिया भर के प्रमुख उर्दू संपादकों के दो दिवसीय सम्मेलन का उद्देश्य उर्दू मीडिया को एकजुट करना है और भाषा को बढ़ावा देना है, जो 150 देशों में पढ़ा जाता है।

डा. रमन सिंह पर लगे आरोप तथ्‍यहीन और झूठे, ईटीवी ने अफसोस जताया

मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के खिलाफ कांग्रेस के आरोपों पर आधारित समाचारों के विगत दिनों हुए प्रसारण पर संबंधित निजी टेलीविजन चैनल ने रविवार को खेद प्रकट किया है। शाम के अपने समाचार बुलेटिन में चैनल ने कहा है कि डॉ.रमन सिंह पर मध्यप्रदेश में कथित रूप में खदानों के आवंटन में अपने प्रभाव का इस्तेमाल किए जाने के कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोप पूरी तरह निराधार साबित होते नजर आ रहे हैं।

रीजनल चैनलों से टाइअप कर हेल्‍थ चैनल दिखाएगा दूरदर्शन

उदयपुर। सरकार स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी जानकारियों को आमजन तक पहुंचाने के लिए रीजनल चैनलों से जुड़ने जा रही है. उदयपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में केन्द्रीय चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री गुलाम नबी आजाद ने कहा कि केंद्र सरकार की स्वास्थ्य संबंधित योजनाओं को आमजन तक पहुंचाने के लिए दूरदर्शन व रेडियो रीजनल चैनल के साथ टाइअप कर रहे हैं.

आने वाला समय ऑनलाइन मीडिया का है

मोनिका लेवेंस्की और बिल क्लिंटन के अफेयर से जुड़ी खबर एक लीडिंग अमेरिकी मैगजीन के हाथ लगी, लेकिन उसने इसे छापने से इंकार कर दिया। उसके बाद किसी भी मेनस्ट्रीम मीडिया ने उसे नहीं छापा तो इस खबर को एक वेबसाइट ने जगह दी। ऑनलाइन मीडिया पर ब्रेक होने वाली यह सबसे बड़ी खबर बन गयी।

यह क्या हो गया है यूपीए सरकार को

इस वर्ष की दो बड़ी विशेषताएं रही हैं। पहला, जनता की सामूहिक चेतना में व्यापक बदलाव जो कि आने वाले दिनों में काफी सकारात्मक भूमिका निभाएगा और दूसरा वर्ष के उत्तरार्ध में सरकार की लगातार गिरती साख। साख गिरने का कुछ कारण तो कुछ घटनाओं को लेकर था लेकिन जो बची-कुची इज़्जत थी वह सरकार के अदूरदर्शी नेताओं ने गलत संदेश देकर ख़त्म कर दी।

डीडी न्‍यूज के पत्रकार अशोक श्रीवास्‍तव को बंधक बनाकर बदमाशों ने लूटा

कौशाम्बी। थाना इंदिरापुरम क्षेत्र कौशाम्बी में रविवार की देर रात डीडी न्यूज चैनल के एक पत्रकार का तीन सशस्त्र बदमाश हथियारों के बल पर अपहरण कर ले गये और उसके बैंक खाते से 40 हजार रुपये एटीएम से निकाल लिए। इतना ही नहीं उसकी मारुति (स्विफ्ट) कार भी ले उड़े। बदमाशों ने पत्रकार को बागपत ले जाकर छोड़ा।

सनी लियोन को लेकर बीसीसीसी ने कलर्स को चेतावनी दी

विदेशों में अश्लील (पोर्न) फिल्मों की नायिका और रियलिटी शो बिग बॉस की प्रतिभागी सनी लियोन से जुड़ी शिकायतों के मद्देनजर ब्रॉडकास्टिंग कंटेंट कंप्लेंट काउंसिल (बीसीसीसी) सचेत हो गई है। काउंसिल ने कलर्स चैनल से कहा है कि वह सुनिश्चित करे कि कहीं इस शो केजरिये सनी लियोन अपने असली बिजनेस का प्रचार न करे।

स्‍वतंत्र भारत के पत्रकार चंद्र किशोर को पितृशोक

स्‍वतंत्र भारत, लखनऊ के वरिष्‍ठ वरिष्‍ठ पत्रकार चंद्र किशोर शर्मा के पिताजी का सोमवार की दोपहर को निधन हो गया. वे कुछ समय से बीमार चल रहे थे. उनका अंतिम संस्‍कार मंगलवार को भैंसाकुंड घाट पर सुबह दस बजे किया जाएगा. चंद्र किशोर के पिता के निधन की खबर सुनकर तमाम पत्रकार, बुद्धिजीवी एवं उनके …

फेसबुक पर डाली साथी छात्रा की अश्‍लील फोटो, एयरपोर्ट से गिरफ्तार

मुंबई। मुंबई की साइबर अपराध जांच सेल ने 25 वर्षीय एक युवक को कॉलेज की महिला मित्र की नग्न तस्वीर खींचकर शारीरिक संबंध बनाने तथा पैसे देने के लिए ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार अमेरिका में इंजीनियरिंग की पढा़ई कर रहे कोल्हापुर निवासी बलीराम पटोले को पुलिस ने कल सुबह मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया। पटोले क्रिसमस की छुट्टी मनाने के लिए अमेरिका से यहां आया था।

यूपी में ठेकेदारों, माफियाओं, भ्रष्‍टाचारियों और चरित्रहीनों ने चलाई सरकार

जनप्रतिनिधियों की प्रतिष्ठा का ग्राफ काफी पहले से ही नीचे आने का क्रम शुरू हो ही गया है, तभी लोग राजनीति को गंदे नाले की संज्ञा देने लगे हैं। देश के या अधिकांश राज्यों के कमोवेश एक जैसे ही हालात हैं और अधिकांश राज्यों में राजनेताओं को लेकर लोगों की लगभग एक जैसी ही राय बनती जा रही है। बात सिर्फ उत्तर प्रदेश की ही की जाये, तो बसपा सरकार के
कार्यकाल में सत्ताधारी विधायकों व मंत्रियों के कारनामों ने लोकतंत्र को ही कलंकित कर दिया है।

डाक्‍टर ने भास्‍कर के पत्रकार को पीटा, कनपटी पर पिस्‍टल रखी

: पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया : घटना को लेकर पत्रकारों में रोष : दैनिक भास्कर, अंबाला में कार्यरत रिपोर्टर सनमीत सिंह थिंद की शहर के सिविल अस्पताल में कार्यरत डा. अरुण दलाल ने रविवार रात बुरी तरह पिटाई की और जब पत्रकार ने विरोध किया तो डा. ने पिस्टल निकालकर उसकी कनपटी पर रख दी। इसके बाद उसने उन खबरों की याद दिलाई, जो हाल ही में पत्रकार ने छापी थी और जिसके कारण डीसी अंबाला ने उक्‍त डाक्‍टर के खिलाफ कार्रवाई मार्क की थी।

चंदन प्रताप सिंह के पिता की हालत चिंताजनक

देश के जाने माने पत्रकार एसपी सिंह के बड़े भाई एवं न्‍यूज एक्‍सप्रेस से जुड़े वरिष्‍ठ पत्रकार चंदन प्रताप सिंह के पिता नरेंद्र प्रताप सिंह की हालत चिंताजनक है. उन्‍हें कोलकाता के एक निजी चिकित्‍सालय में भर्ती कराया गया है. 70 वर्षीय श्री सिंह की तबीयत शुक्रवार को अचानक बिगड़ गई. परिजनों ने तत्‍काल उन्‍हें अस्‍पताल में एडमिट कराया, जहां उनका सुगर काफी बढ़ा हुआ था तथा दोनों वाल्‍ब जाम हो गए थे. 

यशवंतजी, पत्रकारिता के बेसिक चीजों का ख्‍याल तो रखना ही चाहिए

यशवंत जी, बड़े संस्‍थानों में काम को लेकर अक्‍सर आपस में मतभेद चलते रहते हैं. यह एक प्रक्रिया है. इससे बचा भी नहीं जा सकता है. कई बार काम के दबाव-तनाव या ठीक ढंग से काम न होने के चलते सीनियर या प्रशा‍सनिक लोग अपने जूनियरों पर नाराज भी होते हैं. कभी-कभी यह नाराजगी सामने वाले को अच्‍छी नहीं लगती है. तमाम संस्‍थानों से आंतरिक बातें आती हैं, कुछ सही होती हैं, कुछ सही नहीं भी होती हैं.

आशीष, शिशिर एवं शशिकांत की नई पारी, मनोज का तबादला

अमर उजाला, कानपुर से खबर है कि आशीष अग्रवाल ने फिर संस्‍थान ज्‍वाइन कर लिया है. आशीष को फर्रुखाबार का ब्‍यूरोचीफ बनाया गया है. आशीष इसके पहले भी अमर उजाला से जुड़े हुए थे परन्‍तु किसी कारण से कुछ समय पहले उन्‍होंने इस्‍तीफा दे दिया था. आशीष तेरह सालों से अमर उजाला से जुड़े हुए थे तथा करियर भी इसी अखबार से शुरू किया था.

मुसलमान ही करते हैं मुस्लिम वोटों का सौदा

हिंदुस्तान में जब भी चुनाव का समय आता है चाहे वह विधानसभा चुनाव हो या लोकसभा चुनाव, सबसे अधिक बहस इस बात को लेकर होती है कि इस बार मुसलमान किसे वोट देंगे।  चूंकि भारत में मुसलमानों की एक बड़ी संख्या बसती है, इसलिए अधिकांश राज्यों में पार्टी की जीत या हार में मुसलमानों के वोट की बड़ी अहमियत होती है।

28 साल पहले क्‍या अन्‍ना ऐसे ही दिखते थे?

दिल्ली से प्रकाशित होने वाले अखबार ‘नई दुनिया’ में अन्ना हजारे को संघ के वरिष्ठ नेता नाना जी देखमुख के साथ जिला गोंडा (उत्तर प्रदेश) में दिखाया गया है। अब बड़ा सवाल यह है कि क्या 28 साल पहले अन्ना हजारे आज की ही तरह दिखते हैं। क्या, अन्ना हजारे ने कायाकल्प कर लिया है? नई दुनिया की यह खबर अपने आप में कुछ सवाल खड़े कर रही है।

अदम गोंडवी जनता के बड़े कवि हैं

: लेखक एवं संस्‍कृतिकर्मियों ने उन्‍हें याद किया : लखनऊ। अदम की कविताएँ जनता की भाषा में जनता की बात करती है। इनमें तल्खी व बेचैनी है। व्यवस्था का विरोध इनका मूल स्वर है। अदम ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं थे लेकिन वे जनता के दुख-दर्द व उसके अनुभव से गहरे रूप से जुड़े थे। स्वाध्‍याय के माध्यम से उन्होंने अपने को सचेतन रूप से विकसित किया था। वे ऐसे दौर में सक्रिय रहे जब जन आंदोलन व जन प्रतिरोध शिथिल रहा है। ऐसे दौर में अदम हमारे अन्दर जन प्रतिरोध की मशाल जलाते हैं। हमें जिन्दगी के ताप को गहरे महसूस कराते हैं। इस अर्थ में वे नागार्जुन, दुष्यंत, गोरख पाण्डेय व धूमिल की तरह जनता के बड़े कवि हैं। उनका असमय जाना हिन्दी की प्रगतिशील व जनवादी काव्यधारा की बड़ी क्षति है।

भाजपा के लिए काम कर रही है पीस पार्टी!

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव बेहद नजदीक होने के साथ ही सर्द मौसम में राजनीतिक पार्टियों की सरगर्मियां बेहद गरम हो गई हैं। कांग्रेस ने अल्पसंख्यकों के लिए 4.5 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा करके माहौल को और ज्यादा गरम कर दिया है। बसपा तो कांग्रेस के इस कदम से ''सकते'' की हालत में लगती है। किसी भी तरीके से सभी राजनीतिक दलों को मुसलमानों के वोट दरकार है। यहां तक कि भारतीय जनता पार्टी भी मुस्लिम वोटों का मोह नहीं त्याग पा रही है। ऐसा हो भी क्यों नहीं, उत्तर प्रदेश में मुस्लिम वोट 18 से 20 प्रतिशत तक हैं। यह वोट प्रदेश की लगभग 130 विधानसभा सीटों पर निर्णायक सिद्ध होते हैं।

साख बढ़ाने के लिए फर्जी खबरें दिखा रहा है टीवी9

गुजरात में नम्‍बर एक होने का दावा करने वाले टीवी9 के पास खबरों का टोटा पड़ गया है इसलिए टीवी9 फर्जी खबरों को भी चलाने में कोई कसर नही छोड़ रहा है। इसका जीता जागता उदाहरण है खुद टीवी-9 स्पेशल रिपोर्ट LIQUOR IN TOMATO (नशीले टमाटर) यू-टयूब पर ये खबर अभी भी मौजूद है। यह खबर पूरी तरह से फर्जी बनाई गई है।

बेशर्म खंडूरी! चुनावी कवरेज और पेड न्‍यूज के लिए करोड़ों रुपये बांटे

: निशंक की राह पर चल रहे सीएम की पोल खोलेगा उत्‍तराखंड जर्नलिस्‍ट फोरम : मीडिया को भ्रष्‍टाचारी बनाने का खुला खेल : देहरादून। ईमानदारी का ढोल पीट रहे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बीसी खंडूरी राज्य में पेड न्यूज के काले-कारोबार को बढ़ावा देकर मीडिया को पतित करते जा रहे हैं। भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे निशंक की विदाई के बाद जिस दिन से खंडूरी ने सत्ता संभाली, तब से क्षेत्रीय न्यूज चैनल्स को स्पेशल पैकेज देकर खुलेआम पैसे देकर सरकार के पक्ष में कवरेज कराई जाती रही है। राज्य में काम करने वाले क्षेत्रीय चैनल्स पर दिखाई जाने वाली खबरें इस बात की तस्दीक करती रही हैं।

न्‍यूज24 के रिपोर्टर नरेंद्र को पितृशोक

न्यूज 24 विदिशा (मध्य प्रदेश) के रिपोर्टर नरेन्द्र विश्वकर्मा के पिताजी श्री माधवप्रसाद विश्वकर्मा का स्वर्गवास दिनांक 16/12/2011 को हो गया था, जिनकी अंतिम यात्रा उनके पैतृक निवास शमशाबाद में निकाली गई। इनकी अंतिम यात्रा में नगर के गणमान्य नागरिक एवं समस्त पत्रकार साथी शामिल हुए। पत्रकार नरेन्द्र विश्वकर्मा को उनके साथियों ने सांत्वना दी …

जागरण के पत्रकारों को महंगा पड़ेगा मजीठिया वेज बोर्ड

: कानाफूसी : जागरण प्रबंधन ने मजीठिया बोर्ड की सिफारिशों के बाबत तैयारी शुरू कर दी है। हर एडिशन में सम्‍पादकीय सहयोगियों की संख्‍या निर्धारित कर दी है। अगर कोर्ट से राहत नहीं मिली तो बड़ी संख्‍या में लोगों को बाहर का रास्‍ता तो दिखाया जा सकता है, साथ ही जो लोग काम करेंगे उनपर जमकर बोझ डालने की भी तैयारी है।

फेसबुक और संपादक सीआई चुम्‍बर के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

मेरे द्वारा थाना गोमतीनगर, लखनऊ में फेसबुक नामक सोशल नेटवोर्किंग साईट पर फेसबुक इंक. एवं जालंधर निवासी सीआई चुम्बर नामक एक व्यक्ति, जो खुद को एक पंजाबी दैनिक के प्रधान संपादक कहते हैं, के विरुद्ध उनके आपराधिक कृत्य के सम्बन्ध में फेसबुक कंपनी तथा अन्य के विरुद्ध एफआईआर संख्या 862/2011 अंतर्गत धारा 153, 153 A(1), 153-B, 290, 504, 505,506 आईपीसी तथा धारा 66 A इन्फोर्मेशन टेक्नोलोजी एक्ट 2000 मुक़दमा दर्ज कराया गया है. आलोक सिंह, क्षेत्राधिकारी, गोमतीनगर, लखनऊ इसकी विवेचना कर रहे हैं.

चुनावी एक्शन! मायावती ने अबकी चार मंत्रियों को निपटाया

लखनऊ से खबर है कि मुख्यमंत्री मायावती ने खुद को करप्शन के खिलाफ लड़ने वाली नेता साबित करने के लिए अबकी चार मंत्रियों को बर्खास्त कर दिया है. मायावती ने यह कदम यूपी में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा किए जाने के ठीक एक दिन बाद उठाया है. मंत्रियों को बर्खास्त किए जाने के …

हिन्दी अखबारों में अंग्रेजी शब्दों के प्रयोग से क्षुब्ध हैं सुदर्शन

भोपाल। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व प्रमुख के एस सुदर्शन ने मध्यप्रदेश जैसे हिन्दीभाषी इलाकों से प्रकाशित हिन्दी दैनिक समाचार पत्रों में अंग्रेजी शब्दों के बढ़ते उपयोग पर गहरी चिंता प्रकट करते हुए कहा है कि इससे भावी पीढ़ी की भाषा भ्रष्ट होने का खतरा है।  सुदर्शन ने संवाददाताओं से अनौपचारिक बातचीत में कहा, ‘‘हिन्दीभाषी क्षेत्रों, जिसमें मध्यप्रदेश भी शामिल है, से प्रकाशित हिन्दी दैनिक समाचार पत्रों में अंग्रेजी शब्दों के बढ़ते उपयोग से वह बेहद चिंतित हैं’’। 

विनोद मेहता के बयान से दुखी हैं काटजू, लिखा पत्र

 

Dear Mr. Mehta,  I recently watched your comments about me in a t.v. panel discussion on Karan Thapar's show 'The Last Word'. You said,among other things, that a strong attack has been launched against the media, and it appears that the insinuation was that the Government had picked me up for this attack.You also said that I am shooting off everywhere, and that I had done a disservice to the media.

न्‍यूज24 नीचे खिसका, न्‍यूज एक्‍सप्रेस टॉप टेन में पहुंचा

टीआरपी रेटिंग में 51वें सप्‍ताह में कुछ बदलाव हुए हैं. ऊपर के तीन स्‍थानों में तो कोई अंतर नहीं आया है, परन्‍तु आजतक ने इंडिया टीवी से अपनी दूरी जरूर बढ़ा ली है. दूसरा बदलाव न्‍यूज24 के नीचे खिसक जाने से हुआ है. पिछले कई सप्‍ताह से नम्‍बर चार पर कब्‍जा जमाए न्‍यूज24 खिसक कर छठे स्‍थान पर पहुंच गया है. उसकी जगह आईबीएन7 ने ले ली है. इन सबके बीच जो सबसे चौकाने वाला बदलाव है, वह है न्‍यूज एक्‍सप्रेस का टॉप टेन में पहुंचना.

रवि की नई पारी, अंबिका का तबादला, पोम्‍पा का इस्‍तीफा

दैनिक जागरण, नोएडा से डीएनई रवि बुले ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां सेंट्रल डेस्‍क पर कार्यरत थे. रवि ने अपनी नई पारी अमर उजाला, नोएडा से शुरू की है. उन्‍हें यहां एनई बनाया गया है. रवि की अमर उजाला के साथ यह दूसरी पारी है. दो साल पहले से अमर उजाला से ही दैनिक जागरण गए थे.

यूपी में प्रियंका गांधी पहुंचाएंगी राहुल के मिशन को अंजाम तक!

राहुल गांधी की हैसियत बनाए रखने के लिए कांग्रेस अपना सबसे बड़ा तुरुप का पत्ता चलने की योजना बना रही है। भाई के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए इस बार बहन पर दांव लगाया जा रहा है। सभी जानते हैं कि यूपी के इन विधान सभा चुनावों से यह तय हो जायेगा कि राहुल गांधी से दिल्ली की कुर्सी कितनी दूर है! अगर यूपी में कांग्रेस अपेक्षित नतीजे नहीं दे पायी तो राहुल गांधी प्रधानमंत्री की कुर्सी से बहुत दूर हो जायेंगे! लिहाजा राहुल की साख को बचाने के लिए रणनीति बनाई जा रही है कि प्रियंका गांधी प्रदेश भर का दौरा करके कांग्रेस को जिताने की अपील करें। इस बात से कोई इनकार नहीं करता कि राहुल के मुकाबले में प्रियंका का व्यक्तित्व कहीं ज्यादा बड़ा है और अगर प्रियंका इस तरह दौरे करेंगी तो प्रदेश भर में कांग्रेस का जनाधार बढ़ेगा।

केंद्रीय मंत्री ने मेघालय में पचास पत्रकारों को तोहफे में लैपटॉप दिया

शिलांग । जल संसाधन राज्य मंत्री विंसेट एच पाला ने आज 50 वरिष्ठ पत्रकारों को मेघालय में लैपटॉप बांटा ताकि पूर्वोत्तर राज्य में लोगों को दी जाने वाली सेवाओं में वे सुधार कर सकें। सरकारी इंजीनियर से नेता बने पाला ने कहा, ‘‘सांसद निधि योजना के तहत लैपटॉप स्वीकृत नहीं किए गए हैं। बल्कि यह उनकी ओर से व्यक्तिगत तोहफा है।’’

फेसबुक और पंजाबी दैनिक के संपादक के विरुद्ध पुलिस से शिकायत

मेरे द्वारा थाना गोमतीनगर, लखनऊ में फेसबुक नामक सोशल नेटवोर्किंग साईट पर जालंधर निवासी सीआई चुम्बर नामक एक व्यक्ति, जो खुद को एक पंजाबी दैनिक के प्रधान संपादक कहते हैं, के विरुद्ध उनके आपराधिक कृत्य के सम्बन्ध में फेसबुक कंपनी तथा अन्य के विरुद्ध अंतर्गत धारा 153, 153 A (1), 153-B, 290, 504, 505,506 आईपीसी तथा धारा 66 A इन्फोर्मेशन टेक्नोलोजी एक्ट 2000 मुक़दमा दर्ज करने हेतु आवेदन पत्र रिसीव कराया गया है. थाना इंचार्ज ने मुझे यह आश्वासन दिया गया है कि इस सम्बन्ध में यथाशीघ्र एफआईआर दर्ज कर लिया जाएगा.

फर्जी मीडियाकर्मी को जेल भेजा गया

राजगढ़ के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी समरोज खान ने एक ग्राम पंचायत के दलित सरपंच को धमका कर रुपए मांगने और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने के आरोप में एक फर्जी मीडियाकर्मी को आज न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। अनुसूचित जाति कल्याण थाना के डीएसपी अरविंद सिंह चौहान के अनुसार ग्राम पंचायत झंझाड़पुर के दलित सरपंच करण सिंह की शिकायत पर 25 हजार रुपए मांगने और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने के मामले में मीडियाकर्मी अनूप सक्सेना पर मामला दर्ज किया गया था।

नागपुर में कई पत्रकारों का हुआ सम्मान

नागपुर। संतरानगरी का तिलक पत्रकार भवन शुक्रवार को वरिष्‍ठ पत्रकारों के सम्मान का गवाह बना। विधानसभा का शीत सत्र उपराजधानी में खत्म हुआ। सरकार के अलविदा कहते-कहते पत्रकारों को अपना ही सम्मान करवाने की सूझी। मुख्यमंत्री से समय मांगा। सीएम समझ गए कि बुजुर्ग पत्रकारों की पत्रकारिता अब कुछ गिने-चुने दिनों की बची है, लिहाजा, आकर टाइम खराब करना उचित नहीं समझा। यही सीएम पिछले वर्ष नागपुर के ही डा.वसंतराव देशपांडे सभागृह में श्री अरविंदबाबु देशमुख पत्रकारिता पुरस्कार वितरण समारोह में युवा पत्रकारों को पुरस्कृत करने मंत्रिमंडल के साथ दौड़े आए थे।

”मोरारजी देसाई सीआई के ‘स्टार परफार्मर जासूस’ थे”

भारतीय संस्थानों के पास यह सूचना पहले से थी कि पूर्व प्रधानमंत्री मोरारजी देसाई पर सीआईए का जासूस होने के आरोप लगाने वाले अमेरिकी पत्रकार सीमूर हर्श ने दरसअल अपनी किताब में इस तरह के गंभीर आरोप लगाने से पहले कुछ भारतीय अधिकारियों से संपर्क किया था।

संडे इंडियन के ओंकारेश्‍वर पांडेय व विजया भारती में हाथापाई!

: कानाफूसी : प्‍लानमैन मीडिया से खबर है कि संडे इंडियन के मैनेजिंग एडिटर ओंकारेश्‍वर पांडेय एवं उनकी पत्‍नी एवं जानीमानी कलाकार विजया भारती के बीच कार्यालय में बहस तथा हाथापाई हो गई. इस हाथापाई में विजया भारती को चोट लगी है. बताया जा रहा है कि किसी बात को लेकर विजया भारती नाराज थी और ओंकारेश्‍वर के कार्यालय पहुंच गईं. दोनों लोगों के बीच कहासुनी के विवाद हो गया, उसी में यह घटना घट गई.

यूपी में सात चरण में होगा मतदान, मतगणना चार मार्च को

: पंजाब, उत्‍तराखंड, मणिपुर एवं गोवा में एक चरण में होगा चुनाव : नई दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने 5 राज्‍यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान कर दिया है. साल 2012 में पांच राज्‍यों में एक साथ ही चुनाव कराए जाएंगे. इन सभी राज्यों में 28  जनवरी से लेकर 3 मार्च तक चुनाव कराए जाएंगे. मतगणना 4 मार्च को होगी. जिन पांच राज्यों में अगले साल चुनाव होने हैं वे हैं- उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखण्ड, गोवा और मणिपुर. मुख्य निर्वाचन आयुक्त एस. वाई. कुरैशी ने शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में चुनाव की तारीखों की घोषणा की. चुनाव की तारीखों की घोषणा होते ही चुनाव आचार संहिता लागू हो गई है.

