प्रणय राय के खिलाफ विनोद दुआ की भड़ास… देखें स्क्रीनशाट… ताकि सनद रहे…

यहां हम विनोद दुआ के लिखे का स्क्रीनशाट दे रहे हैं. कल को दुआ जी अपनी पोस्ट फेसबुक से हटा दें तो ये न कहा जा सके कि भड़ास वालों ने दुआ साहब की गलत भड़ास प्रकाशित की है… देखना है कि अपने गुस्से का विनोद दुआ सार्थक, यानि मीडिया में ट्रांसपैरेंसी लाने बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करते हैं या फिर अपने निज हित खातिर निहित स्वार्थी खुन्नस ही निकालते रह जाते हैं..

विनोद दुआ जी, ”पोलिटिकल करियर आन टीवी” नामक चीज क्या है?

विनोद दुआ ने एफबी पर जो कुछ स्टेटस डाले हैं प्रणय राय के खिलाफ, उसमें एक जगह उन्होंने लिखा है … Or else we shall seek you out for tryiing to put an end to my political carrer on TV…. माई पोलिटिकल करियर आन टीवी…. यह तो नई जानकारी है… टीवी पर या टीवी में पोलिटिकल करियर!!! ट्विटर पर शिव मिश्रा ने विनोद दुआ को इस नायाब जानकारी को बाहर लाने के लिए धन्यवाद दिया है, कुछ यूं…

कुछ समझ में आ रहा है ”तेल-खेल-फिल्म-मीडिया-राजनीति-व्यापार-धन” का समीकरण….??

Yashwant Singh : वीरप्पा मोइली ने कहा है कि तेल आयात लाबी उन जैसे पेट्रोलियम मंत्रियों को धमकाती हैं…

मुकेश अंबानी देश में तेल के बड़े कारोबारी हैं…

अंबानी का पैसा राजीव शुक्ला की पत्नी अनुराधा प्रसाद की कंपनियों में लगा है..

इलाहाबाद में बदमाशों ने थानेदार को दिनदहाड़े मार डाला

इलाहाबाद। लचर कानून व्यवस्था के कारण खाकी कमजोर साबित हो रही है जबकि अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं। 14 जून को बदमाशों ने यमुनापार के बारा क्षेत्र में दिनदहाड़े एक थानेदार को गोली मार मौत के घाट उतार दिया। सुबह इलाहाबाद-बांदा मार्ग पर बिरहिया गांव के सामने बदमाशों की ताबड़तोड़ फायरिंग से आसपास का इलाका दहल गया। कार पर सवार बदमाश बारा थाना के एसओ राजेंद्र प्रसाद दुबे को मार डालने के बाद बड़ी आसानी से मौके से निकल जाने में कामयाब भी रहे।

दिलीप अवस्थी दिल्ली तलब होंगे और आशुतोष शुक्ला बनेंगे नए आरई?

लखनऊ : नवभारत टाइम्‍स की लखनऊ में दस्‍तक ने यहां के जमे-जमाए प्रमुख अखबारों के सम्‍पादकों की कुर्सी हिला दी है। हिन्‍दुस्‍तान के आरई नवीन जोशी की कुर्सी हिलने के बाद अब दैनिक जागरण के आरई दिलीप अवस्‍थी का भविष्‍य भी नभाटा से जुड़ गया है। आशुतोष शुक्‍ल के लखनऊ के आरई होने की चर्चा है। कहा जा रहा है कि नभाटा ने अगर जागरण को कोई बड़ा नुकसान कर दिया तो फिर डैमेज कंट्रोल आसान नहीं होगा।

जागरण छोड़ संदीप भी पहुंचे नभाटा, रोहित भी जाएंगे

लखनऊ : दैनिक जागरण लखनऊ के चीफ फोटोग्राफर संदीप रस्‍तोगी ने शुक्रवार को संस्‍थान से इस्‍तीफा देकर नवभारत टाइम्‍स ज्‍वाइन कर लिया। जागरण की सिटी टीम का हिस्‍सा रोहित मिश्रा का भी इस्‍तीफा एक दो दिन के भीतर होना तय है। नभाटा में उनका भी चयन हो गया है। जागरण लखनऊ से लोकल टीम से कुल सात संवाददताओं ने नभाटा के लिए अप्‍लाई किया हुआ था, जिनमें से रोहित को छोड़कर शेष सभी छह खारिज हो गए हैं। इनमें से एक संवाददाता ने दोबारा टेस्‍ट लेने का अनुरोध किया है।

प्रणय राय ने मुझसे धोखा किया है, मैं उससे बदला लूंगा : विनोद दुआ

विनोद दुआ बेहद गुस्से में हैं. उन्होंने कहा है कि प्रणय राय ने उनके साथ धोखा किया है और वो इस शख्स से बदला लेकर रहेंगे. विनोद दुआ का साफ कहना है कि मैं उसे निपटा कर रहूंगा. कुछ महीने लग सकते हैं पर यह काम करके रहूंगा. प्रणय राय को विनोद दुआ ने भारतीय ब्राडकास्टिंग का चोर करार दिया है जो अमेरिका से फंडेड है.

ये विनोद दुआ को क्या हो गया, प्रणय रॉय की ऐसी तैसी कर रहे एफबी-ट्विटर पर!

विनोद दुआ और एनडीटीवी एक दूसरे के पर्याय से लगते हैं. खाना-पकाना खिलाते-पिलाते-दिखाते विनोद दुआ को यह मान लिया गया था कि उनकी आगे की उम्र ऐसे ही अच्छे से खाते-गाते एनडीटीवी के सौजन्य से कट जाएगी. पर विनोद दुआ तो गुर्र र्गुर कर रहे हैं एनडीटीवी और प्रणय राय के खिलाफ. यकीन न हो तो विनोद दुआ का एफबी और ट्विटर एकाउंट पर उनकी लैटेस्ट पोस्टिंग पढ़ लीजिए. यहां कुछ दिया जा रहा है… कोई बताए कि आखिर हुआ क्या है…

केंद्रीय मंत्री का खुलासा- तेल आयात लॉबी हम पेट्रोलियम मंत्रियों को धमकाती है

नई दिल्ली: पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री एम. वीरप्पा मोइली ने सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि तेल आयात लॉबी उन्हें धमकाती है। नौकरशाही की तरफ से देरी की जाती है, विघ्न उत्पन्न की जाती हैं और अन्य लॉबियां भी यह नहीं चाहतीं कि हम आयात बंद कर दें। मोइली ने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि तेल आयात लॉबी से हर किसी पेट्रोलियम मंत्री को धमकियां मिलती रही हैं।

राजीव शुक्ला की पत्नी अनुराधा प्रसाद की पांच कंपनियों में डायरेक्टर है दिल्ली पुलिस कमिश्नर नीरज कुमार की बेटी अंकिता कुमार

आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी के सनसनीखेज खुलासों के बाद से ही सभी लोगों के दिमाग में सिर्फ एक ही सवाल कौंध रहा है कि इस पूरे प्रकरण में आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला की क्या भूमिका रही होगी? क्या दिल्ली पुलिस राजीव शुक्ला की भूमिका की भी जांच करेगी? अगर दिल्ली पुलिस ने राजीव शुक्ला की तरफ से आंखें मीच रखीं हैं तो उसके क्या कारण हैं? दबी जुबान से इन कारणों का ज़िक्र भी सभी लोग करते हैं, आशंका, संभावना और कयास भी लगाते हैं लेकिन आज तक खुल कर कह पाने की हिम्मत किसी में नहीं हुई है।

अपनी आधी उम्र से कम उम्र वाली तीसरी पत्नी को भी तलाक देंगे मीडिया मुगल मर्डोक

लंदन। मीडिया मुगल रुपर्ट मर्डोक ने अपनी तीसरी पत्नी वेंडी डेंग से तलाक लेने के लिए न्यूयॉर्क की अदालत में अर्जी दायर की हैं। अर्जी में कहा गया है कि उनके रिश्ते में इतनी दरार आ गई है जिसे भरा नहीं जा सकता। न्यूज कारपोरेशन के मालिक मर्डोक और वेंडी की शादी 1999 में हुई थी। उनके दो बच्चे हैं। वर्ष 2011 में चाइना मूल की वेंडी उस वक्त काफी चर्चा में आई थीं जब फोन हैकिंग मामले की सुनवाई के दौरान एक व्यक्ति ने मर्डोक पर शेविंग क्रीम का झाग फेंकने की कोशिश की और वेंडी ने आगे बढ़कर उसे रोका। 82 वर्षीय मर्डोक की मेंडी से मुलाकात 1997 में हांगकांग में एक पार्टी के दौरान हुई थी। उसके दो साल बाद दोनों शादी के बंधन में बंध गए थे।

पति का आरोप- मेरी पत्नी लक्ष्मी गौतम, जो सपा विधायक है, आजकल अपने प्रेमी के साथ रह रही

चंदौसी की सपा विधायक लक्ष्मी गौतम के पति दिलीप वार्ष्‍णेय का कहना है कि उनकी पत्नी लक्ष्मी जो विधायक हैं, आजकल अपने प्रेमी मुकुल अग्रवाल के साथ रह रही हैं। सपा विधायक लक्ष्मी गौतम के पति दिलीप वार्ष्‍णेय रात के अंधेरे में टीडीआई सिटी कालोनी में के ई ब्लाक के फ्लैट में कुछ लोगों के साथ पहुंचे। फ्लैट में चंदौसी के मुकुल अग्रवाल को देखकर वह भड़क गए उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

रिपोर्टर बनाने वाले हर विज्ञापन सही नहीं होते, पढ़िए इस लड़की की दास्तान

आए दिन यहां वहां अखबार, मैग्जीन, वेबसाइट में रिपोर्टर-पत्रकार बनाने के विज्ञापन छपते रहते हैं. ऐसे सभी विज्ञापन सच नहीं होते. अब तो बदमाशों ने यह तरीका अपना लिया है और रिपोर्टर बनाने के नाम पर मासूमों का शोषण करने लगे हैं. आगरा में ऐसे ही एक प्रकरण में एक लड़की के साथ बहुत अत्याचार किया गया.

नंबर दो पर ‘एबीपी न्यूज’ और ‘इंडिया टीवी’ दोनों चैनल

23वें हफ्ते की टीआरपी में नंबर दो की पोजीशन पर दो न्यूज चैनल हैं. एबीपी न्यूज और इंडिया टीवी दोनों ही दूसरे पायदान पर हैं क्योंकि दोनों के स्कोर 15.3 हैं. इंडिया टीवी 1.3 गिरकर 15.3 पर पहुंचा है जबकि एबीपी न्यूज 0.2 चढ़कर नंबर दो पर कायम है. डीडी न्यूज ने जोरदार बढ़त ली है और पांचवें नंबर का चैनल बन चुका है. न्यूज24 पर टामियों की कृपा कायम है. शुक्लाजी जबसे मंत्री बने हैं तबसे न्यूज24 की बल्ले बल्ले है. आजकल सरकार की नजर टैम पर तिरछी है तो डीडी न्यूज की भी टीआरपी ठीकठाक आ रही है. आंकड़े इस प्रकार हैं..

एक न्यूज चैनल में भड़ैती के कुछ सीन (पार्ट पांच)

बदतर प्रदेश के सेक्रेटरी मित्तल साहब ने ऐसी मेहरबानी दिखाई कि कुम्भ मीडिया सेंटर में तमाम हेर-फेर और घपलों घोटालों के बावजूद परमातमम ग्रुप को पेमेंट का चेक मिल चुका था। श्रेय किसे मिलना चाहिए, इस बात को लेकर होड़ लगी हुई थी। गजगोबर सिंह घूम-घूम कर चारों तरफ गाता घूम रहा था, घूमते-घूमते वो टेक्निकल हेड पीदक सेन जी के क्यूबिकल में पहुंचा और बोला- ‘टच वुड भगवान जी कृपा है… हनुमान की कृपा है चेक मिल गया… अब कोई साला रिट लगाए या आरटीआई डाले, हमें जो काम करना था वो पूरा हो गया… आज की डेट में तो हम गारनटी के साथ कह सकते हैं … अभी दो चार महीने अपनी नौकरी पक्की…. बाकी बाद में देखा जाएगा…''

श्री कुमार स्वामी के खिलाफ एफआईआर के लिए दी गई शिकायत पढ़ें

सेवा में, थाना प्रभारी, गोमती नगर, लखनऊ, विषय: श्री ब्रह्मर्षि कुमारस्वामी के विरुद्ध औषधि एवं चमत्कारिक उपचार (आपत्तिजनक विज्ञापन) अधिनियम, 1954 की धारा  7 तथा भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्रथम सूचना रिपोर्ट लिखवाने हेतु

श्री कुमार स्वामी के खिलाफ लखनऊ में तनया और आदित्य ने एफआईआर दर्ज कराया

एलएलबी द्वितीय वर्ष की छात्रा तनया ठाकुर और उनके भाई कक्षा 12 के छात्र आदित्य ने आज ब्रह्मर्षि श्री कुमारस्वामी नामक धर्मगुरु के खिलाफ लखनऊ के गोमती नगर थाने में औषधि एवं चमत्कारिक उपचार (आपत्तिजनक विज्ञापन) अधिनियम, 1954 की धारा 7 एवं भारतीय दंड संहिता की धारा 419 व 420 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कराया. श्री कुमारस्वामी भगवान श्री लक्ष्मी नारायण धाम से सम्बन्ध रखते हैं.

सरस्वती पुत्र के लिये लक्ष्मी पुत्र बनने की चाह त्यागें : हुसैन

नीमच। पत्रकारिता संघर्ष का रास्ता है, जिसको सरस्वती पुत्र बनना है वह पत्रकार बनता है। इस मार्ग पर लक्ष्मी पुत्र बनने की चाह का त्याग करना पड़ता है। यह संघर्ष का रास्ता है। इस पर चलना कठिन है, जो चलते है वे आगे पहुंच जाते है। उक्त विचार ख्यातिनाम पत्रकार पद्मश्री मुजफर हुसैन ने वीणा गोपाल ट्रस्ट के बैनर पर आयोजित पत्रकारिता सम्मान समारोह में अपने मित्र वरिष्ठ पत्रकार व मीसाबंदी स्व.  गोपाल खण्डेलवाल को श्रद्धा पुष्प अर्पित करते हुए व्यक्त किये।

तेजी से पकने लगी तीसरे मोर्चे की ‘खिचड़ी’

भाजपा में नरेंद्र मोदी का राजनीतिक कद बढ़ते ही, एनडीए में दरार का संकट और गहरा गया है। भाजपा और जदयू का गठबंधन खतरे में फंस गया है। जो तैयारियां हैं, उनको देखते हुए आसार यही हैं कि अगले 36 घंटों में जदयू, भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए से कुट्टी करने का फैसला ले लेगा। मोदी प्रकरण की आंच से जदयू नेतृत्व के तेवर काफी गर्म हो गए हैं। ऐसे में जदयू सुप्रीमो शरद यादव ने नया राजनीतिक विकल्प तलाशने की बात स्वीकार की है।

4रीयल न्यूज में यश मेहता साइडलाइन, बीरेंद्र को कमान

'4रीयल न्यूज' से एक बड़ी सूचना आ रही है कि यहां अब तक सर्वेसर्वा के रूप में काम देख रहे यश मेहता को साइडलाइन कर दिया गया है. उनकी केबिन में बीरेंद्र बैठ रहे हैं जो चैनल के डायरेक्टरों में से एक हैं. 4रीयल न्यूज चैनल डेरा सच्चा सौदा से संबद्ध है और डेरा सच्चा सौदा की तरफ से ही यश मेहता, बीरेंद्र आदि को चैनल का कामधाम देखने के लिए नोएडा बिठाया गया है.

शाश्वत चिंतन :: इस ‘रेवड़’ के लिए ‘सुरक्षित चरागाहें’ कहां हैं?

जहाँ तक मुझे याद पड़ रहा है करीब दो दशक हुये देश के नीति निर्माताओं ने प्रचार शुरू किया कि भारतीय अर्थव्यवस्था में ऐसा उफान आने वाला है जो न भूतो न भविष्यत होगा। उस समय बहती गंगा में हाथ वही धो पायेंगे, जिनके पास उन अवसरों को लपकने लायक डिग्रियाँ होंगी। तरह-तरह के लेख और प्रचार सामग्री इस बाबत अखबारों और बाकी मीडिया में आने लगीं जिससे ऐसा माहौल बना मानो, भारतीय अर्थव्यवस्था में तमाम ऐसे नये क्षेत्र खुलने ही वाले हैं, जिनमें बड़ी संख्या में युवक-युवतियाँ खपेंगे।

कांग्रेस नेता और उसके भाई ने पत्रकार को धमकाया

: विक्रम आंजना के खिलाफ थाने में दिए आवेदन वापस लेने के लिए बनाया दबाव, बोले दोनों भाई- तेरी हत्या करवा देंगे : पत्रकार मूलचंद खींची ने कैंट थाने में दर्ज कराई शिकायत :  नीमच । कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर और उसके भाई दिनेश अहीर द्वारा पत्रकार मूलचंद खींची को धमकाने का मामला सामने आया है। राजस्थान छोटीसादगड़ी के विधायक उदयलाल आंजना के भानजे विक्रम आंजना के खिलाफ कैट थाने में पत्रकार खींची ने शिकायत दर्ज करवाई थी, उसी शिकायत को वापस लेने के लिए पत्रकार पर दबाव बनाया और हत्या करवाने की धमकी दी।

आज़म खान बॉस्टन बदसलूकी- यूएस सरकार अन्यमनस्क

जहाँ वाशिंगटन स्थित भारतीय उच्चायोग और न्यू योर्क स्थित महावाणिज्य दूतावास ने उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री आज़म खान के 24 अप्रैल 2013 को लोगन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा, बोस्टन पर अमेरिकी कस्टम एवं बोर्डर प्रोटेक्शन बल के अधिकारियों द्वारा बदसलूकी के मामले को बहुत तत्परता के साथ अमेरिकी विदेश विभाग के सामने उठाया था, वहीँ अमेरिकी अधिकारी इस मामले में कोई विशेष सरोकार दिखाते नहीं नज़र आ रहे हैं.

पत्रकार ने बनारस के एसएसपी के खिलाफ प्रेस काउंसिल चेयरमैन और यूपी के डीजीपी को पत्र लिखा

सेवा में, माननीय मारकंडेय काटजू, अध्यक्ष, भारतीय प्रेस परिषद, नई दिल्ली , विषय –  वाराणसी के एसएसपी अजय मिश्र द्वारा विद्वेषपूर्ण ढंग से पत्रकारों पर दर्ज किये  गए मुकदमे की विवेचना गैर जनपद अथवा स्वतंत्र जाँच एजेंसी से कराने तथा दोषी पुलिस कर्मियो के विरुद्ध आवश्यक क़ानूनी कार्यवाही करने के सम्बन्ध में, महोदय, प्रार्थी राम सुंदर मिश्र पुत्र श्री ज्ञान दत्त मिश्र निवासी बी 2/245 A भदैनी, थाना भेलूपुर,जनपद वाराणसी का रहने वाला है तथा पेशे से पिछले 14 वर्षो से पत्रकारिता कर रहा है। जी टीवी, एस टीवी, हमार टीवी, ज़ी न्यूज़ उत्तर प्रदेश / उत्तराखंड में कार्य करने के उपरांत वर्त्तमान में न्यूज़ स्ट्रीट ब्राडकास्ट प्राईवेट लिमिटेड में स्ट्रिंगर रिपोर्टर है। प्रार्थी आपसे निम्न निवेदन कर रहा है-

गांव के दबंगों ने शादी की जिद पर अड़ी प्रेमिका को जला डाला

देवरिया : जिले में प्यार के दुश्मन दबंगों ने प्यार करने वाले प्रेमी और प्रेमिका के प्यार पर पहरा लगा दिया और जब देखा कि दोनो नहीं मान रहे है तो गांव में एक पंचायत बुलाई। पंचायत के दौरान गांव वालों के सामने पहले प्रेमी और प्रेमिका की पिटाई की तथा बाद में प्रेमिका की मां को भी दो-चार चाटा मार कर उसे मुंह बन्द करने की हिदायत दी। लेकिन उसके बाद भी जब प्रेमिका और उसकी मां शादी की जिद पर अड़े रहे तो न रहेगा बांस न बजेगी बांसुरी की कहावत चरितार्थ करने के लिए एक दबंग ने प्रेमिका के घर में घुस कर उस पर मिटटी का तेल छिड़क कर उसे आग के हवाले कर दिया।

पत्रकारों की गोष्ठी में रिजवान अहमद बोले- पुलिस और जीआरपी की छवि आम जन में ठीक नहीं है

राजकीय रेलवे पुलिस के महानिदेशक रिजवान अहमद ने पत्रकारों से कहा है कि वह अपने दायित्वों का इमानदारी से निर्वहन करें क्योकि उनकी कलम में बड़ी ताकत है। समाज को दिशा देने तथा समाज के उत्थान में उनकी अहम भूमिका है। उन्होने कहा कि पत्रकारों को अपनी खबर को सावधानीपूर्वक चलाना चाहिये तथा ऐसी खबर से बचना चाहिये, जिससे सामाजिक विद्वेष फैले। राजकीय रेलवे पुलिस के महानिदेशक ने विभाग के भ्रष्ट व कामचोर पुलिस कर्मियों के विरूद्ध जंग का ऐलान करते हुये चेतावनी दिया कि वह ऐसे लोगो को विभाग में नहीं रहने देंगे।

बनारस और चंदौली में दो पत्रकारों से लूट, यूपी में कानून-व्यवस्था की हालत खस्ता

यूपी में ला एंड आर्डर की हालत दिन प्रतिदिन खराब होती जा रही है. अब तो मीडिया वाले भी दहशत में आ गए हैं. कब कौन कहां लुट जाए, कुछ नहीं पता. ताजी सूचना के मुताबिक यूपी के बनारस और चंदौली जिले में दो पत्रकारों से लूट की वारदात हुई. वाराणसी में बदमाशों ने दैनिक जागरण के पत्रकार विजय सिंह के साथ मारपीट कर सोने की चेन, ब्रेसलेट, तीन अंगूठी व 25 हजार रुपये लूट लिए.

शशांक शेखर सिंह का जाना

जिस व्यक्ति की अंत्येष्ठी होने वाली थी वह कभी मेरे पसंदीदा लोगों में नहीं थे. मैं स्वयं चाहे जैसा भी होऊं- अच्छा या बुरा, नीतिपरक या अनैतिक, पर मेरे मन में हमेशा वैसे लोगों के प्रति ही सम्मान की भावना रही है जो वास्तव में विधि का उसकी सम्पूर्णता में पालन करने में विश्वास रखते हैं. उदाहरण के लिए यदि मैं कोई नाम यकबयक लूँ तो मुझे देवेश चतुर्वेदी की याद आएगी जो पिथोरागढ़ और देवरिया में मेरे जिलाधिकारी रहे थे और जिनके लिए कानून से बड़ा कुछ नहीं दिखता था.

करप्शन के एक बड़े मामले में निशंक को कोर्ट की तरफ से नोटिस

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक करप्शन के एक बड़े मामले में फंसते नजर आ रहे हैं. आय से अधिक संपत्ति को लेकर दायर एक जनहित याचिका में नैनीताल हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच ने रमेश पोखरियाल निशंक से चार हफ्ते के भीतर जवाब मांगा है. याचिकाकर्ता की तरफ से जाने-माने वकील प्रशांत भूषण अदालत में पेश हुए और निशंक पर आरोपों के बारे में बताया.

नवीन जिन्दल को खुला पत्र

प्रिय जिन्दल साहब, अभी उड़ीसा में ग्रामीणों पर आपके सुरक्षाकर्मियों द्वारा किये गये हमले के चित्र और वीडियो देख रहा था| चित्र में एक डेढ़ साल के बच्चे का टूटा हुआ पैर, एक सत्तर साल की बूढी का खून से लथपथ चेहरा| अस्सी साल के एक बूढ़े की डबडबाई आंखे और सिर से बहता खून| एक दूसरे वीडियो में अस्पताल के बिस्तर पर अपनी टूटी हुई टांग् के कारण तीन महीने तक काम पर न जा पाने की विवशता में सिसकता हुआ एक मजदूर दीख रहे हैं | ये सब देखते हुए मैं क्रोध और शर्म का अनुभव कर रहा था| इसमें शर्म मुझे खुद पर आ रही थी कि ये सब हमारे रहते हुए हो रहा है| और क्रोध किस-किस पर आ रहा था? वो इस पत्र में मैं लिखूंगा |

Zee Media Lauds CBI for FIR, Nation-wide Probe on Prime Accused of Coal Gate Scam

New Delhi: As government considers more autonomy to the premier investigating agency, a group of thorough professionals on Tuesday registered a case under Section 120-B read with 420 of Indian Penal Code and Section 13(1) (d) of Prevention of Corruption Act (PC Act, 1988) against the then minister of state for coal Shri Dasari Narayan Rao; Member of Parliament Shri Navin Jindal, Director of Jindal Steel and Power Ltd (JSPL); four Delhi-based private firms; one Hyderabad based private firm, and others, in relation to alleged irregularities in allocation of Amarkonda Murgadangal coal block in the State of Jharkhand.

अजीत कुमार बने राष्ट्रीय उजाला में जीएम, पांच संस्करण की तैयारी

नई दिल्ली। दिल्ली के पत्रकार अजीत कुमार पाण्डेय ने तेजी से बढ़ते हुए मीडिया ग्रुप दैनिक राष्ट्रीय उजाला प्राइवेट लिमिटेड में बतौर जनरल मैनेजर ज्वाइन किया है। बता दें कि इसके पहले अजीत कुमार दैनिक जागरण, अमर उजाला और दिल्ली से प्रकाशित लोकसत्य समाचार पत्र को अपनी सेवाएं दे चुके हैं।

15 जुलाई से बंद 160 वर्ष पुरानी तार उर्फ टेलीग्राम सेवा

डाक तार विभाग में क्रमशः कम हो रहे कर्मचारियों की परिस्थितियों में छंटनी का नया बहाना मिल गया है। खुशी हो या गम, शादी हो या मौत, नियुक्ति हो या कोई बेहद जरुरी सूचना, तार लेकर डाकिये के पहुंचते ही दिलों की धड़कने बढ़ जाती थीं। कम से कम मोबाइल क्रांति से पहले यह हाल था। अब इंटरनेट क्रांति भी हो गयी। किसी को तार का इंतजार नहीं रहता और न कोई तार भेजता है।

साधना न्यूज ने मांगी राजीव शर्मा से लिखित माफी, नकद भुगतान किया

भड़ास फॉर मीडिया पर खबर छपने के बाद साधना न्यूज प्रबंधन को झुकना पड़ा. साधना न्यूज के आउटपुट एडिटर राजीव शर्मा का संघर्ष सफल हो गया है. आखिरकार साधना न्यूज के प्रबंधन को राजीव शर्मा से माफी मांगनी पड़ी. साधना के प्रबंधन ने राजीव शर्मा को एक पत्र लिख कर कहा है कि आपको दिया गया चेक संख्या 141205 कतिपय कारणों से अनादृत हो गया है जिसके लिए हम आपसे माफी मांगते हैं (…the cheque no. 141205 got dishonored due to some technical reasons. We, apolozise for the same. As discussed over the phone we hereby pay you Rs…in cash, in place of cheque no.141205.)

TV18 launches News18 India

TV18 Broadcast, India’s premier news and entertainment network, announced the launch of ‘Newsl8 India’, a 24-hr television news channel designed to give global audiences a window into the world’s largest democracy. Newsl8 India will be distributed in the UK and other International markets by IndiaCast, a strategic joint venture between TV18 and Viacoml8 and one of India’s largest multi-platform content aggregators. Following the entry into UK, Newsl8 India will be launching across the globe including key diaspora markets such as the US, Canada, Middle east and Australia.

स्ट्रिंगर से पैसे लेने के चक्कर में सूर्यकांत की कुर्सी गई, अनिल भास्कर मेरठ हिंदुस्तान के नए संपादक

 दैनिक हिंदुस्तान, मेरठ के संपादक सूर्यकांत द्विवेदी की कुर्सी चली गई है. सूत्रों के मुताबिक उन्हें हिंदुस्तान के दिल्ली आफिस से अटैच किया जा रहा है. मेरठ का नया संपादक अनिल भास्कर को बनाया गया है जो अभी तक हिंदुस्तान, बनारस में संपादक के पद पर काम कर रहे हैं. सूर्यकांत द्विवेदी पर मेरठ के मवाना जिले के पत्रकार संदीप नागर ने आरोप लगाया कि उनके काफी पैसे सूर्यकांत ने लिए हैं और लौटाए नहीं.

केके उपाध्याय या तीरविजय सिंह होंगे हिंदुस्तान लखनऊ के नए संपादक, नवीन जोशी पटना जाएंगे!

हिंदुस्तान में एक चर्चा बहुत तेज है कि नवीन जोशी की लखनऊ से विदाई होने वाली है. उन्हें पटना भेजे जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है. लखनऊ में कौन आएगा, इसको लेकर दो चर्चाएं हैं. या तो तीरविजय सिंह को संपादक बनाकर लखनऊ बिठाया जाएगा या फिर केके उपाध्याय को पटना से लखनऊ भेजा जाएगा. दोनों ही लोग हिंदुस्तान के प्रधान संपादक शशिशेखर के बुहत करीबी हैं.

हिन्दुस्थान समाचार ने सौंपा सुभाष निगम को राष्ट्रीय ब्यरो व अनिल वर्मा को दिल्ली का दायित्व

नई दिल्ली। हिन्दुस्थान समाचार के दिल्ली केन्द्र में पुराने व अनुभवी पत्रकारों को जोड़ा जा रहा है। पिछले दो दशक से अधिक समय तक यूनीवार्ता में काम करने वाले वरिष्ठ पत्रकार सुभाष निगम को राष्ट्रीय ब्यरो प्रमुख और एचटी मीडिया में विवाद के कारण झारखण्ड जागरण से जुड़े अनिल वर्मा को दिल्ली ब्यूरो में अच्छे-खासे मानदेय पर लाया गया है। इसके अलावा हेमन्त कुमार विश्नोई जो पहले नवभारत टाइम्स से जुड़े रहे अब कार्यकारी संपादक के नाते हिन्दुस्थान समाचार को पिछले एक साल से दिशा देने में लगे हैं।

”न्यूज 18 इंडिया” नाम से ग्लोबल न्यूज चैनल लाने वाले है नेटवर्क18 समूह

रीजनल या नेशनल नहीं, ग्लोबल न्यूज चैनल लाने जा रहा है नेटवर्क18 समूह. नाम है 'न्यूज18 इंडिया'. इस चैनल को अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा, मिडिल ईस्ट और आस्ट्रेलिया को खासकर ध्यान में रखकर लांच किया जा रहा है. चौबीसों घंटे के इस न्यूज चैनल को ग्लोबल मार्केट को ध्यान में रखकर डिजाइन किया गया है.

मनोज पमार बने बनारस के संपादक, अलीगढ़ की जिम्‍मेदारी रामकुमार को

: अनिल भास्‍कर जाएंगे मेरठ : हिंदुस्‍तान से खबर है कि अलीगढ़ के संपादक मनोज पमार को बनारस का संपादक बनाया गया है. अलीगढ़ में एनई रामकुमार को नया संपादकीय प्रभारी बनाया गया है. सूत्रों का कहना है कि कल मनोज पमार को विदाई दी गई वहीं रामकुमार का स्‍वागत किया गया. रामकुमार लंबे समय से हिंदुस्‍तान से जुड़े हुए हैं. उन्‍होंने अपना प्रभार संभाल लिया है. 

‘चैनल वन’ के न्यूज डायरेक्टर संजय पाठक समेत 18 पत्रकारों का इस्तीफा!

एक बड़ी खबर 'चैनल वन' से आ रही है. बताया जा रहा है कि इस चैनल के संपादक संजय पाठक समेत 18 पत्रकारों ने एक साथ चैनल से वाकआउट कर दिया है. कुछ लोगों का कहना है कि इन लोगों ने इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफे की वजह क्या है, इस बारे में भी अलग-अलग दृष्टिकोण सामने आ रहे हैं.

मंत्री जी कहिन- ”मायावती जैसी बदसूरत औरत को आप लोग पांच साल कैसे झेल सकते हो?” (देखें वीडियो)

महिलाओं के सम्मान और गरिमा को लेकर प्रदेश के राजनेता पूरी तरह लारवाह बने हुये है। यहां तक प्रदेश की पूर्व महिला मुख्यमंत्री के लिए भी राजनेता गलत शब्दों और भावों का सार्वजनिक प्रयोग करने मे पीछे नहीं है। उ.प्र. सरकार के पर्यटन मंत्री और सपा के प्रदेश महासचिव ओम प्रकाश सिंह ने भी सार्वजनिक भाषण के दौरान कुछ ऐसा ही कारनामा किया है।

यूपी के कैबिनेट मंत्री ने मायावती के लिए यह क्या कह डाला! (देखें वीडियो)

Shambhu Dayal Vajpayee : उप्र के पर्यटन मंत्री ने गाजीपुर में जनसभा में कहा कि '' आप लोग मायावती जैसी बदसूरत औरत को पांच साल झेल सकते हो तो ………'' । ये मंत्री कोई ओम प्रकाश बताये जाते हैं। क्‍या ऐसे शख्‍स को मंत्रि परिषद से बर्खास्‍त कर आपराधिक धाराओं में मामला नहीं चलाया जाना चाहिए ? आप निजी तौर किसी से नफरत कर सकते हैं, उसके विचारों से असहमत हो सकते हैं , पर क्‍या आप अखिलेश सरकार के मंत्री हैं , इस लिए एक बडी पार्टी की प्रमुख और तीन तीन बार मुख्‍यमंत्री रह चुकीं सम्‍मानित नेता को कुछ भी कहने की छूट दी जानी चाहिए ?

अथ श्री महाफिक्सर कथा

जब मैं आचार्य सत्यवचन से मिलने पहुँचा तो वे किसी असंतुष्ट नेता की तरह पके हुए बैठे थे। मुझे पता नहीं था किस वजह से, पंडिताइन से झगड़े के कारण या किसी यजमान द्वारा मनचाही दक्षिणा न दिए जाने के चलते। मगर जैसे ही मैंने आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग का ज़िक्र छेड़ा वे ऐसे फट पड़े, जैसे मोदी को फेंकू या राहुल को पप्पू कहने पर उनके समर्थक फट पड़ते हैं। कहने लगे-ये टीवी अख़बार वाले नादान हैं, नालायक हैं। कुछ अता-पता है नहीं, बस दिन-रात फिक्सिंग का रोना लिए बैठे हैं।

जिस भी घर की ये बहू है, उस घर को उसका ये ‘पब्लिक नाच’ स्वीकार है तो फिर पल्लू की बाधा क्यों? (देखें वीडियो)

Shruty Dubey : जरा इस नृत्य को देखिए…क्या आपको नहीं लगता कि ये लड़की कमाल की डांसर है…भले ही वो एक चालू फिल्मी गीत पर डांस कर रही है…लेकिन उसके हाव भाव, भंगिमाएं, डांस स्टेप्स लाजवाब है। मगर इसी बीच..अपने आपको नृत्य में खो देने के बावजूद वो अपने सिर का पल्ला बार बार…कई बार सहेजती नजर आ रही है। सिर पर आखिर इतना बोझ क्यों…क्यों नहीं सिर पर लदा पल्ला फेंककर वो सुधबुध खोकर नाच में डूब जाए…

शशांक शेखर सिंह के माथे पर मोहिंदर सिंह की मौत अमिट दर्ज है

Kumar Sauvir : शशांक शेखर सिंह के लिए ही शायद छन्नूलाल जी ने यह लाइनें गायीं हैं:- सोना साथ जाएगा ना चांदी जाएगी। सजधज के जिस दिन मौत की शहजादी आयेगी। कहने वाले लोग तो तब भी शशांक शेखर सिंह पर खूब मर्सिया पढ़ते थे और आज भी पढ़ रहे हैं। कहते हैं कि लाखों करोड़ की लूट और करीब 25 हजार करोड की सम्पत्ति वाले यूपी के आईएएस अफसरों को कुत्ता बना डालने वाले शशांक शेखर सिंह के माथे पर मोहिंदर सिंह की मौत अमिट दर्ज है।

पीटीआई को ढेर सारे पत्रकार चाहिए, आवेदन करें

जानी-मानी न्यूज एजेंसी पीटीआई उर्फ प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया को ढेर सारे पत्रकारों की जरूरत हैं. पर पीटीआई को पत्रकार उसकी अंग्रेजी सर्विस के लिए चाहिए और दिल्ली में चाहिए. न्यूज़ कॉर्डिनेटर, कॉपी एडिटर्स / रीराइट पर्सन, सीनियर कॉरसपोंडेंट / रिपोर्ट्स और प्रोबेशनरी जर्नलिस्ट के लिए वैकेंसी है.

टैम और टामियों से दूर भागने लगे टीवी वाले, श्रीअधिकारी ब्रदर्स ने बोला गुडबॉय

टीआरपी और टैम के बवाल से अब ढेर सारे चैनल पीछा छुड़ाने लगे हैं. लंबा चौड़ा पैसा देकर टैम में शामिल होना टीवी वालों को अब अच्छा नहीं लग रहा है. इसी कारण कई चैनलों ने टैम को गुडबाय बोलना शुरू कर दिया है. श्रीअधिकारी ब्रदर्स टेलिविजन नेटवर्क लिमिटेड के तीनों चैनल मस्ती, दबंग और धमाल टैम रेटिंग से बाहर हो गए हैं.

‘आज समाज’ अखबार में सेलरी संकट गहराया

चंडीगढ़। कांग्रेसी नेता विनोद शर्मा के अखबार के कर्मचारी इन दिनों काफी परेशान हैं. इन्हें कई माह से सेलरी नहीं मिली है. कर्मचारियों को सेलरी के नाम पर आए दिन आश्वासन दिए जा रहे हैं. कर्मचारियों को तीन-तीन माह तक की सेलरी नहीं मिल पा रही है. अप्रैल माह की सेलरी अभी तक लटकी है. एक के बाद एक रिपोर्टर और मार्केटिंग वाले संस्थान छोड़ छोड़ कर भाग रहे हैं. अखबार के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट दत्ता भी अब अखबार को बॉए बाए कह गए हैं. इसको अखबार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है.

प्रभा वर्मा के अखबारी फर्जीवाड़े पर डीएवीपी की गाज

देहरादून। कई अखबार ऐसे हैं जो सिर्फ डीएवीपी की वेबसाइट पर नजर आते हैं, जनता के बीच कतई नहीं. इन समाचार पत्रों को चलाने वाले सम्पादक राज्य सरकार से विज्ञापनों का खेल बड़े पैमाने पर खेल रहे हैं और राज्य सरकारें भी फाइलों तक सीमित होने वाले इन अखबारों को मोटे विज्ञापन देकर इनकी झोली भर रही है.

तब शशांक शेखर सिंह ने हेलीकॉप्टर मंगा दिया और हम कुछ घंटे में दिल्ली पहुंच गए

Sanjaya Kumar Singh : मसूरी में रेजडेंसी मनोर के उद्घाटन के मौके पर मैं उस समय की उत्तर प्रदेश सरकार के प्रायोजित दौरे पर गया था। उसी समय यूपी एयर का उद्घाटन हुआ था और पहली उड़ान लखनऊ से देहरादून की थी और फिर हमलोग सड़क मार्ग से मसूरी गए थे। दिल्ली से लखनऊ जाने से समय हमें बताया गया था कि शाम को वापस दिल्ली आ जाना है पर वहां पहुंचकर पता चला कि वहीं रुकने का कार्यक्रम था। नए पांच सितारा होटल में ठहरना किसे बुरा लगता। कोई आने को तैयार नहीं था। पर मैं रुकना नहीं चाहता था।

ट्रेन पर डेढ़ सौ नक्सलियों का धावा, ड्राइवर अगवा, आरपीएफ जवान शहीद

धनबाद पटना इंटरसिटी ट्रेन पर नक्सलियों द्वारा कब्जा किए जाने की सूचना है. आरपीएफ और नक्सलियों के बीच फायरिंग शुरू हो गई है. ट्रेन के गार्ड को गोली लगी है. एक यात्री की मौत होने की जानकारी मिली है. दर्जनों लोग घायल हैं. नक्सलियों की संख्या करीब डेढ़ सौ बताई जा रही है.

ज्योतिषियों और स्वघोषित धर्मगुरुओं के लिए सरकारी नियामक की मांग

आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ने प्रधानमंत्री से ज्योतिषियों और स्वघोषित धर्मगुरुओं के लिए सरकारी नियंत्रक संस्था बनाए जाने की प्रार्थना की है. उनका कहना है कि भारत में काफी बड़ी संख्या में ज्योतिषि और स्वघोषित धर्मगुरु हैं जिनका लोगों पर पर्याप्त प्रभाव है. इनमे से ज्यादातर लोग अपनी सेवाओं के बदले लोगों से विभिन्न रूपों में धन प्राप्त करते हैं, अतः इनके कार्यों को प्रोफेशन (व्यवसाय) कहा जा सकता है. 

एक हैं संजय सिन्हा, आजतक न्यूज चैनल में वरिष्ठ पद पर हैं

Shambhunath Shukla : सोना जाने कसे और आदमी जाने बसे! … मेरे एक मित्र पत्रकार हैं संजय सिन्हा। आजतक न्यूज चैनल में वरिष्ठ पद पर हैं। मेरे शुभचिंतक हैं और मैं अपनी गमी व खुशी उनसे जरूर बाटता हूं। बिंदास और हरदम खुश रहने वाले संजय सिन्हा मुझसे कोई दस बरस छोटे होंगे। पर जब वे आईआईएमसी से पत्रकारिता की डिग्री लेकर जनसत्ता में काम करने आए तो मेरे साथ ही उन्हें लगाया गया। लंबी काया के गोरे चिट्टे संजय किसी फिल्मी हीरो से कम नहीं लगते थे। वे जब आफिस आते तो उनके साथ लड़कियों का झुंड भी आता जो जनसत्ता में ट्रेनिंग के लिए नहीं, संजय का सानिध्य पाने के लिए आतीं।

वरिष्ठ पत्रकार विजय कुमार को पत्नी शोक

यशभारती से सम्मानित वरिष्ठ पत्रकार विजय कुमार की पत्नी श्रीमती शारदा देवी का बुधवार की रात देहान्त हो गया। श्रीमती शारदा देवी लम्बे अरसे से हृदय रोग से पीड़ित थीं और पिछले दिनों उनकी बाईपास सर्जरी भी हुई थी। श्रीमती शारदा देवी ने गाजीपुर शहर के बड़ीबाग स्थित अपने आवास पर अन्तिम सांस ली। वरिष्ठ पत्रकार विजय कुमार की धर्मपत्नी के निधन से जिले के साहित्य और पत्रकारिता जगत में शोक की लहर है।

‘तू रोज अपनी फोटो अपने अखबार के पहले पेज पर छाप, तू पार्षद का चुनाव भी जीत जाए तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा’

Shambhunath Shukla : बात १९७३ की है। हमारे एक परिचित सज्जन कानपुर से कांग्रेस के टिकट पर विधायकी का चुनाव लड़ रहे थे। यह वह जमाना था जब लोग कुछ हजार खर्च कर चुनाव लड़ लेते थे। वे सज्जन थे तो ईमानदार पर एक तो वे छात्र राजनीति से निकले थे दूसरे कभी समाजवादी युवजन सभा के अध्यक्ष रह चुके थे इसलिए उनकी छवि एक दबंग और गुंडे की ज्यादा थी। जबकि उन बेचारों ने कभी पंखुरी भी न मारी होगी पर इमेज एक तीरंदाज की। उन दिनों कानपुर में एकमात्र बड़े अखबार ने उनकी खबरों का बॉयकाट शुरू कर दिया। शायद अखबार चाहता था कि वे कुछ विज्ञापन दें। अब उनके पास धेला नहीं।

बुलंदशहर सेक्स रैकेट में पांच पत्रकार शामिल, पढ़िए इनके नाम

बुलंदशहर। मुम्बई दिल्ली के बाद एनसीआर के बुलंदशहर में सेक्स रैकेट का धंधा जोरों पर था। यूपी पुलिस में तैनात तेजतर्रार आईपीएस वैभव कृष्ण ने सीओ सिटी का पद सम्भालने के बाद सेक्स रैकेट का पर्दाफाश करते हुए पुलिस के कई कर्मचारी, नेताओं और पत्रकारों के चहरों को बेनकाब किया है। बुलंदशहर के होटलों में ये सेक्स रेकेट का धंधा लम्बे समय से पुलिस, नेता और पत्रकार की तिकड़ी से ऑन डिमांड चल रहा था। मामले के खुलने के बाद खुर्जा गेट चौकी इंचार्ज डीके वशिष्ठ को एसएसपी गुलाब सिंह ने लाइन हाजिर कर दिया।

टाइम्स नाऊ और ईटी नाऊ के बिजनेस हेड बने कौशिक घोष

टाइम्स टेलीविजन नेटवर्क (टीएनएन) ने कौशिक घोष को टाइम्स नाऊ और ईटी नाऊ का बिजनेस हेड नियुक्त किया है. घोष मुंबई में बैठेंगे और इन दोनों चैनलों के रेवेन्यू व ब्रांड के काम का नेतृत्व करेंगे. वे टाइम्स नाऊ, ईटी नाऊ और जूम के चीफ एक्जीक्यूटिव आफिसर (सीईओ) अविनाश कौल को रिपोर्ट करेंगे.

आठ सालों में किनारे लगाने की कई कोशिशों के दौरान आडवाणी ने तीन बार इस्तीफे के तीर चले

भाजपा के शीर्ष पुरुष समझे जाने वाले लालकृष्ण आडवाणी ने भले तमाम मनुहार के बाद इस्तीफा वापस ले लिया हो, लेकिन पार्टी को अभी पूरी तौर पर 'आडवाणी संकट' से मुक्ति मिलने के आसार नहीं हैं। क्योंकि, जिन वजहों से व्यथित होकर उन्होंने पार्टी के सभी प्रमुख पदों से इस्तीफा दिया था, उनका कोई कारगर निराकरण नहीं हो पाया है। फिर भी, 'अपनों' के चौरफा दबाव के चलते, शायद इस्तीफा वापसी के सिवाय उनके पास कोई और विकल्प ही कहां बचा था?

मीडिया में शोषण के मेरे पांच साल…

मैं कानपुर शहर में पिछले पांच सालों से पत्रकारिता कर रहा हूं. मैं आर्थिक रूप से गरीब परिवार से हूं. मेरे पिता जी इलेक्ट्रीशियन हैं जो रोजाना मुश्किल से १००-१५० रुपये ही कमा पाते हैं. कानपुर शहर के पत्रकार मेरा पिछले पांच वर्षों से शोषण कर रहे हैं. मैं जिनके यहाँ काम करता हूं वो एक नेशनल चैनल के ब्यूरो चीफ हैं. उनको न कैमरा चलाना आता है और न ही स्क्रिप्ट लिखने का काम आता है. सब काम मैं ही करता हूं.

क्या साधना न्यूज चैनल कंगाल हो गया? चेक बाउंस होना शुरू

घटिया प्रबंधन और ओछी सोच के चलते साधना न्यूज चैनल कंगाली के कगार पर खड़ा हो गया है. अब उसके खातों में अक्सर पैसा भी नहीं रहता और कर्मचारियों के चेक बाउंस हो रहे हैं. तीन जून को साधना प्रबंधन ने एडिटर आउटपुट राजीव शर्मा से सेटलमेंट  के बाद शार्प आई प्राइवेट लिमिटेड बिहार प्रोजेक्ट की मुहर लगा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, झण्डेवालान रानी झांसी रोड नई दिल्ली का एक चेक जारी किया.

दैनिक जागरण से निशांत यादव का इस्तीफा, नेशनल दुनिया के शामली ब्यूरो चीफ बने शाहनवाज अली

लखनऊ से सूचना है कि दैनिक जागरण से एक और विकेट गिरा है. यहां काम करने वाले रिपोर्टर निशांत यादव के बारे में जानकारी मिल रही है कि उन्होंने लखनऊ में ही अमर उजाला ज्वाइन कर लिया है. सूत्रों के मुताबिक दैनिक जागरण के चीफ रिपोर्टर से नाराजगी के कारण लोग लगातार दैनिक जागरण छोड़ रहे हैं.

पत्रकार बनाने के लिए पैसे जमा कराने की बात कहने वाले ठग, सावधन रहें इनसे

ठगों ने आजकल मीडिया की तरफ रुख कर लिया है. ठग तरह तरह के कारनामों से मीडिया में कमा रहे हैं. पता चला है कि कुछ लोग पत्रकार बनाने के नाम पर परीक्षा ले रहे हैं और परीक्षा के लिए हजार-दो हजार रुपये अपने बैंक एकाउंट में जमा करवा रहे हैं. यह काम वेबसाइट बनाकर धड़ल्ले से किया जा रहा है. ऐसी ही एक दुकान राष्ट्रीय समाचार पत्र बाल अंतरिक्ष के नाम से चलाई जा रही है.

दैनिक जागरण ही बताए कि अंबाला के बाकी प्रत्याशी कहां गए?

भाई यशवंत जी, मैं आपके भड़ास मीडिया का बहुत बड़ा फैन हूं। वास्तव में जिन काले चेहरों को आप बेनकाब कर आम जनता के सामने ला रहे हैं आज के समय में उसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। आज नहीं तो कल आपकी सेवा का फल पूरे देश को मजबूती के रूप में मिलेगा और मीडिया वास्तव में पुन: चौथा स्तंभ बन पाएगी। हाल ही में हुए नगर निगम चुनाव के दौरान अंबाला जाने का मौका मिला तो यहां की मीडिया की काली करतूतें देखकर दंग रह गया।

हिमाचल के बिलासपुर में पत्रकारों के बीच कई गुट, चौथा खंभा बैसाखियों के सहारे

हिमाचल प्रदेश के मध्य में बसे बिलासपुर को हिमाचल का दिल तो कहा ही जाता है लेकिन इसे संघर्षों की धरती भी कहा गया है. विस्थापन के बाद कई ऐसे संघर्ष यहां पर हुए हैं जिनसे लोगों को लाभ कम और हानि अधिक हुई है. राजनीति हो या कोई भी क्षेत्र, गुटबाजी ने बिलासपुर को हमेशा मात दी है. अब पत्रकारिता में भी तीन गुट हो गए हैं. लोग इस फूट का लाभ उठा रहे हैं.

साधना न्यूज चैनल से बीरेंद्र द्विवेदी और राजेश कुमार का इस्तीफा

साधना न्यूज के दो विकेट और गिर गये हैं. साधना न्यूज के बिहार-झारखण्ड चैनल से राजेश कुमार और मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ चैनल से बीरेंद्र द्विवेदी ने इस्तीफा दे दिया है. राजेश कुमार ने इंडिया न्यूज के साथ नई पारी की शुरुआत की है. बीरेंद्र के बारे में पता चला है कि उन्होंने साधना न्यूज के साथ-साथ मीडिया को भी तिलांजलि दे दी है.

