सारदा घोटाले पर बन रही है बांग्ला फिल्म ‘कागजोर नौका’

कोलकाता : सारदा चिटफंड घोटाले पर एक युवा बांग्ला निर्देशक फिल्म बना रहे हैं। निर्देशक पार्थसारथी जोरदार की इस फिल्म का नाम है 'कागजोर नौका'। फिल्म के कथानक में बताया गया है कि किस तरह आम आदमी वित्तीय असुरक्षा में घिरा रहता है और जालसाजी करने वाले लोग उसकी सरलता का फायदा उठा कर अपना लाभ कमाते हैं। साथ ही मुंबई में 26 नवंबर को हुए आतंकवदी हमले के दौरान जो असुरक्षा का माहौल व्याप्त था उसकी झलक भी फिल्म में दिखाई जाएगी।

पत्रकारिता की सबसे बड़ी भूल- ‘हिटलर की जाली डायरी’

अप्रैल, 1983 को जर्मन पत्रिका स्टर्न ने दुनिया के सबसे बड़े सनसनीखेज खुलासे का दावा किया था. पत्रिका का कहना था कि उसके पास एडोल्फ़ हिटलर की लिखी हुई डायरी है. वह डायरी जो हिटलर ने द्वितीय विश्वयुद्ध के तनावभरे दिनों के दौरान लिखी थी. लेकिन जिसे सबसे बड़ा खुलासा कहा जा रहा था वह पत्रकारिता की दुनिया का सबसे बड़ा धोखा साबित हुआ.

डीयू में पत्रकारिता कोर्स में प्रवेश परीक्षा की जरूरत नहीं

दिल्ली विश्वविद्यालय के अंग्रेजी पत्रकारिता कोर्स में दाखिले के लिए अब कोई प्रवेश परीक्षा नहीं होगी. दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) के अंग्रेजी पत्रकारिता डिग्री कोर्स में दाखिले के लिए विद्यार्थियों को चार साल के नये स्नातक पाठ्यक्रम के तहत इस साल से प्रवेश परीक्षा नहीं देनी होगी, लेकिन हिंदी पत्रकारिता परीक्षा के लिए पिछले वर्षों की भांति प्रवेश परीक्षा जारी रहेगी. चार साल के नये पैटर्न के मुताबिक अंग्रेजी पत्रकारिता स्नातक (प्रतिष्ठा) पाठ्यक्रम का नाम पत्रकारिता एवं जनसंचार स्नातक पाठ्यक्रम कर दिया गया.

अखबार के आफिस में घुसकर तीन मीडियाकर्मियों की चाकुओं से हत्या

अगरतला। त्रिपुरा की राजधानी में रविवार को भरी दोपहर में दो हमलावरों ने स्थानीय बंगाली समाचार पत्र 'दैनिक गणदूत' के कार्यालय में घुसकर तीन लोगों की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। मरने वालों में मैनेजर के अलावा एक प्रूफ रीडर और चालक शामिल है। पुलिस के अनुसार, मोटरसाइकिल सवार अज्ञात हमलावर दोपहर करीब तीन बजे पैलेस कंपाउंड स्थित 'दैनिक गणदूत' के कार्यालय में घुस गए और भूतल पर मौजूद प्रूफ रीडर और चालक के शरीर पर कई बार चाकू से वार किए। इसके बाद वे प्रथम तल पर पहुंचे जहां उन्होंने प्रबंधक को भी चाकुओं से गोद डाला। तीनों को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इलाज कराने आई पांचवी की छात्रा से डाक्टर ने की छेड़छाड़, जेल गया

भोपाल। ''डॉक्टर गंदा है मौसी, मैं उसके पास दोबारा नहीं जाऊंगी…'' यह कहना था उस बच्ची का जो इलाज कराने के डाक्टर के पास गई थी और छेड़छाड़ की शिकार होकर लौटी थी। राजधानी भोपाल में चेकअप के दौरान 40 वर्षीय एक डॉक्टर ने पांचवी की छात्रा से अश्लील हरकत की। इसका खुलासा मासूम ने दूसरे दिन मौसी के सामने किया। पुलिस ने आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार कर न्यायालय के आदेश पर उसे जेल भेज दिया है।

b4m 5thbday : …उस भड़ास4मीडिया से सम्मान पाना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है : प्रयाग पांडेय

: मुझे बुलंदियों की हवस नहीं है, भड़ास4मीडिया ने जो दिया है मेरे लिए वही बहुत है : लोकप्रिय हिंदी न्यूज पोर्टल  "भड़ास फॉर मीडिया" का पांचवें जन्मवार के सुअवसर पर शुक्रवार १७ मई २०१३ को राजेन्द्र भवन नई दिल्ली में स्व. प्रभाष जोशी एवं स्व. आलोक तोमर जी की स्मृति को समर्पित "व्याख्यान, संगीत और सम्मान समारोह"  मेरे तकरीबन तीस साल के पत्रकारीय विद्यार्थी जीवन का सबसे महत्वपूर्ण और यादगार रहा।

न्याय से वंचित होने पर क्या करें?

भारत में उच्च स्तरीय न्यायाधीशों के लिए स्वयं न्यायपालिका ही नियुक्ति का कार्य देखती है और उस पर किसी बाहरी नियंत्रण का नितांत अभाव है|फलत: जनता को अक्सर शिकायत रहती है कि उसे न्याय नहीं मिला और उतरोतर अपीलों का लंबा सफर करने बावजूद आम नागरिक वास्तविक न्याय से वंचित ही रह जाता है| दूसरी ओर सरकारें कहती हैं कि न्यायपालिका स्वतंत्र है अतः वह उसमें हस्तक्षेप नहीं कर सकती है| स्वतंत्र होने का अर्थ स्वच्छंद होना नहीं है और लोकतंत्र में जनता द्वारा चुनी गयी सरकारें न्यायपालिका सहित अपने  प्रत्येक अंग के स्वस्थ संचालन के लिए जिम्मेदार हैं | आखिर न्यायाधीश भी लोक सेवक हैं और वे भी अपने कृत्यों के लिए जवाबदेय हैं|

BRUTAL LATHICHARGE ON PROTESTING MARUTI SUZUKI WORKERS AND THEIR FAMILIES IN KAITHAL!

: APPEAL ISSUED BY BIGUL MAZDOOR DASTA : A few minutes ago, Haryana Police brutally lathi charged thousands of Maruti Suzuki workers and their families in Kaithal. Tear gas and water canons also were used against the protesters; there was a considerable number of women among them and reportedly a number of women have been seriously injured in this shameful act of oppression by the Haryana government.

ट्रेन के गार्ड अनिल कुमार को इनाम देने की बजाए डीआरएम ने सस्पेंड कर दिया

Tahira Hasan : आर्मी के जवान जिनको हम अनुशासन की मिसाल समझ्ते है उन्होंने कल वैशाली एक्सप्रेस के महिला आरक्षित डिब्बे में घुस कर महिलाओं और बच्चो को बाहर करके उसपर कब्जा कर लिया. बहुत मान मनव्वल के बाद भी अपनी जिद पर अड़े रहे.. लखनऊ पहुँच कर जब ट्रेन के गार्ड ने उनके अधिकारियों को सूचित किया तो इन जवानों ने अपने अधिकारी की बात भी मानने से इनकार कर दिया.

श्रीशांत ने मनमोहन सरकार को उबारा, सीपी की नौकरी बचा ली और टीवी की टीआरपी भी

Shambhunath Shukla : तोता, पट्टू और पाकिस्तान की नई सरकार… सब कुछ भूल गए। अरे भाई श्रीशांत, तुम बधाई के पात्र हो जिसने मनमोहन सरकार को उबार लिया और दिल्ली के सीपी नीरज कुमार की नौकरी भी बचा ली तथा टीवी की टीआरपी भी।

हरियाणा के एक और विधायक मीडिया कारोबार में उतरे, लांच करेंगे चैनल

रोहतक। हरियाणा के नेताओं को लगता है मीडिया का ज्यादा ही चस्का लग गया है। तभी तो वे एक-एक कर मीडिया कारोबार में उतर रहे हैं। ऐसे नेताओं की कतार में अब एक और नेता का नाम जुड़ गया हैं। यह नेताजी पहले चरण में न्यूज चैनल शुरू करने जा रहे हैं। फिर अखबार और एफएम चैनल भी शुरू होगा। यह नेताजी मौजूदा समय में कांग्रेस के विधायक हैं और हरियाणा विधानसभा के अध्यक्ष रह चुके हैं। इनकी गिनती मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के करीबी विधायकों में होती है और एक समय ये नेता हुड्डा के आंदोलन के साथी रहे हैं।

एनबीटी से दीपक आहूजा तथा चैनल वन से इसरार अहमद का इस्‍तीफा

नवभारत टाइम्स के गुड़गांव कार्यालय में इस समय आयाराम-गयाराम जैसी स्थिति बनी हुई है। इसी कड़ी एनबीटी की जिस टीम ने गुड़गांव में अखबार को रूतबा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, धीरे धीरे अखबार से निकल चुकी है। करीब चार माह पूर्व स्पोर्टस व हेल्थ रिपोर्टर अनिल भारद्वाज ने समाचार पत्र को किन्हीं कारणों से छोड़ दिया था। इसके बाद अब समाचार पत्र के तेजतर्रार रिपोर्टर दीपक आहूजा ने भी समाचार पत्र को बाय कह दिया है।

कछाड़ के भाषा शहीदों को श्रद्धांजलि देने का अवकाश कहां?

बिन निज भाषा-ज्ञान के मिटत न हिय को सूल। भारतेन्दु हरिश्चन्द्र ने न जाने कब लिखा था। अब भारतेन्दु को पाठ्यक्रम के अलावा कितने लोग पढ़ते होंगे? उनको पढ़कर मोक्षलाभ होने की कोई संभावना तो नहीं है! दरअसल देश को यह सच मालूम ही नहीं है कि आज के दिन असम के बराक उपत्यका में स्वतंत्र भातर में मातृभाषा के अधिकार के लिए एक नहीं, दो नहीं, बल्कि ग्यारह स्त्री पुरुष और बच्चों ने अपनी शहादत दी है। १९ मई को असम के बराक उपत्यका के सिलचर रेलवेस्टेशन पर असम के बंगाली अधिवासियों के मातृभाषा के अधिकार के लिए सत्याग्रह कर रहे लोगों पर पुलिस ने गोलियां बरसायीं और ग्यारह सत्याग्रही शहीद हो गये।

आईबीएन7 में इस्‍तीफों का दौर जारी, रवि कुमार भी गए

आईबीएन7 के असाइनमेंट डेस्क पर प्रोड्यूसर के पद पर कार्यरत रवि कुमार ने इस्‍तीफा दे दिया है। वे पिछले आठ सालों से आईबीएन7 के साथ जुड़े हुए थे। रवि ने अपनी नई पारी न्‍यूज एक्‍स के साथ शुरू की है। इन्‍हें असाइनमेंट पर सीनियर प्रोड्यूसर कम शिफ्ट इंचार्ज बनाया गया है। महीना भर पहले ही आईबीएन7 असाइनमेंट से चन्दन कुमार और सुजय शुक्ला ने भी इस्तीफ़ा दे दिया था तथा अपनी नई पारी इण्डिया न्यूज़ के साथ शुरू की थी। 

दुर्घटना की वजह से नहीं जा पा रहा ऑफिस : नवीन

अमर उजाला, लखनऊ में संपादक के रवैये से नाराज होकर ऑफिस नहीं आने की खबर को नवीन घोषाल ने गलत बताया है. नवीन का कहना है कि वो पिछले दिनों एक दुर्घटना में घायल हो गए थे, इसलिए वे कार्यालय नहीं जा पा रहे हैं. डाक्‍टरों की सलाह पर वे आराम कर रहे हैं, इसी को लेकर कुछ लोगों ने बिना सिर पैर की बातें कहनी शुरू कर दी हैं. नवीन का कहना है कि उनकी संपादक से किसी बात की नाराजगी या मनमुटाव नहीं है. यह सब गढ़ी गढ़ाई बातें हैं.

दो फिंगर टेस्‍ट रेप पीडि़ता का अपमान है : उच्‍चतम न्‍यायालय

नई दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि बलात्कार पीड़ित का दो उंगली परीक्षण उसकी निजता के अधिकार का हनन करता है। न्यायालय ने सरकार से कहा है कि बलात्कार की पुष्टि के लिये बेहतर मेडिकल प्रक्रिया उपलब्ध करायी जाये। न्यायमूर्ति बीएस चौहान और न्यायमूर्ति एफएमआई कलीफुल्ला ने अपने फैसले में कहा कि यदि दो उंगली परीक्षण सकारात्मक भी हो तो भी इससे बलात्कार पीड़ित की सहमति का आकलन नहीं किया जा सकता है।

संपादक एवं प्रकाशक को कोर्ट ने बरी किया

बरनाला में शिरोमणि साहित्यकार बाबू रजब अली द्वारा लिखित विवादित पुस्तक 'गाथा सूरमियां दी' के संपादक जगजीत सिंह व विश्व भारती प्रकाशन बरनाला के मालिक अमित मित्र को पुस्तक में जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करने के आरोप से अतिरिक्त जिला एवं सेशन जज बीएस संधू की अदालत ने वीरवार को बाइज्जत बरी कर दिया। यह मामला 16 सितंबर 2012 को थाना सिटी बरनाला की पुलिस ने तत्कालीन डीएसपी हरमीक सिंह दयोल की शिकायत पर केस दर्ज किया था।

पत्रकार जीतेंद्र के हत्‍यारे नक्‍सली और पुलिस के बीच मुठभेड़

खूंटी जिले के मुरहू थाना क्षेत्र के बुरूहातु गांव के जंगल में पीएलएफआई उग्रवादी एरिया कमांडर आसिसन पुर्ती उर्फ डकवाल और असिस्टेंड कमांडेंट सनिका के दस्ते से 16 मई की सुबह साढ़े पांच बजे पुलिस की मुठभेड़ हुई। इसी आसिसन के दस्ते ने पत्रकार जीतेंद्र सिंह की हत्या की थी। आसिसन और सनिका जीतेंद्र हत्याकांड के नामजद अभियुक्त हैं। पुलिस की ओर से 43 और उग्रवादियों की ओर से 15-20 राउंड गालियां चलाई गई।

अमर उजाला से सौरभ का इस्‍तीफा, नवभारत टाइम्‍स से जुड़ेंगे

अमर उजाला, लखनऊ से खबर है कि सौरभ श्रीवास्‍तव ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे जनरल डेस्‍क पर कार्यरत थे. सौरभ अपनी नई पारी नवभारत टाइम्‍स से शुरू करने जा रहे हैं. सौरभ लंबे समय से अमर उजाला से जुड़े हुए हैं. चर्चा है कि अमर उजाला से गोविंद पांडेय और ब्‍यूरो से मनीष श्रीवास्‍तव भी नवभारत टाइम्‍स से जुड़ सकते हैं. हालांकि इन दोनों लोगों के नवभारत से जुड़ने की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है.

कचहरी बम ब्‍लास्‍ट के आरोपी की पुलिस कस्‍टडी में मौत

बाराबंकी। पुलिस कस्टडी में फैजाबाद से लखनऊ पेशी से लौटते हुए कचहरी बम ब्लास्ट के मुख्य आरोपी खालिद मुजाहिद की आज संदिग्ध हालात में मौत हो गयी। मौत के बाद जिला पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया। पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गये हैं। वहीं आरोपी आतंकियों के हमदर्दों ने अस्पताल में नारेबाजी करनी शुरू कर दी। देर शाम पुलिस कप्तान सैयद वसीम, जिलाधिकारी मिनिस्ती एस ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए जिला अस्पताल का मुआयना किया। सांसद पीएल पुनिया ने पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की।

राजीव शुक्ला जैसों की भूमिका पर गौर करने की हिम्मत सिस्टम में है या नहीं?

Alok Kumar : सीधा, सरल लेकिन चुभने वाला सवाल है। राजनीति को आईपीएल की तरह खेलने वाले राजीव शुक्ला जैसों की भूमिका पर गौर करने की हिम्मत सिस्टम में है या नहीं?

b4m 5thbday : भड़ास को देखकर मुझे यशवंत भाई से ज्‍यादा खुद पर फख्र है – राहुल

Rising Rahul : वो दि‍न मुझे शायद ही जिंदगी भर भूलें। मैं मेनस्‍ट्रीम मीडि‍या में आने की जद्दोजहद कर रहा था और Yashwant भाई मेनस्‍ट्रीम से बाहर नि‍कलने का जोर लगा रहे थे। उस वक्‍त हमारे पास (हमारे इसलि‍ए क्‍योंकि हिंदी ब्‍लॉगिंग में भड़ास ब्‍लॉग अपनी तरह का पहला प्रयोग था) जो आधार था, वह एकमात्र भड़ास ब्‍लॉग ही था जि‍समें हम सभी पत्रकार अपना सुख-दुख ठीक उसी तरह शेयर करते थे, जैसा अब फेसबुक पर करते हैं।

सांई प्रसाद मीडिया में संपादक बनेंगे एसएन विनोद!

वरिष्‍ठ पत्रकार एसएन विनोद ने साधना न्‍यूज से इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर ग्रुप एडिटर के पद पर कार्यरत थे. खबर आ रही है कि वे सांई प्रसाद समूह के साथ संपादक (मीडिया कंसलटेंट) महाराष्‍ट्र के रूप में जुड़ने जा रहे हैं. सूत्रों का कहना है कि न्‍यूज एक्‍सप्रेस की जिम्‍मेदारी देखने के अलावा एसएन विनोद महाराष्‍ट्र में समूह का मराठी रीजनल चैनल भी लांच कराएंगे. इसके अलावा इनके नेतृत्‍व में दो मैगजीनों को भी लांचिंग होगी, जिसमें एक हिंदी तथा दूसरा मराठी भाषी होगा.

सचिंद्र, विनोद ने शुरू की नई पारी, आशीष नवभारत टाइम्‍स जाएंगे

जनवाणी, मेरठ से सचिंद्र श्रीवास्‍तव ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे डेस्‍क पर कार्यरत थे. सचिंद्र ने अपनी नई पारी इंदौर में नईदुनिया के साथ शुरू करने जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि इन्‍हें यहां भी डेस्‍क पर जिम्‍मेदारी सौंपी गई है.

एचटी ने दक्षिण अफ्रीकी पत्रकार को बनाया चीफ एडिटोरियल एंड कंटेंट ऑफिसर

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ने दक्षिण अफ्रीकी पत्रकार निकोलस डेवेस को चीफ एडिटोरियल और कंटेंट ऑफिसर नियुक्‍त किया है. निकोलस दक्षिण अफ्रीका के लीडिंग अखबार मेल एंड गार्जियन के एडिटर इन चीफ के पद पर कार्यरत हैं. उन्‍होंने मेल एंड गार्जियन में अपने सहयोगियों को भेजे गए संदेश में हिंदुस्‍तान टाइम्‍स से जुड़ने की जानकारी देते हुए इसे बेहतर अपार्चुनिटी बताया है. संभावना है कि वे सितम्‍बर में हिंदुस्‍तान टाइम्‍स ज्‍वाइन करेंगे. इस बारे में द हिंदू ने भी एक खबर प्रकाशित की है. 

सड़क हादसे में चतरा के पत्रकार अनिल कुमार मिश्रा की मौत

चतरा : शहर के चतरा-बगरा मुख्य मार्ग पर स्थित नया पेट्रोल पंप के पास शुक्रवार को करीब डेढ़ बजे एक अज्ञात एलपी ट्रक की चपेट में आने से पत्रकार अनिल कुमार मिश्रा की मौत हो गई। वह रांची से प्रकाशित एक दैनिक के लावालौंग प्रखंड से संवाददाता थे। वह मोटरसाइकिल से चतरा से प्रखंड मुख्यालय लावालौंग जा रहे थे। इसी दौरान यह हादसा हो गया। सूचना मिलते ही सदर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें जख्मी अवस्था में सदर अस्पताल लाया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

डीजीपी कार्यालय में फर्जी संस्था?

यूपी पुलिस की सरकारी टेलीफोन डायरी में पुलिस वेलफेयर संस्था (पता ई-3, विज्ञानपुरी, महानगर) का उल्लेख है जिसमे डीजीपी की पत्नी अध्यक्ष हैं और कई सरकारी कर्मी कार्यरत हैं. इस सम्बन्ध में आरटीआई कार्यकर्ता डॉ नूतन ठाकुर द्वारा प्राप्त सूचनाओं से कई गंभीर बातें सामने आई हैं. डीजीपी कार्यालय का कहना है कि यह संस्था पुलिस कर्मचारियों के कल्याणार्थ विभिन्न जनपदों में संचालित कल्याण केन्द्रों के कार्यों के पर्यवेक्षण के लिए डीजीपी कार्यालय का अंग है पर इस संस्था की आधिकारिक और कानूनी स्थिति, मेमोरेंडम, नियमावली आदि उसके पास उपलब्ध नहीं हैं, जो पुलिस मुख्यालय, इलाहाबाद द्वारा बताया जा सकता है.

b4m 5thbday : यशवंत की कामयाबी ये है कि उन्‍हें कोई नजरअंदाज नहीं कर सकता – विकास मिश्रा

Vikas Mishra : भड़ास 4 मीडिया के पांच साल पूरे हो गए। यशवंत सिंह से हमारे रिश्ते के 10 साल भी पूरे हो गए। मेरठ दैनिक जागरण में हम लोगों की मुठभेड़ हुई थी। मैं सिटी रिपोर्टिंग इंचार्ज और यशवंत सिटी डेस्क इंचार्ज। यशवंत में एक आग थी, क्रियेटिविटी थी, जिसके हम सब कायल थे। साथ ही अक्खड़पन था, बिंदासपन था और जान हथेली पर रखकर चलने का माद्दा भी।

b4m 5thbday : मनीष चाहें तो मैं उनसे बहस को तैयार हूं – अरविंद सिंह

Arvind K Singh : भड़ास फार मीडिया के पांचवीं वर्षगांठ पर मेरा भी जाना हुआ… शानदार आयोजन जिसमें मुझे तमाम ऐसे साथी मिले जो मेरे प्रेरक रहे हैं और भाई आनंद प्रधान जैसे पुराने मित्र भी मिले… आनंद प्रधान और कई अन्य वक्ताओं के ओजस्वी भाषण मुझे पसंद आए.. इस आयोजन के लिए भाई यशवंत और उऩकी टीम को बहुत बधाई और शुभकामनाएं… लेकिन उसी मौके पर श्री मनीष सिसौदिया ने मीडिया को लेकर बहुत सही गलत बातें कहीं… बहुत नकारात्मक छवि दिखाने की कोशिश की.. उनकी सारी बातें सुनीं..मन मसोस कर रह गया.

‘सपा ने नहीं, मीडिया वालों ने की वरुण की मदद’

बरेली : भड़काऊ भाषण के मामले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव वरुण गांधी की अदालत से दोषमुक्ति में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मदद किये जाने के आरोपों के बीच सूबे के पंचायत राज मंत्री बलराम सिंह यादव ने मीडिया पर भाजपा नेता की सहायता का ठीकरा फोड़ा।

बड़े आईटी खिलाडियों के सामने केन्द्र सरकार पूरी तरह असहाय?

भारत सरकार याहू, गूगल, फेसबुक, ट्विटर जैसे बड़े आईटी खिलाड़ियों द्वारा नियमों का पालन करा सकने में पूरी तरह असमर्थ जान पड़ता है. सामाजिक कार्यकर्ता अमिताभ और नूतन ठाकुर द्वारा इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच में दायर कंटेम्प्ट याचिका में दिये आदेश से ऐसा ही जान पड़ता है.

b4m 5thbday : ‘भड़ास4मीडिया’ जैसा आईना समाज के साथ-साथ मीडिया की भी शक्ल दिखाता है

नई दिल्ली। मीडिया समाज का आईना कहा जाता है, आईना बड़ा हो या छोटा वह समाज की शक्ल दिखाता है। लेकिन यहां बात कर रहे हैं एक खास आईने की। ‘भड़ास4मीडिया’ जैसे आईने की जो समाज के साथ-साथ मीडिया की शक्ल दिखाता है। ‘भड़ास4 मीडिया’ पिछले 5 वर्षों में एक लम्बा सफ़र तय कर चुका है। मीडिया में इतनी जगह बनाने में कई साल लग जाते हैं, तो वही सफलतापूर्वक भड़ास4 मीडिया के पांच साल पूरे होने के उपलक्ष्य में भड़ास टीम ने राजेन्द्र प्रसाद के हिन्दी भवन में शुक्रवार की रात एक कार्यक्रम का आयोजन किया।

संजय दत्‍त के दोस्‍त ने पत्रकार को मारा थप्‍पड़, कपड़े भी फाड़े

मुंबई। मुंबई ब्लास्ट केस में अवैध हथियार रखने के दोषी अभिनेता संजय दत्त जब टाडा कोर्ट में सरेंडर करने जा रहे थे तो उनके एक साथी ने एक पत्रकार के साथ हाथापाई की तथा थप्‍पड़ मार दिया। संजय दत्‍त के साथ सरेंडर करने जाते समय उनकी पत्नी मान्यता दत्त, बहनें प्रिया दत्त एवं नम्रता और फिल्म प्रड्यूसर महेश भट्ट व बंटी वालिया भी शामिल थे। चाक चौबंद सुरक्षा के बीच संजय कोर्ट रवाना हुए उसी दौरान संजय के मित्र बंटी वालिया का एक पत्रकार से विवाद हुआ।

गढ़ बचाने खुद लखनऊ पहुंचेगे संजय गुप्ता !