चौथी दुनिया का मथुरा कार्यालय उद्घाटित

राष्‍ट्रीय साप्‍ताहिक समाचार पत्र चौथी दुनिया के मथुरा कार्यालय का शनिवार को धूमधाम से उद्घाटन किया गया. साप्‍ताहिक समाचार पत्रों में अलग व धारदार पहचान रखने वाले चौथी दुनिया के यूपी-उत्‍तराखंड एडिशन की लांचिंग एक साल पहले हुई थी. राष्‍ट्रीय एडिशन के 16 पन्‍नों के साथ चार पन्‍ने में यूपी-उत्‍तराखंड एडिशन भी प्रकाशित होता है. कार्यालय के उद्घाटन के दौरान प्रधान संपादक संतोष भारतीय समेत तमाम स्‍थानीय गणमान्‍य लोग मौजूद रहे.

उनकी चिंता का कारण सुनकर तो मैं भी चकित हो गया

एक आश्चर्यजनक घटना हुई. के पाठक नामक एक सज्जन अचानक टाइम्स ऑफ़ इंडिया, पटना के दफ्तर में पधारे. वे असम ट्रिब्‍यून अख़बार के अधिकारी थे. अपनी पत्नी की हड्डी रोग  के इलाज के लिए पटना के डाक्टर जॉन मुखोपाध्याय के यहाँ आये थे. उनकी चिंता का विषय था कि उनके अख़बार द असम ट्रिब्‍यून को अपने कर्मचारियों को जस्टिस मजीठिया वेतन बोर्ड का वेतनमान अपने कर्मियों को देना था पर उनमें से कई कर्मियों को मणीसाना वेतन बोर्ड के मुताबिक पहले से ही इतना वेतन मिल रहा था, जितना मजीठिया आयोग ने अपनी अधिकतम सीमा निर्धारित क़ी है, अतः ऐसे कर्मियों का वेतन कैसे निर्धारित हो.

रवींद्र प्रभात, गीता श्री एवं दिनेश माली समेत कई सम्‍मानित

बैंकॉक। थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक के फुरामा सिलोम होटल के सभागार में दिनांक 16 से 21 दिसंबर तक आयोजित चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मलेन में हिंदी के मुख्य ब्लॉग विश्लेषक एवं बहुचर्चित साहित्यकार रवीन्द्र प्रभात को हिंदी ब्लॉगिंग में उल्लेखनीय योगदान हेतु सृजन श्री सम्मान से अलंकृत किया गया। उन्हें इस सम्मान के अंतर्गत स्मृति चिन्ह, मान पत्र, अंग वस्त्र और एक निश्चित धनराशि के साथ साहित्यिक कृतियाँ भेंट की गयी।

माखनलाल विश्‍वविद्यालय की नियुक्तियों में धांधली का आरोप, हाई कोर्ट ने मांगी सफाई

: प्रो. आशुतोष मिश्रा की याचिका पर आठ लोगों को नोटिस : माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्‍वविद्यालय, भोपाल में प्रोफेसर और प्रशासनिक अधिकारी स्‍तर की नियुक्तियों में धांधली को लेकर एक जनहित याचिका दायर की गई है. प्रो. आशुतोष मिश्रा ने अपने याचिका में आरोप लगाया है कि विश्‍वविद्यालय प्रबंधन मुख्यमंत्री की सि‍फारिश पर आठ लोगों की नियुक्तियां नियम-कानून को ताख पर रखते हुए कर दी. जबलपुर हाईकोर्ट ने याचिका को स्‍वीकार करते हुए नियुक्ति पाने वाले सभी आठ लोगों को नोटिस जारी कर सफाई मांगी है. विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोग को भी इस संदर्भ में नोटिस भेजा गया है.

”हमलोगों पर मुकदमा फर्जी, पंकज ने चला रखा है गैंग”

यशवन्त जी, आपके पोर्टल पर एक समाचार है कि पंकज बालियान ने ठगे तीस हजार रुपये, मान्यवर, इस पर आये कमेन्ट के बाद किसी अमित कुमार ने कमेन्ट किया है कि कोतवाली मे दलाल पत्रकारों पर मुकददमा दर्ज, तो इस संबंध में मैं यह कहना चाहता हूं कि उस दिन 3 दिसम्बर को आर्य स्वीट पर नगर मजिस्ट्रेट के छापे की जानकारी मीडिया को मिली। इस छापे के बाद पत्रकारों द्वारा नगर मजिस्ट्रेट की बाईट लेते समय शिव कुमार सैनी, राकेश आर्य, उमेश आर्य सहित 30 अन्य व्यापारियों द्वारा पत्रकारों पर हमला किया गया था, जिसके बाद नगर मजिस्ट्रेट महोदय ने तीन व्यापारियों को पकड़ लिया था।

यूपी में बड़े नेताओं को हाशिये पर करके बीजेपी ने अपना नुकसान किया

उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव अब कुछ हफ़्तों के अंदर हो जायेंगे. विधानसभा चुनाव के पहले के समीकरण इतनी तेज़ी से बदल रहे हैं कि किसी भी राजनीतिक समीक्षक के लिए नतीजों के बारे में इशारा कर पाना भी असंभव है. इसके बावजूद कुछ बातें बिलकुल तय हैं. मसलन सत्ताधारी पार्टी से नाराज़ लोगों की संख्या के बारे में कोई भी आकलन नहीं लगाया जा सकता. छः महीने पहले तक यह माना जा रहा था कि मुख्यमंत्री मायावती की पार्टी सबसे मज़बूत पार्टी थी, आज इस बात को कहने वालों की संख्या में खासी कमी आई है.

यूपी में अखिलेश यादव और राहुल गांधी बन गए हैं राजनीति के केंद्र

उत्तर प्रदेश के चुनाव में सियासी संघर्ष रोचक होने जा रहा है. सूबे की जनता के बीच आकर्षण का केंद्र अब दो युवराज, यानी कांग्रेस के राहुल गांधी और समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव बनते जा रहे हैं. यदि समूची राजनीति इन्हीं दो पहलुओं के इर्द-गिर्द घूम गई, तो संभव है कई राजनीतिक दलों को मुंह की न खानी पड़ जाए? देखें, तेजी से बदलते समीकरणों पर वरिष्ठ पत्रकार अखिलेश अखिल
की यह रिपोर्ट…

Dainik Jagran owners lodge false F.I.R against RTI activist

From Robby Sharma dated-27-10-2008, 865, Block-B, Panki, Kanpur-208020, Uttar Pradesh, India, Mobile 0-9235844258;0-9415438326.

To All the friends working for the RTI cause in particular and for removal of Corruption from the Country as the larger goal.

Subject: False FIR No.378 of 2008, filed against me in Panki Police station of Kanpur on the directions of the Dainik Jagran Newspaper group Owners.

ये है ईटीवी, साधना, सहारा और इंडिया न्यूज के सीईओ व हेड की तरफ से छत्तीसगढ़ के सीएम को लिखा गया पत्र

रीजनल न्यूज चैनलों ने अपने को आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाने के लिए लड़ाई की शुरुआत कर दी है. इसकी अगुवाई ईटीवी और इसके हेड जगदीश चंद्र कर रहे हैं. इनका साथ अन्य चैनलों के कर्ताधर्ता भी दे रहे हैं. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह को ईटीवी हिंदी और उर्दू चैनल्स के हेड जगदीश चंद्र, सहारा इंडिया मीडिया के हेड स्वतंत्र कुमार मिश्रा, इंडिया न्यूज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश शर्मा और साधना न्यूज चैनल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी राकेश शर्मा की तरफ से संयुक्त हस्ताक्षरों वाला एक पत्र भेजा गया है.

आश्रम के नाम पर वेश्यालय चलाने वाले बाबाओं का बहिष्कार हो

: धूर्त धर्म गुरुओं को कानून नहीं दे सकता सजा : धार्मिक दृष्टि से व्यक्ति का भाग्य, चरित्र, यश और वैभव के साथ मृत्यु भी ग्रहों की स्थिति या प्रारब्ध से ही निर्धारित होती है, फिर भी किसी भी व्यक्ति के जीवन पर परिवार, समाज या वातावरण का विशेष प्रभाव पड़ता है। धर्म को नकारते हुए वैज्ञानिक दृष्टि से मनुष्य को मात्र प्राणी ही माना जाये, तो मनुष्य सामाजिक प्राणी है ही, तभी मनुष्य की मानसिक स्थिति वातावरण से परिवर्तित हो जाती है, इसलिए कथित धर्म गुरुओं द्वारा लड़कियों का जीवन बर्बाद करने के मुद्दे पर समाज को निर्दोष करार नहीं दिया जा सकता।

प्रभात खबर एवं सन्‍मार्ग के संपादक सहित पांच पत्रकारों के विरुद्ध कोर्ट पहुंचे चितेश

डाल्‍टनगंज : पलामू जिला के अधिवक्ता चितेश कुमार मिश्रा ने 23 दिसंबर को पलामू सिविल कोर्ट में मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में प्रभात खबर के प्रधान संपादक हरिवंश, डाल्‍टनगंज ब्यूरो कार्यालय के दो रिर्पोटर अविनाश व शेखर सिंह, हिंदी दैनिक समाचार पत्र सन्‍मार्ग के संपादक बैजनाथ मिश्रा व डाल्‍टनगंज कार्यालय के रिपोर्टर अरुण शुक्ला के खिलाफ मुकदमा दायर किया है, जिसमें मानहानि, अमानत में खयानत व षडयंत्र शामिल हैं.

मुझे टीवी100 में पांच साल तक मेहनत करने का ये सिला मिला

यशवंत सर जी, मुझे टीवी100 ने पांच साल की मेहनत का सिला दिया है. टीवी100 के एमडी श्री कुलीन गुप्‍ता जी ने मुझे नैनीताल जिले का ब्‍यूरोचीफ बनाया गया है. मैं गौरव गुप्‍ता, बरेली (यूपी) के बहेरी कस्‍बे का रहने वाला हूं. 2003 में बीएसएसी किया, उसके बाद 2004 में बरेली कालेज, बरेली से जर्नलिज्‍म में पीजी डिप्‍लोमा किया.

हिंदुस्‍तान ने पहले बिजली का झटका देकर मारा, फिर जिला दिया

हिंदुस्‍तान अखबार अब जिंदा लेगों को भी मुर्दा बनाकर उनकी फोटो छाप देता है. गुरुवार को म‍थुरा के मेथोडिस्‍ट हास्‍पीटल के मैनेजर, भाजपा नेता तथा वृदांवन क्षेत्र के प्रभारी राम भरोसे अग्रवाल की फोटो मृत बिजलीकर्मी बताकर छाप दी थी. इस खबर के बाद श्री अग्रवाल को जानने वालों में हड़कम्‍प मच गया. साथ बिजलीकर्मी बताए जाने से अनिश्चिय की स्थिति हो गई. तमाम लोगों ने उन्‍हें फोन मिलाकर हालचाल जाना.

दिल्ली में बिल्डर माफिया और पुलिस ने मिलकर पत्रकार के घर को ढहाया

आदरणीय यशवंत जी, मैं आपको दिल्ली में अपने एक पत्रकार कार्टूनिस्ट दोस्त रोहनीत फोर की एक स्टोरी  भेज रहा हूं। पुलिस और बिल्डर माफिया की मिलीभगत का शिकार मेरे मित्र का परिवार कड़कड़ाती ठंड में टेंट में रहने को मजबूर है। खुद मीडिया में होने के बावजूद आज वह बिल्डर माफिया और पुलिस के साथ-साथ मीडिया के बेंढंगेपन का भी शिकार है। इस मेल में उसके घर के फोटो और उसका फोन नंबर भी है। मैं भी अपने स्तर पर उसकी मदद करने की कोशिश कर रहा हूं। कृपया इस स्टोरी के मर्म को समझें और अपने फोरम में प्रमुखता से प्रकाशित करने की कृपा करें।
धन्यवाद
आपका एक पत्रकार मित्र

क्‍या कर रहे हैं आई नेस्‍क्‍ट, गोरखपुर के ”संपादक्‍स”?

क्‍या कर रहे हैं आई नेक्‍स्‍ट, गोरखपुर के ''संपादक्‍स'', यह अखबार लगातार गलतियां करते जा रहा है, पर इस पर किसी का ध्‍यान नहीं है. अखबार ने हिंदी के रंगरूट शब्‍द को रंगरूट्स बना दिया, अगर अंग्रेजी का शब्‍दी हिंदी में रिक्रूट्स लिख देते तो कुछ चला जाता क्‍या? संपादकीय को अब जरूर ध्‍यान देना चाहिए कि कम से कम भाषा को तो कचरा बनाकर न पेश करें. इस खबर में हर जगह रंगरूट्स का प्रयोग हुआ है.

थैंक्यू भड़ास, मेरा डर कम हो गया, थानेदार हट गया

मैं भड़ास4मीडिया का बहुत आभारी हूं जिसने मेरे दर्द को प्रकाशित किया. भड़ास पर मेरी बात प्रकाशित हो जाने के बाद कई लोगों ने मुझसे संपर्क किया. लखनऊ से श्री अमिताभ ठाकुर जी आईपीएस का फोन आया और उन्होंने मेरी समस्या सुनी. खबर छपने के 48 घंटे के भीतर थानेदार कालीचरन का तबादला हो गया. कालीचरन नाम के इस थानेदार ने मेरे घर आकर पुलिस से रिटायर मेरे पिता को गंदी गंदी गालियां दी थी.

यूपी के पुलिस अफसरों के बुरे बर्ताव से आहत है एक युवा पत्रकार

: पहले मायावती से लिखवा कर ला तब तुझे भर्ती करूंगा : मुलायम के दलाल पत्रकार के लिए भर्ती नहीं खोली मैंने :  मुलायम के जिले का न होता तो आज पुलिस इंसपेक्टर होता : “पुलिस में भर्ती होना है तो पहले माया मेमसाब की सिफारिश लेकर आ…”, ये शब्द सीओ दुर्गेश कुमार सिंह ने अमेठी पुलिस लाईन में सब इंसपेक्टर भर्ती के लिए नापतौल कराने गए कानपुर निवासी हरेन्द्र प्रताप सिंह से कहे। ऐसा आरोप खुद हरेंद्र ने लगाया है। हरेंद्र के मुताबिक- सीओ ने जमकर गालियां दी और वहां से भगा दिया। हरेंद्र ने खुद की जो कहानी भड़ास4मीडिया को लिखकर मेल किया है, उसके मुताबिक हरेन्द्र को शाम 3.30 बजे पुलिस भर्ती के टेस्ट के लिए बुलाया गया था लेकिन भर्ती प्रक्रिया बन्द होने का समय नहीं बताया गया।

दैनिक भास्कर ने अपनी वेबसाइट के नंबर वन होने का दावा किया

dainikbhaskar.com हिंदी में अब सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली न्यूज वेबसाइट है। अक्टूबर में यह उपलब्धि हासिल करने के बाद dainikbhaskar.com प्रतिस्पर्धी वेबसाइट्स से और भी बढ़त बना रही है। दुनिया भर की सभी वेबसाइट्स का हिसाब रखने वाली स्वतंत्र संस्था कॉमस्कोर ने नवंबर माह के जो आंकड़े जारी किए हैं , उसके मुताबिक dainikbhaskar.com न केवल पेजव्यूज के लिहाज से नंबर एक हिंदी न्यूज वेबसाइट है, बल्कि वेब यूजर यहां टाइम्स ऑफ इंडिया और याहू न्यूज नेटवर्क से भी ज्यादा समय गुजारते हैं।

”टीओआई ने भ्रष्‍टाचार को संस्‍थानिक बनाया, जागरण ने पेड न्‍यूज की शुरुआत की”

रविवार को पटना में मीडिया कर्मियों का जमावड़ा लगा. होटल चाणक्य में बिहार टाइम्स की ओर से इसका आयोजन किया गया. प्राणंजय गुहा ठाकुरता, एनआर मोहंती, मुकेश कुमार, मणिकांत ठाकुर, नीलाभ मिश्र मुख्य वक्ता के रूप में थे. चर्चा का विषय रखा गया था- मीडिया में करप्‍शन : मीडिया और करप्‍शन. आत्म अवलोकन हो रहा था. कोई स्थानीय संपादक इसमें नहीं आये. हिन्दुस्तान के संपादक का नाम पैनल में था. मुकेश कुमार ने परिचर्चा की शुरुआत की.

मीडिया के लिए मुश्किलों भरा रहा यह साल

नयी दिल्ली : मीडिया जगत के लिए वर्ष 2011 बेहद उथलपुथल भरा रहा। भारत में जहां ‘पेड न्यूज’ के मुद्दे पर विचार के लिए एक मंत्री समूह गठित किया गया और मिड डे के संपादक (स्पेशल इन्वेस्टीगेशन) ज्योतिर्मय डे की हत्या की गई वहीं ब्रिटेन का सबसे ज्यादा बिकने वाला 168 साल पुराना अखबार ‘न्यूज आफ द वर्ल्ड’ फोन हैकिंग मामले में उलझ कर बंद हो गया।

सोशल नेटवर्क वेबसाइटों को दिल्‍ली की कोर्ट ने भेजा समन

नई दिल्ली : राजधानी की पटियाला हाउस कोर्ट ने ने फेसबुक, गूगल और माइक्रोसॉफ्ट समेत 21 सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों को आपत्तिजनक विषय वस्तु प्रदर्शित करने के लिए मुकदमे का सामना करने के लिए समन जारी किया है। अदालत ने एक निजी शिकायत पर संज्ञान लेते हुए ये आदेश दिए। इसके साथ ही अदालत ने केंद्र सरकार को निर्देश दिए हैं कि वे इस संदर्भ में तत्काल उपयुक्त कदम उठाकर 13 जनवरी तक रिपोर्ट दाखिल करें।

जनवरी में लांच होगा एएसआर ग्रुप का चैनल ‘मीडिया इंडिया’

इंटरटेनमेंट साफ्टवेयर एवं पत्रकारिता संस्‍थान संचालित करने वाली कंपनी एएसआर मीडिया एक चैनल लाने जा रही है. न्‍यूज एवं करेंट अफेयर्स पर आधारित चैनल 'मीडिया इंडिया' की लांचिंग अगले साल जनवरी में करने की योजना है. इसकी तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी है. चैनल पर न्‍यूज बुलेटिन, टॉक शो, फीचर के अलावा चार घंटे बिल्‍कुल फ्रेश कार्यक्रम दिखाया जाएगा.

खबर भारती से अभिषेक का इस्‍तीफा

एक महीने पहले ही लांच हुए साईं प्रकाश टेली कम्‍युनिकेशन लिमिटेड के न्‍यूज चैनल खबर भारती में आतंरिक राजनीति तेज हो गई है. खबर है कि चैनल के सीईओ नाजिम नकवी की पत्‍नी ने अपना इस्‍तीफा दे दिया है. उनके इस्‍तीफा देने को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. हालांकि उनके इस्‍तीफे की पुष्टि नहीं हो पा रही है. बताया जा रहा है कि आपसी उठापटक के चलते ही ये इस्‍तीफा हुआ है.

कैसे बिछी लोकपाल पर मट्ठा डालने की सियासी बिसात

यह पहला मौका है जब सरकार ने किसी बिल को पेश करने से ज्यादा मशक्कत बिल पास न हो इस पर की। और अन्ना टीम को बात बात में पहले ही यह संकेत दे दिया गया कि अगर वाकई लोकपाल के मुद्दे में दम होगा तो आने वाले वक्त में अन्ना टीम का भी राजनीतिकरण होगा और उस वक्त कांग्रेस राजनीतिक तौर पर इस लड़ाई को लड़ लेगी। दरअसल, लोकसभा में लोकपाल के मसौदे को पेश करने से पहले सरकार और कांग्रेस के बीच असल मशक्कत इसके राजनीतिक लाभ को लेकर हुई। तीन स्तर पर समूची बिसात को बिछाया गया। पहले स्तर पर कानून मंत्री सलमान खुर्शीद ने अन्ना टीम को टोटला की वह कहां किस मुद्दे पर कितना झुक सकती है। दूसरे स्तर पर बीजेपी का विरोध करने वाले राजनीतिक दलों की नब्ज को सरकार ने पकड़ा और तीसरे स्तर पर अन्ना के आंदोलन से आने वाले पांच राज्यों के चुनाव में कांग्रेस की राजनीति पर पड़ने वाले असर को परखा गया। इसको बेहद महीन तरीके से इस अंजाम तक ले जाया गया जिससे सरकार के हाथ में लोकपाल की डोर भी हो और यह नजर भी ना आये कि अगर लोकपाल अटका हुआ है तो उसकी डोर भी सरकार ने ही थाम रखी है।

शैलेश ने आजतक से रिजाइन किया, कई नए चैनलों के सीईओ बने

आजतक न्यूज चैनल से एक बड़ी खबर है. एक्जीक्यूटिव एडिटर के पद पर कार्यरत वरिष्ठ पत्रकार शैलेश ने इस्तीफा दे दिया है. कुछ समय पहले उन्हें आजतक के इनपुट हेड के पद से हटाकर आजतक के नए निकलने वाले हिंदी अखबार के लांचिंग की जिम्मेदारी दी गई थी. पर शैलेश ने एक नए ग्रुप के मीडिया विंग का दामन थाम लिया. यह ग्रुप कई नए चैनल्स ले आने वाला है जिसमें न्यूज और एंटरटेनमेंट के चैनल शामिल हैं. करीब आधा दर्जन नए चैनल लांच करने की तैयारी कर रहे इस ग्रुप में शैलेश बतौर सीईओ ज्वाइन करेंगे.

जावेद जाफरी के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज

मुरादाबाद से खबर है कि एक छात्र नेता राहुल ने जिगर की आवाज समाचार पत्र के संपादक जावेद जाफरी के खिलाफ ट्रिक के जरिए अश्‍लील फोटो बनाकर रंगदारी मांगने और ब्‍लैकमेल करने के आरोप में मामला दर्ज कराया है. इतना ही नहीं आरोप है कि इस संपादक ने किसी नए नम्‍बर से नागफनी के एसएचओ रवि कुमार को उनके सीयूजी मोबाइल पर फोन करके लखनऊ डीजीपी आफिस से बोलने तथा दर्ज मामले को खतम करने को भी कहा.

अदम गोंडवी के परिवार के लिए मदद जुटाता एक जिलाधिकारी

साहित्य और शायरी को नयी पहचान दिलाने वाले जाने-माने शायर और जनकवि रामनाथ सिंह उर्फ़ अदम गोंडवी लम्बी बीमारी के बाद अब हमारे बीच नहीं हैं. गोंडवी साहब के जाने के बाद भी उनका परिवार क़र्ज़ में डूबा हुआ है. उनके जाने के बाद उन्हें श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है, जो काबिलेतारीफ है. साहित्य को पालने वालों में शुमार अदम साहब के परिवार को आज साहित्य शाधकों और महान शायर गोंडवी के शब्दों को आत्मसात करने वालों से आर्थिक मदद की दरकार है, जो उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि साबित हो सकती है.

सूचना अधिकारी भी पत्रकार बन कर भूखंड के लिए किया आवेदन

झुंझुनू: वैसे तो फर्जीवाड़ा व धांधली में झुन्झुनू प्रदेशभर में खूब बहुचर्चित है। लेकिन हद तो उस समय हो गई जब एक सरकारी अधिकारी भी पत्रकार बनकर सरकारी योजना का लाभ उठाने के लिये नगर परिषद में आवेदन तक कर डाला तथा भूखण्ड हथियाने के लिये अपने पद का भी भरपूर उपयोग करते हुए दबाव बनाने व चंद पत्रकारों के नाम जिला कलेक्टर के पास भिजवाने की सिफारिश तक कर डाली।

आरटीआई शहीद रामविलास सिंह की हत्या के विरोध में धरना

आज 22 दिसंबर 2011 को सहजानंद सरस्वती आश्रम, विद्यापति भवन के बगल में (तारामंडल), पटना पर नेशनल आरटीआई फोरम, लखनऊ, नागरिक अधिकार मंच, पटना एवं अन्य सामाजिक संगठनों द्वारा 12 बजे से 3 बजे के मध्य विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम किया गया.

जागरण में रिपोर्टरों का टोटा, फोरमैन की खबर छापी पहले पेज पर!

: कानाफूसी : विश्व के तथाकथित नंबर एक अखबार दैनिक जागरण के रांची कार्यालय में यह क्या हो रहा है। अब यहां रिपोर्टर नहीं फोरमैन की रिपोर्ट पेज नंबर एक पर छपती है। विश्वास नहीं हो तो दैनिक जागरण के 21 दिसम्‍बर का रांची संस्‍करण देख सकते हैं. पहले पन्‍ने पर अनुज मिश्रा की रिपोर्ट छपी है – ''1 शिक्षक पढ़ा रहे 446 छात्राओं को''। अब शायद जागरण प्रबंधन इतना असहाय हो गया है कि उसे फोरमैन की सेवाएं लेनी पड़ रही हैं।

राहुल हिंदुस्‍तान तथा विजय अमर उजाला पहुंचे

दैनिक जागरण, रांची से राहुल पराशर ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे रिपोर्टर के पद पर कार्यरत थे. राहुल अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान, जमशेदपुर के साथ शुरू करने जा रहे हैं. राहुल को यहां पर सीनियर रिपोर्टर बनाया गया है. राहुल ने अपने करियर की शुरुआत प्रभात खबर, रांची के साथ की थी. इसके बाद उनका तबादला पटना कर दिया गया. यहां पर उन्‍होंने राष्‍ट्रीय सहारा और हिंदुस्‍तान को अपनी सेवाएं दीं. हिंदुस्‍तान, पटना से इस्‍तीफा देने के बाद दैनिक जागरण, रांची से जुड़ गए थे. राहुल की हिंदुस्‍तान के साथ यह दूसरी पारी है.

