फेसबुक डेटा लीक वाली कंपनी पर मंडराए संकट के बादल

फेसबुक डेटा लीक प्रकरण से जुड़ी ब्रिटिश कंपनी कैम्ब्रिज एनालिटिका ने तत्काल प्रभाव से अपना सारा कामकाज बंद करने की घोषणा की है. कंपनी ने अपने स्टेटमेंट में बताया है कि उन्होंने  ब्रिटेन और अमेरिका में स्वयं को दिवालिया घोषित करने के लिए आवेदन देने की भी घोषणा की है. उनका आगे कहना है कि अब उन्हें लगता है कि व्यापार में बने रहना काफी मुश्किल है. गौरतलब है कि इस कंपनी पर फेसबुक के करोड़ो उपभोक्ताओं की जानकारी का दुरूपयोग करने का आरोप है. 

कंपनी ने अपना जो बयान जारी किया है, उसमें उन्होंने बताया है कि डेटा लीक वाले आरोपों के बाद उन्हें क्लाइंट्स मिलने में काफी मुश्किल हो रही है. जिसके चलते अब काम करना आसान नहीं है. साथ ही उन्होंने अपने बयान में यह भी कहा कि पिछले कुछ महीनों में उनकी कंपनी पर जो आरोप लगे हैं वे सब गलत आरोप हैं. इन आरोपों के चलते कंपनी लीगल तौर पर अपमानित तो हुई ही, साथ ही, इसकी साख को भी बट्टा लगा जो कि काफी प्रयासों के बावजूद ठीक नहीं किया जा सका. कंपनी के मुताबिक़ दुनिया भर में लीगल मामलों में फंस जाने के चलते कंपनी को दोबारा खड़ा करना काफी मुश्किल हो गया था.

गौरतलब है कि व्हिसलब्लोअर क्रिस्टोफर विली ने सबसे पहले इस मामले का खुलासा किया था. इसके बाद फेसबुक ने अप्रैल में इस मामले को स्वीकार किया था कि 87 मिलियन यूजर्स के डेटा में कैंब्रिज एनालिटिका ने सेंध लगाई थी. इस कंपनी ने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में डोनाल्ड ट्रंप के लिए काम किया था.