पुण्य प्रसून जी, आप बाज़ार के एक मोहरा भर हैं, मालिक या नियंता नहीं!

Dayanand Pandey : दि वायर में पुण्य प्रसून वाजपेयी का विधवा विलाप पढ़ कर पता लगा कि वह मोदी-मोदी भले बोल रहे हैं, फर्जी शहादत पाने के लिए लेकिन उन नौकरी के असली दुश्मन रामदेव ही हैं। आज तक और ए बी पी दोनों जगह से रामदेव और पतंजलि का विज्ञापन ही उन की विदाई का मुख्य कारण बना है। कम से कम उन के लेख की ध्वनि यही है। रामदेव आज की तारीख़ में सब से बड़े विज्ञापनदाता हैं। विज्ञापनदाता मीडिया का माई-बाप है। किसी मीडिया की हैसियत विज्ञापनदाता से पंगा लेने की नहीं है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

पुण्य प्रसून बाजपेयी ने विस्तार से बताया कि आखिर क्यों उन्हें एबीपी न्यूज से जाना पड़ा

PUNYA

‘द वायर’ वेबसाइट में पुण्य प्रसून बाजपेयी का एक आर्टकिल छपा है जिसमें उन्होंने विस्तार से बताया है कि आखिर क्यों उन्हें एबीपी न्यूज को गुडबॉय कहना पड़ा. नरेंद्र मोदी और उनके सिपहसालार पुण्य प्रसून बाजपेयी के ‘मास्टर स्ट्रोक’ शो से काफी नाराज थे. एबीपी न्यूज के मालिक नहीं चाहते थे कि पुण्य प्रसून बाजपेयी मोदी का नाम अपने शो में ले. पढ़िए क्या कुछ लिखा है पुण्य ने…. Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

दैनिक जागरण धनबाद में फेरबदल, एबीपी न्यूज से एक विकेट और गिरा

दैनिक जागरण धनबाद की कमान जबसे युवा संपादक चंदन शर्मा ने अपने हाथों में ली है, बेहतरी के लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। चंदन शर्मा इस से पहले जमशेदपुर में थे, जहां टीम को मजबूत करने के बाद इनके परफॉर्मेंस को देखते हुए धनबाद लाया गया। लेआउट के साथ प्लानिंग पर इनकी अच्छी पकड़ रही है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

ABP न्यूज़ जिस दौर से गुज़र रहा है वो मेरे लिए तकलीफदेह है

मिलिंद और प्रसून के साथ जो हुआ वो शर्मनाक के साथ खतरनाक भी है

Arun Asthana

ABP न्यूज़ जिस दौर से गुज़र रहा है वो मेरे लिए तकलीफदेह है। इस चैनेल को खड़ा करने वाले चंद लोगों में मैं भी हूं। बतौर स्टार न्यूज़ मैंने इसकी परिकल्पना और लांच में ही हाथ नहीं बंटाया बल्कि इसकी पूरी टीम को ट्रेनिंग भी दी। आज इस चैनेल का हाल और देश के हालात बहुत अलग नहीं हैं। मेरा भारत जिस तरह और जिस तरफ इस वक्त धकेला जा रहा है वो बहुत डराता है। जिस रास्ते ये पिछले चंद बरसों में बढा है, मुझे लगता है पहले कभी नहीं बढा। और ये रास्ता खतरनाक है, उस देश के लिए, जो एक भूगोल से ज्यादा एक समाज है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

आनंद बाजार पत्रिका समूह का सत्ता के समक्ष समर्पण…

वाजपेयी के मास्टर स्ट्रोक्स से बिफरी हुई थी सत्ता…? एक समय देश का सबसे ज्यादा बिकने वाले दैनिक हुआ करता था बंगला अखबार आनंद बाजार पत्रिका और खासी प्रतिष्ठा थी इसके अंगरेजी दैनिक टेलीग्राफ की. अंगरेजी का साप्ताहिक संडे और हिंदी का धारदार साप्ताहिक रविवार इसी के प्रकाशन थे. जब न्यूज़ चैनलों का ज़माना आया तो विदेशी स्टार नेटवर्क ने इसके सहयोग से हिंदी चैनल स्टार न्यूज़ शुरू किया. स्टार के पलायन के बाद, आपको रक्खे आगे के नारे के साथ एबीपी न्यूज़ जोर शोर से अस्तित्व में आया.

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

इंडिया टीवी के पत्रकार अभिषेक उपाध्याय ने राजदीप, रवीश, अभिसार से लेकर पुण्य प्रसून तक को यूं पानी पी-पी कर गरियाया, पढ़ें

Abhishek Upadhyay

सारे दौलतमंद पत्रकार आज दहाड़ें मारकर रो रहे हैं। राजदीप सरदेसाई। सागरिका घोष। कमर वाहिद नक़वी। रवीश कुमार उर्फ रवीश पांडे। ओम थानवी। इनमें से सबकी आमदनी 30 फीसदी की सर्वोच्च आयकर सीमा के पार है। क्या कभी आपने इन्हें किसी स्ट्रिंगर के निकाले जाने पर आंसू बहाते देखा है? कभी किसी आम पत्रकार के निकाले जाने पर इन्होंने छाती पीटी है? Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

मीडिया का गला घोंटने में माहिर मोदी सरकार और एबीपी न्यूज के मालिक का डरपोक बेटा!

Anil Singh

मीडिया का गला घोंटने में माहिर है मोदी सरकार! टीवी18 और राघव बहल का नाम आपने सुना ही होगा। वही राघव बहल जो जबरदस्त मीडिया उद्यमी रहे हैं। लेकिन उन्होंने अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए रिलायंस समूह से ऋण लेने की एक गलती कर दी जिसके चलते मुकेश अंबानी के रिलायंस समूह ने उनका 4500 करोड़ रुपए का मीडिया साम्राज्य हड़प लिया। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

जो क्रांतिकारी लोग निकाले गए, वो तो चुप्पी साध लिए, पर जनता उन्हें ‘शहीद’ बताने में जुटी हुई है!

Devpriya Awasthi : आज बहुत से मित्र मिलिंद खांडेकर, पुण्य प्रसून वाजपेयी और अभिसार शर्मा की नौकरियां चले जाने का रोना रो रहे हैं। शायद इसलिए कि वे सेलेब्रिटी बिरादरी में शुमार किए जाते हैं। वरना तो ज्यादातर मीडिया घरानों में ऐसा आए दिन होता रहता है। खुद भुक्तभोगी हूं और यह गति पाने वाले अनेक मित्रों को करीब से जानता भी हूं। ऐसा लगता है कि सोशल मीडिया में सहानुभूति और समर्थन पाने के लिए सेलेब्रिटी होना पहली शर्त है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

पुण्य प्रसून बाजपेयी को नौकरी से निकलवा कर एक पुराना और निजी बदला चुकाया गया है!

Abhishek Srivastava

एबीपी का पुण्‍य-प्रसंग… ABP News के बाकी चेहरों का पता नहीं, लेकिन Punya Prasun Bajpai को नौकरी से निकलवा कर एक पुराना और निजी बदला चुकाया गया है। ठीक वैसे ही जैसे करन थापर के प्रोग्राम में मंत्रियों और भाजपा नेताओं को न जाने का फ़रमान जारी कर के प्रतिशोध लिया गया, जिसका उन्‍होंने अपनी किताब में हाल में खुलासा किया है। हर बात न कही जाती है न लिखी जाती। प्रसून ने कल रात के बाद अब तक कोई ट्वीट नहीं किया है। किसी को कोई विवरण नहीं बताया। कई पत्रकारों के फोन भी नहीं उठाए। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

अगर तीनों नौकरी से निकाले गए हैं तो चुप क्यों हैं, खुलकर विरोध क्यों नहीं दर्ज कराते!

Vivek Satya Mitram

ABP News (पूर्ववर्ती Star News) से एक झटके में तीन बड़े पत्रकारों मिलिंद खांडेकर, पुण्य प्रसून वाजपेयी और अभिसार की विदाई के पीछे का सच (अगर वही है जो लिखा जा रहा है) तो यकीनन बहुत ख़ौफ़नाक है और इसकी कड़ी से कड़ी निंदा होनी चाहिए। मैं इमरजेंसी के बाद पैदा हुआ लेकिन कह सकता हूं मौजूदा सरकार में मीडिया का जो हस्र है वो शायद इमरजेंसी के वक्त भी नहीं रहा। और ये वाकई लोकतंत्र के लिए एक बड़ा ख़तरा है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

मिलिंद के इस्तीफे पर एबीपी न्यूज ने मुंह खोलाा, पुण्य और अभिसार प्रकरण पर चुप्पी

एबीपी न्यूज की तरफ से भड़ास के पास एक मेल आया है. इसमें मिलिंद खांडेकर के एबीपी न्यूज से जाने के बारे में विस्तार से कहा-बताया गया है. लेकिन पुण्य प्रसून को चैनल से निकाले जाने और अभिसार शर्मा को छुट्टी पर भेजे जाने के मामले में एबीपी न्यूज प्रबंधन चुप है. अन्यथा इसका भी उल्लेख होना चाहिए था.

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

सत्ता को आइना दिखाने वाले पत्रकारों की बलि लेने के बाद ABP News का सिग्नल ठीक हो गया!

Priyabhanshu Ranjan : दो-तीन हफ्ते से Masterstroke के वक्त Poor Signal आ रहा था। फिर मैनेजिंग एडिटर मिलिंद खांडेकर ने इस्तीफा दिया। आज Masterstroke का ‘मास्टर’ बदल कर एक भाजपाई ‘मास्टरनी’ को सामने कर दिया गया। और अब पुण्य प्रसून वाजपेयी और अभिसार शर्मा को चैनल से निकाले जाने की अपुष्ट खबर मिली है। मटन-मुर्गा चबाइए, मोदी सरकार के गुण गाइए। वरना हाजमा खराब कर दिया जाएगा!

