राज ठाकरे ने इतनी सक्रियता विदर्भ में खुदखुशी कर रहे किसानों के लिए नहीं दिखाई

मनसे राज ठाकरे का राजनीतिक वजूद ख़त्म हो चुका है। राज ठाकरे का राजनीतिक भविष्य अधर में अटका है। मनसे चीफ ने जनसरोकार से जुड़े मुद्दो को कभी उठाते नहीं। नफरत की राजनीति करना यही उनका मूल एजेंडा रहा है। राज ठाकरे की छवि एक पेज – ३ नेता जैसी है।