अलीगढ़ जागरण के सिटी चीफ ने छुट्टी दे दी होती तो शायद मयंक त्यागी की जान नहीं जाती!

अलीगढ़ (उ.प्र.) : दैनिक जागरण के रिपोर्टर मयंक त्यागी की कल आकस्मिक मौत शायद नहीं हुई होती, यदि सिटी चीफ रिपोर्टर नवीन पटेल ने उन्हें छुट्टी दे दी होती। नवीन पटेल की मनमानी को लेकर पूरे शहर के पत्रकारों में रोष है। उनकी दुष्टतापूर्ण हरकत का खामियाजा एक युवा रिपोर्टर को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी है। मयंक त्यागी के बड़े भाई मृदुल त्यागी मेरठ जागरण में इस समय कार्यरत हैं। मयंक का शव परिजन मेरठ ही ले गए। आज उनका अंतिम संस्कार किया जा रहा है।