किसानों के लिए कुछ भी कर पाने में असमर्थ है सरकार

: उस देश का वासी हूँ जिस देश में किसान आत्महत्या करते हैं : किसानों की आत्महत्‍या देश की राजनीतिक पार्टियों को हमेशा मुश्किल में डालती रहती है. हालांकि मीडिया आम तौर पर किसानों की आत्महत्या को इग्नोर ही करता है लेकिन कुछ ऐसे पत्रकार हैं जो इस मामले पर समय समय बहस का माहौल बनाते रहते हैं. देश के कुछ इलाकों में तो हालात बहुत ही बिगड़ गए हैं और लोगों की समझ में नहीं आ रहा है कि समस्या का हल किस तरह से निकाला जाए. हो सकता है कि इन्हीं कारणों से संसद के शीतकालीन सत्र में राज्यसभा ने समय निकाला और किसानों की आत्महत्या से पैदा हुए सवाल पर दो दिन की बहस कर डाली.

चुनाव कवरेज में दैनिक जागरण ने ली लीड

दैनिक जागरण अगर नम्‍बर एक है तो यही कारण है कि वह अन्‍य अखबारों से आगे की सोचता है. यूपी चुनाव पर अलग से पेज देना शुरू करके चुनाव कवरेज के मामले में जागरण ने लीड ले ली है. जागरण ने गोरखपुर से निकलने वाले सभी अखबारों को पीछे छोड़ते हुए 'जनादेश 2012' का प्रकाशन शुरू कर दिया है. शुक्रवार के जागरण में पेज नम्‍बर 11 पर चुनाव से संबंधित खबरें हैं.

आज समाज, मेवात : कम्‍प्‍यूटर खराब, बिजली गायब, फोन-इंटरनेट ठप

: साइबर कैफे के सहारे चल रहा है कार्यालय : आज समाज के मेवात ब्‍यूरो कार्यालय की हालत बिल्‍कुल खराब हो गई है. कार्यालय अब उधारी की दुकानदारी के सहारे चल रहा है. ताला बंद करने जैसी स्थिति में आ गया है यह कार्यालय. कम्‍प्‍यूटर खराब हैं, बिजली कटी हुई है, इंटरनेट और फोन डेड पड़े हुए हैं. आफिस से काम लगभग बंद हो चुका है. ब्‍यूरोचीफ किसी तरह अपने प्रयास से साइबर कैफे से खबरों को भेज रहे हैं.

मकान के नाम लिया कर्ज नहीं चुकता कर पाए अविनाश दास

: बैंक की तरफ से अखबार में नोटिस प्रकाशित : एनडीटीवी, दैनिक भास्कर समेत कई संस्थानों में काम कर चुके अविनाश दास के नाम से अखबार में एक नोटिस प्रकाशित हुई है. आईसीआईसीआई बैंक की तरफ से प्रकाशित कराई गई नोटिस में बताया गया है कि अविनाश के नाम पर करीब साढ़े तेरह लाख रुपये का कर्ज बकाया है. यह कर्ज अविनाश ने मकान खरीदने के लिए लिया था पर उसकी किश्तें अदा नहीं कर रहे हैं. मोहल्ला ब्लाग और मोहल्लालाइवट डाट काम वेबसाइट के माडरेटर अविनाश दास इन दिनों इवेंट मैनेजमेंट से जुड़े हुए हैं और विभिन्न विषयों पर विभिन्न शहरों में सेमिनार, गोष्ठी आदि कराते रहते हैं.

”एफटीपी से खबरें चुराकर भेजता है जी न्‍यूज का रिपोर्टर”

प्रिय यशवंत जी, मैंने आज एक खबर भेजी थी पर आप ने प्रकाशित नहीं की. अब मैं खबर के साथ अपने बनाये विजुअल्स और जी न्यूज़ में चली खबर को सबूत के रूप में भेज रहा हूं. यह खबर जरुर लगाने का कष्ट करें ताकि इन खबर चोरों पर अंकुश लग सके. क्योंकि इन खबर चोरों की वजह से हम जैसे लोगों के हौसले पस्त होते हैं.

आई-नेक्स्ट, बरेली के बागी पत्रकारों को तोड़ने की जागरण प्रबंधन की नई चाल

मजीठिया वेज बोर्ड लागू न करना पड़े इसके लिए जागरण प्रबंधन द्वारा अनैतिक कागजों पर हस्ताक्षर कराने के अभियान को मुंहतोड़ जवाब देने वाले आई नेक्स्ट, बरेली के तृप्ति, आशु और प्रभात को तोड़ने के लिए प्रबंधन ने नई रणनीति अपना ली है. इन तीनों को अब अलग अलग किया जा रहा है. इस कारण आज दोपहर जागरण प्रबंधन ने आई नेक्स्ट बरेली की बागी रिपोर्टर तृप्ति शुक्ला को आउट ऑफ़ टर्न प्रमोशन दे दिया. तृप्ति को सीनियर रिपोर्टर बना दिया गया है. उन्हें जमशेदपुर जाने के आदेश दे दिए गए हैं.

नहीं रहे पत्रकार और फिल्मकार प्रेम कपूर

''गुप्त ज्ञान'' और ''काम शास्त्र'' जैसी फिल्मों का निर्देशन कर भारतीय दर्शकों को पहली बार यौन शिक्षा से फिल्मों के माध्यम से परिचित करने वाले वरिष्ठ फिल्मकार, लेखक और पत्रकार प्रेम कपूर का 22 दिसंबर की सुबह 8 बजे मुंबई में गोरेगाँव के रूबी अस्पताल में निधन हो गया. वे 83 वर्ष के थे. 1962 में टाइम्स ऑफ़ इंडिया समूह की पत्रिका सारिका से बतौर पत्रकार अपने करियर की शुरुआत करने वाले प्रेम कपूर ने धर्मयुग के सम्पादक मंडल में भी काम किया.

अथ श्री चिन्‍मयानन्‍द पुराण, द्वितीय अध्‍याय

बरसों पहले की बात है। मैं राजस्‍थान में धमाकेदार काम कर रहा था। मेरी लेखनी का नौ साल बाद भी वहां के लोग सिर्फ लोहा नहीं मानते, मुझे प्‍यार और सम्‍मान देते हैं और इसीलिए रोजाना आज भी मेरे मोबाइल पर आने वाले कम से कम तीन-चार फीसदी फोन राजस्‍थान से ही होते हैं। यही वजह है कि मैं अब तक केवल राजस्‍थान के लोगों को ही बहादुर मानता हूं। हां होते हैं वहां भी कुछ लोग कायर और बिकाऊ भी। लेकिन बहुतायत बहादुरों की ही है वहां। इस बारे में जाति-पांति से उनका कोई लेना-देना नहीं।

जी हां, मैं जानता हूं स्‍वामी चिन्‍मयानंद को

जी हां, मैं जानता हूं स्‍वामी चिन्‍मयानंद को। उस शख्‍स को जो एक 'महान संत' ही नहीं, 'महान आत्‍मा' भी है। 'महान चरित्र', 'महान व्‍यक्तित्‍व', 'महान राजनीतिज्ञ' होने के साथ ही 'महान दानी' भी है। वगैरह-वगैरह। यह संत अपने लोगों पर 'अनुकम्‍पा' बरसाता है। उसके पास चेलों की कमी नहीं। धन तो उसके लिए कभी समस्‍या रहा ही नहीं। जेपी ग्रुप जैसे न जाने कितने ग्रुप उसके हाथों में ही नहीं, उसकी लंगोट में हैं। और अपनी लंगोट खोल कर वह क्‍या-क्‍या नहीं कर सकता है, इसका तो सवाल ही नहीं उठता। यकीन न हो तो उसके मुमुक्षु आश्रम वाले संजय से पूछ लीजिए, जो साध्‍वी के अनुसार उनके बिस्‍तर पर मौज करता था, दारू पीकर तेल लगाने वाली महिलाओं से पूछ लीजिए, जो इसमें अपना जीवन धन्‍य समझती थीं।

दीपक, आशीष एवं खालिद की नई पारी

दैनिक जागरण, नोएडा से खबर है कि दीपक गौड़ ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर सीनियर सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे. दीपक ने अपनी नई पारी हिंदुस्‍तान, दिल्‍ली के साथ करने जा रहे हैं. इन्‍हें यहां भी उसी पद पर लाया गया है. दीपक इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

भास्‍कर, रांची से चीफ सब संजय चौधरी का तबादला, छुट्टी पर गए

दैनिक भास्‍कर, रांची से खबर है कि चीफ सब एडिटर संजय चौधरी का तबादला धनबाद के लिए कर दिया गया है. हालांकि तबादला होना कोई बड़ी बात नहीं है, पर अंदर की खबर है कि संजय का तबादला उनके ऊपर कुछ आरोप लगने के बाद किया गया है. संजय कुछ महीने पहले रीजनल हेड की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे. उन पर आरोप लगा था कि इन्‍होंने कई ऐसे लोगों की भर्ती कर ली थी, जिनका पत्रकारिता से दूर-दूर तक का नाता नहीं था.

व्‍यापारी नेता ने तीन साल पहले ही किया था अरुण पराशरी का खुलासा

यशवंत भाई, अमर उजाला के शाहजहांपुर कार्यालय में तैनात बदायूं निवासी ब्यूरो चीफ अरुण पाराशरी के कारनामों का ''राजुल जी, अमर उजाला को अरुण पाराशरियों से बचाइए'' शीर्षक से खुलासा किया था, जिस पर एक पाठक ने कमेंट में लिखा है कि मैंने अनर्गल आरोप लगाये हैं।

धमकी के बाद टीवी पत्रकार को सरकार ने मुहैया कराई सुरक्षा

इस्‍लामाबाद : पाकिस्तानी पत्रकार हामिद मीर को जान से मारने की धमकी मिलने के बाद उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई गई है। पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री रहमान मलिक ने यह जानकारी दी। ‘जियो टीवी’ के प्रस्तोता हामिद मीर ने बुधवार को कहा था कि उनके शो में सुरक्षा प्रतिष्ठानों की आलोचना किए जाने के बाद से उन्हें धमकी भरे संदेश मिल रहे हैं।

लांचिंग से पहले इंडिया न्‍यूज यूपी-उत्‍तराखंड के तीसरे हेड बने राशिद

: इसरार शेख से जिम्‍मेदारी वापस ली गई : रवीन ठुकराल को झटका देने के लिए लिया गया निर्णय : इंडिया न्‍यूज यूपी-उत्‍तराखंड की अभी लांचिंग नहीं हुई है पर अंदरखाने राजनीति तेज हो गई है. इस चैनल के हेड बनाए इसरार शेख से जिम्‍मेदारी लेकर राशिद हाशमी को सौंपी दी गई है. अब राशिद ही चैनल को हेड करेंगे तथा लांचिंग कराएंगे. इसरार हरियाणा, पंजाब-हिमाचल के हेड बने रहेंगे. इंटरटेनमेंट की जिम्‍मेदारी भी इसरार के पास रहेगी. हालांकि अंदरखाने इस बदलाव को लेकर माना जा रहा है कि यह निर्णय रवीन ठुकराल लॉबी को झटका देने के लिए ही मैनेजमेंट ने किया है.

वरिष्‍ठ पत्रकार हरीश पाठक की ‘सोलह कहानियां’ विमोचित

भोपाल। वरिष्ठ कथाकार, साहित्यकार एवं राष्ट्रीय सहारा, पटना के संपादक हरीश पाठक की नए कहानी संग्रह सोलह कहानियां का विमोचन मंगलवार को भोपाल के भारत भवन में वरिष्ठ साहित्यकार कामतानाथ ने किया। स्पंदन द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध साहित्यकार एवं लेखिका चित्रा मुद्गल भी उपस्थित थीं।

”आप तो सच लिखो, सरकार को बुरा लगता है तो लगने दो”

जयपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि चैनलों के बढ़ते प्रसार के बावजूद आज भी छपे शब्द की उतनी ही अहमियत है, जितनी पहले थी। प्रिंट मीडिया को सच्चाई का साथ देना चाहिए। सच लिखो, चाहे सरकार को बुरा लगे, किसी संस्था को बुरा लगे तभी आप लोकतंत्र में चौथे स्तंभ की भूमिका निभा पाएंगे। दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो रहा है। गहलोत गुरुवार को यहां बिड़ला ऑडिटोरियम में एक समाचार पत्र के कार्यक्रम में बोल रहे थे।

पत्रिका समूह हिन्दी के पहले 5 समाचार पत्रों में

मुम्बई। भारतीय पाठक सर्वेक्षण (आईआरएस) की मुम्बई में जारी ताजा सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक पत्रिका समूह एक करोड़ 87 लाख 62 हजार कुल पाठक संख्या के साथ हिन्दी के पहले 5 समाचार पत्रों में अपना स्थान कायम किए हुए है। राजस्थान पत्रिका लगातार राजस्थान का सिरमौर तो बना हुआ ही है, उसी की पत्रिका ने पिछली तिमाही में 3.69 लाख कुल नए पाठक जोड़ते हुए मध्यप्रदेश में सर्वाधिक तेज बढ़त वाले अखबार का गौरव बरकरार रखा है।

प्रभात खबर के 1.70 लाख पाठक बढ़े

आईआरएस (इंडियन रीडरशिप सर्वे) के ताजा पाठक सर्वे के मुताबिक 2011 की तीसरी तिमाही में प्रप्रभात खबर ने बिहार में 37.56 फीसदी नये पाठक जोड़े और प्रभात खबर के सभी संस्करणों की औसत पाठक संख्या (एवरेज इश्यू रीडरशिप) में नौ फीसदी का इजाफा हुआ। प्रभात खबर ने दूसरी तिमाही के मुकाबले तीसरी तिमाही में 1.70 लाख नये पाठक जोड़े।

मध्‍य प्रदेश में भास्‍कर के पास पांच प्रतिद्वंद्वी अखबारों से भी ज्‍यादा पाठक

मुंबई : इंडियन रीडरशिप सर्वे की गुरुवार को मुंबई में जारी 2011 की तीसरी तिमाही (क्यू 3) की रिपोर्ट के मुताबिक देश के सबसे बड़े अखबार समूह दैनिक भास्कर ने 8.6 लाख नए पाठक जोड़े हैं। इसके साथ उसके पाठकों की संख्या 1.92 करोड़ हो गई है। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में दैनिक भास्कर का वर्चस्व कायम है जहां इसके कुल पाठक 50 लाख हो गए हैं। पंजाब, चंडीगढ़ और हरियाणा में दैनिक भास्कर 22.46 लाख पाठकों के साथ निर्विवाद रूप से लीडर है।

दैनिक जागरण की पाठक संख्‍या साढ़े पांच करोड़

नई दिल्ली : दैनिक जागरण ने फिर कीर्तिमान बनाया है। साढ़े पांच करोड़ पाठकों के साथ लगातार आगे रहने का रिकॉर्ड। 20वीं बार यह कारनामा दिखाने के साथ निकटतम प्रतिद्वंद्वी से लगभग दो करोड़ पाठकों की बढ़त को भी बरकरार रखा है। पाठकों के साथ विज्ञापनदाताओं एवं अन्य हित समूहों के लिए भी दैनिक जागरण लगातार एक विश्वसनीय ब्रांड बना हुआ है। यही वजह है कि उसे कंज्यूमर सुपरब्रांड तथा बिजनेस सुपरब्रांड का दर्जा मिल चुका है।

हिंदुस्‍तान ने अपनी दूसरे नम्‍बर की पोजीशन मजबूत की

हिन्दुस्तान ने देश के अग्रणी अखबारों में अपनी दूसरे नंबर की पोजीशन को 44 लाख नए पाठकों के इजाफे के साथ और मजबूती प्रदान की है। आईआरएस क्यू3 2011 के नवीनतम दौर के परिणाम के मुताबिक हिन्दुस्तान ने अपनी तेज बढ़त बरकरार रखी है। गत वर्ष आईआरएस क्यू3 2010 की तुलना में हिन्दुस्तान के पाठकों की संख्या 44 लाख बढ़कर 3.75 करोड़ हो गई है।

दिग्विजय सिंह पहले अपने बेटे के बाल कटवाएं

फेसबुक पर असली पालिटिक्स पता चलती है. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने अपने बेटे को लांच किया तो फेसबुक पर कानाफूसी शुरू हो गई है. किन्हीं एक सज्जन ने दिग्विजय और उनके बेटे की तस्वीर फेसबुक पर डाल दी तो सारे लोगों का ध्यान उनके नेता बेटे के बाल पर अटक गया. लोगों ने क्या क्या कमेंट किया, उसे नीचे पढ़ सकते हैं.

कबीर से कई अर्थों में चार कदम आगे थे अदम

डेढ़-दो दशक पहले की बात है। प्रदेश की ग्राम पंचायतों के चुनाव हुए थे और उन्हें आर्थिक अधिकार भी दिए गए थे। जनपद फैजाबाद के नवनिर्वाचित प्रधानों ने वहाँ मुख्यालय स्थित सभागार नरेन्द्रालय में एक सम्मेलन किया और आयोजकों ने उसमें ‘अदम’ जी को भी आमंत्रित किया था। उन्हें आशीर्वचन देने के लिए जब आयोजकों ने मंच पर बुलाया तो माइक पकड़ते ही ‘अदम’ जी ने जो दो पंक्तियाँ पढ़ी थीं वो अदम जैसे अदम्य साहस और आग से भरे हुए आदमी से ही सुनी जा सकती थीं -‘‘जितने हरामखोर थे पुरवो-जवार में, प्रधान बनके आ गए अगली कतार में।’’ जिसने बुलाया हो उसी के घर में बैठकर उसकी बुराइयों पर गरियाना! अदम के सिवा और कौन कर सकता था ऐसी हिमाकत! कहने की आवश्यकता नहीं, सभागार में बैठे प्रधानों ने कितना हल्ला मचाया था।

वेतन बोर्ड लागू करने की मांग को लेकर पत्रकारों का प्रदर्शन 28 को

नयी दिल्ली : समाचार पत्र और संवाद समितियों के कर्मचारियों के शीर्ष संगठन ने मजीठिया वेतन बोर्ड की रपट के शीघ्र कार्यान्वयन की मांग को लेकर 28 दिसंबर को देश भर में प्रदर्शन करने का फैसला आज किया। वेतन बोर्ड की सिफारिशों को सरकार ने पिछले महीने अधिसूचित किया था। इस आंदोलन का फैसला कन्फेडरेशन आफ न्यूजपेपर्स एंड न्यूज एजेंसी एम्पलाइज आर्गेनाइजेशन (सीएनएनएईओ) की आज यहां हुई आपात बैठक में किया गया।

चिदर्पिता को सुने समूचा हिंदू समाज

: अब स्वामी चिन्मयानंद कलंक चर्चाओं में हैं : अपने कृपा पात्रों के लिए ‘शैक्षिक, सामाजिक और राजनीतिक त्रिवेणी का दिव्य आध्यात्मिक नाम’ तथा भाजपा सरकार में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री रहे स्वामी चिन्मयानंद पर स्वामी की एक पूर्व शिष्या साध्वी चिदर्पिता ने अपने यौन उत्पीड़न, बलात्कार तथा जबरन गर्भपात करवाने के जो सनसनीखेज आरोप लगाए हैं वे अब दबाने की लाख कोशिशों के बावजूद अखबारों से लेकर वेबसाइटों तक चकफेरी मार रहे हैं. चिदर्पिता कह रही है कि स्वामी ने दर्जनों लड़कियों को बर्बाद किया है, वह वहशी है, दरिंदा है और मानसिक रूप से बीमार. चार से छह साल की बच्चियों के साथ भी वह कुकर्म करता है.., स्वामी की सबसे बड़ी कमजोरी लड़की है. .. उसके सभी आश्रमों में लड़कियां हैं. लड़कियों को गर्भवती करके उनकी शादी कभी किसी नौकर से, कभी गनर से करा देता है… उसने अपनी चचेरी बहन के साथ रेप किया था और भाग गया था. 376 का उस पर पहले से ही मुकदमा है. वह गोंडा के रमाईपुर, तबोरसी गांव का गुंडा है.

आसाराम बापू ने पत्रकारों को ब्‍लैकमेलर कहा

टीकमगढ़। अपनी आपत्तिजनक टिप्‍पणियों के लिए कुचर्चा में रहने वाले प्रख्यात संत आसाराम बापू ने बुधवार को टीकमगढ़ के स्टेडियम ग्राउण्ड में चल रहे प्रवचनों की कवरेज के लिए गए पत्रकारों के साथ अभद्रता कर दी. किसी बात से खार खाए आसाराम ने पत्रकारों को ब्‍लैकमेलर कहकर प्रवचन स्‍थल से भागने को कहा. इससे नाराज …

पाकिस्‍तानी पत्रकार हामिद मीर को धमकी

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पत्रकार हामिद मीर ने दावा किया है कि अपने टेलीविजन टॉक शो में सुरक्षा प्रतिष्ठान की आलोचना करने पर उन्हें धमकी भरा संदेश मिला है जो लगता है खुफिया एवं सुरक्षा एजेंसियों द्वारा भेजा गया है। मीर ने दावा किया कि उन्हें हाल में उनके ब्लेकबेरी फोन पर एसएमएस भेजकर यह धमकी दी गयी। उन्होंने कहा कि जब उन्होंने संदेश का जवाब दिया जो उन्हें एक और एसएमएस मिला जिसमें उन्हें ‘सीआईए, रॉ और मोसाद का एजेंट’ बताया गया।

आशीष बागची बने बनारस में जनसंदेश टाइम्‍स के संपादक

बनारस में जनसंदेश टाइम्‍स की लांचिंग की तैयारियां शुरू हो गई हैं. अमर उजाला, नैनीताल के संपादक रह चुके तथा बनारस की पत्रकारिता में छाप छोड़ने वाले वरिष्‍ठ पत्रकार आशीष बागची को जनसंदेश टाइम्‍स का संपादक बनाया गया है. इन्‍हें अखबार की टीम तैयार करने की जिम्‍मेदारी भी सौंपी गई है. संभावना है कि नए साल में अखबार की लांचिंग हो जाएगी. फिलहाल अभी कोई टाइम लाइन तय नहीं किया गया है.

धोबिया नृत्य के नामचीन कलाकार बाबूनंदन राम का निधन

धोबिया नृत्य के नामचीन कलाकार बाबूनंदन राम का सोमवार को उनके पैतृक आवास मरदह (जिला गाजीपुर, यूपी) में निधन हो गया था। मंगलवार की सुबह उनके पैतृक आवास से शवयात्रा निकाली गई। विभिन्न मार्गों से होते हुए यात्रा बस स्टैंड तक गई। जहां बड़ी संख्या में लोगों ने उन्हें अंतिम विदाई दी। शवयात्रा के स्थानीय श्मशान घाट पर पहुंचने पर उनके इकलौते पुत्र परमानंद ने उन्हें मुखाग्नि दी।

पांच सौ बार बेटी का रेप किया, सजा सिर्फ तीन साल!

बर्लिन। जर्मनी की एक अदालत ने एक ऐसे पिता को तीन साल से भी कम साल की सजा सुनाई है जिसने अपनी बेटी के साथ 500 बार 'रेप' किया और तीन बच्चे पैदा किए। दरअसल कोर्ट का कहना है कि इस व्यक्ति ने अपनी बेटी के साथ 'रेप' नहीं, सेक्स किया। 69 साल के पिता अडोल्फ बी. के इस 'अपराध' पर जज के फैसले से महिला और बाल अधिकार सुरक्षा के लिए काम करने वाले समूह सकते में हैं। कोर्ट का कहना है कि अडोल्फ अपनी बेटी के साथ 30 साल से अधिक समय तक सेक्स संबंध में रहा जो कि एक प्रकार का अग्रीमेंट है। हालांकि जब उसकी बेटी 12 साल की थी, तब उसने पहली बार उसके साथ छेड़छाड़ की थी।

पत्रकार मामले में मानवाधिकार आयोग ने की सीबीआई जांच की सिफारिश

नई दिल्ली। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश में एक हिंदी अखबार के पत्रकार को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार का इस्तेमाल करने के कारण ‘झूठे’ मामले मे फंसाने के पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की है। आयोग के प्रवक्ता ने बताया कि पत्रकार समीउद्दीन के मामले में प्रदेश की अपराध शाखा – सीआईडी के परस्पर विरोधी रिपोर्ट देने के बाद सीबीआई जांच की अनुशंसा की गई।

अमर उजाला के संपादक प्रभात सिंह एवं अरुण पराशरी के खिलाफ कोर्ट पहुंचीं साध्‍वी चिदर्पिता

साध्वी चिदर्पिता गौतम ने अमर उजाला के माध्यम से उनकी और उनके परिवार की छवि लगातार धूमिल करने का आरोप लगाते हुए शाहजहांपुर के ब्यूरो चीफ अरुण पाराशरी व बरेली संस्करण के संपादक प्रभात कुमार सिंह के विरुद्ध न्यायालय मुख्य दंडाधिकारी, बदायूं के समक्ष गुरुवार को वाद दायर कर उपरोक्त दोनों लोगों को दंडित करने का आग्रह किया है, जिसे सुनवाई के लिए मुख्य दंडाधिकारी पवन प्रताप सिंह ने स्वीकृत करते हुए सहायक दंडाधिकारी श्रीमती एकता कुशवाह के न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया। उन्होंने बयान देने के लिए 13 जनवरी का दिन निश्चित किया है।

लाइव कार्यक्रम में आशुतोष ने संजय निरुपम को जाने को कहा

लोकपाल और अन्‍ना से किस कदर घबराई हुए हैं कांग्रेसी इसे देखने को मिला आईबीएन7 के कार्यक्रम एजेंडा में, जब बहस के दौरान संजय निरुपम कई बार अपनी ही बातों में फंसे. कई बार आपे से भी बाहर हुए. भाजपा सांसद शहनवाज हुसैन पर बिफरे, तल्‍खी से बात भी किया. पर हद उस समय हो गई जब टीम अन्‍ना के सदस्‍य मनीष सिसोदिया ने कहा कि संसद और प्रधानमंत्री की बात भी नहीं मानी जा रही है, राहुल के आदेश पर काम हो रहा है.

