मौत का दर्शन सुनाते इस आईएएस अफसर ने दे ही दी अपनी जान (देखें वीडियो)

शांति प्रिय और आध्यात्मिक स्वभाव वाले आईएएस अफसर मुकेश पांडेय बिहार में बक्सर के जिला मजिस्ट्रेट हुआ करते थे. एक शाम वे सर्किट हाउस में अकेले रुकते हैं और खुद का एक वीडियो रिकार्ड करने लगते हैं. यह वीडियो अब उनके जीवन का अंतिम वीडियो बन चुका है. यह वीडियो उनकी निजी जिंदगी की दिक्कतों और जीवन के प्रति उनके नजरिए का गवाह बन जाता है. सुसाइड से ठीक पहले रिकार्ड किए गए इस वीडियो में उन्होंने पांच मिनट में ही काफी सारी बातें कही हैं.

इस वीडियो को बनाने के बाद वे दिल्ली जाकर एक होटल में रुकते हैं. वहां से गाजियाबाद की तरफ निकलते हैं और एक ट्रेन से कटकर जान दे देते हैं. नीचे दिए गए वीडियो को गौर से देखिए और सुनिए. ये अफसर यूनिवर्स की बात कर रहा है. जीवन के मकसद की बात कर रहा है. शांति और अध्यात्म की बात कर रहा है. अपने स्वभाव और परिजनों के व्यवहार की बात कर रहा है.

यह आईएएस अफसर धरती और यूनिवर्स में मनुष्य के होने की किसी सार्थकता को खारिज करता है. इस दुनिया को खुद के लिए रहने लायक नहीं पाता है. वह खुद को यहां मिसफिट बताता है. भारतीय प्रशासनिक सेवा के 2012 बैच का यह अधिकारी अंत में इस नतीजे पर पहुंच जाता है कि आत्महत्या का उसका चुनाव बेहद सही रास्ता है, सबसे उचित तरीका है, सभी समस्याओं-दुखों से निजात पाने का.

मौत को गले लगाना ही एक जीवन के लिए मंजिल नजर आने लगे, वह भी इस नतीजे पर कोई युवा आईएएस अफसर पहुंच जाए, ऐसा उदाहरण शायद ही कहीं मिले.

श्रद्धांजलि मुकेश पांडेय.

आप जिस भी दुनिया में चले गए हों, वहां आप को अपने स्वभाव के अनुरूप शांति और प्रेम मिले.

आत्महत्या करने से पहले बक्सर के सर्किट हाउस में रिकार्ड किए गए मौत के दर्शन वाला वीडियो देखने के लिए नीचे क्लिक करें :

भड़ास के एडिटर यशवंत सिंह की रिपोर्ट.

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: