सुदर्शन न्यूज चैनल की असलियत सामने आई, ब्लैकमेलिंग में रिपोर्टर समेत चार गिरफ्तार

खुद को प्रखर राष्ट्रवादी बताने वाले न्यूज चैनल सुदर्शन न्यूज की असलियत सामने आ गई है. इस चैनल की एसआईटी यानि स्पेशल इवेस्टीगेटिंग टीम के चार लोगों को ब्लैकमेलिंग में गिरफ्तार किया गया है. ये सभी नर्सिंग होम व क्लीनिक चलाने वाले डॉक्टरों व पैथोलॉजी लैब मालिकों को लिंग परीक्षण के नाम पर ब्लैकमेल करते थे. आरोपियों में सुदर्शन चैनल के दो रिपोर्टर, एक महिला जो एक रिपोर्टर की पत्नी है, शामिल हैं.  चारों 50 से अधिक नर्सिग होम, लैब मालिक व डॉक्टरों को स्टिंग में फंसाकर करोड़ों रुपये की वसूली कर चुके हैं.

उनके पास से 71 हजार रुपये, स्विफ्ट कार, स्टिंग ऑपरेशन में इस्तेमाल होने वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बरामद हुए हैं. क्राइम ब्रांच के संयुक्त आयुक्त रविंद्र यादव के मुताबिक गिरफ्तार आरोपियों के नाम जय कोचर, धन सिंह, राम शरण व पुष्पा हैं. जय रोहिणी सेक्टर-3 का रहने वाला है. धन सिंह मूलरूप से उत्तराखंड (गढ़वाल) का रहने वाला है और यहां गोविंदपुरी में रहता है. रामशरण करोलबाग में रहता है. वह मूलरूप से सीतामढ़ी, बिहार का रहने वाला है. वह तथा धन सिंह सुदर्शन चैनल में रिपोर्टर थे. धन सिंह की पत्नी नितिका स्टिंग में मदद करती थी. वह पति के साथ नर्सिग होम व पैथोलॉजी लैब में जाती थी. पुष्पा कृष्णा नगर की रहने वाली है. वह विवाहिता है और डेढ़ साल से उनके साथ जुड़ी हुई थी. पुष्पा मरीज बनकर जाती थी और लिंग परीक्षण से संबंधित बातें कर स्पाई कैमरे में रिकार्ड कर लेती थी. आरोपी 7-8 लोगों के साथ गाड़ी से शिकार फंसाने जाते थे. धन सिंह व रामशरण ने चार महीने पूर्व जय को अपने साथ मिलाया था.

तीन अक्टूबर को पंजाबीबाग में एक पैथोलॉजी लैब के मालिक किसी काम से बाहर गए हुए थे. लैब की देखरेख उनके पिता कर रहे थे. चारों आरोपी लैब में पहुंचे. पुष्पा ने लैब मालिक के पिता से कहा कि उसकी उम्र 30 साल है वह तीन बच्चे की मां है. चौथी बार भी वह गर्भवती हो गई है. वह जानना चाहती है कि गर्भ में पल रहा शिशु लड़का है या लड़की. उन्होंने लिंग परीक्षण करने से मना कर दिया. पुष्पा ने अनुरोध किया कि वह उस लैब के बारे में बता दें, जहां लिंग परीक्षण किया जाता है. उन्होंने कीर्ति नगर स्थित एक लैब के बारे में बताया. उनकी बात रिकार्ड करने के बाद चारों ने उनसे एक करोड़ रुपये की मांग की. उन्होंने 40 लाख रुपये दे दिए. लैब मालिक के दिल्ली आने पर चारों जब शेष 60 लाख रुपये मांगने गए तो पिता ने स्टिंग की जानकारी दी. उन्होंने पंजाबीबाग थाने में मुकदमा दर्ज कराया. मामला क्राइम ब्रांच में जाने पर डीसीपी भीष्म सिंह व एसीपी केपीएस मल्होत्रा की टीम ने चारों को गिरफ्तार किया. जांच में यह बात भी सामने आई है कि चारों होटलों में भी स्टिंग ऑपरेशन कर मालिकों को ब्लैकमेल करते थे. वह यह पता लगाते थे दिल्ली के किस-किस होटल में लड़कियां आपूर्ति की जाती हैं. स्टिंग कर वे होटल मालिकों से वसूली करते थे.