पांच हिंदी अखबारों की पाठक संख्‍या घटी, पत्रिका पहुंचा टॉप टेन में

: आईआरएस 2011 की तीसरी तिमाही के आंकड़े जारी : दैनिक जागरण फिर नम्‍बर वन : आईआरएस 2011 की तीसरी तिमाही के आंकड़े आ गए हैं. हिंदी के टॉप टेन अखबारों के स्‍थान में अपेक्षा के अनुरूप ज्‍यादा बदलाव देखने को नहीं मिला है. पर खास बात यह रही कि दैनिक जागरण, दैनिक भास्‍कर, हिंदुस्‍तान, प्रभात खबर अपने पाठक बढ़ाने में सफल रहे वहीं अमर उजाला, राजस्‍थान पत्रिका, पंजाब केसरी, नवभारत टाइम्‍स और नई दुनिया को नुकसान उठाना पड़ा है. इस पर पत्रिका हरिभूमि को पीछे छोड़ते हुए टॉप टेन में जगह बनाने में कामयाब रहा है.

सहारा प्रबंधन ने दिनेश सेमवाल पर लगाया 22 हजार का जुर्माना

राष्ट्रीय सहारा, देहरादून में किसी तरह विधानसभा चुनाव तक अपनी कुर्सी बचाने में जुटे संपादक एलएन शीतल को एक और करारा झटका लगा है। उनके सबसे प्रिय और गढ़वाल डेस्क प्रभारी दिनेश सेमवाल पर प्रबंधन ने 22 हजार रुपये का अर्थदंड ठोका है। इतना ही नहीं उनके अगले दो साल तक प्रमोशन और इनक्रीमेंट पर भी रोक लगा दी गई है। आदेश में स्पष्ट चेतावनी दी गई है कि अगर पुन: इस प्रकार की गलती हुई तो उन्हें बिना चेतावनी के निकाल बाहर कर दिया जाएगा।

आखिर ये घर किस डीजी का है?

इस समय उत्तर प्रदेश पुलिस के जानकार लोगों में एक घर की बहुत अधिक चर्चा है. इस घर की चर्चा लखनऊ के सबसे पाश कहे जाने वाले गोमतीनगर से सटे गोमतीनगर विस्तार योजना के पूरे इलाके में भी है. असल में चर्चा यह है कि उत्तर प्रदेश के एक आला पुलिस अधिकारी का बड़ा आलिशान घर बन रहा है.

स्‍वीडन के दो पत्रकारों को पंद्रह साल की कैद

इथोपिया की एक अदालत ने स्वीडन के दो पत्रकारों को चरमपंथियों की मदद करने का दोषी पाया है. दोनों को इथोपिया के आतंक विरोधी कानून के तहत पंद्रह साल कैद की सज़ा सुनाई गई है. जोहान पर्सोन और मार्टिन शिबाई नाम के इन दो पत्रकारों को इथोपिया के सैनिकों ने क़रीब छह महीने पहले विद्रोहियों के साथ सोमालिया के ओगदेन इलाके में हुए एक झड़प के दौरान गिरफ्तार किया था.

जिय रजा कासी!

काशीनाथ सिंह का उपन्यास अपना मोर्चा जब पढ़ा था तब पढ़ता था और उस का ज्वान उन दिनों रह-रह आ कर सामने खड़ा हो जाता था। उन का कहानी संग्रह आदमीनामा भी उन्हीं दिनों पढ़ा। माननीय होम मिनिस्टर के नाम एक पत्र या सुधीर घोषाल जैसी कहानियां एक नया ही जुनून मन में बांधती थीं। बाद के दिनों में काशी का अस्सी सिर चढ़ कर बोलने लगा। अब तो चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने इस पर एक फ़िल्म भी बना दी है।

काशीनाथ सिंह सहित बाइस साहित्यकारों को साहित्य अकादमी पुरस्कार

: नेपाली भाषा में नहीं हुआ चयन, मैथिली की घोषणा बाद में : नई दिल्ली : हिंदी के लोकप्रिय कथाकार काशीनाथ सिंह सहित 22 भारतीय भाषाओं के रचनाकारों को बुधवार को 2011 के साहित्य अकादमी पुरस्कार के लिए चुना गया। मैथिली के पुरस्कार की घोषणा बाद में की जाएगी और नेपाली के लिए किसी रचनाकार को नहीं चुना गया है। साहित्य अकादमी के उपाध्यक्ष विश्वनाथ तिवारी ने बताया कि अध्यक्ष सुनील गंगोपाध्याय की अध्यक्षता में कार्यकारी मंडल की बैठक में अकादमी द्वारा मान्यता प्राप्त 24 में से 22 भाषाओं के निर्णायक मंडल द्वारा चुनी गई पुस्तकों को साहित्य अकादमी पुरस्कार के लिए चुना गया।

कोर्ट ने कहा गूगल, फेसबुक एवं यूट्यूब हटाएं आपत्तिजनक सामग्री

नई दिल्ली। सोशल नेटवर्किंग साइटों पर विषय वस्तु की निगरानी को लेकर जारी बहस के बीच दिल्ली की एक अदालत ने फेसबुक, गूगल और यूट्यूब सहित सोशल नेटवर्किंग साइटों को बैर या सांप्रदायिक वैमनस्य को बढ़ावा देने वाले किसी भी ‘धर्म विरोधी’ या ‘असामाजिक’ कन्टेंट को वेबसाइट पर अपलोड करने से रोक दिया है। अपर सिविल जज मुकेश कुमार ने एकतरफा आदेश में सोशल नेटवर्किंग वेबसाइटों को ऐसे किसी भी फोटोग्राफ, वीडियो या लिखित रूप में आपत्तिजनक विषय वस्तुओं को हटाने का निर्देश दिया है जिससे धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती हैं।

आई नेक्‍स्‍ट, रांची के संपादकीय प्रभारी को मातृशोक

आई नेक्‍स्‍ट, रांची के संपादकीय प्रभारी शंभूनाथ चौधरी की मां रानी प्रसाद का बुधवार के तड़के निधन हो गया. वे लगभग 68 साल की थी तथा पिछले कुछ समय से बीमार चल रही थीं. उन्‍हें एक सप्‍ताह पहले रांची के रिम्‍स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. रानी प्रसाद का पार्थिव शरीर हजारीबाग स्थित उनके निजी आवास पर ले जाया गया, जहां तमाम लोगों ने उनके अंतिम दर्शन किए.

नेटवर्क18 में शेयर खरीद सकते हैं मुकेश अंबानी

देश में तेजी से पांव पसार रही मीडिया इंडस्‍ट्री में पिछले कुछ दिनों से आ रही खबरों ने लोगों का ध्‍यान अपनी तरफ खींचा है. दो बड़े ग्रुपों के विलय की खबरों के बीच देश की दो जानी मानी हस्तियों की इसमें दिलचस्‍पी लेने की खबरें भी आई हैं. पहली खबर है कि देश के सबसे धनी व्‍यक्ति मुकेश अंबानी तेजी से विस्‍तारित हो रही टीवी एवं इंटरनेट माध्‍यमों पर अपनी नजरें जमाएं बैठे हैं. फिलहाल अपना नया वेंचर लाने या नई कंपनी खोलने की बजाय वे बाजार में जमी-जमाई कंपनियों में शेयर खरीदने की संभावनाएं तलाश रहे हैं.

ओसवाल ने एनडीटीवी में चौबीस करोड़ में खरीदी चौदह फीसदी हिस्‍सेदारी

फर्टिलाइजर, पेट्रोकेमिकल एवं इंटरटेनमेंट के क्षेत्र में पकड़ रखने वाली ओसवाल ग्रुप की ओसवाल ग्रीनटेक लिमिटेड ने टेलीविजन प्रसारण क्षेत्र की प्रमुख कंपनी एनडीटीवी लिमिटेड से 14.17 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीद ली है. ओसवाल ने यह हिस्‍सेदारी 24.24 करोड़ रुपये में खुले बाजार से खरीदी. ओसवाल ग्रुप की इस कंपनी ने थोक सौदे के जरिए मेरिल लिंच कैपिटल मार्केटस और नोमुरा कैपिटल से 26.64 रुपये के हिसाब से लगभग 91.4 लाख शेयर खरीदे.

तहसीलदार से मारपीट में दैनिक भास्‍कर के पत्रकार पर मामला दर्ज

: 19 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मुकदमा : भिंड में तहसीलदार की पिटाई करने के आरोप में पुलिस ने दैनिक भास्‍कर के मेहगांव संवाददाता लक्ष्‍मण चौधरी समेत बीस लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 253, 147, 332 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. दरअसल रविवार को मेहगांव थाने की पुलिस ने बूचड़खाने ले जाई जा रही 18 गायों से भरी एक ट्रक को पकड़ा था, जिसमें से तीन गायों की मौत हो गई थी. सुबह जब भाजपा, बजरंगदल के लोगों को इस बारे में पता चला तो वो नाराज हो गए तथा आंदोलन करने की तैयारी करने लगे.

टीटीएन में डिजिटल रेवेन्‍यू हेड बनीं आयशा सुर्ती, अमर उजाला में चार का तबादला

टाइम्‍स टेलीविजन नेटवर्क ने आयशा सुर्ती को सिंडिकेशन एवं डिजिटल रेवेन्‍यू का हेड बना दिया है. सुर्ती अपनी रिपोर्टिंग जूम एवं ईटी नाउ के सीईओ अविनाश कौल को करेंगी. सुर्ती कंपनी का रेवेन्‍यू बढ़ाने के लिए नए मौकों को तलाशेंगी. आयशा सुर्ती इस फील्‍ड में पिछले बारह सालों से सक्रिय हैं. इसके पहले वे इमैजिन टीवी के साथ कंटेंट सेल्‍स एवं डिजिटल मीडिया के निदेशक के रूप में जुड़ी हुई थीं.

मुरादाबाद में दैनिक जागरण और अमर उजाला ने दाम घटाए

अलीगढ़ में हिंदुस्‍तान की लांचिंग के बाद मुरादाबाद में भी लांचिंग की तैयारियां तेज हो गई हैं. जल्‍द ही मुरादाबाद में हिंदुस्‍तान को लांच किया जाने वाला है. इसकी तैयारियां तेजी से चल रही हैं. अलीगढ़ में हिंदुस्‍तान की लांचिंग से झटका खाए प्रमुख प्रतिद्वंद्वी अखबार दैनिक जागरण और अमर उजाला ने इसकी काट के रूप में अपने-अपने दाम घटा दिए हैं. इसके साथ ही अलीगढ़ के बाद मुरादाबाद में भी प्राइस वार चालू हो गया है.

प्रकाश हिंदुस्‍तानी डीजी केबल के न्‍यूज हेड बने

इंदौर के वरिष्‍ठ पत्रकार प्रकाश हिंदुस्‍तानी के बारे में ख‍बर है कि उन्‍होंने डीजी केबल में बतौर न्‍यूज हेड (एमपी, सीजी, राजस्थान) किया है. वे लगभग तीन दशक से पत्रकारिता में सक्रिय हैं. प्रकाश ने करियर की शुरुआत नई दुनिया से की थी. इसके बाद वे धर्मयुग, मुंबई में उपसंपादक बने तथा यहां से इस्‍तीफा देकर मुंबई में ही नवभारत टाइम्‍स ज्‍वाइन कर लिया. यहां अपने चौदह साल के कार्यकाल में डिप्‍टी न्‍यूज एडिटर के पद तक पहुंचे.