एसएसपी अजय मिश्रा ने अब मुझे भी गिरफ्त में लेने की तैयारी शुरू कर दी : रामसुंदर मिश्रा

 आज थाना चौक का सिपाही मुझे फ़ोन करके कहा कि आपसे मिलना है… मैंने अपनी व्यस्तता बताते हुए कहा कि मैं वाराणसी कचहरी पर हूं, आप वहीं आ जाइए. जब सिपाही हमसे मिला तो उसने मुझे थाना चौक के प्रभारी वाईपी शुक्ला द्वारा जारी 160 सीआरपीसी की नोटिस थमाई. इसमें लिखा है-

ईटीवी, लखनऊ से भी एक को तोड़ा नभाटा, लखनऊ ने

लखनऊ : लखनऊ में अपनी एडोटोरियल टीम बनाने में जुटे नभाटा प्रबंधन ने ईटीवी से भी एक को तोड़ लिया है। सूत्रों का कहना है कि केवल ज्‍वाईनिंग की औपचारिकता भर बाकी है।  ईटीवी का यह संवाददाता क्राइम रिपोर्टिंग के लिए जाना जाता है और अपने पत्रकारिता जीवन की शुरुआत दैनिक जागरण से ही की थी।

तो मोहन भागवत आडवानी के बोकडी काकी हैं!

Virendra Yadav : तो आडवानी जी कोपभवन से बाहर आ गए …. पूरब में एक किस्सा प्रचलित है –"जब बोकडी (बकरी ) काकी कहलीं तब हम खाए लेहलीं ." … दरअसल हुआ यह कि परिवार में एक बुजुर्ग नाराज हो गए और कहा कि 'अब हम न खाब'.. सबने मनाया नहीं माने.

आडवाणी मुझे उस पिता की तरह लगे, जो अपने लिए बहू के दो दिन अलाट करवा रहा था

Vikas Mishra : एक फिल्म आई थी 'मातृभूमि'। जहां लड़कियों का अकाल है, लड़कों की शादियां नहीं हो रही थीं। एक घर में पांच कुंवारे बेटे थे और उनका विधुर बाप। रुपये पैसे देकर तिकड़म से वो पांचों के लिए एक लड़की ढूंढ लाया। आंगन में बंटवारा हो रहा था। एक-एक दिन एक भाई..। इस तरह बांटने पर दो दिन बचते थे। तब तक बाप बोला। सालों तुम्हें हमारी फिक्र नहीं होती। मैंने तुम्हें पढ़ाया लिखाया, तुम लोगों के लिए दुल्हन ले आया जीवन भर की सारी जमा पूंजी खर्च करके। मेरा ख्याल नहीं है तुम लोगों को।

दबंग दुनिया, मुंबई के साथ अमिताभ, मनोज, सुनील, अभिषेक, नीलम, पवन, मिलिंद की नई पारी

दबंग दुनिया, मुंबई में अमिताभ श्रीवास्तव न्यूज़ एडिटर बनाये गए हैं. वे सामना और मेट्रो सेवेन में न्यूज़ एडिटर रह चुके हैं. दैनिक भास्कर, टी वी नाइन में न्यूज़ डेस्क सम्भाल चुके मनोज सराफ ने सीनियर सब एडिटर के रूप में दबंग ज्वाइन कर लिया है.

साइना नेहवाल की बायोग्राफी लिख चुके हैं हेडलाइंस टुडे (साउथ) के नए एडिटर टीएस सुधीर

दक्षिण भारत के वरिष्ठ पत्रकार टीएस सुधीर जो हाल में ही हेडलाइंस टुडे (साउथ) के साथ बतौर संपादक जु़ड़े हैं, साइना नेहवाल की बायोग्राफी भी लिख चुके हैं. टीएस सुधीर जाने-माने ब्लॉगर हैं और दक्षिण भारत की राजनीति पर कई पुस्तकें लिख चुके हैं. दो साल पहले उन्होंने एनडीटीवी के रेजिडेंट एडिटर (साउथ) पद से इस्तीफा दिया था.

स्पोर्ट्स18 के सीईओ सतीश मेनन ने इस्तीफा दिया, वैल्यूएवल ग्रुप में सीईओ बने

नेटवर्क18 से संबद्ध स्पोर्ट्स18 के सीईओ सतीश मेनन ने इस्तीफा देकर वैल्यूएवल ग्रुप में बतौर सीईओ जुड़ रहे हैं. सतीश मेनन पांच वर्षों से नेटवर्क18 के साथ जुड़े थे. नेटवर्क 18 से पहले मेनन जी ग्रुप का हिस्सा भी रह चुके हैं. वे जी स्पोर्ट्स में स्पान्सर्शिप और बिजनेस डेवलपमेंट के अध्यक्ष पद पर कार्यरत थे.

हद है : डीएलएफ मामले में रोबर्ट वाड्रा पर आरोप को ‘गोपनीय’ सूचना मानता है पीएमओ!

डीएलएफ से जुड़े रोबर्ट वाड्रा पर लगे आरोपों के बारे में कोई भी सूचना प्रधानमंत्री कार्यालय नहीं देना चाहता है. वह इन्हें 'गोपनीय' सूचना मानता है और इन्हें आरटीआई एक्ट के तहत दिये जाने से छूट चाहता है. लखनऊ स्थित आरटीआई कार्यकर्ता नूतन ठाकुर ने डीएलएफ-वाड्रा प्रकरण में अपने द्वारा इलाहाबाद हाई कोर्ट में दायर रिट याचिका के सम्बन्ध में रूटीन सूचनाएँ मांगी थीं कि याचिका की प्रति पीएमओ में कब प्राप्त हुई और उस पर क्या कार्यवाही की गयी. साथ ही उन्होंने सम्बंधित फ़ाइल के नोटशीट की प्रति भी मांगी थी.

गाजीपुर जिले में ग्यारह साल की लड़की से रेप, पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

Braj Bhushan Dubey : 42 साल के दरिन्‍दे ने 11 साल की मासूम के साथ किया रेप। दर्ज अपराध के बाद भी पुलिस नहीं कर रही कार्यवाही। इन्‍सान किस प्रकार शैतान होता जा रहा है। इनका इलाज क्‍या है ? इस प्रकार की घटनाएं कैसे रुके, यह एक ज्‍वलन्‍त व बडे महत्‍व का प्रश्‍न है। हमारे निर्वाचन क्षेत्र के एक गांव में 5 मई को घर में अकेला पाकर एक 42 वर्ष के भेड़िये ने 11 वर्षीया दलित लड़की के साथ रेप किया।

जब संपादक गण अपने स्ट्रिंगरों से पैसा लेकर डकार जाएं तो क्या ईमानदार पत्रकार चुप रहे?

Shambhunath Shukla : फेसबुक पर लिखते रहने के कारण अपने मित्रों, रिश्तेदारों और परिवार के लोगों ने कुछ पोस्ट पर आपत्ति जताई है। मैं इसे इसलिए शेयर कर रहा हूं कि लोग बताएं कि मैं गलत हूं या वे कुछ मुगालते में हैं।

एंकर अभिज्ञान प्रकाश की कायदे से क्लास ली प्रकाश जावडेकर ने

Vineet Kumar : ये एनडीटीवी की नौकरी थोड़े ही है कि छूट जाएगी. प्रकाश जावडेकर ने आज एंकर अभिज्ञान प्रकाश की कायदे से क्लास ली. जावडेकर का कहना था कि आप संघ और बीजेपी के संदर्भ में इस तरह की हल्की बात नहीं कर सकते. कई बार एंकरों का ओवरस्मार्ट बनना भारी पड़ जाता है. यही काम कर्नाटक चुनाव के समय राजीव प्रताप रुढ़ी ने अर्णव के साथ किया था.

मैडम कल से आपको ये कपड़े न पहनने का ऑर्डर मिला है…

Ila Joshi : हाल फिलहाल में दफ़्तर में हुई औपचारिक पोशाक की सख्ताई की घोषणा के मद्देनज़र आज मैं भी वैसे ही एक परिधान में ऑफिस पहंची, कमीज़-स्कर्ट-जूते…ये पोशाक मैं अपने पिछले कार्यस्थलों में भी पहन चुकी हूँ इसलिए ये सोच बैठी कि ये दफ़्तर के माहौल के अनुकूल है…मगर शाम को चाय पीने के लिए दफ़्तर के गेट से बाहर निकलते निकलते महिला गार्ड ने टोका और कहा कि "मैडम कल से आपको ये कपड़े न पहनने का ऑर्डर मिला है"..

A journalism prize to an enemy of the Press?

Anyone who has been keeping abreast of current affairs in Venezuela would likely have been surprised by last week's award of the National Journalism Prize to that country's late president, Hugo Chavez. An Associated Press report on the incredulous decision told us that the National Journalism Prize Foundation said that its jury voted unanimously to give Mr Chavez the prize because he gave voice to "the oppressed of the world" and fought a "constant battle against media lies".

बुलंदशहर में जिस्म के धंधे से जुड़ी महिलाओं के पास से पत्रकारों के नंबर मिले

बुलंदशहर। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर मे पुलिस ने दो स्थानो पर छापा मारकर देह व्यापार मे लिप्त नौ महिलाओं समेत 26 लोगों को गिरफ्तार किया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गुलाब सिंह ने संवाददाताओ को बताया कि कोतवाली नगर और कोतवाली देहात क्षेत्र मे पुलिस ने कल रात दो स्थानों पर छापा मारकर देह व्यापार के धंधे मे लिप्त नौ महिलाओ और 17 पुरुषो समेत 26 लोगों को गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि महिला पुलिर्सकमी सहित बडी संख्या में पुलिस बल के साथ स्थानीय होटल मे रंगरलिया मनाते युवतियों व पुरुषों को गिरफ्तार किया गया।

Pakistani, Russian reporters win journalism award

Washington : A seasoned Pakistani journalist known for courageous muckraking reports and a reporter investigating corruption in Russia have won a prestigious journalism award. The 2013 Knight International Journalism Award recognises excellent reporting that makes a difference in the lives of people around the world, the International Centre for Journalists (ICFJ) announced here.

कोल ब्लाक के लिए नवीन जिंदल ने सवा दो करोड़ रुपये घूस तत्कालीन कोयला राज्यमंत्री नारायण राव को दिया था

नई दिल्ली : कोयला घोटाले में छोटी कंपनियों को निशाना बनाने वाली सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट की निगरानी के बाद बड़ी मछलियों पर हाथ डाल दिया है। जिंदल औद्योगिक समूह के प्रमुख व कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल और पूर्व कोयला राज्यमंत्री दासरि नारायण राव पर जांच एजेंसी का शिकंजा कस गया है। इस मामले में सीबीआइ ने 12 वीं एफआइआर में इन दोनों नेताओं को आरोपी बनाया है।

संपादक कभी इतना बूढ़ा नहीं होता कि नई चीज न सीख सके… देखिए विनोद मेहता को…

42 साल तक हाथ से लिख कर पत्रकारिता करने वाले आउटलुक वाले विनोद मेहता इन दिनों कंप्यूटर के जरिए लिख रहे हैं और वर्ल्ड वाइड वेब (www) के आनंद ले रहे हैं. इस बारे में अंग्रेजी के एक ब्लाग में प्रकाशित हुआ है, जो इस प्रकार है–

साधना न्यूज चैनल से राजीव शर्मा, अमित तिवारी, योगेश जोशी, अमित सिंह, संतोष दुबे का इस्तीफा

लगभग एक महीने तक अवकाश पर रहने के बाद साधना न्यूज चैनल के आउटपुट एडिटर राजीव शर्मा ने प्रबंधन को त्याग पत्र सौंप दिया है. राजीव शर्मा एक बड़े प्रोजेक्ट पर कार्य कर रहे हैं और एक नये चैनल के साथ शीघ्र ही सामने आएंगे. साधना न्यूज के एंकर हेड अमित तिवारी ने भी इस्तीफा दे दिया है.

मध्य प्रदेश में ‘लोकमत’ के लोकार्पण से पहले सिर मुंडाते पड़ गए ओले

महाराष्ट्र से पब्लिश होने वाला अखबार लोकमत, मध्यप्रदेश में अपनी जड़ें जमाने की तैयारी में है. इसका पहला संस्करण केंद्रीय मंत्री कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा से प्रकाशित होना है. लेकिन लोकमत के लिए मध्य प्रदेश में सिर मुंड़ाते ही ओले पड़ने का मुहावरा सटीक बैठ रहा है.

मीडिया, मनमोहन, आडवाणी, चिटफंड पर कुछ मजेदार हो जाए (देखें कार्टून)

कुछ शानदार कार्टून लेकर भड़ास फिर हाजिर है. ताजा मसला आडवाणी का है. उन पर एक शानदार कार्टून… मनमोहन पर कई कार्टून हैं… टीआरपी व न्यूज चैनल्स को लेकर एक गुदगुदाने वाला कार्टून है… चिटफंड पैराबैंकिंग कंपनियों के फ्राड पर एक कार्टून है.. एक खबर की कटिंग है, जिसमें एक हिम्मती दुल्हन की दास्तान बताई गई है, सचित्र… मतलब इतना सब कुछ है कि बिना गुदगुदी के, बिना सोचे… वापस न जाएंगे… 🙂

महाचोर और पेडन्यूज माफिया दैनिक जागरण ने खुद पकड़वा दी अपनी चोरी (देखें)

Saroj Kumar : देखिए-देखिए… विज्ञापन के बदले खबर लिखने-बनाने की चोरी पकड़ी गई… दैनिक जागरण, पटना के इस खबर 'डीएवी कैंट एरिया के छात्रों ने कई क्षेत्रों में लहराया परचम' के बॉक्स में क्या लिखा है- "डीएवी स्कूल अपना विज्ञापनदाता है। इस कारण से कृपया कर इस खबर को रंगीन पेज पर सभी फोटों के साथ जगह देने की कोशिश करेंगे"

नेटवर्क18 समूह की वेबसाइट ‘फर्स्टपोस्ट’ की सीईओ बनीं दुर्गा

नेटवर्क18 समूह वालों की वेबसाइट फर्स्टपोस्ट का सीईओ दुर्गा रघुनाथ को बनाया गया है. वे फर्स्ट पोस्ट में ही वाइस प्रेसिडेंट, प्रोडक्ट और एक्जिक्यूटिव न्यूज प्रोड्यूसर हुआ करती थीं.

आजतक से प्रोड्यूसर दीपक नरेश का इस्तीफा

सूचना है कि आजतक न्यूज चैनल में कार्यरत प्रोड्यूसर दीपक नरेश ने इस्तीफा दे दिया है. उनका अंतिम वर्किंग डे चार-पांच रोज पहले था. बताया जाता है कि दीपक पंद्रह रोज पहले आफिस से गायब हुए. बाद में लोगों को पता चला कि उन्होंने खुद इस्तीफा दिया है. वे कहां जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया.

Employee code… Name… Last working day… Reason- Asked To Go (देखें आजतक की छंटनी लिस्ट)

ये पिछले अप्रैल से इस साल जून आखिर तक की छंटनी लिस्ट है. टीवी टुडे ग्रुप के एचआर की तरफ से ये सभी लोग 'आस्क्ड टू गो' हैं. इस साल जून तक छंटनी किए गए लोगों कुल संख्या 66 है, जिसकी लिस्ट आपके सामने पेश है. बताया जाता है कि अभी ढेर सारे लोगों की छंटनी होनी है. टोटल 150 लोग निकाले जाने हैं. इन सभी को इकट्ठे इसलिए नहीं निकाला जा रहा ताकि कहीं कोई अशांति न पैदा हो जाए, विरोध न शुरू हो जाए. इसलिए एक एक कर छोटे मोटे बहाने ढूंढ नौकरी ली जा रही है.

राज एक्सप्रेस, मुरैना के रिपोर्टर बने कुमार शैलेन्द्र, देशदीपक आईबीसी24 से जुड़ेंगे

मुरैना से खबर है कि यहां राज एक्सप्रेस के जिला ब्यूरो चीफ करतार सिंह व राज श्रीवास्तव ने नये संवाददाता के रूप में कुमार शैलेन्द्र की नियुक्ति की है. कुमार शैलेन्द्र पिछले आठ साल से मीडिया लाइन में सक्रिय हैं. शहडोल से सूचना है कि देशदीपक गुप्ता (सचिन) आईबीसी24 से जुड़ेंगे.

टीएस सुधीर हेडलाइंस टुडे (साउथ) के एडिटर बने, आजतक में बृजपाल से मार्निंग शिफ्ट सुपर का काम छिना

एक सूचना के मुताबिक टीएस सुधीर ने हेडलाइंस टुडे (साउथ) में एडिटर के तौर पर पारी की शुरूआत की है. उधर, देर से मिली एक जानकारी के मुताबिक 'आज तक' न्यूज चैनल के मार्निग शिफ्ट सुपर बृजपाल सिंह को बदल दिया गया है. बताया जाता है कि पिछले माह जब सरबजीत की मौत हुई तब रात 8:30 के स्पेशल रिपोर्ट का पैकेज अगले दिन भी चला दिया जिसमें कहा गया कि सरबजीत की हालत गंभीर है, मगर तब तक सरबजीत मर चुके थे. इसी गल्ती के आधार पर सुप्रिय प्रसाद ने उसी दिन रात मेल भेज कर बृजपाल से मार्निंग शिफ़्ट सुपर का पद लेकर मनीष कुमार को सौंप दिया.

अच्छे लोगों की कमी से जूझ रहा प्रभात खबर, देवघर

: गन्दी राजनीती की चलते नौ साल में दस संपादक : प्रबंधन के कान खड़े, टीम बदलने की चर्चा : नौ साल पहले देव नगरी देवघर में यूनिट बैठाने वाले प्रभात खबर का हाल यहां बुरा है. अंदरूनी राजनीति के कारण यहां अच्छे लोग नहीं के बराबर है. प्रबंधन अगर किसी को वहां भेजता है तो पहले से जमे जमाये लोग उनको इतना परेशान करते हैं कि वो भाग लेता है. प्रबंधन को समझ में ही नहीं आ रहा है कि आखिर देवघर यूनिट में ये राजनीति कौन कर रहा है.

झांसी के पत्रकारों को जेल भेजने से खफा ललितपुर के पत्रकारों ने ज्ञापन दिया

ललितपुर : झांसी में दबंग दरोगा द्वारा पत्रकारों के साथ किये गये दुर्व्यवहार से ललितपुर के पत्रकारों में भी तीव्र रोष व्याप्त है। जिले के प्रिंट व इलेक्टोनिक मीडिया से जुड़े पत्रकारों ने प्रशासन को दिये एक ज्ञापन में झांसी में पत्रकारों को जेल भेजे जाने और धमकाने जैसे मामलों पर गहरा दुख प्रकट करते हुये कार्यवाही की मांग की है। इस दौरान पत्रकारों ने एक बैठक कर सम्पूर्ण घटनाक्रम की निंदा की है।

‘झीनी झीनी बीनी चदरिया’ जैसा उपन्यास फिर से लिखा जाना चाहिए : अब्दुल बिस्मिल्लाह

इलाहाबाद। पूर्वांचल के बुनकरों की समस्या को केंद्र में रखकर 'झीनी झीनी बीनी चदरिया' सरीखा उपन्यास लिखकर चर्चा में आने वाले कथाकार अब्दुल बिस्मिल्लाह बुनकरों की मौजूदा दुर्दशा को लेकर दुखी हैं। वे मानते हैं कि हथकरघा जैसे पेशेगत धंधे के जरिए गुजर बसर करने वाले हजारों बुनकर परिवार तंगी और बदहाली के शिकार हैं। मुफलिसी का आलम यह कि कई घरों में दो जून का चूल्हा तक नहीं जल पा रहा है। लंबी सांस लेते हुए अब्दुल बिस्मिल्लाह कहते हैं- अब तो भाई, बुनकरों की बदतर होती हालत को ध्यान में रखकर एक और 'झीनी झीनी बीनी चदरिया' सरीखा उपन्यास लिखा जाना चाहिए। इसे वक्ती जरूरत भी माना जा सकता है।

प्रेसीडेंसी से इतिहासविद बेंजामिन जकारिया की विदाई!

जिन हालात में फेसबुक मंतव्य के लिए विख्यात इतिहासविद बेंजामिन जकारिया की प्रेसीडेंसी कालेज से विदाई हो गयी, उससे यादवपुर विश्वविद्यालट के शिक्षक अंबिकेश महापात्र की याद ताजा हो गयी। लेकिन इस मामले को लेकर सिविल सोसाइटी की खोमोशी हैरत में डालने वाली है। इंग्शेलैंड के शेफील्ड विश्वविद्यालय में दक्षिण एशियाई इतिहास के शिक्षक पद से इस्तीफा देकर स्वायत्त विश्वविद्यालय प्रेसीडेंसी के बुलावे पर वहां की पक्की नौकरी छोड़कर चले आये बेंजामिन जकारिया के साथ जो सलूक परिवर्तन राज में हुआ , वह न केवल शर्मनाक है, बल्कि प्रेसीडेंसी कालेज की उपकुलपति मालविका सरकार जैसी विदुषी प्रशासक की साख को बट्टा लगाने वाला है।

दिलीप अवस्‍थी जागरण के रिपोर्टरों को सिखा रहे लायल्टी!

लखनऊ :  दैनिक जागरण, लखनऊ के रेजीडेंट एडीटर दिलीप अवस्‍थी जो खुद कई बार पाला बदल चुके हैं, अपने रिपोर्टरों को अब लायल्टी सिखा रहे हैं. दिलीप शुक्ला जागरण से पहले टाइम्‍स आफ इंडियां थे. उससे पहले वह विनोद शुक्‍ला के जमाने में भी जागरण में रह चुके हैं. पायनियर, जी न्‍यूज, और इंडिया टुडे में भी रह चुके हैं. यही दिलीप अवस्थी आजकल जागरण के रिपोर्टरों को लायल्टी की सीख दे रहे हैं.

अनिल यादव ने पायोनियर से इस्तीफा देकर नवभारत टाइम्स ज्वाइन किया

लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार और साहित्यकार अनिल यादव ने दी पायोनियर अखबार से इस्तीफा देकर नई पारी की शुरुआत लखनऊ से ही प्रकाशित होने जा रहे नवभारत टाइम्स के साथ की है. अनिल दैनिक जागरण, अमर उजाला, हिंदुस्तान जैसे अखबारों में कई शहरों में वरिष्ठ पदों पर काम कर चुके हैं. वे कई वर्षों से पायनियर में कार्यरत थे.

मशहूर गायक मन्ना डे की हालत लगातार नाजुक

वयोवृद्ध एवं सुप्रसिद्ध गायक मन्ना डे की हालत लगातार नाजुक बनी हुई है। वह बेंगलुरू के बाहरी इलाके में स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। शास्त्रीय संगीत से ओतप्रोत उनके गीतों की मधुरता की आज भी कोई सानी नहीं है। यद्दपि  मन्ना ने जिस दौर में गीत गाने प्रारंभ किये उस दौर में हर संगीतकार का कोई न कोई प्रिय गायक था, जो फिल्म के अधिकांश गीत उससे गवाता था। कुछ लोगों को प्रतिभाशाली होने के बावजूद वो मान-सम्मान या श्रेय नहीं मिलता, जिसके कि वे हकदार होते हैं।

‘प्रदेश टुडे’ जल्द ग्वालियर से, इंदौर के लिए डिक्लेरेशन फाइल

भोपाल और जबलपुर से प्रकाशित शाम के अखब़ार 'प्रदेश टुडे' का ग्वालियर संस्करण जुलाई के अंतिम हफ्ते से शुरू हो रहा है। इस संस्करण के निकलने की तारीख कई बार आगे बढ़ती रही है। इसके संपादक राकेश पाठक का नाम कई महीने पहले ही तय हो चुका है। राकेश पाठक पहले 'नईदुनिया' के स्थानीय संपादक थे, और पिछले साल 'नईदुनिया' बिकने के बाद वहां से बिदा कर दिए गए थे। ग्वालियर में संस्करण की सारी तैयारी हो चुकी है।

गोवा से दो कदम आगे बढ़ी बीजेपी आडवाणी कांड के बाद सौ कदम पीछे हुई

Arvind K Singh : दो कदम आगे…100 कदम पीछे… दिग्गज राजनेता लाल कृष्ण आडवाणी के इस्तीफे के बाद जो प्रतिक्रियाएं आ रही हैं उससे साफ है कि गोवा से बीजेपी दो कदम आगे बढ़ी थी लेकिन अब 100 कदम पीछे हो गयी है…फिलहाल तो अब बीजेपी को दो मोरचों पर जूझना है..एक आडवाणी को मनाना और दूसरा मोदी जी को शांत रखना..ये बातें भी सामने आ रही हैं कि मोदी जी जिस सीढ़ी का उपयोग करते हैं, उसे काट भी देते हैं…आडवाणी भी उनके शिकार हैं..

आडवाणी के इस्तीफे से केंद्र में भाजपा सरकार बनने की संभावना कम हुई

Shambhu Dayal Vajpayee : पार्टी में जबरन राजनीतिक वनवास की ओर ठेले जाने की लगातार कोशिशों से आहत शीर्षस्‍थ नेता लाल कृष्‍ण आडवाणी के इस्‍तीफे ने भाजपा और नरेन्‍द्र मोदी के केन्‍द्र में सरकार बनाने की संभावनाओं के गुब्‍बारे को पंक्‍चर कर दिया है। अब अगर आडवाणी जी को किसी तरह मना भी लिया जाता है, हालांकि इसकी संभावनायें बहुत कम हैं, तो भी पार्टी की छवि को हो चुके नुकसान की भरपाई कठिन होगी। स्‍थापना के बाद से भाजपा में यह सब से बडा संकट का दौर है।

गौरव नौडियाल ने अमर उजाला, देहरादून से शुरू की अपनी नई पारी

गढ़वाल मंडल के पौड़ी जिला मुख्यालय से दैनिक जागरण के जरिए अपनी दैनिक अखबारों की पत्रकारिता शुरू करने वाले गौरव नौडियाल ने अब अमर उजाला का दामन थाम लिया है. उन्होंने पिछले दिनों ही जागरण को बाय बाय कहा था. 23 वर्षीय गौरव अमर उजाला, देहरादून संग अपनी नई पारी की शुरुआत कर रहे है. सोमवार से उन्होंने अमर उजाला के लिए काम करना शूरू कर दिया है. उनको नगर निगम और स्पोर्ट्स की बीट दी गई है.

निर्विरोध जीत गये अराबुल इस्लाम, माकपा ने मैदान छोड़ा

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के नाम पर जो चल रहा है, उससे सत्तादल के रिकार्ड करीब तीन हजार उम्मीदवारों के निर्विरोध निर्वाचित होने के अलावा विपक्षी दलों की सांगठनिक विकलांगता का भी भंडापोड़ हुआ है। वाम मोरचा के प्रबल पराक्रमी नेता रेज्जाक अली मोल्ला के गृहक्षेत्र कैनिंग दो पंचायत समिति को तृणमूल कांग्रेस ने लगभग बिना प्रतिद्वंद्विता जीत ली तो भांगड़ दो नंबर पंचायत समिति पर भी तृणमूल का दखल हो गया। जहां विवादास्पद तृणमूल नेता, भांगड के पूर्व विधायक अराबुल इस्लाम न सिर्फ निर्विरोध जीते बल्कि वहां उनके मुकाबले माकपाई उम्मीदवार मैदान छोड़कर भाग खड़े हुए।

दबंग दुनिया में डिप्टी न्यूज एडिटर बने रोहित तिवारी

अमर उजाला, दैनिक भास्कर, एसवन न्यूज चैनल व वायस आफ लखनऊ समेत कई मीडिया ग्रुपों में काम कर चुके रोहित तिवारी ने नई पारी की शुरुआत दैनिक दबंग दुनिया के साथ की है. उन्होंने डिप्टी न्यूज एडिटर के पद पर ज्वाइन किया है. वे इंटरटेनमेंट का काम देखेंगे. अमर उजाला, लखनऊ में काम कर चुके रोहित ने दैनिक भास्कर के अपने कार्यकाल के दौरान मनोरंजन जगत की कई खबरें ब्रेक कीं.

शशिकांत तिवारी ने दैनिक भास्कर से इस्तीफा दिया, नई दुनिया में चीफ सब बने

शशिकांत तिवारी ने दैनिक भास्कर, खंडवा से इस्तीफा दे दिया है. शशिकांत भास्कर में सीनियर सब एडिटर की भूमिका निभा रहे थे. इसके पहले वो दैनिक जागरण, जमशेदपुर में सीनियर रिपोर्टर हुआ करते थे. उन्होंने नई पारी की शुरुआत नई दुनिया अखबार से की है. नई दुनिया में वे चीफ सब एडिटर बने हैं. चर्चा है कि दैनिक भास्कर, इंदौर में कार्यरत बाहरी लोगों पर नौकरी छोड़ने के लिए काफी दबाव बनाया जा रहा है.

अमर उजाला से राघवेंद्र शुक्ला, अजय, अमित हटे

अमर उजाला, सिद्धार्थनगर के जिला प्रभारी राघवेंद्र शुक्ला ने इस्तीफ़ा दे दिया है. श्री शुक्ला बहुत दिनों से संपादक से अनुरोध कर रहे थे कि उन्हें गोरखपुर बुला लिया जाये, पर उनके अनुरोध को सुना नहीं गया. अंततः राघवेंद्र ने अमर उजाला को बाय कर दिया. राघवेंद्र पहले दैनिक जागरण देवरिया, बस्ती मे बतौर रिपोर्टर काम कर चुके हैं. चर्चा है कि वे जल्द ही दैनिक जागरण ज्वाइन कर सकते हैं.

दैनिक भास्कर से इस्तीफा देकर नभाटा, लखनऊ से जुड़े तरुण शर्मा

दैनिक भास्कर, श्रीगंगानगर से डिप्टी न्यूज एडिटर तरुण शर्मा के इस्तीफा देने की सूचना है. बताया जा रहा है कि वे लखनऊ से लांच हो रहे नवभारत टाइम्स के साथ जुड़ गए हैं. तरुण ने दैनिक भास्कर में दस साल से अधिक समय तक काम किया है.

यह पत्रकारिता का स्वर्ण युग है : दिलीप मंडल

: मीडिया विमर्श शृंखला में इंडिया टुडे के संपादक ने पत्रकारिता की नई चुनौतियों के प्रति आगाह किया : आज स्त्री खुलकर बोल रही है- पंकज सिंह : अखबार का काम है, लोक भावना जानना और प्रकट करना- अरुण त्रिपाठी : आगरा। ''मैं अपने को एक संवादकर्मी ही मानता हूं। आंदोलनों के संस्कारों से निकला हूं। यह दौर भारतीय पत्रकारिता का स्वर्णिम युग है, यह बात लोगों को सुनने में अजीब लग सकती है। पर मुख्य धारा की पत्रकारिता आज अपने सर्वश्रेष्ठ रूप में है, पचास साल पहले के अखबारों को आप देखेंगे तो आपको इसका बोध होगा। उस समय भी गांधी और अंबेडकर की वैकल्पिक पत्रकारिता की एक दूसरी धारा थी जो ज्यादा समर्थ थी पर वह मुख्यधारा नहीं थी। आज भी उस पत्रकरिता को लघुपत्रिकाएं अपने ढंग से आगे बढा रही हैं।  आज हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती विश्वसनीयता को बनाए रखने की है।''  ये विचार कल्पतरु एक्सप्रेस द्वारा मीडिया विमर्श शृंखला के तहत शनिवार को आयोजित व्याख्यान में इंडिया टुडे साप्ताहिक पत्रिका के संपादक दिलीप मंडल ने व्यक्त किए।

मुठभेड़ में यूं ‘मारे’ और ‘पकड़े’ जाते हैं ‘दुर्दांत नक्सली’

Himanshu Kumar : जब हम दंतेवाडा में काम करते थे ! तो हमारे साथ आश्रम में काम करने एक लड़का आया ! मेरे साथियों ने बताया की पहले वह सलवा जुडूम में एस पी ओ था ! लेकिन बाद में उसे अपने काम से नफरत हो गयी थी और उसने वह काम छोड़ दिया था ! उसने मुझसे कहा की अब वह गाँव वालों के लिए काम करना चाहता है इसलिए हमारे आश्रम से जुड़ना चाहता है ! वह काम करने लगा ! बाद में उसने मुझे कई घटनाएँ सुनाई ! उनमे से दो घटनाएँ आज आपके साथ बाँट रहा हूँ !

दैनिक जागरण, बनारस में पेजीनेटरों का टोटा, दो गए अमर उजाला

दैनिक जागरण, बनारस में पेज मेकिंग को लेकर हालात खराब हैं. यहां पेजीनेटरों का टोटा पड़ा हुआ है. बताया जा रहा है कि जीएम के तानाशाही रवैये के चलते यहां ज्‍यादातर कर्मचारी टिकते ही नहीं हैं. पेजीनेटर के पद पर कार्यरत अरविंद तिवारी तथा कैलाश पांडेय इस्‍तीफा देकर अमर उजाला चले गए. दोनों लंबे समय से यहां कार्यरत थे, लेकिन हर बात पर जीएम अंकुर चड्ढा द्वारा यह धमकी दिए जाने, कि दो मिनट में निकाल दूंगा, से ये परेशान हो चुके थे.

डीजीपी ऑफिस ने कहा – सूचना नहीं देंगे, शासन से मांगो

उत्तर प्रदेश के डीजीपी का कार्यालय तभी सूचना देगा जब उसकी मर्जी होगी. मर्जी नहीं तो वह कह देता है कि यदि सूचना चाहिए कहीं और से मांगो, हम नहीं देंगे. ऐसे ही दो दृष्टान्त आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर के मामलों में हुआ. इन्होंने उत्तर प्रदेश शासन के 15 फ़रवरी 2012 और 27 जून 2012 के दो पत्रों, जिनका आईजी कार्मिक ने 15 मई 2013 के अपने पत्रों में उल्लेख कर ठाकुर को सूचना देने से मना किया था, की छायाप्रति मांगी.

आई नेक्‍स्‍ट ने देहरादून लगाया अखबार वेंडिंग मशीन

देहरादून : आई नेक्‍स्‍ट के सर्कुलेशन की बदहाली से परेशान जागरण प्रबंधन अब नए तरीके आजमा रहा है. पर इसका कितना फायदा मिलेगा भगवान ही जाने. क्‍योंकि सवाल अखबार मिलने का नहीं बल्कि अखबार के कंटेंट के बेहतर होने का है. हालांकि देहरादून में आई नेक्‍स्‍ट का कंटेंट अपने सभी एडिशनों से बेहतर माना जाता है. आई नेक्स्ट ने पहली बार 'न्यूज पेपर वेंडिंग मशीन' लगाने की पहल देहरादून से की है. मशीन ने महंत इंद्रेश हॉस्पिटल में काम करना शुरू कर दिया.

पत्रकार मनोज के हत्‍याकांड के गवाह की हत्‍या

पलामू के मोहम्मदगंज के पत्रकार मनोज कुमार हत्याकांड के गवाह उनके 25 वर्षीय भांजे अमित कुमार उर्फ छोटू की गोली मार कर हत्या कर दी गई। पुलिस ने सोमवार को कोयल नदी के बालू में गाड़े गए छोटू के शव को बरामद किया। उसे तीन गोली मारी गई थी।

पुलिस चौकी मे आगजनी और बलवा के आरोपी पूर्व विधायक भेजे गए जेल

गाजीपुर की हंसराजपुर पुलिस चौकी मे आगजनी और बलवा के आरोपी पूर्व बसपा विधायक विजय कुमार ने सोमवार को गाजीपुर सीजेएम कोर्ट मे आत्म समर्पण कर दिया। अदालत ने इस मामले मे पूर्व बसपा विधायक की जमानत अर्जी खारिज करते हुये उन्हे न्यायिक अभिरक्षा मे जेल भेजने का आदेश दिया है।

पत्रकार सबसे बदकिस्‍मत पेशेवर हैं : डा. लिंग्दोह

शिलांग। मेघालय की श्रम मंत्री डा. एम एमपरीन लिंग्दोह ने सोमवार को कहा कि पत्रकार सबसे बदकिस्मत पेशेवर हैं। साथ ही उन्होंने पत्रकारों से अपना काम करते समय आत्मविश्लेषण करने की अपील भी की। दक्षिण एशिया मीडिया एकता नेटवर्क द्वारा आयोजित दो दिवसीय के सेमिनार सह कार्यशाला के उद्घाटन के मौके पर डॉ. लिंग्दोह ने कहा कि मुझे लगता है कि पत्रकार सबसे बदकिस्मत पेशेवर हैं।

अब पत्रकारिता झोले से नहीं, लक्‍जरी गाडि़यों से निकलती है

सोनभद्र : धुंधली किन्तु तल्खी तलाशती आंखों पर सैद्धांतिक फ्रेम का मोटा चश्‍मा, अतिविस्तारित क्षेत्र का आंकलन करता लहराता हुआ लम्बा कुर्ता एवं परम्पराओं की कसौटी पर अनेक सूत्रों में बंधा पायजामा, एक अनूठे सामाजिक दायित्वों का बोझ उठाते कन्धों पर लम्बा सा झोला और अन्त में एक अदभुत शक्ति का सृजन करने वाली कुर्ते की जेब रूपी म्यांन से झांकती तलवार रूपी कलम। ऐसे सैद्धांतिक स्वरूप की परिकल्पना किसी ऐसे भविष्‍य की धरोहर नहीं रही, जिसे गाड पार्टिकल्स जैसी अदभुत एवं आश्‍चर्यजनक उपलब्धि मानकर किसी युग पुरूष के अभ्युदय की अपेक्षा की जाय बल्कि यह वह स्वरूप है जो अब विलीनता के कगार पर खड़ा होने के बावजूद बेहयाई की बांहे सिकोड़ता प्रतीत होने लगा है।

हर्जाना वसूल कर रिहा कर दिए जाएंगे चिटफंड मालिक!

केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल विधानसभा के विशेष अधिवेशन में पास पश्चिम बंगाल वित्तीय प्रतिष्ठान के निवेशकों के हितों का संरक्षण विधेयक 2013 लौटाते हुए इस विधेयक में यह प्रावधान करने का सुझाव दिया है कि पोंजी कारोबार के सिलसिले में गिरफ्तार मालिकों से मोटी रकम हरजाना वसूल करके उन्हें रिहा कर दिया जाये। हालांकि बंगाल की मुख्यमंत्री ने विधेयक लौटाने की खबर को गलत बताते हुए केंद्र की ओर से कुछ स्पष्टीकरण मांगे जाने का दावा किया है।

आनंद पुरोहित, चंदन सिंह भाटी एवं जेठमल पुरोहित सम्‍मानित

बाड़मेर अपनी लोक कला और संस्कृति को जिलाए रखने के लिए कई शख्सियतें खुद को जला कर समाज को जागृत करने का प्रयास करते हैं. ऐसे ही दुस्‍साहसी शख्सियत हैं जैसलमेर के आनंद कुमार पुरोहित, जिन्होंने राजस्थानी भाषा के प्रति अपनी समर्पण भाव को राजस्थान के प्रथम दैनिक राजस्थानी भाषी समाचार पत्र राजस्थान 'री पाती' के रूप में समाज के बीच लाकर राजस्थानी भाषा का कर्ज चुकाने का साहसिक प्रयास किया.

आडवाणी का इस्‍तीफा एनडीए के सेहत के लिए ठीक नहीं : शरद यादव

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने सोमवार को पार्टी के सभी प्रमुख पदों से इस्तीफा दे दिया। जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष शरद यादव ने इसे दुखद बताया और कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) पर इसका बुरा असर पड़ेगा। एक न्यूज चैनल से बातचीत में यादव ने कहा कि यह दुखद है..राजग के लिए अच्छा नहीं है।

यह बुलडोजर समय है..विस्‍थापित करने वाला समय : चंद्रकांत

पत्रकार अनूप सेठी को चंद्रकांत देवताले जी से मिलने का पहला मौका आकशवाणी इंदौर के एक कार्यक्रम के सिलसिले में मिला जब वे एक रात दूरदर्शन के गेस्‍ट हाउस में ठहरे. अनूप का कहना है कि उनसे मिल कर बहुत अच्‍छा लगा. वे बहुत सहज हैं और दूसरे व्‍यक्ति को भी पूरी तरह से सहज बना देते हैं. दूसरी सुबह अनूपजी ने देवताले जी से छोटी सी बातचीत रिकार्ड करने का अनुरोध किया, जिसे वे सहजता से मान गए. उस समय उनके एक मित्र भी उनसे मिलने आए हुए थे. प्रस्‍तुत है चंद्रकांत देवताले जी की अनूप सेठी से बातचीत के अंश… 

बिहार में ठीक इसके विपरीत काम हो रहा है, अन्‍याय हो रहा है

आदरणीय यशवंत जी, भड़ास4मीडिया, नमस्कार। आपके मीडिया पोर्टल के बारे में जानकर काफी खुशी हुई। मैं 73 वर्षीय, एक अपाहिज वृद्ध हूँ। दमे एवं हृदय रोग से भी पीड़ित हूँ। साथ में कई अन्य बीमारियाँ भी है। मैं आपके मीडिया पोर्टल के माध्यम से अपनी भड़ास निकालना चाहता हूँ, जो सुशासन की सरकार, बिहार सरकार से संबंधित है।

कुर्सी तैयार की आडवाणी ने, बैठ गए नरेंद्र मोदी!

कहते हैं कि हजारों शब्‍द जो बातें नहीं कह पाते उसे कार्टून मात्र थोड़ी सी बातों में ही कह जाता है. आडवाणी की नाराजगी भी गलत नहीं है. बेचारे आडवाणी 1990 से पीएम की कुर्सी पर बैठने की तैयारी कर रहे हैं. एक बार मौका मिला तो अटल जी बैठ लिए और दुबारा मौका मिलने की आस लगाए आडवाणी पर नरेंद्र मोदी भारी पड़ गए.

टीवी चैनलों को अब नया काम मिल गया है

Arvind Kumar Singh : आडवाणी के इस्तीफे का निहितार्थ.. तो मोदीजी की ताजपोशी की रंगत लाल कृष्ण आडवाणी जैसे दिग्गज के इस्तीफे ने फीकी कर दी है…बीते तीन दिनों से जहां मोदी राग चल रहा था..लग रहा है टीवी चैनलों को अब नया काम मिल गया है.

भाजपा में मतभेद सतह पर, आडवाणी ने दिया पार्टी के सभी पदों से इस्‍तीफा

नई दिल्ली : मोदी-आडवाणी रार अब खुलकर सतह पर आ गया है। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठतम नेता लालकृष्ण आडवाणी ने पार्टी में अपनी अनदेखी कर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनाव समिति का अध्यक्ष बनाए जाने से नाराज़ होकर पार्टी के संसदीय बोर्ड, राष्ट्रीय कार्यकारिणी तथा चुनाव समिति समेत सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है।

जम्मू में दैनिक जागरण का ‘कर्मयोगी’ अभियान बुरी तरह फ्लाप

दैनिक जागरण द्वारा समाचार-पत्र वितरकों के लिए चलाया जा रहा 'कर्मयोगी' अभियान आज जम्मू में बुरी तरह फ्लाप हो गया. इस अभियान के तहत वेंडर्स को एक साथ चार उपहार देने का दावा किया गया है. जिसमें सर्वश्रेष्ठ वितरक सम्मान, वितरक पहचान-पत्र, एक लाख की दुर्घटना बीमा पालिसी व छात्रवृत्ति योजना शामिल है.

पत्रिका, रायगढ़ के ब्‍यूरोचीफ पर हमला के आरोपी भाजपा पार्षद ने किया आत्‍मसमर्पण

बीते 18 अप्रैल को पत्रिका, रायगढ़ के ब्‍यूरोचीफ प्रवीण त्रिपाठी पर जानलेवा हमला करने वाला भाजपा पार्षद आशीष ताम्रकर ने शुक्रवार को पुलिस के सामने आत्‍मसमर्पण कर दिया. पुलिस ने उसे शनिवार को मुख्‍य न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट जीके नीलम की अदालत में पेश किया जहां उसकी जमानत याचिका खारिज करते हुए उसे 14 दिन की न्‍यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया. प्रवीण पर जानलेवा हमला करने के बाद से ही आशीष फरार चल रहा था.  ‍

जागरण में पढि़ए – सराफा व्‍यवसायी की लूट में जनता का हित सर्वोपरि!

कभी न्‍यूनतम त्रुटियों के लिए जाना जाने वाला अखबार दैनिक जागरण अब अधिकतम त्रुटियों के लिए पहचाना जाने लगा है. कारण साफ है कि यहां के माहौल में कोई काम का बंदा टिकना ही नहीं चाहता. इसका सबसे बड़ा उदाहरण नवभारत टाइम्‍स में नौकरी के लिए आए आवेदनों से भी लगाया जा सकता है. अब चाटुकारों तथा ऊपर तक पैसा पहुंचाने वालों को ही जागरण में ज्‍यादा तवज्‍जो मिलता है. इसलिए अखबार में आए दिन हास्‍यास्‍पद गलतियां होती रहती हैं.

मैं नहीं जानता दीपेंद्र की मेहनत कितना रंग लाएगी लेकिन उसकी इस मुहिम से सहमत जरूर हूं

अगर आप जयपुर की 8 नंबर बसों में सफर करेंगे तो लगभग हर बस में आपको एक पोस्टर लगा दिखाई देगा – सोच बदलें, देश बदलें। महिलाओं को सुरक्षा, सम्मान तथा बसों में सीट प्रदान करें। बात मुझे भी ठीक लगी। हममें से कई लोग महिला अधिकारों और आजादी पर लंबे-लंबे लेख लिख देते हैं और कुछ लोगों ने आजादी व बराबरी के विचित्र अर्थ भी लगा लिए हैं, लेकिन अगर बस में कोई महिला बच्चे को गोद में लिए चढ़ती है तो कई बौद्धिक लोग प्रकृति के नजारों का आनंद लेने के लिए बाहर देखने लगते हैं। हालांकि ऐसे कई लोग हैं जो जरूरतमंद को सीट देते हैं, फिर भी हमें इस बारे में पुनर्विचार करने की जरूरत है।

ईटीवी, उत्तराखंड के हेड गोविंद कपटियाल ने इस्तीफा दिया

देहरादून से सूचना है कि ईटीवी, उत्तराखंड के हेड गोविंद कपटियाल ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने इस्तीफा क्यों दिया, और कहां जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया है. वे ईटीवी के साथ लंबे समय से थे. वर्ष 2004 में उन्होंने ईटीवी ज्वाइन किया था. कपटियाल उसके पहले दैनिक हिंदुस्तान, लखनऊ में कार्यरत रहे. कुछ लोगों का कहना है कि कपटियाल का स्वास्थ्य खराब चल रहा है. वे लंबे समय से खराब सेहत की वजह से अपने दायित्व का निर्वहन ठीक से नहीं कर पा रहे थे, इसलिए उन्होंने इस्तीफा देना उचित समझा.

इंडिया टीवी और इंडिया न्यूज ने दिखाया- ‘मोदी ने मगरमच्छ को पीट कर मार डाला फिर पोखरा पार कर झंडा फहरा दिया!’

Yashwant Singh : दीपक चौरसिया के प्रधान संपादकत्व वाले 'इंडिया न्यूज' चैनल पर एक प्रोग्राम अभी आया- ''मेकिंग आफ मोदी.. '' करके.. इसमें दिखाया गया कि नरेंद्र मोदी जब 12 साल की उम्र के थे तो गांव के पोखरे में आए मगरमच्छों को पटक-पटक कर मारने के बाद पोखरे के मध्य में स्थित मंदिर पर भगवा झंडा फहरा दिया…

हद दर्जे तक गिर गए दैनिक जागरण, दैनिक भास्‍कर और आई नेक्‍स्‍ट!

: युवतियों को बना दिया कालगर्ल : अखबारों में आजकल खूबसूरत औरतों से दोस्ती बढ़ाकर हजारों रुपये कमाने के विज्ञापन धड़ल्ले से छप रहे हैं। मीडिया के इस बहकावे के कारण नयी पीढ़ी बर्बाद हो रही है। सात जून की रात रांची के एक होटल में दो बच्चियां मिलीं। वे किसी प्रेम संबंध के चक्कर में थीं या मौज मस्ती के चक्कर में, यह अब तक स्पष्ट नहीं है। एक बच्ची की मां ने पुलिस की मदद से उसे ढूंढ निकाला। दूसरे दिन दोनों को पुलिस ने घर वालों के हवाले कर दिया।

‘इंडिया न्यूज’ के एक स्ट्रिंगर का स्टिंग (सुनें)

यूपी के एक जिले में 'इंडिया न्यूज' चैनल के एक स्ट्रिंगर का दर्जनों आडियो टेप भड़ास के पास किसी शख्स ने भेजा है. जिन शख्स ने भेजा है, वो अपना नाम और पहचान किसी भी कीमत पर उजागर नहीं कर रहे. उन्होंने 'खोलपोलन्यूज' नामक मेल आईडी से भड़ास को मेल भेजा और फिर लगातार इस बात के लिए दबाव बनाते रहे कि इन आडियोज को चलाया जाए. चूंकि आडियो एक दो नहीं बल्कि दर्जनों थे, इसलिए उन सभी को सुन पाना और फिर एएमआर से एमपी3 फार्मेट में कनवर्ट कर पाना बड़ा काम था, सो इस काम को उचित समय के लिए टाला जाता रहा.

मुकेश वर्मा ने कशिश न्‍यूज तथा अर्पण जैन ने आईएनआई ज्‍वाइन किया

बिहार के वरिष्‍ठ पत्रकार मुकेश वर्मा ने कशिश न्‍यूज ज्‍वाइन किया है. उन्‍हें मुजफ्फरपुर का ब्‍यूरोचीफ बनाया गया है. वे इसके पहले देशलाइव के साथ सीनियर रिपोर्टर के रूप में जुड़े हुए थे. बीस सालों से पत्रकारिता में सक्रिय श्री वर्मा ने करियर की शुरुआत 92 में राष्‍ट्रीय मैगजीन से की थी. वे आर्यावर्त, हिंदुस्‍तान, वीओआई, साधना होते हुए देशलाइव पहुंचे थे. इसके अलावा भी वे कई संस्‍थानों को अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

मुख्‍यमंत्री ने गोंडा के दिवंगत पत्रकार की पत्‍नी को दिया दो लाख रुपये का चेक

: श्रमजीवी यूनियन का प्रयास रंग लाया : गोंडा। उत्तर प्रदेश श्रमजीवी पत्रकार यूनियन शाखा गोंडा के प्रयास से प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राजधानी स्थित अपने सरकारी आवास पर पत्रकार स्व. राम मोहन पाण्डेय की पत्नी श्रीमती सुमन पाण्डेय को दो लाख रुपए का अहेतुक सहायता प्रदान किया। प्रदेश के बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री व कर्नलगंज के विधायक योगेश प्रताप सिंह ने उन्हें चेक सौंपा। स्व. पाण्डेय कर्नलगंज विधानसभा क्षेत्र के मूल निवासी थे।

हिंदुस्‍तान में कई संपादकों की जिम्‍मेदारियां बदलेंगी!

चर्चा है कि चुनावों से पहले हिंदुस्‍तान अपने कई यूनिटों को मजबूत करने की कवायद करने जा रहा है. हालांकि अभी आधिकारिक रूप से इस बारे में जानकारी नहीं मिल पाई है लेकिन चर्चा है कि बनारस तथा अलीगढ़ यूनिट में बदलाव हो सकते हैं.

उदयपुर के चंद पत्रकारों ने गिरा दी पत्रकारिता की साख

पत्रकारों को रियायती दर पर भूखंड आवंटन करने की सरकार की योजना ने इन दिनों उदयपुर के पत्रकारों की ऐसी साख गिराई है कि वरिष्ठ पत्रकार आने वाले पत्रकार और पत्रकारिता के बारे में सोचने पर मजबूर हो गए हैं। ऐसा उदयपुर के उन चंद पत्रकारों के कारण हुआ है जो अपने आप को पत्रकारों का नेता मानते हैं। मगर दो खबर लिखने को बोला जाए तो उनका ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है।

चेतना सम्पन्न एवं प्रतिबद्ध पाठकों की पत्रिका “धरती”

आज के समय में मुख्यधारा की पत्रिकाएं व अखबार, कारपोरेट जगत व सम्राज्यवादी ताकतों के प्रभाव में समाहित हो रही है। इस वजह से देश के चौथे स्तंभ के प्रति पाठकों में संशय उत्पन्न होता जा रहा है। ऐसी स्थिति में लघु पत्रिकाओं की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। लघुपत्रिकाएं पिछलग्गू विमर्श का मंच नहीं हैं। लघु पत्रिका का चरित्र सत्ता के चरित्र से भिन्न होता है, ये पत्रिकाएं मौलिक सृजन का मंच हैं।

विवेक खन्‍ना हिंदुस्‍तान हिंदी के बिजनेस हेड तथा के वेंकटरमानी मिंट के बिजनेस हेड बने

हिंदुस्‍तान टाइम्‍स में विवेक खन्‍ना को नई जिम्‍मेदारी दी गई. उन्‍हें हिंदी बिजनेस का हेड बनाया गया है. आईआईएम अहमदाबाद से पासआउट विवेक इसके पहले भी हिंदुस्‍तान यूनीलीवर समेत कई संस्‍थानों में काम कर चुके हैं. विवेक एक्‍जीक्‍यूटिव डाइरेक्‍टर बिनय रायचौधरी को रिपोर्ट करेंगे. 

नभाटा में नौकरी पाने के लिए आवेदन करने वालों में सबसे ज्‍यादा दैनिक जागरण के

: दैनिक जागरण के मालिकों के लिए सोचने का वक्‍ता : लखनऊ : अपने को दुनिया का नम्‍बर एक अखबार बताने वाले दैनिक जागरण के मालिकों के लिए यह सोचने का वक्‍त है कि आखिर क्‍या वजह है कि लखनऊ में नवभारत टाइम्‍स में नौकरी पाने के लिए दरख्‍वास्‍त लगाने वाले दूसरे अखबार के मुकाबले सबसे ज्‍यादा दैनिक जागरण के लोग है।

दैनिक जागरण से निकाले गए संत शरण अवस्‍थी

लखनऊ : दैनिक जागरण से एक बड़ी खबर आ रही है। रांची के स्‍टेट हेड रहे और वर्तमान में यूपी डेस्‍क से अटैच चल रहे संत शरण अवस्‍थी को दैनिक जागरण से निकाल दिया गया है। संजय गुप्‍ता के आदेश पर इस्‍तीफा लिखने को कहा गया। मरता क्‍या न करता, उन्‍होंने इस्‍तीफा लिख दिया। इस्‍तीफा लेने की वजह यह बताई जा रही है कि जागरण को अचानक कारपोरेट होने का शौक चर्रा गया है।

बार-बार हिट विकेट होने पर क्यों आमादा है भाजपा?

क्रिक्रेट के मैदान में तेजी से रन बनाने के चक्कर में आपने कई खिलाडि़यों को हिट विकेट होते देखा होगा। राजनीति के मैदान में काफी हद तक ऐसी स्थिति भारतीय जनता पार्टी की नजर आ रही है। अटल बिहारी वाजपेयी के स्वणिर्म काल को छोड़ दें, तो 2004 से पार्टी नेता सत्ता पाने की बेताबी में अपने ही विकेट पर बैट मारने जैसी गलती दोहराना चाहते हैं।

सहारा रिफंड मामले में सेबी के सामने बड़ी समस्‍या

कोर्ट के आदेश के बाद बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) द्वारा सहारा समूह की दो कंपनियों के निवेशकों को करीब 24 हजार करोड़ रुपये की राशि वापस करने की पिछले महीने प्रक्रिया शुरू किए जाने के बाद सेबी के रकम वापसी के लिए बड़ी भारी तादाद में निवेशकों के आवेदन जमा हो गए हैं।

अर्नब गोस्वामी अतिरंजना और एक-तरफ़ा लफ़्फ़ाज़-बौद्धिक उत्तेजना के एंकर हैं

Uday Prakash : कल सारे टीवी चैनलों में मोदी-मोदी थे. 'टाइम्स नाउ' तो पता नहीं कितनी बार गोवा में उनका भाषण पूरा का पूरा दिखाता रहा. अर्नब गोस्वामी अतिरंजना और एक-तरफ़ा लफ़्फ़ाज़-बौद्धिक उत्तेजना के एंकर हैं.

अब सोशल मीडिया पर पांव जमाने की तैयारी में राजनीतिक दल

भारत में इंटरनेट और सोशल मीडिया की फैलती चादर में राजनीतिक दलों ने भी पाँव डालने शुरु कर दिए हैं. हो भी क्यों न, इसका इस्तेमाल करने वालों में अधिकतर युवा लोग हैं और ज़ाहिर है युवाओं तक पहुंचने के लिए हर संगठन और संस्थान इंटरनेट-सोशल मीडिया का सहारा ले रहा है. अगर आँकड़ों की बात करें तो इस समय भारत में 13 करोड़ से अधिक इंटरनेट कनेक्शन हैं जिनमें से साढ़े छह करोड़ से अधिक लोग फेसबुक पर हैं.

इलाहाबाद में दो गुटों के संघर्ष ने लिया सांप्रदायिक विवाद का रूप, फोर्स तैनात

इलाहाबाद। गंगापार के नवाबगंज थाना क्षेत्र के मंसूराबाद बाजार में दो गुटों के बीच झगड़े ने रविवार को देर शाम अचानक सांप्रदायिक विवाद का रूप अख्तियार कर लिया। दोनों संप्रदाय के सैकड़ों लोगों का जमावड़ा मंसूराबाद में लग गया। जमकर पथराव किए जाने से अचानक हालात बेकाबू हो गए। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पीएसी के अलावा नवाबगंज के आसपास के कई थाने होलागढ़, मऊआइमा, सोरांव समेत लालगोपालगंज, आनापुर, श्रृंग्वेरपुर, डांडी आदि पुलिस चौकियों की फोर्स मौके पर बुला ली गई।

ठीक मौके पर राजनाथ अपने आप को आगे ला खड़ा करेंगे

Om Thanvi : आप क्या समझते हैं राजनाथ सिंह ने यह लाल क़ालीन नरेन्द्र मोदी के लिए बिछाया है? यह बड़ी कुशल ऐयारी है। कल एनडीटीवी पर मैं तो कह आया कि मोदी के बहाने आडवाणी को घर बिठा कर राजनाथ सिंह ने अपनी राह का पहला रोड़ा दूर किया है। जेटली-सुषमा को मोदी के पीछे खड़ा कर दूसरा।

टाइम्स नाऊ स्टूडियो में ऐसा माहौल था जैसे घोषणा हुई नहीं कि अरनब पटाखा फोड़ना चालू कर देंगे

Abhishek Srivastava : दोपहर डेढ़ बजे के आसपास TIMES NOW के स्‍टूडियो में ऐसा माहौल बन गया था कि लगा बस घोषणा हुई नहीं कि Arnab Goswami पटाखा फोड़ना चालू कर देंगे। जोक्‍स अपार्ट… वैसे, कायदे से पटाखा आज कांग्रेसियों को फोड़ना चाहिए। चुपके से, अपने घर में ही सही क्‍योंकि सब कुछ तय लाइन पर जा रहा है। भस्‍मासुर का नाच चालू होने में कुछ ही देर है।

पत्रकार के पर्स से निर्मल बाबा की फोटो निकली!

Dilip Khan : नोएडा फिल्म सिटी में घंटे भर पहले CNN-IBN के एक पत्रकार ने चाय की दुकान पर पैसे देने के लिए पर्स निकाला तो उसमें निर्मल बाबा की पासपोर्ट-साइज-से-कुछ-बड़ी तस्वीर दिखी। मैंने मज़ाक में पूछा, ‘कृपा आ रही है? पत्रकार महोदय ने जवाब दिया कि मेरे से वो देश-दुनिया-राजनीति की बात शौक से करेंगे, लेकिन ‘उनके निर्मल बाबा’ के बारे में मैं मज़ाक न करूं। [सो, मैंने नहीं किया]

क्या किशन पटनायक की तरह कोई आकर कह सकता है कि ‘विकल्पहीन नहीं है दुनिया’?

Ramakant Roy : जब मैं यह बात लिख रहा हूँ, उसी समूह में शामिल हो रहा हूँ. फेसबुक पर सिर्फ और सिर्फ मोदी की चर्चा है. कुछ विरोध में और कुछ प्रशस्ति गान में. यह विरोध और समर्थन का दो ध्रुव है. आप या तो उसके विरोध में हैं या उसके समर्थन में. अगर विरोध में हैं तो ऐसा नहीं कि आप सुरक्षित जोन में हैं. विरोध में होने का मतलब अनिवार्यतः कांग्रेस के पक्ष में होना है क्योंकि कांग्रेस के धुर विरोधी भी उसके विरोध के लिए एकजुट होंगे. होते रहे हैं. पक्ष में होने का मतलब है- तथाकथित फासीवाद को जन्म देना और उसका साथी होना.

घोटालों से तार तार कांग्रेस भी चाहती थी कि उसे मोदी जैसा कोई तारनहार मिले

Ravindra Ojha : गुरु गुड़ ही रह गए चेला चीनी हो गया। आडवाणी पर यह बात सटीक बैठती है। वह दिल्‍ली में बीमारी के बहाने कोपभवन में विश्राम करते रहे और उधर गोवा में पूरी भाजपा ने ओम नमो का जाप कर दिया। कहा जाता है कि सठे साठ़यम समाचरेत। आडवाणी ने अपनी पूरी सियासी जिंदगी में जिस हिंदू कट़टरपंथ की पैरोकारी की और उसके लिए सितंबर 1990 में राम रथयात्रा कर पूरे देश में दंगे कराए, मोदी ने अब उस रथ का घोडा खोल लिया। really modi has emerged as draconian face of hindu zealots.

राजनाथ की गोदी में पके आम की भांति पीएम पद टपक जाए तो आश्चर्य नहीं

DrAshish Vashisht : दो की लड़ाई में तीसरे का फायदा। भाजपा में लाल कृष्ण आडवाणी और नरेन्द्र मोदी के बीच पीएम पद की उम्मीदवारी को लेकर छिड़ी जंग में आहिस्ता से राजनाथ सिंह की गोदी में पके हुए आम की भांति पीएम का पद का टपक जाए तो कोई आश्चर्य नहीं होगा।

मोदी को आगे करने से राजनाथ सिंह के नाम की लाटरी खुल सकती है!

Utkarsh Sinha : राजनाथ सिंह एक चतुर खिलाडी साबित हुए। राजनाथ को पता है की जब तक अडवानी, मुरली मनोहर जोशी और जसवंत सिंह सरीखे बुजुर्ग नेता सक्रिय रहेंगे तब तक उन्हें पार्टी की दूसरी पीढ़ी का नेता ही कहा जायेगा। साथ ही साथ राजनाथ सिंह का अपना खुद का कोई जनाधार नहीं है। ऐसे में मोदी को आगे करके उन्होंने एक तीर से दो निशाने साधे। पहला निशाना पार्टी के पहली पीढ़ी के नेताओं पर था जिन्हें अलग थलग करके हाशिये पर डालने में वे कामयाब हो गए हैं।

ईटीवी के बुलेटिन प्रोड्यूसर राजेश कुमार ने इस्तीफा दिया

ईटीवी नेटवर्क में बुलेटिन प्रोड्यूसर के रूप में कार्यरत राजेश कुमार ने इस्तीफा दे दिया है. वे हैदराबाद में पदस्थ थे. वर्ष 2008 से राजेश ईटीवी में कार्यरत थे. बांका, बिहार के रहने वाले राजेश नई पारी की शुरुआत कहां करने जा रहे हैं, यह पता नहीं चल पाया है. तर्कशील और वाकपटु राजेश ने ईटीवी से अपने इस्तीफे के बारे में अपने फेसबुक एकाउंट पर लिखकर अपने जानने-चाहने वालों को सूचित कर दिया है.

नभाटा ने लगाई अमर उजाला, लखनऊ में सेंध

लखनऊ :  नव भारत टाइम्‍स ने अमर उजाला लखनऊ में सेंध लगा दी है। यहां के दो रिपोर्टर नभाटा के पाले में जा खड़े हुए हैं, इनमें से एक राज्‍य ब्‍यूरो से हैं और दूसरे सिटी टीम के हिस्‍सा हैं। राज्‍य ब्‍यूरो से जिन्‍हें नभाटा ने तोड़ा है, वह दैनिक जागरण के ही प्रोडेक्‍ट हैं और अरसे से स्‍वास्‍थ्‍य महकमे की बीट देखते आ रहे हैं।

मनीष तिवारी ने नईदुनिया तथा विनय पाठक ने मुंबई24 ज्‍वाइन किया

भोपाल में लंबे समय तक ईटीवी और दूसरे कई न्‍यूज चैनलों को अपनी सेवाएं दे चुके मनीष तिवारी अब नईदुनिया के साथ अपनी नई पारी शुरू करने जा रहे हैं. वे जबलपुर से प्रकाशित नईदुनिया में सीवनी जिले के ब्‍यूरोचीफ के रूप में जुड़ेंगे. मनीष इसके पहले पिछले दस सालों से ईटीवी जुड़े रहे हैं. मनीष बंसल न्यूज, टाइम टुडे चैनलों में काम कर चुके हैं. फिलहाल मनीष तिवारी न्यूज वर्ल्ड चैनल में आउटपुट हेड का काम देख रहे थे, लेकिन चैनल शुरू होने में हो रही देर के चलते उन्होंने नईदुनिया ज्वाइन करने का फैसला किया है.

जादूगोड़ा के थानेदार ने दो पत्रकार भाइयों को फर्जी फंसाया और जेल भेज दिया

सेवा में, प्रिय यशवंत जी। मैं संतोष अग्रवाल झारखंड के पूर्वी सिंहभूम के जादूगोड़ा थाना क्षेत्र के जादूगोड़ा दयाल मार्केट मे रहता हूँ एवं मैं एक स्थानीय दैनिक समाचार चमकता आईना का पत्रकार हूँ। इसके अलावा मेरे बड़े भाई सुशील अग्रवाल दैनिक जागरण (जमशेदपुर) के पत्रकार हैं (इसके अलावा हम दोनों भाई का राशन एवं मोबाइल का दुकान भी है)। यहां मैं आपको बताना चाहता हूँ कि ईमानदारी पूर्वक पत्रकारिता करना एवं थाना प्रभारी के गलत कारनामों को उजागर करना कितना मंहगा हो सकता है।

वाह! कसम खाकर भी शशि शेखर ही छाप सकते हैं पेड न्‍यूज, प्रमाण देखें

अखबारों के पन्‍नों पर सुचिता, ईमानदारी, निर्भीक पत्रकारिता को लेकर बातें बहुत लंबी लंबी करते हैं बड़े-बड़े संपादक तथा मालिक. ऐसा लगता है कि इनके अलावा अब कोई पत्रकार ईमानदार बचा ही नहीं है. ये ईमादारी की अंतिम पायदान हैं, इसके बाद तो बस बेईमान ही बेईमान भरे पड़े हैं. ऐसे मीडिया घराने और उनके संपादक अपने काले चेहरे पर सफेदी लगाकर बैठते हैं और कंबल ओढ़कर घी पीते हैं.

प्रकाश तिवारी के लिए खोदे गड्ढे में खुद गिर गए सहारा के अजय भटनागर

ये ख़बर उन पत्रकार बंधुओं के लिए नसीहत हो सकती है जो कि क्षणिक लाभ के लिए अपने ही पत्रकार बंधुओं के खिलाफ़ षडयंत्र रचते हैं। मालिकान के सामने नंबर बढ़ाने की होड़ में ये लोग अपनी ही बिरादरी के लोगों से दुश्मनी मोल लेते है हालांकि बाद में जब इन्हे इनकी ग़लती का अहसास होता है- तब तक बहुत देर हो चुकी होती है।

आडवाणी लगे किनारे, नरेंद्र मोदी बने प्रचार समिति के चेयरमैन

पणजी : वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी की सारी आपत्तियों को नजरअंदाज करते हुए बीजेपी की गोवा बैठक में नरेंद्र मोदी को चुनाव प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाने का फैसला किया गया है। पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि मोदी से पार्टी को भारी उम्मीदें हैं और यह जो फैसला लिया गया है, वह सबकी सहमति से लिया गया है। इसके साथ ही यह तय हो गया है कि पार्टी में अब आडवाणी के दिन लद गए हैं।

नक्सलियों ने उनको गोली नहीं मारी जिन्होंने आत्मसमर्पण कर दिया था

सलवा जुडूम के नेता और बीजापुर ज़िला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय सिंह से बीबीसी संवाददाता सलमान रावी ने नक्सल अटैक को लेकर लंबी बातचीत की है. अजय सिंह कांग्रेस नेताओं के उस काफिले में शामिल थे जिन पर नक्सलियों ने अटैक कर कर्मा, पटेल समेत कई लोगों को मार दिया था. अजय सिंह का कहना है कि नक्सलियों ने सिर्फ उन्हीं को मारा जो संघर्ष कर रहे थे. जिन लोगों ने सरेंडर कर दिया, उनको नहीं मारा. सलवा जुडूम के नेता अजय सिंह जो खुद भी नक्सलियों के निशाने पर रहे हैं, ने यह भी बताया कि जब नक्सली गए तो सबसे पहले आईबीसी-24 के संवाददाता नरेश मिश्र मौके पर पहुंचे जिसके बाद सरेंडर किए लोगों की जान में जान आई और सभी लोग हिम्मत बांधते हुए उठकर पैदल चलते हुए दर्भा थाना पहुंचे. अजय सिंह के शब्दों में पूरी कथा यूं है…

दैनिक जागरण में वापस लौटने की तैयारी में गौतम जालंधरी

लुधियाना से खबर है कि दैनिक भास्कर में चीफ रिपोर्टर रह चुके गौतम जालंधरी दैनिक जागरण जाने की तैयारी में है। जालंधरी से नाखुश प्रबंधन उन्‍हें चलता कर देना चाह रहा था। पहले जालंधरी को चीफ रिपोर्टर से हटा कर बीट दे दी गई थी। इसका कोई असर नहीं पड़ा तो प्रबंधन ने उन्हें लुधियाना से रांची ट्रांसफर के आर्डर थमा दिए थे। इसके बाद से गौतम जालंधरी मेडिकल लीव पर हैं। पता चला है वह जालंधर जा कर जागरण के चीफ जनरल मैनेजर निशिकांत ठाकुर से मिल कर आए हैं।

मुझे अब किसी हीरो की तलाश नहीं… मुझे अब अपने जैसे काहिलों का आस है..

Yashwant Singh : कमजोर चेतना वाली बेचारी जनता मजबूत दिखने वाले चतुर-सुजान को हीरो मान लेती है. माफियाओं, बाहुबलियों, दबंगों, धनपशुओं आदि का उनके इलाके में खूब जलवा देखने को मिलता है. जनता इनमें अपनी समस्याओं का हल देखने लगती है, मस्तक झुकाने लगती है, हाथ जोड़ रिरियाने लगती है. रामायण-महाभारत से ओतप्रोत-लोटपोट जनता खुद के अंदर भगवान नहीं बल्कि किसी भरे-पूरे भगवान के अवतार के इंतजार में मरी जाती है, दुखों के खात्मे के लिए अवतारियों के प्रकटने का आह्वान करती रहती है…

‘क्या अजय भाई, आप भी नौकरी बचाने की खातिर किस दर्जे तक जा रहे हैं’

Vipin Kumar Bahuguna : क्या अजय भाई। आप भी नौकरी बचाने की खातिर किस दर्जे तक जा रहे हैं। बाबूराव पराड़कर के बहाने किसकी तस्वीर लगा रहे है। एक राजा ने अपनी जान बचाने के लिए गुहार लगाई थी – बाज पराए पानि परे, तू पच्छिन न मार- क्या लाभ हुआ था। मेरी सलाह मानें, निर्भय बने। कभी ऐसा लगता है कि दुनियां यहीं तक सीमित है, पर ऐसा है नहीं।

शशि शेखर और रणविजय को पराड़कर के समक्ष बिठा दिया अजय विद्युत ने!

: हिंदी पत्तरकारिता के चंद्रवरदाई, चंद्रगुप्त, चाणक्य और पराड़कर : अजय विद्युत जी पत्रकार हैं। इन दिनों 'हिंदुस्तान' में हैं। उन्होंने फेसबुक पर मस्केबाज़ी के सारे रिकार्ड तोड़ डाले हैं। तो भी कहीं रास्ता मिल नहीं रहा। उत्तराखंड के मूल निवासी हैं। जवानी लखनऊ में गुज़ारी। अधेड़ उम्र में दिल्ली की तरफ कूच कर गए। राष्ट्रीय सहारा में उन्हें जगह मिल गई। समूह संपादक रणविजय सिंह के खासमखास बन गए। रणविजय सिंह की तंत्र-मंत्र में बड़ी घनघोर आस्था है। नोएडा, लखनऊ, विंध्याचल और बनारस में उन की तांत्रिक पूजा निर्बाध चलती रहती है। जो भी बनारस का व्यूरोचीफ़ रहा या स्थानीय संपादक खुद भले आता जाता रहा हो लेकिन रणविजय की तांत्रिक साधना करवा कर ही टिक पाया है।

‘तस्वीर जिंदगी के’ भोजपुरी का पहला ग़ज़ल एल्बम

जहां भोजपुरी में अश्लील गीतों के कैसेटों की भरमार है वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने भोजपुरी ग़ज़लों का एल्बम जारी कर एक नया इतिहास रचने की कोशिश की है. इन खूबसूरत ग़ज़लों के रचनाकार हैं भोजपुरी के सुप्रसिद्ध ग़ज़लकार मनोज भावुक और स्वर दिया है सरोज सुमन ने। सरोज सुमन की ख्याति एक अच्छे म्यूजिक डायरेक्टर के रूप में भी है.

पत्रकार विष्णुदत्त शर्मा की याद में मार्ग का नामकरण कराने के लिए ज्ञापन

पत्रकार विष्‍णुदत्‍त शर्मा की याद में सड़क का नामकरण कराने के प्रयास किए जा रहे हैं. इस मांग को लेकर पत्रकार विभूति रस्‍तोगी और अरुण राघव मंगलवार को दिल्‍ली नगर निगम में पहुंचकर कई लोगों को इस संदर्भ में ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन सौंपने वाले पत्रकारों को उचित कार्रवाई का आश्‍वासन दिया गया. 

इस जांबाज पत्रकार के हिस्‍से आती है कवरेज की जांच, माओवादियों से रिश्तों के आरोप!

छत्तीसगढ़ का बस्तर इलाका इन दिनों माओवादी आतंकवादियों के खूनी खेल से नहाया हुआ दिखता है। पिछली 25 मई, 2013 को कांग्रेस की परिर्वतन यात्रा पर हुए माओवादी हमले में कांग्रेस के दिग्गज नेता महेंद्र कर्मा, छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व विधायक उदय मुदलियार और उनके तमाम साथियों की बर्बर हत्या कर दी गयी। ऐसे हत्याकांड अब बस्तर में आम हैं और वहां रह रहे संवाददाताओं और पत्रकारों के माध्यम से ही हम उस इलाके में हो रही घटनाओं को जानते हैं।

आपसी खींचातान के चलते चंदौली में मजाक बना राष्‍ट्रीय सहारा

राष्‍ट्रीय सहारा, चंदौली जिले में अखबार में गलतियों के प्रकाशन का सिलसिला थम नहीं रहा है. आपसी तनातनी के बीच अखबार की साख भी गिर रही है. तीन दिन पहले इसी गुटबाजी के चलते मुगलसराय कार्यालय का पूरा समाचार रोक लिया गया. उसका प्रकाशन ही नहीं किया गया. केवल चंदौली कार्यालय की खबरें छापी गईं. पाठक उस दिन तमाम डेटलाइनों की एक भी खबर न देखकर परेशान हुए. बताया जा रहा है कि जिले के डीएम शंभूनाथ भी अपने नाम के आगे 'यादव' शब्‍द लगाने पर अपनी नाराजगी जता चुके हैं.

बेवफाई ने जिया को मार डाला! सुसाइड नोट से बढ़ सकती हैं सूरज पंचोली की मुश्किलें

मुंबई : अपने फ्लैट में फांसी लगाकर खुदकुशी करने वाली अभिनेत्री जिया खान का सुसाइड लेटर मिला है। जिया का परिवार यह सुसाइड लेटर पुलिस को सौंपेगा। जिया का यह सुसाइड लेटर छह पन्नों का है। जिया ने अपने लेटर में प्यार में मिले धोखे को खुदकुशी की वजह बताया है।

बंगाल में पत्रकारों पर हमला करने के मामले में 11 अरेस्‍ट

कोलकाता। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कड़े निर्देश के बावजूद उत्तर 24 परगना पुलिस पत्रकारों पर जानलेवा हमला करने और जिन्दा जलाने की कोशिश मामले में मुख्य आरोपी शिवू यादव को गिरफ्तार नहीं कर पायी है। शिवू अब भी पुलिस की पकड़ से दूर है। हालांकि शनिवार तक पुलिस ने इस कांड में तृमूकां के तीन समर्थकों समेत 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

मुंबई प्रेस क्‍लब ने फोर्ब्‍स इंडिया के संपादक समेत चार के टर्मिनेशन को शर्मनाक बताया

फोर्ब्‍स इंडिया पत्रिका से संपादक इंद्रजीत गुप्‍ता तथा उनके सहयोगी चार्ल्‍स असीसी, शिशिर प्रसाद व दिनेश कृष्‍णन को टर्मिनेट किए जाने के मामले को मुंबई प्रेस क्‍लब ने गंभीरता से लिया है. प्रेस क्‍लब ने चारों पत्रकारों को गलत तरीके से टर्मिनेट किए जाने को शर्मनाक बताया है.

एक पत्रकार इसलिए बदतमीज हो गया कि खूबसूरत बाला उसे चाहने लगी

Deepak Sharma :ए भाई जरा देख कर चलो… किसी को नामवर पत्रकार होने का गुमान है. किसी को मीडिया मुगल होने का. कोई पत्रकार से मंत्री बनकर हैसियत भूल गया. कोई सरकार की बड़ी दलाली करने पर फख्र कर रहा है. किसी को सिर्फ अपनी एंकरिंग पर गुरूर है. तो कोई मोदी के करीब होने पर तिरछा है. और एक साहब सिर्फ इसलिए बदतमीज़ हो गए कि उन्हें एक ख़ूबसूरत बाला चाहने लगी.

एक महीने में पचास हजार से ज्‍यादा पाठकों वाले वेबसाइटों को लेना होगा लाइसेंस

शनिवार को क़रीब एक हज़ार व्यक्तियों ने इकट्ठे होकर सरकार की इस नीति का विरोध किया कि अब लोकप्रिय इलेक्ट्रोनिक समाचार सूचना साधनों को भी सरकार से लाइसेंस लेना होगा। सिंगापुर के संसद सदस्यों ने एक ऐसा विधेयक पारित किया है, जिसके अनुसार उन सभी समाचार वेबसाइटों को सरकार से हर साल लायसेंस लेना होगा, जिन को हर महीने कम से कम पचास हज़ार लोग पढ़ते हैं।

कुशीनगर में पत्रकार पर मुकदमा दर्ज, मीडियाकर्मियों ने दी आंदोलन की चेतावनी

कुशीनगर : कप्तानगंज थाना क्षेत्र के मलुकही में पुलिस व ग्रामीणों के बीच बीते दिनों हुए टकराव का कवरेज करने गए पत्रकारों पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस के इस रवैये की हर कोई विरोध कर रहा है। शुक्रवार को ग्रापए सदस्यों ने भी बैठक कर पत्रकारों पर मुकदमा वापस न होने तथा न्याय न मिलने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

साक्षी मीडिया के चेयरमैन जगन की 143 करोड़ की सम्‍पत्ति होगी कुर्क

नई दिल्ली : विशेष पीएमएलए अदालत ने आय से अधिक संपत्ति के मामले में साक्षी मीडिया के चेयरमैन व वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष जगन मोहन रेड्डी और उनके सहयोगियों की 143.74 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया है। इस मामले की जांच प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है। अदालत ने जब्त की गई इन संपत्तियों को धन शोधन निरोधक अधिनियम के तहत अपराध से हासिल धन करार दिया है और उन्हें धन शोधन में शामिल बताया है।

आईसीयू की ओर बढ़ती भारत की अर्थव्यवस्था

: आर्थिक संकट से निपटने की यू.पी.ए सरकार की रणनीति से माया मिली, न राम वाली स्थिति पैदा हो रही है : संकट में फंसी भारतीय अर्थव्यवस्था की फिसलन जारी है. जैसीकि आशंका थी, पिछले वित्तीय वर्ष (१२-१३) की चौथी तिमाही (जनवरी से मार्च’१३) में अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर मात्र ४.८ फीसदी रही और पूरे वर्ष में पांच फीसदी दर्ज की गई जोकि आर्थिक वृद्धि दर के मामले में पिछले एक दशक में अर्थव्यवस्था का सबसे फीका और बदतर प्रदर्शन है.

इन्‍हें बताएं, देश में कितने टीवी चैनल हो चुके हैं बंद

दिल्ली में मीडिया स्टडीज ग्रुप एक शोध संस्था है और यह शोध की दो पत्रिकाएं जन मीडिया (हिन्दी) और मास मीडिया (अंग्रेजी) अप्रैल 2012 से हर महीने प्रकाशित कर रही है। ग्रुप अपने एक नये शोध के लिए आप सभी से मदद चाहता है। हम यह जानकारी एक जगह जमा करना चाहते हैं कि देश के विभिन्न हिस्सों में पिछले कुछ वर्षों में कितने टीवी चैनल बंद हुए।

राहुल फाउंडेशन ने लौटाया ‘जनचेतना’ वाहन, सत्येन्द्र कुमार को दी धमकी

(लखनऊ के प्रतिबद्ध वामपंथी सामाजिक कार्यकर्ता सत्येन्द्र कुमार और कई अन्य साथियों ने राहुल फाउंडेशन का कच्चा चिट्ठा जनता के बीच लाने के लिए पिछले करीब एक दशक से बहुत मेहनत की है। सत्येन्द्र जी ने इनका पर्दाफाश करने लिए एक पुस्तिका भी लिखी है।

भारत में नौकरी चेंज करने को तैयार है हर चौथा आदमी

नई दिल्ली: रोजगार बाजार में तेजी के रुख के बीच वैश्विक स्तर पर नौकरी बदलने को उत्सुक कर्मचारियों के अनुपात के मामले में भारत सबसे ऊपर है। एक सर्वेक्षण के अनुसार देश में प्रत्येक चार में से एक कर्मचारी नौकरी बदलने को तैयार बैठा है। वैश्विक मानव संसाधन एवं प्रबंधन सलाहकार कंपनी हे ग्रुप द्वारा कराए गए सर्वेक्षण के अनुसार, वेतन पैकेज को लेकर असंतोष तथा करियर के मकसद से भारतीय कर्मचारी नौकरी बदलना चाहते हैं।

यूपी में सपा-बसपा के सामने बेबस हैं कांग्रेस और भाजपा

लोकसभा चुनाव में अभी समय है, लेकिन राजनैतिक दल चुनाव की तैयारी में पूरी तरह जुटे नज़र आ रहे हैं। एक-एक नीति और योजना चुनाव को ध्यान में रख कर ही तैयार की जा रही है। हर दल जनता को लुभाने वाले फैसले लेते दिख रहे हैं, लेकिन बात उत्तर प्रदेश में हुये उपचुनाव की करें, तो कांग्रेस की नीति और योजनाओं के साथ भाजपा के नमो ग्लैमर को मतदाताओं ने पूरी तरह नकार दिया है।

हिंदुस्‍तान, हरदोई में संवाददाताओं से हो रहा है भेदभाव

सेवा में, श्रीमान संपादक महोदय, भड़ास मीडिया। महोदय, निवदेन के साथ कहना है कि ‘हिन्दुस्तान‘ अखबार के हरदोई कार्यालय में संवाददाताओं के साथ भेदभाव किया जा रहा है, जिसके कारण कई संवाददाताओं को अखबार से अलविदा होना पड़ा। यह बात अलग है कि किसी को खदेड़ा गया तो किसी के सामने बाहर जाने के हालात पैदा कर दिए गए। यह सिर्फ हरदोई कार्यालय में ही नहीं बल्कि कस्बाई पत्रकारों पर भी रौब दिखाकर कई लोगों को अखबार से हटाने का प्रयास जारी है।

दो घंटे तक उसकी जिंदगी से आंख मिचौली खेलती रही मौत, पर वह बच गया

उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के अलीनगर थाना क्षेत्र के गोधना गांव के सामने एन-एच 2 पर मुगलसराय के भारत पेट्रोलियम डीपो से डीजल लोड कर रांग साइड से वाराणसी की ओर जा रहा एक टैंकर वाराणसी की तरफ से आ रहे एक ट्रक से टकरा गया। टक्कर में ट्रक के ड्राइवर और क्लीनर गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि टैंकर का ड्राइवर टक्कर के बाद टैंकर में ही स्टेयरिंग के बीच में बुरी तरह फंस गया।

पंजाब सरकार पत्रकारों को भी दे वृद्धा पेंशन

अमृतसर : दी चंडीगढ़ पंजाब यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट की हुई बैठक में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया है कि पंजाब सरकार पर दबाव बनाया जाए कि पत्रकारों को बुढ़ापा (वृद्धा) पेंशन दी जाए। एसोसिएशन के अध्यक्ष जसबीर सिंह पट्टी ने कहा कि 58 वर्ष तक की आयु तक पत्रकारिता करने वाले पत्रकार को पंजाब सरकार कम से कम इतनी पेंशन जरूर दे जिससे उसका जीवन निर्वाह हो सके।

मेरी कविता के दिन! अब तो बस माउथ कमिशनरी रह गई है

मित्रों, यह फ़ोटो १९७९-८० की है। तब की जब मैं कविताएं लिखता था। कहानी जैसे मन में अंकुआ रही थी। इस लिए भी कि जो बातें जीवन और समाज में घट रही थीं, उन्हें कहने के लिए कविता का कैनवस नाकाफी जान पड़ रहा था। वैसे भी कविता, कवि सम्मेलनी कविता, भड़ैती में निसार हो रही थी और छपी कविता दुरुहता की खोह में समा रही थी, या नारेबाज़ी, पोस्टरबाज़ी में कुर्बान हो कर जनता से दूर जा रही थी।

सियासी अखाड़े में नेताजी बनाम सीएम बेटा जी

घरेलू राजनीति के मज़े हैं. घर में सरकार, घर में ही विपक्ष, घर में तारीफ़ और घर में आलोचना! घर की सरकार तो ग़ैर की क्या दरकार? भरापूरा परिवार, परिवार में सरकार, सरकार में परिवार. बेटा सीएम तो बाप प्रतीक्षा-पीएम. बहू एमपी. नाती, पोते, चाचा, ताऊ, भतीजे, भांजे…इत्ती बड़ी यूपी, इत्ती जनता, इत्ते नेता, नेताओं के नेताजी!

मनीष शर्मा नवभारत टाइम्‍स, लखनऊ में असिस्‍टेंट एडिटर बनेंगे

अमर उजाला, बरेली से खबर है मनीष शर्मा ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर समाचार संपादक के पद पर कार्यरत थे. वे जल्‍द ही अपनी नई पारी लखनऊ में नवभारत टाइम्‍स से शुरू करने जा रहे हैं. उन्‍हें यहां असिस्‍टेंट एडिटर बनाया जा रहा है. संभावना है कि अगले दो-तीन दिनों के अंदर वे अपनी नई जिम्‍मेदारी संभाल लेंगे. प्रबंधन ने लखनऊ में टीम को मजबूत करने के लिए मनीष को अपने साथ जोड़ा है. वे लंबे समय तक लखनऊ में पत्रकारिता कर चुके हैं, लिहाजा यहां के मिजाज से अच्‍छी तरह से परिचित हैं.

बनारस के एसएसपी अजय मिश्रा ने धाराएं भी उस गरीब पर ऐसी लगायीं कि जैसे वो कोई दंगाई हो

बनारस में आसिफ को जमानत मिलने के साथ ही एसएसपी अजय कुमार मिश्रा की तानाशाही को तमाचा भी पड़ गया। निमेष राय और अमित सिंह के अलावा सभी पत्रकार खुश हैं।  दरअसल, लाशों पर सट्टा खबर को बनाने वाले काशीनाथ शुक्‍ला थे। आसिफ उसके साथ महज मजदूर की तरह कैमरा चलाने गया था। आसिफ बेहद गरीब है और काशीनाथ का कैमरा ढोया करता था।

हमीरपुर प्रेस क्‍लब के संगठन सचिव बने रणवीर सिंह ठाकुर

प्रेस क्लब हमीरपुर की मासिक बैठक वरिष्ठ पत्रकार कपिल बस्सी की अध्यक्षता में शुक्रवार को आयोजित की गई। बैठक में सर्वसम्मति से करीब डेढ दर्जन नए सदस्यों की सदस्यता का अनुमोदन तथा रणवीर सिंह ठाकुर एवं रजनीश शर्मा को क्रमश: संगठन सचिव व कार्यालय सचिव के रूप में पदभार सौपें जाने पर प्रस्ताव पास किया गया, जिस पर सभी सदस्यों ने अपनी सहमति प्रदान की।

एसएसपी वाराणसी द्वारा पत्रकारों के उत्पीडन की प्रेस काउंसिल में शिकायत

लखनऊ आधारित सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर ने एसएसपी वाराणसी अजय कुमार मिश्रा द्वारा पत्रकारों को विधिविरुद्ध तरीके से प्रताडित किये जाने के सम्बन्ध में भारतीय प्रेस परिषद के अध्यक्ष मार्कंडेय काटजू को शिकायत भेजी है. दरअसल मणिकर्णिका घाट पर लाशों की प्रति घंटा आमद पर सट्टेबाजी सम्बंधित एक खबर पर वाराणसी के थाना चौक में 23 मई 2013  को 13 जुआ अधिनियम में मुक़दमा दर्ज किया गया. बाद में इसमें दो अभियुक्तों को पकड़ कर उनके बयान पर उलटे पत्रकार काशीनाथ शुक्ल, आसिफ और दिनेश कुमार को अभियुक्त बनाया गया जिसमे आसिफ गिरफ्तार किये गए.

एसएन विनोद ने साधना न्यूज के भ्रष्टाचार का पर्दाफाश क्यों नहीं किया?

सेवा में, श्री यशवंत सिंह जी, सम्पादक महोदय, भड़ास डॉट कॉम, दिल्ली। विषयः एसएन विनोद ने किया साधना न्यूज के स्ट्रिंगरों के भरोसे का क़त्ल : महोदय, साधना न्यूज के ग्रुप एडिटर एसएन विनोद ने बड़े जोर-शोर ऐलान किया था कि वे साधना न्यूज में व्याप्त भ्रष्टाचार का पर्दाफाश करेंगे। पत्रकारों पर हो रहे अत्याचार और शोषण के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। उन्होंने इसके लिए अपने स्तर से जांच शुरू करने के लिए हम सभी से सुबूत भी मांगे थे।

एड मिल नहीं रहा, एडिटोरियल भी बेदम, आई-नेक्‍स्‍ट प्रबंधन बौखलाहट में!

आई नेक्स्ट के हालात दिन-ब-दिन बद से बदतर होते जा रहे हैं। मार्केटिंग वाले एड ना मिलने से परेशान हैं तो एडोटोरियल वाले अच्छे और कर्मठ कर्मचारी ना मिलने से। लखनऊ में मार्केटिंग का बुरा हाल है। एजीएम मार्केटिंग आशुतोष अग्निहोत्री लगातार लखनऊ में डेरा डाले हुए हैं यहां से अखबार के लिए विज्ञापन निकाल पाना अखबार के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। टार्गेट एक करोड़ रुपये मंथली विज्ञापन कलेक्ट करने का है और लखनऊ में टार्गेट का पंद्रह से बीस प्रतिशत पहुंचने में ही इम्प्लाई को छीकें आ रही हैं।

बिजनौर से प्रकाशित ‘पब्लिक इमोशन’ का होगा विस्‍तार

बिजनौर से खबर है कि पत्रकारों के सहयोग से प्रकाशित होने वाला सांध्‍य अखबार पब्लिके इमोशन अब अपना विस्‍तार करने जा रहा है. बिजनौर के वरिष्ठ पत्रकार डॉ. पंकज भारद्वाज के निर्देशन में प्रकाशित हो रहे सांध्य दैनिक पब्लिक इमोशन को देहरादून, नई दिल्ली और लखनऊ से भी प्रकाशित करने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं.

निर्णायक मंडल ने उस बेचारी पत्रकार को पुरस्कार दे दिया

Ghanshyam Srivastava : पत्रकारिता के लिए पुरस्कारों की घोषणा के पूर्व निर्णायक मंडल की बैठक में एक महिला पत्रकार पर चर्चा हो रही थी। आप भी जानिए निर्णायक मंडल के सदस्यों ने चयन का आधार कैसे तय किया?

रिजल्‍ट आया नहीं और हिंदुस्‍तान ने छाप दी नकलचियों के पास होने की खबर!

हिंदुस्तान के आगरा संस्करण में छह जून को दो नंबर पेज पर ने ऐसी खबर प्रकाशित की कि इस खबर से जुड़े लोग भौचक्‍के रहे गए। हिंदुस्‍तान ने 'फिर पास हो गए नकलची छात्र' शीर्षक से खबर प्रकाशित की, जिसमें आठ छात्र-छात्राओं के रोल नंबर दिए गए हैं। मजे की बात यह है कि इनमें से सात रोल नंबर हाईस्कूल के हैं, जिनका परीक्षा परिणाम आठ जून यानी आज घोषित होना है। जिन सात छात्रों ने अपने रोल नंबर देखकर पढ़े वे सकते में आ गए कि वे इंटर की परीक्षा में कैसे पास हो गए। 

पत्रकार ने की 80 हजार की वसूली तो जेई को हार्ट अैटक हो गया

बरेली में एक के पत्रकार की करतूत के चलते बीडीए के जेई की जान पर आ पड़ी। दरसल एक चैनल के पत्रकार ने बीडीए के एक जेई का स्टिंग कर लिया, जिसमें बीडीए के जेई ने कमिश्नर, बरेली और बीडीए बीसी के साथ सचिव को नक्शा पास करने के नाम पर पैसे मांगने की बात की थी। साथ ही जेई ने किसी काम के लिए चैनल के पत्रकार से कुछ पैसे ले लिए। पत्रकार ने सारे मामले की क्लिपिंग बना ली और बीडीए में जाकर किसी अफसर को दिखा दी। सम्बंधित अफसर ने जेई को तुरंत मामला सुलटाने को कह दिया।

धर्मेंद्र पैगवार ने अग्निबाण ज्‍वाइन किया, जयकिशन का जागरण से इस्‍तीफा

दैनिक भास्‍कर, पत्रिका तथा दैनिक जागरण के राष्‍ट्रीय संस्‍करण में लंबे समय तक काम कर चुके भोपाल के वरिष्‍ठ पत्रकार धर्मेंद्र पैगवार ने सांध्‍य दैनिक अग्निबाण ज्‍वाइन कर लिया है. उन्‍हें अखबार में रिपोर्टिंग टीम का हेड बनाया गया है. सभी रिपोर्टर उन्‍हें रिपोर्ट करेंगे. उज्‍जैन और भोपाल से प्रकाशित अग्निबाण जल्‍द ही जबलपुर और ग्‍वालियर से भी प्रकाशित होने वाला है. संभावना है कि कई और पत्रकार अग्निबाण से जुड़ सकते हैं.

तीन लोगों की हत्या मामले में दैनिक गणदूत के संपादक एवं मालिक गिरफ्तार

अगरतला : त्रिपुरा में ‘दैनिक  गणदूत’ समाचारपत्र के संपादक एवं मालिक सुशील चौधरी को अखबार के कार्यालय में तीन क र्मचारियों की हत्या के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। यह हत्याकांड करीब एक महीने पहले हुआ था। पुलिस अधीक्षक पुलिस नियंत्रण उत्तम मजूमदार ने कहा कि चौधरी को यहां 19 मई को समाचारपत्र के तीन कर्मचारियों की हत्या में कथित तौर पर शामिल होने के मामले में गिरफ्तार किया गया है और उन्हें कल स्थानीय अदालत के समक्ष पेश किया जायेगा।

फोटो जर्नलिस्‍ट विष्‍णु ने झील में डूबते व्‍यक्ति की जान बचाई

उदयपुर : पीछोला झील स्थित मांजी का मन्दिर घाट पर फोटो जर्नलिस्ट विष्णु पालीवाल की हिम्‍मत तथा दिलेरी ने डूबते व्‍यक्ति की जान बचा ली। उन्‍होंने पानी में कूदकर अकेले पीडित को बाहर ले आए। भट्टियानी चौहट्टा निवासी अरविन्द मेहता घाट पर बुधवार सुबह क्रिया-कर्म करवा रहे थे। तभी अचानक उन पैर फिसल गया तथा वे पानी में गिर गए। तैरने नहीं आने के कारण वे गहराई में चले गए। 

आई नेक्‍स्‍ट, लखनऊ से प्रभात एवं जेबा का इस्‍तीफा

आई नेक्‍स्‍ट, लखनऊ से खबर है कि यहां के खराब माहौल के चलते इस्‍तीफा देने वालों की संख्‍या लगातार बढ़ती जा रही है. दिलीप मिश्रा के बाद दो और महिला पत्रकारों ने टैबलाइड को बाय कर दिया है. आई नेक्‍स्‍ट में सब एडिटर के पद पर कार्यरत प्रभात दीक्षित ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे अपनी नई पारी लखनऊ में ही अमर उजाला के साथ शुरू कर रही हैं. उन्‍हें अमर उजाला में भी सब एडिटर बनाया गया है. प्रभात लंबे समय से आई नेक्‍स्‍ट के साथ जुड़ी हुई थीं.

मोदी से रार : आज भी आडवाणी नहीं जाएंगे गोवा

 

नई दिल्ली। तमाम सस्पेंस के बाद अब ये तय हो गया है कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शामिल होने के लिए गोवा नहीं जाएंगे। खुद को बीमार बताकर कल भी आडवाणी गोवा नहीं गए थे। पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने भी कहा था कि उनकी तबीयत खराब है और उन्होंने आडवाणी को आराम करने के लिए कहा है। हालांकि राजनीतिक हलकों में चर्चा थी कि मोदी की ताजपोशी की संभावना से नाराज आडवाणी गोवा नहीं गए हैं। 

अरे लड़कियों जल्‍दी केबिन में आओ, भड़ास पर किसी ने इतना लिख दिया

 

अचानक से चैनल में हल्ला होता है, न्यूज हेड को बुलाया जाता है, अंदर से गुप्‍ताजी की आवाज आती है, सभी लडकियों को मेरे केबिन में बुलाओ। न्यूज हेड, लडकियों के नाम पुकारता है… ईना, मीना, डिका… रेखा, मीना, सीता ……. सभी……. सर के रूम में आओ, और सभी को भी बुलाकर लाओ, जल्दी से आओ सभी।

आईजेए ने की मांग -पत्रकारों पर हमले के आरोपियों को अरेस्‍ट किया जाए

 

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (आईजेए) ने बैरकपुर में टेलीविजन पत्रकारों पर हमले की आज निंदा की और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया। एसोसिएशन के अध्यक्ष एस. सबा नायकन ने यहां जारी एक बयान में ड्यूटी पर रहने वाले पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

एबीपी न्‍यूज के पत्रकार को जिंदा जलाने की कोशिश, चार को घायल किया

 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों और पार्टी समर्थित बदमाशों ने शुक्रवार को एबीपी न्‍यूज के एक पत्रकार को जिंदा जलाने की कोशिश की जबकि चार अन्य पत्रकारों पर हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया। ये पत्रकार हत्या के बाद हुई हिंसा की घटना को कवर करने गए थे। स्थानीय लोगों का कहना है कि तृणमूल कांग्रेस के दो गुटों के बीच हुए फसाद में एक व्यक्ति की हत्या हो गई थी। बैरकपुर के सिटी पुलिस प्रमुख संजय सिंह ने बताया कि इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

Dr Prem Singh ends his three days fast

The three day fast observed by Dr Prem Singh, Professor Delhi University, in protest against the undemocratic implementation of FYUP in Delhi University, came to an end today evening. The famous Hindi writer, Rajendra yadav, ended Dr Prem Singh’s three day fast by offering him fruit juice.

दैनिक जागरण के भ्रष्‍टाचार की पोल खोलने वाले रमण कुमार को धमकी

: कोर्ट में दी शिकायत : दैनिक जागरण जैसे महाभ्रष्‍ट संस्‍थान की पोल खोलने वाले मुजफ्फरपुर के रमण कुमार यादव को धमकियां मिलनी शुरू हो गई हैं. रमण कुमार ने दैनिक जागरण के भ्रष्‍टाचार की पोल खोलने के लिए लंबी लड़ाई लड़ी है. कभी वे दैनिक जागरण के कर्मचारी हुआ करते थे, लेकिन प्रबंधन ने उन्‍हें दूध की मक्‍खी की तरह निकाल बाहर कर दिया. प्रबंधन अपनी ताकत के मद में एक आम कर्मचारी को कमजोर समझने की भूल कर बैठा.

चैनलों एवं अखबारों के दफ्तरों में कुत्ता मंदिर बनना चाहिये

viplav Vinod : महाकुत्ते की याद में राष्ट्रीय महाकुत्ता स्मारक बने। अमिताभ बच्चन के कुत्ते की मौत के शोक में एक महीने के लिये राष्ट्रीय मातम मनाया जाना चाहिये। देश के हर आदमी के लिये सिर मुंडवाना और सफेद कपड़े पहना जरूरी होना चाहिये तभी उस महान आत्मा को शांति मिल सकेगी। उस महानायक के कुत्ते को महाकुत्ता घोषित करना चाहिये और उनकी याद में राष्ट्रीय स्मारक बनना चाहिये।

इससे तो खराब हो रहा है ख़ाकी का चेहरा

उच्च शिक्षा प्राप्त। पारिवारिक पृष्ठभूमि राजनीतिक। पिता राजनीति के गुरु। युवा सोच, युवा मन, युवा उम्मीदें-सपने। सब कुछ जब युवा है, तो फिर संकट कहां, कैसा और क्यों? एक अदद यही वह सवाल है जिसने, देश के सबसे बड़े सूबे यानि उत्तर प्रदेश के चीफ मिनिस्टर को हिलाकर रख दिया है।

सीरिया में दो फ्रांसीसी पत्रकार हुए लापता

पेरिस। फ्रांसीसी रेडियो चैनल के लिए काम कर रहे दो पत्रकार सीरिया में लापता हो गए हैं और पिछले 24 घंटे से उनका कोई अता-पता नहीं चल पाया है। रेडियो चैनल ‘यूरोप 1’ ने एक बयान में बताया कि लापता पत्रकारों में से एक संवाददाता दिदिए फ्रांसवा है जबकि दूसरा एदोआर्द एलिया है, जो फोटोग्राफर है।

आप के कार्यकर्ता ने कैसे खोला लैपटॉप का ‘भ्रष्‍ट’ ढक्‍कन, देखें वीडियो

उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में जो काम पत्रकार नहीं कर पाए उसका खुलासा आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता अमित सिंह ने कर दिखाया. लैपटॉप के पीछे चल रही धांधली का स्टिंग करके अमित ने साबित किया है कि आम आदमी पार्टी इस भ्रष्‍टाचार के खिलाफ है. गौरतलब है कि अमित ने चंदौली जिले के सकलडीहा क्षेत्र में श्री सच्चा अध्यात्म संस्कृत महाविद्यालय के प्रिसिंपल की सच्चाई सामने लाई थी. इसमें उसका एक कर्मचारी भी शामिल है.

नहीं थम रहा कांग्रेस नेताओं का शीतयुद्ध, रूठने मनाने का दौर जारी

देहरादून। सत्तारूढ़ कांग्रेस के बड़े नेताओं के बीच चल रहा शीतयुद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है। प्रकारान्तर में यह नेता अलामान को भी चुनौती देते नजर आ रहे हैं। उत्तराखंड बनने के बाद ही कांग्रेस में यह सिलसिला प्रारंभ हुआ था जो बदस्तूर जारी है। मूलत: यह शीतयुद्ध सत्ता बनाग संगठन का है। जिन दिनों पहली चुनी गयी सरकार का मुखिया पं. नारायण दत्त तिवारी को बनाया गया था, तभी से ही यह सिलसिला चल रहा है।

है हिम्मत तो घोषित करो मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार, वरना बंद करो ये नाटक

Anand Pradhan : बहुत हो चुका नाटक…साल भर से एक ही राग चल रहा है, देश के प्रमुख विपक्षी दल में कि उसका प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार कौन होगा? दूसरी ओर, उसके नेता नरेन्द्र मोदी का प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी का समानांतर अभियान भी चल रहा है…

पत्रकारों की गुटबाजी : उदयपुर कोर्ट ने निरस्‍त की प्‍लॉट आवंटन की पूरी प्रक्रिया

गत दिनों से उदयपुर विकास प्रन्यास की ओर से पत्रकारों को दिए गए प्लॉट की पूरी प्रक्रिया को उदयपुर कोर्ट की ओर से निरस्त कर दिया गया है। कोर्ट ने माना कि प्लॉट आवंटन में कई अनियमितताएं हुई हैं, ऐसे में यूआईटी नियमानुसार दोबारा प्लॉट आवंटन की प्रक्रिया करे।

अमिताभ ठाकुर और नतून की प्रेम कहानी : तुम्ही से मुहब्बत तुम्ही से लड़ाई

Amitabh Thakur : 07/06/1993: ए और एन की शादी– वैसे तो यह एक तारीख है जो आई और गयी. कब आई, कब गयी, ज्यादातर लोगों को याद नहीं होगी. वैसे ही जैसे मुझे कई सारी दूसरी तारीखें याद नहीं रहतीं. आदमी को वही तारीखें याद रह पाती हैं जिनकी उनके लिए अहमियत होती है- चाहे अच्छी या बुरी…. 07/06/1993 अर्थात वर्ष 1993 के जून महीने की सातवीं तारीख मुझे हमेशा याद रहती है. मात्र इसीलिए नहीं क्योंकि इस रोज मेरी शादी हुई थी. शादी हुई यह मेरे लिए बड़ी बात तो थी पर यह दिन मेरे लिए यादगार इसीलिए बन गया क्योंकि इस दिन मेरी शादी नूतन से हुई.

‘सिटी हलचल’ की फर्जी खबरों से आहत महिला ने दी आत्‍मदाह की धमकी

Manish Soni : न जाने इस बेबस महिला से क्या वसूली करते ये लोग। आबकारी विभाग के सहयोग से चल रहा है फर्जी न्यूज़ चैनल। कोरिया जिले में 'सिटी हलचल' के नाम से न्यूज़ प्रसारित करने की एक विधा है, जो हमेशा वसूली और अपमानित करने के मामले में हमेशा सुर्ख़ियों में रहता है।

इस कंपनी के खिलाफ कोई अखबार नहीं छापेगा, कोई चैनल नहीं दिखाएगा क्योंकि विज्ञापन बजट अरबों खरबों डालर का है

Yashwant Singh  : दैत्याकार बहुराष्ट्रीय कंपनी पेप्सी के बोतल में चाहे जो निकल आए.. इस कंपनी का कोई कुछ नहीं उखाड़ बिगाड़ हिला सकता… क्योंकि, यह सरकारों के परे है, कानून से उपर है, देशों से बड़ा देश है… अंतरिक्ष और पाताल तक इसकी जड़ें हैं…. एक साथी पारस जैन इसी खबर पर बता रहे …

झांसी में पत्रकारों के उत्‍पीड़न का मामला : डीजीपी ने भेजी जांच टीम

झांसी में पत्रकारों के उत्‍पीड़न का मामला लखनऊ तक पहुंच गया है. कुछ पत्रकारों की शिकायतों के बाद डीजीपी ने झांसी में एक टीम जांच के लिए भेजी है. इस टीम ने पीडि़त पत्रकारों के बयान लेने के अलावा कई और लोगों से पूछताछ की. पत्रकार झांसी में कोतवाली की जिम्‍मेदारी संभाल रहे दारोगा जेपी यादव के आतंक से परेशान हैं. इस दारोगा ने अब तक चार पत्रकारों को जेल भेजा है. साथ ही कई पत्रकारों पर दबाव बनवाने के लिए लगातार पुलिस के लोगों को इनके घरों पर भेजता रहा.

आडवाणी गोवा में कभी बने थे मोदी के लिए ढाल!

Akhilesh Anandd : आज जिस गोवा की बैठक के जरिए नरेन्द्र मोदी को चुनाव अभियान समिति की कमान सौंपने की तैयारी है ..11 साल पहले उसी गोवा में मोदी के पोलिटिकल करियर के द एंड की भी तैयारी थी..साल 2002 में गुजरात दंगों के बाद गोवा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने मोदी को मुख्यमंत्री पद से हटाने का मन बना लिया था.

कुत्ते के नाम पर विशेष पुरस्कार शुरू करने की मांग करने वाले हैं जस्टिस काटजू!

Mayank Saxena : बार बार कोशिश कर रहा हूं लेकिन अमिताभ के कुत्ते की मौत (सॉरी निधन) के सदमे से उबर नहीं पा रहा हूं…घर लौटते वक्त पीछे से कुत्तों ने दौड़ाया तो लगा कि वही पुकार रहा है…एक बार तो लगा कि बाइक रोक कर खुद को कटवा ही लूं…लेकिन तब तक उनका इलाका निकल गया, वो फिर से कुत्ते बन गए…

शशि शेखर को मैंने ‘चोर’ या ‘चोरों का सरदार’ कभी नहीं कहा

आदरणीय यशवंत जी, भड़ास मीडिया, नमस्कार। आपके मीडिया पोर्टल ने हम जैसे मारे-हारे हुए को एक नया जोश-खरोश दिया है। यह तो कल ही तय करेगा कि हम जैसों को इससे कितना सहारा मिल पायेगा? परन्तु एक बात तो सत्य है कि इस पोर्टल के माध्यम से अपनी भड़ास निकाल कर काफी संतुष्ट होते हैं हम। इसके लिए मैं हारे-मारे लोगों की तरफ से आपको कोटि-कोटि धन्यवाद देता हूँ।

”न्‍यूज टाइम वालों ने पहले एक्‍पायर्ड चेक दिया फिर आश्‍वासन, पैसे अब तक नहीं मिले”

जनसंदेश न्यूज, जिसका बाद में नाम बदल कर न्‍यूज टाइम कर दिया गया, उसकी हालत खराब हो चुकी है. फील्‍ड में काम करने वाले ज्‍यादातर स्ट्रिंगरों को कई महीने का पैसा नहीं मिला है. चमक-धमक दिखाने वाले स्ट्रिंगरों को आधा-अधूरा देकर कागज पर लिखवा लिया गया है कि अब कोई बकाया नहीं है. इस चैनल का शटर भी लगभग गिर चुका है. चैनल में बस इसके हेड सैयदेन जैदी और दो-चार अन्य मीडियाकर्मी बचे हैं, और ये भी नौकरी ढूंढने में लगे हुए हैं.

संघ न तो मोदी को आगे कर पा रहा है और न ही आडवाणी को नेपथ्य में ढकेल पा रहा है

आडवाणी तय करें वे क्या चाहते हैं? नरेन्द्र मोदी को लेकर तमाम आशंकाओं, सियासी झंझावातों, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी एंड पार्टी का विरोध, कांग्रेस का मीडिया मैनेजमेंट और मानसून की आमद; ये वे कारक हैं जो गोवा में जारी भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक को गरमाए हुए हैं। हाल ही में मध्यप्रदेश …

घाटमपुर के पाठक परेशान, ये पत्रकारिता है या भांड़गिरी

घाटमपुर के इस्लामिया इंटर कालेज में चल रही मदरसा बोर्ड की परीक्षाओं में धड़ल्‍ले से जारी नकल का ५ जून बुधवार को दैनिक जागरण ने कवरेज किया। झुंड बना कर नकल सामग्री के साथ बैठे परीक्षार्थियों की फोटो खिंची, तो नलक माफिया और केंद्र व्यवस्थापकों में हड़कंप मच गया। पहले दैनिक जागरण संवाददाता को हर तरह से मैनेज करने का प्रयास हुआ, लेकिन सफलता हाथ न लगी, तो हिंदुस्तान और जनसंदेश टाइम्स के रिपोर्टरों को घास डाली गई।

”आंखों देखी” में कैसे कैसे रिपोर्टर रख दिए गए हैं, जरा देखिए तो इन्हें (देखें वीडियो)

ये हैं कामिल खान. इन्होंने मात्र कक्षा 5 तक पढाई की है. इन दिनों 'आंखो देखी' की कथित आईडी लेकर टीवी रिपोर्टर हो गये है. क्षेत्र में दबदबा बनाने के साथ ठीकठाक धन भी कमा रहे हैं. इनकी रिपोर्टिंग का अंदाज तो देखिए. ये महोदय उत्तर प्रदेश में बदायूं जनपद के कस्वा फैजगंज बेहटा से हैं.

अब अभिव्यक्ति की आजादी भी सत्ता को मंजूर नहीं!

भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने देश के प्रमुख स्वैच्छिक संगठन इंडियन सोशल ऐक्शन फोरम (इंसाफ) को भेजे एक पत्र में इंसाफ का विदेशी अनुदान पंजीकरण (एफसीआरए) अगले 180 दिनों के लिए रद्द किए जाने और बैंक खाता सील किए जाने का कारण यह बताया है कि सरकार के पास उपलब्ध सूचनाओं के आधार पर उसे लगता है कि संस्था को मिलने वाला विदेशी अनुदान ‘‘दुराग्रहपूर्ण तरीके से जन हित को प्रभावित कर सकता है।‘‘

शहीद सिपाही को डीएसपी जिया जितनी सहायता मिले, भगोड़े सीओ पर कार्रवाई हो

सामाजिक कार्यकर्ता डा. नूतन ठाकुर ने उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री से 5 जून 2013 को सहारनपुर जिले के पुलिस कांस्टेबल राहुल ढाका को ड्यूटी के दौरान गोली मार कर ह्त्या करने के मामले में डिप्टी एसपी जिया उल हक़ की तरह आर्थिक सहायता और दो सदस्यों को नौकरी की मांग की है. डॉ ठाकुर ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार की ऐसी कोई नीति नहीं होगी जो शहीदों  की मौत में कर्मचारी के पद अथवा जाति अथवा धर्म के आधार पर भेद करती हो.

अमित कुमार ने नवदुनिया तथा जयंत ने श्री न्‍यूज ज्‍वाइन किया

अमर उजाला से खबर है कि अमित कुमार निरंजन ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे यहां पर अमर उजाला के युवान से जुड़े हुए थे. अमित ने अपनी नई पारी जागरण समूह के अखबार नवदुनिया के साथ भोपाल में शुरू की है. उन्‍हें यहां सब एडिटर बनाया गया है. वे युवान से लगभग ढाई सालों से जुड़े हुए थे. इसके पहले अमित स्‍टार न्‍यूज, देशबंधु तथा राजस्‍थान पत्रिका को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

मोदी के पक्ष में चली हवा तो ‘बीमार’ हो गए आडवाणी

नई दिल्ली। बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी आज गोवा नहीं जा रहे हैं। सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि जिस तरह से बैठक के पहले ही मोदी का नाम उछाला जा रहा है उससे खुश नहीं हैं। आडवाणी ने तबियत खराब होने का हवाला देते हुए आज की मीटिंग से दूरी बना ली है। आडवाणी को आज तीन बजे बीजेपी पदाधिकारियों और संसदीय बोर्ड सदस्यों के साथ मीटिंग में शिरकत करनी थी। लेकिन अब उन्होंने अपना कार्यक्रम बदल दिया है।

झुंझुनू में 12 मान्‍यताप्राप्‍त पत्रकारों को भूखण्‍ड के पट्टे वितरित

झुंझुनू। सैनिक कल्याण, आपदा प्रबधंन एवं इन्दिरा गांधी नहर राज्य मंत्री बृजेन्द्र सिंह ओला ने कहा है कि सरकार सदैव पत्रकारों के हितों का ध्यान रखेगी और झुंझुनू में नॉन अधिस्वीकृत (मान्‍यता) पत्रकारों को भी भूखण्ड दिलवाने के पूरे प्रयास किए जाएंगे और जल्द भूखण्ड दिए जाएंगे।

छतरपुर के दो पत्रकारों का स्टिंग, ये है आडियो टेप (सुनें)

छतरपुर (मध्य प्रदेश) । आरसी कोल्ड ड्रिंक के गोदाम पर छापे की हकीकत यहां पेश है. इस स्टिंग आपरेशन से बेनकाब होंगे जिले में सक्रिय ब्लैकमेलरों का गैंग. इनसे प्रताड़ित हैं व्यापारी. वैसे तो ये दलाल हैं जो पत्रकारिता जैसे मिशन पर कालिख पोत रहे हैं, पत्रकारिता को बदनाम कर रहे हैं. 29 मई 2013 को दोपहर दो बजे प्रकश होटल पर खाना खा रहे दो पुलिस वालों ने देखा कि एक ट्रक में से कोल्ड ड्रिंक उतर रही है तो उन्होंने एक प्रादेशिक न्यूज़ चैनल के नाम से मिलते जुलते दैनिक समाचार पत्र के ब्लैकमेलर संपादक को फोन लगाया.

उप्र सरकार को लगा झटका, हाई कोर्ट ने मुकदमे वापस लेने पर लगाई रोक

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने आतंकवाद से जुड़े मामलों के आरोपियों से लंबित आपराधिक मुकदमे वापस लिये जाने के उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश पर रोक लगा दी है। न्यायमूर्ति राजीव शर्मा और न्यायमूर्ति महेन्द्र दयाल की खंडपीठ ने आज यह आदेश रंजना अग्निहोत्री समेत छह स्थानीय वकीलों की जनहित याचिका पर दिया। याचिका में आतंकवादी गतिविधियों के आरोपियों के खिलाफ मुकदमे वापस लिये जाने सम्बन्धी राज्य सरकार के आदेश को निरस्त करने का आग्रह किया गया था।

”मैं दया तो कर सकती थी, लेकिन उसके पेट भरने का इंतजाम नहीं कर सकती थी”

अभी एक दिन पहले घर पर सबका जलेबी खाने का मन हुआ तो मैंने कहा लाओ आज मैं ही ले आती हूं और थोड़ा टहलना भी हो जाएगा। इलाहाबाद में सुबह सुबह जलेबी खाने का बड़ा प्रचलन है। मैं थोड़ा ईधर उधर टहल कर एक जलेबी की दुकान पर पहुंची। देखा एक छोटा बच्चा जिसकी उभ्र लगभग १२-१३ साल की रही होगी भट्ठे पर चढ़ी कढ़ाई से जलेबी छान रहा था। मासूम सांवला चेहरा, आंखों में कोई चमक नहीं, चेहरे पर कोई भाव नहीं, पसीना टप टप उसके बदन से चू रहा था। जितना लम्बा उसका कद नहीं उससे ज्यादा लम्बा छन्ना था।

सहारा के रिपोर्टर ने कॉलेज प्रबंधन से मांगे पचास हजार रुपये!

: शिकायत जिलाधिकारी से की गई : छतरपुर। मप्र के छतरपुर जिले में सहारा समय मप्र-छग के टीवी चैनल रिपोर्टर शीलबंत पचौरी पर शहर के एक कॉलेज संचालक आत्माराम पाण्डे ने कॉलेज चलाने व परीक्षा करवाने के एवज में 50 हजार रुपए की मांग करने का आरोप लगाया है। आत्‍माराम का कहना है कि रिपोर्टर ने उन पर वसूली करने का दबाव बनाया। कालेज संचालक ने सहारा समय रिपोर्टर शीलबंत पचौरी के इस कारनामे की शिकायत छतरपुर कलेक्टर, एसपी एवं मप्र-छग के सहारा समय के चैनल हेड मनोज मनु से की है।

मल्लिका के सपनों का राजकुमार बनेगा पी7 चैनल का पत्रकार किरणकांत!

हरिद्वार। अगर सब कुछ ठीक रहा तो हरिद्वार का एक युवा पत्रकार जल्द ही बालीवुड की हसीन दुनिया में भी अपने जलवे दिखायेगा। हरिद्वार के युवा पत्रकार किरणकांत शर्मा इन दिनों जल्द ही लाइफ ओके चैनल पर आने वाले सिने तारिका मल्लिका सेहरावत के स्वंयवर में शामिल होने की तैयारियों में जुटे हुए हैं। चैनल की दो महीने लंबी चली चयन प्रक्रिया के बाद किरणकांत का चयन मेरे ख्यालों की मल्लिका सीरियल के फाइनल राउंङ के लिए हो गया है। अब फाइनल रांउङ में मल्लिका अपने स्वंयवर में शामिल होने वाले युवाओं का चयन दिल्ली में करेंगी।

यह पत्रकारिता के पतन का लक्षण है या फिर उत्थान का?

आज (6 जून 2013) शाम को मेरे हॉकर के साथ एक निरीह प्राणी जैसे युवा आया। उसने बड़े दया भाव से यह कहा कि आप हमें 50 रुपये का चेक दे दीजिए तो इसके बदले में 5 महीने तक नवभारत टाइम्स अखबार आपके घर पर आएगा। मैं भ्रम में पड़ गया कि आखिर कोई किस तरह से 10 रुपये की कीमत में महीने भर अखबार, आखिर इससे सस्ती चीज और क्या सकती है। लेकिन फिर भी मैंने उससे कुछ पूछना चाहा, लेकिन वह युवा कुछ बताना नहीं चाहता था। शायद उसे मालूम नहीं होगा और झूठ भी बता नहीं पा रहा था।

न्‍यूज ऑफ द वर्ल्‍ड के पूर्व संपादक ने फोन टैपिंग के आरोपों से किया इनकार

लंदन। ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरून के पूर्व मीडिया प्रमुख और न्यूज ऑफ द वर्ल्ड के पूर्व संपादक रह चुके एंडी कुलसन ने फोन टैपिंग के संबंध में लगाए गए सभी आरोपों से इनकार किया। एंडी पर आरोप है कि 2003 से 2007 के बीच जब वह न्यूज ऑफ द वर्ल्ड के संपादक थे उस दौरान उनके पत्र के संवाददाता फोन टैपिंग करते थे।

‘फोर्ब्स इंडिया’ मैग्जीन से संपादक इंद्रजीत गुप्ता समेत चार एडिटोरियल हेड बेइज्जत करके हटाए गए

चर्चित बिजनेस मैग्जीन 'फोर्ब्स इंडिया' से इसके संपादक इंद्रजीत गुप्ता समेत चार एडिटोरियल हेड को हटा दिया गया. ये जो बाकी तीन हैं, उनके नाम हैं- डायरेक्टर फोटोग्राफी दिनेश कृष्णन, एक्जीक्यूटिव एडिटर शिशिर प्रसाद और मैनेजिंग एडिटर चार्ल्स अस्सीसी. फोर्ब्स मैग्जीन का संचालन नेटवर्क18 ग्रुप करता है जिसके मुखिया राघव बहल हैं. नेटवर्क18 के ही वेंचर हैं सीएनएन-आईबीएन, आईबीएन7, फर्स्ट पोस्ट, सीएनबीसी टीवी18, सीएनबीसी आवाज आदि. सूत्रों के मुताबिक सभी के सामने इस्तीफे की स्थिति क्रिएट की गई और बेइज्जत करके निकाला गया. 

दीपक चौरसिया और राणा यशवंत की टीम पर कार्तिकेय कसने लगे शिकंजा!

: कानाफूसी : चर्चा है कि इण्डिया न्यूज फिर डूबता जहाज बनने जा रहा है. सूत्र बता रहे हैं कि दीपक चौरसिया व राणा यशवन्त की जो नयी टीम आयी है, उसने कार्तिकेय शर्मा को 3 माह में टॉप फाईव का वादा किया था. इसके लिए खुली छूट मांगी थी. इसके बाद ये लोग अपने चहेतों को अच्छे पैकेज पर ले आये. लेकिन जब टीम कोई कमाल नहीं दिखा सकी तो कार्तिकेय ने टीम पर शिकंजा कसा. ऐसे में इन्हें जब अपना भविष्य अन्धकार में लगा तो कास्ट कटिंग का फंडा निकाल कर सभी रीजनल चैनलों से 50 रिटेनरों की छंटनी कर दी.

नाराज सुप्रिय प्रसाद ने आजतक न्यूज चैनल की ‘स्पोर्ट्स टीम’ भंग की!

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज तक न्यूज चैनल पर गत 5 जून को एक घंटे का एक स्पोर्ट्स शो जाना था, रात 9 से 10 बजे तक. मगर स्पोर्ट्स टीम की लापरवाही की वजह से शो केवल आधे घण्टे का ही जा सका. इस वजह से नाराज़ सुप्रिय प्रसाद ने अगले आदेश तक स्पोर्ट्स टीम भंग कर दी है.

गोवा से निकलेगा संदेश : देश के नेता मोदी

आप जब ये पंक्तियां पढ़ रहे होंगे, तो या तो गुजरात के सीएम नरेंद्र मोदी के बारे में गोवा से कोई नई खबर आपको मिल चुकी होगी। या फिर वह खबर बन रही होगी। या वह खबर हवा में तैरने को तैयार होगी। थोड़ी देर बाद, जब आप अपना टीवी खोलेंगे तो ब्रेकिंग न्यूज की शक्ल में बीजेपी में मोदी की नई भूमिका और उस भूमिका की महिमा का बखान होता देख रहे होंगे। कुल मिलाकर, नरेंद्र मोदी अपने राष्ट्रीय अवतार में प्रकट होनेवाले हैं। गुजरात तो फतह कर ही लिया है। अब देश में छा जाने की बारी है। राष्ट्रीय स्तर के बयान तो मोदी के पहले से ही आने शुरू हो गए हैं।

नशेड़ी डाक्‍टर ने मीडियाकर्मी से की बदसलूकी

पठानकोट : पठानकोट के एक निजी अस्पताल में माहौल उस समय तनाव पूर्ण हो गया जब नशे में धूत डॉक्टर द्वारा हस्पताल में दाखिल 6 साल  के बच्चे के पिता से बतमीजी से पेश आया और हंगामा खड़ा कर दिया। मौके पर पहुंचे मीडिया कर्मी ने जब डॉक्टर से इस हंगामे संबंधी पूछना चाहा तो नशे में धुत डॉक्टर ने बताने के लिए पहले तो हां कर दी फिर अचानक मीडिया कर्मी के कैमरा पर हाथ मार दिया।

मीडिया भी फिक्स है?

कोई हाशिए की चीज़ किस तरह किसी राष्ट्र की समस्त चिंताओं, समस्याओं को दरकिनार करके और उसके वास्तविक एजेंडे का हरण करके सबसे मह्तवपूर्ण विषय के रूप में जनमानस की चेतना पर काबिज़ हो सकती है, इसका सबसे बढ़िया उदाहरण है आईपीएल। मैच फिक्सिंग के नए रहस्योद्घाटन के बाद से तो पूरा मीडिया इसी विवाद पर केंद्रित हो गया है कि हज़ारों करोड़ों का ये मनोरंजनी कारोबार कितना बड़ा धोखा है और खिलाड़ियों से लेकर अधिकारियों तक इसकी आड़ में क्या-क्या गुल खिला रहे हैं।

वरिष्‍ठ खेल पत्रकार गोपाल जी भारतीय का निधन

इलाहाबाद : वरिष्ठ खेल पत्रकार गोपाल जी भारतीय का गुरुवार की सुबह सात बजे निधन हो गया। 53 वर्षीय गोपाल जी भारतीय लंबे समय से किडनी की बीमारी से पीड़ित थे। वे पिछले वर्ष से अस्वस्थ चल रहे थे। पिछले एक माह में उनकी हालत और बिगड़ गई थी। गुरुवार की सुबह उन्होंने अपने मालवीय नगर स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। रसूलाबाद घाट पर पूर्वाह्न 11 बजे उनका अंतिम संस्कार किया गया। उनके बड़े भाई रामजी भारतीय ने उन्हें मुखाग्नि दी। उनके निधन से खेल जगत एवं खिलाड़ियों में शोक की लहर दौड़ गई।

यूपी में एक दूसरे को कड़ी टक्‍कर दे रहे हैं ईटीवी, जी न्‍यूज एवं समाचार प्‍लस

यूपी के रीजनल चैनलों की 22वें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. यूपी में तीन चैनलों के बीच जमकर प्रतिस्‍पर्धा हो रही है. ईटीवी पहले नम्‍बर पर है. दो सप्‍ताह पहले जी न्‍यूज यूपी-यूके पहले नम्‍बर था. इसके पहले सप्‍ताह में समाचार प्‍लस जी न्‍यूज यूपी को पछाड़ते हुए दूसरे नम्‍बर पर पहुंच गया था.

अब फेसबुक पर पूर्वांचल विश्‍वविद्यालय, ब्‍लॉग पूरबबानी के भी दो साल पूरे

वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय पहले ब्लॉग पूरब बानी और अब फेसबुक के माध्यम से अपनी बात को वैश्विक मंच पर साझा कर रहा है। विश्वविद्यालय ने चर्चित सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेस बुक पर अपना अधिकारिक पेज बनाया है।

Delhi University FYUP : Fast at Rajghat

Coming from the rural outskirts of Delhi during the early 70s, I had joined Delhi University as a Hindi literature student. I had felt completely awed by the ambience, the intellectual and the creative warmth prevailing in the campus. Alongside the broad lanes and the shady trees on the ridge, one had experienced the power of the J.P. Movement, the trauma of the Emergency, the horrific killing of Mrs. Gandhi and the shame of communal riots. There were no grilled enclosures in the campus then, to shut out the pulse of the nation and such out side concerns and influences. They were a part of the unwritten curriculum integral to the students learning process.

‘कांग्रेस करती है शहादत पर सियासत और कांग्रेसी मुगलों की तरह काम करते हैं’

जांजगीर-चांपा। छग के गृहमंत्री ननकी राम कंवर ने जांजगीर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा है और आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस, शहादत पर राजनीति करती है। कांग्रेसियों को शहादत से कोई मतलब नहीं होता, उन्हें केवल राजनीति करनी है। ऐसे में लगता है कि इसी राजनीति के कारण कांग्रेस, सत्ता से बाहर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी, मुगलों के समान कार्य करते हैं, जिसके कारण उनकी ही छवि की खराब होती है।

आईपीएल सट्टेबाजी : राज कुंद्रा को भी गिरफ्तार करेगी दिल्‍ली पुलिस

नई दिल्ली। अभी तक की जांच में आईपीएल की दो टीमों के मालिकों पर सट्टेबाजी में शामिल होने के गंभीर आरोप लगे हैं। पहले चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक और श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन पर सट्टेबाजी में शामिल होने के आरोप लगे। इस मामले में उन्हें गिरफ्तार भी किया गया और फिर जमानत मिल गई।

भाजपा में मोदी विरोधी खेमा अब काफी कमजोर हो गया है

तमाम मतभेदों के बावजूद भाजपा के चर्चित नेता नरेंद्र मोदी अपनी पार्टी के अंदर जीत के सिकंदर बनते जा रहे हैं। लंबे समय से अंदरूनी कवायद चलती आ रही है कि गुजरात के मुख्यमंत्री को राष्ट्रीय राजनीति में ‘सुपरस्टार’ बनाकर गांधीनगर से दिल्ली ले आया जाए। पिछले वर्ष दिसंबर में गुजरात विधानसभा का चुनाव पार्टी …

बनारस के एसएसपी बदले की भावना से एकतरफा कार्रवाई कर रहे, पत्रकार क्षुब्ध

वाराणसी। मणिकर्णिका घाट पर लाशों पर लगने वाले सट्टे की खबर प्रसारित किये जाने के मामले में पुलिस द्वारा आरोपी बनाए गए मीडियाकर्मी आसिफ को आज अदालत ने जमानत दे दी। पुलिस ने आसिफ के ऊपर धोखाधड़ी और धार्मिक उन्माद फैलाने जैसी गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। अदालत ने पुलिस द्वारा लगाए गए आरोपों को प्रथम दृष्टया जमानती मानते हुए आसिफ की जमानत मंजूर कर ली।

‘हिंदुस्तान के पत्रकार ने समाचार पत्र को अपनी जागीर बना लिया’

पांच साल से चित्रकूट मुख्यालय कर्वी में डटे हिंदुस्तान के पत्रकार ने समाचार पत्र को अपनी जागीर बना लिया। कानपुर और लखनऊ के संपादकों की चाटुकारिता के बूते अपनी दुकान चला रहे इस पत्रकार की खबरे सिर्फ पुलिस अधिकारियों की चमचागिरी से भरी रहती है। समाचार पत्र से ब्राम्हणवाद चला रहा यह पत्रकार पेशे को तो कलंकित कर ही रहा है अखबार की साख पर बट्टा भी लगा रहा है। अखबार में छपने वाली शायद ही कोई ऐसी खबर जिसमें इसकी विक्रत मानसिकता न झलकती हो।

इंडिया टीवी के अजय कांबले और दिव्‍य मराठी के प्रशांत दीक्षित को देवर्षि नारद पुरस्‍कार

देवर्षि नारद पुरस्कार से इंडिया टीवी के पुणे वरिष्ठ प्रतिनिधि अजय कांबले और दिव्य मराठी के संपादक प्रशांत दीक्षित को सम्मानित किया गया। पुणे के जानी मानी डेक्कन एजुकेशन सोसायटी और विश्वसंवाद केंद्र की तरफ से पिछले 3 सालों से पत्रकारिता में विशेष काम करने वाले पत्रकारों के नाम पूरे महाराष्ट्र से चुने जाते हैं।

इमाम खुमैनी ने अन्यायपूर्ण व्यवस्थाओं का डटकर मुकाबला किया

चार जून वर्ष 1989 ईसवी को विश्व एक ऐसे महापुरूष से हाथ धो बैठा जिसने अपने चरित्र, व्यवहार, अदम्य साहस, समझबूझ और ईश्वर पर पूर्ण विश्वास के साथ संसार के सभी साम्राज्यवादियों विशेषकर अत्याचारी व अपराधी अमरीकी सरकार का डटकर मुक़ाबला किया और इस्लामी प्रतिरोध की पताका पूरी धरती पर फहराई।  इमाम खुमैनी का पवित्र और ईश्वरीय भय से ओतप्रोत जीवन ईश्वरीय प्रकाश को प्रतिबिंबित करने वाला दर्पण है और वह पैगम्बरे इस्लाम (स) की जीवन  शैली से प्रभावित रहा है। इमाम खुमैनी ने पैगम्बरे इस्लाम (स) के जीवन के सभी आयामों को अपने लिये आदर्श बनाते हुये पशिचमी एवं पूर्वी समाजों की संस्कृति की गलत व अभद्र बातों को रद्द करके आध्यात्म एंव ईश्वर पर विश्वास  की भावना समाजों में फैला दी और यही वह वातावरण था जिसमें साहसी और ऐसे युवाओं का प्रशिक्षण हुआ जिन्होने  अपने  जीवन की बलि देने में भी हिचकिचाहट से काम नहीं लिया ।

शतरंज में भी किया श्रीनिवासन ने खेल

स्सॉट फिक्सिंग के तूफान में अपनी कुर्सी बचाने में लगे बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन का एक और कारनामा सामने आया है। इस बार मामला क्रिकेट के मैदान से नही, बल्कि शतरंज की बिसात से जुडा है। ऑल इंडिया चेस फेडरेशन के अध्यक्ष पद पर रहते श्रीनिवासन ने अपने रसूख से नियम-कानून ताक पर रखकर खेल मंत्रालय से करोडों रूपये एक ऐसी संस्था को दिलाए जो मंत्रालय से अधिकृत होने के लिए जरूरी आवश्यकताऐं ही पूरी नहीं करती है। जन सूचना अधिकार के तहत मामला सामने आने के बाद एसोसिएशन से सरकारी धन की वसूली और एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है।

पशिचम बंगालः कांग्रेस या भाजपा – दोराहे पर ममता बनर्जी

किसी भी तरह की चुनावी वैतरणी पार करने के लिए वक्त की मांग को समझना तो जरूरी है ही, एक भरोसेमंद साथी की भी बड़ी जरूरत होती है। 2004 में हुए लोकसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी इस कड़वे सत्य से दो- चार हो चुकी है। भाजपा नीत राजग सरकार में रेल मंत्री रह चुकी ममता बनर्जी इस चुनाव में महज अकेले जीत पाई थी। उनके सभी उम्मीदवार चुनाव हार गए थे। गठबंधन की महत्ता और वक्त की मांग को समझने की भूल की कीमत 2009 के लोकसभा चुनाव में राजद सुप्रीमो 2009 में हुए लोकसभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव को चुकानी पड़ी। संप्रग-1 के मनमोहन सिंह सरकार में उनकी हैसियत अच्छी – भली थी।

गाली देने का विरोध करने वाले उप निरीक्षक को एसएसपी मंजील सैनी ने सस्पेंड किया

: कथित गाली सुनने वाले उपनिरीक्षक भाटी के निलंबन से सम्बंधित : मैंने कल मुजफ्फरनगर जिले के सब इन्स्पेक्टर रघुराज सिंह भाटी द्वारा वहाँ की एसएसपी मंजील सैनी द्वारा कथित रूप से अपशब्दों का प्रयोग करने पर क्षुब्ध हो कर नौकरी से त्यागपत्र देने के सन्दर्भ में उत्तर प्रदेश पुलिस में एक नयी कार्यसंस्कृति और परस्पर सामंजस्यपूर्ण माहौल बनाने हेतु प्रमुख सचिव, गृह को पत्र लिखा था.

आईबीएन सेवन पर कृपा बरस रही है…

Prabhat Dixit : आईबीएन सेवन पर कृपा बरस रही है… उन्हीं निर्मल बाबा की जिनकी पोल खोलने का दावा करता था कुछ दिन पहले यह चैनल… देख लीजिये इसके सरोकार और संवेदनशीलता। खुद कमाओ तो सब जायज़… और कमायें तो…

उद्भ्रांत में दृष्टि की व्यापकता और दार्शनिक तत्व : प्रो. निर्मला जैन

नई दिल्ली। उद्भ्रांत की दृष्टि-व्यापकता तथा दार्शनिक तत्व को छूने की कोशिश अद्भुत है जो उनकी लम्बी कविता ‘अनाद्यसूक्त’ में स्पष्ट परिलक्षित होती है। यह बात वरिष्ठ आलोचक तथा साहित्यकार प्रो. निर्मला जैन ने साहित्य अकादेमी के संगोष्ठी कक्ष में अमन प्रकाशन, कानपुर के तत्वावधान में, उद्भ्रांत की लम्बी कविताओं के संग्रह ‘देवदारु-सी लम्बी, सागर-सी’ तथा उनके साहित्य-कर्म पर अन्य लेखकों, सम्पादकों की पुस्तकों के लोकार्पण समारोह के अवसर पर ‘उद्भ्रांत का कवि-कर्म’ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में अध्यक्षीय वक्तव्य देते हुए कही।

कहां गुम हो जाती हैं टॉपर बेटियां?

इन दिनों परीक्षा परिणामों का दौर रहा है। बेटियां इतिहास रच रही हैं, अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं। लगभग सभी परीक्षाओं में लड़कों के मुकाबले वे ही अव्वल आ रही हैं, टॉप कर रही हैं। छात्राओं के उतीर्ण होने का प्रतिशत भी  छात्रों की अपेक्षा अधिक ही रह रहा है। सीबीएससी 10वीं की परीक्षा में 99 फीसदी छात्राएं पास हुईं हैं, तो 12वीं में भी 85 फीसदी, जबकि केवल 73 प्रतिशत लड़के पास हुए। बिहार में तो सीबीएससी 12वी बिहार और बिहार बोर्ड के तीनों संकायों विज्ञान, कला और कामर्स में न सिर्फ उन्होंने बाजी मारी है, बल्कि तीनों में टॉप भी किया है। कला संकाय में तो टॉप 20 में 19 लड़कियां ही हैं।

दूध की धुली नहीं है देवयानी मुखोपाध्याय!

श्रीनगर के होटल मे बतौर पति पत्नी ठहरे हुए शारदा समूह के कर्णधार सुदीप्त सेन और उनकी खासमखास देवयानी मुखोपाध्याय के बीच गिरफ्तारी के बाद दूरियां भले बढ़ती गयीं और देवयानी को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी हो गयी, लेकिन अब जो खुलासे हो रहे हैं , उससे जाहिर है कि आम निवेशकों की जमा पूंजी लूटने में सुदीप्त के साथ देवयानी समान साझेदार है।

एसएन दुबे बने दैनिक दबंग दुनिया, ठाणे के ब्यूरो चीफ

मुंबई के वरिष्ठ पत्रकार एसएन दुबे ने मुंबई से प्रकाशित होने वाले हिंदी दैनिक "दबंग दुनिया" के ठाणे ब्यूरो चीफ के रूप में कार्यभार संभाल लिया है। श्री दुबे इससे पहले पंजाब केसरी, नवभारत, नई दुनिया, मेट्रो 7 डेज, युनाइटेड महाराष्ट्र आदि अनेक समाचारपत्रों में कार्य कर चुके हैं। उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में जन्मे श्री दुबे पिछले 15 वर्षों से हिंदी पत्रकारिता में सक्रिय हैं। वे खोजी पत्रकारिता के लिए प्रसिद्ध हैं और उन्होंने अनेक वित्तीय घोटाले का पर्दाफाश किया है।

आजतक शीर्ष पर कायम, एबीपी न्‍यूज को झटका

22वें सप्‍ताह की टीआरपी आ गई है. आजतक फिर से नम्‍बर एक पर काबिज है. पिछले तीस सप्‍ताह से तीसरे नम्‍बर पर इंडिया टीवी दूसरे नम्‍बर पर आ गया है. एबीपी न्‍यूज इस सप्‍ताह नुकसान के साथ तीसरे नम्‍बर पर पहुंच गया है. जी न्‍यूज आंशिक नुकसान के बाद भी चौथे स्‍थान पर कायम है. इसके बाद न्‍यूज 24, एनडीटीवी और आईबीएन7 का नम्‍बर है. आईबीएन को इस सप्‍ताह फायदा हुआ है. 

लालू यादव से भिड़े मीडियाकर्मी, काफी देर चला वाक्युद्ध

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के राजनीतिक जीवन में पांच जून दो कारणों से याद किया जाएगा। पहला इसलिए कि पांच जून को ही जेपी ने संपूर्ण क्रांति की घोषणा की थी और दूसरा इसलिए कि महाराजगंज के लोकसभा उपचुनाव में राजद प्रत्याशी प्रभुनाथ सिंह शानदार जीत भी पांच जून को ही मिली। इसे सत्ता परिवर्तन के लिए सामाजिक क्रांति की शुरुआत कह सकते हैं। बुधवार को वर्षों बाद लालू यादव को राजनीति के मैदान में जबरदस्त सफलता मिली।

माओवादियों की करतूत ने सिद्धांतों पर उठाए गई सवाल

छत्तीसगढ़ के जिरम घाटी से गुजरते हुए कांग्रेस पार्टी के काफिले पर 25 मई को हुए माओवादी हमले ने माओवादियों के सिद्धांतों पर कई गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। यूं तो माओवादी महिलाओं, बच्चों और आम आदमी पर हमले नहीं करने का दावा करते हैं। लेकिन, इस हमले में 30 लोग मारे गए, जिनमें से ज्यादातर बेगुनाह थे। इतना ही नहीं सरेंडर कर अपनी जान की भीख मांग रहे नंदकुमार पटेल उनके बेटे दिनेश पटेल और महेन्द्र कर्मा को माओवादियों ने जिस तरह बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया, वह अपने आप में युद्ध अपराध और मानवाधिकार का खुल्लम-खुल्ला उल्लंघन है।

राष्‍ट्रीय सहारा : अनिल पांडेय गोरखपुर तथा मनोज तिवारी कानपुर के संपादक बने

राष्‍ट्रीय सहारा में कई बदलाव किए गए हैं. राष्‍ट्रीय सहारा, लखनऊ के संपादक रहे अनिल पांडेय को गोरखपुर का आरई बना दिया गया है. मनोज तोमर के संपादक बनने से पहले अनिल पांडेय ही लखनऊ में स्‍थानीय संपादक के पद पर थे. फिलहाल वे लखनऊ में ही एसोसिएट एडिटर के रूप में कार्यरत थे. अब वे गोरखपुर में अपनी जिम्‍मेदारी संभालेंगे.

द संडे इंडियन हिंदी के एसोसिएट एडीटर अनिल पाण्डेय के पिताश्री का असामयिक निधन

बड़े ही दु:ख के साथ बताना पड़ रहा है कि हमारे साथी व सीनियर, द संडे इंडियन हिंदी के एसोसिएट एडीटर श्री अनिल पाण्डेय के पिताश्री का असामयिक निधन, विगत 01 जून को हो गया है. वे 72 वर्ष के थे तथा अचानक हल्के पक्षाघात के चलते अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था लेकिन प्रभु की इच्छा के आगे हम सब नतमस्तक हैं.

न्‍यूज नेशन के कैमरामैन आसिफ को मिली जमानत

बनारस से खबर है कि 'लाशों पर सट्टा' खबर टीवी पर चलाने के मामले में अरेस्‍ट किए गए न्‍यूज नेशन के कैमरामैन आसिफ को जमानत मिल गई है. पुलिस ने न्‍यूज नेशन के स्ट्रिंगर काशीनाथ शुक्‍ला, कैमरा मैन आसिफ समेत चार लोगों के ऊपर इस मामले में मुकदमा दर्ज किया था.

आईबी मिनिस्‍ट्री की वेबसाइट रीलांच, किए गए कई बदलाव

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट mib.nic.in को यूजर फ्रेंडली बनाते हुए रीलांच किया है. अब इस वेबसाइट पर और अधिक सूचना के साथ डिस्‍पले भी पहले से बेहतर बनाया गया है. मंत्रालय ने हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं के वेबसाइटों को अपग्रेड किया है. अब वेबसाइट का संचालन नियमित किया जाएगा. अभी तक स्थिति यह थी कि इस वेबसाइट पर नई सूचनाएं काफी दिनों बाद अपडेट की जाती थीं, परन्‍तु इस बदलाव के बाद नए कंटेंट लगातार अपडेट किए जाते रहेंगे. 

हरिभूमि रायगढ़ से लांच करेगा अपना नया एडिशन

हरिभूमि प्रबंधन ने फिर अपने विस्‍तार की घोषणा की है. प्रबंधन यह विस्‍तार छत्‍तीगढ़ के रायगढ़ में करने जा रहा है. हालांकि यह घोषणा पूरा होगा या नहीं कहना मुश्किल है, क्‍योंकि इसके पहले प्रबंधन ने पिछले साल मध्‍य प्रदेश में भोपाल और ग्‍वालियर से अखबार के नए एडिशन लांच करने की योजना तैयार की थी तथा इसकी घोषणा भी हुई थी, लेकिन अब तक मध्‍य प्रदेश में जबलपुर को छोड़कर हरिभूमि कहीं अपना यूनिट स्‍थापित नहीं कर सका है.

राज कुंद्रा की खबर को लेकर मीडिया पर भड़क गईं शिल्‍पा शेट्टी

नई दिल्ली। आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग केस को लेकर राजस्थान रॉयल्स के मालिक राज कुंद्रा से 12 घंटे तक पूछताछ के बाद भी दिल्ली पुलिस ने उन्हें क्लीन चिट नहीं दी है। सूत्रों के हवाले से मिल रही खबर के मुताबिक, राज कुंद्रा ने आईपीएल के पिछले और मौजूदा सीजन में सट्टेबाजी की बात कबूल की है। बताया गया है कि कुंद्रा दोस्त के जरिए सट्टेबाजी करते थे। हालांकि राज कुंद्रा और उनकी पत्नी शिल्पा शेट्टी ने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर सफाई देते हुए बेटिंग से इनकार किया है।

बनारस में पुलिस और मीडिया के बीच तनाव बरकरार

बनारस में एक खबर को लेकर पत्रकारों तथा पुलिस के बीच चल रहा तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है. पुलिस इस मामले में तीन लोगों को अरेस्‍ट कर चुकी है जबकि न्‍यूज नेशन के स्ट्रिंगर की तलाश में कई बार उनके घर पर भी पुलिस दस्‍तक दे चुकी है. उनकी गर्भवती पत्‍नी से भी अनुचित व्‍यवहार किया जा चुका है. बताया जा रहा है कि अब तक इस मामले में एकजुटता दिखाते हुए पत्रकारों ने पुलिस के सामने झुकने से इनकार कर दिया था.

सरकारी आवास खाली करने के लिए फिर 27 पत्रकारों को जारी होगा नोटिस

लखनऊ में सरकारी आवासों पर अवैध तरीके से कब्‍जा जमाकर बैठे पत्रकारों को राज्‍य सम्‍पत्ति विभाग फिर नोटिस जारी करने जा रहा है. विभाग यह कार्रवाई राज्‍य मुख्‍यालय पर मान्‍यता प्राप्‍त पत्रकारों द्वारा निरंतर आवास आवंटन के लिए किए जा रहे अनुरोध को देखते हुए कर रहा है. उल्‍लेखनीय है कि कई पत्रकार अनाधिकृत रूप से सरकारी आवासों पर कब्‍जा जमाए हुए हैं. इनमें से कई की राज्‍य मुख्‍यालय से मान्‍यता समाप्‍त हो गई है. कई लखनऊ के बाहर कार्यरत हैं.

महुआ छोड़कर ज्‍वेलरी मार्किट में क्रिएटिव हेड बने दिलीप सिंह

महुआ टीवी में सीनियर प्रोड्यूसर के रूप में कार्यरत रहे दिलीप सिंह अब फैशन इंडस्ट्री की जानी मानी कंपनी ज्वेलरी मार्किट से जुड़ गए हैं. उन्‍हें कंपनी में क्रिएटिव हेड बनाया गया है. वे इस प्रोडक्‍शन कंपनी के लिए ज्‍वेलरी समेत फैशन से जुड़ी चीजों पर प्रोग्राम बनाएंगे. कुछ समय पहले ही उन्‍होंने महुआ टीवी छोड़ा था.

हिंदुस्‍तान, धनबाद में दो का प्रमोशन, इंक्रीमेंट से नाराजगी

हिंदुस्‍तान, धनबाद से खबर है कि यहां इंक्रीमेंट और प्रमोशन मुंह देखकर हुआ है. खबर है कि यहां पर मात्र दो लोगों का प्रमोशन हुआ है. वहीं इंक्रीमेंट शून्‍य से लेकर तीन हजार तक हुए हैं. काम की बजाय जाति और चेहरा देखकर इंक्रीमेंट दिया गया है. यहां पर सीनियर रिपोर्टर मुकेश कुमार सिंह को प्रमोट करके चीफ रिपोर्टर बनाया गया है. जबकि डेस्‍क पर कार्यरत कुष्‍ण मुरारी पाण्‍डेय को सब एडिटर से प्रमोट करके सीनियर सब एडिटर बना दिया गया है.

कामेडी सेंट्रल चैनल के प्रसारण पर दस दिन की रोक

नई दिल्ली : कॉमेडी सेंट्रल के प्रसारण पर केंद्र सरकार ने रोक लगाने का निर्णय लिया है। मनोरंजन चैनल पर प्रसारित होने वाले दो कार्यक्रम 'स्टैंड अप क्लब' और 'पॉपकॉर्न 'में आपत्तिजनक चीजों व अश्लील शब्दों का प्रयोग किया जा रहा था। इन कार्यक्रमों में महिलाओं के लिए आपतिजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया गया है। इसकी शिकायत सरकार से की गई थी। इसके बाद केंद्र सरकार ने इन कार्यक्रमों के प्रसारण पर दस दिनों के लिए रोक लगा दी है।

Pepsi के सीलबंद बोतल में मिला गुटखा का पाउच, स्‍वास्‍थ्‍य से खेल रही हैं बहुराष्‍ट्रीय कंपनियां

बहुराष्‍ट्रीय कंपनियां भारत के नागरिकों के स्‍वास्‍थ्‍य से लगातार खिलवाड़ कर रही हैं. अन्‍य देशों में जहां उच्‍चतम मानक अपनाए जाते हैं वहीं भारत में वे किसी भी तरह के मानकों को अपना जरूरी नहीं समझती हैं. सरकारें धन लोलुपता के लालच में अंधी बनी हुई हैं.

आई नेक्‍स्‍ट से दिलीप एवं हिंदुस्‍तान से अनिल का इस्‍तीफा

आई नेक्‍स्‍ट, लखनऊ से खबर है कि दिलीप मिश्र ने इस्‍तीफा दे दिया है. वे सब एडिटर के पद पर कार्यरत थे. सूत्रों का कहना है कि शर्मिष्‍ठा शर्मा से कुछ विवाद होने के बाद उन्‍होंने इस्‍तीफा दिया है. वे लंबे समय से आई नेक्‍स्‍ट से जुड़े हुए थे. उन्‍होंने अपनी नई पारी लखनऊ में ही जनसंदेश टाइम्‍स के साथ शुरू की है. उन्‍हें ब्‍यूरो में रिपोर्टिंग की जिम्‍मेदारी सौंपी गई है. दिलीप इसके पहले दैनिक जागरण तथा हिंदुस्‍तान को भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं.

प्राचार्य ने लैपटॉप के बदले मांगे ढाई हजार रुपए, गिरफ्तार हुए

चंदौली : उत्तर प्रदेश में छात्रों को मिले मुफ्त लैपटॉप के बदले सुविधा शुल्‍क वसूलने का एक मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि श्री सच्चा अध्यात्म संस्कृत महाविद्यालय का प्राचार्य मुफ्त लैपटॉप के बदले ढाई हजार रुपए की वसूली कर रहा था. इस बात का खुलासा आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता अमित सिंह ने एक स्टिंग ऑपरेशन के जरिए किया. इस घटना के सामने आने के बाद पुलिस ने विद्यालय के प्राचार्य विनय शुक्ला और एक कर्मचारी पर मुकदमा दर्ज कर प्राचार्य को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि कर्मचारी फरार है.

पामेला के बिकनी में नाचते टीवी एड पर बवाल, लगा प्रतिबंध

लंदन : बेवाच की पूर्व स्टार पामेला एंडरसन के एक टीवी विज्ञापन पर यह कहते हुए प्रतिबंध लगा दिया गया है कि यह सेक्सिस्ट है और महिलाओं के लिए अपमानजनक है। डेली मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार वेबहोस्टिंग फर्म ड्रीमस्केप नेटवर्क्‍स के लिए बनाए गए इस विज्ञापन में पामेला पुरूषों की एक बैठक की अध्यक्षता करती है। उनमें से एक पुरूष फंतासी में पामेला और उसके सहयोगी को बिकनी म