(कानाफूसी) लखनऊ : हालांकि इसकी अभी अधिकृत पुष्टि नहीं हुई है लेकिन जागरण के सूत्र यह खबर दे रहे हैं कि लखनऊ का गढ़ बचाने को दैनिक जागरण के मालिक संजय गुप्ता दो-तीन दिन के अंदर लखनऊ पहुंच रहे हैं। राजनीतिक सम्पादक प्रशांत मिश्र से भी लखनऊ पहुंचने को कहा गया है। एसोसिएट एडीटर पंडित विष्णु प्रकाश त्रिपाठी भी साथ हो सकते हैं।

b4m 5thbday : भड़ास के कार्यक्रम में लोगों की उपस्थिति को अगर प्रगति का पैमाना माना जाए तो…

Sanjaya Kumar Singh : bhadas4media.com के कार्यक्रम की खासियत यह होती है कि लोग आते-जाते रहते हैं। यानी कार्यक्रम में शामिल लोगों की संख्या हॉल की क्षमता से ज्यादा होती है। मैं पिछले साल यानी चौथी सालगिरह पर भी मौजूद था और तब अपेक्षाकृत छोटे हॉल में मैंने ऐसा महसूस किया था।

देहरादून में गैस एजेंसी संचालकों से वसूली करने वाले दो पत्रकार गिरफ्तार

देहरादून। एक चैनल की तरफ से घटतोली के नाम पर गैस एजेंसी संचालकों को ब्लैकमेल करने वाले दो पत्रकारों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस संबंध में गैस एजेंसी संचालकों की तरफ से पुलिस प्रशासन पर लगातार दबाव भी बनाया जा रहा था। कुछ रोज पहले जेएनएन न्यूज चैनल के पत्रकारों ने अमनदीप गैस एजेंसी के कर्मचारियों का वाहन क्लेमनटाउन में उस समय रोक दिया था जब वह यहां होम डिलिवरी करने आये थे।

एमके वेणु की नई पारी, विनीत जोशी पंजाब सरकार का मीडिया मैनेज करेंगे

एमके वेणु ने द हिंदू अखबार के साथ बतौर एक्जीक्यूटिव एडिटर नई पारी शुरू की है. वेणु फाइनेनशियल एक्सप्रेस के मैनेजिंग एडिटर रह चुके हैं. वे अगले महीने अखबार में ज्वाइन करेंगे और द हिंदू के एडिटर, सिद्धार्थ वर्दराजन को रिपोर्ट करेंगे. फाइनेंशियल एक्सप्रेस से पहले वे इकोनॉमिक्स टाइम्स में चीफ एडिटर के बतौर 12 वर्ष तक काम किया. उनका करियर कुल 30 वर्षों का है. वे हिन्दुस्तान टाइम्स और टाइम्स ऑफ इंडिया में भी काम कर चुके हैं.

b4m 5thbday : मैं 5वीं सालगिरह के मौके पर यशवंतजी को मुबारकवाद देता हूँ : ओम थानवी

जब मैं अमर सिंह के भ्रष्टाचार वाले टेप सुनना चाहता था, फौरन मुझे 'भड़ास4मीडिया' की शरण में जाना पड़ा। ऐसे ही राडिया कांड की रिकॉर्डिंग मुझे आसानी से 'भड़ास' पर मिल गयी। पिछले 5 वर्षों में 'भड़ास' ने लम्बा सफ़र तय कर लिया है। मीडिया में इतनी जगह बनाने में बरस लग जाते हैं, वह भी पर्याप्त साधन झोंकने के बावजूद।  जहाँ तक मुझे जानकारी है, यशवंत सिंह काफी समय तक अकेले ही इस उद्यम को स्थापित करने में जुटे रहे। उनका पोर्टल या वेब पत्रिका, कुछ भी नाम दें, हिंदी के मीडियाकर्मियों में अब अपनी अलग पहचान और जगह बना चुका है।

असगर अली इंजीनियर ने कहा था- कलम का सौदा करने वाला कभी लेखक नहीं हो सकता

बेगूसराय : प्रगतिशील आन्दोलन से जुड़े लेखक व चिंतक असगर अली इंजीनियर के असामयिक निधन से बेगूसराय स्थित गोदरगावां का विप्लवी पुस्तकालय परिवार मर्माहत है। पांच वर्ष पूर्व यहाँ पुस्तकालय के वार्षिकोत्सव सह प्रलेस के राष्ट्रीय अधिवेशन में वे यहाँ आये थे। इनका कथन ‘मैं पहले भारतीय हूँ तब मुसलमान’ सुनकर लोगों ने इन्हें मुबारकवाद दी थी। आज भी इनके ये शब्द  जनमानस के हृदय में गूंजते हैं उन्होंने कहा था कि ‘कलम का सौदा करने वाला कभी लेखक नहीं हो सकता’।

नदीम का जाना : संजय गुप्ता के सवाल का जवाब नहीं तलाश पा रहे हैं रामेश्वर पांडे और दिलीप अवस्थी

दोनों सूचनाएं सच साबित हुईं. भड़ास ने बताया कि नदीम तोड़ने जा रहे हैं दैनिक जागरण से 20 साल पुराना अपना नाता. फिर बताया कि नदीम बन गए हैं नभाटा के असिस्‍टेंट एडीटर. दोनों बातें सच साबित हुईं. अब जल्द ही आपको भड़ास बतायेगा कि नदीम के जागरण छोड़ने पर वहां शीर्ष स्‍तर पर किस तरह मची गई जंग? क्‍यों जागरण छोड़ा नदीम ने? संजय गुप्‍ता के इस सवाल का जवाब नहीं तलाश पा रहे हैं रामेश्‍वर पांडे और दिलीप अवस्‍थी। अपनी अपनी कुर्सी बचाने को किस तरह नदीम को दैनिक जागरण में रोकने की हो रही हैं कोशिश? नदीम न रुके तो क्‍या दिलीप अवस्‍थी को हटाया जा सकता है लखनऊ से? दिल्‍ली की एक लाबी जुट गई है इस मुहिम में….

हिंदी दैनिक राष्ट्रीय प्रस्तावना से जुड़े वाराणसी के कई पत्रकार

राष्ट्रीय प्रस्तावना से वाराणसी के कुछ पत्रकार जुड़े हैं जिन्हें पूरे पूर्वांचल का जिम्मा दिया गया है। राष्ट्रीय प्रस्तावना हिंदी दैनिक लखनऊ से प्रकशित अखबार है जिसका कार्यालय वाराणसी में खोला गया है। जानकारी के मुताबिक रामसुंदर मिश्र को पूर्वांचल प्रभारी का पद दिया गया है। वहीं कृष्ण कुमार उपाध्याय को पूर्वांचल का ब्यूरो बनाया गया है। विभांशु यादव को वाराणसी का ब्यूरो तथा विजेन्द्र मिश्र को वाराणसी का प्रमुख संवाददाता नियुक्त किया गया है।

भाजपा के मीडिया प्रभारी श्रीकांत शर्मा की होगी छुट्टी!

भारतीय जनता पार्टी के अंदर दो प्रकार की मीडिया काम कर रही है। एक संगठन के प्रचार-प्रसार मे लगी है तो दूसरी तरफ कुछ नेतावों के लिए मीडिया सेल का उपयोग हो रहा है। सूत्रों की माने तो पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह और संगठन इस गतिविधि से नाराज और परेशान है। उमा भारतीय ने 2006 मे सार्वजनिक रूप से पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के सामने अपनी शिकायत दर्ज कराई थी कि पार्टी मे “डी ब्रीफ़िंग” करने वाले नेतावों पर अंकुश लगाया जाए।

राहुल गौतम को मिलेगा ‘कला-साहित्य पत्रकारिता’ सम्मान

जयपुर । ख्यातनाम मरहूम सितार वादक पं. रघुवीरशरण भट्ट की स्मृति में 19 मई, रविवार को शाम 7 बजे अलवर के प्रताप बास स्थित होटल निर्वाणा पैलेस में शास्त्रीय संगीत की सांझ संजोयी जाएगी। जिसमें कला और साहित्य के क्षेत्र में वर्षों से लेखन कर रहे पत्रकार एवं पिंकसिटी प्रेस क्लब जयपुर के वरिष्ठ उपाध्यक्ष राहुल गौतम को कला-साहित्य पत्रकारिता सम्मान से नवाजा जाएगा। कार्यक्रम संयोजक पं. हरिहरशरण भट्ट ने बताया कि 'पं. रघुवीरशरण भट्ट स्मृति संगीत एवं सम्मान समारोह' में भारत रत्न मरहूम उस्ताद बिस्मिल्लाह खां के पौत्र उस्ताद फतेहअली खान का शहनाई वादन होगा।

बुद्धिमानों की सबसे बड़ी सजा यह होती है कि वे बुरे लोगों का शासन झेलें

: कांग्रेस के सेल्फ-गोल का नया नमूना है दिग्विजय-कपिल का न्यायपालिका पर आक्षेप : कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में यूपीए-2 का शासन लगभग अवसान पर है. भ्रष्टाचार, कुशासन और संस्थाओं को तोड़ने-मरोड़ने के आरोपों के बीच इसके दो नेताओं – दिग्विजय सिंह और मंत्री कपिल सिब्बल में सेल्फ-गोल की अदभुत क्षमता है. दोनों ने अबकी बार सुप्रीम कोर्ट को अपने निशाने पर लिया है –कुतर्कों के सहारे.

हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से पूछा- सीआईडी, सतर्कता आदि को सरकार से मुक्ति क्यों नहीं?

आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर और सामाजिक कार्यकर्ता नूतन द्वारा उत्तर प्रदेश के विभिन्न अन्वेषण एजेंसियों की जांच प्रक्रिया में सरकार के नियंत्रण को समाप्त किये जाने सम्बंधित पीआईएल में आज इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच ने राज्य सरकार से आठ सप्ताह में अपना विस्तृत प्रतिशपथ पत्र दायर करने को कहा है.

सोहराबुद्दीन कोई धर्मात्मा नहीं, बहुत बड़ा अपराधी था

सोहराबुद्दीन को एक दिन इसी तरह मरना था। पुलिस उसे नहीं उड़ाती, तो कोई महात्मा या धर्मात्मा किस्म का सामान्य व्यक्ति उसे गोली से भूनने को मजबूर हो जाता। राजस्थान में विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया के मामले में सबसे ज्यादा गौर करने लायक बात यह है कि सीबीआई नामक सरकारी तोता आखिर किसके लिए उनको अपराधी साबित करने पर तुला हुआ है।

समाचार प्‍लस से छह लोगों ने शुरू की अपनी नई पारी

समाचार प्‍लस राजस्‍थान से खबर है कि आधा दर्जन लोगों ने चैनल के साथ अपनी नई पारी शुरू की है. एसाइनमेंट में चार लोगों ने तथा एमसीआर में दो लोगों ने ज्‍वाइन किया है. एमसीआर में सुरेंद्र सिंह को एक्‍जीक्‍यूटिव बनाया गया है. वे सीएनईबी से इस्‍तीफा देकर यहां पहुंचे हैं. उनके साथ यतीन ने भी एमसीआर एक्‍जीक्‍यूटिव के पद पर ज्‍वाइन किया है. वे इसके पहले कात्‍यायनी में कार्यरत थे.

वरिष्‍ठों से नाराज आलोक और नवीन नहीं आ रहे हैं कार्यालय!

अमर उजाला, लखनऊ के कार्यालय में सब कुछ सही नहीं चल रहा है. सूत्रों का कहना है कि चीफ रिपोर्टर राजन परिहार की फटकार के बाद सीनियर रिपोर्टर आलोक पराड़कर पिछले एक महीने से ऑफिस नहीं आ रहे हैं. आलोक राजन के व्‍यवहार से खासे नाराज हैं. आलोक इसके पहले हिंदुस्‍तान में भी कार्य कर चुके हैं. सूत्रों का कहना है कि दूसरी तरफ संपादक के रवैये से नाराज नवीन घोषाल भी अवकाश पर चल रहे हैं.

इस जवाबदेही के चलते नम्‍बर एक बनने की तरफ अग्रसर है समाचार प्‍लस

समाचार प्‍लस यूपी-उत्‍तराखंड चैनल अगर कम समय में नम्‍बर एक बनने की तरफ अग्रसर है तो यह केवल खबरें दिखाने से ही संभव नहीं हुआ है, बल्कि इस संस्‍थान ने पत्रकारिता के मानकों का भी पूरा ख्‍याल रखा है. उमेश कुमार के नेतृत्‍व में यह चैनल और इसकी टीम जवाबदेह भी है. अन्‍य संस्‍थानों की तरह कंबल ओढ़ कर घी पीने की बजाय समाचार प्‍लस प्रबंधन पत्रकारिता की पारदर्शिता और सुचिता का भी उतना ही ख्‍याल रखता है. यह सिद्ध हुआ है प्रबंधन की एक त्‍वरित कार्रवाई से.

त्रिपुरा के वित्तमंत्री ने चिटफंड घोटाले के लिए सरकारी क्षेत्र के बैंकों को दोषी ठहराया!

चिटफंड प्रकरण में घिर गयी है त्रिपुरा की वाम सरकार। वहां के मंत्री भी आरोपों के घेरे में हैं। विधानसभा में भारी हंगामा हो गया। पहले ही राज्‍य सरकार ने सीबीआई जांच के लिए आवेदन किया हुआ है। लेकिन अब इस फर्जीवाड़े से जनरोष जिस तरह से फैल रहा है, तो इस संकट के राजनीतिक मुकाबले के लिए त्रिपुरा सरकार को भी मैदान में उतरना पड़ा है। मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने इस आत्मरक्षा अभियान की कमान बादल चौधरी को सौंपी है, जो वित्तमंत्री हैं और जिनका गृह इलाका बिलोनिया से गोमती और उदयपुर होकर अगरतला तक पूरा इलाका चिटफंड की मार से त्राहि त्राहि कर रहा है। ​त्रिपुरा के वित्तमंत्री ने चिटफंड घोटाले के लिए सरकारी क्षेत्र के बैंकों को दोषी ठहराया है।

युवराजों का ‘राजतिलक’ : परिवर्तन या परिवारवाद!

राजनीति में बढ़ते परिवारवाद को लेकर लंबे समय से बहस रही है। खास खतरा यही है कि बेशर्मी से इस प्रक्रिया के बढ़ते जाने से राजनीतिक दलों में लोकतांत्रिक प्रक्रिया के विकास में लगातार बाधा आ रही है। लेकिन, मुश्किल यह है कि एक-एक करके अब प्राय: सभी दलों में यह ‘बीमारी’ तेजी से पैर पसारने लगी है। कुछ साल पहले तक परिवारवाद की राजनीति के लिए खास तौर पर कांग्रेस नेतृत्व को कोसा जाता था। लेकिन, अब तो इस मुद्दे की हवा ही निकलने लगी है। ताजा प्रकरण राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव का है। राजनीति में वे जयप्रकाश आंदोलन की उपज माने जाते हैं।

हॉकर बना टॉपर, पढ़ेगा आईआईएम कोलकाता में

मध्यम गति से चलने वाली दो पहिये की साईकिल में सवार होकर बंगलुरू के अखबार बेचने वाले एन. शिवा कुमार ने खुली आंखों से एक सपना देखा। सपना था कैट की परीक्षा पास कर कामयाबी की उड़ान भरने का। शिवा के लिए ये एक ऐसी उड़ान थी जिसे वो अकेले ही अपनी हिम्मत और काबलियत के दम पर भरना चाहता था।

सहारा का न्‍याय : तीन गालियों पर तीन दिन का निलंबन

राष्‍ट्रीय सहारा, लखनऊ से खबर है कि अपने सहयोगी को अपशब्‍द बोलने वाले डिप्‍टी ब्‍यूरो चीफ मनमोहन को तीन दिन के लिए निलंबित कर दिया गया है. यह कार्रवाई नोएडा के आदेश पर हुई है. नोएडा से जुड़े सूत्रों ने बताया कि प्रबंधन ने संपादक के कक्ष में अपशब्‍द कहे जाने को गंभीरता से लेते हुए यह कार्रवाई की है. इस सजा के माध्‍यम से यह भी अल्‍टीमेटम दिया गया है कि प्रबंधन ऐसी किसी भी हरकत को बर्दास्‍त नहीं करेगा. 

नक्षत्र से सुभाष तथा हिंदुस्‍तान से दुर्गेश व पुरुषोत्‍तम का इस्‍तीफा

नक्षत्र न्‍यूज, रांची से खबर है कि सुभाष शेखर ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे चैनल की लांचिंग के समय से ही जुड़े हुए थे. सुभाष अपनी नई पारी कहां से शुरू करेंगे इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है. वे इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं. उल्‍लेखनीय है कि पिछले दिनों नक्षत्र न्‍यूज से एक साथ नौ कर्मचारियों को बाहर का रास्‍ता दिखा दिया था.

स्‍पॉट फिक्सिंग में श्रीसंत, चंदीला एवं अंकित चव्‍हाण अरेस्‍ट

भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत और राजस्थान रॉयल्स के उनके दो अन्य साथियों अजित चंदीला और अंकित चव्हाण को दिल्ली पुलिस ने आईपीएल-6 में स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में गिरफ्तार किया है. दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने श्रीसंत को स्पॉट फिक्सिंग में कथित भूमिका के आरोप में बुधवार रात मुंबई में उनके दोस्त के घर से जबकि दो अन्य क्रिकेटरों को नरीमन प्वाइंट में टीम होटल से अरेस्‍ट किया.

जानना हो कि सोमवार से शुक्रवार के बीच छह दिन होते हैं, वो जागरण पढ़े

दैनिक जागरण में अक्‍सर अजीबो गरीब हरकत होती रहती है. हर रोज कोई न कोई नया इनवेंशन यहां के पत्रकार करते रहते हैं. अभी तक सभी लोगों को पता था कि सप्‍ताह में सोमवार से शुक्रवार तक पांच दिन होते हैं, लेकिन जागरण के पत्रकारों की एक का दो बनाने की आदत ने सोमवार से शुक्रवार को छह दिन बना दिया है. लखनऊ से एक खबर प्रकाशित हुई है लखनऊ से बनारस के बीच इंटरसिटी ट्रेन के शुभारंभ की.

जागरण के पत्रकार ने हिंदुस्‍तान के रिपोर्टर अंकित को मारी गोली, हालत गंभीर

अभी तक जागरण से जुड़े लोग ब्‍लैकमेलिंग या पैसे लेकर खबर ना छापने के आरोपों से ही घिरे थे, लेकिन जागरण के पत्रकार गोली भी मारने लगे हैं. घटना रामपुर जिले के शाहाबाद तहसील की है. दैनिक जागरण के स्‍थानीय रिपोर्टर अखिलेश रस्‍तोगी ने किसी बात से नाराज होकर हिंदुस्‍तान के रिपोर्टर अंकित गुप्‍ता को गोली मार दी. गोली अंकित के जबड़े में लगी है. उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है. पुलिस ने आरोपी पत्रकार को अरेस्‍ट कर लिया है.

भारत में परेशान हैं खेल पत्रकार

आईपीएल को छोड़ दिया जाए, तो भारत में खेलों का हाल छिपा नहीं. ओलंपिक समिति ने भारत को बाहर कर दिया है, मुक्केबाजी में भी धब्बा जैसा दिख रहा है. खिलाड़ी परेशान हैं और खेलों के बुरे हाल की वजह से खेल पत्रकार भी परेशान हैं.

उत्तराखंड में कौन है दस करोड़ का गंजा बंदर!

देहरादून। बंदर का नाम जुबान पर आते ही हर कोई उसकी मारी जाने वाली गुलाटियो को लेकर आश्चर्यचकित रहता है। लेकिन उत्तराखण्ड में गंजा बंदर के नाम से एक व्यक्ति दलाली की पटकथा लिखकर आज दस करोड़ का कारोबारी बन बैठा है। हमेशा से ही राजनेताओ के इशारे पर नाचने वाला यह बंदर अब खुद का अपना साम्राज्य चलाकर शासन से लेकर बड़े अधिकारियों के तबादलों में भी मोटी दलाली कर रहा है। उसकी इस दलाली की भनक सरकार के सबसे बड़े आका के कानो में भी गूंजनी शुरू हो गई है लेकिन आका का विश्वासपात्र होने के कारण उस पर नकेल कसने के बजाए उसे लूट की खुली छूट दे दी गई है।

भड़ास को पढने के बाद तो जैसे मेरी आँखे खुल गयी

: भड़ास ने सोच को दिए शब्द : बात उन दिनों की है, जब अखबार का प्रकाशन पहाड़ खोदने सरीखा होता था. अखबार बोले तो तलवार से तेज़. पैना. धारदार.  एक ही वार में सामने वाले का काम तमाम. हालाँकि ये सच है कि अखबार निकलने के लिए जिगर चाहिए होता था. जिसके पास ऐसा जिगर होता वो न्यूज़ पेपर का पंजीयन करा अपने काम का श्रीगणेश कर देते. सेवा का ज़ज्बा दिखता था. विज्ञापन के लिए इतनी मारा-मारी उन दिनों नहीं होती थी. आज का ब्यूरो उस समय का प्रतिनिधि होता था.

नभाटा के असिस्‍टेंट एडीटर बने नदीम, सुधीर संग लखनऊ से नवभारत टाइम्‍स निकालने का जिम्‍मा

लखनऊ : दैनिक जागरण से बीस साल पुराना नाता तोड़ने वाले यूपी स्‍टेट ब्‍यूरो चीफ नदीम नवभारत टाइम्‍स के असिस्‍टेंट एडीटर हो गए हैं। नभाटा प्रबंधन ने उन्‍हें सुधीर मिश्रा के संग लखनऊ से अपना संस्‍करण शुरू करने का जिम्‍मा सौंपा है। सुधीर मिश्र की नियुक्‍ति नभाटा में बतौर स्‍थानीय सम्‍पादक हुई है। वह भी दैनिक जागरण प्रोडेक्‍ट हैं। हालांकि मौजूदा समय वह भास्‍कर में थे, वहीं से नभाटा ने उन्‍हें लिया है। नभाटा का लखनऊ संस्‍करण अगस्‍त महीने से शुरू होने की सम्‍भावना है।

इन मुसीबतों से डरकर कभी यशवंत ने अपने कदम पीछे खींचे हो, ऐसा नहीं हुआ…

: भड़ास४मीडिया मतलब पोलखोल अभियान के पाँच साल : मीडिया जगत की काली सच्चाई को उजागर करने के लिए एक जुझारू पत्रकार के द्वारा चलाये जा रहे पोलखोल अभियान का एक और साल पूरा हो गया| वो पत्रकार जिसे खुद को दबंग और रंगबाज कहने-कहलवाने से कोई गुरेज नहीं, जो न किसी से डरता है न दबता है, हर मुसीबत के सामने डटकर खड़ा होना आता है जिसे| बात हो रही है खबरियों की खबर देने वाली प्रमुख वेबसाईट भड़ास४मीडिया के संस्थापक यशवंत सिंह की|

कहां स्टार और कहां एबीपी, कोई बराबरी नहीं है…

Sanjaya Kumar Singh : स्टार न्यूज और आनंद बाजार पत्रिका के बीच करार खत्म हुआ तो स्टार न्यूज का नया नाम रखा जाना था और काफी शोर-शराबे व हंगामे के बाद इसका नाम बदलकर एबीपी न्यूज कर दिया दिया गया। कहने को तो कहा गया कि बदला कुछ नहीं सिर्फ नाम है पर नाम जो स्टार न्यूज था वह अब एबीसी (क्षमा कीजिएगा) एबीपी न्यूज हो गया। कहां स्टार और कहां एबीपी (एबीसी का आभास देता है सो अलग) – कोई बराबरी नहीं है।

पीएम का नामांकन कवर करने की इजाजत नहीं मिलने पर भड़के मीडियाकर्मी

गुवाहाटी। राज्यसभा चुनाव के लिए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ओर से नामांकन-पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया कवर करने की इजाजत न मिलने पर गुवाहाटी के मीडियाकर्मियों ने विरोध-प्रदर्शन किया। अधिकारियों ने स्थानीय एवं राष्ट्रीय मीडिया के पत्रकारों, टीवी कैमरामैन और फोटोग्राफरों के विधानसभा परिसर में दाखिल होने पर रोक लगा दी। उनका कहना था कि प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) और विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) ने मीडियाकर्मियों के परिसर में दाखिल होने पर रोक लगायी है।

जेवीजी का सीएमडी विजय शर्मा ठगी के आरोप में अरेस्‍ट

नई दिल्ली : जेवीजी ग्रुप का सीएमडी विजय कुमार शर्मा एक बार फिर पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। इस बार उस पर वियान इंफ्रास्ट्रक्चर तथा पीएसजी डेवलपर्स एंड इंजीनियरिंग लिमिटेड नामक कंपनियों में निवेश पर मोटे ब्याज का झांसा देकर कई सैकड़ों करोड़ रुपये हड़पन कर धोखा देने का आरोप है। दो साल पूर्व विजय को भगोड़ा घोषित कर दिया गया था। विजय की गिरफ्तारी पर दिल्ली पुलिस ने एक लाख रुपये इनाम रखा था।

प्रभात खबर, दिल्‍ली के संपादक एनपी सिंह का इस्‍तीफा, स्‍टार में वीपी बने

: प्रभात खबर, भागलपुर के पूर्व जीएम ज्‍वाइन करेंगे न्‍यूज11 : प्रभात खबर से सूचना है कि एनपी सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे दिल्‍ली में अखबार के संपादक थे. एनपी सिंह अपनी नई पारी स्‍टार समूह के साथ शुरू करने जा रहे हैं. उन्‍हें समूह में वाइस प्रेसिडेंट बनाया गया है. अच्‍छे एवं तेजतर्रार पत्रकारों में शुमार एनपी सिंह लंबे समय से प्रभात खबर से जुड़े हुए थे.

रेणुकूट में दैनिक जागरण और अमर उजाला के पत्रकारों ने कलम रख दी गिरवी

रेणुकूट : लगातार बहस का मुद्दा बनती जा रही पत्रकारिता की साख के लिए वास्तव में कुछ पत्रकारों की भूमिका को देखते हुए कुछ भी कहना अब बहुत खराब नहीं लगता है। सोनभद्र के रेणुकूट में पत्रकारिता से खिलवाड़ करने वाले दो तथाकथित बड़े कहे जाने वाले अखबारों के पत्रकारों ने तो कम से कम यही साबित किया है। अमर उजाला के पत्रकार रामाश्रय राय एवं दैनिक जागरण के राहुल शर्मा रेणुकूट में द्वेषपूर्ण एवं धनोपार्जन की पत्रकारिता के लिए प्रसिद्ध होते जा रहे हैं।

इंडिया न्‍यूज पर बड़ा खुलासा : वाजपेयी ने क्लिंटन से वायदे के तहत मुशर्रफ को आगरा बुलाया

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में प्रधानमंत्री के मीडिया सलाहकार रहे अशोक टंडन ने इंडिया न्यूज के विशेष कार्यक्रम टुनाइट विद दीपक चौरसिया में खुलासा किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी ने अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति बिल क्लिंटन से किए वायदे के तहत शिखर वार्ता के लिए पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को आगरा बुलाया था. वाजपेयी ने यह वचन क्लिंटन को तब दिया जब पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने करगिल से सेना हटाने के क्लिंटन के दो टूक संदेश के बदले आग्रह किया कि भारत से कम से कम बातचीत का वचन लिया जाए.

पाक जायरीन का जत्था नहीं आएगा गरीब नवाज के उर्स में

गरीब नवाज ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के उर्स में इस दफा पाक जायरीन का जत्था नहीं आएगा। भारतीय सैनिकों के सिर काट ले जाने और सरबजीत सिंह की जेल में हत्या को लेकर अजमेर में कुछ हिन्दुवादी संगठनों के विरोध के चलते भारत सरकार ने पाक जायरीन को भारत आने की अनुमति नहीं दी है।

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में सीबीआई ने गुलाब चंद कटारिया पर कसा शिकंजा

चुनावों से कुछ माह पहले राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया एक बड़े झमेले में फंस गए हैं। आठ साल पुराने गुजरात के सोहराबुद्दीन फर्जी मुठभेड़ कांड में सीबीआई ने कटारिया को हत्या की साजिश के आरोप में नामजद करते हुए अदालत में चार्जशीट दाखिल कर दी है। चार्जशीट में लगाए गए आरोप इतने गंभीर हैं कि कटारिया का जेल जाना लगभग तय है। गुजरात के तत्कालीन गृह मंत्री अमित शाह इस कांड के मुख्य आरोपी हैं और इसी के चलते उनकी कुर्सी गई थी। फिलहाल वे जमानत पर हैं।

समाचार प्‍लस राजस्‍थान से अभिजीत, शिखा, विवेक एवं कैलाश जुड़े

समाचार प्‍लस राजस्‍थान से खबर है कि चार लोगों ने अपनी नई पारी शुरू की है. यह चैनल अगले सप्‍ताह लांच होने वाला है. जिन लोगों ने समाचार प्‍लस के साथ अपनी नई पारी शुरू की है उनमें अभिजीत शेखर, शिखा जोशी, विवेक कुमार पुंडीर और कैलाश चंद्र जोशी शामिल हैं.

लांचिंग के पंद्रह दिन : जय महाराष्‍ट्रा से विदा होने लगे पत्रकार, दो गए

: ईपी प्रीति गुप्‍ता एवं प्रदीप पांडेय ने दिया इस्‍तीफा : कई कतार में : जय महाराष्‍ट्रा चैनल को लांच हुए अभी ठीक से एक महीना भी नहीं हुआ है कि यहां खटपट शुरू हो गई है. जब आगाज ऐसा है तो अंजाम का अंदाजा लगना कोई बहुत मुश्किल बात नहीं है. चर्चित दीपा बार के मालिक सुधाकर शेट्टी के चैनल जय महाराष्‍ट्रा की शुरुआत ही खराब होती दिख रही है. सूत्रों का कहना है कि चैनल लांच हुए एक महीना भी नहीं हुआ, लेकिन यहां से जाने वालों का सिलसिला शुरू हो गया है.

फर्जी आंकड़े दिखाने वाले ब्रॉडकास्‍टरों के लिए टैम ने जारी किए दिशा निर्देश

टैम की मीडिया रेटिंग को लेकर विवाद शुरू से ही रहा है. एनडीटीवी और प्रसार भारती जैसे बड़े ब्रांडकास्‍ट इस संस्‍था के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करा चुके हैं. अबकी पलटवाल टैम ने किया है. टैम ने उसके द्वारा उपलब्‍ध कराए गए आंकड़ों की गलत प्रस्‍तुति करते हुए कई मौकों पर तमाम चैनलों द्वारा खुद को नम्‍बर वन कहने की प्रवृत्ति पर रोक लगाने का मुद्दा उठाया है. खासकर बजट एवं चुनाव परिणामों के दौरान तमाम चैनल खुद को नम्‍बर एक बताते हैं. 

टैम ने गठित किया छह सदस्‍यीय ट्रांसपेरेंसी पैनल

टेलीवीजन के दर्शकों का हिसाब किताब रखनेवाली टैम मीडिया रिसर्च प्राइवेट लिमिटेड पर लंबे समय से गलत आंकड़े देने के आरोप लगते रहे हैं.  ब्राडकास्‍टर्स ही नहीं बल्कि सरकार और प्रसार भारती भी टैम के टेलीविजन रेटिंग प्‍वाइंट सिस्टम पर सवाल खड़ा करती रही है. दूसरी तरफ टैम ने अब ब्रॉडकास्टर्स के द्वारा आंकड़ों का अपने हित में उपयोग करने का मुद्दा उठाया है. संभावना है कि आने वाले दिनों में टैम को लेकर विवाद और गहराएंगे.

जेल में काला खेल : दो महिला कैदियों से बलात्‍कार करता था जेलर!

फरीदाबाद। जेल, एक ऐसी जगह जहां कैदी पर हर वक्‍त पहरा होता है। मगर जब जेल के पहरेदारों की ही नियत बदल जाये तो क्‍या कहा जा सकता है। जी हां ऐसा ही कुछ हुआ है फरीदाबाद के नीमका जेल में। इस जेल में हत्‍या के आरोप में उम्रकैद की सजा काट रही दो महिलाओं ने जेल अधीक्षक पर छेड़छाड़, मारपीट और जेल उपाधीक्षक पर बलात्‍कार तथा दो महिला वार्डन पर यौन शोषण का आरोप लगाया है। जेल अधीक्षक और उपाधीक्षक पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और मामले की छानबीन की जा रही है।

श्री टाइम्‍स से संजय, सुशांत एवं अश्‍वनी का इस्‍तीफा

लखनऊ से प्रकाशित श्री टाइम्स से विकेट गिरने का दौर शुरू हो चुका है। खबर है कि विशेष संवाददाता संजय श्रीवास्तव व डाक प्रभारी कुमार सुशांत ने संस्थान को अलविदा कह दिया है। दोनों जल्द ही लखनऊ से एक पॉलिटिकल मैगजीन (पाक्षिक) लाने की तैयारी में हैं। संबंधित पत्रिका में संजय श्रीवास्तव को प्रबंधन ने संपादक की जिम्मेदारी दी है, वहीं कुमार सुशांत समाचार संपादक होंगे।

उम्मीदों पर खरा उतरने की नवाज को चुनौती!

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के प्रमुख नवाज शरीफ तीसरी बार प्रधानमंत्री पद संभालने जा रहे हैं। सत्ता में नवाज की वापसी से भारत और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्तों की उम्मीद बढ़ चली है। चुनावी अभियान के दौर में वे लगातार यह कहते रहे हैं कि भारत से बेहतर रिश्ता बनाना, उनका एक प्रमुख राजनीतिक एजेंडा रहेगा। उन्होंने यह इच्छा भी जताई है कि वे चाहेंगे कि सेना में चुनी हुई सरकार का अंकुश बढ़े। ताकि, वह बार-बार लोकतांत्रिक सरकार का गला घोंटने की स्थिति में न रहे।

सतर्कता, सीबी-सीआईडी, ईओडब्ल्यू- शासन से मुक्त कराने के लिए पीआईएल

आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर और सामाजिक कार्यकर्ता डॉ. नूतन ठाकुर द्वारा उत्तर प्रदेश के विभिन्न अन्वेषण एजेंसियों- सतर्कता अधिष्ठान, सीबी-सीआईडी, आर्थिक अपराध अनुसन्धान संगठन (ईओडब्ल्यू), एसआईबी को-ऑपरेटिव तथा भ्रष्टाचार निवारण संगठन (एसीओ) की जांच प्रक्रिया में उत्तर प्रदेश सरकार के नियंत्रण को समाप्त किये जाने के सम्बन्ध में आज इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच में पीआईएल दायर की है.

9 जुलाई को जयपुर से लांच होगा नेशनल दुनिया

नेशनल दुनिया प्रबंधन दिल्‍ली और मेरठ के बाद अब अखबार को जयपुर में लांच करने की तैयारी कर रहा है. खबर है कि प्रबंधन इस अखबार की लांचिंग जुलाई में करने के लिए कमर कस रहा है. अगर सब कुछ प्रबंधन की योजना के अनुसार चला तो नेशनल दुनिया 9 जुलाई को जयपुर से लांच कर दिया जाएगा. प्रबंधन की निगाह आने वाले विधानसभा चुनाव पर है. इसलिए प्रबंधन चुनाव से पहले किसी भी कीमत पर जयपुर से अखबार लांच कर देना चाहता है.

केवट की बिटिया की शादी में उमाभारती ने भेजा चांदी का मुकुट

इलाहाबाद। राम केवट संवाद स्थली के रूप में विख्यात श्रृंग्वेरपुरधाम में नाव चलाकर जीवनयापन करने वाले केवट समुदाय के गरीब परिवार पर भाजपा नेता उमाभारती की कृपा बरसी है। यहां के केवट अमृत लाल निषाद की बिटिया की शादी में भाजपा की फायरब्रांड नेता के चांदी का मुकुट बतौर गिफ्ट शामिल होगा।

दो पत्रकारों की मेहनत रंग लाई, मुंबई में यूपी भवन का उद्घाटन करेंगे अखिलेश

 मुंबई : पिछले कई वर्षों से उद्घाटन की राह देख रहा नवी मुंबई वाशी स्थित पांच सितारा उत्तर प्रदेश भवन का उदघाटन २३ मई को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के हाथों किये जाने की जानकरी सपा के तरफ से दिया गया है। इस भवन के उद्घाटन की तारीख घोषित होते ही नवी मुंबई में कार्यरत नवभारत के राजित यादव और हमारा महानगर के नागमणि पाण्डेय की प्रशंसा नागरिकों द्वारा की जा रहा है।

एसपी सरकार की मदद से बरी हुए वरुण : बेनी

लखनऊ। केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने समाजवादी पार्टी (एसपी) प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर किए गए ताजा हमले में आज उन पर हमेशा सांप्रदायिक ताकतों का साथ देने का आरोप लगाया और कहा कि बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव वरुण गांधी ही भड़काऊ भाषण के मामलों में उत्तर प्रदेश की एसपी सरकार की मदद से बरी हुए। वर्मा ने यहां अपने आवास पर संवाददाताओं से कहा, ''मुलायम हमेशा से सांप्रदायिक ताकतों के साथी रहे हैं। वह बाबरी ढांचा ढहाने की साजिश में भी शामिल थे।'' उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव वरुण गांधी उत्तर प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार की मदद से ही भड़काऊ भाषण के मामलों में बरी हुए।

हवाला के मार्फत चिटफंड का पैसा पार, बदस्तूर जारी है कारोबार!

प्रवर्तन निदेशालय शारदा फर्जीवाड़े मामले की जांच के सिलसिले में अदालत की शरण में जाना तय किया है। ईडी का आरोप है कि इस चिटफंड ​​कंपनी में जमा आम निवेशकों के सैकड़ों करोड़ रुपये हवाला के मार्फत खाड़ी देशों में स्तानांतरित हो गया है। इसी सिलसिले में तफ्तीश के लिए​​ विधाननगर पुलिस कमिश्नरेट से ईडी ने जरूरी दस्तावेज मांगे, तो उसका आवेदन ठुकरा दिया गया। ईडी अधिकारियों का आरोप है कि राज्य सरकार जांच में कोई सहयोग नहीं कर रही है। जबकि सुदीप्त इस वक्त विधाननगर कमिश्नरेट पुलिस की हिफाजत में है। लिहाजा ईडी अब हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटायेगा।

क्‍या सरकारी शिक्षक किसी राष्‍ट्रीय अखबार का ब्‍यूरोचीफ बन सकता है?

जनपद चंदौली में 'आज' के ब्‍यूरोचीफ के पद को लेकर बवाल मचा हुआ है. प्रबंधन को अखबार से खास मतलब नहीं है, लिहाजा ऊपर में जो किसी वरिष्‍ठ से अपनी सेटिंग कर लेता है, उसे ही ब्‍यूरोचीफ बना दिया जाता है. खबर है कि यहां ब्‍यूरोचीफ के पद को लेकर बृजेश कुमार एवं शिवपूजन तिवारी के बीच घमासान मचा हुआ है. शिवपूजन तिवारी सरकारी विभाग में अध्‍यापक हैं, इसके बाद भी आज अखबार के ब्‍यूरोचीफ बने हुए हैं.

साल दर साल कम हो रही सेंसर के कैची की ‘धार’

: बोल्ड व आपत्तिजनक सीन व संवादों पर अब पहले जैसा नहीं रहा एतराज : दिल्ली बलात्कार मामले के बाद ऐसे लोगों की कमी नहीं, जो महिलाओं के खिलाफ अपराध के लिए फिल्मों में बढ़ती अश्लीलता को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। दरअसल केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड यानी सेंसर बोर्ड दिन प्रतिदिन फिल्मों के दृश्यों पर कैची चलाने के मामले में उदार होता जा रहा है। पिछले पांच सालों के दौरान सेंसर बोर्ड द्वारा फिल्मों के दृश्यों पर कैची चलाने में कमी आई है। इस बात का खुलासा सूचना अधिकार कानून (आरटीआई) से मिली जानकारी से हुआ है।

बीबीसी में मल्‍टी मीडिया प्रोड्यूसर बनेंगे दिलनवाज पाशा

भास्‍कर डॉट कॉम से खबर है कि दिलनवाज पाशा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे भास्‍कर डॉट कॉम में करेस्‍पांडेंट के पद पर कार्यरत थे तथा सीधे संपादक को रिपोर्ट करते थे. दिलनवाज जल्‍द ही बीबीसी से जुड़ने वाले हैं. सूत्रों का कहना है कि वे 1 जून को बीबीसी में मल्‍टी मीडिया प्रोड्यूसर के …

पत्रकारों से बदसलूकी का मामला : एसपी ने कहा जांच के बाद वापस होगा मुकदमा

सिंगरौली/बैढ़न : पत्रकारों के उपर फर्जी पुलिसिया कार्रवाई करने तथा फर्जी मुकदमा पंजीबद्ध करने समेत ताबड़तोड़ कार्रवाई कर पत्रकारों को जेल भेजे जाने के मामले में मप्र श्रमजीवी पत्रकार संघ की जिला इकाई सिंगरौली ने तीव्र आलोचना की है। संघ ने पुलिसिया कार्रवाई का विरोध करते हुए पुलिस अधीक्षक सिंगरौली से पत्रकारों पर लादे गए फर्जी मुकदमे वापस लेने तथा कंपनी के आरोपी सुरक्षा प्रबंधक निर्मित ठाकुर व विकास श्रीवास्तव पर कार्रवाई करने की मांग संबंधित ज्ञापन सौंपा।

समाचार प्‍लस : अभिजीत की नई पारी, नितिन का इस्‍तीफा

साधना न्‍यूज से खबर है कि अभिजीत शेखर झा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी समाचार प्‍लस चैनल के साथ शुरू करने जा रहे हैं. वे साधना न्‍यूज के एमपी-सीजी चैनल से जुड़े हुए थे तथा स्‍पेशल प्रोग्राम बनाते थे.

सुशासन में और निरंकुश हुई पुलिस, दर्ज किया फर्जी एफआईआर

आदरणीय, यशवंत जी, भड़ास मीडिया, नमस्कार। आपका, मुझसे मेरी समस्याओं का पूछना ही डुबते को तिनके का सहारा प्रतीत हुआ, इसके लिए कोटि-कोटि धन्यवाद। मैंने, भूमि अतिक्रमण किये जाने पर, दबंगों की गुण्डागर्दी के खिलाफ माननीय मुख्यमंत्री बिहार, डीजीपी बिहार, एसपी भोजपुर, बिहार एवं नगर थाना आरा को आवेदन दिनांक 23/03/2013 को निबंधित डाक से प्रेषित किया। इसके पश्चात कोई कारवाई होता न देख दिनांक 05/04/13, 06/04/13, 08/04/13, 09/04/13 को भी थाना एवं एसपी भोजपुर को आवेदन प्रेषित किया। इसके बाद मैं 09/04/13 को मैं भुरकुण्डा, झारखण्ड चला आया। मेरे अनुपस्थिति में ही मेरे नाम पर मारपीट के आरोप लगाते हुए नगर थाना आरा में एफ आई आर दर्ज किया गया वह भी बिना जाँचे और समझे।

टीवी चैनल ”मेरा ग्रह” गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में शामिल हुआ

रूसी टीवी चैनल "मॉया प्लानेता", यानी "मेरा ग्रह" के कर्मीदल ने एक नया गिनीज़ विश्व रिकार्ड स्थापित किया है। इस चैनल के एक मॉडरेटर और दो कैमरा ऑपरेटरों ने एक ही देश के भीतर सबसे लंबी दूरी की कार यात्रा में भाग लिया है। इस चैनल के बहादुर कर्मियों ने रूस की राजधानी मास्को से रूस के सुदूर-पूर्वी नगर पेत्रोपाव्लोव्स्क-कमचात्स्की तक लगभग 16 हज़ार किलोमीटर की दूरी दो महीने की समयावधि में पूरी की। उन्होंने आधा रास्ता अच्छी भली सड़कों पर और आधा रास्ता कच्चे रास्तों पर कारें चलाते हुए तय किया। यह यात्रा इन लोगों के जीवन की एक सबसे अविस्मरणीय घटना बन गई है।

रिश्‍वत लेकर पत्रकार मान्‍यता कार्ड बना रहा है यूपी का सूचना विभाग!

लखनऊ :  उत्तर प्रदेश सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में पहले से ही भ्रष्टाचार का बोल बाला था, अब सारी सीमाएँ लांघ कर नया कीर्तिमान स्थापित किया जा रहा है. समाचार पत्रों के ग़ैर व्यक्तियों को मुख्यालय की मान्यता दी जा रही है. उर्दू के विभिन समाचार पत्रों के पत्रकारों को मान्यता के स्थान पर मैनेजर मान्यता की दौड़ में आगे हैं. दिलचस्प बात यह है कि यह मैनेजर सीना ठोंक कर यह घोषणा भी कर रहे हैं कि उन्होंने १०,०००-१०००० रुपए सूचना विभाग की एक डिप्टी डायरेक्टर को देकर अपनी मान्यता कराई है.

जिसका जूता उसकी भैंस है यूपी के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग में!

उत्तर प्रदेश की सरकारी स्वास्थ्य सेवाएं बेहद लचर हैं यह बात हम मीडिया के माध्यम से समय समय पर सुनते रहते हैं. दरअसल पूरे सरकारी विभाग में इस तरह का माहौल है, स्वास्थ्य सेवाओं का स्तर इससे बेहतर नहीं हो सकता. मैंने 2010 में उत्तर प्रदेश सरकार की नौकरी ज्वाइन की. मैं फिरोजाबाद के एक बेहद पिछड़े इलाके में कार्यरत था. वहां के लोकल स्टाफ ने अमर उजाला व हिन्दुस्तान के पत्रकारों के साथ मिल कर मेरे विरुद्ध अखबार में खबरें छपवाई, स्थानीय लोगों को भड़काया. जबकि मैं चौबीस घंटे अस्पताल में उपलब्ध रहता था और ओ.पी.डी रजिस्टर व मेडिको लीगल रजिस्टर इस बात के गवाह हैं कि अस्पताल चलाना मुख्यतः मेरे ही जिम्मे था. 

समाचार प्‍लस के साथ चौदह लोगों ने शुरू की अपनी नई पारी

समाचार प्‍लस से खबर है कि राजस्‍थान चैनल के साथ चौदह लोगों ने अपनी नई पारी शुरू की है. यूपी-उत्‍तराखंड में तहलका मचाने के बाद समाचार प्‍लस अब राजस्‍थान में धमाका करने की तैयारी में जुटा हुआ है. राजस्‍थान चैनल के साथ आनंद प्रकाश गौतम ने अपनी नई पारी शुरू की है. वे ए2जेड से इस्‍तीफा देकर समाचार प्‍लस पहुंचे हैं. उन्‍हें रन डाउन की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. आनंद को एसोसिएट प्रोड्यूसर बनाया गया है. बीटीवी, जयपुर से इस्‍तीफा देकर राकेश मिश्रा ने भी समाचार प्‍लस ज्‍वाइन किया है. इन्‍हें भी रनडाउन पर प्रोड्यूसर बनाया गया है.

प्रो. भाष्‍कर ने किया मासिक पत्रिका ‘दिव्‍यता’ का विमोचन

लखनऊ : हम अपनी मातृभाषा में बात करने में शर्म महसूस करते हैं, जबकि विदेशियों को देखिये कि वह अपने देश में हों या विदेश में, वे अपनी ही भाषा में बात करते हैं। उन्हें अपनी भाषा में बोलने में जरा सी भी शर्म महसूस नहीं होती। वहीँ हम हैं कि विदेश की छोडिये अपने देश में ही अपनी मातृभाषा में बात करने में हिचकिचाते हैं। आप चीन को देखिये केवल वे अपने व्यवसाय के लिए ही विदेशी भाषा का प्रयोग करते हैं, न कि दैनिक प्रयोग के लिए।

लेकिन यशवंत भाई, मेरा एक विनम्र सुझाव है…

बधाई यशवंत जी, भड़ास ४ मी़डिया के पांच साल पूरे होने पर यशवंत जी और उनकी टीम को असीम बधाइयां। इसमें शक नहीं कि पूरी लगन और मेहनत से इस विशिष्ट वेब साइट ने हिंदी में एक नया शिखर और कीर्तिमान स्थापित किया। कई तमाम रिस्क उठाए। लड़ाइयां लड़ीं। दुख झेला। इससे बचपन में प्राइमरी स्कूल में पढ़ी कवि श्याम नारायण पांडेय (अब तो इस कवि का नाम कई लोग नहीं जानते) याद आती है-

वीर तुम बढ़े चलो, धीर तुम बढ़े चलो।

सामने पहाड़ हो, सिंह की दहाड़ हो।

….. वीर तुम बढ़े  चलो, धीर तुम बढ़े चलो।।

प्रिंटलाइन से स्वतंत्र मिश्रा का नाम हटा, वाधवा का नाम दर्ज

सहारा से एक बड़ी जानकारी मिली है कि स्वतंत्र मिश्रा का नाम अखबार की प्रिंटलाइन से हटा दिया गया है. सहारा मीडिया और एंटरटेनमेंट हेड संदीप वाधवा का नाम प्रिंट लाइन में डाल दिया गया है. सूत्रों का कहना है कि स्वतंत्र मिश्रा का इस्तीफा प्रबंधन ने स्वीकार कर लिया है. उसी के तहत यह कदम उठाया गया है.

बसपा ही ब्रहामण समाज की सच्ची हितैषी : सतीश चन्द्र मिश्र

सुलतानपुर। देश की आज़ादी से लेकर आजतक ब्रहामण समाज निष्ठावान भाव से देश के लिये सर्पित है लेकिन गैर बसपाई सभी सरकारें इस द्विव्य समाज का त्रिस्कार करती चली आ रही हैं। कभी कांग्रेस ने सरकार बनाने का लिये ब्रहामण समाज का इस्तेमाल किया तो कभी भाजपा और सपा ने लेकिन इन दलों ने समाज को छलने के अलावा कुछ नहीं दिया। उक्त बातें बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं राज्यसभा सदस्य सतीशचन्द्र मिश्र ने यहां आयोजित ब्रहामण समाज सम्मेलन में कहीं।

चर्चा है कि दैनिक जागरण, लखनऊ को ‘बॉय’ बोलने जा रहे हैं नदीम!

: (कानाफूसी) : लखनऊ में चर्चा है कि दैनिक जागरण के स्टेट ब्यूरो चीफ नदीम इस अखबार से अपना बीस साल पुराना नाता तोडऩे जा रहे है। बताया जा रहा है कि वे जल्द ही अपना इस्तीफा संस्थान को सौंप देंगे। उनका एक बड़े मीडिया संस्थान के साथ बड़े पद के लिए बात तय होने की बात कही जा रही है। लोग तो यहां तक कह रहे हैं कि इसी हफ्ते उनकी वहां ज्वाईनिंग हो सकती है। हालांकि आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।

युवक की पिटाई पर नाराज कृषि मंत्री और सपा जिलाध्यक्षा का धरना, पुलिसकर्मी निलम्बित, एफआईआर दर्ज

बाराबंकी। भारतीय स्टेट बैंक रामसनेहीघाट शाखा में पैसा जमा करने गये एक युवक की चौकी प्रभारी द्वारा अकारण पिटाई करने से आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम व कोतवाली का घेराव कर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। डीएम व एएसपी ने मौके पर पहुंचकर मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए। मामला सपा समर्थित प्रधान से जुडा होने से कृषि राज्यमंत्री राजीव कुमार सिंह भी अपने कार्यकर्ताओं के साथ कोतवाली गेट पर धरने पर बैठ गये। मुख्यमंत्री व आईजी के हस्ताक्षेप के बाद दोषियों पर मुकदमा दर्ज कर कोतवाल सहित तीनो को लाइन हाजिर कर दिया गया।

सहारा मामले में सेबी ने शुरू की रिफंड की प्रक्रिया

नई दिल्ली : बाजार नियामक सेबी ने बहुचर्चित सहारा मामले में उन व्यक्तिगत निवेशकों का पैसा वापस किए जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है जिनका सत्यापन वह कर चुका है। यह मामला सहारा द्वारा ‘विभिन्न गैरकानूनी तरीकों’ से 24,000 करोड़ रुपये की राशि जुटाने से जुड़ा है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने केवल उन निवेशकों को पैसा लौटाना शुरू किया है जिनके मामलों में सत्यापन प्रक्रिया के दौरान किसी तरह का दोहराव सामने नहीं आया। बाकी निवेशकों को रिफंड के लिए उच्चतम न्यायालय के आगामी निर्देशों तक इंतजार करना होगा। न्यायालय इस मामले पर 17 जुलाई को सुनवाई कर सकता है।

हनी सिंह के गाने सुनकर सिर शर्म से झुक जाता है, इसके खिलाफ कार्रवाई हो : अदालत

चंडीगढ़: पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय ने अश्लील गीत गाने को लेकर रैप गायक हनी सिंह के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के लिए पंजाब सरकार की आलोचना की। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश जसबीर सिंह और न्यायमूर्ति आरके जैन की पीठ ने पंजाब सरकार को आदेश दिया कि वह भारतीय संस्कृति को बदनाम करने के लिए तत्काल रैप गायक के खिलाफ कार्रवाई करे। अदालत ने कहा कि हनी सिंह के गाने सुनकर सिर शर्म से झुक जाता है। अदालत ने यह भी कहा कि हनी सिंह का बहिष्कार किया जाना चाहिए।

दैनिक जागरण में अरुण चौधरी एवं संतोष ठाकुर का तबादला

दैनिक जागरण, जम्‍मू से खबर है अरुण चौधरी को नोएडा बुलाया जा रहा है. वे न्‍यूज एडिटर के पद पर कार्यरत थे. अरुण नोएडा में सेंट्रल डेस्‍क पर अपनी जिम्‍मेदारी संभालेंगे. वे पिछले चार सालों से जम्‍मू में अखबार को अपनी सेवाएं दे रहे थे. अरुण की रिपोर्टिंग सेंट्रल डेस्‍क इंचार्ज राजीव सचान को होगी.

नेशनल दुनिया के फोटोग्राफर जोगिन्‍दर शर्मा घायल

नेशनल दुनिया, फरीदाबाद में कार्यरत फोटोग्राफर जोगिन्दर शर्मा रेलवे स्टेशन पर यात्रियों द्वारा किये जा रहे हंगामे के दौरान पटरी पर गिरकर घायल हो गए। दुर्घटना के समय वह हंगामे की फोटो खींच रहे थे। जोगिन्‍दर को उपचार के लिए बीके हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, चिकत्सकों ने बेहतर इलाज के लिए उन्हें निजी …

चौथी तिमाही में एचटी मीडिया का मुनाफा 25 फीसदी घटा

वित्त वर्ष 2013 की चौथी तिमाही में एचटी मीडिया का मुनाफा 25.2 फीसदी घटकर 40.1 करोड़ रुपये रहा। पिछली तिमाही में कंपनी का मुनाफा 53.6 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2013 की चौथी तिमाही में एचटी मीडिया की बिक्री 9 फीसदी घटकर 491.5 करोड़ रुपये रही। पिछली तिमाही में कंपनी की बिक्री 540.2 करोड़ रुपये रही थी।

मोदी व कांग्रेस के बीच और तेज होगी सियासी जंग

कर्नाटक चुनाव के बाद कांग्रेस नेतृत्व के हौसले एकदम बढ़ गए हैं। इसी के चलते कांग्रेस नेतृत्व अब बचाव की जगह आक्रामक मुद्रा में आता जा रहा है। खासतौर पर भाजपा के चर्चित नेता नरेंद्र मोदी को लेकर कांग्रेस ने जमकर निशाने साधने के संकेत दे दिए हैं। मोदी भी लगातार मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को कोसने का कोई मौका नहीं चूकते। पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कह दिया है कि वे एक सप्ताह के भीतर मोदी के मामले में बड़ा खुलासा कर देंगे।

मुस्‍तफा पटेल ने हड़प रखा है दशरथ भाई गोहिल का होटल

यशवंत जी, कुछ दिन पहले आपके भड़ास पर खबर आई थी कि "गुजरात पुलिस मुस्तफा पटेल की मदद नहीं कर रही है" और मोदी के राज में मुसलमानों को आज़ादी से बिजनेस नहीं करने दिया जा रहा है और उन्हें अपना धंधा बंद करने की धमकी मिल रही है। और मीडिया ने अहमदाबाद भुज हाइवे पर विरमगाम के पास स्थित एक ज्योति होटल और उसे चलाने वाले मुस्तफा पटेल के बारे में बताया था कि इनको धंधा नही करने दिया जा रहा है।

नईदुनिया से सागर एवं प्रसन्‍ना का इस्‍तीफा, संजय कल्‍पतरु एक्‍सप्रेस पहुंचे

नईदुनिया, इंदौर में असंतोष का दौर जारी है। हाल ही में इंदौर स्थित राष्ट्रीय संस्करण से दो लोगों ने इस्तीफा दे दिया है। दिल्ली से आए सागर पाटील और प्रसन्ना झा ने इस्तीफा दिया है। ये लोग अपनी नई पारी कहां से शुरू करने वाले हैं इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है। नईदुनिया, इंदौर में स्थित राष्ट्रीय संस्करण के प्रभारी विभूति शर्मा के भी इस्तीफा देने की खबरें हैं। विभूति नईदुनिया जबलपुर के संपादक भी रह चुके हैं। हालांकि विभूति के इस्‍तीफे की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है।

पूरा हुआ आशियाने सपना : उदयपुर में 102 पत्रकारों को मिला भूखंड

राजस्‍थान सरकार राज्‍य के पत्रकारों पर मेहरबान है। पत्रकारों को रियायत दर पर भूखंड आवंटन करने की योजना के तहत उदयपुर शहर के एक सौ दो पत्रकारों के आशियाने के सपने को सच करते हुए आज नगर विकास प्रन्यास द्वारा दक्षिण विस्तार योजना की लॉटरी निकाली गई। प्रन्यास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अध्यक्ष रूप कुमार खुराना, भूमि अवाप्ति अधिकारी जगमोहन सिंह, विशेषाधिकारी प्रदीप सिंह संगावत द्वारा लॉटरी निकाली गईl

तहसीन मुनव्वर के ‘देख-तमाशा’ में अबकी यशवंत और भड़ासी रंगदारी

इंदौर से प्रकाशित मैग्जीन 'लोकस्वामी' के नए अंक में तहसीन मुनव्वर के कालम 'देख तमाशा' में अबकी भड़ास और इसके संस्थापक यशवंत सिंह के बारे में लिखा गया है. इस कालम में मीडिया से जुड़े लोगों के बारे में बातचीत करते हैं तहसीन मुनव्वर. उनके नजरिये के हिसाब से यशवंत और भड़ास के अच्छे – बुरे पहलू क्या हैं, खुद पढ़कर जानिए…

दोस्‍तों, दिवंगत साथी गंगेश के परिवार चाहिए मदद

दोस्तों, जैसा कि आपको मालूम है वरिष्ठ पत्रकार गंगेश श्रीवास्तव का सड़क हादसे में शनिवार को निधन हो गया। पटना हिन्दुस्तान में मुख्य उप संपादक रहे गंगेश के परिवार में अब सिर्फ बूढ़ी मां, पत्नी आशा देवी, तीन बच्चियां शिवांगी (12), शिवानी (10) और सुहानी (10) ही हैं। हादसे में घायल पत्नी और बच्ची की हालत अब भी ठीक नहीं है। डॉक्टरों के अनुसार पत्नी को हाथ में राड डालना होगा और सिर में लगी भीतरी चोट का इलाज करना होगा।

एक न्यूज चैनल में भड़ैती के कुछ सीन (पार्ट चार)

भांड सीईओ का चांपना न्यूज के उत्तराखण्ड चैनल में कुछ ज्यादा ही इंट्रेस्ट रहता है। उत्तराखण्ड के एक नेता सशंकितजी से भांड का अच्छा-खासा रिश्ता है। कहा तो यह भी जाता है कि सशंकितजी ने अपने काले हाथों की गाढी़ कमाई का एक बड़ा हिस्सा चांपना न्यूज में इनवेस्ट कर रखा है। चांपना न्यूज में सशंकितजी की हर खबर चलती है। सशंकितजी को सिर दर्द हुआ तो चांपना में ब्रेकिंग, सशंकितजी को लघुशंका बार-बार आ रही है तो चांपना न्यूज में ब्रेकिंग, सशंकितजी खुश दिख रहे हैं तो ब्रेकिंग और अगर सशंकितजी को खुलकर दस्त आ गए तो सशंकितजी का टिक-टैक तो चलेगा ही है। सशंकितजी की ऐसी-वैसी खबरों से देहरादून के ब्यूरो और उत्तराखण्ड डेस्क की ऐसी-तैसी लगी रहती है।

समाचार प्‍लस में ईपी बने सुधांशु माथुर, आधा दर्जन और जुड़े

समाचार प्‍लस चैनल से खबर है कि आधा दर्जन से ज्‍यादा लोगों ने नई पारी शुरू की है. जल्‍द ही कई और लोग इस चैनल से जुड़ने जा रहे हैं. सुधांशु माथुर ने एक्‍जीक्‍यूटिव प्रोड्यूसर के रूप में समाचार प्‍लस से अपनी नई पारी शुरू की है. वे इंडिया न्‍यूज से इस्‍तीफा देकर यहां पहुंचे हैं. वे इसके पहले भी कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

ना ऊँट पर बैठना पड़े और ना कुत्ता काटे!

एक ​बड़ी पुरानी कहावत है कि 'जब समय खराब हो तो ऊँट पर बैठे आदमी को भी कुत्ता काट खाता है'। बचपन से सुनता आया हूँ, लेकिन मैं ठहरा मंद बुद्धि, बातें ज़रा देर से ही समझ में आती हैं। अच्छा, समझ में क्या आती है, बस कुछ-कुछ अंदाज लगा लेता हूँ। ठीक हो गया तो वाह-वाह नहीं तो थू-थू, अपने बाप का क्या जाता है? वैसे ये पुराने लोग भी बहुत फुरसती थे। कहावते बनाते ही रहते थे। बड़े शातिर भी थे। जो कहना है इशारों में कहते थे। तो इस कहावत का इशारा जो मैंने समझा वह ये था कि सत्ता जो है, सो ऊँट की तरह होती है।

भड़ास ने यह भी बताया है कि उसकी लोकप्रियता किसी भी अखबार से अधिक है : शंभूनाथ शुक्ला

Shambhunath Shukla : भड़ास नहीं होता तो खबरिया लोग अपनी ही खबरों से अनजान बने रहते। हम अखबार दुनिया जहान की खबरों को जानने के लिए नहीं अपने, अपने आसपास और अपने लोगों की खबरें ही जानने के लिए पढ़ते हैं। लेकिन अखबार पाठकों को उसकी या उसके सरोकारों से जुड़ी खबरें नहीं, वह छापता है कि अमुक जिले का कलेक्टर कौन बन गया अथवा फलां शहर में पुलिस कप्तान कौन है? आईएएस, आईपीएस, पीसीएस से लेकर थानों में नियुक्तियों की खबरें छापी जाती हैं। अमुक कलेक्टर कौन है या पुलिस कप्तान कौन है, मुझे नहीं लगता कि इसमें पाठकों को रत्ती भर भी दिलचस्पी होती है।

रेखा ओ रेखा, सबने तुम्हें पता नहीं कैसे कैसे देखा..

रेखा। पूरा नाम भानुरेखा गणेशन। राज्यसभा सांसद। चुनाव जीतकर नहीं, पर अपने कृतित्व के बल पर मनोनीत सांसद। रूपहले परदे की लक दक जिंदगी की चकाचौंध और ग्लैमर के बहुत चमकदार शिखर पर विराजमान। इसी वजह से रेखा हजारों लोगों के हिलते हाथों के अक्स की असल हकदार है। पहले हमारी फिल्में रेखा से चलती थीं। रूपहले परदे का रूप उनसे खिलता था। पर अब संसद उनसे सजती है।

असगर अली साहब भावुक हो बोल उठे- ”यह कविता भेजना मैं अपनी पत्रिका में छापूंगा”

Shambhunath Shukla : बात १९९७ की है रांची से दिल्ली लौट रहा था। फ्लाइट में असगर अली इंजीनियर साहब मिल गए। दुआ सलाम के बाद बातचीत होने लगी। विषय सांप्रदायिक सौहार्द का था पता नहीं कैसे बात रहीम पर आ गई। मैंने उनको एक रहीम का दोहा सुनाया-

आखिर किसकी कृपा से वरुण हुए दोषमुक्त, डील का हिस्सा तो नहीं!

लखनऊ। दिन 17 मार्च, 2009 को पीलीभीत के डालचंद मोहल्ले में भारतीय जनता पार्टी के युवा प्रत्याशी और मेनका गांधी के पुत्र वरुण गांधी ने जो कुछ भी कहा वो एक लोकतान्त्रिक देश में शर्मनाक ही कहा जायेगा। एक चुनावी सभा में वरुण इतना जोश में आ गए की भाषण भूल कर आग उगलने लगे उन्होंने कहा, 'अगर कोई हिंदुओं की तरफ उंगली उठाएगा या समझेगा कि हिंदू कमजोर हैं और उनका कोई नेता नहीं हैं, अगर कोई सोचता है कि ये नेता वोटों के लिए उनके जूते चाटेंगे तो मैं गीता की कसम खाकर कहता हूं कि मैं उस हाथ को काट डालूंगा।'

पत्रकारों पर झूठा मुकदमा दर्ज कराने वाला कमिश्नर कोर्ट में तलब

गोरखपुर के तत्कालीन मंडलायुक्त हरिश्चंद्र के विरुद्ध 24 जून 1996 को साप्ताहिक समाचार पत्र 'इंसाफ की आवाज' में खबर छपी थी। बौखलाये गोरखपुर के तत्कालीन मंडलायुक्त हरिश्चंद्र ने झूठी सूचना देकर दो पत्रकारों प्रधान संपादक धर्मेन्द्र पांडेय तथा रमाशंकर शुक्ल के विरुद्ध आइपीसी की धारा 153 ए, 506 के तहत मुकदमा दर्ज करवा दिया था। इस मामले में सत्रह साल बाद नया मोड़ आया है, जब गोरखपुर के एसीजेएम राजेंद्र प्रसाद ने गोरखपुर के तत्कालीन मंडलायुक्त हरिश्चंद्र को आईपीसी की धारा 120 बी के तहत बतौर अभियुक्त विचारण हेतु आगामी 17 मई को अदालत में तलब किया है।

सड़क पर पिटे गये अभिनेत्री ऋतुपर्णा के पति

कोलकाता और पूरे बंगाल में ट्राफिक व्यवस्था का कोई माई बाप नहीं है। जहां तहां वसूली के अलावा इस महकमे में किसी की कोई जिम्मेवारी दीखती ही नहीं है। वसूली में रात दिन, सातों दिन चौकस पुलिस वाले आम जनता की मदद की तो दूर, ट्राफिक नियमों का उल्लंघन भी नहीं रोक पाती। हर आमोखास इस अराजकता का शिकार हो रहा है। लोग अब विरोध भी नहीं करते क्योंकि जन्म से मरण तक यह गोरखधंधा इतना बेलगाम है कि यही जायज और अपरिहार्य लगता है। अब जीरो डाउन पर गांड़ियां निकालना बांए हाथ का खेल है।

अभियुक्त वरुण गांधी पर माननीय अदालत, माननीय अफसरों, माननीय नेताओं और माननीय सरकार ने यूं की ‘किरपा’

: वरुण पर अखिलेश मेहरबान, बरी हो गई 'जहरीली' जुबान! : लखनऊ। मुसलमानों के रहनुमा बनने का दावा करने वाले मुलायम सिंह यादव के बेटे अखिलेश यादव की उत्तर प्रदेश सरकार मुसलमानों के खिलाफ जहरीले भाषण देने के लिए बदनाम बीजेपी के युवा नेता वरुण गांधी पर मेहरबान हो गई। चार साल पहले चुनाव के दौरान पीलीभीत में वरुण गांधी के खिलाफ हिंदुओं को मुसलमानों के खिलाफ भड़काने की कोशिश का केस दर्ज हुआ और चार साल बाद वो उसी केस से बाइज्जत बरी हो गए। क्योंकि इलाके के जिस डीएम ने खुद वरुण गांधी के खिलाफ केस दर्ज करवाया, वहीं अदालत में मुकर गए।

नहीं रहे असगर अली इंजीनियर

सुधारवादी बोहरा समुदाय के नेता, समाजकर्मी और चिंतक डॉ. असगर अली इंजीनियर का आज मुंबई में सुबह 8 बजे इंतकाल हो गया. 10 मार्च 1939 को उदयपुर (राजस्थान) के सलुंबर तहसील के रहने वाले थे और उनका परिवार दाउदी बोहरा संप्रदाय का अनुयायी था. सत्तर के दशक में दाउदी बोहरा की कट्टरता और दकियानुसी परंपराओं के खिलाफ जो सुधारवादी आंदोलन शुरू हुआ इंजीनियर उसके एक प्रमुख स्तंभ थे.

शरीफ की विजय के बाद भारतीय मीडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ जंग-सी छेड़ दी है

Mukesh Kumar : नवाज़ शरीफ़ की विजय के बाद भारतीय मीडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ़ एक जंग सी छेड़ दी है। बदलते हालात को तंग नज़रिए से देखना और किसी एक नुक्ते के लेकर अड़ जाना मीडिया का काम नहीं होना चाहिए। वास्तविकता बताने का मतलब नकारात्मकता फैलाना नहीं होता।

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (8) सुजीत सिंह ‘प्रिंस’

एनआरएचएम में कार्यरत संविदाकर्मियों के कांट्रैक्ट को बढ़ाने के बदले अफसरों द्वारा एक महीने की तनख्वाह रिश्वत के बतौर लेने के अनैतिक घटनाक्रम का खुलासा पूर्वी उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले के निवासी पत्रकार सुजीत सिंह प्रिंस ने अपनी सक्रियता के चलते किया. इससे संबंधित प्रमाण आडियो टेप के रूप में उन्होंने भड़ास को भेजा जिसे भड़ास पर अपलोड कर प्रसारित किया गया. इस टेप से साफ पता चलता है कि एनआरएचएम घोटाले के बाद एनआरएचएम संविदाकर्मी नियमितीकरण घोटाला उत्तर प्रदेश में सपा सरकार के संरक्षण में बड़े पैमाने पर फल फूल रहा है.

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (7) संजय शर्मा

पिछले काफी समय से संजय शर्मा लखनऊ में अपना खुद का अखबार निकाल रहे हैं. वीकली अखबार. वीकएंड टाइम्स. इस वजह से वे यूपी के उन मसलों पर भी बेबाक तरीके से लिख बोल पाते हैं जिसे बड़े अखबार और चैनल नहीं उठाते दिखाते. बड़े-बड़े अफसरों को उनकी प्रेस कांफ्रेंस के दौरान आइना दिखाने वाले संजय शर्मा ने यूपी की पत्रकारिता में साहस के साथ सरोकारी तेवर का हस्तक्षेप बढाया है.

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (6) प्रयाग पांडेय

प्रयाग पांडे उत्तराखंड के जाने-माने पत्रकार हैं. पत्रकार यूनियन के नेता होने के अलावा प्रयाग पांडेय जनपक्षधर और सरोकार वाले पत्रकार हैं. कई चैनलों और अखबारों में काम कर चुके प्रयाग पांडेय हर मुद्दे पर अपना बेबाक नजरिया रखने के लिए जाने जाते हैं.

एक साल की लड़ाई के बाद दैनिक जनवाणी ने आज पारिश्रमिक का चेक भेजा

Saumya Sharma :  हिम्म्त करने वालों की हार नहीं होती… आखिर एक साल की लड़ाई के बाद Dainik Janwani ने आज पारिश्रमिक का चेक भेजा । मेरा समर्थन करने के लिए सभी का धन्यवाद और खास तौर से मेरे भड़ास भैय्या Yashwant Singh का जिन्होंन मेरी परेशानी को अपने ब्लॉग bhadas4media. com पर साझा किया। मैं अपने जनवाणी के मित्रों Sachin Shrivastava Saleem Siddiqui से माफ़ी माँगती हूँ यदि मेरी किसी बात ने ठेस पहुंचाई हो । अंत भला तो सब भला…

क्यों छुपाई गई फोटो जर्नलिस्‍ट जगदीश माली की मौत की वजह?

प्रख्यात प्रेस छायाकार और अभिनेती अंतरा माली के पिता जगदीश माली का सोमवार सुबह अस्पताल में निधन हो गया. उनकी मौत की वजह स्पष्ट नहीं हो पायी है. अस्पताल के सूत्रों ने कहा कि माली का निधन नानावती अस्पताल में सोमवार सुबह करीब 11 बजे हुआ. माली को वर्ष 1998 में यकृत से संबंधित परेशानी हुई थी लेकिन अब उनकी हालत बेहतर बताई जा रही थी. अभिनेत्री के नजदीकी सूतों ने बताया ‘वे पिछले कुछ समय से स्वस्थ नहीं थे. उन्हें यकृत और आंतों से जुड़ी समस्या भी थी.

गंगेश भाई माफ करिएगा, आपके संपादक और प्रधान संपादक बहुत छोटे निकले

हम दुनिया की खबर छापते हैं .लेकिन हमारी खबर छापने वाला कोई नहीं है .. .दोस्तों, हिन्दुस्तान अखबार के वरिष्ठ पत्रकार और पटना में चीफ सब एडीटर रहे गंगेश श्रीवास्तव का देवरिया में सडक़ हादसे में निधन हो गया। गंगेश जी इससे पहले दिल्ली में काफी दिनों तक रहे। मैं वर्ष 2005 में उनके सम्पर्क में आया जब मैं हिन्दुस्तान के लखनऊ कार्यालय में था और खबरों के कोआर्डीनेशन में अकसर उनसे बातचीत होती थी। इसके बाद हम लोग फेसबुक पर अकसर हालचाल ले लिया करते थे।

दूरदर्शन केंद्र पर हमला नक्‍सली वारदात नहीं : त्रिपुरारी शरण

रायपुर। जगदलपुर के मरेंगा में दूरदर्शन केन्द्र के रिले सेंटर में हुए हमले के पीछे नक्सलियों का हाथ है अथवा नहीं, यह अभी जांच का विषय है। क्योंकि घटना को अंजाम देने के तरीके एवं उसके बाद निर्मित स्थिति को देखकर नहीं लगता है कि यह कारनामा नक्सलियों ने अंजाम दिया है। क्योंकि जवानों की मौत के बाद उन्होंने न ही हथियार लूटा है और न ही रिले सेंटर के उपकरणों को किसी प्रकार की क्षति पहुंचाई है। उक्त बातें पत्रकारों से चर्चा करते हुए दूरदर्शन केन्द्र के महानिदेशक त्रिपुरारी शरण एवं यांत्रिकी विभाग के प्रमुख आरके सिन्हा ने कही।

एक अखबार ने बदल दिया 11 साल के बच्‍चे का भविष्‍य

बीते 25 अप्रैल को भोपाल के एक ट्रैफिक लाइट पर हुए एक घटनाक्रम ने 11 वर्षीय अखबार विक्रेता कौशल शाक्‍या का जीवन बदल दिया है. राहुल गांधी को अखबार बेचने वाले कौशल की कहानी जब अखबार में प्रकाशित हुई कि राहुल से मिलने के बाद भी नहीं बदली कौशल की जिंदगी, तो मध्‍य प्रदेश कांग्रेस ने कौशल को गोद लेने की घोषणा करते हुए उसे पढ़ाने तथा हर महीने एक हजार रुपये देने की घोषणा की. इस खबर को टेलीग्राफ ने भी प्रकाशित किया है.

एनडीटीवी फिर से शुरू करेगा अपना बिजनेस चैनल ‘प्राफिट’

मुंबई : टीवी चैनल कंपनी एनडीटीवी जल्‍द ही अपने बिजनेस चैनल एनडीटीवी प्राफिट को शुरू करने जा रही है। कुछ समय पहले इस चैनल को घाटे के चलते बंद कर दिया गया था। एनडीटीवी ग्रुप ने वित्त वर्ष 2013 में दो करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया है जबकि इससे पहले दो साल में कंपनी को घाटा हुआ था।

मुरादाबाद में प्रादेशिक डेस्‍क प्रभारी बने प्रदीप श्रीवास्‍तव, प्रभाकर वर्मा का इस्‍तीफा

अमर उजाला, मुरादाबाद से खबर है कि प्रदीप श्रीवास्‍तव ने ज्‍वाइन कर लिया है. उनका तबादला पिछले दिनों ही गोरखपुर से मुरादाबाद के लिए किया गया था. वे इसके पहले भी मुरादाबाद में काम कर चुके हैं. प्रदीप श्रीवास्‍तव गोरखपुर में सिटी इंचार्ज के पद पर कार्यरत थे. मुरादाबाद में उन्‍हें प्रादेशिक डेस्‍क का प्रभारी बनाया गया है.

एएसआई ने खबर लेने पहुंचे पत्रकारों को पिस्‍टल लेकर दौड़ाया

जालंधर में एक समाचार कवरेज को पहुंचे पत्रकारों के साथ एक एएसआई ने न केवल बदतमीजी की बल्कि वह गाली-ग्‍लौज और धक्‍का मुक्‍की करने के बाद पत्रकारों पर पिस्‍तौल तानकर उन्‍हें दौड़ा भी लिया। इतने से भी उनका जी न भरा तो एक कैमरामैन की कनपटी में पिस्तौल तानकर कैमरा छीन लिया। बाद में पत्रकारों ने धरना दिया तो एडीसीपी नवजोत सिंह माहल मौके पर पहुंचे तथा आरोपी एएसआई कृपाल सिंह पर केस दर्ज किया।  इसके बाद उसे सस्पेंड करते हुए लाइन हाजिर कर दिया गया। एएसआई कृपाल सिंह पर आईपीसी की धारा 382 (लूट), 323 (मारपीट), 336 (हवा में पिस्तौल लहराना) और 506 (जान से मारने की धमकियां देना) लगाई गई है।

भास्‍कर के पत्रकारों पर हमला करने के आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन

बरनाला में भास्‍कर के दो पत्रकारों हिमांशु दुआ और जतिन्द्र देवगण पर पिछले दिनों आरएसएस व भाजपा के कुछ नेताओं द्वारा जानलेवा हमला करने के बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सोमवार को जिले के पत्रकार संगठनों के पक्ष में विभिन्न संघर्षशील संगठनों के सैकड़ों लोगों ने एसएसपी कार्यालय के सामने धरना दिया तथा रोष प्रदर्शन किया। इसके बाद शहर में मार्च निकाल कर बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने आरोपियों पर हत्‍या के प्रयास का मामला भी दर्ज किए जाने की मांग की।

पांचवां बर्थडे : क्या होता अगर जो भड़ास नहीं होता?

भड़ास के पांचवें जन्मदिन का न्यौता मिलने के बाद से ही दिमाग में यह वैचारिक मंथन जारी है कि अगर भड़ास नहीं होता तो आज हिन्दुस्तान खासकर हिन्दी पत्रकारिता के हालात क्या होते? विकल्प विहीन शहरों के पत्रकारों को हमेशा यही लगता था कि जो हालात उसके शहर की पत्रकारिता के हैं, वैसे शायद और किसी शहर के नहीं है? पत्रकारों के साथ जो शोषण और अन्याय होता है, वह और किसी अखबार और शहर में नहीं होता है? जिन पत्रकारों को एक से दूसरे अखबारों में जाने का मौका आसानी से उपलब्ध है उनको छोड़ दीजिए तो बाकी को शायद ही अहसास रहा होगा कि भारतीय पत्रकारिता के कुएं में भांग घुली होने की कहावत पुरानी हो चुकी है और अब तो भांग की बारिश हो रही है।

चना बेचने वाले भी रखते हैं बड़ों-बड़ों की खबरें

चेहरे पर हल्की-हल्की बेतरतीब दाढ़ी। एकदम सादा लिबास। उस शाम राष्ट्रीय राजधानी की एक मेट्रो में वे सफर कर रहे थे। शायद, उनकी सफेद हो चली दाढ़ी का लिहाज करके एक नौजवान ने उनके लिए सीट छोड़ दी। इससे वे खुश हो गए। बड़े महानगर की आपाधापी में यह नजारा एकदम रोजमर्रा का है। लेकिन, दाढ़ी वाले प्रौढ़ सज्जन कुछ बोलने के लिए बेचैन से हो रहे थे। नौजवान ने उनके लिए सीट छोड़ी, तो वे शुरू हो गए। कुछ-कुछ बोलने लगे। बोलते-बोलते बात केंद्र की आला सरकार तक पहुंची। उनके एकालाप पर लोगों का ध्यान तभी गया, जब वे कुछ खरी-खरी बातें कहने लगे। कुछ लोगों ने उनकी हां में हां मिलाकर, हौसला अफजाई भी शुरू कर दी। तो उनकी ‘राम कहानी’ का बैंड बजने लगा।

प्रख्‍यात फोटो पत्रकार जगदीश माली का निधन

मुंबई : प्रख्यात फोटो पत्रकार और बॉलीवुड अभिनेत्री अंतरा माली के पिता जगदीश माली का सोमवार सुबह (13 मई, 2013) लगभग 11 बजे मुंबई के नानावती अस्पताल में निधन हो गया। लगभग 60-वर्षीय जगदीश माली को वर्ष 1998 में यकृत से संबंधित परेशानी हुई थी, लेकिन अब कुछ समय से उनकी हालत बेहतर बताई जा रही थी।

एसएन विनोद ने साधना न्‍यूज से नहीं दिया है इस्‍तीफा

: अपडेट : साधना न्‍यूज से खबर आ रही है कि वरिष्‍ठ पत्रकार तथा ग्रुप एडिटर एसएन विनोद ने इस्‍तीफा नहीं दिया है. वे अभी भी साधना न्‍यूज के ग्रुप एडिटर के पद पर कार्यरत हैं. बताया जा रहा है कि वे कई लोगों के भ्रष्‍टाचार की जांच करा रहे हैं. समझा जा रहा है कि जांच रिपोर्ट आने के बाद ही वे इस्‍तीफा जैसा कोई निर्णय लेंगे. एसएन विनोद ने भी अपने इस्‍तीफे की खबर का खंडन किया है.

नेशनल दुनिया से फीचर एडिटर मानसी का इस्‍तीफा

नेशनल दुनिया से खबर है कि फीचर एडिटर मानसी ने इस्‍तीफा दे दिया है. प्रबंधन ने उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार कर लिया है. मानसी नेशनल दुनिया की लांचिंग के समय से ही अखबार से जुड़ी हुई थीं. मानसी को आलोक मेहता का नजदीकी माना जाता था. वे आलोक मेहता के नेतृत्‍व में लांच हुए नईदुनिया टीम …

राजीव शुक्ला की जय-जय करने पर शंभुनाथ शुक्ला फेसबुक पर घिरे

राजीव ने राजनीति में ही नहीं पत्रकारिता में भी शिखर को छुआ था। पत्रकारिता के संदर्भ में कुछ इतनी रूढिय़ां रही हैं कि विजुअल मीडिया आने के पहले तक तो पत्रकार की चर्चा चलते ही एक ऐसे व्यक्ति का चेहरा उभरता था जो कांधे पर सर्वोदयी झोला लटकाए रहता था और जिसकी दाढ़ी बढ़ी हुई, नेत्र भकुरे तथा चेहरे की मुद्रा कठोर। जो धुआंधार शराब पीता हो और वह भी मुफ्त की। दस साल पहले तक यह आलम था कि अगर किसी पत्रकार ने कार खरीद ली तो बस सारे लोग कहना शुरू कर देते थे कि उसने कमाई कर ली या कोई डील में लंबा हाथ मारा हो।

साधना न्यूज से एसएन विनोद और राजीव शर्मा गए, अंशुमान त्रिपाठी एडिटर बनकर आए

साधना न्‍यूज से खबर आ रही है कि वरिष्‍ठ पत्रकार एवं ग्रुप एडिटर एसएन विनोद ने इस्‍तीफा दे दिया है. एसएन विनोद साधना न्‍यूज में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार की जांच करा रहे थे, जिससे प्रबंधन से उनकी अनबन चल रही थी. खबर है कि प्रबंधन को आईना दिखाने के बाद एसएन विनोद ने इस्‍तीफा दे दिया है. उनके विरोधी लंबे समय से उनके खिलाफ साजिश भी रच रहे थे. एसएन विनोद के जाने के बाद वरिष्‍ठ पत्रकार अंशुमान त्रिपाठी साधना के नए ग्रुप एडिटर बनाए गए हैं. दूसरी तरफ साधना के ग्रुप इनपुट हेड राजीव शर्मा ने भी इस्‍तीफा दे दिया है. 

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (5) आलोक कुमार

आलोक कुमार ने कई चैनलों अखबारों में काम किया है. रीढ़ वाले पत्रकार माने जाते रहे हैं आलोक कुमार. इन्होंने महान पत्रकार स्व. आलोक तोमर के साथ काफी वक्त गुजारा. अब पत्रकारिता की दयनीय हालत देखकर आलोक कुमार पर्यावरण के मामले को ज्यादा जरूरी मानते हुए इस क्षेत्र में सक्रिय हो गए हैं. दुनिया के सामने जल के संकट को देखते हुए आलोक कुमार ने 'जलजोगिनी' नामक संस्था का निर्माण किया है.

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (4) मयंक सक्सेना

आजकल जो परम बाजारू समय है, उसमें पत्रकारिता में आने वाले ज्यादातर नौजवान तुरंत किसी भी तरीके से बड़े से बड़ा पद और खूब रुपया पैसा पाना चाहते हैं, इसके लिए वह कोई भी जोड़तोड़, गठजोड़, कुकर्म करने को तैयार रहते है. यही कारण है ज्यादातर पत्रकार अपनी कलम और सरोकार गिरवी रखकर हर वक्त मीडिया मैनेजमेंट के चरणों में लोटने के लिए आतुर रहते हैं.

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (3) दयानंद पांडेय

दयानंद पांडेय विशुद्ध कलमजीवी शख्स हैं. कलम के जरिए उन्होंने पत्रकारिता और साहित्य में अपना मुकाम बनाया है. खरी-खरी लिखने-कहने वाले दयानंद पांडेय लखनऊ में रहते हुए भी अब पूरे देश में जाने जाते हैं. प्रिंट मीडिया, साहित्य, न्यू मीडिया, ब्लाग, सोशल मीडिया… हर कहीं बेहद सक्रिय दयानंद पांडेय अपनी कहानियों और उपन्यासों के मार्फ़त लगातार चर्चा में रहते हैं. दयानंद पांडेय का जन्म 30 जनवरी, 1958 को गोरखपुर ज़िले के एक गांव बैदौली में हुआ. हिंदी में एम.ए. करने के पहले ही से वह पत्रकारिता में आ गए।

उत्‍तराखंड के सभी जिलों में दिखने वाले चैनलों को ही मिलेगा सरकारी विज्ञापन

उत्‍तराखंड में न्‍यूज चैनलों के विज्ञापन वसूली अभियान पर लगाम लगने वाली है. खबर है कि शासन की तरफ इस तरह के दिशा निर्देश तैयार हो रहे हैं कि जो चैनल पूरे राज्‍य में दिखेंगे, अधिकतम रेट पर सरकारी विज्ञापन उन्‍हें ही मिलेगा. अब तक राज्‍य के कुछ जिलों या फिर देहरादून में ही दिखने वाले चैनल जमकर सरकारी विज्ञापन वसूलते थे, लेकिन इस फरमान के बाद कई चैनलों के आमदनी पर ब्रेक लग जाएगी.

भारत में भी नवधनाढ्यों के प्रति समाज में गहरी नफरत-घृणा है

: भारत, युवाओं का देश माना जा रहा है. पर नये रोजगार के अवसर कहां हैं? लाखों छात्र इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट की डिग्री लेकर निकल रहे हैं, पर न उनमें हुनर या योग्यता है, न नौकरी के अवसर. पर इन छात्रों के सपने तो बाजार, भोग, दर्शन और युगधर्म ने बदल दिये हैं. ये न गांवों में काम कर सकते हैं, न इन्हें छोटी तनख्वाह या मामूली सुविधाएं चाहिए. जब इस युवा पीढ़ी के सपने और अरमान अधूरे-अतृप्त रहेंगे, तो व्यवस्था के खिलाफ आग सुलगेगी :

‘सीक्रेट फण्‍ड’ से पैसा लेने वाले 282 पत्रकारों की सूची वेबसाइट पर जारी

पाकिस्तान की सबसे बड़ी अदालत ने अपनी वेबसाइट पर उन 282 पत्रकारों की सूची जारी कर दी है जिन्हें कथित तौर पर सरकार के 'सीक्रेट फण्ड' से पैसा मिला था. दो पाकिस्तानी पत्रकारों ने उच्चतम न्यायालय में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) सरकार द्वारा साल 2011-12 में विभिन्न मीडियाकर्मियों को सरकार के कथित ''सीक्रेट फण्ड'' से दी गई राशि की सूचना सार्वजनिक करने की मांग वाली याचिका दाखिल की थी.

जागरण, अलीगढ़ में दस का प्रमोशन, अपनों को मिला ज्‍यादा इंक्रीमेंट

दैनिक जागरण, अलीगढ़ में ने अपने चहेतों को ज्‍यादा इंक्रीमेंट देकर उनकी एक साल की 'तपस्‍या' को 'आशीर्वाद' दिया है। इंक्रीमेंट सहित सैलरी खाते में आ जाने के बाद संपादक के आंखों में चुभने वालों में आक्रोश है। वहीं दैनिक जागरण, अलीगढ़ में दस लोगों का प्रमोशन किया गया है। इनमें डिप्‍टीचीफ रमाकांत चतुर्वेदी को चीफ सब बनाया गया है तो सीनियर सबएडिटर सुरेश केसरवानी, राजेश सिंह को डिप्‍टी चीफ, जूनियर सब भूप सिंह, नीरज सौंखिया को सबएडिटर, ट्रेनी नरेंद्र चौधरी, इकराम वारिस को जूनियर सब और दो जूनियर फोटोग्राफर नदीम और शैलेंद्र को फोटोग्राफर बनाया गया है।

पत्रकार जीतेंद्र की हत्‍या में शामिल दो उग्रवादी अरेस्‍ट

: नामजद अभियुक्‍त अभी भी गिरफ्त से बाहर : खूंटी में प्रभात खबर के पत्रकार जीतेंद्र सिंह की हत्‍या करने वाले दो उग्रवादियों को पुलिस ने अरेस्‍ट कर लिया है। खूंटी के एसपी डा. एम तमिलवाणन ने रविवार को प्रेस ब्रिफिंग में कहा है कि पत्रकार जीतेंद्र सिंह की हत्या में शामिल दो उग्रवादी गिरफ्तार कर लिये गए हैं। पीएलएफआई के खिलाफ चलाये गए इंटर डिस्ट्रिक ऑपरेशन प्लान के क्रम में एरिया कमांडर बंदगांव के ईटम गांव निवासी तावला उर्फ बादल उर्फ सुनील टोपनो, असिस्टेंड कमांडर सरनाटोली कामडारा, गुमला निवासी विक्रम टोपनो और डेरांग तपकरा के दिगम्बर चिक बड़ाईक पकड़े गए हैं।

कुमारी शैलजा ने किया सामाजिक न्याय संदेश पत्रिका का विमोचन

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री कुमारी शैलजा ने डॉ. अंबेडकर प्रतिष्ठान द्वारा प्रकाशित सामाजिक न्याय संदेश नामक पत्रिका का विमोचन किया। इस अवसर पर मंत्री महोदया ने कहा कि भारत के इतिहास में डॉ. अंबेडकर का अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है। भारतीय संविधान का मसौदा तैयार करने में उनक व्यापक योगदान के बारे में सभी जानते हैं। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब एक सच्चे राष्‍ट्रवादी थे। जो समाज के सभी हिस्सों के कल्याण में और एक न्याय आधारित समाज में विश्‍वास करते थे।

जनसंदेश टाइम्‍स के पत्रकार के पिता पर हमला, मामला दर्ज

महराजगंज : महाराजगंज के तहसील निचलौल ग्राम सभा ठूठीबारी में दिन शनिवार को एक प्राइवेट बस में सीट को लेकर हुवे हंगामे के बाद ठूठीबारी से जनसंदेश के पत्रकार प्रदीप कुमार के घर व दुकान कुछ ज्ञात व अज्ञात लोगों ने तोड़फोड़ की, वहीं उनके पिता जनार्धन प्रसाद के साथ हाथपाई करते हुये जान से …

ए‍टूजेड से इस्‍तीफा देकर श्री न्‍यूज पहुंचे अरविंद सिंह

एटूजेड चैनल के अनुभवी संवाददाता अरविंद सिंह ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे लंबे समय से एटूजेड के साथ जुड़े हुए थे. अरविंद अपनी नई पारी श्री न्‍यूज के साथ शुरू की है. उन्‍हें यहां भी रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. कोर्ट की खबरों को कवर करने वाले अरविंद श्री न्‍यूज में भी यही जिम्‍मेदारी निभाएंगे. अरविंद ने अपनी पुरानी और नई पारी को एफबी वॉल पर भी लिखा है. 

अंतत: जागरण के ब्‍यूरोचीफ पर दर्ज हुआ अपराधी को संरक्षण देने का मामला

दैनिक जागरण ग्वालियर-झांसी के छतरपुर ब्यूरो देवेंद्रदीप सिंह उर्फ राजू सरदार पर अंततः ईनामी बदमाश महिपाल सिंह को संरक्षण देने के आरोप में अपराध दर्ज कर लिया गया है। राजू सरदार भाजपा जिला कार्यसमिति का सदस्य भी है। बीती 8 मई को राजू सरदार के निवास पर बकस्वाहा थाना पुलिस ने छापा भी मारा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पुलिस अधिकारी और आधा दर्जन आरक्षकों ने शाम 4 बजे करीब राजू सरदार की गिरफ्तारी के लिये छापा मार कार्रवाई की लेकिन राजू सरदार घर पर नहीं मिला।

”जांच करने वाले डीएसपी ने माना कि मेरे खिलाफ फर्जी मामला दर्ज किया गया है”

पिछले दिन रांची के सदर डीएसपी आनंद जोसेफ तिग्गा से मुलाकात हुई। बातचीत के दौरान जो निष्कर्ष सामने आये, वे मेरे लिये न तो हैरान करने वाली रही और न ही परेशान करने वाली। मुझे पहले से पता था कि बात जब उपर वाले की हो तो एक अदद डीएसपी की औकात ही क्या रह जाती है।

बोतल का समाजवाद, मुस्तैद व्यवस्था

घटना है मेरे शहर के कैंट इलाके की। बात उस समय की है, जब सेना ने कैंट को आम नागरिकों के लिए एक तरह से प्रतिबंधित कर दिया था। हर किलोमीटर पर चेकिंग प्वाइंट बना दिए गए थे, जिनसे निकलने में काफी वक्त जाया हो जाता था। बहरहाल, मैं कैंट में था और उसकी एक नीम अंधेरी सड़क पर मेरी मोटर साइकिल का पेट्रोल खत्म हो गया था। पेट्रोल पंप काफी दूर था। ऐसे में मेरे पास यही विकल्प था कि मैं कैंट में रहने वाले अपने मित्र को फोन करके पेट्रोल लाने के लिए कहूं।

185 देश में 10 लाख ने देख डाला यू-ट्यूब पर ‘CRIMES WARRIOR’ चैनल

देश के जाने-माने वरिष्ठ क्राइम-रिपोर्टर संजीव चौहान की एक और मेहनत कामयाब रही है। उनके द्वारा यू-ट्यूब पर चैनल ‘CRIMES WARRIOR’ संचालित किया जा रहा है। फिलहाल इस चैनल पर अभी तक उन्होंने 700 से ऊपर वीडियो अपलोड किये हैं।

इस बहादुर लड़की के प्यार को मिल गई मंजिल (देखें तस्वीरें)

होगी प्यार की जीत…. यह कहानी फिल्मी है लेकिन सच…. जी हां! यूपी के चंदौली जिले में एक प्रेमिका को जब पता चला कि उसका प्रेमी किसी और से शादी रचाने जा रहा है तो उससे यह बात बर्दास्त नहीं हुई और वो अपने परिजनों को लेकर प्रेमी के घर पर धमक गयी। लेकिन उस वक्त प्यार में ट्विस्ट आ गया जब प्रेमी ने उसको अपनाने से इनकार करते हुए कहा कि उसने तो लड़की से कभी प्यार ही नहीं किया था बल्कि उन दोनों के बीच महज दोस्ती भर थी।

बरनाला में भास्‍कर के दो पत्रकारों पर हमला करने वाला मुख्‍य आरोपी अरेस्‍ट

बरनाला में दैनिक भास्‍कर के दो पत्रकारों पर जानलेवा हमला करने के मुख्य आरोपी राम कुमार व्यास को बरनाला पुलिस ने 19 दिन बाद गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी को रविवार को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया, जहां से उसे 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। यह गिरफ्तारी मीडिया कर्मियों व विभिन्न संगठनों की ओर से 13 मई को एसएसपी कार्यालय के समक्ष दिए जाने वाले धरने को देखते हुए की गई।

पत्रकार पर भड़के बंसल, कहा – अकेले में बताऊं परिवार की डेफिनेशन

गुस्से में हैं पूर्व रेल मंत्री पवन बंसल. गुस्सा हो भी क्यों ना, भांजे के घूसकांड में रेल मंत्रालय की कुर्सी जो चली गई. दरअसल बंसल साहब अपने समर्थकों के बीच बेगुनाही की सफाई देने आए थे. सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन जाते-जाते अचानक एक पत्रकार ने घोटाले के फैमिली कनेक्शन के बारे में कुछ पूछ दिया. फिर क्या था, भड़क गए बंसल साहब. कहा कि आपको अकेले परिवार की डेफिनेशन बताऊं.

दूरदर्शन के टॉवर पर नक्‍सली हमला, तीन जवान शहीद

छत्तीसगढ़ के माओवाद प्रभावित बस्तर जिले में रविवार सुबह दूरदर्शन के टीवी टावर पर किए गए नक्सलियों के हमले में तीन पुलिसकर्मी शहीद हो गए और एक अन्य घायल हो गया। छत्तीसगढ़ पुलिस के मुताबिक बस्तर जिले के परता पुलिस थाना के मरेंगा गांव में आज सुबह नक्सलियों ने टीवी टावर की सुरक्षा में तैनात जिला पुलिस बल के जवानों पर गोलीबारी शुरू कर दी, जिसमें तीन जवान शहीद हो गए और एक अन्य घायल हो गया।

भड़ास के जलसे में वो लोग कतई नहीं आएं जो…

एक सज्जन को भड़ास के पांचवें स्थापना दिवस के कार्यक्रम में आने के लिए आमंत्रित किया तो उन्होंने कहा- ''पक्का तो नहीं कह सकता, लेकिन आने की कोशिश करूंगा. उस दिन असल में दोपहर की शिफ्ट है, इसिलए दो बजे आ पाना मुश्किल लग रहा है.''

एनएनआईएस ने सरकार को भी लगाया चूना, इनकम टैक्‍स की नोटिस भी बेकार!

अरुप घोष की न्‍यूज एजेंसी एनएनआईएस के अपने रिपोर्टरों के पैसे मारने में ही अव्‍वल नहीं है, बल्कि यह एजेंसी देश के कानून को भी नहीं मानती है. खबर है कि कंपनी अपने कई कर्मचारियों की सैलरी की रकम से टीडीएस काटने के बाद भी उसने सरकारी खाते में जमा नहीं किया है. कुछ लोगों के आरोप हैं कि पीएफ की रकम भी कंपनी ने जमा नहीं की है. एनएनआईएस से जुड़े वरिष्‍ठ रिपोर्टर खालिद कर्नाटकी ने इस बात की शिकायत भी इनकम टैक्‍स विभाग में की है.

जागरण, कानपुर में 13 लोगों को प्रमोशन, इंक्रीमेंट ने दी खुशी

दैनिक जागरण, कानपुर से खबर है कि यहां वर्षों से कार्यरत 13 लोगों को प्रमोट किया गया है. जिन लोगों को प्रमोट किया गया है उसमें हनुमंत शुक्‍ला, दिग्विजय सिंह, अविनाश बाजपेयी, अभिषेक श्रीवास्‍तव, राजीव अवस्‍थी, दिलीप सिंह, रवींद्र कुमार शामिल हैं. इनमें दिग्विजय सीनियर सब एडिटर बनाए गए हैं. हनुमंत शुक्‍ला, अविनाश बाजपोयी, राजीव अवस्‍थी सब एडिटर बनाए गए हैं. दिलीप सिंह और रवींद्र को जूनियर सब एडिटर बनाया गया है.

जैन बंधुओं को आईना दिखाने वाले ‘न्‍यूयार्कर’ को सात माह बाद लिखा पत्र

लगभग सात महीने पहले जाने माने मीडिया समीक्षक केन ऑलेट्टा ने अमेरिकी पत्रिका न्यूयॉर्कर के 8 अक्टूबर के अंक में टाइम्स ग्रुप के मालिकों के बारे में नौ पन्नों का आलेख लिखा था। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि कैसे टाइम्स ऑफ इंडिया और टाइम्स नाउ के मालिक देश का नंबर वन मीडिया हाउस अपनी जेब में रखने के बावजूद अपने पाठकों से धोखा कर रहे हैं। अखबार के पन्‍नों में पवित्रता नाम की कोई चीज नहीं है। इसका हर कॉलम पैसा लेकर बेचा जा सकता है, क्‍यों कि इनके लिए अखबार केवल एक माल है।

जापानी कंपनी ने अनिरुद्ध बहल की श्रीकाली मीडिया के 21 फीसदी शेयर खरीदे

देश के चर्चित पत्रकार तथा कोबरा पोस्‍ट के मालिक अनिरुद्ध बहल की कंपनी श्री काली मीडिया में जापान के सैटामा शहर में बेस्‍ट एक जापानी कंपनी ने 21 फीसदी शेयर खरीदे हैं. काली मीडिया का 76 फीसदी शेयर बहल के पास है जबकि बंगलुरू बेस्‍ड द्वारिकानाथ के पास इस कंपनी के 2.83 फीसदी शेयर है. बिजनेस स्‍टैंडर्ड ने इस खबर को विस्‍तार से प्रकाशित किया है.

सीएम नीतीश कुमार ने शपथपत्र में दी गलत सूचना, फिर भी मीडिया खामोश

: बिनय कुमार सिंह ने चुनाव आयोग से की शिकायत : बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने चुनाव आयोग में दिए गए शपथपत्र (एफिडेविट) में गलत सूचना दी है. यह खबर बिहार के सारे मीडिया हाउसों के पास है लेकिन सीएम के हाथों की कठपुतली बन चुके मीडिया हाउस इस खबर को प्रकाशित करने की बजाय इस पर चुप्‍पी साधने में ही लगे हुए हैं. नीतीश के इस झूठ की शिकायत स्‍वतंत्र पत्रकार एवं सामाजिक कार्यकर्ता बिनय कुमार सिंह ने चुनाव आयोग से की है.

कंपनी के कर्मचारियों ने की मीडियाकर्मियों से बदसलूकी

सिंगरौली से खबर है कि जीएस एटवाल रिलायंत कोल ब्‍लॉक मुहेर कंपनी के कर्मचारियों ने बदसलूकी की तथा उनके कैमरे, पैसे भी लूट लिए. पीडित मीडियाकर्मियों ने पुलिस से शिकायत की है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. पुलिस अधीक्षक को दी गई शिकायत में देवेंद्र पांडेय ने आरोप लगाया है कि वे तथा उनके साथी अनिल कुमार एवं संजय पांडेय किसी खबर के सिलसिले में जब उक्‍त कंपनी के अंदर पहुंचे तो पहले वहां के एक अधिकारी ने उन लोगों से बात करने की बजाय बाहर निकाल दिया.

जनता टीवी में मिथिलेश सस्‍पेंड, अतुल का स्‍पष्‍ट आवाज से इस्‍तीफा

जनता टीवी से खबर आ रही है कि हरियाणा चैनल में आउटपुट हेड की जिम्‍मेदारी संभाल रहे मिथिलेश कुमार को सस्‍पेंड कर दिया गया है. उनका सस्‍पेंशन तीन दिनों के लिए किया गया है. बताया जा रहा है कि काम में कुछ शिकायत मिलने के बाद प्रबंधन ने यह फैसला लिया है. इस संदर्भ में पूछे जाने पर चैनल के चेयरमैन गुरविंदर सिंह ने बताया कि संस्‍थान में अनुशासन के लिए इस तरह की कार्रवाइयां होती रहती हैं. मिथिलेश हमारे बहुत अच्‍छे साथी हैं तथा अपने काम में निपुण भी हैं.

दलित वर्ग शिक्षित होगा तभी मीडिया में भागीदारी बढ़ेगी : दिलीप सिंह भूरिया

भोपाल। दलित वर्ग के विकास में सर्वाधिक महत्वपूर्ण पहलू शिक्षा का विकास करना है। शिक्षा व्यवस्था में वास्तविक सुधार से ही अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग का विकास सम्भव होगा। मीडिया में दलित वर्ग का प्रतिनिधित्व न के बराबर है। इसका मुख्य कारण यह है कि दलित वर्ग शिक्षित नहीं है। यदि दलित वर्ग शिक्षित होगा तो मीडिया में उसकी भागीदारी भी बढ़ेगी और दलित वर्ग के विकास में मीडिया अपनी सकारात्मक भूमिका का निर्वहन कर पायेगा। यह विचार माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में अनुसूचित जाति एवं जनजाति का विकास: मीडिया की भूमिका, विषयक एक दिवसीय संगोष्ठी में पूर्व सांसद श्री दिलीप सिंह भूरिया ने व्यक्त किये।

लोस उपाध्‍यक्ष करिया मुंडा पहुंचे दिवंगत पत्रकार जितेंद्र सिंह के घर, परिजनों को दी सांत्‍वना

लोक सभा उपाध्यक्ष एवं खूंटी के सांसद करिया मुंडा ने शनिवार को मुरहू के पत्रकार जितेंद्र सिंह के घर जाकर उनके परिवार को सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि दुःख की घड़ी में वे उनके परिवार के साथ हैं। पिता श्रीनिवास सिंह, भाई सुरेंद्र सिंह, बिरेंद्र सिंह सहित सभी रिश्तेदारों को ढांढस बंधाया। जितेंद्र के इकलौते पुत्र राज सिंह ने श्री मुंडा के चरण स्पर्श कर आशीर्वाद लिया। लोक सभा उपाध्यक्ष ने कहा कि जितेंद्र सिंह निष्पक्ष, मेहनती, इमानदार और कर्तव्यनिष्ठ पत्रकार थे। उन्हें हमेशा समाज के विकास की चिंता लगी रहती थी। उनकी हत्या से समाज को अपूर्णीय क्षति हुई है।

अनिल सौमित्र के साथ हुई कार्रवाई की पंकज झा ने की निंदा

पंकज कुमार झा : विलंब से पता चला कि मध्य प्रदेश में भाजपा की पत्रिका के संपादक अनिल सौमित्र हटा दिए गए हैं. सोचा था अभी डेढ़ महीना बिलकुल अपने प्रदेश पर ही ध्यान एकत्र रखूँगा लेकिन ऐसे मुद्दों पर नहीं बोल कर अपने ज़मीर को जबाब देना थोडा मुश्किल होगा. बिना परिणाम की परवाह किये, बिना ये सोचे कि ऐसी किसी परिस्थिति में कौन आपके पक्ष में बोल पायेगा कौन नहीं, यह दो टूक कहना पडेगा कि सौमित्र पर की गयी कारवाई भर्त्सना के लायक है. प्रकाशन के अध्यक्ष को लिखे पत्र में सौमित्र ने बिलकुल सही लिखा है कि ''भाजपा ही नहीं पूरे विचार परिवार से जुडने और बिछुडने वालों के लिए चरैवेति का यह प्रसंग एक मिसाल की तरह काम करेगा.''

प्रोटेक्‍ट जर्नलिस्‍ट ने पत्रकार के निष्‍कासन पर पा‍क की निंदा की

वाशिंगटन : मीडिया अधिकारों की रक्षा करने वाले अमेरिकी संगठन ‘प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट’ ने न्यूयार्क टाइम्स के संवाददाता को पाकिस्तान से निष्कासित करने की निंदा की है और अंतरिम सरकार से अपने इस निर्णय को बदलने की मांग की है। पाकिस्तान में महत्वपूर्ण आम चुनावों की पूर्व संध्या पर न्यूयार्क टाइम्स के ब्यूरो प्रमुख डेक्लान वाल्श को निष्कासित करने का आदेश दिया गया था।

टीवी चैनलों ने की घटिया पत्रका‍रिता : उमर अब्‍दुला

श्रीनगर : केंद्रीय रेल मंत्री पद से कल पवन कुमार बंसल के इस्तीफे से ‘घंटों’ पहले टी.वी. न्यूज चैनलों द्वारा उनके इस्तीफे का ऐलान कर दिए जाने पर आज जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने टी.वी. चैनलों को आड़े हाथ लिया।

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (2) मुकेश भारतीय

रांची में रहकर न्यू मीडिया के जरिए मुख्यधारा की मीडिया के स्याह-सफेद को उजागर करने वाले मुकेश भारतीय को तरह-तरह की प्रताड़ना झेलनी पड़ी. राजनामा डाट काम के जरिए मीडिया वालों की पोलखोल वाली खबरें प्रकाशित करने के कारण मुख्यधारा के मीडियावालों ने ही मुकेश को फंसा दिया. मुकेश भारतीय ने रांची बेस्ड पायनियर अखबार के कर्ताधर्ताओं के कारनामों को उजागर किया था. रांची के कई अन्य अखबारों चैनलों के अंदर की हकीकत को प्रकाशित किया था. इस कारण मीडिया के स्वयंभू स्थानीय महारथी मुकेश से चिढ़ गए.

भड़ास विशिष्ट सम्मान 2013 : (1) असीम त्रिवेदी

कार्टून के जरिए पूरे देश में सरोकार और संघर्ष की लौ फैलाने वाले इस शख्स ने पत्रकारिता को उंचाई दी. करप्शन पर केंद्रित कार्टून के कारण असीम त्रिवेदी को सत्ता-सिस्टम ने अपने निशाने पर लिया लेकिन असीम त्रिवेदी ने झुकने की जगह, समझौता करने की जगह, डरने की जगह सत्ता-सिस्टम से लड़ने का फैसला लिया और खूब लड़े भी. अभिव्यक्ति की आजादी की अलख जगाते रहे. उनकी अकेली आवाज देखते देखते पूरे देश की आवाज बन गई.

दीपक चौरसिया की फिर से हुई सर्जरी, इंडिया न्यूज की सेहत भी गिरी

इंडिया न्यूज के एडिटर-इन-चीफ दीपक चौरसिया सर्जरी के बाद काम पर जल्दबाजी में लौट तो आए लेकिन इसका नतीजा बुरा रहा. सूत्रों के मुताबिक सर्जरी के बाद हड्डी को डाक्टरों ने ओरीजनल जगह पर सेट कर दिया था लेकिन दीपक की जल्दबादी के कारण वह हड्डी फिर खिसक गई. इस कारण उनका दुबारा आपरेशन करना पड़ा. डाक्टरों ने साफ कह दिया है कि अगर अबकी कंप्लीट रेस्ट नहीं किया तो हड्डी कभी सेट न होगी, परमानेंट दिक्कत हो जाएगी.

पत्रकार अवतार सिंह पर जानलेवा हमला, हालत गंभीर

पंजाब के संगरूर शहर के सेवा सिंह ठीकरीवाला नगर में पंजाबी अखबार के पत्रकार अवतार सिंह छाजली पर जानलेवा हमला हुआ है। चार हमलावरों ने पत्रकार पर सरे आम हमला किया। इस हमले में अवतार सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उनकी नाजुक हालत को देखते हुए पटियाला मेडिकल कालेज अस्पताल के लिए रेफर कर दिया, जहां उनका आपरेशन चल रहा है।

गुजरात पुलिस नहीं कर रही है मुस्‍तफाभाई पटेल की मदद

I, Shri Mustufabhai Patel a hotelier who has. forcibly prevented from conducting my 27 year old business on the Viramgam highway where I have been running the Jyoti Hotel, a vegetarian Restaurant since 1986, have been prevented from doing so due to lawlessness and aggression by one Dashrath Ajmalbhai Gohil since 9.2.2013.

एक न्यूज चैनल में भड़ैती के कुछ सीन (पार्ट तीन)

चांपना न्यूज का भाँड सीईओ, अब लौंडा मालिक मयंक को सर्वे-सर्वा घोषित कराने की युक्तियां शुरू कर चुका था। हर शनिवार की शाम होने वाली टेलीकॉनफ्रेसिंग भी मयंक की मौजूदगी में होने लगी। टेलीकॉनफ्रेंसिंग में भी वही सब कुछ। सुबह जैसा चैनल के सीनियर्स के साथ होता, लगभग वैसा ही ब्यूरो के न्यूज और मार्केटिंग प्रभारियों को भी झेलना होता। लेकिन, सबके सब लॉनचूस।

सोनभद्र में कानून के राज के लिए जारी है आंदोलन

उप्र में जहां समाजवादी पार्टी की सरकार है और जो लोहिया की बात करती है और दावा करती है कि पूर्ववर्ती मायावती सरकार के गुण्ड़ाराज के खिलाफ आंदोलन के बूते वह पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने में कामयाब हो सके है। उस राज्य के सोनभद्र जनपद में पुलिस प्रशासन के सहयोग से दबंगों द्वारा दलितों-आदिवासियों पर लगातार हमले हो रहे है और न्यायालयों तक के आदेशों की अवहेलना करते हुए उनकी जमीनों को कब्जा करने की घटनाएं हो रही है। हालत इतनी बुरी है गरीबों की कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है और इसके खिलाफ आवाज उठाने वाले नेताओं समेत अधिवक्ताओं तक को शांतिभंग की आशंका में पाबंद किया जा रहा है, उन पर फर्जी मुकदमें कायम किए जा रहे हैं।

के. न्यूज में पोलिटिकल एडिटर बने दुर्गेंद्र चौहान

हिंदुस्तान, कानपुर में सीनियर रिपोर्टर के रूप में कार्यरत दुर्गेंद्र चौहान ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने नई पारी की शुरुआत के. न्यूज के साथ की है. यूपी-उत्तराखंड बेस्ड न्यूज चैनल के. न्यूज में दुर्गेंद्र चौहान को पोलिटिकल एडिटर बनाया गया है. सूत्रों का कहना है कि दुर्गेंद्र चौहान का हिंदुस्तान में कांट्रैक्ट पूरा हो गया था. इसे रिन्यू नहीं किया गया, इस कारण वे कार्यमुक्त हो गए. नई पारी को लेकर दुर्गेंद्र चौहान ने फेसबुक पर जो लिखा है, वह इस प्रकार है…

न्यूज24 में बवाल : दो मीडियाकर्मियों को पीटने वाले शख्स की नौकरी गई

: (कानाफूसी) : न्यूज24 से मिली एक अन्य जानकारी के अनुसार यहां पिछले दिनों एक मीडियाकर्मी ने इसी चैनल में कार्यरत दो अन्य मीडियाकर्मियों को पीट डाला. घटना के कई दिनों बाद पिटाई करने वाले शख्स की नौकरी चले जाने की जानकारी मिली है. सूत्रों के मुताबिक न्यूज24 के आईटी विभाग में दो बंदे हैं जो अनुराधा प्रसाद के खास माने जाते हैं. ये दोनों न्यूज रूम में आकर किसी एक बंदे को बार बार मैडम अनुराधा प्रसाद का नाम लेकर धमकी देते थे.

न्यूज24 के ब्रजेश निगम और पूजा को इंडिया न्यूज का बुलावा मिला

न्यूज24 से सूचना आई है कि ब्रजेश निगम और पूजा ने इंडिया न्यूज चैनल ज्वाइन करने की तैयारी कर ली है. पूजा एडमिन हेड के तौर पर न्यूज24 में कार्यरत बताई जाती हैं. ब्रजेश निगम के बारे में चर्चा है कि उन्होंने इस्तीफा दे दिया है. ये दोनों आरके अरोड़ा के खास माने जाते हैं इसी कारण उन्हें आरके अरोड़ा अपने पास इंडिया न्यूज बुला रहे हैं. ब्रजेश निगम समेत कई लोगों को आरके अरोड़ा इंडिया टीवी से न्यूज24 लाए थे. अब सभी को इंडिया न्यूज ले जा रहे हैं.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की दादागिरी : अदालती आदेश को दिखाया ठेंगा, अभाव में अब तक 4 कर्मियों की मौत

दोस्तों, बिहार में वाकई सुशासन है। इस सुशासन के लिए केवल सरकार और सरकार से जुड़े तंत्र ही बधाई के पात्र नहीं हैं। यहां के कई अखबार भी किसी मायने में कम नहीं है। एक अखबार है टाइम्स आफ़ इंडिया। इस अखबार के प्रबंधक इतने दबंग हैं कि इनलोगों ने अदालती आदेश को भी ठेंगा दिखा दिया है। अदालत ने छंटनीग्रस्त कर्मियों के मामले में अखबार के प्रबंधकों को बार-बार नोटिस दिया। लेकिन प्रबंधक हर बार अनुपस्थि रहे। अंत में 2 फ़रवरी 2013 को सिविल कोर्ट पटना के न्यायिक दंडाधिकारी (प्रथम श्रेणी) न्यायमूर्ति रश्मि प्रसाद ने प्रबंधकों के खिलाफ़ गैरजमानतीय वारंट और कुर्की जब्ती का आदेश जारी किया।

राहुल पांडेय सौमित्र खबर भारती से समाचार प्लस पहुंचे, श्री न्यूज से जुड़े अरविंद पांडेय

राहुल पांडेय सौमित्र ने खबर भारती से इस्तीफा देकर समाचार प्लस ज्वाइन किया है. वे खबर भारती में क्राइम एंकर थे. राहुल दैनिक जागरण और सहारा समय में काम कर चुके हैं. वे दिल्ली में एक संसद सदस्य के पीएस भी रह चुके हैं. राहुल का समाचार प्लस में पद असिस्टेंट प्रोड्यूसर का है.

हिंदुस्‍तान, मुरादाबाद का धमाका : भीषण गर्मी में भी प्रदर्शकारियों को पहनवाया सर्दी के कपड़े!

समाचार पत्रों में काम करना जिम्‍मेदारी का कार्य होता है लेकिन कुछ समाचार पत्रों का प्रबंधन सस्‍ते के चक्‍कर में कम पढ़े-लिखे पत्रकार को रख लेते हैं, जिसके कारण प्रबंधन को कई बार अपनी ही मजाक बनवाना पड़ जाता है. अब मुरादाबाद से प्रकाशित हिंदी समाचार पत्र हिंदुस्‍तान को ही देखिए, 7 मई को इस अखबार के अमरोहा संस्‍करण के पेज नम्‍बर पांच पर बिजली की मांग को लेकर प्रदर्शन करते हुए कुछ लोगों का फोटो प्रकाशित हुआ है.

सीबीआई डायरेक्टर के पास केवल इंस्पेक्टर की तैनाती का ही अधिकार है : रंजीत सिन्हा

: इंटरव्यू में CBI चीफ ने बताया, उनके कितने ‘मालिक’हैं! : कोयला घोटाले में सीबीआई के हलफनामे और उस पर सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी से आईपीएस लॉबी बेहद खुश है। ये कहना है खुद सीबीआई डायरेक्टर रंजीत सिन्हा का। रंजीत सिन्हा ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में ये इशारा किया है कि किस तरह से सुप्रीम कोर्ट की ये टिप्पणी कि सीबीआई तोता है, एक कड़वी सच्चाई है। सीबीआई ऐसा तोता है जिसके कई मालिक हैं। वो पिंजरे में बंद ऐसा तोता है जो अपने मालिक की बोली बोलता है। सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी ने सीबीआई को झकझोर दिया है।

गाजीपुर आरटीओ कार्यालय बना भ्रष्‍टाचार का अड्डा, दलाल बिना नहीं होता कोई काम

नमस्कार, मेरा नाम भानू प्रताप मौर्या है और मैं गाजीपुर जिले का रहने वाला हूँ. मैं आप को RTO गाजीपुर में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार से अवगत करना चाहता हूं. अगर हम ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने जायेंगे तो बिना दलालों के तो कोई काम होगा भी नहीं, अगर हम सब कुछ करा कर आखिरी सिग्नेचर कराने के लिए बड़े अधिकारी के पास जाये तो कुछ उटपटांग सवाल पूछ कर हमें वापस भेज दिया जाता है और हार कर हमें दलालों के पास जाना ही होता है।

इस बिन ब्‍याही मां के आबरू की कीमत पचास हजार!

इलाहाबाद। यूपी में वाकई जंगल राज है। रोम जल रहा है और नीरो बंशी बजाने में मस्त हैं। ताजा उदाहरण प्रतापगढ़ जिले की यह घटना है। जो किसी भी सभ्य समाज का सिर नीचा झुका देने के लिए काफी है। मदर्स डे के दो दिन पहले सूबे के प्रतापगढ़ जिले में बिन ब्याही मां बनी एक किशोरी को ‘पंच परमेश्‍वरों’ ने बेहद शर्मनाक फैसला सुनाया। कुकर्मी अधेड़ को पचास हजार रुपए जुर्माना देना होगा। इसके अलावा रेप का आरोपी हर महीने किशोरी को पांच सौ रुपए परवरिश के नाम पर देगा। बच्चे के बड़ा होने के बाद किशोरी उसे आरोपी को सौंप देगी। तब तक भुक्तभोगी किशोरी अपनी शादी भी नहीं कर सकती। हैरान कर देने वाला यह मामला प्रतापगढ़ जिले के सांगीपुर थाना क्षेत्र के आमी शंकरपुर गांव का है।

देवरिया जेल में तैनात जेलर को मिली हत्या की धमकी, पुलिस सुरक्षा में लगी

यूपी के देवरिया जिला जेल में एक सप्ताह पूर्व ही तैनात हुए जेलर समर बहादुर सिंह को अपराधियों ने हत्या करने की धमकी दी है। धमकी से भयभीत जेलर ने पुलिस अधीक्षक एवं जिलाधिकारी से मिलकर अपने जान माल की सुरक्षा की मांग की है। इस सम्बन्ध में पुलिस अधीक्षक उमेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि जेलर की सुरक्षा की व्यवस्था कर दी गई है।

आखिरकार सब्र टूटा, लड़की ने छेड़खानी करने वाले एक लड़के को घोंपा चाकू

पटना। लड़कियों से छेड़खानी करने वाले मनचलों को लिए बुरी खबर है। बिहार की राजधानी पटना जिले में मनचलों की छेड़खानी से परेशान लड़की ने छेड़खानी करने वाले एक लड़के को चाकू मारकर घालय कर दिया है। खून से लथपथ लड़के ने भी अपने बचाव में चाकू घोंपने वाली लड़की पर बेल्ट से हमला किया, जिसमें वह मामूली रूप से जख्मी हो गई। घायल अवस्था में लड़के को उसके साथियों ने अस्पताल में भर्ती कराया। हालांकि अभी किसी भी तरफ से मामला दर्ज नहीं कराया गया है।

Pls help : Threathening & Harrassment in our premises

Respected Media, I, the undersigned, An MBA Graduate (35yrs), working as a Manager At Andheri resides with my well educated family along with my parents, among whom my Father(retd. BMC) (70yrs), Mother (Paralysis Patient) (60yrs), Wife (computer & Tuiton teacher) (34yrs), Brother (Working-BMC)(42yrs), his wife (36yrs) and our four small childrens at the above address, hereby has been forced to write this letter to your goodself due to the harrasment & threathening of our neighbour, who resides below my house in the proper building of first floor in Pagadi System.Mrs. Rashida H. Sarvaiyya (Mother & neighbour) with her daughter, Kausar and son- Pappu (who was also charged for Tadipari but later saved) and Javed (the absconded by Vinobha Bhave Police Station- Tadipar), are from the criminal background, having lots of complaints against them.

Uttarakhand – The New Africa of India Inc

For any industry to thrive in a new territory all it requires is ample natural resources, favourable (read gullible) human capital, a couple of cloud representatives and inefficient/gratified /negligent policy makers and certain quarters of blindfolded regulators and 'knowledge sharing consultants' who act as 'Sanjays' (fund-raising agencies and advisors) for 'Dhratrashtras' i.e. the myopic policy makers. This recipe is wonderfully available in all the newly formed states like Uttarakhand.

विवेक का तबादला, मुकेश अमर उजाला एवं विनोद जनसंदेश टाइम्‍स से जुड़े

अमर उजाला, गाजियाबाद से खबर है कि विवेक त्‍यागी का तबादला गोरखपुर के लिए कर दिया गया है. वे जूनियर सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे. विवेक को गोरखपुर में रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौपी गई है. वे लंबे समय से अमर उजाला से जुड़े हुए हैं.

जब माखनलाल की फैक्ट्री से ही कच्चा माल उठाना था तो अनुभवी लोगों को बुलाकर क्यों परेशान किया गया?

Anjli Dubay : छत्तीसगढ़ का अभी हाल में पैदा हुआ चैनल ''आईबीसी'' अपनी उड़ान के चलते ही अपने अंजाम की ओर पहुँचता लग रहा है ..पिछले दिनों 'जी' से करार खत्म होने के बाद आईबीसी नाम से एक नए चैनल का जन्म हुआ ..लोगों को बताया गया ..छत्तीसगढ़ की राजधानी को पोस्टरों से पाट दिया गया ..कर्मचारी भाग न जाएँ इसके लिए कई तरह के आश्वासन पिलाए गए..इसके बाद अचानक प्रबंधन का मन हुआ कि चलो अब मध्यप्रदेश में भी पैर पसारे जाएँ ..हड़बड़ी में गड़बड़ी की कहावत यहाँ सत्य साबित होती नजर आई..

अमर उजाला में धीरज बने बस्‍ती के प्रभारी, विनोद के जिम्‍मे महाराजगंज

अमर उजाला, महाराजगंज से खबर है कि ब्‍यूरो इंचार्ज धीरज पांडेय का तबादला बस्‍ती के लिए कर दिया गया है. उन्‍हें बस्‍ती में भी ब्‍यूरो इंचार्ज बनाया गया है. अब तक बस्‍ती में अमर उजाला की जिम्‍मेदारी देख रहे वीरेंद्र पांडेय यही सेकेंडमैन की भूमिका में रहेंगे. वीरेंद्र की रिपोर्टिंग धीरज पांडेय को होगी. धीरज की गिनती अच्‍छे पत्रकारों में की जाती है. महाराजगंज में अमर उजाला को टॉप पर पहुंचाने का श्रेय धीरज और उनकी टीम को ही जाता है.

A Flavor of Bhojpuri at ‘Raag Rang’ 2013

New Delhi : For the lovers of Bhojpuri and Maithili, it was a perfect musical treat in the heart of the capital as popular singers Guddu Rangila and Ranjana Jha brought the house down with their performances. The fourth day of the festival was devoted to Bhojpuri and Maithili songs and the lovers of these traditions couldn’t have it enough.

अमिताभ ठाकुर की अवमानना आचरण याचिका पर सरकार से जवाब-तलब

यूपी के प्रमुख सचिव (गृह) आरएम श्रीवास्तव एवं डीजीपी पर कैट के अवमानना आचरण और न्यायिक कार्यों में असहयोग के सम्बन्ध में आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर द्वारा दायर याचिका में इलाहाबाद हाई कोर्ट, लखनऊ बेंच ने आज सरकार से जवाब तलब किया है. 

पूर्व प्रमुख सचिव कुंवर फतेह बहादुर एवं एडीजी आरएन सिंह की जांच कर रहा है ईओडब्‍ल्‍यू

आर्थिक अपराध अनुसन्धान संगठन (ईओडब्ल्यू) ने कुंवर फ़तेह बहादुर, पूर्व प्रमुख सचिव, गृह और आरएन सिंह, पूर्व एडीजी, ईओडब्ल्यू के विरुद्ध सामाजिक कार्यकर्ता डॉ. नूतन ठाकुर द्वारा की गई एक शिकायत का संज्ञान लिया है. इस सम्बन्ध में प्रारंभिक जांच ईओडब्ल्यू के अपर पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र बहादुर द्वारा की जा रही है.

न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स का अमरीकी पत्रकार पाकिस्‍तान से निष्‍कासित

न्यूयॉर्क : पाकिस्तान ने अमेरिका के प्रतिष्ठित अखबार 'न्यूयॉर्क टाइम्स' के इस्लामाबाद ब्यूरो प्रमुख पर अवांछनीय गतिविधियों का आरोप लगाकर उन्हें देश से बाहर निकालने का आदेश दिया है। पाकिस्तानी गृह मंत्रालय ने आम चुनाव से ठीक पहले डेकलान वाल्श को देश से बाहर जाने का आदेश जारी किया।

जागरण, बनारस में इंक्रीमेंट के बाद दुख और गुस्‍सा

दैनिक जागरण, बनारस के ज्‍यादातर कर्मचारी अपने इंक्रीमेंट की राशि देखने के बाद नाराज हैं. हालांकि अभी इस यूनिट में प्रमोशन की लिस्‍ट नहीं पहुंची है, लेकिन जी जान लगाकर काम करने वाले लोगों को जिस तरह से इंक्रीमेंट दिया गया है, उससे वो खुश होने की बजाय दुखी ज्‍यादा हैं. खबर है कि इंक्रीमेंट में ठीक ठाक रकम उन्‍हीं लोगों को मिली है जो प्रबंधन के खास हैं. यानी जिन लोगों की संपादक और इस स्‍तर के लोगों से तालमेल बढि़या हैं उन्‍हें इंक्रीमेंट से खुशी मिली है.

सहारा के डिप्‍टी ब्‍यूरोचीफ ने संपादक के सामने रिपोर्टर को अपशब्‍द कहे, जांच जारी

: एक सदस्‍यीय जांच कमेटी कर रही है जांच : एक तरफ सहारा मुश्किलों में है तो दूसरी तरफ सहारा मीडिया प्रबंधन के लिए और मुश्किलें पैदा कर रहे हैं. खबर है कि राष्‍ट्रीय सहारा, लखनऊ में गाली ग्‍लौज के मामले को लेकर जांच बैठाई गई है. यह हादसा भी संपादक के सामने हुआ, लेकिन उन्‍होंने शुरुआत में कोई एक्‍शन नहीं लिया, जिससे प्रबंधन उनसे भी नाराज है. खबर है कि लखनऊ से जांच रिपोर्ट दिल्‍ली भेजी जा चुकी है. वहीं से इस मामले में निर्णय लिए जाने की संभावना है.

उठ-उठ के मसजिदों से नमाज़ी चले गए… दहशतगरों के हाथ में इसलाम रह गया….

Om Thanvi : निदा फ़ाज़ली को 20 अप्रैल को राष्ट्रपति ने पद्मश्री से नवाजा। 21 को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में मित्र नाज़िम नक़वी ने एक पार्टी की। 22 तारीख को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में ही निदा ने क़ौमी काउंसिल के एक मुशायरे में शिरकत की। निदा ने एक शेर पढ़ा, जो सुनने वालों में कुछ को नागवार गुजरा और उनसे माफी मांगने को कहा गया। निदा ने माफी नहीं मांगी और अपनी जगह जाकर बैठ गए। उनका शेर इस तरह थाः

इंडिया टीवी से डॉ. संदीप का इस्तीफा, कहां जाएंगे अभी कोई ख़बर नहीं

इंडिया टीवी की रीढ़ कहे जाने वाले रिसर्च डिपार्टमेन्ट के प्रमुख डॉ. संदीप कुमार ने इस्तीफा दे दिया है। पिछले साल जुलाई में रिसर्च हेड नीरज दीवान के जाने के बाद डॉ. संदीप पर डिपार्टमेन्ट की पूरी जिम्मेदारी आ गई थी। नीरज दीवान और डॉ. संदीप की रिसर्च का लोहा इलेक्ट्रोनिक मीडिया में माना जाता रहा है। दोनों ने प्रिंट मीडिया छोड़ इलेक्ट्रोनिक मीडिया में अपने करियर की शुरुआत 2004 में इंडिया टीवी से की थी।

प्रणय राणा ने भास्कर छोड़कर पत्रिका ज्वाइन किया

दैनिक भास्कर रायपुर से प्रिंट मीडिया की शुरुआत करने वाले प्रणय राज सिंह राणा ने पत्रिका रायपुर ज्वाइन कर लिया है..खबर है कि रायपुर से ट्रान्सफर के बाद से प्रणय राजधानी लौटने के लिए हाथ-पैर मार रहे थे….कई कोशिशों के बाद भी भास्कर में बात नहीं बनी तो वे काम की तलाश में दिल्ली भी पहुच गए थे लेकिन यहाँ भी दाल नहीं गली…

अगर कोई धर्म मातृवंदना को ख़ारिज़ करता है तो मैं ऐसे धर्म को खारिज़ करता हूं…

Prem Chand Gandhi : आपको अगर कोई चीज़ पसंद नहीं तो साफ़ कह दीजिये ना, क्‍यों धर्म का बहाना बनाते हैं… अगर कोई धर्म मातृवंदना को ख़ारिज़ करता है तो मैं ऐसे धर्म को खारिज़ करता हूं… क्यों कि जो धर्म मां को नहीं माने, वह कुछ और हो सकता है धर्म तो नहीं ही है… आप ऐसे धर्म में क्यों बने रहना चाहते हैं जो आपको मां के सामने झुकने से रोकता है…

जागरण के बरेली यूनिट में पांच लोगों को प्रमोशन, इंक्रीमेंट से नाराजगी

दैनिक जागरण, बरेली से जो शुरुआती सूचना आ रही है उसके अनुसार इस यूनिट से जुड़े पांच लोगों को प्रमोट किया गया है. हालांकि प्रमोशन कुछ और लोगों के हुए हैं लेकिन उनके नामों की जानकारी नहीं मिल पाई है. खबर है कि बरेली में तैनात सीनियर सब एडिटर अभिषेक पांडेय तथा अंकित कुमार को प्रमोट करके चीफ सब एडिटर बना दिया गया है. वहीं शाहजहांपुर में जूनियर स‍ब एडिटर के पद पर कार्यरत नरेंद्र यादव, राकेश श्रीवास्‍तव तथा कृष्‍ण मोहन शुक्‍ला को प्रमोट करके सब एडिटर बनाया गया है.

जिन-जिन ने मेरे चरित्र हनन की कोशिश की है, उनका जीना हराम कर दूंगी

Ila Joshi : तो भई आज से तथाकथित बड़े-बुज़ुर्गों के पाँव छूना बंद, आप चाहे कोई भी हैं, मेरे माँ-बाप ही क्यूँ न हों ये अब नहीं होगा तो नहीं होगा…आपको आशीर्वाद/दुआयें देने का पूरा अधिकार है, आप चाहे सर पर हाथ रखें, माथा चूमें, गले लगायें, मगर मुझसे ये अपेक्षा न रखें कि वो सब पाने के लिए मैं आपके पाँव छुकर अपने माथे पर लगाऊंगी…मुझे अब ये सब बहुत अटपटा सा लगता है, आप चाहे सामने वाले को पसंद करें न करें, वो अव्वल दर्जे का मूर्ख आदमी हो, आपको कभी कभी उसको थप्पड़ मारने का मन करता है, लेकिन चूँकि वो आपसे बड़े हैं तो आपको उनके पाँव छूने ही पड़ेंगे….

बुर्के में जा रहीं कुछ औरतों को देख उनके सामने ही चिल्ला पड़ा था- “मम्मी देखो मुसलमान”

Aseem Trivedi : पता है आपसे इनता प्रेम क्यों है मुझे. क्योंकि आप में मैं अपना बचपन देखता हूँ. यकीन मानिए बचपन में मैं भी बिलकुल ऐसा ही था. मुझे लगता था मेरे पापा सबसे अच्छे हैं. मेरा घर सबसे बड़ा है, मेरा परिवार-खानदान सबसे महान है. मेरा शहर कानपुर बहुत महान शहर है. मुझे भी आपकी ही तरह अपने हिन्दू होने पर गर्व था और उस पर भी ब्राह्मण होने पर. बचपन में कई बार रावण की तारीफ़ सिर्फ इसलिए किया करता था क्योंकि मैंने सुना था कि वो ब्राह्मण था. मैं भी मंदिर जाता था. हाथ जोड़कर प्रार्थना करता था. एक बार एक त्यौहार पर व्रत भी रखा था. एक बार मम्मी के साथ बाज़ार से गुजर रहा था तो बुर्का पहनकर जा रही कुछ औरतों को देखकर उनके सामने ही चिल्ला पड़ा था, "मम्मी देखो मुसलमान."

मौर्य टीवी : टूट गया प्रकाश झा का दिल!

मानवीय संवेदना, समाजिक सरोकार और समाजिक समस्याओं को सेल्यूलाइड पर दिखाकर अपने को ग्रास रूट का व्यक्ति बताने वाले का नाम प्रकाश झा है। लेकिन प्रकाश झा में एक और खूबी है….. वह यह कि वह कान के थोड़े कच्चे भी हैं… और दूसरे के माथे पर पैर रखकर अपनी सफलता तय करने का गुर कोई उनसे भी सीख सकता है। इसमें कोई शक नहीं कि एक अच्छे फिल्मकार हैं। अच्छे इसलिए कि एक समान्य अच्छे फिल्मकार हैं। उनमें सत्यजीत रे या श्याम बेनेगल वाली प्रतिबद्धता नहीं है। ये पैसे के पुजारी हैं।

राजेंद्र यादव इतनी घटिया किताब लिख सकते हैं, पढ़कर पता चला

Ramji Tiwari : राजेन्द्र यादव की किताब ‘स्वस्थ व्यक्ति के बीमार विचार’ ने दुखी कर दिया है | वे भी इतनी घटिया किताब लिख सकते हैं , इसे पढ़कर ज्ञात हुआ | मेरे जैसा कोई भी आदमी , जो उनके कथा साहित्य से परिचित है , जो हंस का डेढ़ दशक से नियमित पाठक रहा है और उनके वैचारिक लेखन का इन्तजार करता है , जिसने उनकी आत्मकथा पढ़ी है , वह यही कहेगा , कि इस किताब ने दो दिन का समय तो बर्बाद किया ही , मेरे 290 रुपये भी पानी में बहा दिए |

राँची-नई दिल्ली गरीब रथ के तीन कोच के किसी टॉयलेट में पानी नहीं

Shailesh Bharatwasi : 12877 राँची-नई दिल्ली गरीब रथ के G2, G3, G4 कोच के किसी भी टॉयलेट में पानी नहीं है। ट्रेन बिना पानी के पिछले 14 घंटे से दौड़ रही है। बाकी गरीब रथ के यात्रियों को तो पता ही होगा की इसमें पेंट्री भी नहीं होती। देख लीजिए, बदहाली को समझने के लिए गरीब नाम काफी है।

सुनना गैर-इस्लामी होता तो आरती और भजन सुनकर कान में रुई ठूँस लेते मुसलमान

Pankaj Srivastava : ‘वंदेमातरम्’ विवाद रह-रह कर सर उठाता रहता है। इस बार छिड़े विवाद के “दुल्हेमियां” यानी बीएसपी सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ( हुजूर,लोकसभा के सत्रावसान के समय ‘वंदेमातरम्’ बजते ही उठ कर चल दिए थे) कहते हैं कि इस्लाम में अल्लाह के अलावा किसी के आगे सिर नहीं झुकाया जाता। उनकी नजर में ‘वंदे मातरम्’ भारत के देवीस्वरूप की आराधना है, लिहाजा गाना हराम है। पर क्या सचमुच मामला इतना सीधा और सादा है…?

हिंदुस्‍तान, पटना के चीफ कॉपी राइटर गंगेश श्रीवास्‍तव की सड़क हादसे में मौत

: पटना से गोरखपुर जा रहे थे : पत्‍नी और बच्‍ची घायल : हिंदुस्‍तान, पटना में तैनात वरिष्‍ठ पत्रकार गंगेश श्रीवास्‍तव का एक सड़क हादसे में निधन हो गया. वे अपने परिवार के साथ पटना से गोरखपुर जा रहे थे. देवरिया जिले में कसया मार्ग पर भीमपुर के निकट सुबह उनकी जीप की एक ट्रक से सीधी टक्‍कर हो गई. इस हादसे में गंगेश श्रीवास्‍तव समेत तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि छह लोग घायल हो गए. दो मृतकों की अभी तक शिनाख्‍त नहीं हो सकी है. घायलों में गंगेश की पत्‍नी और पुत्री भी शामिल हैं.

पेड न्‍यूज प्रकरण : इस कहानी के हीरों हैं कुन्‍नू बाबू और खलनायक है डीपी यादव

बाहुबली और धनबली के रूप में कुख्यात धर्मपाल सिंह यादव उर्फ डीपी यादव की पत्नी उमलेश यादव को पेड न्यूज का दोषी सिद्ध होने पर भारत निर्वाचन आयोग उत्तर प्रदेश की विधान सभा की सदस्यता से बर्खास्त करने के साथ भारतीय जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 के तहत ही तीन वर्ष तक उनके चुनाव लड़ने पर भी प्रतिबंध लगा चुका है। उमलेश यादव आयोग के इस आदेश के विरुद्ध उच्च न्यायालय की शरण में गईं, लेकिन उच्च न्यायालय ने आयोग के आदेश को सही मानते हुये हाल ही में उनकी याचिका खारिज की है, जिससे देश भर में नजीर बन चुका यह प्रकरण एक बार फिर सुर्खियों में है।

राष्‍ट्रीय सहारा, कानपुर के संपादक नवोदित दिल्‍ली अटैच, हरीश पाठक बन सकते हैं नए संपादक

राष्‍ट्रीय सहारा, कानपुर से खबर है कि स्‍थानीय संपादक नवोदित को हटा दिया गया है. उन्‍हें कानपुर से हटाकर दिल्‍ली अटैच किया गया है. अभी उनकी जगह किसी को संपादक नहीं बनाया गया है लेकिन संभावना जताई जा रही है कि गोरखपुर में अटैच किए पटना के पूर्व संपादक हरीश पाठक को कानपुर का स्‍थानीय संपादक बनाया जा सकता है. प्रबंधन ने नवोदित के खिलाफ कार्रवाई उनके विरुद्ध मिली शिकायतों की जांच के बाद की है.

मासिक पत्रिका दिव्‍यता की लांचिंग 13 मई को

दिव्यता पब्लिकेशन लखनऊ की पहली मासिक पत्रिका "दिव्यता' का पहला अंक सोमवार को बाज़ार में उपलब्ध होगा। यह जानकारी देते हुए पत्रिका के संपादक प्रदीप श्रीवास्तव ने बताया कि अक्षय तृतीया को यानि 13 मई 2013 की सुबह 10.30 बजे अलीगंज स्थित आंचलिक विज्ञान केंद्र के प्रेक्षागृह में भारतीय प्रबंधन संस्‍थान लखनऊ के प्रो. भारत भास्कर के कर कमलों से पत्रिका की लांचिंग होगी। इस अवसर पर अतिथियों में श्री अनिल कुमार सिंह, श्रीमती ज्योत्सना श्रीवास्तव, श्रीमती अमिता श्रीवास्तव, श्री राम सूरत राम, श्रीमती दीपा सिंह आदि उपस्थित रहेंगी।

सुधीर चौधरी को फिर झटका : जिंदल समेत 17 के खिलाफ जांच का फैसला रद्द

हाईकोर्ट ने कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल सहित 17 अन्य के खिलाफ मानहानि के मामले में पुलिस को जांच करने का निर्देश देने संबंधी मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के फैसले को रद्द कर दिया है। अदालत ने उस फैसले को भी रद्द कर दिया है, जिसमें जिंदल को याची द्वारा मांगे गए दस्तावेज प्रदान करने का आदेश दिया गया था।

सन्‍मार्ग के टीवी चैनल पर हमला, एक अधिकारी की पिटाई

बेनाचिति : शारदा चिटफंड घोटाला कांड के बाद से लगातार विभिन्न चिटफंड कंपनियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामले सामने आने लगा है। शुक्रवार को व‌र्द्धमान सन्मार्ग नामक कंपनी पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए दर्जनों निवेशकों ने कंपनी के सिटी सेंटर स्थित टीवी चैनल कार्यालय में जाकर कंप्यूटर, सोफा, अलमारी सहित अन्य सामानों को क्षतिग्रस्त कर दिया एवं कौशिक बसु नामक एक अधिकारी की पिटाई भी की। पुलिस ने पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित किया तथा कार्यरत कर्मचारियों को बचाया।

सहारा की मुसीबत से मीडिया हाउसों की लॉटरी निकल आती है

Sanjay Sharma : सहारा पर जब मुसीबत आती है तब तब मीडिया हॉउसों की लॉटरी निकल आती है ..उधर सुप्रीम कोर्ट का डंडा चला इधर सहारा का नाटक शुरू ..सहारा ने दावा किया कि 70 लाख लोगों ने उसके कहने पर एक साथ राष्ट्र गान गाया ..अच्छी बात है, पर खेल अगले दिन ही समझ आ गया ..देश के सभी बड़े अखबारों में एक नहीं बल्कि दो पेज के विज्ञापन दिए गए, जिसमें राष्ट्रगान की तस्वीरे छपवाई गई ..एक तीर से दो शिकार.

रेलमंत्री के बाद कानून मंत्री अश्विनी कुमार ने भी दिया इस्‍तीफा

नई दिल्ली : रेल मंत्री पवन कुमार बंसल के बाद सीबीआई की रिपोर्ट बदलने के आरोपों में फंसे कानून मंत्री अश्विनी कुमार ने भी इस्तीफा दे दिया है। इससे पहले दोनों मंत्रियों ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से मुलाकात की। इधर खबर आ रही है कि मल्लिकार्जुन खड़गे को नया रेल मंत्री बनाया जा सकता है। देर शाम को सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री के सरकारी आवास 7, रेस कोर्स रोड जाकर उनसे मुलाकात की थी।

बकरा भी नहीं बचा पाया बंसल को, देना पड़ा इस्‍तीफा

एक बड़े राजनीतिक घटनाक्रम के तहत खबर आ रही है कि रेलवे घूसकांड में बुरी तरह फंसते नजर आ रहे रेल मंत्री पवन बंसल ने आखिरकार इस्‍तीफा दे दिया है. प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के बीच हुई मुलाकात में यह फैसला लिया गया. सूत्रों का कहना है कि सोनिया के तेवर और पीएम के निर्देश के बाद पवन बंसल ने मनमोहन सिंह को अपना इस्‍तीफा सौंप दिया है.

बकरे की बलि देकर बलि का बकरा बनने से बचना चाहते हैं बंसल!

रेलवे घूसकांड में बुरी तरह फंसते नजर आ रहे रेल मंत्री पवन बंसल अब बचने के लिए टोने-टोटके का सहारा ले रहे हैं. शुक्रवार को पवन बंसल के घर के बाहर एक बकरे को देखा गया. बंसल की पत्नी ने बकरे की पूजा भी की. माना जा रहा है बकरे की बलि देकर पवन बंसल खुद घूसखोरी कांड में बलि का बकरा बनने से बचना चाह रहे हैं. बंसल का हाथ अपनी ही पार्टी ने छोड़ दिया है. ऐसे में उन्‍हें टोटके का सहारा लेना ही पड़ रहा है. लेकिन क्या बकरे की पूजा से बच सकेगी बंसल साहब की कुर्सी, ये देखना काफी दिलचस्प होगा.

कांग्रेस ने चलायी भारत में भ्रष्टाचार की रेल

कांग्रेसनीत यूपीए सरकार का कार्यकाल देखकर यह तो नहीं लगता कि इस सरकार के पास देश चलाने की जिम्मेदारी थी। जिस तरह बीते पांच साल में घोटालों की बाढ़ आई है उसे देखकर तो यही कहा जा सकता है कि यूपीए की सरकार हजारों हाथ से देश को लूट रही है। मंत्री से सरकारी पद तक सब नीलाम हो रहे हैं, बस खरीददार की जेब में दाम हो।

हरियाणा न्‍यूज के मालिक कांडा पर रेप, अप्राकृतिक सेक्‍स के आरोप तय

नई दिल्ली : एयर होस्टेस गीतिका शर्मा खुदकुशी केस में हरियाणा के पूर्व मंत्री एवं हरियाणा न्‍यूज के मालिक गोपाल गोयल कांडा के खिलाफ दिल्ली की एक स्थानीय अदालत ने बलात्कार, अप्राकृतिक यौन शोषण, खुदकुशी के लिए उकसाने, आपराधिक साजिश रचने, जालसाजी और धोखाधड़ी के अलावा आईटी एक्ट के तहत भी आरोप तय किए हैं। अदालत ने कांडा की सहयोगी अरुणा चड्डा पर भी आरोप तय कर दिए हैं। इसके साथ ही इस केस को सुनवाई के लिए एमसी गुप्ता की फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया गया है।

चरैवेति विवाद : संपादक अनिल सौमित्र की विदाई, सुमित्रा महाजन को लिखा पत्र

मध्‍य प्रदेश में भाजपा के मुख पत्र चरैवेति की असली-नकली वेबसाइट को लेकर संपादक अनिल सौमित्र तथा भाजपा के मीडिया प्रभारी डा. हितेश बाजपेयी के बीच पैदा हुए टकराव ने असर दिखा दिया है. पत्रकार अनिल सौमित्र को संपादक पद से कार्यमुक्‍त कर दिया गया है. इस प्रकरण लेकर पिछले दिनों मध्‍य प्रदेश में जमकर बवाल मचा था, जिसके बाद दैनिक भास्‍कर ने भी मीडिया प्रभारी बाजपेयी के पक्ष में कई खबरें प्रकाशित कीं.

वरिष्‍ठ पत्रकार खालिद कर्नाटकी के साथ भी एनएनआईएस ने की धोखाधड़ी, मामला दर्ज

अरुप घोष की कंपनी एनएनआईएस न्‍यूज एजेंसी सिर्फ जूनियर स्‍तर के पत्रकारों के साथ ही वादाखिलाफी और धोखाधड़ी जैसे कारनामे नहीं किए हैं बल्कि उसने सीनियर जर्नलिस्‍टों के भी लाखों रुपये  हड़पे हैं. कर्नाटक के सीनियर खेल पत्रकार खालिद कर्नाटकी के साथ भी इस न्‍यूज एजेंसी के कर्ताधर्ताओं ने धोखाधड़ी और वादाखिलाफी की. कई बार निवेदन के बाद आखिरकार खालिद कर्नाटकी ने इस पूरे मामले की शिकायत बंगलुरू पुलिस से की है.

कदम-कदम पर जंतर-मंतर और टोटके

अंधविश्वास में अपना बड़ा ही हाईक्वालिटी का विश्वास है। क्योंकि अपनी नज़र में अंधविश्वास ही ऑरीजनल विश्वास है। बाकी सब बकवास है। मैं गर्व से कहता हूं कि मैं अंधविश्वास का अंध-समर्थक हूं। क्योंकि समर्थक ही अंधा हो सकता है। आपने क्या कभी कहीं कोई अंध-विरोधी देखा है। होता ही नहीं तो देखेंगे कैसे? जो सिरफिरे अंधविश्वास की ताकत नहीं जानते वही इसका विरोध करते हैं। अरे यह अंधविश्वास ही तो है जो पत्थर में भगवान फूंक देता है। और जो पूरे आन-बान-शान से झट से उछलकर नई नवेली आलीशान अट्टालिकाओं पर काली हंडिया के रूप में बाइज्जत नागरिकता पाता है, सैंकड़ों बंदनवारों की जमानत जब्त कराके खुद दरवाजे पर हरीमिर्च और नीबू की माला बनकर लहराता है।

क्‍यों नहीं बजेगा एनएनआईएस का बैंड, जब ”आदरनीय” हिंदी प्रभारी ऐसे हैं

वरिष्ठ पत्रकार उदय चंद्र सिंह के इस्तीफे के बाद एनएनआईएस की हिन्दी सेवा दम तोड़ने के कगार पर है। श्री सिंह के इस्तीफे के एक हफ्ते बाद ही एनएनआईएस को हिन्दी अखबारों के लिए शुरू की गई अपनी टेक्स सेवा बंद करनी पड़ी। प्रबंधन ने अखबारों को यह लिखा कि वो इस सेवा को नये तेवर के साथ लॉन्च करेंगे, लेकिन जो लोग पत्रकारिता से जुड़े हैं वो रीलॉन्च के नाम पर किसी सेवा को बंद करने का मतलब अच्‍छी तरह जानते हैं।

आई नेक्‍स्‍ट में मयंक का प्रमोशन, सीनियर रिपोर्टर बने

आई नेक्‍स्‍ट, गोरखपुर से खबर है कि मयंक अंशु श्रीवास्‍तव को प्रमोट करके सीनियर रिपोर्टर बना दिया गया है. मयंक आई नेक्‍स्‍ट के साथ शुरुआती दौर से ही जुड़े हुए थे. तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद वे आई नेक्‍स्‍ट के साथ जुड़े रहे. माना जा रहा है कि प्रबंधन ने उन्‍हें उनकी वफादारी का इनाम …

सुप्रीम कोर्ट ने ‘खलनायक’ की पु‍नर्विचार याचिका खारिज की

नई दिल्ली : वर्ष 1993 में मुंबई में हुए श्रृंखलाबद्ध धमाकों से जुड़े गैरकानूनी हथियार एके 56 रखने के मामले में पांच साल की सजा पाए बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त की पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है।  न्यायमूर्ति पी सदाशिवम और न्यायमूर्ति डॉ. बलबीर सिंह चौहान की खंडपीठ ने संजय दत्‍त के अलावा छह अन्य मुजरिमों की पुनर्विचार याचिकाएं भी खारिज कर दी हैं। इसी खंडपीठ ने 21 मार्च को इन लोगों को दोषी करार दिया था।

एनडीटीवी को चौथी तिमाही में 27.8 करोड़ का शुद्ध लाभ

News broadcaster NDTV has beaten market expectations by posting a consolidated net profit of Rs 27.8 crore in the fourth quarter of the financial year ended March 31. This is notable as the company had posted a net loss of Rs 41.3 crore in the corresponding quarter of the previous financial year.

टीओआई ग्रुप के वेंचर मीडियानेट के सीईओ बने रोहित गोपाकुमार

टाइम्‍स ऑफ इंडिया ने रोहित गोपाकुमार को अपने वेंचर मीडियानेट का सीईओ नियुक्‍त किया है. गोपाकुमार साउथ एशिया में कंपनी के एड रिवेन्‍यू की जिम्‍मेदारी देखेंगे. टाइम्‍स ऑफ इंडिया समूह के साथ यह उनकी दूसरी पारी है. गोपाकुमार बीबीसी से टाइम्‍स ऑफ इंडिया पहुंचे हैं. वे बीबीसी एडवरटाइजिंग में साउथ एशिया के वाइस प्रेसिडेंट थे.

क्‍या बंगाल पुलिस सुदीप्‍तो सेन का असली सच बाहर ला पाएगी?

पश्चिम बंगाल में चिट फंड घोटाले का पर्दाफाश होने और निवेशकों को करोड़ों रुपये का चूना लगाने वाले सारदा समूह के अध्यक्ष सुदीप्तो सेन के साथ कथित संबंधों की वजह से राज्य की सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस भारी राजनीतिक दबाव का सामना कर रही है। इस धोखाधड़ी का मुख्य आरोपी सेन इस समय पुलिस की गिरफ्त में है और उससे कड़ी पूछताछ की जा रही है। इस बीच उन्होंने संवाददाताओं से कहा है कि जांच पूरी होने के बाद सबकुछ सामने आ जाएगा।

वीडी वाधवा सिटी केबल के सीईओ नियुक्‍त

वीडी वाधवा ने सिटी केबल नेटवर्क ज्‍वाइन किया है. उन्‍हें कंपनी में सीईओ बनाया गया है. पिछले 15 सालों से टाइमेक्‍स वॉच कंपनी में कार्यरत वाधवा अब सिटी केबल के विस्‍तार की जिम्‍मेदारी संभालेंगे. सिटी केबल जी समूह के एस्‍सेल ग्रुप की कंपनी है. वाधवा कंपनी के चेयरमैन सुभाष चंद्रा को रिपोर्ट करेंगे. वीडी वाधवा …

पत्रकार सन्‍नी खन्‍ना आत्‍महत्‍या मामले में चिकित्‍सक की गवाही हुई

अंबाला में एक पत्रकार सन्‍नी खन्‍ना आत्महत्या मामले में बृहस्पतिवार को चंडीगढ़ के चिकित्सक की गवाही हुई। आत्महत्या के मामले में यह अंतिम गवाही थी। उधर, मामले में अभी इस तारीख पर भी अर्जी दायर नहीं हो सकी। इसके बाद मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख निर्धारित कर दी है।

चैनल10 के चेयरमैन सुदीप्‍तो सेन की जमानत याचिका खारिज

कोलकाता। पश्चिम बंगाल अदालत ने गुरुवार को शारदा ग्रुप के प्रवर्तक तथा कई चैनल तथा अखबारों को संचालित करने वाले सुदीप्तो सेन और देबजनी मुखर्जी सहित उनके दो करीबियों की जमानत याचिका रद्द करते हुए उन्हें पहले मामले में नौ दिनों की पुलिस हिरासत और दूसरे मामले में दो सप्ताह की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। बिधाननगर के अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ए.एच.एम. रहमान ने दो अलग-अलग मामलों की सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया।

चिटफंड घोटाले ने ली 11 की जान, एक कंपनी का एजेंट तथा दूसरे के निदेशक ने दी जान

कोलकाता। चिटफंड घोटाले के सामने आने के बाद मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है, जिनमें ज्यादातर आत्महत्या के मामले हैं, इस कड़ी में आज एक एजेंट की मौत और एक चिटफंड कंपनी के निदेशक की कथित आत्महत्या के बाद यह संख्या 11 पर पहुंच गई। 42 वर्ष के चिटफंड एजेंट मृणाल कांति मंडल ने निवेशकों के तकाजे से परेशान होकर रविवार की रात जहर खा लिया था। उसकी अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस ने घटना की जानकारी दी। मंडल उत्तरी 24 परगना जिले के संग्रामपुर गांव का रहने वाला था।

वंदेमातरम् : धर्म नहीं देश पहले है

बसपा के माननीय सांसद शफीकुर्रहमान बर्क कहते है, ‘यह सच है कि मैं सांसद हूँ, पर मुसलमान पहले हूँ. मैं इस्लाम के खिलाफ नहीं जा सकता. इसलिए मैं लोकसभा छोड़कर चला गया. अगर भविष्य में भी ऐसी स्थिति आई तो मैं वही करूंगा, जो आज किया है.’ समाजसेवी श्री अन्ना हजारे और बाबा रामदेव के वंदेमातरम्-नाद को अभी देश की जनता भूल भी नहीं पायी होगी कि श्री अन्ना हजारे और बाबा रामदेव के उसी ‘वंदेमातरम्-नाद’ पर ही विवाद खड़ा हो गया.

गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले में आज तय होगा कांडा पर आरोप!

नयी दिल्ली : बहुचर्चित गीतिका शर्मा आत्महत्या मामले में आज अदालत आरोप तय कर सकती है. इस हत्याकांड में पूर्व मंत्री तथा हरियाणा न्‍यूज के मालिक गोपाल गोयल कांडा और उसकी सहयोगी अरुणा चड्ढा को गिरफ्तार किया गया है.

पेड न्‍यूज ने हिंदी पत्रकारिता को घोर व्‍यवसायिक और मूल्‍यहीन बनाया है

पिथौरागढ़। उत्तराखण्ड श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की जिला इकाई के तत्वावधान में स्व. गणेश शंकर विद्यार्थी का भावपूर्ण स्मरण किया गया। इस अवसर पर हिन्दी पत्रकारिता के मूल्यहीन, घोर व्यवसायिक और पेड न्यूज के मौजूदा दौर को वक्ताओें ने जी भर कोसा। पत्रकारिता के मूल्यों की हिफाजत के लिए समाज के संवेदनशील लोगों को अपना सर्वस्व दांव पर लगा देने की वक्ताओं ने अपील की। कहा कि समाजोन्मुख पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए पत्रकारों को ही नहीं वर्न अलग-अलग पेशे से जुड़े लोंगों को गणेश शंकर विद्यार्थी जैसी शख्सियतों की वसीयतों को कायम रखने का अब समय आ गया है।

वो तेरी हार का गम, तुझे कितना है सनम

कर्नाटक में बीजेपी की हार के बाद सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या बदली हुई परिस्थितियों बीजेपी कोई सबक लेगी? क्या उसके नेता अपने आपसी मतभेदों को भुलाकर एकजुटता प्रदर्शित करते हुए कांग्रेस को परास्त करने की रणनीति पर काम करेंगे? आने वाले कुछ ही महीनों में चार बड़े राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। बीजेपी भले ही संसद में बहुत हंगामा कर ले, देश के हित में बड़ी बड़ी बयानबाजी कर ले, और भले ही संघ परिवार के सान्निध्य में नैतिकता का नारा देकर गम भुलाने का प्रयास करें, लेकिन बीजेपी कुल मिलाकर पूरी तरह परास्त हो गई है।

सीएम से मिले पत्रकार, महाराष्‍ट्र में बन सकता है पत्रकार रक्षा कानून

अगले कैबिनेट के सामने पत्रकार हमला विरोधी कानून बिल रखने की घोषणा महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने कल की. महाराष्ट्र पत्रकार हमला विरोधी कृती समिति की और से महाराष्ट्र में पत्रकार सुरक्षा कानून लाने की मांग की जा रही है. इसी मांग को लेकर बृहस्पतिवार को समिति के नेतृत्व में पनवेल से वर्षा कार रैली का आयोजन समिति के अध्यक्ष एसएम देशमुख के नेतृत्व में किया गया था.

भाई-भाईचारा और भाई-भतीजावाद

ये जो भाई है यह बड़ा ही विचित्र किंतु सत्य किस्म का जीव होता है। मानव समाज में इसकी अनेक प्रजातियां पई जाती हैं। मसलन- सगा भाई, सौतेला भाई, जुडवां भाई, छोटा भाई, मोटा भाई, गुरुभाई, धरम का भाई, दिहाड़ी भाई, तिहाड़ी भाई, घुन्नाभाई, मुन्नाभाई और चोरी-चोरी इक चोरी की डोरी से बंधे मौसेरे भाई। यानीकि यत्र-तत्र-सर्वत्र भाई-ही-भाई। एक भाई के लिए दूसरा भाई या तो चारा होता है या बेचारा होता है। फिर भी उनमें अटूट भाईचारा होता है। इतना अटूट की दोनों भाइयों को जब वे गुत्थ-गुत्था होते हैं तो अलग-अलग करने के लिए समाज को थोक में सामूहिक श्रम करना पड़ता है।

जाट आरक्षण का टूटता, बिखरता और भटकता रण

अब यह समझना मुश्किल हो गया है कि जाट ज्यादा भोले हैं या आरक्षण के मुद्दे पर उनका कथित नेतृत्व कर रहे नेता और सरकारें ज्यादा चालाक। आजाद भारत के इतिहास अब तक इतना भटका, बिखरा और संदेहों से भरा कोई आंदोलन नहीं हुआ है। इस आंदोलन का सबसे दुखद पहलू है इसका कोई असली माई-बाप न होना। लगातार पैदा हो रहे नेता आंदोलन की ताकत लगातार बंट और बिखरा रहे हैं। पर्दे के पीछे चल रही चल रहीं दुरभि संधियां आंदोलन की रीढ़ पर सतत वार कर रही हैं।

हिंदुस्‍तान में आशु फाके के लिए सृजित हुआ नया पद

कुछ दिन पहले हिंदुस्‍तान ज्‍वाइन करने वाले आशु फाके को एचएमवीएल में हिंदुस्‍तान टाइम्‍स तथा मिंट का सर्कुलेशन हेड बनाया गया है. सूत्रों का कहना है कि आशु फाके के लिए इस नए पद का सृजन किया गया है. उल्‍लेखनीय है कि कुछ समय पहले तक आशु दैनिक भास्‍कर समूह के साथ सीओओ के रूप में जुड़े हुए थे तथा पंजाब, चंडीगढ़ और हरियाणा की जिम्‍मेदारी संभाल रहे थे.

गूगल ने यू ट्यूब पर पे चैनल की शुरुआत की

वीडियो शेयर करने के लिए मशहूर यूट्यूब ने अपनी वेबसाइट पर पेड चैनल यानी की पैसे देकर देखे जाने वाले चैनल की प्रायोगिक तौर पर शुरुआत की है. पायलट प्रोजक्ट के रूप में शुरू की गई इस परियोजना के तहत चैनल उपभोक्ताओं को 99 सेंट प्रतिमाह यानी करीब 50 से 60 रुपए की दर से यह सुविधा उपलब्ध कराएंगे. हर चैनल उपभोक्ताओं को 14 दिन की मुफ़्त सुविधा का पेशकश करेगा. बहुत से चैनल सालाना फीस में छूट भी देंगे.

जयपुर में फोटो जर्नलिस्‍ट से मारपीट, एफआईआर दर्ज

जयपुर में हड़ताल का कवरेज करने गए फोटो जर्नलिस्ट के साथ कुछ ऑटोरिक्शा चालकों ने मारपीट की. इस हमले में फोटोजर्नलिस्ट घायल हो गया. उसके हाथ में चोट आई है. इस संबंध में फोटो जर्नलिस्ट ने तीन ऑटोचालकों के खिलाफ मोती डूंगरी थाने में एफआईआर दर्ज कराई है. पुलिस ने अभी तक किसी आरोपी को अरेस्‍ट नहीं किया है.

अरुप घोष की एजेंसी ने भेजा भड़ास को लीगल नोटिस

अरुप घोष के नेतृत्‍व में संचालित हो रहे एनएनआईएस न्‍यूज एजेंसी की आर्थिक स्थिति डांवाडोल है. इस एजेंसी से सैकड़ों रिपोर्टरों का पैसा अब तक चुकता नहीं किया है. इस एजेंसी के दर्जनों रिपोर्टर अपनी मेहनत का पैसा पाने के लिए परेशान हैं. इसको लेकर एजेंसी के पत्रकार 11 मई को धरना देने की तैयारी भी कर रहे हैं. इसके पहले एनएनआईएस एजेंसी प्रबंधन ने एक संवाददाता दिलीप कुमार राव के पैसे भी हड़पने की कोशिश की.

वो बोली- पति के साथ रहने को हूं राजी… कोर्ट ने जेल में बंद पति को दे दी जमानत

''दहेज कानूनों का कई बार इस्तेमाल मनमानी के लिए किया जाता है… कुछ लड़कियां अपने रिश्ते को अपने हिसाब से चलाने के लिए वह दहेज कानूनों का सहारा ले रही हैं…'' यह दलील गुरुवार को कड़कडड़ूमा कोर्ट में एक अभियुक्त के वकील ने दी। साथ ही उसके वकील ने कोर्ट को बताया कि दहेज के फर्जी मुकदमें में उसका मुवक्किल पिछले छह दिन से जेल में है। दोनों पक्षों की दलीले सुनने के बाद कोर्ट ने अभियुक्त को 25 हजार रुपये की जमानत पर छोडऩे का आदेश दिया।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सूर्यनारायण मिश्र का निधन

: लाल पद्मधर के साथी को नम आंखों से दी अंतिम विदाई : इलाहाबाद। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी सूर्य नारायण मिश्र का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। इलाहाबाद जिले के सोरांव क्षेत्र के कंजिया निवासी मिश्र पिछले कई साल से बीमार थे। इनका इलाज लखनऊ के एक प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था। वहां वे तीन दिनों से आईसीयू के गहन चिकित्सा कक्ष में भर्ती थे। बुधवार को भोर में स्वंत्रता सेनानी मिश्र का शव उनके पैतृक गांव कंजिया पहुंचा तो परिजनों में शोक की लहर फैल गई। घर आकर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया।

कथाकार अजित पुष्‍कल का 78वां जन्‍म दिवस मना

इलाहाबाद। प्रसिद्ध कथाकार अजित पुष्‍कल का 78वां जन्म दिवस इलाहाबाद के साहित्य प्रेमियों ने धूमधाम से मनाया। आठ मई को महात्मा गांधी विश्‍वविद्यालय के सत्यप्रकाश मिश्र सभागार में रंगवीथिका की तरफ से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें कई साहित्यकारों का जुटान हुआ। समारोह में वक्ताओं ने अजित पुष्‍कल की रचना कर्म पर विस्तार से चर्चा की। कहा गया कि पुष्‍कल की रचनाधर्मिता समय के सापेक्ष है।

अरे वह सनकी चतुर्वेदी! खुद भी ईमानदारी का कीड़ा खाएगा और हमें भी खिलाएगा

: चनाजोर गरम वाले चतुर्वेदी जी : चतुर्वेदी जी अपने बेटे की शादी के पंडाल में गेंदे के फूल की माला पहने ऐसे घूम रहे थे गोया बच्चे हों। लेकिन उनके चेहरे पर बच्चों का-सा उल्लास नहीं, एक फीकी-सी मुसकुराहट थी। फिर भी वह इधर-उधर फुदकने का जैसे अभिनय कर रहे थे। बारात की अगुवाई करते हुए दुल्हा बने बेटे की कार के आगे चलते हुए उनके गले में माला तो नहीं थी पर चाल में वह गमक और गरूर भी नहीं था जो शादी-ब्याह में दुल्हे के पिता में अमूमन देखा जाता है। और तो और उनके बगल में उनके साथ चले रहे कभी उनके कट्टर दुश्मन रहे माथुर साहब को देख कर कुछ लोगों के मुंह अचरज से खुले तो खुले ही रह गए। हां, माथुर साहब की चाल में जरूर गमक थी। गमक ही नहीं गुरूर भी साफ दिख रहा था माथुर साहब की चाल में और चेहरे पर कलफ लगी हंसी भी।

बर्क साब को तो बाकी सभी सांसदों की तरह खड़े रहना था… सुनने से क्या होता है

Sanjaya Kumar Singh : बसपा सांसद शफीकुर्रहमान बर्क लोकसभा में 'वंदे मातरम्' की धुन बजने के दौरान सदन से बाहर जाते देखे गए। मामला तूल पकड़ने के बाद बर्क ने तर्क दिया कि 'वंदे मातरम्' इस्लाम के खिलाफ है, इसलिए वह लोकसभा छोड़कर चले गए थे। यही नहीं, उन्होंने यह भी कहा कि यह हमारे धर्म के खिलाफ है, इसलिए अगर भविष्य में भी ऐसी स्थिति आई तो मैं वही करूंगा, जो आज किया है।

रेलवे विभाग में व्याप्त ‘भाईचारा’ से एक आईपीएस हारा!

सरकारी महकमों में कार्यरत बंदों के खराब आचरण, दुर्व्यवहार आदि की शिकायत चाहे जितना कर लीजिए, इनका आपसी 'भाईचारा' इनके खिलाफ एक्शन नहीं होने देता. यहां तक कि अगर शिकायत करने वाला आईपीएस हो, तो भी कोई खास असर नहीं पड़ता. आईपीएस अमिताभ ठाकुर का निजी तर्जुबा तो यही बताता है. भला सोचिए, आम आदमी इन मोटी चमड़ी वाले अफसरों की अगर शिकायत करेगा तो उसे कोई रिस्पांस मिलेगा? अमिताभ ठाकुर ने पूरे प्रकरण पर विस्तार से लिखा है. इसे पढ़िए और आंख खोल लीजिए. जो लोग सिस्टम को सुधार कर ठीक करने की बात करते हैं, उन्हें अब फिर से समझना सोचना चाहिए कि क्या यह सड़ा सिस्टम सुधारने लायक भी बचा है या पूरी तरह सड़ चुका है.

-यशवंत, एडिटर, भड़ास4मीडिया

चीन से डील के बाद चुमार पोस्‍ट से बंकर तोड़ रही भारतीय सेना!

नई दिल्‍ली : एक तरफ भारत सरकार कह रही है कि उसने चीन के साथ कोई डील नहीं की, बल्कि कूटनीतिक तरीके से उसे लद्दाख की सीमा से पीछे हटने पर मजबूर किया है. लेकिन अब डील का असर दिखने लगा है और भारतीय सेना ने सामरिक दृष्टि से महत्‍वपूर्ण चुमार पोस्‍ट से अपने बंकर हटाने शुरू कर दिए हैं. बताया जा रहा है कि दोनों देशों के बीच फ्लैग मीटिंग में हुए समझौते के तहत ही भारतीय सेना लद्दाख की चुमार पोस्‍ट से अपने बंकर तोड़ रही है. इससे पहले विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा था कि चीन के साथ अतिक्रमण मसले को बिना किसी डील के हल किया गया है. लेकिन अब जिस तरह से भारतीय सेना अपने बंकर तोड़ रही है उससे खुर्शीद के दावों पर सवालिया निशान उठ रहे हैं.

सैमसंग का टेबलेट लेने वाले यूपी के पत्रकारों की घोर निंदा की समिति ने

आपातकालीन सूचना… उप्र राज्य मुख्यालय मान्यताप्राप्त संवाददाता अधिकार सामिति… आज दिनांक 09/05/2013 को मीडिया सेन्टर में उप्र राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता अधिकार समिति के सदस्यों ने हिस्सा लिया। बैठक में सदस्यों ने कहा कि कुछ लोग पत्रकारिता के मूल्य और धर्म से हटकर सम्पूर्ण पत्रकारिता जगत को कलंकित करके सौदेबाजी कर रहे हैं।  आज की बैठक उपरोक्त मानसिकता के दागी पत्रकारों का बहिष्कार करती है और उनके कुकृत्य व आचरणहीनता पर गहरा खेद व्यक्त करती है। ऐसी परिस्थितियों की पुनरावृत्ति न हो, इस वास्ते एक संयोजन समिति का गठन करती है।

किराया नहीं देने पर राज एक्सप्रेस के बेतूल ऑफिस में ताला जड़ा

अब ये दिन भी देखना बाकी रह गया था. राज ग्रुप को फर्श से अर्श पर मालिक अरूण सहलोत ने पहुँचाया, किन्तु कहते हैं न कि महंगी गाड़ी ले लेना एक बात है मगर सही तरह से उसे ड्राइव करना दूसरी बात है. यहाँ जो कुछ गड़बड़ हुआ वो नौसिखिये ड्राइवरों की वजह से हुआ. वो इतिहास की घटना नहीं है जब भास्कर और राज की प्रतियों में उन्नीस का अंतर होता था. तब भास्कर की हालत पतली हो गई थी. कई वरिष्ठ पत्रकार भास्कर छोड़कर राज की तरफ खिंचे चले आते थे

अजीत त्रिपाठी समाचार प्लस छोड़ कर श्री न्यूज से जुड़ेंगे

समाचार प्लस चैनल में प्रोड्यूसर के रूप में कार्यरत अजीत त्रिपाठी ने इस्तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी की शुरुआत श्री न्यूज चैनल के साथ करने जा रहे हैं. वे नए चैनल में आउटपुट पर जिम्मेदारी निभाएंगे. अजीत त्रिपाठी ने समाचार प्लस से इस्तीफा के बारे में फेसबुक के अपने वॉल पर जो लिखा है, वह इस प्रकार है-

दैनिक जागरण, हल्द्वानी से चंद्रशेखर जोशी का इस्तीफा

चंद्र शेखर जोशी ने हल्द्वानी दैनिक जागरण यूनिट से इस्तीफ़ा दे दिया है और वह भी जागरण उत्सव के दौरान। जागरण के वरिष्ठ उप-सम्पादक के पद पर रहे चन्द्र शेखर जोशी ने यह इस्तीफ़ा संस्थान में अपने मानसिक उत्पीड़न की वजह से दिया है।  ख़बर यह भी है कि जागरण के ही सुनीत द्विवेदी भी इस्तीफ़ा दे सकते हैं।

आदेश त्‍यागी का आरोप- हिंदुस्‍तान, हरिद्वार में हर महीने चार लाख की वसूली

हिंदुस्‍तान के हरिद्वार कार्यालय भ्रष्‍टाचार का अड्डा बना हुआ है. इस तरह की शिकायतें लगातार आती रही हैं, लेकिन हिंदुस्‍तान से पिछले दिनों इस्‍तीफा देने वाले पत्रकार आदेश त्‍यागी के आरोपों के बाद इस मुहर लगती भी दिख रही है. हिंदुस्‍तान के साथ हरिद्वार में पंद्रह सालों से कार्यरत आदेश त्‍यागी ने भ्रष्‍टाचार का आरोप लगाते हुए इस्‍तीफा दे दिया था. इसके बाद अब उन्‍होंने एसएमएम के माध्‍यम से हरिद्वार कार्यालय में व्‍याप्‍त भ्रष्‍टाचार की पोल खोलना शुरू किया है.

समाचार प्‍लस सर्वाधिक बढ़त के साथ ईटीवी की गर्दन तक पहुंचा

मात्र दस महीने पहले लांच हुआ समाचार प्‍लस यूपी-उत्‍तराखंड चैनल ने पहले से जमाए जमाए चैनलों को चौंका दिया है. समाचार प्लस ने 18वें सप्‍ताह में भी यूपी-उत्‍तराखंड में अपना परचम लहराया है. इस सप्‍ताह यह चैनल सबसे ज्‍यादा रेटिंग गेन करने वाला चैनल बना है. अठारहवें सप्‍ताह भी यह चैनल न केवल दूसरे पायदान पर जमा है बल्कि ईटीवी से अपना फासला कम करते हुए उसकी गर्दन तक पहुंच गया है. अगर समाचार प्‍लस की बढ़त इसी तरह जारी रही तो आने वाले कुछेक सप्‍ताह में यह चैनल नम्‍बर वन की कुर्सी पर भी काबिज हो सकता है.

समाचार प्‍लस राजस्‍थान चैनल का ड्राई रन शुरू

यूपी-यूके में अपनी अलग पहचान बनाने के बाद, अब 'समाचार प्लस' चैनल जल्‍द ही राजस्‍थान की जोशीली धरती पर कदम रखने जा रहा है. समाचार प्‍लस के राजस्‍थान चैनल का ड्राई रन 8 मई से शुरू हो चुका है. लांचिंग की सारी तैयारियां लगभग पूरी की जा चुकी हैं. लुक एंड फील तैयार हो चुका है, न्यूज़रूम, स्टूडियो, पीसीआर-एमसीआर ने भी काम करना शुरू कर दिया है. चैनल की विधिवत लांचिंग 22 से 25 मई के बीच किसी दिन होगी. 

आजतक को पछाड़कर इंडिया टीवी बना नम्‍बर वन

अठारहवें सप्‍ताह की टीआरपी में उथल-पुथल देखने को मिला है. इस सप्‍ताह आज तक को बड़ा झटका लगा है. इंडिया टीवी ने आजतक को पछाड़ कर पहले स्‍थान पर कब्‍जा जमा लिया है. पिछले सप्‍ताह डीडी से पिछड़ने वाले एनडीटीवी और आईबीएन ने वापसी करते हुए डीडी को पछाड़ दिया है. अन्‍य चैनलों की स्थिति में कोई खास फर्क नहीं पड़ा है. इंडिया न्‍यूज अपनी जगह पर कायम है. लंबे समय बाद आजतक दूसरे नम्‍बर पर पहुंचा है. तीसरे नंबर पर मौजूद एबीपी न्‍यूज भी आजतक के बहुत करीब पहुंच गया है.

सन्नी लियोन ने न्‍यूज चैनल वालों को दिखवाया बाहर का रास्ता

पोर्न फिल्मों की अभिनेत्री सन्नी लियोन को बॉलीवुड में आए हुए कुछ ही दिन हुए हैं और उनका एटिट्यूड अभी से ही सुपर स्टार का होने लगा है। सनी के खाते में अभी सिर्फ एक फिल्म और एक आइटम सॉन्ग ही है, लेकिन उन्होंने अपना स्टारडम दिखाना शुरू कर दिया है।

साक्षी मीडिया के चेयरमैन जगन रेड्डी की जमानत अर्जी खारिज

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने साक्षी मीडिया समूह के चेयरमैन एवं वाईएसआर कांग्रेस के प्रमुख जगन मोहन रेड्डी की जमानत अर्जी खारिज कर दी है। आय से अधिक संपत्ति के मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद जगन करीब एक साल से जेल में बंद हैं। इसके पहले भी सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी थी।

देश के सभी मीडिया संस्‍थानों में भारतीय संपादक रखने के लिए पीआईएल

जनता पार्टी के नेता सुब्रहमण्यम स्वामी ने दिल्ली उच्च न्यायालय में जनहित याचिका दायर कर मांग की है कि सभी समाचार संगठनों को निर्देश दिया जाए कि उनके यहां भारतीय नागरिक को ही संपादक रखा जाए। दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश डी. मुरुगेसन व न्यायमूर्ति जयंतनाथ ने इस जनहित याचिका पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और ऑफिस ऑफ रजिस्ट्रार ऑफ न्यूजपेपर के रजिस्ट्रार को नोटिस जारी कर जवाब मागा है। अब इस मामले में 24 जुलाई को सुनवाई होगी।

बार्क के पहले सीईओ बने पार्थो सेनगुप्‍ता

टेलीविजन रेटिंग प्‍वाइंट को लेकर लंबे समय से टैम के ऊपर अंगुलियां उठती रही हैं. इस रेटिंग को ज्‍यादा निष्‍पक्ष बनाने के लिए ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्स काउंसिल (बार्क) के गठन की कोशिशें चल रही हैं. सूचना एवं प्रसारण सचिव उदय वर्मा ने मार्च 2014 तक बार्क के गठन करने की बात कही थी. इसी कड़ी में नया कदम उठाते हुए बार्क के सीईओ के पद पर पार्थो दासगुप्‍ता की नियुक्ति की गई है. पार्थो बार्क के पहले सीईओ होंगे.

अंबाला के कुछ पत्रकारों ने मेरे खिलाफ साजिश रची है : केवल बिन्द्रा

आदरणीय यशवंत जी, बड़े दुख के साथ आपको सूचित कर रहा हूं कि आपके वेबसाइट पर अंबाला के पत्रकार के साथ दुर्व्‍यवहार को लेकर जो समाचार छपा है वह बिल्कुल झूठा तथा बेबुनियाद है। हमारे देश में पत्रकारिता को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ समझा जाता है और लोकतंत्र को मजबूत बनाये रखने में इस तंत्र का सबसे बड़ा योगदान है। परंतु बडे अफसोस की बात है कि जिस प्रकार एक मछली सारे तालाब को गंदा कर देती है उसी प्रकार चंद लोग अपने स्वार्थों और अहम की खातिर इस स्तंभ को भी दूषित करने में लगे हुए हैं और अपनी मनमर्जी से दूसरे व्यक्ति पर इल्जाम लगाकर झूठी वाहवाही लूटने पर उतारू हैं।

उग्रवादियों से जुड़े मिले चिटफंड के तार

माओवादियो, अल्फा, जेहादियों, उग्रवादियों और आतंकवादियों से चिटफंड के तार जुड़े हैं। कब तक सोती रहेंगी सुरक्षा एजंसियां? शारदा समूह के बारे में जो खुलासा विभिन्न राज्यों से हो रहा है, वह बेहद गंभीर है। अब हालत यह है कि चिटफंड का मामला सिर्फ देश के आर्थिक प्रबंधन का मामला नहीं रह गया है। यह देश की एकता और अखंडता के लिए भी चुनौती बन गया है। राजनीतिक अस्थिरता पैदा करने में भी चिटफंड ने ​​अहम भूमिका निभायी है।

मेरठ के बाजार में पहुंचा नेशनल दुनिया, लांचिंग कार्यक्रम दोपहर में

एसबी समूह का अखबार नेशनल दुनिया मेरठ से लांच कर दिया गया. अखबार से जुड़े वरिष्‍ठ सूत्रों का कहना है कि लगभग चालीस हजार कॉपियों के साथ अखबार की लांचिंग की गई है. अखबार को मार्केट में ठीक ठाक रिस्‍पांस मिला है. आज सुबह ही मेरठ के मार्केट में अखबार लांच हो गया. हालांकि लांचिंग का आधिकारिक कार्यक्रम अपराह्न में तय किया गया है. दोपहर में धूमधाम से अखबार की लांचिंग की जाएगी.

इंदौर में संपादकीय तक सिमटे कल्‍पेश याज्ञनिक, नवनीत देखेंगे नेशनल न्‍यूज रूम!

दैनिक भास्‍कर से खबर है कि कल्‍पेश याज्ञनिक की पॉवर को अब सीमित कर दिया गया है. नवनीत गुर्जर के साथ मिलकर भास्‍कर के कई वरिष्‍ठों के लिए असहज स्थिति पैदा करने वाले कल्‍पेश अब खुद इस असहज स्थिति के शिकार बन रहे हैं. भोपाल में नेशनल न्‍यूज रूम समेत कई जिम्‍मेदारियां संभालने वाले कल्‍पेश को अब केवल इंदौर तक सीमित कर दिया गया है. कभी उनके खास साथी रहे नवनीत गुर्जर को नेशनल न्‍यूज रूम की जिम्‍मेदारी दी गई है.

एनएनआईएस के पत्रकारों ने डीएम को लिखा पत्र, 11 को देंगे धरना

अरुप घोष द्वारा संचालित न्‍यूज एजेंसी एनएनआईएस से जुड़े संवाददाताओं को एक साल से अधिक समय तक का पैसा नहीं मिला है. कंपनी की तरफ से लगातार मिल रहे आश्‍वासन से परेशान कर्मचारी अब अपने हक की लड़ाई लड़ने के लिए सड़क पर उतरने की तैयारी कर रहे हैं. इसलिए उन्‍होंने गौतमबुद्धनगर के डीमए को पत्र लिखकर 11 मई को एनएनआईएस के कार्यालय के सामने धरना देने की जानकारी दी है.

आरके मिश्रा को फिर से सीबीआई में लाया जाए : सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने केंद्र सरकार और सीबीआई को आदेश दिया कि वे कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले में जांच अधिकारी रहे आईपीएस अधिकारी रविकांत मिश्रा को फिर से सीबीआई में लाने के लिए तत्काल कदम उठाएं। ओडिशा कैडर के 1998 बैच के आईपीएस अधिकारी मिश्रा उन चार उप-महानिरीक्षकों (डीआईजी) में थे जो कोयला ब्लॉक आवंटन में कथित अनियमितता के मामलों की जांच कर रहे थे। सीबीआई में प्रतिनियुक्ति पर तीन साल बिताने के बाद मिश्रा को खुफिया ब्यूरो (आईबी) में भेज दिया गया था।