भारत सरकार कोशिश करे कि बीबीसी की हिंदी सेवा बरकरार रहे : रघुवंश प्रसाद सिंह

राष्ट्रीय जनता दल के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि भारत सरकार को ये कोशिश करनी चाहिए कि बीबीसी की हिंदी सेवा बरक़रार रहे. रघुवंश प्रसाद सिंह ने ये बयान लोकसभा में प्रसार भारती पर एक चर्चा के दौरान दिया. इससे पहले भी भारत के कई सांसदो और जाने माने लोगों ने बीबीसी हिंदी की रेडियो सेवा के बंद होने के समाचार पर दुख का इज़हार किया था.

सेलरी न मिलने से नाराज महुआ खबर वालों ने एचआर को घेरा

एक तरफ महुआ नया चैनल खोल रहा है, वहीं पुराने कर्मचारियों को समय पर महीने की सेलरी भी नहीं मिल पा रही है. जी हां, ऐसा ही हाल है बाबा पीके तिवारी के 'महुआ खबर' का. पिछले दो महीने से समय से सेलरी नहीं मिलने से टेंशन में दिन गुजार रहे हैं 'महुआ खबर' के लाचार और बेबस कर्मचारी. परेशान कर्मियों ने सेलरी को लेकर एचआर को घेरा. हो हल्‍ला हुआ पर एचआर ने अपनी मजबूरी बता दी, मामला खतम हो गया.

सीवीबी न्‍यूज में दो महीने से नहीं मिली सेलरी

सीवीबी न्यूज यानि सी वोटर ब्राडकास्ट न्यूज की सांसें अभी चल रही हैं, पर इसके कर्मचारियों को आक्‍सीजन रूपी सेलरी नहीं मिल पा रही है. यशवंत देखमुख के इस प्रोजेक्‍ट में अब काम की बजाय तफरी करने वाला माहौल बन गया है. पत्रकारों के सामने ऐसा करने की मजबूरी और जरूरत दोनों है. अब चार दर्जन के आसपास के कर्मचारी ही रह गए हैं. धीरे-धीरे सबने छोड़ दिया, कहीं चले गए या फिर घर बैठ गए. नई खबर है कि पिछले दो महीने से ज्‍यादातर लोगों की सेलरी नहीं आई है. ज्‍यादातर कर्मचारी परेशान हैं कि यहां काम करें या छोड़ दें.

लाइव इंडिया से कैमरा और हार्ड डिस्‍क चोरी

: बिना माई-बाप के चल रहा है चैनल : लाइव इंडिया का कोई भी माई-बाप नहीं दिख रहा है. कर्मचारी सेलरी को लेकर परेशान हैं. जिनके पैसे बकाए हैं वो भुगतान को लेकर घबराहट में हैं. इस बीच परेशान कर्मचारियों ने अब चैनल में चोरी शुरू कर दी है. चैनल से दो चीजों की चोरी हो चुकी है. और दिलचस्‍प बात यह है कि ये दोनों चोरियां रविवार की रात को अंजाम दी गई हैं. इसके बाद से प्रबंधन ने सिक्‍युरिटी टाइट कर दी है तथा सभी लोग के जाने से पहले बैग तक की तलाशी ली जा रही है.

यूपी में अपने ही डूबाएंगे भाजपा की नैया

उत्तर प्रदेश की चुनावी जंग में जब सभी राजनैतिक दलों ने तमाम अस्‍त्र-शस्‍त्रों से लैस अपने योद्धा रणभूमि में उतार दिए और सूबे की नंबर तीन पार्टी भाजपा ने दिसंबर के दूसरे हफ्ते तक अपने प्रत्याशी घोषित नहीं किये तो राजनैतिक हलकों में ये कयास लगाये जा रहे थे कि भोजन-बैठक और विश्राम वाली ये पार्टी 2012 के विधानसभा चुनावों को लेकर काफी हद तक गंभीर है, और प्रत्याशियों के चयन में खासी मशक्कत कर ऐसे प्रत्याशियों को मैदान में उतारने जा रही है जो केसरिया पताका को विधानसभा क्षेत्रों में मजबूती से लहरा सकेंगे, लेकिन 13 दिसंबर 2011 को 143 प्रत्याशियों की जो सूची जारी की गई है, उस पर भाजपा कार्यकर्ताओं एवं नेताओं समेत विरोधी दल के नेता तक भौचक्के हैं.

चैनल ने किया कमाल, रिपोर्टर से पूछा मृतक का हाल!

दूसरे तो क्या, खुद टीवी में काम करने वाले पत्रकार मानते हैं कि टेलिविज़न सिर्फ पत्रकारिता नहीं है. लेकिन वो शून्य के स्तर को पार कर कितनी नीचे जा सकती है एक टीवी न्यूज़ चैनल पे चली खबर इसका प्रमाण है. ये कारनामा अंजाम दिया कोकाकोला के पंजाब फ्रेंचाइज़ी कंधारी के चैनल डेएंडनाईट ने. बुधवार की दोपहर तकरीबन साढ़े तीन बजे. बुलेटिन पंजाबी में था और खबर चंडीगढ़ में एक अस्पताल के कल से लापता मालिक की आज लाश मिलने की. लाश चंडीगढ़ से दूर एक गाँव के पास मिलने की बात बताई गयी.

आईआरएस की तीसरी तिमाही में भास्‍कर ने सबसे ज्‍यादा पाठक जोड़े

आईआरएस क्‍वार्टर तीन में हिंदी अखबारों के शीर्ष स्‍थानों में कोई खास फेरबदल नहीं हुआ है, परन्‍तु पाठक संख्‍या बढ़ाने में दैनिक भास्‍कर ने अपने प्रतिद्वंद्वी अखबारों से बाजी मार ली है. उसने पांच प्रतिशत रीडरशीप की बढ़ोत्‍तरी हासिल करते हुए 1.48 करोड़ पाठकों के साथ अपना दूसरा नंबर बरकरार रखते हुए दैनिक जागरण के …

बीएजी फिल्‍म के प्रेसिडेंट रोहित बल वोहरा का निधन

: नहीं रहे सन्‍मार्ग के पूर्व जीएम अखिलेश सिंह के चाचा : बीएजी फिल्‍म के प्रेसिडेंट रोहित बल वोहरा को मंगलवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया. वे ई24 की जिम्‍मेदारी भी संभाल रहे थे. वे कई दशकों से इस इंडस्‍ट्री से जुड़े हुए थे. उनका अंतिम संस्‍कार बुधवार को लोधी रोड श्‍मशान पर किया गया. इस दौरान बीएजी से जुड़े तमाम लोग मौजूद रहे. वोहरा के निधन को बैग की सीएमडी अनुराधा प्रसाद ने बड़ी क्षति बताया तथा कहा कि उनकी कमी हमे बहुत खलेगी. रोहित बीएजी से पहले फाक्‍स नेटवर्क से जुड़े हुए थे. फाक्‍स के अलावा वे स्‍टार हॉगकॉग, स्‍टार इंडिया, न्‍यूज एक्‍स, 9एक्‍सएम, जूम टीवी और बिग एफएम को भी अपनी सेवाएं दे चुके थे.

प्रिंट मीडिया में एफडीआई बढ़ाने पर आम राय नहीं : सोनी

नयी दिल्ली : केन्द्र सरकार का कहना है प्रिंट मीडिया में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को मौजूदा 26 फीसदी से आगे बढ़ाने के लिए सर्वसम्मति नहीं है। सूचना और प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी ने लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी देते हुए बताया, ‘‘प्रिंट मीडिया में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को मौजूदा 26 फीसदी से आगे बढ़ाने के लिए सर्वसम्मति नहीं है। इस संबंध में बहस पूरी नहीं हुई है।’’

कापीराइट विधेयक को रास में चर्चा के लिए रखने का सिब्बल ने दोबारा किया प्रयास

नयी दिल्ली : मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल ने आज कापीराइट कानून में संशोधन के लिए एक विधेयक को चर्चा के लिए फिर से राज्यसभा में रखने का प्रयास किया लेकिन हंगामे के कारण उन्हें सफलता नहीं मिली। पिछले हफ्ते विपक्ष की आपत्ति के कारण विधेयक पर चर्चा नहीं हो पायी थी। पिछले सप्ताह, भाजपा, अन्नाद्रमुक तेदेपा, जदयू सहित विपक्षी दलों ने यह विधेयक चर्चा के लिए रखने से ‘‘हितों के टकराव’’ होने का हवाला देते हुए सिब्बल को रोक दिया था। विपक्षी दलों का आरोप था कि सिब्बल यह विधेयक चर्चा के लिए सदन में नहीं रख सकते क्योंकि उनके वकील पुत्र एक प्रसिद्ध संगीत कंपनी की ओर से अदालत में पेश होते हैं।

पीएफ और ईएसआई घोटाले में तो एसवन भी शामिल है

यशवंत जी, कृपया 20 दिसंबर को भडास पर प्रकाशित सूचना, “पीएफ में हेराफेरी करने वाले 66 मीडिया संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई” का संदर्भ लें. श्रम एवं रोजगार मंत्री मल्लिकार्जुन खड़गे क्या यह बताने का कष्ट करेंगे कि वो 66 मीडिया संस्थान कौन-कौन से हैं, उनमें कितने कथित न्यूज चैनल हैं. क्या उनमें एसवन चैनल का नाम शमिल है. अगर एसवन चैनल का नाम नहीं है तो खड़गे झूठ बोल रहे हैं. वो संसद-देश और पीड़ित मीडिया कर्मियों को गुमराह कर रहे हैं.

मीडिया में खबर न चलाए जाने की मांग को जिग्ना ने वापस लिया

: किसी आरोपी को नहीं मिली जमानत : मुंबई : जेडे हत्‍याकांड की सुनवाई कर रही मकोका कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई के बाद पत्रकार जिग्‍ना वोरा समेत सभी ग्‍यारह आरोपियों की न्‍यायिक हिरासत 3 जनवरी तक बढ़ा दी. पुलिस ने अभी जिग्‍ना के खिलाफ आरोप पत्र दायर नहीं किया है, परन्‍तु उससे पूछताछ लगातार जारी है. इसके पहले जिग्‍ना ने स्‍पेशल कोर्ट में अपील दायर कर ट्रायल बंद कमरे में करने तथा मीडिया में कोई खबर न चलाने की मांग की थी. मंगलवार की सुनवाई के दौरान जिग्‍ना ने अपनी दोनों अपीलें वापस ले ली.

Oswal group buys 14.2% in NDTV for Rs 24.24 cr

Mumbai : The Delhi-based Abhey Oswal Group, with interests in petrochemicals, fertilisers and entertainment, has bought a 14.2 per cent stake in New Delhi Television (NDTV) for Rs 24.24 crore. Group company Oswal Green Tech acquired the stake from Merrill Lynch Capital Markets and Nomura Capital in a series of bulk deals at Rs 26.60 a share. Around 9.14 million shares of NDTV were bought. According to senior officials in the company, Oswal had set up Lucky Star Entertainment for his son, who had interest in music, but later expanded to the movie business making well-known flicks such as Pinjaar.

क्रिकेटरों एवं फिल्‍मी सितारों को भारत रत्‍न देना मजाक : काटजू

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज और प्रेस काउंसिल के अध्यक्ष जस्टिस मार्कंडेय काटजू के विवादास्पद बयानों का सिलसिला जारी है। काटजू ने ताज़ा बयान क्रिकेटरों और फिल्मी सितारों को भारत रत्न दिए जाने की मांग पर दिया है। काटजू का कहना है कि क्रिकेटरों और फिल्मी सितारों को भारत रत्न देना इस पुरस्कार का मजाक उड़ाना होगा क्योंकि इन लोगों का समाज के लिए कोई योगदान नहीं है।

बाइक पर प्रेस लिखकर कर करते थे लूट और झपटमारी

नई दिल्ली। हौजकाजी थाना पुलिस ने झपटमारों के एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो प्रेस लिखी बाइक पर लूटपाट व झपटमारी को अंजाम देता था। इनकी पहचान राहुल, देव कुमार, मोहम्मद सलमान उर्फ भूरी, मिर्जा वसीम व एक अन्य राहुल के रूप में हुई। पुलिस ने इनसे करीब 2655 रुपए, एक मोबाइल फोन, दो बाइक, एक पायजेब, वोटर कार्ड, शॉल, पर्स व कुछ अन्य सामान बरामद किया है। गिरफ्तार आरोपियों में एक की मां जीबी रोड में कोठा चलाती है जबकि राहुल का पिता दिल्ली पुलिस में बतौर हवलदार तैनात है।

सउदी अरब के युवराज ने ट्विटर में तीस करोड़ डॉलर निवेश किए

न्यूयार्क/रियाद : सउदी अरब के युवराज अल्वालीद बिन तलाल बिन अब्दुलअजीज अलसाउद और उनकी निवेश फर्म किंगडम होल्डिंग कंपनी ने मिलकर माइक्रोब्लागिंग प्लेटफार्म ट्विटर में 30 करोड़ डॉलर का निवेश किया है। किंगडम होल्डिंग ने रियाद में जारी बयान में कहा कि कई माह तक चली बातचीत और व्यापक तरीके से छानबीन क