सहारा मीडिया में भर्ती, ट्रांसफर, प्रमोशन, इनक्रीमेंट आदि के लिए उपेंद्र राय के नेतृत्व में कमेटी गठित

Share

मीडिया कंपनियां खुद को व्यवस्थित और प्रोफेशनल बनाने के लिए दिनोंदिन नित नए प्रयोग करती रहती हैं. सहारा मीडिया ने भी इस दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है.

यहां नियुक्तियों, प्रमोशन, ट्रांसफर, इनक्रीमेंट आदि चीजों के लिए एक कमेटी का गठन कर दिया गया है जिसके चीफ उपेंद्र राय होंगे. इनमें अन्य मेंबर हैं- एए जैदी, रमेश अवस्थी, मनोज तोमर, अजय शर्मा.

इस बाबत सुब्रत राय के हस्ताक्षर से एक पत्र जारी कर दिया गया है. इस पत्र को लेकर सहारा में जितने मुंह उतनी बातें हो रही हैं. पत्र की भाषा से साफ है कि यह सारा कुछ उपेंद्र के सुझाव पर सुब्रत राय ने किया है.

भर्ती, ट्रांसफर, प्रमोशन, इनक्रीमेंट जैसे कार्यों में पारदर्शिता के लिए, किसी गड़बड़ी से बचने के लिए, किसी के साथ अन्याय न होने देने के लिए कई लेवल पर छानबीन की जरूरत पड़ती है. ऐसे में इन कार्यों के लिए कमेटी का गठन एक प्रोफेशनल कदम है जिससे अंतत: गुणवत्ता में वृद्धि होगी.

देखें लेटर-

View Comments

  • एक कहावत है, 'खाली बनिया का करय इ कोठली के धान उ कोठली करय'। कुछ ऐसा ही हाल सुब्रतो राय का है। यह हाल सात संस्करण (हर जगह नीचे से नंबर-1 है) होने पर है। भास्कर, अमर उजाला, दैनिक जागरण, राजस्थान पत्रिका की तरह दर्जनों संस्करण होते तो क्या होता ?
    रही प्रमोशन-इंक्रीमेंट की बात तो हर महीने पगार दे नहीं पा रहे हैं जो दे रहे हैं वो भी आधी-अधूरी। सेवानिवृत्ति होने वालों को धेला भी नहीं मिल रहा है।
    वैसे अपने पहले कार्यकाल में परम आदरणीय छमा करिएगा परम आदरणीय सहारा में केवल सुब्रत राय ही हैं इसलिए उपेंद्र राय आदरणीय से ही काम चला लें ने हर कर्मचारी को दो-दो प्रमोशन का लेटर दिया था कोई बताएगा कि उस प्रमोशन का क्या हुआ??? क्या सभी को उसके हिसाब से वेतन दिया जा रहा है ???

Latest 100 भड़ास