A+ A A-

फुरकान मलिक और इसके साथी इकबाल पर नोएडा से प्रकाशित अखबार दैनिक भास्कर को चूना लगाने का आरोप है. ये दोनों पहले दैनिक भास्कर अखबार के नोएडा ऑफिस गए और खुद को जनपद बिजनौर का तेजतर्रार पत्रकार बताकर संस्थान को लाखों रूपए का विज्ञापन दिलाने का झांसा दिया. भास्कर ने इन्हें बिजनौर का पत्रकार बना दिया.

दैनिक भास्कर का पत्रकार बनते ही इन दोनों ने अपने गैंग के साथ मिलकर नववर्ष  2017 पर दैनिक भास्कर के नाम पर जनपद बिजनौर से लाखों रुपए के शुभकामना के विज्ञापन लिये.  पर इनने दैनिक भास्कर को विज्ञापन नहीं भेजा. इन लोगों ने दैनिक भास्कर की फर्जी कॉपी छपवाकर तथा दैनिक भास्कर के फर्जी बिल लगाकर लाखों रुपए का भुगतान ले लिया. इनके कारनामों का दैनिक भास्कर को पता चला तो उन्होंने एक जांच कमेटी बनवाई.

जांच में दोषी मिलने पर दैनिक भास्कर द्वारा थाना नजीबाबाद में अखबार के नाम पर ठगी करने वाले फुरकान मालिक, इकबाल एवं इनके गैंग के खिलाफ धोखाधड़ी सहित कई संगीन धाराओं में 27 अगस्त 2017 को मुकदमा अपरध संख्या 706/17 धारा 420, 467, 468, 471 आईपीसी के तहत दर्ज कराया गया.

Leave your comments

Post comment as a guest

0
Your comments are subjected to administrator's moderation.
terms and condition.
  • No comments found

Latest Bhadas