भड़ास व्हाट्सअप ग्रुप- BWG-10

भड़ास का ऐसे करें भला- Donate

भड़ास वाट्सएप नंबर- 7678515849

Comments on “सुदर्शन न्यूज चैनल की असलियत सामने आई, ब्लैकमेलिंग में रिपोर्टर समेत चार गिरफ्तार

  • नारायण says:

    सुदर्शन पर अंन्याय न करे
    मैं भड़ास का हमेशा प्रशंसक रहा हु। लेकिन यह ख़बर पढ़ कर मुझे लगा की आप सुदर्शन पर हमेशा किसी ना किसी बहाने ग़लत ख़बर देते है।
    कल के रिपोर्टर सुदर्शन ने हि पकड़वाये। ४ दिन चैनल आरोपियों को ट्रेक कर के पुलिस को जानकारि दे रहे थे। रंगेहात पकड़वाने में सहयोग के लिये दिल्ली पुलिस ने सुदर्शन का धन्यवाद भि किया प्रेस कॉन्फ़्रेंस। मैं ख़ुद पुरे समय प्रेस कॉन्फ़्रेंस में था। चैनल ने २ माह पूर्व ईन लोगों के नाम पुलिस को दिये थे।
    पकड़े गये आरोपियों के पास ४ से ज़्यादा चैनल के आईडी मिले। येसे में अकेले सुदर्शन का नाम लेना ठिक नहीं।

    Reply
  • abhi to dekhaa hi kya hai abhi to bohut kuch dekhna baki hai………kuch aur bade naam hai jinka aana baki hai……ab channel ke director sahab ko hi lelo…..aajkal ek naye naveli dulhan ko lekar khub NCR ki sair karayee jaa rahi hai…..

    Reply
  • Jabse Sudarshan channel ne OVAISI ki pol kholi hai, tabse kuchh desh drohi logon ke sine me aag jal rahi hai 😆

    Reply
  • Satyanarayan Joshi says:

    प्लीज आप से निवेदन है कि सुदर्शन कि राष्ट्र वादी छवी पर कलंक मत लगाओ क्योंकि भारत मे सुदर्शन ही एसा न्यूज चेनल है जो वीर शिवाजी के विचार धाराओंपर चलता है ओर मानते अगर कोइ रिपोर्ट ने गलती कर दी है तो सुदर्शन परिवार ने उनको धन्यवाद थोड़े ही दिया

    Reply
  • इस तथाकथित राष्ट्रवादी चैनल पर तो नानसेंस बाते ही दिखाई जाती है।इस सुदर्शन न्यूज को तो बंद ही करा देना चाहिए। लोगे बेवकूफ बनाता है सुरेश चव्हाणके।

    Reply
  • dhan singh ki patni nitika joki iss group me judi hui h…uska b channel ke kae log ke sath galat sambamdh bhi h jiske chalte wo ab bhi news channel se jude huye logo ki madad se aj bhi sting ki planning kr rahi h

    Reply
  • sandhya shah says:

    Bhadas Media Hai Bhadkhau Media
    Des Ke Bhale Ki Baat Karo Ki Ek Ki Tang Dusra Khiche Bas Yhi Kaam Hai Kamse Kam Des Ke Liye Jiyo Maro

    Reply
  • Narayan kumar raj says:

    लगता है इसे सुदर्शन न्यूज़ के बारे में अपशब्द लिखने कइ लिए विदेश से पैसे मिले है।

    Reply

Leave a Reply to cn yadav Cancel reply

Your email address will not be published.

*

code