IIMC 2011-12 बैच के पत्रकार अनिल के साथ ये सब क्या हो रहा है… मदद करें

यशवंत भाई,

आपको याद होगा जब वर्ष 2014 में मैंने आपसे बात की थी और मदद मांगी थी, मेरी जान को खतरा है, तो आपने कहा था कि पूरा मैटर लिखकर भेज दो। फिर अचानक धमकी और लैपटॉप खराब हो जाने के कारण मैं आपको मैटर नहीं भेज पाया था मैं डर गया था। मैं अपनी लाइफ फिर से नए सिरे से शुरु कर चुका था। लेकिन वर्ष 2017 में कर्नाटक से ये कुछ लोग जयपुर आ गए। वहां मेरा दो तरह से हैरासमेंट हुआ था कुछ लोगों ने मेरे पर जानलेवा अटैक किया था, औऱ फिर जान से मारने की धमकी दी औऱ बीच में डिफेंस ने दो महीने के लिए नवंबर माह से पहले मुझे नजर बंद कर दिया था।

अनिल कुमार अमरोही

Continue reading

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: