DUJ Salutes High Court Judgment As Jolt to HT Management (पढ़ें पूरा फैसला)

The Delhi Union of Journalists has broadly welcomed  as ‘somewhat belated but historic’ Hindustan Times judgment in the Delhi High Court. It has saluted the workers of Hindustan Times who are fighting the struggle in the court and outside despite various pressures. It has taken note of the fact that over 12 workers of the Hindustan Times group have unfortunately lost their lives in this long struggle for their dues.

The judgment we feel is a jolt to the management and others seeking to browbeat the workers through a variety of strategies including the use of a battery of lawyers known for their espousal of management cases. It hopes that justice to the workers will not be delayed. Link to the judgment is given below: HC Order HT Media

Press Release

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें:

टीवी पर ज्योतिष दिखाने से दिल्ली हाई कोर्ट नाराज

ज्योतिष आधारित कार्यक्रमों का विभिन्न टीवी चैनलों पर प्रसारण रोकने की मांग को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई है. मुख्य न्यायाधीश जी रोहिणी व न्यायमूर्ति आरएस एंडलॉ की खंडपीठ ने याचिका पर सुनवाई करते हुए नाराजगी जाहिर की और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की खिंचाई की है.

खंडपीठ ने कहा कि आखिर वे इस तरह के कार्यक्रमों पर रोक क्यों नहीं लगा रहे हैं. ये विज्ञापन नहीं, बल्कि लंबे चलने वाले पूरे कार्यक्रम हैं. ऐसे कार्यक्रमों को चलाने की अनुमति देने में किस तरह के नियमों का पालन किया जा रहा है. वे इस मामले में जल्द ही उचित आदेश जारी करेगी. पेश मामले में एक स्वयंसेवी संस्था साईं लोक कल्याण संस्था के अध्यक्ष अजय गौतम ने जनहित याचिका दायर की थी. याचिकाकर्ता का कहना था कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ज्योतिष आधारित टीवी कार्यक्रमों के प्रसारण की अनुमति बिना किसी नियमों के आधार पर दे रहा है. इस तरह के कार्यक्रमों से लोगों में अंधविश्वास फैलता है.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: