दैनिक ‘नव ज्योति’ के अखबारकर्मी भारी दबाव में

जयपुर। दीनबंधु चौधरी की ओर से शुरू किया गया दैनिक नव ज्योति का जयपुर संस्करण बंद होने की कगार पर है। बताया गया है कि प्रबंधन की नीतियों से क्षुब्ध कई पत्रकार नौकरी छोड़ने के मूड में हैं।

पत्रिका के कार्यक्रम ‘हमराह’ को लेकर नवज्योति के मालिक दीनबंधु चौधरी का इगो टकरा गया!

राजस्थान पत्रिका और दैनिक नवज्योति की लड़ाई इतवार 14 दिसंबर की सुबह अजमेर की सड़कों पर नजर आई। पत्रिका का कार्यक्रम और नवज्योति के मालिक दीनबंधु चौधरी का इगो टकरा गया। पत्रिका ने पिछले कुछ दिनों से एक कार्यक्रम शुरू किया है, ‘हमराह’, इसके लिए इतवार की एक सुबह के लिए एक ऐसी सड़क का कुछ मीटर हिस्सा तय किया जाता है जहां दो घंटे सुबह 7 से 9 बजे तक शहर के लोग आकर बेलौस अंदाज में अपनी गतिविधियों, प्रतिभाओं का प्रदर्शन कर सकें।