PUNYA

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

पुण्य प्रसून के इस्तीफे और अभिसार को छुट्टी पर भेजे जाने के खिलाफ रवीश कुमार ने यूं दर्ज कराया विरोध

Ravish Kumar

पुण्य प्रसून बाजपेयी को इस्तीफ़ा देना पड़ा है। अभिसार को छुट्टी पर भेजा गया है। आप को एक दर्शक और जनता के रूप में तय करना है। क्या हम ऐसे बुज़दिल इंडिया में रहेंगे जहाँ गिनती के सवाल करने वाले पत्रकार भी बर्दाश्त नहीं किए जा सकते? फिर ये क्या महान लोकतंत्र है? धीरे धीरे आपको सहन करने का अभ्यास कराया जा रहा है। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

अब सिर्फ वे ही न्यूज चैनल चलेंगे जो साहेब को खुश रख सकें या फिर हिन्दू मुस्लिम दंगा करा सकें!

Sheetal P Singh : साहेब को TV पर एब्सोल्यूट कब्जा मांगता. सिर्फ वे ही चैनल चलेंगे जो हिन्दू मुस्लिम दंगा करा सकें. ABP news में बड़े फेरबदल की खबर है. संपादक मिलिंद खांडेकर हटाये गए. चर्चित एंकर अभिसार शर्मा के ऑफ एयर होने की खबरें. कहा जा रहा है कि PMO असंतुष्ट है. स्वाति चतुर्वेदी ने भी ट्वीट किया है कि पुण्य प्रसून बाजपेयी से भी ABP न्यूज़ प्रबंधन ने इस्तीफा ले लिया है. Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

एबीपी न्यूज से पुण्य प्रसून बाजपेयी और अभिसार शर्मा भी हटा दिए गए!

Qamar Waheed Naqvi

Qamar Waheed Naqvi

एबीपी न्यूज़ में पिछले 24 घंटों में जो कुछ हो गया, वह भयानक है. और उससे भी भयानक है वह चुप्पी जो फ़ेसबुक और ट्विटर पर छायी हुई है. भयानक है वह चुप्पी जो मीडिया संगठनों में छायी हुई है. मीडिया की नाक में नकेल डाले जाने का जो सिलसिला पिछले कुछ सालों से नियोजित रूप से चलता आ रहा है, यह उसका एक मदान्ध उद्-घोष है. मीडिया का एक बड़ा वर्ग तो दिल्ली में सत्ता-परिवर्तन होते ही अपने उस ‘हिडेन एजेंडा’ पर उतर आया था, जिसे वह बरसों से भीतर दबाये रखे थे. Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

मिलिंद खांडेकर ने एबीपी न्यूज से दिया इस्तीफा, रजनीश आहूजा को मिला कार्यभार

एबीपी न्यूज चैनल के मैनेजिंग एडिटर मिलिंद खांडेकर ने इस्तीफा दे दिया है. उनकी जगह फिलहाल रजनीश अहूजा को कार्यभार सौंपा गया है. रजनीश एबीपी न्यूज में ही एसोसिएट मैनेजिंग एडिटर के पद पर कार्यरत हैं.

मिलिंद खांडेकर

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

‘मास्टर स्ट्रोक’ पर सत्ता का पावर स्ट्रोक : ये सुपर इमरजेंसी है सर… बस ऐलान नहीं हुआ है…

Prabhat Dabral : याद कीजिए इमरजेन्सी मे क्या होता था : संजय गांधी की गुंडा फौज़ जब चाहे ज़िसकी इज्जत उतार देती थीं. जिसने ज़रा भी खिलाफ बोला पिटाई कर दी – वामपंथी य़ा संघी बताकर बंद करा दिया. अखबार खिलाफ लिखे तो बिजली काट दी, विग्यापन बंद करा दिये. अब इस पृष्ठभूमि मे अग्निवेश की पिटाई, एबीपी न्यूज मे पुण्य प्रसून के कार्यक्रम के समय चैनल का सिग्नल अचानक खराब हो जाना और जेएनयू की घटनाओ की मीमान्सा कीजिए.

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

रात नौ बजते ही एबीपी न्यूज की स्क्रीन काली होने के घटनाक्रम का वीडियो के जरिए विनोद कापड़ी ने किया खुलासा

Vinod Kapri : SHOCKED! मुझे यक़ीन नहीं हुआ जब कहा गया कि मीडिया की आवाज़ को दबाने की कोशिश की जा रही है। इसलिए मैंने अभी खुद देखा। रात 9 बजे से पहले @abpnewstv के @TataSky पर सिग्नल पूरी तरह ठीक थे। Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: