लिखित आश्‍वासन के बाद काम पर लौटे हड़ताली जागरणकर्मी

(दैनिक जागरण, नोएडा के कर्मियों द्वारा हड़ताल की जानकारी मिलने पर जनपक्षधर पत्रकार अभिषेक श्रीवास्तव कैमरे समेत मौके पर पहुंचे और फोटोग्राफी में जुट गए)


अरसे से अपने पत्रकारों, कर्मचारियों को अपना दास समझने वाले दैनिक जागरण समूह के मालिकों पहली बार सामूहिक शक्ति के सामने झुकना पड़ा है. दैनिक जागरण के मीडिया कर्मचारी इस मीडिया हाउस के समूह संपादक व सीर्इओ संजय गुप्‍ता के लिखित आश्‍वासन के बाद ही हड़ताल समाप्‍त करने को राजी हुए और काम पर वापस लौटे. मैनेजर टाइप लोगों के लालीपाप थमाकर हड़ताल खत्म कराने के तमाम प्रयास फेल होने के बाद संजय गुप्‍ता को मजबूरी में लिखित आश्‍वासन देकर मामला सुलझाना पड़ा. बताया जा रहा है कि दिल्‍ली चुनाव के चलते गुप्‍ता एंड कंपनी ने तात्‍कालिक तौर पर यह रास्‍ता अपनाया है और किसी को परेशान न करने का लिखित वादा किया है.  

संजय गुप्‍ता ने लिखित तौर पर आश्‍वासन दिया है कि वे मजीठिया वेज बोर्ड की मांग को लेकर दूसरे यूनिटों में ट्रांसफर किए गए लोगों को उनकी मंशा के अनुरूप यूनिटों में भेजा जाएगा. हड़ताल में शामिल किसी कर्मचारी को किसी भी कीमत पर परेशान नहीं किया जाएगा. साथ ही मजीठिया वेज बोर्ड को लेकर जो कर्मचारी सुप्रीम कोर्ट या अन्‍य कोर्ट गए हैं, उनके साथ कोई दुर्व्‍यवहार नहीं होगा, उन्‍हें निकाला नहीं जाएगा. संजय गुप्‍ता के इन तमाम आश्‍वासनों के बाद नोएडा समेत हिसार के कर्मचारी भी काम पर लौट गए हैं. 

बताया जा रहा है कि कर्मचारियों ने ऐसे मौके पर हड़ताल कर दिया था कि प्रबंधन को न तो उगलते बन रहा था और न निगलते. दिल्‍ली चुनाव होने के चलते मालिकों की सांस फूलने लगी थी. वे किसी भी कीमत पर हड़ताल खत्‍म कराकर अखबार प्रकाशित करवाने में जुटे हुए थे. संजय गुप्‍ता के आश्‍वासन तथा वरिष्‍ठों के हाथ-पांव जोड़ने के बाद कर्मचारी काम पर वापस लौटे हैं. हालांकि संभावना जताई जा रही है कि कर्मचारियों की एकता से डरा प्रबंधन अभी भले ही कुछ ना करे, लेकिन धीरे-धीरे वाले इन्‍हें प्रताडि़त कर सकता है. 

हड़ताल स्थल पर मोबाइल कैमरे के जरिए शूट किया गया वीडियो देखें: https://www.youtube.com/watch?v=EA32dSYnbgY

इसे भी पढ़ें….

संजय गुप्ता को रात भर नींद नहीं आई, जागरण कर्मियों में खुशी की लहर

कृपया हमें अनुसरण करें और हमें पसंद करें: